ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म

छवि स्रोत,சன்னி லியோன் xxx

तस्वीर का शीर्षक ,

करून दाखवा: ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म, मैंने उसे रोका और उससे कहा- आह … अब रहने दे मेरी जान … क्या तुम मेरे लंड को खा जाओगी?वह वासना से तप्त एक रांड के जैसी नजरों से मुझे देखते हुए बोली- आज मैं तुम्हारे लंड को तो क्या … आज तो मैं तुम्हें भी कच्चा खा जाऊंगी.

100 आदमी का खाना

पर मुझे दर्द होने लगा था तो मैं उसे स्सी … स्सी … करते हुए रोकने लगी।अजय बोला- यार, थोड़ा दर्द तो बर्दाश्त करना पड़ेगा, वरना आगे का मजा कैसे आयेगा।मैंने उसकी बात समझते हुए थोड़ा स्थिर रहने का निश्चय किया और कहा- ठीक है, अब नहीं हिलूंगी. सेक्सी फिल्म वीडियो बीएफ फिल्म वीडियोइसके कुछ देर बाद दीदी नेडॉगी स्टाइल से चुदवाया, गांड में भी लंड लिया.

मैं बोला- चाची तुमको कितने मर्दों ने चोदा है?वो हंसते हुए बोलीं- सोहेल मुझे अब तक 29 मर्दों ने चोदा है, तू तीसवां है. एचडी में ब्लू फिल्म सेक्सीवो बोली- वाह मेरे सरताज … ऊपर वाला तुम्हारे लौड़े को ताकत दे … तुम और चूतों को अपने लंड से जन्नत की सैर कराओ.

मैंने उसे छेड़ा- क्या रात वाली बात याद आ रही है अफ़रोज़?अफ़रोज़- आपा रात की तो बात ही मत करो.ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म: मेरी दीदी ग्रेजुएशन पूरा करने के बाद घर पर ही रहती हैं और घर का काम करती हैं.

फिर मैंने अपनी बेटियों को चुदाई का मौक़ा कैसे दिया?हैलो फ्रेंड्स, मैं सबीना एक बार फिर से आपका अपनी सेक्स कहानी में इस्तकबाल करती हूँ.वो और जोश में आ गई और तेज़ी से लंड पर कूदने लगी।अब थोड़ी देर बाद उसकी रफ़्तार कम होने लगी और उसने लंड को अपनी चूत में कस लिया; उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और गीला लंड सटासट सटासट अंदर बाहर होने लगा।मैंने उसको लंड से उठाकर सोफे पर झुका दिया और पीछे से चोदने लगा.

बीएफ सेक्सी बुर चोदा - ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म

और उसके स्तन इतने मादक थे कि उसको छूते ही कमजोर मर्दों का लंड पानी छोड़ दे.इस चूत में लंड सेक्स कहानी के अगले भाग में आपको डॉक्टर के साथ मेरी चुत चुदाई की कहानी का लुत्फ़ मिलेगा.

मैं हंसने लगा और बोला- चल भोसड़ी के … तू भी क्या याद करेगा कि कोई चेला मिला था. ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म शायद काफी टाइम बाद लंड मिलने की वजह से मेरी चुत इतना पानी छोड़ रही थी.

उनकी चूत में और ज़्यादा खुजली होने लगी थी और इस खुजली को मेरे धीरे धीरे से लग रहे धक्कों से कोई खास फर्क नहीं पड़ रहा था.

ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म?

जैसे ही मैं अन्दर आया तो बोलने लगी- बात क्यों नहीं कर रहे हो?मैंने जबाब दिया- मैं अपना रूम शिफ़्ट करने वाला हूँ … इसलिए टाइम नहीं मिला. मैंने उसके नर्म नर्म होंठों को किस करना शुरू किया और वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. वो मेरे लंड को ऐसे चूस रही थी, जैसे लंड में कुछ ढूंढ रही है और उसे चूस कर निकाल लेना चाहती हो.

सितमगढ़ के शाही तालाब के अन्दर बने एक टापू पर छोटा सा महल है, जो एकांत के लिए ही बनाया गया था. इस तरह दोस्त की दो बहनें मुझे अपनी सील तोड़ चुदाई का मजा दे चुकी थीं. रस पीने को तो मना नहीं किया था ना … इसलिए मैंने ब्लाउज को ऊपर उठा दिया.

