बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग

छवि स्रोत,मोटी आंटी की गांड की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी वीडियो भूत: बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग, अपनी चारपाई को खींच कर मैं खिड़की के पास ले आया और नेहा को मैंने उस परगिरा दिया.

एक्स एक्स फिल्म बीएफ

फिर उन्होंने अपने कपड़े पहन लिये और वो बाहर आने की तैयारी करने लगे. सेक्सी डॉक्टर हिंदीमैंने देखा कि कुछ ही पलों में अम्मी पूरी अकड़ सी गयी थीं और उनके मुँह से बेकाबू कामुक ‘इसस्स.

फिर इसी पोजीशन में मैंने परवीन को 10 मिनट चोदा और मैं भी कंडोम में ही लंड उसकी चूत के अन्दर डाले डाले झड़ गया. এটেল ছবি এটেল ছবিजब दोनों को यकीन हो गया कि मैं बिल्कुल नींद में हूँ तो दोनों उठ कर बेडरूम की तरफ चले गये.

जब भी वीर्य निकलता है, उसके बाद के पहले पेशाब में भी थोड़ा वीर्य आता है.बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग: मैं अपने दोस्तों से उसके बारे में पूछता रहता था कि क्या वो किसी और को पसंद करती है लेकिन सबके पास से यही जवाब आता था कि उसकी लाइफ में कोई नहीं है.

जितना प्यार उसने मुझे दिया है … उसका 10 गुना प्यार उसे अपनी बीवी से मिले.मैंने उसकी सहेली के बारे में पूछा, तो वो बोली- नहीं वो नहीं आई, उसका बॉय फ्रेंड फ्लैट पे आएगा और फिर दोनों वो मस्ती करेंगे, इसीलिए तो वो मेरे साथ आयी नहीं है.

खेतों की बीएफ - बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग

मुझे जब भी मौका मिलता है तो अपने बॉयफ्रेंड के साथ या अपने पड़ोसी के साथ होटल में जाकर सेक्स कर लेती हूँ.मैंने जैसे ही उसकी टी-शर्ट को ऊपर करना चाहा, उसने मेरा हाथ हटा दिया.

पता नहीं क्यों … मैंने अपने हाथ से उसे एक निवाला खिला दिया … बस कीर्ति रोने लगी. बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग उसने फिर मेरी चूत से अंदर का पानी अपने मुंह में लिया और मुझे लिप किस करने लगी.

चुदाई की मस्ती की के बाद सुबह नौ बजे में उठी तो सासु ने बोला- आज तुझे जाना है और इतनी लेट उठी है?मैंने कहा- मम्मी कल रात में हल्का सा बुखार आ गया था तो गोली लेकर सो गई थी इसलिए आज लेट उठी.

बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग?

मेरे सभी दोस्त लड़की पटा चुके थे और जब जी में आता उन्हें चोदते भी थे. अब मैंने उससे बातचीत को आगे बढ़ाते हुए उसकी पर्सनल लाइफ के बारे में पूछा. मैं उनकी आंखों से आंखें नहीं मिला सकी और अपनी आंखें बंद कर कर उनके लंड को अपने आप ही हिलाने लगी.

मुझे अपनी प्यारी कामुक पत्नी रीना को अपने से बड़े लंड से चुदते हुए देखने का नजारा प्राप्त होने वाला है. ज्योति के मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं- उम्म्ह… अहह… हय… याह… प्लीज … तन्मय मेरी जान … मेरे बॉयफ्रेंड ने या मेरे पति ने कभी मेरी चूत नहीं चाटी. अब मेरी आंखों के सामने एक गोल चिकनी गुलाबी गांड थी और उसके नीचे से झांकती एक बंद होंठों वाली मुनिया.

स्टेशन के बाहर आकर हमने नाश्ता किया और ऑटो करके उसकी बहन के रूम पर आ गए. बंटी बोला- फिर आगे?फिर मैं नीचे आ जाता और आपका लंड बाहर निकाल कर धीरे से लंड की टोपी पे अपनी जुबान फेरने लगता. आंटी बोली- तुम बहुत बदमाश हो गए हो।मैं बोला- क्यों?वह बोली- मैं सब जानती हूं तुम कैसी नजर से मुझे देखते हो!आंटी के मुंह से यह सुनकर मेरा भी हौसला बढ़ गया, मैं बोला- आप हो ही इतनी नमकीन जिसका मजा हर कोई लेना चाहता है।आंटी ने पूछा- आज तक तुमने कभी किसी के साथ सेक्स नहीं किया?मैं बोला- नहीं … मुझे इस बात का नॉलेज भी नहीं है.

