हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो फिल्म अंग्रेजी सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

लंड वाली सेक्सी चुदाई: हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ, वो बोले- कैसे खुश करेंगी आप?मैंने अपने टॉप को अपनी चूचियों से हल्का सा नीचे खींचते हुए उनको अपनी क्लीवेज दिखा दी और बोली- खुश करने के लिए तो बहुत से तरीके हैं सक्सेना जी।वो दोनों मेरी ओर देख कर मुस्कराने लगे.

कतरा कतरा सेक्सी वीडियो

मैंने भी नशे में सोचा कि आज तो मैं वैसे भी रंडी बनने वाली हूँ … कह लेने दो. ब्लू पिक्चर सेक्सी हिंदी इंडियनकुछ देर की आना-कानी के बाद वो ढीले पड़ गये और मैंने इसी पल का फायदा उठा कर मौसा की पैंट की चेन को खोल दिया.

थोड़ी देर में मामी की चुत ने काफी रस छोड़ दिया था और उनकी चुत एकदम गीली हो गई थी. बिहार का सेक्सी दिखाओउसके बाद उसने भी माफ़ी मांगते हुए अपने मोबाइल से प्रिया और मेरी चुदाई का वीडियो डिलीट कर दिया.

मैंने पूछा- मॉर्निंग में जो जूस पिलाया था उसके बाद कुछ क्यों नहीं खाया?मंजू बोली- आज बहुत अच्छी फीलिंग आ रही थी.हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ: एक दिन मैं इमरान के घर गया और हम दोनों अभी क्रिकेट खेलने की तैयारी ही कर रहे थे कि उसको किसी का फ़ोन आ गया.

रोहित अपने रूम में चला गया।फिर मेरे और मेरे हस्बैंड के बीच हमारे इस किस्से को लेकर बहुत सारी बातें हुईं.देसी सेक्सी भाभी की हिन्दी पोर्न स्टोरी में पढ़ें कि कैसे अस्पताल के बाथरूम में नहाते हुए मुझे एक आदमी ने नंगी देख लिया.

राजस्थानी गांव की देसी सेक्सी वीडियो - हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ

फिर थोड़ी ही देर में दारू के असर से मेरी जवानी की गर्मी बाहर आने लगी.अब मैंने अपने लंड रूपी चेतक को ऐड़ लगाई और चेतक ने पूरी रफ्तार से चौकड़ी भर दी.

मुश्किल से दो ही मिनट में निगार आंटी झड़ गईं और उन्होंने अपनी चुत का सारा पानी मेरे मुँह पर छोड़ दिया. हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ मगर चोर कितना भी होशियार हो एक दिन पकड़ा ही जाता है इसलिए मौसा ने समय से पहले ही रिटायरमेंट ले लिया था.

कभी कभी मुझे लगने लगता था कि मेरा प्लान फेल हो रहा है, शायद आंटी को मैं खिड़की से नजर नहीं आता हूं.

हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ?

क्या आप अपनी गर्लफ्रेंड को प्यार नहीं करते?मैं- मेरी गर्लफ्रेंड नहीं है भाभी. फिर मैं अमन से छूटने की कोशिश करने लगी लेकिन उसने मुझे जकड़ रखा था. मैं जानता था कि उसको क्या लेकर आना है क्योंकि उसका सामान तो मैंने ही छुपाया हुआ था.

क्यों न उसको बस में ही चोद लूं?बिना देर किये मैंने पूछा- अच्छा, कौन सी गाड़ी से जा रही हो?सीमा- सुबह वाली रोडवेज में।मैं बोला- मेरे पास तुमसे मिलने का प्लान है, तुम सुबह वाली बस में मत जाना, कल शाम के बाद जाना, वो भी स्लीपर में।वो समझ गयी कि मेरा इरादा क्या है और बस में उसके साथ क्या होने वाला है!वो बोली- अरे वाह शैतान … अच्छा दिमाग लगाया. उसने फिर मुझे अपने से अलग किया और बोली- साले कुत्ते, ये पानी मेरी चूत में क्यों निकाल दिया?गाली देते हुए मैंने कहा- कोई बात नहीं साली रंडी. रेशमा- झूठ मत बोलो यार … आप बहुत हैंडसम हो … मैं मान ही नहीं सकती हूँ कि आपकी गर्लफ्रेंड नहीं है.