कुल मिलाकर चोदने लायक सामान था और फिर इतना गजब का भुगतान कर रही थी. अब मैंने पूछा- अरे तू मुझे इतना चाहता है, मैंने तो कभी सोचा भी नहीं था कि घर में ही एक लंड मेरे लिए तड़प रहा है. मां की चुत से पानी निकलने की वजह से मेरी और मां की चुत का इलाका पूरा भीग गया था.

इस काम में भी बुआ ने कोई देर नहीं की और अपना मुँह खोल कर मेरे लंड को अपने मुँह में अन्दर तक भरना शुरू कर दिया. वो लड़का राहुल अपना मुँह ऊपर दीवार की तरफ मुँह करके लंड खोल कर खड़ा था.

पिता जी मेरे छोटे भाई के जन्म के दो साल बाद एक कार हादसे में नहीं रहे थे.

प्रिंसिपल सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं लौड़ों की प्यासी हो गयी थी। स्कूल के प्रिंसिपल ने कैसे मुझे होटल में लेजाकर चोदा.

रोहन अंकल- साली अबसे उसे सिर्फ सूरज बोल … चल फोन उठा और स्पीकर में रख कर बात कर. हैदराबाद सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी मुलाक़ात हैदराबाद की एक जवान लड़की से हुई. वह भी जब मुझे मिलती, तो मुझे उसकी आंखों में एक अलग ही वासना दिखाई देती थी.

मामी जी ने पास में पड़ी अपने साड़ी उठाई और मेरे लंड को अपनी साड़ी से अच्छी तरह से पौंछ कर साफ कर दिया. इतना टेस्टी पानी नमकीन पानी था, जिसे आयुषी ने 3 महीनों से मेरे लिए रोक कर रखा था. और इसके लिए अब्बू को मनाने में चाचा और चाची ने खूब ज़ोर लगाया था।कभी कभी मुझे चाची भी अपने साथ ले जाती थी और मैं और चाची दोनों मिल कर काम कर आती।ऐसे ही एक दिन मैं और चाची दोनों वीरेंदर सिंह तोमर के घर काम करने गई थी।ये जो तोमर साब हैं न … सिरे के ठर्की आदमी हैं। अक्सर चाची से कुछ न कुछ हंसी मज़ाक करते रहते थे.

अपनी सलवार कमीज़ उतार कर मैं नाइटी पहनने लगी … तो देखा कि मेरी पैंटी बुरी तरह से भीगी हुई है.

फिर एक जोर का धक्का दे दिया, जिससे दर्द के कारण उनके मुँह से आह की आवाज निकल पड़ी. अभी इस झटके से सम्भली भी नहीं थी कि उन्होंने एक झटका और देकर पूरा लंड अंदर डाल दिया. जैसे ही मेरे हाथ उसके बूब्स पर गए और मैंने एक दूध को हल्के से दबाया, तो उसके मुँह से एक सेक्सी सी अहह निकल गई.

अभय ने कार की सीट की पुश्त के बटन को पुश किया, जिससे पुश्त पीछे होती चली गई और ममता अधलेटी सी हो गई. मगर क्या ऐसा नहीं हो सकता है कि तू वीरू से ही मेरी खुजली मिटवा दे!चाची बोलीं- वो बाद में हो जाएगा मेरी जान … मगर मुझे पहले तेरे बेटे के लंड से भी चुदना है … और हम दोनों को दो लंड तैयार करने हैं ताकि हम दोनों लंड बदल बदल कर चुत चुदाई का मजा ले सकें. मामी जी सिसकते हुए मेरे सर को अपनी चुचियों पर दबाते हुए मचलने लगी थीं- शीईईईई ओह राहुल उम्ह्ह ह्ह्ह … हाय … चूस मेरे सैंया … सीईई … ऐसे ही निप्पल को मुँह में लेकर चूस लो और दबा दबा कर पी लो.

बंगालिन भाभी मेरे लंड को हसरत भरी नजरों से देखती हुई बोलीं- काश … ये मेरा देवर होता.

ममता भी अब पूरी तरह खुल गई- भैया आपसे एक बात पूछूं … आप मास्टरबेट रोज करते हो?अभय- नहीं कभी कभी जब …उसके मुँह से अचानक निकल गया. थोड़ी देर बाद वो सहज हुई उसकी चीखें अब लम्बी लम्बी सांसों में बदल गयी.

ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म इतनी देर में मेरे लंड में भी तनाव बढ़ने लगा था जिसे मामी ने अपनी गांड पर महसूस कर लिया था. उसकी टांगों को चौड़ा करके एक ही झटके में पूरा लंड चुत में घुसा दिया.

ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म [emailprotected]सेक्सी दीदी नंगी कहानी का अगला भाग:फोटोशूट के बहाने दोस्त ने मेरी बहन को चोदा- 2. वो अपनी ससुराल का घर छोड़ कर गांव में ही रहने लगी थी क्यूंकि उसके पति नशा बहुत करता था.

मेरी छुट्टी बढ़ने की बात मालूम होते ही भाभी के चेहरे पर खुशी देखते ही बनती थी.

सेक्सी वीडियो बंगाली भाभी

मैंने कहा- भाभी आप आराम से बैठी हो न!वो बोलीं- हां, बस जरा धचके ज्यादा लग रहे हैं. मैं- हां … वैसे भी मैं होता कौन हूँ?पूनम बुआ मेरे होंठों पर उंगली रखती हुई बोलीं- दोबारा ऐसा मत कहना. मैंने नीचे से झटके मारना शुरू कर दिया।अब उसका दर्द कम हुआ तो वो लंड पर उछल उछल कर अपनी चूत से मेरे लौड़े को चोदने लगी.

मैं बोली- जब निकलेगा तो बता देना और अपना वीर्य चूत में मत छोड़ना, वर्ना मैं तेरे बच्चे की मां बन जाऊंगी।इतना बोले हुए दो मिनट हुई थी कि वो जोर से सिसकारियां लेने लगा- आह्ह … दीदी … आह्ह … आह्ह … निकलने वाला है. उसने धीरे धीरे कैसे मेरी दीदी के कपड़े उतरवाने शुरू किये?दोस्तो, मैं आप सभी का सेक्सी कहानी साईट अन्तर्वासना पर स्वागत करता हूँ. मगर जब मौसी बाहर आईं तो मैं भी अपनी नजरें चुराता और लंड छुपाता हुआ बाथरूम में चला गया और अपने आपको साफ करके वापस आ गया.

रूम पार्टनर युगांडा के किसी बड़े उद्योगपति की बेटी थी और उसके चाचा वहां की सरकार में मंत्री थे.

फिर उसने ड्रिंक मंगाया और बोला- मेरी बीवी को चोदना है, चोद पाएगा?मैंने कहा- माल दिखाओ … शिकायत का मौका नहीं दूंगा … और अगर उसे संतुष्ट ना कर पाया, तो आप मेरी गांड मार लेना. मैंने उनका एक पैर उठा कर अपनी गोद में रख लिया और उसे प्यार से सहलाने लगा, पंजे से लेकर पिंडली जांघ और चूत तक मेरे हाथ फिरने लगे. अमित मुझे एक दिन एक बार में ले गया और उधर उसने अपने लिए व्हिस्की मंगाई.

इतना बोल कर वो भी उसी झाड़ी के पीछे चली गई और वहां से एक बार पलट कर देखा कि भैया देख रहे हैं कि नहीं. जैसे ही ममता के मुँह से लंड बाहर आया, ममता खांसने लगी- आकथू थू …ममता ने थूक कर अपना मुँह ठीक करने का प्रयास किया. फिर कुछ देर बाद मुझे घोड़ी बनाकर तेज़ तेज मेरी देसी गांड मारते हुए सुरजन भी झड़ गया।फिर मैं बड़ी मुश्किल से उठी.

वो अन्दर गया और रुबिका को पानी पिला कर उसको घोड़ी बना कर उसकी गांड में तेल लगाने लगा. vipपर!!इस सेक्स स्टोरी को कॉमिक्स में देखने के लिएयहां क्लिक करें।.

वो झट से घोड़ी बन गयी, मैं शीना के सामने खड़ा हो गया और अपना लन्ड उसके होठों पर लगा दिया. मैंने कहा- देखा चाची, हम दोनों ने कुछ ऐसा वैसा किया भी नहीं और दोनों सॅटिस्फाई हो गए. अब आगे Xxx ब्रदर एंड सिस्टर स्टोरी:मैं सफर की थकान के कारण सो गई थी.

उन्हें देख देख कर मुझे लगता कि इनकी चूत भी ब्लू फिल्म्स की सुन्दरियों की तरह गुलाबी मक्खन जैसी होगी जो हाथ भर लम्बा मोटा लंड अपनी छोटी सी चूत में बड़े आराम से झेल लेती है.

इस बात से मुझे बड़ी गुदगुदी होती है और मैं अपने अन्दर ही अन्दर मुस्कुराती रहती हूँ. उस बोतल का पानी ठंडा था, मैंने अपने हाथ से चाची को थोड़ा पानी पिलाया और पानी से मधुमक्खी के काटे के स्थान को धोया. ये कह कर मैं घर से तुरंत निकल गया, लेकिन मैं जाते-जाते अपना फोन घर पर ही भूल गया.