कुछ देर तक मैं आंखें बंद किये हुए ऐसे ही पड़ा रहा।फिर जब यह अहसास हुआ कि हाथ के साथ-साथ वीर्य झाटों तक को भिगो चुका है तब सोचा कि अब बाथरूम में जाकर इसे साफ कर लूं. सोनम रानी, फिर तो एक ही तरीका है कि तू किसी से जी भर के चार छः बार चुदवा ले.

अब मैंने उसको लंड चूसने का बोला, तो उसने पहले तो मना कर दिया लेकिन मेरे जोर देने पर वो मान गयी और धीरे धीरे लंड को सहला कर किस करने लगी.

रात के करीब दस बजे भाभी का मैसेज आया- क्या हो रहा है … खाना खा लिया कि नहीं?मैंने रिप्लाई किया- नहीं यार … अभी तो बियर पी रहा हूँ, खाना रखा हुआ है अभी खाऊंगा.

बहन की कामुक चुदाई की कहानी का स्वाद आप सब को कैसा लगा प्लीज़ मुझे मेल करें. मुझे सेक्स का बहुत मन करता है लेकिन घर वालों और समाज की वजह से मैं रोज सेक्स नहीं कर पाती हूँ. तुमको पटाने के लिए कब से सोच रहा था, लेकिन मुझे मालूम ही नहीं था कि तुम खुद ही पटने को मचल रही हो.

फिर सोचा कि भाभी की चूत देखने की तमन्ना तब पूरी हो जायेगी जब भाभी बाहर निकलेगी. लो ये लंड ठण्डा पड़ गया है, इसे चूस कर गर्म करो … इसे अपने मुँह में ले के चूसो. वह बोली- कहां लेकर जा रहे हो मुझे?मैं बोला- वहीं … जहां तसल्ली से तुम्हें चोद सकूं.

शुरू शुरू में तो मैंने सोचा कि यह सब जीजा और साली के बीच में होता रहता है.

अब आप चले जाइये, अगर आकाश उठ गया तो इसको हमारे बारे में जरूर कुछ न कुछ पता लग जायेगा. अब मेरी आंखों के सामने एक गोल चिकनी गुलाबी गांड थी और उसके नीचे से झांकती एक बंद होंठों वाली मुनिया. चलते वक्त मैंने नजर भर के देखा कि उसकी अच्छी भरी हुई गुंदाज जांघें थीं, जो उसकी चुस्त पजामी में से साफ़ दिख रही थीं.

मैं इस शादी से खुश नहीं थी, क्योंकि मुझे हैंडसम हसबेंड चाहिए था, पर वो नहीं मिला. यह बोलकर ज्योति उठने को बेड पर खड़ी हुई, तो मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपनी ओर खींच लिया. पुष्पिका- आजकल के लड़कों को सिर्फ लड़की के साथ कुछ टाइम बिताना होता है.

उसने अपने बेड को साफ किया और बोला- आप यहां बैठिए, तब तक मैं देखता हूं कि कार्बोरेटर में क्या प्रॉब्लम है.

जब तक हम गैरेज पहुंचे तब तक काफी अंधेरा हो चुका था और बरसात भी बंद हो चुकी थी. उन्होंने पांच मिनट तक लंड मेरे मुँह में ही रखे, फिर बाहर निकाल कर पौंछने लगे.

बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग मेरी नजर तुरन्त ही घड़ी पर गयी, तो देखा कि कॉलेज जाने का टाईम हो रहा था. काजल तो शायद ये भी नहीं जानती थी कि उसकी जांघ का स्पर्श मेरी अंतर्वासना को भड़का चुका है.

बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग मैंने अपनी बहन को नीचे लिटा कर उसकी टांगें अपने कंधे पर रखीं और उसकी चूत पर अपना लंड सैट करके जोर से लंड पेलने की कोशिश करने लगा. अंकल ने अपने लंड को अम्मी के मम्मों के बीच में रखा और उनके मम्मों की चुदाई करने लगे.

मैंने देखा कि भाभी की चूत मेरे लंड को ऐसे लेने लगी थी जैसे बस वो झड़ने ही वाली है.

