पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म

छवि स्रोत,हिंदी ब्लू फिल्म बताएं

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ ओपन बीएफ वीडियो: पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म, कुछ देर बाद फ़िल्म ख़त्म हो गई और भाभी ने अंगड़ाई लेते हुए कहा कि चलो कमरे में चलते हैं.

देवर भाभी हॉट सेक्सी वीडियो

लेकिन धीरे-धीरे पता नहीं मुझे उनके प्रति कैसी फीलिंग आने लगी।एक दिन मैं अपने कमरे के दरवाजे पर खड़ा था और वो झाड़ू लगा रही थीं। उस समय मैं घर में अकेला था।उन्होंने मुझसे कहा- अभिषेक दरवाजे पर ऐसे क्यों खड़े हो?मैंने कहा- कुछ नहीं बस यूं ही. मां बेटे का एक्स वीडियोमैंने उससे पूछा- सुनीता ये तुम्हारा ब्लाउज कैसे फट गया और ये निशान कैसे हैं?तो वो बोली- कुछ नहीं दीदी.

फिलहाल वो आईं और एक सेक्सी डांस का लुक देकर मेरे बगल में आकर बैठ गईं और मेरी और देख मुस्कराईं. सेल्फी राजा वायरल वीडियोवो तो बस मेरे साथ मस्ती करते हुए मुझे अपनी गोद में बिठाए हुए मेरे मम्मों को मसलता रहता था.

मैंने उसको पकड़ कर अपने बाजू में बिठा लिया और उसकी चुचियां दबाने लगा.पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म: मैंने उसे अपने दोनों हाथों से अपनी बांहों में उठा लिया और उसी झाड़ी में ले चला.

मेरी पिछली कहानी थीपड़ोसन आंटी का अंगप्रदर्शन और धमाकेदार चुदाईयह सेक्सी स्टोरी मेरी और एक हाई प्रोफाइल भाभी की चुत की आग की है.मुझे अब उसकी मासूमियत पर रहम आ रहा था कि मैं बदला लेने के लिए किस को मोहरा बना रही हूँ.

सेक्सी हिंदी वेदिओ - पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म

मैंने एक उधर बाहर की एक शराब की दुकान से हाफ लिया और वहीं किसी होटल का पता किया.फिर हमने डॉगी पोज का भी आनन्द लिया और उसके बाद वो फिर से मेरे नीचे आ गईं.

दुनिया की सबसे सेक्सी और हॉट लड़की है तू वन्द्या, तुझे एक बार जो देख लेगा उसे बस जिंदगी में सिर्फ तुम मिल जाओ, उसकी यही ख्वाहिश होगी और जिसने तुझे चोद लिया. पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म उन्होंने एक पार्क के सामने गाड़ी रुकवाई और मुझे पार्क में चलने को कहा.

पेंटी उतारते से ही उसने अपना मुँह मेरी चूत में लगा दिया और मेरी चूत को चाटने लगा.

पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म?

अपने हाथों से उसने मेरी गांड फैलाई थी और बड़े ही मजे से मेरी गांड को चाटने लगा. आप लैपटॉप अपने रूम पे लेती जाओ और आराम से जितने वीडियो हैं, आप देखो और जो पसंद आए उसे अपने मोबाइल में ले लेना. हम दोनों एक दूसरे के ऊपर नीचे नहीं थे, बल्कि साइड बाइ साइड थे और हम जो भी कर रहे थे धीरे धीरे कर रहे थे.

मैं अभी इस सबके मजे ले ही रही थी कि अचानक उसने लंड को मेरी बुर के मुँह पर लगा कर सुपारा रगड़ दिया. फिर मैंने अपने दोनों हाथ बीवी के पीठ पर लाकर बीवी को अपनी बांहों में जकड़ कर सो गया. अब मैंने उसे लेटाया और उसकी कमर के नीचे अपने कपड़े व उसकी कमीज़ और सलवार को रख दिया, जिससे उसकी चूत उभर गई.

तू भी वन्द्या उठकर यहां सब साफ कर ले और जो रजाई में थोड़े खून के धब्बे हैं, इनको धो दे और अपने बदन को साफ कर जल्दी, कहीं कोई तेरे घर के ना आ जाएं. मैंने भी ज्यादा देर ना करते हुए अपना लंड सोनम की चुत पर ले जाकर रगड़ने लगा. डॉक्टर का लंड पूरा 8 इंच लंबा था, वो लंड दिखाते हुए बोला- इससे अब तुम्हारा इलाज़ होगा.