अब मैंने उसके ब्लाउज को उतार दिया, वो मेरे पसंदीदा लाल रंग की ब्रा में थी मैंने उसकी ब्रा के ऊपर ही उसके 36 साइज की मम्मों को अपने दोनों हाथों से पकड़ा और दबाने लगा. मैं रोज सुबह अपनी कोचिंग जाता था और दोपहर तक वापस कमरे पर आ जाता था. मैं सज-धज कर अब सुमित से मिलने के लिए तैयार थी मैंने एक टाइट सी कुर्ती और चुस्त पजामी पहनी हुई थी.

पहली चुदाई का एहसास इतना सुखद था कि उसे मैं जिन्दगी भर नहीं भूल सकता. थोड़ी देर ऐसे ही करने के बाद मैंने अपने होंठ उनके होंठों पर रख दिए.

अगर तुमने मुझे कॉल नहीं किया तो फिर मैं खुद ही घर के अंदर आ जाऊंगा.

मैं सोच में पड़ गया कि इतनी रात में उन्होंने मुझे क्यों बुलाया है?मैंने उनके रूम के पास जाकर नॉक किया.

वो दोनों हाथों से मेरा सिर दबाते हुए मेरे होंठों को अपनी चूत पर दबाने लगी. नानी के घर के लिए हम लोग दिन में 12 बजे निकले और वहां पर पहुंचने में हमें शाम हो गयी. मोसी की चूत; मोसी के बूब्स!मोसी के स्तन लटक रहे थे और चूत पर एक भी बाल नहीं था.

उसने कहा- अब और सहा नहीं जाता, डाल दो अपना लंड मेरी चुत के अन्दर और मेरी प्यास बुझा दो. कुछ टाइम बाद एक छोटा लड़का आया तो वो मुझसे बोला- जीजा, आपको मम्मी बुला रही हैं. केवल उन्हीं की चूत को चोदना है क्या? मेरी चूत की सफाई कौन करेगा?मैं बोला- कोई बात नहीं, तुम भी आ जाओ.

आप सब तो जानते ही हैं कि पैसा हर किसी को अच्छा लगता है और पैसे से ही हर काम चलता है.

घर के हालात कुछ ठीक नहीं है। बंजर जमीं पर बापू खेती करते हैं। तीन बहनें हैं और एक भाई।आगे बताते हुए वो बोली- ये सोच कर यहां आई थी कि कुछ तो बन ही जाऊंगी. अब मैंने अपनी बीवी की चूत की आग को भांपते हुए उसके लिए एक भरोसेमंद लंड का जुगाड़ करने की सोची ताकि घर की बात किसी को बाहर न पता चले और मेरी बीवी की चूत की प्यास भी शांत हो जाये. मैं जिसके साथ बैठी थी वो तुरंत उठ कर उसके पास चला गया और कुछ देर तक उन दोनों में कुछ बातें हुईं और फिर वो पहले वाला लड़का आया और कुछ सामान निकाल कर उसको दे दिया.

मैंने कहा- आप इधर ही रुकना भाभी मैं अभी आपकी पसंद की आइसक्रीम लाया. मेरे लौड़े पर कसी हुई चूत का भारी दबाव पड़ रहा था, तो भी मैं जल्दी निकल नहीं पा रहा था. जब मैंने रिसेप्शन रूम की ओर देखा तो पाया कि उन दो लड़कों में से एक जाग रहा था और मुझे ही देख रहा था.

वो मेरे सीने से लग कर बोली- थैंक्यू मनोज, तुमने सच में मुझे बहुत मजे दिए.

पर मैं उसके जिस्म से खेलने में लगा हुआ था और ऐसा करने में मजा आ रहा था।इतने में वो 2 बार झड़ चुकी थी. मैंने अपनी ब्लैक ब्रा भी ले ली और तौलिया-साबुन लेकर नहाने के लिए चली गयी.

हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ मैंने भाभी की बकचोदी पर ध्यान नहीं दिया और उसकी चूत में लंड को आगे पीछे करने लगा. तो इनकी पहली चुदाई यादगार बनाने की ज़िम्मेदारी मेरी हुई न!मैं फिर सीधे होकर लेट गई और बोली- चलो, फिर से खेल शुरु करते हैं।सब मुस्कुराए और उठकर बैठ गए।मैं भी उठी तो मनोहर मेरे सिरहाने जाकर घुटने पर बैठ गया।उसने कहा- अबकी बार ऊपर से लंड चूस।मेरे अगल बगल में सनी और विश्वजीत था। रोहन और पूरन, दोनों नीचे की ओर थे।मैं मुँह ऊपर करके मनोहर का लंड चूसने लगी.

हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ इस चुदाई को किसी तरह से प्रीति ने रिकॉर्ड कर लिया था और उसने मुझे नौकरी से निकलवाने की साजिश रच ली थी. तभी हमें कंडक्टर ने अन्दर की तरफ ढकेल दिया और हम भीड़ के रेले से आखिरी लाईन तक चले गए.

अब आगे की हिन्दी रियल सेक्स स्टोरी:हमें चुदाई और बातें करते हुए 2 घंटे से ज्यादा हो गए थे.

सांडा आयल के फायदे

[emailprotected]मेरी चालू बीवी की चुदाई कहानी का अगला भाग:मेरी चालू बीवी लंड की प्यासी-2. उसके बाद मैंने उसे गुड मॉर्निंग और गुड नाइट के मैसेज भेजने शुरू कर दिये. ‘ऊ … मर गई … साले हरामी धीरे पेल मादरचोद … आह … फाड़ दी कुत्ते … निकालो इसे … मुझे बहुत दर्द हो रहा है.

मैंने अपने कपड़े सही किए और भाभी से पैसे लेकर खाने वाले डिलीवरी वाले को दे दिए. उसी रात को हम लोग टीवी देख रहे थे और मम्मी किचन में खाना बना रही थी. मैंने दरवाजा लॉक किया और एक झटके में अपनी पैंट और चड्डी नीचे कर दी.

अचानक पूजा आंटी ने शॉट मारने की स्पीड बढ़ा दी और वो फुल स्पीड से मेरी गांड के छेद चोदने लगीं.

कुछ देर बीतने के बाद मैंने अपना थका और मुरझाया हुआ लण्ड चूत से बाहर निकाला तो मुझे कड़ कड़ जैसी हवा निकलने की आवाज आयी. उन्होंने पूछा- अब बोलो क्या है… जल्दी बोलो?मैंने उनकी आंखों में देखा और कहा- भाभी आई लव यू. मैं प्रोटीन शेक बनाने का नाटक करने लगा और मंजू के पास जाकर बोला- प्लीज़.

मां ने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और बोली- मैं तुमसे प्यार करने लगी हूं. मैंने उनके ऊपर सीधे चुदाई की पोजीशन में आकर उनके दोनों पैर पकड़ कर फैला दिए और फिर से उनकी गुलाब चूत के अन्दर जीभ डाल कर चाटना शुरू कर दिया. कुछ देर सहलाने के बाद मेरी बहन थोड़ा सा कसमसाई तो मुझे लगा कि वो उठ गई है.

मेरा कोई प्रतिरोध नहीं देख दीदी मेरे हाथ के ऊपर अपना हाथ रख कर अपने हाथ को दबाने लगी. मौसा जी ने लंड को मामी जी की चूत की फांकों में रख कर एक ज़ोर का झटका मारा.

कुछ ही धक्कों के बाद दीदी झड़ गईं, पर मैं उसके बाद भी धक्के लगाता रहा. नीचे से बीच बीच में मैं उसकी देसीचुत को भी छेड़ रहा था और कभी आधी उंगली भी दे देता था. उन्होंने मुझसे कहा- आशीष, जैसे तुम मुझे घूरते रहते हो, वैसे तुमको नहीं देखना चाहिए.

फिर चालू हुआ चुदाई का अद्भुत खेल। उसने टाइट जीन्स और टीशर्ट पहनी हुई थी जो लिपटा लिपटी में कब उसके बदन से अलग हो गयी, पता ही नहीं चला.

प्रिया ने पूछा- ये क्या कर रहे हो?मैंने कहा- क्या?प्रिया ने कहा- ये गलत है. फिर इसी तरह से चोदते हुए मैं बस के सहारे बैठ गया और वो फिर मेरे ऊपर आ गयी. मैं उनके बंगले के सामने पहुंचा, तो मैंने कैब के ड्राईवर से हॉर्न देने का कहा.

तेजी से उसकी चूत को पेलने लगा और गाली देते हुए बोला- साली तू मेरी रखैल बन जा. वैसे तो वो आती जाती रहती है, लेकिन क्या मुझे वो मिल सकेगी, इसका पता तो बाद में चलेगा.