इसके लिए मैंने उनसे कहा कि वो रायपुर जाने के लिए अपने घर वालों से कुछ बहाना बना लें. मेरे साथ ऐसा होता देख, मेरी पड़ोस वाली भाभी सामने बैठ कर सिर्फ मुस्कुरा रही थीं.

इतना ज़रूर कहा कि उसकी चुदाई कर लेने के बाद ही उसका नाम सबसे पहले मुझे बताएगा. देसी गन्दी चुदाई कहानी में पढ़ें कि मौसी और उनकी जेठानी को लेस्बियन सेक्स में लगाकर मैं भी सेक्स के खेल में घुस गया. मेरी मां रज्जी मुझे मना करती रहीं लेकिन मैंने लंड का पूरा पानी उनकी चुत में छोड़ दिया.

ससुर बहु के साथ सेक्सी वीडियो

दीदी- ये क्या बोल रहे, तुमने तो सिर्फ दो-तीन फोटो लेने का ही कहा था और तुम यह सब क्या मुझे बोल रहे हो?रमेश- ऐसा कुछ भी नहीं है यार … तू मेरे दोस्त की बहन है और मैं तुम्हारे बारे में बुरा नहीं सोच सकता.

उसकी ब्रा के हुक खोलकर चूचिय़ों पर हाथ फेरा तो एकदम कड़क चूचियां और कटीले निप्पल्स. मैंने मौसी की ताबड़तोड़ चुदाई करना शुरू कर दी और झड़ने को आ गया तो मैंने उनसे पूछा- कहां छोड़ूँ?मौसी ने अपना मुँह खोल दिया और जीभ बाहर निकाल दी. पूरे दिन सुम्मी को कॉल और मैसेज पर लोगों ने शुभकामनाएं दीं लेकिन सुम्मी खुश नहीं थी.

जब पानी निकलने वाला था तो मैंने उसके मुँह में पूरा लंड अन्दर घुसा दिया. विवेक के लंड को सहलाने वाली लड़की जोया ने मुँह को खोला और तभी विवेक ने अपने लंड को पूरा उसके मुँह में पेल दिया. बीएफ वीडियो हिंदी भाषापापा जी, अब धकेल दो पूरा एक ही बार में …” बहूरानी मेरे नितम्बों को अपनी मुट्ठी में भर कर मसलती हुई बोली.

मैंने अपना मुँह उसकी चूचियों पर लगा दिया और उन्हें चूसना मसलना चालू कर दिया. इससे दीदी का पजामा नीचे गिर गया और उनकी रेड कलर की पैंटी सामने आ गई.

इसी लिए तीसरे दिन अंकल ने मुझे आधा घंटे पहले काम पर आने की बात कही थी. रास्ते में वो मेरा लंड मुँह में लेकर चूसती रही और कामुक बातें करती रही. फिर उसने अपने पैर ऊपर की ओर मोड़ लिए और मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत की दरार में रगड़ कर टोपा को छेद पर बैठा दिया.

मैं उन्हें चूमकर बोली- अहमद के साथ मजा नहीं आया, आप मुझे संतुष्ट कर दो. मैंने आधी नंगी की फोटो तो खिंचवा ही ली हैं … अब पूरी नंगी दिखने में क्या है … चलो आ जाओ और खींच लो मेरी नंगी चूचियों की फोटो. मां मुझसे छूटने की कोशिश करने लगीं … पर मैं मां को पकड़े रहा और धीरे धीरे लंड को अन्दर डालता रहा.

राजेश मुझे थाम लिया मुझे राजेश की बांहों में अजीब सा लगा पर अच्छा लगा.

मैंने वापस से अपने लंड को उसकी चुत पर सैट किया और एक हल्का सा धक्का दे दिया. मैं उन आवाजों को सुन कर अंदाजा लगा रहा था कि वहां अब कौन सा सीन चल रहा होगा.

यूँ तो मैं पूनम बुआ के सामने ऐसे पहले भी बात कर चुका था, पर आज मैं पूनम बुआ को चोद कर अपना लंड शांत करने का मन बना चुका था और उसके लिए थोड़ा और खुलना बहुत जरूरी था. उसके पेट्रोल पम्प पर हुए झगड़े में हमारी मुलाक़ात हुई थी जो दोस्ती में बदल गयी. जब आप किसी पोर्न फिल्म को देखते हैं तो उसमें लंड चुत दोनों ही एकदम साफ़ दिखाई देते हैं.