एक ही औलाद होने के कारण छोटी उम्र से वह अपने पिता के साथ ही सोती थी. उसके 36 साइज़ के चुचे, 30 की कमर और 34 के पीछे की और निकले हुआ चूतड़ फिगर को काफी सेक्सी लुक देते थे.

उसको इतनी खूबसूरत जवान लड़की मिलेगी, ये उसने सपने में भी नहीं सोचा था.

हालांकि वो मेरे कहने पर मान गई कि थोड़ा दर्द होगा क्योंकि मुझे पता था कि वो अभी तक चुदी नहीं है.

ऐसे ही कब मेरा पूरा लंड उसकी चूत में जाने आने लगा, पता ही नहीं चला. मैंने भी ज़ोर दे धक्का दे मारा और अपने लंड को भाभी की गांड के अन्दर डालने लगा. मैं आगे देखने लगी और दो झटकों में उसने पूरा घुसा दिया और धक्के देने लगा.

ऊपर से नीचे से निप्पलों को उंगलियों से दबाना, मुँह में लेने का तरीका मस्त है. साथ में ही उनकी गर्दन चूम लेता, तो कभी उनकी चुत में उंगली डाल देता. थोड़ी देर ऐसे ही खेलने के बाद विक्रम ने रजत से कहा- छोटे … तो तू तैयार है अपनी बड़ी बेहेन को चोदने के लिए?रजत- हाँ भैया… बिल्कुल…विक्रम- तो मैं इसकी चूत को थोड़ा गीला कर देता हूँ, जिससे तुम दोनों को परेशानी काम और मजा ज्यादा आये.

इसके बाद वो मुझसे लिपट गईं, मैंने उन्हें चूमते हुए करवट लेकर अपने नीचे कर लिया और फिर उनके स्तनों को मसलते हुए उनके गालों को चूमने लगा.

दे दनादन… दे दनादन… उसकी गांड गरम हो गई, मेरी सांस जोर जोर से चलने लगी, पसीने पसीने हो गया, दिल धड़कने लगा. पर फिर जब हम संचालन कर रहे थे और किसी की स्पीच की बारी आई, तब वो मेरे बाजू में खड़ी हो गई थी. मेरी सेक्स स्टोरी के पिछले भागबीवी को गैर मर्द के नीचे देखने की चाहत-2में आपने पढ़ा कि मैं संजू अपनी बीवी मंजू को गैर मर्द राज से चुदवाने ऋषिकेश ले गया था.

तभी उसके भाई का फ़ोन आया कि मैं एक घंटे में तेरे पास लेने आ सकता हूँ, सुबह बाइक में पानी घुस गया था, शायद सुबह की धुलाई के वक़्त ऐसा हुआ होगा. मैंने भी उसको हंसी मज़ाक में इशारा कर दिया था कि मैं तुम्हारा उधार चुकाने के लिए तैयार हूँ. जब मैं नहाने गई तो मुझे लगा कि आज का दिन ही ठीक होगा मनोज को अपनी चुत का आशिक बनाने के लिए.

फिर प्रीति ने मुझे कहा- रमनजीत, यह सब तुमने अन्तर्वासना से सीखा है ना?तो मैंने मना कर दिया- मैं किसी अन्तर्वासना को नहीं जानता!तो उसने कहा- भाई, झूठ मत बोलो… मैंने ओपेरा मिनी पर तुम्हारी सारी हिस्ट्री पढ़ी है.

फिर भी मैंने चौंकते हुए कहा- मैं?तो वो बोलीं- अरे यार, यहां कोई और भी है क्या. ये देख कर भाभी के सब्र का बांध टूट गया और उन्होंने मुझे बहुत जोर स्मूच किया.

पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म उनके माता-पिता को भनक तक नहीं थी कि उनके बच्चे आपस में भी चुदाई कर रहे हैं. रास्ते में केमिस्ट से आईपिल ली और निशा को कॉल कर दिया कि होटल के बाहर आ जाओ.

पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म जब मैं चाय बना कर लाया तो देखा कि अनीता दीदी टीवी के बजाय मेरे लैपटॉप में जिस हीरोइनों की नंगी चुदाई वाली फोल्डर मिनीमाइस किया हुआ था, वो ओपन करके देख रही थीं. मैंने मंजू की सिसकारियां सुन उसके हाथों को ढीला छोड़ दिया और राज उसे अपनी गोद में बैठा कर फिर से चूमने लगा.