एक दो लड़कियों से मैंने बात भी की लेकिन उनकी चूत तक पहुंचने का सफर पूरा ही नहीं हो सका. इतना सुनते ही मैंने मामी को उठाकर पटक दिया और उनकी मैक्सी उतारकर उनको पूरी तरह नंगी कर दिया. मैंने कहा- अच्छा और वो दूसरे वाले पार्सल में क्या है?आंटी ने कहा- उसमें तो मैंने कुछ किताबें मंगवाई हैं … वो हैं.

पीरियड कैसे आता है video

तो उन्होंने मेरा हाथ हटा दिया और खड़े होते हुए बोलीं- ये गलत है … तू मेरे बेटे का दोस्त है … और उम्र में भी मुझसे बहुत छोटा है.

मैं भी आवाज करके उसकी चूत चाटने लगा और उसके पैरों को अपनी पीठ पर करके उसे हवा में उठा कर उसकी चूत चूसने लगा. [emailprotected]आंटी की चुदाई की कहानी का अगला भाग:दो आंटियों को चुदाई और औलाद का सुख दिया-2. इसलिए मुझसे मेरी मॉम ने कहा कि तुम 15 दिनों के लिए मौसी के पास ही रुक जाओ.

मेरी बंद आंखों के सामने ताई जी की बालों वाली चूत के अलावा कुछ और दिखाई ही नहीं दे रहा था. रात में ही किसी अन्जान आदमी से अपनी चूत चुदवा ली और वो भी केवल उसकी बातों से इम्प्रेस होकर!हैरानी की बात ये थी कि उनका भाई भी साथ में था तब भी उनके अंदर इतनी हिम्मत थी कि वो किसी का लंड बीच में सफर में ही ले लेती हैं. kareena kapoor सेक्सीन जाने क्यों उसके अगले आदेश की प्रतीक्षा किये बिना ही मेरा हाथ मेरे शिक्षक के तने हुए लिंग पर जा टिका और मैंने बलविंदर के लिंग को अपने कोमल से हाथ में भर लिया.

मैंने मालूम किया तो पता चला कि वाशरूम डिनर हॉल से निकल कर दूसरी तरफ बने हुए थे. वो जीप चलाने लगा और बीस मिनट बाद उसने जीप को एक बड़ी सी कोठी के पास रोक दिया.

मैं बस इस फिराक में था कि कब मुझे उनसे मिलने का मौका मिले और आंटी की चूत चुदाई का मजा ले सकूं. फिर उसने मुझे प्यार से नीचे लिटा लिया और हल्के हल्के चुम्बन देने लगा. मुझको ले जाते हुए वो बोला- सुभाष के दोस्त हमारे दोस्त, इतनी जल्दी नहीं जाने देंगे.

उसके बाद शायना ने अपनी 52 साल की विधवा आंटी की चूत चुदाई भी मुझसे ही करवाई. दोस्तो, आपको मेरी बुआ की सहेली गुड़िया बुआ की चुदाई की कहानी कैसी लगी. वो बोला- मैडम मैं माफी चाहता हूं लेकिन आप ही बताओ कि आप इतनी अच्छी हो, इतनी सुंदर हो, अब कोई आप को नंगी नहाते देख ले तो कोई कैसे अपने आप को रोक सकता है? इसमें मेरी क्या गलती है? आप जैसे माल को तो मैं ज़िन्दगी में कभी चोद नहीं सकता और वो तो कहो कि मेरी किस्मत अच्छी है जो मैंने आपको नंगी देखा.

ये समझते ही अलीज़ा रोशन लाल से बोली- रोशन लाल, अपना पानी चूत में नहीं, बाहर छोड़ना.

सुना है इससे हानि नहीं होती व विदेशी लोग तो इसे खाने के साथ भी पीते हैं क्योंकि यह द्रव्य स्वास्थ्यप्रद है. मैं उठकर उसकी चुत में उंगली करने लगा तेजी के साथ … उसके आखिरी कपड़े यानि ब्रा को उतारने को कहा.