फ़ातिमा को छोटे कपड़े पहनने का बहुत शौक था तो वो मेरे सामने क्रॉप टॉप और शॉर्ट्स में रहती थी. कुछ ही देर में मेरा लंड बुआ के सामने था और वो उसको अपने हाथ में लेकर बहुत खुश नज़र आ रही थीं. करीब दो ही मिनट बाद उनकी चूत फिर से दलदली सी हो गयी और उनके मूवमेंट्स एकदम तेज हो गए.

ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म मैंने नंगी कृति को गोद में उठाया और पलंग के मखमल से मुलायम गद्दे पर सीधा लिटा दिया. मेरे पूरे बदन पर तेल होने के कारण मेरे धक्के मारने से पूरे कमरे में पच पच पच की आवाज आने लगी.

जापानी छोटी लड़कियों की सेक्सी

फिर हम अलग हुए और मैंने उसे चाय पानी के लिए पूछा तो उसने मना कर दिया. Xxx कुकोल्ड वाइफ सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक आदमी ने मुझे अपनी बीवी की चुदाई करवाने के लिए बुलाया. जब मैं उनकी चूत चाट रहा था तब वो शायद नींद में ही अपनी चुत चटवाने के मजे ले रही थीं.

मैं उसको जोर जोर से चोदने के साथ उसकी चुत के दाने को अपनी उंगली से रगड़ कर मसल देता. आपकी सराहना, प्यार, स्नेह और आपकी दोस्ती के लिए मैं दिल से शुक्रगुजार हूँ. मारवाडी बीएफ सेक्सी व्हिडिओयूं तो मेरे और अदिति के बीच सेक्स के अन्तरंग सम्बन्ध पिछले लगभग चार वर्षों से हैं और मैं उन्हें बीसियों बार छक के चोद चुका हूं.

ये सब मैं बहुत जोर जोर से कर रहा था ताकि भाभी जी जल्दी गर्म हो जाएं और मुझे लंड डालने के लिए खुद ही बोल दें.

और मैं उठकर टेबल पर उल्टी होकर लेट गई और उनके लंड को चूसने चाटने लगी।उन्होंने अपनी एक टांग मेज पर रख दी और मेरे मम्मों के बीच में लंड फंसा कर घिसने लगे।मैं उनकी गांड चाटने लगी और उनके अंडे चूसने लगी।वे बोले- वाह हरामजादी रंडी, क्या नर्म नर्म मम्में हैं मादरचोद कुतिया।कुछ देर तक वे मेरे मम्मों के बीच में लंड घिसते रहे और फिर उन्होंने मेरे मुँह में लंड डाल दिया और मुंह को चोदने लगे. मैंने जब मामी जी को ऐसे गांड उछाल कर मेरा लंड अपनी चूत में लेते देखा तो मैं और पागल हो गया.

ये मेरा अपना गुस्सा दिखाने का तरीका था क्योंकि ये तो मुझे पता था कि आज चाहे जो हो जाए, पूनम बुआ मेरे लंड का पानी अपनी चुत में जरूर लेंगी. नगमा जोर से चिल्लाई- आह्ह अह भड़वे … मादरचोद मेरी गांड फाड़ दी तूने … अह्ह्ह्ह रुक जा शैतान के बच्चे!मगर मैं नहीं रुका और उसकी गांड मारता ही रहा. चाची- अरे तूने बॉक्सर नहीं बदला!मैं ग़लती से बोल गया- बिना नहाए क्यों बदलूं … नहाते वक्त बदल लूँगा ना!चाची- अरे तुम पागल हो क्या?मैं- चाची आप ऐसे क्यों बात कर रही हो.

मेरे लंड को खड़ा होते देख कर मामी मेरी गोद से उठीं और अपनी सलवार का नाड़ा खोलने लगीं.

मैं पैंटी के ऊपर से ही उसकी चुत पर अपनी ज़ुबान फेरने लगा और चुत पर काटने लगा. वह बोली- मेरे पास कोई दूसरा सिम कार्ड नहीं है, प्लीज प्लीज आप नया नंबर ले लो … ये नम्बर मैंने अपने परिचितों में दे दिया है. शीना- सच में अंकल, वैसे आंटी ने कब तक आना है?मैं- वो एक हफ्ते के लिए गयी है, अब एक हफ्ते तक तो मैं अकेला ही रहूंगा.