बहन के बीएफ

फिर भी मैं कभी लेटता, तो कभी उठकर बैठ जाता, तो कभी बारजे में टहलने के लिए चला जाता. ताऊ जी ने दोबारा उसके हाथ को पकड़ा और अपने लंड को पकड़ा दिया और ऊपर नीचे हिलाने लगे. होटल में जाने के लिए निकला ही था कि बीच रास्ते में शान्ति देवी मुझे मिल गई.

मस्त मोटे मोटे 36 साइज के बोबे, पीले रंग के ब्लाउज से आधे बाहर झांक रहे थे. यह देख कर मैं समझ गया था कि ताऊ जी का गर्म वीर्य चाची के चूत में गिरने वाला है. फिर मैंने भाभी की ब्रा भी उतार दी और उनके मम्मों को मसलने और चूमते हुए चूसने लगा.

आंटी भी मेरे सामने ब्रा और पेंटी में खड़ी थी।मैं बोला- आंटी आप ब्रा और पेंटी में बड़ी अच्छी लगती हो मुझे.

उन्होंने बहुत देर तक मेरी जांघों को स्कर्ट के अन्दर हाथ डाल कर मसला. फिर भाभी मुझे हग करते हुए मेरे साथ नंगी ही मुझे बांनों में ले कर सो गईं. आह … लंड चुसाई का क्या गर्म अहसास था … इसके सामने तो मानो चूत की चुदाई भी फीकी पड़ जाए.

मैंने ठीक 10 बजे उसकी सोसाइटी के बाहर पहुंच कर उसको कॉल किया, तो उसने बोला कि बस पांच मिनट. हाथों से मैं चूचे मसल रहा था और साथ में मैंने मैडम के होंठों को किस करना भी चालू रखी थी. मॉल में जाकर भी मुझे काजल से अकेले में बात करने के कुछ लम्हे नसीब हो ही गये.

अम्मी बोलीं- मेरा एक जवान बेटा है, वो क्या सोचेगा?अंकल बोले- वो मेरा भी बेटा है, मैं उसे किसी चीज की कमी नहीं होने दूंगा. अब उनके शरीर सिर्फ़ ब्रा-पेंटी ही बची थी मैंने खड़े होकर उनकी कमर पर मालिश करना शुरू किया … मगर उनकी ब्रा बार-बार मेरे उंगली पर लग रही थी.

सीमा के मुंह से कुछ बूंदें बाहर आ गयी थी और एक दो बूंद उसके मम्मों पर टपक गयी थीं. मैंने और नेहा ने एक दूसरे के अंगों को साफ किया और उसको कपड़े पहनाये. तभी अचानक सीमा के फ्लैट के टावर में कोई इलेक्ट्रिक फाल्ट हुआ और लाइट चली गयी.

मैं हमेशा उस पर लाइन मारने की कोशिश किया करता था लेकिन वो मेरी लाइन को लेती ही नहीं थी.

मैंने भी मस्ती लेते हुए कहा- आज तो भाभी आप पूरी स्वर्ग की अप्सरा जैसी लग रही हो … लगता है किसी के कत्ल का इरादा है. मैंने देखा कि भाभी ने पहले से ही सारी खिड़कियां बंद करके उन पर पर्दा लगा दिया था. इस गर्माहट के वजह से मुझे पेशाब लगने लगी, मैंने गैप में हाथ डालकर लंड को मुट्ठी में लिया और नम्रता से अपनी कमर को थोड़ा उठाने के लिये बोला.

मुझे लग रहा था कि वो मेरे धक्के के साथ ही चूत की दीवारों को संकुचित कर लेती थी जिससे लंड बार-बार उसकी चूत पर रगड़ खा रहा था. वो अपनी कोमल बांहों का घेरा बना कर मेरे गर्दन में डाल के मुझसे चिपक गयी.

बस इतना सुनना था कि मेरे से चिपकते हुए बोली- ये आईडिया मुझे बहुत पसंद आया. ज़ायरा के बारे में क्या बताऊं दोस्तो … जब मैंने उसे पहली बार देखा, तो देखता ही रह गया. वो बोली- परम भाई, अब मुझे चोद दो प्लीज … अब मैं आपका लंड अपनी चूत में लेना चाहती हूँ।मैंने अपना ‘सामान’ उसकी चूत पर रखा और उसके चूचों को पीने लगा.

बीपी सेक्सी हिंदी बीएफ

उसकी टांगें फैलाईं और अपने लिंग महाराज को उसकी चूत की गुलाबी फ़ांकों पर रख कर एक धक्का मारा.