तब जीजा जी दीदी के पास लेटे हुए कैमरे में रिकॉर्ड की हुई भाई बहन की चुदाई फिल्म को चैक कर रहे थे. क्या तुम मेरे लिए इतना भी नहीं कर सकती जिया?जिया बोली- मैंने तुम्हारे लिये मानव का लंड दो बार चूत में लिया है, साला ऐसे चोदता है जैसे मैं तुम्हारी बीवी नहीं बल्कि उसकी गर्लफ्रेंड हूं. पर जैसे जैसे मैंने जवानी में कदम रखना शुरू किया, मेरी किस्मत में एक के बाद एक हसीनाओं का आगाज़ होने लगा.

मेरा लंड बाहर आते ही उसने कसके अपने एक हाथ में पकड़ लिया और बोली- अरे रे रे इतना बड़ा है तुम्हारा साहब. वहां जाने के बाद एक दिन मां ने मुझसे कहा कि इस लड़की के लिए कोई लड़का देख लो. उन्होंने मुझे देखते हुए अभी नहीं देखा था, इसलिए मैं भी वैसे ही पड़ा रहा.

हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ सोच रही थी कि इतने भारी भरकम इन्सान के मूसल लंड को मौसी झेल कैसे लेती है. मैं मोसी के पीछे खड़ा हो गया और एक हाथ उसके बूब्स पर ओर दूसरा उसकी चूत पर जो हाथ था उस पर!तभी मोसी पीछे की ओर देखकर मुस्कराने लगी और बोली- मेरा भैंसा तैयार है।मैं- हाँ!मैं मोसी को जहां भैंसों का चारा होता है, वहां ले गया क्योंकि वहां कोई नहीं आता।मैंने सबसे पहले जाते ही मैंने उसके ब्लाऊज को निकाल दिया.

घोड़े गधे का सेक्सी वीडियो

जीजू आगे बोले- मैं तुम्हारी दीदी को वो खुशी नहीं दे पा रहा हूँ … वरना तुम्हारी दीदी को भरपूर खुशी देता. वो बोला- इतनी रात में क्या कर रही हो आप यहां?मैंने उसको अपने हाथ में जलती हुई सिगरेट दिखाई. बल्कि मेरे पास एक आइडिया भी है जिससे हम दोनों मिल कर जिया की गांड चोद सकते हैं.

पहली बार चूत का स्वाद लंड ने चखा था इसलिए लौड़ा भी ज्यादा देर नहीं टिक सका. मैंने उसके पैरों को चूमना चालू किया और चूमते चूमते उसकी चुत तक आ पहुंचा. सेक्सी व्हिडिओ ओपन सेक्स व्हिडिओवो बोली- नहीं तुम घुमा रहे हो … वो बोलो, जो तुम्हारे मन में मुझे देख कर आया था.

मैंने उनसे पूछा- माल कहां लोगी?तो उन्होंने कहा- मेरे अन्दर ही गिरा दो … आह … न जाने कब से मेरी चुत सूखी पड़ी है.

रोहित के कंधों को मैंने कस कर पकड़ लिया और मेरी चूत में झटके लगने लगे. मैंने मामी से पूछा- बोलो … कहां लोगी लंड का माल?मामी बोलीं- आह मेरी गांड में ही छोड़ दो.

फिर धीरे से बोलीं- अपने चूतड़ों को ढीला रखना और गांड भी ढीली छोड़ दे … राजा. मैंने दूसरे दिन पीयूष को फोन किया और बोला- मुझे कुछ पेपर्स पर आंटी के साइन चाहिए. फिर थोड़ी ही देर में दारू के असर से मेरी जवानी की गर्मी बाहर आने लगी.

मैडम की गीली चूत चौड़ी हो गयी और मजे के कारण उनकी आह निकल गई और हम दोनों चुदाई का मजा लेने लगे.

पड़ोस की एक खूबसूरत हसीं जवां लड़की की चुदाई की तमन्ना लिए मैं रोज मुठ मार लेता था. ‘ऊ … मर गई … साले हरामी धीरे पेल मादरचोद … आह … फाड़ दी कुत्ते … निकालो इसे … मुझे बहुत दर्द हो रहा है. आने के बाद मामाजी ने बताया- तुम्हारी मामी यहीं पर रुकेगी, मुझे कुछ काम है इसलिए इनको यहीं छोड़ कर जा रहूा हूं.