ब्लू फिल्म ब्लू फिल्म देखने वालीबीच बीच में मैं जाकर उन्हें दिलासा देता रहता था, ताकि वो जीने की उम्मीद न छोड़ें. दूसरे दिन से हम दोनों ने अपने इस टूर को हर दिन बिना कंडोम के चुदाई करके सेलिब्रेट किया.

हिंदी सेक्सी कॉलेज वाली

उसके कड़ियल शरीर से पसीना बह रहा था जो उसके सांवले बदन को चमका रहा था. मेरी देसी माल सेक्स स्टोरी के पिछले भागमामी की सेक्सी पड़ोसन को चुदाई के लिए मनायामें आपने पढ़ा था कि मेरी मामी की पड़ोसन मिहिका मुझसे सैट हो गई थी और रात को बारह बजे वो मुझे फोन करके चोदने के लिए बुला रही थी. उसने मेरी बात का कोई जवाब नहीं दिया और उठ कर सामने पड़े दूसरे सोफे पर बैठ गई.

अब तो आलम ये था कि एक भी दिन ऐसा नहीं होता था, जब वो मुझे न्यूड पिक न भेजें … और फोन सेक्स न करें. मैं उन्हें सब बता दिया कि डैड अब मॉम के सिर्फ पति भर हैं वो उन्हें सेक्स में संतुष्ट नहीं कर सकते हैं और घर में दादा दादी जी भी हैं. लेकिन मैं उनके बिना बोले उन्हें चोद भी नहीं सकता था, ये प्रॉफेशन ही ऐसा है.

चाची- क्या हुआ बेटा!मैं दबी हुई और दर्द भरी आवाज़ में कराहता हुआ बोला- कुछ नहीं चाची. वो अपनी गांड उठाती हुई ‘ओह फ़क फ़क हार्ड आह …’ की मादक आवाजें कुछ ज्यादा तेज स्वर में निकालने लगी. मैं वहां कभी कभी ही रहता था … इस कारण भाभी मुझे कई बार बोलती थीं कि आपने ये कमरा क्यों ले रखा है, आप तो यहां रुकते भी नहीं हैं.

रियल लाइफ सेक्स पहली बार होने के कारण मेरा सारा का सारा माल भाभी के मुंह पर गिर गया था. किसी को कुछ पता चल गया तो?उन्होंने मुझसे कहा- अगर तू मुझ पर भरोसा करती है, तो एक बार एन्जॉय करके देख.

एक तरफ मेरी पत्नी की वफादारी थी और दूसरी ओर एक मस्त चूत थी, जो खुद से ऑफर दे रही थी.

आज तक उसने अपने यहां काम करने वाली मजदूर औरतों की हर तरह की चूतें चोदी थीं … पर ज्यादातर सभी ढीले और फटे भोसड़े थे. इंडियन सेक्सी बीपी मराठीउन्होंने मेरा मुंह, चूत, गांड सब कुछ चोद डाला; मेरा गोरा बदन, बूब्स और चूतड़ सब मसल डाले।मेरी गंदी भाषा से उत्तेजित हो वे दोनों जोश में चोद रहे थे. सोनाक्षी के बीएफजब गांड में अब बिल्कुल भी बर्दाश्त न हुआ तो मैंने लंड को चूत में डालने के लिए कहा. आपकी प्यारी भाभी मनीषा[emailprotected]हॉट लेडी Xxx कहानी का अगला भाग:पड़ोसन भाभी ने मेरी अन्तर्वासना को समझा- 2.

मेरी बच्चेदानी में मुँह पर जेठ जी के लंड ने करीब 9-10 बार रह रह कर धार मारीं और वो मेरी छाती के ऊपर पसरते चले गए.

हम वापस आ गए, तो घर पर सुमन दीदी हमसे पूछने लगीं- क्या हुआ है मां को, हॉस्पिटल में देख कर क्या बोले डॉक्टर?तो मां ने बोला- कुछ नहीं बेटा, डॉक्टर ने बस कमज़ोरी बताई है और बोला है कि 2-3 दिन में मैं ठीक हो जाऊंगी. दोस्तो, मेरे यार कुच्ची ने मेरे लौड़े के लिए मस्त जमीला की चुत का इंतजाम करने की तैयारी कर दी थी. उन्होंने उसमें से कुछ वीर्य उंगली से उठा कर चाट लिया और कुछ अपने मम्मों पर लगा लिया.