मैंने जिंदगी में बहुत चूत चोदी हैं, हर चूत में चुदने की कुछ अलग अदा होती है. अपने पड़ोसी से चुदने के बाद मुझे अब और ज्यादा सेक्स की आग लग गई थी उसका लंड रोज मेरी चुत के दरबार में हाजिर होने लगा. मैं राजस्थान के कोटा शहर का रहने वाला हूँ। मेरा कद 6 फीट और उम्र 22 साल है.

अगली कहानी मैंने उसकी कमसिन ननद की जवानी पर किस तरह हाथ साफ किया, यह लिखूंगा, तब तक के लिए विदा लेता हूँ. आज जब मैंने तुम्हारी लोअर के ऊपर से तुम्हारे लंड के उभार को देखा था तो मुझे तुम्हारे साइज का अंदाजा हो गया था. सेक्सी ब्लू पिक्चर ओपन सेक्सीलगभग 5 मिनट की जबरदस्त धकापेल चुदाई के बाद वो झड़ गयी, तो मैंने पोजीशन बदल ली.

मैं अपनी सहेली के पति से अपनी चुदाई की कहानी आपको बताने जा रही हूँ. मैंने तो नहीं की लेकिन तुम कब कर रही हो?हीना- वो तो अरमान मामा ही बता सकते हैं.

अंकल ने ये कहते हुए अम्मी की कमर में हाथ डाल कर उनको अपने से चिपटा लिया. अदिति बोली- वाओ … तुम बहुत अच्छे हो और मुझे तुम्हारे तलाक शुदा होने से कोई फर्क नहीं पड़ता. अब मैं अगली कहानी आपके सामने पेश कर रहा हूँ मगर उससे पहले आपको अपने बारे में संक्षिप्त परिचय दे देता हूँ.

यह बात तब की है, जब मैं जनवरी 2018 में किसी काम से दिल्ली 4 महीने के लिए स्किल डिवेलप्मेंट की क्लास लगाने गया हुआ था. ”वंश लंड पेलता हुआ बोला- हाँ साली मम्मी तेरी गांड चोद रहा हूं … आह तेरे जैसी छिनाल मम्मी हर बेटे को मिलना चाहिये … साली की क्या रसगुल्ले सी गुलगुली गांड है … आह आआह्ह आअह अब तक ऐसी गांड तो किसी रंडी की भी नहीं मिली. मैंने दोनों हाथ उसके कमर पकड़ के खींचा, वो मेरे नंगे बदन से और सट गयी.

अब दोनों को भी अपनी भावनाओं पर काबू रखना मुश्किल हो रहा था और उसी पल आंटी ने हमें एक और मौका दिया- नीतू तुम बैठो … मैं नहाकर आती हूँ.

उसके होंठों को अपने होंठों में दबा कर मैंने ऊपर नीचे दोनों होंठों को चूसा. मैं- मतलब?दिशा- ये जानने के लिए आपको थोड़ा इन्तजार करना होगा जीजाजी.

वह कंपनी में सिखाने के लिए आई थी। बेहद खूबसूरत जिस्म की मालकिन थी। उसने अपने बाल जरूर कलर किये हुए थे मगर उसके चेहरे पर हमेशा एक मुस्कान छाई रहती थी. मुझे अब भी वो नजारा याद आता है, तो दोस्तों मेरा लंड अपने आप गीला हो जाता है. जब तक मेरे लंड का माल पूरा पी नहीं लिया, तब तक उसने लंड को मुँह से बाहर नहीं निकाला.

फिर श्वेता मैडम ने थोड़ा आगे होकर मेरे लंड को हाथ में पकड़ लिया और उसको निहारने लगीं. वो मेरी गर्दन में हाथ डाले हुए थी और अपने पैर मेरी कमर से लपेटे मेरे बदन से चिपकी हुयी थी. फिर एक और द्विअर्थी बाण छोड़ा और उसको पूछा- वैसे तुम्हारा साइज क्या है?वो एकदम चौंक कर बोला- मतलब?मैंने कहा- अरे मैं यह पूछ रही हूं कि L है, XL है या XXL है?उसने कहा- शालिनी जी, यह तो मुझे नहीं पता लेकिन हम लड़के लोग मॉल में जाते हैं वहां पर पहनते है और जो फिट आता है उसको लेकर आ जाते हैं.

बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग मेरी इस बात पे वो कुछ उदास सी हो गयी और बोली- मेरी किस्मत खराब है बाबू जी. मैंने तेजी से दो-तीन धक्के उसकी चूत में लगाये और मेरे लंड ने अपना माल उसकी चूत में फेंकना शुरू कर दिया.

हिंदी में सेक्सी हिंदी में बीएफ

वो एकदम से रुक गई और बोली- झड़ने का मतलब क्या? चाचू आपको सूसू आ रहा है क्या?मैंने कहा- नहीं बेवकूफ … मेरा सीमन गिरने वाला है. ’उसने इशारे से पूछा- क्या है मेरी सजा?मैंने कहा- मैं तुम्हें बेड पे नहीं चोदूंगा. मैं सेहत बनाने नहीं बल्कि आंखें सेकने के चक्कर में सुबह सैर पर जाने लगा.

उस दिन के बाद से तो मुझे रात दिन भाभी की सफेद कच्छी में छिपी हुई चूत की याद सताने लगी. मैंने उसके सिकुड़ते हुए लंड को दोबारा से अपने मुंह में भर लिया और मुंह में लेकर चूसने लगी. বিএফ এইচডি বিএফरा…जा … रा…जा …” कहकर वो अपने चूतड़ चक्की की तरह चलाने लगी तो मैं भी फॉर्म में आ गया.

हालांकि उनकी काली झांटों के कारण चूत तो ठीक से नहीं दिखी लेकिन नजारा बड़ा गर्म था.

फिर वो बोली- कंवर साहब, मुझे भी ज़मीन पर सोने में बड़ी परेशानी होती है. अब मैंने उसके चूतड़ों पे कोड़ा मारा और बोला- से … यू आर माय स्लट (कहो तुम मेरी रंडी हो)वो अपनी सांसें सम्भालते हुए बोली- उम्म्म हम्म यस आई एम योर परमानेंट स्लट सर (मैं आपकी निजी और हमेशा के लिए रखैल हूँ)मैंने उसके नंगे पेट पे एक और कोड़ा मारा और बोला- से आई एम योर लाइफटाइम स्लट.

सोनल- पर भाभी हम दोनों भाई बहन ऐसा कैसे कर सकते हैं?दिशा ने सोनल की तरफ देखकर कहा- अब टास्क है … तो करना तो पड़ेगा ही. मानो अभी भी हम दोनों एक दूसरे के अन्दर समा जाने की तमन्ना रखते हों. अम्मी आंखें बंद किए हुए अपने मम्मों पर अंकल के हाथों का मज़ा ले रही थीं.

हम दोनों ने बीएससी साथ में की है, तो मेरा उसके घर जाना कॉलेज के टाइम शुरू हुआ था.

इतने करीब कि मेरे और उसके होंठों के बीच शायद एक या दो सूत का फर्क होगा. कुछ देर तक मेरे पूरे बदन को चूसने और चाटने के बाद उसने नीचे हाथ ले जाकर अपने पजामे का नाड़ा खोल दिया और वह नीचे से नंगा होकर फिर से मेरे ऊपर लेट गया. उसकी कसरत की क्लास सुबह 4 बजे से शुरू होती थी और 11 बजे तक चलती थी.

इंडियन सेक्सी बीएफ ओपनहालांकि खाने वाली बात में ऐसा कुछ था नहीं मगर चूत उसमें भी घुसेड़ दी! लड़कों का दिमाग टंकन मशीन की तरह होता है मारो कहीं लगे वहीं!बकचोदी बहुत हो गयी, अब स्टोरी पर आते हैं. आपको हम भाई-बहनों की ये चुदाई की कहानी कैसी लगी, आप नीचे दी गई मेल आई-डी पर जरूर मैसेज करके बतायें.

देसी बीएफ सेक्सी बीएफ

वो एक छोटी से जालीदार फ्रॉक जैसी बेबीडॉल नाइटी में बहुत ही कामुक और हॉट लग रही थीं. जब मानसी के मुंह से मैंने ‘दूध’ शब्द सुना तो मेरी नजर मौसी के चूचों पर चली गई. अब मेरी चूत मस्त बज रही थी और फच फच फचाफाच फचाफाच आवाजें निकाल रही थी.