सेक्सी फोटो सेक्सी बीपीहाथ में पूजा की थाली थी, वो मंदिर से आई थी।जैसे ही वह हमारे सामने आई मैं देखता ही रह गया। बहुत ही सुंदर और मुख पर बड़ी शांति थी। बातों में जादूगरी ऐसा लग रहा था जैसे मुझे ऐसी ही लड़की जीवन साथी की जरूरत थी और वैसी ही मिल गई।उसने अपनी एक सहेली को भी बुला रखा था। बारी बारी से दोनों सवाल पे सवाल कर रही थी।सारे सवाल जवाब होने के बाद अब समय हो चला था निकलने का. कल रात में जब मैं जिया मेम को चोद रहा था तो उसके बारे में सोचते ही मेरे लंड में कड़ापन आ गया.

हिंदी खुली सेक्स

उसके बाद दीदी ने मेरे लंड को मुँह में ले लिया और दो मिनट तक चूसती रहीं. मैंने अपने हाथ नीचे ले जाकर दीदी की साड़ी को उनकी कमर में से निकाल दिया. अमन अब मेरी ब्रा के ऊपर से मेरे बूब्स दबाने लगा जिससे मुझे बहुत ज्यादा मजा आने लगा.

मेरी वैक्स की गयी चिकनी चूत से पर्दा उठने लगा और वो कोमल सी कुंवारी कच्ची कली जिसमें बीच में एक छोटा सा चीरा लगा था वो मौसा के सामने बेपर्दा हो गयी. मैंने उठ कर देखा तो उसके लंड पर खूब सारा वीर्य और काफी सारा खून लगा हुआ था. मुझे उनकी हंसी से राहत मिली और मैं समझ गया कि लौंडिया हंसी मतलब फंसी.

मामी पहले तो मुझे देखकर मुस्कुराईं फिर बोलीं- लो चाय पी लो … बहुत ज्यादा नींद आ गयी थी क्या?मैं कुछ नहीं बोला, बस हल्के से मुस्कुरा दिया. फिर वो मुझे देख कर अपना साड़ी का पल्लू लेकर बोली- कौन हो तुम?मैं हड़बड़ा गया और बोला- आपने ही तो मुझे बुलाया था. कुछ देर बाद मैंने बात करते करते उसके पांव के ऊपर पांव रखा, उसने ध्यान नहीं दिया या शायद उसे भी अच्छा लग रहा था.

उसके बाद वो उठा और अपने सो चुके लंड को उसने फ्रेंची में ठूंसा और पैंट पहन कर निकल गया. मैंने उसकी आंखों में झांक कर उससे हौले से कहा- अपना नहीं दिखाओगे?उसने मदहोश आंखों से समझते हुए नासमझ बनते हुए पूछा- क्या?मैंने उसकी पैन्ट पर फूले हुए पहाड़ को सहलाते हुए कहा- ये जो पैन्ट के अन्दर तड़प रहा है … इसको बाहर निकालो न … बेचारा कब से परेशान है.

पिंकी से बात करते-करते मुझे पता चला कि वह 40 साल की है, मगर उसके सफेद बालों की वजह से वह काफी उम्रदराज नजर आती थी.

उसने कहा- अब और सहा नहीं जाता, डाल दो अपना लंड मेरी चुत के अन्दर और मेरी प्यास बुझा दो. आंटी की सेक्सी वीडियो चुदाईमैंने उस समय अपनी बारहवीं की परीक्षा पास कर ली थी और प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए अपने शहर से बाहर कोटा पढ़ने के लिए गया था. हिंदी सेक्सी ग्रुप वीडियोवो बोलीं- हां मैं उसी तरफ से तो जा रही हूँ … चलो बैठो … मैं तुम्हें छोड़ दूंगी. मगर हो सकता है, हमारी इस बातचीत से तुम्हारी समस्या का कोई हल निकल आए।मैंने कहा- ठीक है।वो आगे आए, मेरे हाथ को अपने हाथ में पकड़ा मुझे थोड़ा अचरज हुआ।मगर मेरे हाथ को अपने दोनों हाथों में पकड़ कर वो बोले- अब मैं अपने दोस्त की बीवी से नहीं बल्कि अपनी दोस्त से बात कर रहा हूँ.

चार-पांच मिनट के बाद मेरे लंड ने भी जवाब दे दिया और दीदी की चूत में वीर्य की पिचकारी मार दी.

मगर मैं समझ गया कि वो कहना चाह रही थी कि अब मुझे और मत तड़पाओ और मेरी चूत में अपना मूसल पेलकर मेरी चुदाई करो. करीब दो महीने तक बातों के बाद हमने मिलने की सोची और हम दोनों उसी रेस्टोरेंट में मिले. मौसा को मैंने कैसे अपने जाल में फांसा?सभी दोस्तो को मेरा हैलो, आज मैं पहली बार अपनी खुद की कहानी लिख रही हूं.