कल तक मैं अपनी चुत आइने में देखती थी और सोचती थी कि कब इस चुत में लंड जाएगा और आज देखो कैसी चार बच्चे वाली औरत जैसी चुत हो गई है. मैं भी उसको सोनिया, सोना, रंडी, गंडमरी … न जाने किस किस नाम से बुलाने लगा. तभी शन्नो की चूत कसने लगी और मैंने अपने लौड़े की और ज्यादा रफ्तार बढ़ा दी.

सेक्सी सेक्सी ब्लू फिल्म दिखाओ

थोड़ी देर बाद उसने हुर्रेम को खड़ा किया और उसे टेबल पर टिका कर कुतिया की पोजीशन में कर दिया. कुछ सेक्स कहानियां तो इतनी मजेदार होती हैं कि उन्हें पढ़कर लड़कों के हाथ अपने लंड तक और लड़कियों के हाथ अपनी चूत तक पहुंच जाते हैं. पर मुझे लगता था कि उनकी मंशा कुछ ऐसी ही थी और सोचता रहता था कि दीदी न जाने चोदने के लिए कब बोलेंगी.

थोड़ी देर में ही प्रकाश आ गया।अनीता ने प्रकाश के आते ही अपने कपड़े उतार दिये और प्रकाश के भी उतरवा दिये।प्रकाश बोला कि चाय तो बना लेती पहले?अनीता बोली- पहले मेरी चूत को अपना दूध पिलाओ फिर तुम्हें चाय मिलेगी।वह सिगरेट सुलगा कर सोफ़े पर टाँगें चौड़ी कर लेट गयी और छल्ले उड़ाने लगी।प्रकाश एक आज्ञाकारी बच्चे की तरह उसकी चूत चूसने के लिए नीचे झुका।मगर ये क्या ….

कुछ पल बाद हुर्रेम ने नवीन का लंड अपने मुँह में ले लिया और जोर जोर से चूसने लगी.

मुझे नहीं पता फ़लक उस इशारे को कितना समझ पाई लेकिन वह मेरे उस इशारे से खुश हो गई थी. फ़ातिमा- तुमने तो मेरी जान ही निकल दी … ऐसे भी कोई पेलता है क्या? थोड़ी देर ऐसे ही मेरे ऊपर सोये रहो. देसी सेक्ससी वीडियोमैं बोला- तुम आराम से जाओ और आराम से अपना काम पूरा करके आओ, कोई दिक्कत नहीं है.

मैं बोली- ओह मुकेश … घुसा दो अंदर … मेरी कली को फूल बना दो … डाल दो अपना लंड चूत में … फाड़ दो मेरी चूत को … आह।वो लंड को चूत पर रगड़ रहे थे और मेरे चूचे मसल रहे थे. अब आगे :चाची मेरी तरफ देखती हुई बोलीं- उठ बेटा केदार, कब तक सोता रहेगा?मैं- ओह चाची … मैं कल देर से सोया था और …चाची- और क्या!मैं- मुझे सपना आ रहा था चाची. एक दो फोटो लेने के बाद रमेश ने दीदी को बोला कि तुम अपनी कुर्ती निकाल दो.

मैंने शन्नो की चूत में लंड की मार तेज़ कर दी और तेज़ी से अन्दर-बाहर करने लगा. मैं कुछ देर में अपने कपड़े बदल कर बाहर आई तो आज रोहित की आंखों में मुझे कुछ अजीब सी वासना दिखी.

माउथ सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे एक बहन के अपने बड़े भाई के सामने सड़क किनारे पेशाब करते हुए अपनी चूत दिखाई.

उसने मुझे कसकर अपनी बांहों में जकड़कर अपने लंड को मेरी चुत पर कसकर दबा दिया. तारीख 25 दिसम्बर समय शाम के 7 बजे मैं अपने दोस्त विशाल के साथ एक पार्टी में जा रहा था. पर भाभी के माँ बाप ने उनकी मर्ज़ी के खिलाफ उनकी शादी मेरे भाई से करा दी.

भाभी के बीएफ पिक्चर इस दौरान कुच्ची ने जमीला के ऊपर मेरा इम्प्रेशन जमा दिया था, जिसमें आखिरी कड़ी थी कि मुझे रूबरू मिलाना, जो आज हुआ था. मैंने फिर से छेड़ा- अब चाहे मारो या मरवाओ … मैं तो तेरा आशिक हूँ मेरी जान.

इस बार मेरा पूरा लंड उसकी हॉट चूत में घुस गया; वो तड़पने लगी और उसकी आंखों से आंसू निकल आए. दीदी अब पीछे की ओर घूमी तो उनकी बड़ी सी गांड एकदम नंगी मेरी निगाहों के सामने आ गई थी. आज मैं अपनी और अपने एक मित्र की बुआ पूनम की आपबीती आपसे साझा करने जा रहा हूँ.