मैं उन्हें चूमता हुआ बेडरूम में ले आया और उन्हें बेड पे गिरा दियाचाची- बदमाश … मुझे कहीं चोट लग जाती तो?मैं- मैं लगने नहीं दूंगा. मैंने उससे पूछा- क्या करूं … मैं भी झड़ने वाला हूँ … अन्दर ही डाल दूँ?वो कुछ नहीं बोली, बस बेहोश सी लेटी थी. यह कहानी एक रियल घटना से प्रेरित है, जिसमें मैं नाम बदल कर आपके सामने पेश कर रहा हूँ.

अन्तर्वासना के सभी पाठकों को मेरा नमस्कार! चूत की रानियों को मेरे लण्ड का प्यार भरा चुम्बन. मैंने अपने लंड को उनकी चूत पर रखा और बोला- क्या आप तैयार हो?चाची ने हां में अपना सर हिलाया, वो बोलीं कुछ नहीं. वो मेरी गांड के छेद में ढेर सारी क्रीम भर देता और अपनी उंगली को गांड में करने लगता.

मन कर रहा था कि बस यहीं इसको चूस लूं। लेकिन मैंने किसी तरह अपने आप को संभाला।काफी रात हो गयी थी. दस मिनट के बाद उसकी चूत ने फिर पानी फेंक दिया और वह मेरी छाती से लिपट गई.

कोई 32 साइज के उसके बूब्स, उसकी कमर की साइज 28 की रही होगी और 34 साइज के उसके उभरे हुए चूतड़ मटक रहे थे.

अंकल अन्दर आ गये और मेरा दुपट्टा हटाकर बोले- यह साइज ठीक है, सामने से भी ठीक है. सिगरेट कैसे बनती हैलेकिन जब रात को वो मेरी बांहों में लेटी हुई थी तो मैंने फिर से उसको नंगी कर दिया. लड़कियों का नंबर चाहिए मुझेमेरी पिछली कहानीमेरी बीवी मुझसे नहीं चुदतीको आप सभी प्रेमियों का खूब प्रतिसाद मिला … बहुत लोगों ने मेल किए. उसके मन में क्या था, ये तो नहीं पता, पर हम दोनों के बीच में वो बहुत टांग अड़ाती थी.

वो उसमें ऐसी लग रही थी कि मन कर रहा था उसको नंगी करके अभी उसकी चूत चाट कर उसका पानी निकाल दिया जाये.

बिना राहुल का जवाब सुने संगीता ने एक झटके में अपना कुरता उतार दिया. उसने मेरे खुले बालों को गर्दन के एक साइड से हटाते हुए अपनी गर्दन मेरे कंधों पर रख दी। मैंने ऐसे ही नाटक करते हुए कहा- ये सब तुम क्या कर रहे हो?लेकिन मुझे असल में मजा आ रहा था. इसी बीच ताऊ जी ने चाची के होठों को चूसना शुरू कर दिया और उन्होंने जोर जोर से झटके लगाने शुरू कर दिए.

बहुत देर लगा दी? कहाँ रह गयी थी?वो … संजीवनी आंटी?”कौन संजीवनी?”वो … सामने वाली बंगालन आंटी”ओह … क्या हुआ उसे?”हुआ तुछ नहीं”तो?”उसने मुझे लोक लिया था?”क्यों?” मेरी झुंझलाहट बढ़ती जा रही थी।वो … वो मुझे घल पल ताम तलने ता पूछ लही थी?”फिर?”मैंने मना तल दिया. कोमल भी शान्त पड़ गई, तो मैं समझ गया कि ताऊ जी ने अपने रस को कोमल की गांड में गिरा दिया है. मैं रोजाना रात को बाहर घूमता और सुमन भी अपनी बहनों के साथ घर के बाहर बैठ जाती थी.

देहाती बीएफ देहाती बीएफ बीएफ

अब तो यह बातें हम लोगों के लिए आम हो चुकी थी, लेकिन मेरा मन अभी तक नहीं भरा था. मेरा लौड़ा भी पूरे ताव में था और भाभी की चूत भी पूरी गर्म हो चुकी थी. उसने मेरी मां की कमर पकड़ ली और उसे सहलाने लगा। मेरी मां कमर छुड़ाने की कोशिश करने लगी और वह आदमी अपने लंड को मां की गांड पर रगड़ रहा था।अब मां का प्रतिकार कम हो गया.

वैसे मैं सीरियसली पूछ रहा हूँ, मुझसे चुदवाओगी?”नहीं बाबा नहीं!”मैंने उसका हाथ पकड़कर अपने लण्ड पर रखते हुए पूछा- बिल्कुल नहीं?अब मेरा इम्तहान न लो, राजा.