उसने मेरी नाक पर अपनी जीभ फेर कर अपने लंड का पानी उठाया और मुझे दिखा कर मेरे मुँह डाल दिया. वो लड़का बोला- ठीक है, इसका नम्बर मिल सकता है क्या?मैंने कहा- हां, इसी से ले लो. कुछ ही पलों में वो और ऊपर आ गयी और मेरे मुँह को अपने मुँह से चूसने लगी.

अच्छा ब्लू फिल्म

मोहित अंकल- दीपक बेटा, चुपचाप मेरे लंड को चूसते रहो और ज्यादा आवाज़ मत करो … वरना मुझे तुम जैसे लौंडों को कंट्रोल करने के और भी कई तरीके आते हैं. उनका एकदम गोरा रंग, लंबी हाईट, बड़े काले बाल और नाक में नोज रिंग बहुत सेक्सी लग रही थी. अब मैंने मनोहर का लंड अपनी चूत में डाल लिया और एक झटके में ही सारा लंड अंदर चला गया और मनोहर जोर जोर से लंड को अंदर बाहर करने लगा.

मैंने बुआ को समझाया कि हां थोड़ा दर्द तो होगा … मगर फिर मज़ा भी बहुत आएगा.

उसके लंड से चुद चुद कर मेरी गांड और ज्यादा मोटी और रसीली हो गयी है.

मैंने कहा- क्या हुआ?दोस्त- वो मुझसे बोली कि चुदाई तो हिमांशु ही करता है, तेरे बस का कुछ नहीं है, तुझमें वो बात नहीं. फिर शाहिद आया और उसने अपना लंड मेरी गर्म हो चुकी चिकनी चूत में पीछे से डाल दिया. ब्लू पिक्चर सेक्सी चुदाई वाली वीडियोअब वो भी हरकत में आ गयी और उसने मेरी स्वेटर को उतारा और शर्ट के बटन खोलने शुरू कर दिये.

ये सुनते ही मैंने उसकी नाइटी को उतार दिया और उसके चूचों पर टूट पड़ा. उसको पढ़ते हुए लंड हिलाता था और उसकी नंगी फोटो देख कर मुठ मारता था. करिश्मा ने मेरे मुस्कुराते ही एक गहरी मुस्कान दे दी और मेरे करीब आकर उसने मेरे होंठों पर अपने होंठों को रख दिया.

आहिस्ता से मैंने नंगी दीदी को उनके बिस्तर पर लिटा दिया।दीदी का गदराया बदन और दीदी की मस्त जवानी मेरे सामने नंगी थी. वो मेरे लंड को तेल लगा कर दोनों हाथों से मेरे लंड को मसाज देने लगी.

उसकी नज़र मेरे हब्शी लंड पर पड़ी, तो उसकी आंखें फटी की फटी रह गयी थीं.

उसके बाद फिर रात को डिनर करने के बाद हम 9 बजे वापस अपने पेंटहाऊस में पहुंचे. अब मैं दीदी के बाएं पैर को हाथों में लेकर उनकी एड़ियों और पंजों को चूमते हुए उनके घुटनों तक गया. धीरे धीरे निशा की चूत के करीब पहुंचता जा रहा था मेरा हाथ और इसी फीलिंग के कारण मेरे लंड का बुरा हाल हो चुका था.

कोलकाता सेक्सी चुदाई वीडियो मैंने सोचा कि मुझे कुंवारी चूत न सही कम से कम कुंवारी गांड तो मिली. चाची अपनी चाय लेकर मेरे सामने बैठ गईं और पूछने लगीं- तुम्हारी कोई गर्लफ्रैंड नहीं है क्या?मैंने कहा- नहीं है.

फिर मकान मालिक करिश्मा को बोला- अगर तुमको कभी कोई मदद चाहिए होगी, तो गौरव को बता देना. मैं कुछ कहता उससे पहले वह घुटने पर होकर घोड़ी बन गई।तो मैंने पूछा – तुम्हें कैसे पता मुझे यही पोज चाहिये?पूजा- ज्यादातर मर्दों को डॉगी स्टाइल पसंद होती है। चलो रुको मत, बजाओ मेरी चूत का बाजा।मैंने बिना वक्त गंवाए पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दिया। अब मैंने झटके शुरु कर दिए। मैंने उसकी कमर को कस कर पकड़ा और चोदने लगा. 20-25 मिनट तक मैंने वैसे ही कुतिया वाली पोजीशन में उनकी गांड को पेला.