इंग्लिश सेक्सी फिल्म चुदाई

धीरे धीरे बड़ी दीदी भी मुझे प्यार करने लगीं और हमारे बीच काफी मजाक होने लगा था. भाभी के साथ होने वाली चुदाई के बारे में सोचते हुए मेरा लंड एकदम खड़ा होने लगा था. वो बोले- सहलाओ इसको जान!मैं धीरे धीरे सहलाने लगी उनके लंड को!वो मेरे दूध को दबाने लगे.

देसी गांड चुदाई कहानी में पढ़ें कि मैं मामी के घर में सो रहा था तो मेरी नींद खुली. आज तुम्हारा लण्ड लेने के बाद मुझे महसूस हो गया कि मेरी गोद अभी तक क्यों नहीं भरी.

उसने मुझे घुटनों के बल बैठने के लिए कहा और अपने खड़े लौड़े पर वोडका टपकाई और मैंने अमित का नशीला लंड चूस कर वोडका का मजा लिया.

उसके बाद मैंने दोनों बच्चों को सुला दिया और एक गहरे गले का लाल रंग का नाईट गाउन पहन लिया जो मेरे घुटनों तक आता था. हॉट फॅमिली सेक्स कहानी में पढ़ें कि एक बार मेरे ननदोई जी मेरे घर पर रात को रुके तो हमारी वासना उमड़ पड़ी और हम सेक्स के लिए उतावले हो गए. दो मिनट किस करने के बाद हम दोनों अलग हुए और टॉयलेट से निकलकर नीचे चले गए.

वो एक तरफ मेरी दीदी की चूचियों को भींचे हुए था और दूसरी तरफ दीदी की गांड में लंड रगड़ कर मजा ले रहा था. वो खुद अपने हाथ से अपनी चूची मेरे मुँह में ठेलते हुए चुसवाने का मजा लेने लगीं. जैसे ही उसने मुझे देखा तो उसके मुंह कुटिल मुस्कान आ गई।मैं उसके सर दोनों हाथों से लंड पर दबाने लगा।उसके मुंह से लार चू कर मेरे लंड और आंड को गीला कर रही थी।कुछ देर बाद मैंने नीतू रोक दिया और एक कपड़े से अपना लंड पौंछ कर सुखा लिया और नीतू से भी अपनी चूत पौंछने को बोला।उसने कपड़ा मेरे हाथ से लिया और अपनी चूत को अंदर बाहर से पौंछ कर सुखा लिया।फिर मैंने उसे अपने ऊपर आने का निमंत्रण दिया.

मां चुदाई का मजा ले रही थीं, वो भी ‘अअअह ऊऊऊह हहह ओऊ …’ जैसी आवाजें निकाल रही थीं.

ब्लू पिक्चर सेक्सी बीएफ फिल्म: वो बोले- शबनम लंड कैसा लगा?मैं लंड चाटती हुई बोली- ये तो अहमद के लंड से ज्यादा बड़ा है. आपको मेरी मामी की चुदाई की ये देसी गांड चुदाई कहानी कैसी लगी, प्लीज़ मेल जरूर करें.

बुर पर जीभ फेरने से बहार गनगना गई और बोली- अब देर न करो, मेरी बुर तुम्हारा लण्ड माँग रही है. मगर अभी तुम कुछ खा लो … क्योंकि बाद में तुम्हें सिवाए केला खाने के और कुछ नहीं मिलेगा. घर पहुंचा तो बहार उसी समय नहाकर निकली थी, मुझे देखते ही उछलकर गले लग गई और बोली- मुबारक हो, जीजू.

चाची जरा गुस्सा करती हुई बोलीं- चुपचाप बता … क्या हुआ है?मैंने इशारा करते हुए बताया- चाची वो मेरे गोले दब गए तो बहुत दर्द कर रहे हैं.

मैंने भी अब देर करना ठीक नहीं समझा, मैंने फिर से उसकी गांड के नीचे तकिया लगाया और उसकी टांगें खोल कर चौड़ी कर दी. गुरुत्वाकर्षण की मदद से वो नीचे को हुई और पहली ही बार में मेरा लंड 4 इंच तक चुत के अन्दर चला गया. ममता अपना हाथ पीछे ले जाकर नेहा की मोटी गांड पर घुमाने लगी और धीरे से एक उंगली उसकी गांड के भूरे टाईट छेद में घुसाने लगी.