मैं उसकी चूचियों को आगे से पकड़ लिया और दबाते हुए कंधों पे, गर्दन पे, उसकी लटकती बांहों पे किस करने लगा.

वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी और सिसकारियाँ ले रही थी उसकी साँसें इतने में ही उखड़ने लगी थी।आहह ह ह … सीस्स सश्स स ऊम्ह्हह …”उसकी सिसकारियों से मैं और भी जोश में आ रहा था. नहा कर मैं बाहर आया तो देखा कि पुष्पिका ने ब्रेकफास्ट बना कर तैयार किया हुआ था।मैंने घर में देखा कि कोई भी नजर नहीं आ रहा था तो मैंने पुष्पिका से पूछा कि मामा-मामी कहां गये हैं?पूछने पर उसने बताया कि वो दोनों किसी काम से बराबर वाले गांव गए हैं, शाम तक ही लौटेंगे।यह सुनकर मेरे मन में बैठा शैतान जाग गया। शैतान वैसे कल रात को ही जाग गया था मगर वह घर वालों के डर से बैठा हुआ था. डब्ल्यू डब्ल्यू बीएफ सेक्सी पिक्चरजिन लोगों ने पिछले भाग को नहीं पढ़ा, पहले वो पढ़ लें और कहानी को पढ़कर लंड हिलाएं, चुत चोदें.

मैंने उसका नाड़ा खोल दिया और उसकी चुत को पैंटी के ऊपर से ही सहलाने लगा. उसे देख कर भाभी का मुँह शरम से लाल हो गया लेकिन उन्होंने निगाह नहीं हटाई. उसकी आंखें लाल हो गई थी। जब प्रिया को राहत मिली तो मैं धीरे धीरे से चोदने लगा.

मैंने लंड को चूत के छेद पर सुपारा सैट किया और एक शानदार झटका दे दिया, जिससे मेरा लंड 4 इंच अन्दर चला गया. उसने मेरी ब्रा को ऊपर कर दिया और मेरी चूची को अपने मुंह में लेकर चूसने लगा.

जिस सोसाइटी में मेरा फ्लैट था, वो सोसाइटी अदिति की सोसाइटी से कुछ ही दूरी पे थी, पर उससे अभी तक मुलाकात नहीं हुई थी.

बहुत खटखटाने पर जब दरवाजा नहीं खुला तो मैं अपनी खिड़की के रास्ते से अंदर आ गया. मैं यहां-वहां कुछ खाने की सामाग्री जैसे बिस्किट या स्नैक्स वगैरह टटोलने लगा. एक बार तो उन्होंने मेरी गांड भी मारी और गांड मारने के बाद अपने वीर्य को मेरे हलक में उतार दिया.

बीएफ पिक्चर सेक्सी बीएफ जब मैंने मोबाइल देखा तो उसमें नेट सैटिंग ही बंद थी, जिसे मैंने सही कर दिया और उसके मोबाइल में नेट चालू हो गया. प्रिया- तुम क्या करते हो?मै- बताया तो था कि पढ़ाई।प्रिया- मैं भूल गई थी। तुम्हारी गर्लफ्रैंड है?मैं- नहीं!प्रिया- क्यों? काफी हैंडसम हो, फिर भी एक भी नहीं है हो ही नहीं सकता।मैं- सचमें नहीं है.

मैंने कहा कि दीदी जंगल में रुकना खतरनाक हो सकता है, आगे कोई सुरक्षित जगह देखते हैं. फिर उसकी आंखों में देख कर उसे बताता रहा कि मैं तेरे जिस्म का रसपान कर रहा हूंवो भी खेल में घुस चुकी थी. अब वो मेरे सामने लाल ब्रा और पेन्टी में लेटी थी और अपने बदन को दोनों हाथों से छुपाने की कोशिश कर रही थी.

भाभी की सेक्सी बीएफ चुदाई

मेरे मुंह से जैसे ही उसने आहहह … की आवाज सुनी तो एकदम पीछे की तरफ देखा अचानक मेरे गिरे हुए पल्लू से उसे मेरे बड़े बड़े बड़े बूब्स नजर आए. तभी ब्यूटी-पार्लर के दरबान ने कार की पिछली सीट पर वसुंधरा का पुराने कपड़ों से भरा अटैची-केस रख कर दरवाज़ा बंद कर, फ्रंट का पैसेंजर साइड का दरवाज़ा खोल दिया और वसुंधरा भी कार के आगे से घेरा निकाल कर फ्रंट पैसेंजर सीट पर आ कर बैठ गयी. अंकल बोले- फिर?मैंने कहा- आप कैमरे में रिकॉर्ड कर लेना, मैं बाद में आकर देख लूँगा.