दार्जिलिंग कहां है

दोस्तो, आपको मेरी यह फैमिली सेक्स स्टोरी कैसी लगी मुझे इसके बारे में जरूर बताना. हो सकता है कि वो इसी वजह आ रही हो।मेरा दोस्त इस मामले में खिलाड़ी आदमी था. वहां पर एक रिक्शावाले के साथ में मजाक मस्ती करने लगी और बातों बातों में मेरी चूत की प्यास जाग गयी.

सर ने उनको छोड़ दिया और बोले- अब बताओ डार्लिंग क्या ख्याल है?जिया बोली- किस बारे में?आकाश- तुम्हारी ऐस फक करने के बारे में?सर ने मेम की गांड को दबा दिया. मुझे हल्का हल्का दर्द हो रहा था और हल्का हल्का दर्द ताई को भी हुआ मगर देखते ही देखते पूरा लंड अंदर चला गया.

मेरे चारों ओर के सारे लोग मेरे शरीर को अब बेतहाशा चूमने लगे। रोहन मेरी ब्रा से निकले हुए चूची के हिस्से को चूम रहा था.

मैंने हैरान होकर बुआ से पूछा कि आप क्यों नहीं गईं?बुआ ने बोला- तू सो रहा था न … इसलिए नहीं गई. अब आगे की हिन्दी रियल सेक्स स्टोरी:हमें चुदाई और बातें करते हुए 2 घंटे से ज्यादा हो गए थे. अपनी जांघों को फैलाते हुए मौसी ने भी मेरी जीभ का स्वागत अपनी चूत में किया और मैंने जीभ अंदर घुसा दी.

बताइये क्या हाल चाल हैं आपके?भाभी बोली- मैं तो अच्छी हूं, तुम बताओ?मैंने सीधा बोला- नंगा लेटा हुआ हूं मैं तो, आपको याद करके मुठ मार रहा हूं. फिर लंड टिका कर जोर से धक्का मारा और अपना लगभग आधा लंड अंदर डाल दिया।इस अचानक और जोरदार वार से मेरी हालत खराब हो गई. वो जब काले रंग के सूट में स्कूल आती थीं, तो मन करता था कि उसी वक़्त पकड़ कर मैडम को चोद दूं.

मैं सीट के और ज्यादा पीछे होकर उनके लंड को अपनी गांड में और अच्छे से घुसने का मौका देती थी.

हॉट सेक्सी वीडियो हिंदी बीएफ: मैंने कहा- तो मैं आपको रोज प्यार करता … जीभर के … आपको कोई कमी नहीं होने देता. मुझसे भी अब रुका न गया और मैंने उस लड़के के फड़फड़ाते लंड को उसकी लोअर के ऊपर से ही अपने हाथ में भर लिया.

इसी बीच मैंने एक बार गुड़िया बुआ की गांड भी मारी … उसकी कथा फिर कभी लिखूंगा. पिताजी ने कहा वो एक सप्ताह के उपरान्त आएंगे व मुझे वापस गांव छोड़ देंगे. मेरी बात सुनकर रेखा कुछ देर तक खामोश रहने के बाद बोली- मैं समझ नहीं पा रही कि आप क्या कह रहे हैं और मैं आपको क्या जवाब दूँ.

मैं ये खास कर उन भाभियों के लिए शेयर कर रहा हूँ, जिनको सेक्स में ज्यादा दिलचस्पी हैआज मैं आपको अपनी और मेरी मामी की वो अन्तर्वासना मामी की चुदाई की कहानी बताने जा रहा हूँ.

लवली को भी एक नया लंड चूत में मिला था इसलिए उसके चेहरे पर भी अलग ही खुशी थी. जिससे मोसी की आह निकल गई, बोली- ऐसे तो भैंसे ने भी नहीं डाला था रे!फिर मैं मोसी की दबा कर चुदाई करने लगा. जल्दीबाजी में मैंने आरक्षण नहीं करवाया था, इसलिए मैं एक अच्छी जगह देखकर ट्रेन में खिड़की वाली सीट पर बैठ गया.