मैंने मन ही मन सोचा कि मौसी तो खुद ही इतनी बड़ी डेयरी की मालकिन है. मुझे कमर उचकाते देख अंकल जी भी पुनः जोश से भर गए और मुझे जोर जोर से और स्पीड से चोदने लगे.

दोस्तो, मैं क्या बताऊं, उस समय मैं इतना जान गया था कि पारुल भाभी ने मुझे ख़ुश कर दिया है.

अब आगे:अगली सुबह हम नाश्ते की मेज पर तीनों मिले। तीनों के चेहरे पर एक अजीब सी मुस्कुराहट थी। इधर वीणा और विक्रम दोनों जानना चाहते थे कि अदला-बदली संपन्न करने के लिए मेरे दिमाग में क्या चल रहा है?मैंने दोनों के सामने ही रीना को फोन लगाया और बात करने लगा। उधर रीना को पता नहीं था कि हम दोनों की बातें विक्रम और वीणा भी सुन रहे हैं. मैंने उसको एक पल के लिए उठाया और लण्ड को उसके चूतड़ों के बीच सेट करके बैठा लिया. मैंने हैरानी से काजल की तरफ तिरछी नजर करके देखा तो उसने अपना दुपट्टा अपने हाथ से ठुड्डी के नीचे इस तरह से दबाया हुआ था कि दुपट्टे ने सुमिना और मेरे बीच में एक दीवार सी बना दी थी और सुमिना की नजर इस तरफ पड़ ही नहीं सकती थी.

लेकिन उसकी बुर से खून निकलने लगा और वो रोने लगी तो मैंने उसके मुँह पर हाथ रख दिया. मेरी चूत को चाटने से जो मजा मुझे आ रहा था उसके कारण मुझे गांड का दर्द महसूस नहीं हो रहा था. मैं भी दनादन लंड आगे पीछे कर रहा था और उसके पूरे शरीर को चूमते हुए चोदे जा रहा था.

शुक्रवार का दिन आ गया, सुबह पापा को स्टेशन छोड़ कर मैं कॉलेज चली गई और दोपहर को एक बजे घर वापिस लौटी.

बीएफ सेक्स वीडियो कॉलिंग: मैंने देखा कि मेरे चूचों को देखते हुए उसका लंड तन गया है जो मुझे पैंट में साफ दिखाई दे रहा था. अब अब्बू ने एक बार फिर लंड हाथ में लिया और मुट्ठ मारनी शुरू कर दी।लेकिन मुझे लगा कि अब्बू इतने से संतुष्ट नहीं थे, तो उन्होंने कौसर के पैरों को धीरे धीरे एक दूसरे से दूर सरका कर फैला दिया.

राहुल अंदर गया तो सीमा उससे चिपट गयी और उसे पागलों की तरह चूमने लगी. मेरी बगल में हाथ डाल के चूची दबाईं- ये है कामिनी, मेरी सहेली अंशु उसके आशिक उपिंदर की पत्नी!और ये है सुजाता!”सुजाता उठी और मुझे बांहों में भर के मेरे होंठ चूसे और मेरे चूतड़ मसलते हुए मुझे अपने होंठों का रस पिलाया- शोभा, ये माल तो अच्छा है, अब देखते हैं मज़ा कितना देती है. लंड चुत के अन्दर आने के बाद 30 सेकंड हम दोनों रुके, फिर उसने धीरे धीरे धक्के देना शुरू किए.

मैंने उसको उसके बिस्तर पे बिठाया और फिर उसका हाथ अपने हाथों में ले के किस किया.

वो काफी फिट थी और नशे में उसको बस यही सूझ रहा था कि उसकी जल्दी से चुदाई हो. मगर मैं उसके साथ नहीं जाना चाहता था लेकिन जब वह नहीं मानी तो सब लोग भी मुझे उसके साथ जाने के लिए कहने लगे. चूंकि हीना हुस्न की मल्लिका थी इसलिए साहिल का लंड ज्यादा देर उसकी चूत की गर्मी के सामने टिक नहीं पाया और उसने उसकी चूत में अपना लावा उगल दिया.