बाद में कार में अनु दीदी रोने लगीं, मुझे लगा शायद मेरी एक हरकत पे गुस्सा हैं.

बांग्लादेशी बीएफ

उसने अपने कई साथियों के काम करवाए, उसकी आमदनी भी बढ़ी, समाज में प्रतिष्ठा भी… वह समझदार था, जो अफसर दें, ले लेता था, कोई मोलभाव मांग नहीं!सब उससे प्रसन्न और सन्तुष्ट थे, सेवाएं बहुत अच्छी थी, वह एक्सपर्ट था, ट्रेन्ड था, कई बार तो तहसील के अफसरों की सिफरिश पर डाकबंगलें में दौरे पर आए जिले व संभाग के अफसरों की भी मालिश देवेश ने की. मुझे मालूम था कि मेरे सेफ सुरक्षित दिन चल रहे हैं तो निश्चिंत होकर मैंने अपने अंदर ही गिरवा लिया और मेरा सगा बेटा सोनू मेरे ऊपर ही यानि अपनी सगी नंगी मां के ऊपर लेट गया!करीब दस मिनट बाद सोनू उठा और चुपचाप अपने कमरे में चला गया!मैंने उठ कर अलमारी से नाइटी निकाल कर पहनी और लेट गयी. फिर उन्होंने कहा- अभी तो नहीं होगी ना!बड़े ही बेचैन लफ्जों में कही यह बात भी सही थी.

आख़िर मैंने उनको लेटकर उनके चिकने पेट पर किस करते हुए बड़े बड़े मम्मों को दबाना चालू कर दिया था. इतनी चुदासी है तू वन्द्या फिर रोज बिना चुदवाये तू कैसे रह पाती होगी. इस कहानी से पहले भी मेरी दो कहानियाँमेरी चूत की चुदाई बॉयफ्रेंड ने कीअनजान लड़के के साथ सेक्सप्रकाशित हो चुकी हैं, यह मेरी तीसरी कहानी है.

मैंने झट से हां कर दी और इसके बाद हम दोनों यहां वहां की बातें करने लग गए.

कुछ देर पहले जो छेद छोटा सा लग रहा था, उसमें मेरा लौड़ा अब आराम से चल रहा था. मैं बोला- आपके इन हद से ज़्यादहसुन्दर पैरों की खुशबूले रहा हूँ इन जूतियों में… काश मैं ये जूती होता तो आपके इन मादक चरणों से लिपटा तो रहता हर समय!रेखा ख़ुशी से झूम उठी और बोली- अच्छा महाराज… डायलॉग बहुत हो गए अबबताइये कौनसा पाठ पढ़वाने को बुलाया था?उसकी शराबी सी आँखों में हवस के लाल लाल डोरे तैर रहे थे. वे बोलीं- इस पल के इंतज़ार में न जाने कितने साल गुज़ार दिए दामाद जी.

अब रात को मैं यही सोचती रही कि कल मेरी पहली चुदाई कैसी होगी, यह सब सोचते हुए मेरी नींद लग गई. मैं उनकी पीठ पर हाथ से उनकी नर्म त्वचा को मसलते हुए उनके माथे पर किस कर रहा था. मैंने पूछा- क्यों मैं आपका क्या लगता हूं, जो मेरी इतनी चिंता हो रही है.

ये हमारी साधारण मुलाकात भर थी, मैंने अहमदाबाद जाने का अपना रिजर्वेशन कराया. बाबा ने उसे बैठने को कहा और अपने सारे शिष्यों को कमरे से बाहर जाने को कहा.

अगर तुम्हारे पास नहीं हैं, तो मैं तुम्हें कल दे दूँगी, जो तुम यहाँ बदल लेना. मेरा हाथ अन्दर जाते ही मुझे उनकी झाँटें और झांटों के बीच उनका मोटा, लंबा और गरम लंड महसूस होने लगा. क़रीब 20 मिनट में मेरा 2 बार पानी निकल चुका था लेकिन उसका पानी निकलने का नाम ही नहीं ले रहा था.

उसकी बात सुनकर मैं चुप रहा तो वो फिर से बोला- उनको बोल दे, मुझे टाईम लगेगा, वो वहीं पे रूके.

या एक वो इंसान तो लड़की को नंगी करके अपनी हवस मिटाता था?”अब मैं कुछ भी कहने लायक नहीं बची थी. धीरे-धीरे हमारी खुलकर बातें होने लगीं और मुझे उसके साथ बातें करने में अच्छा लगने लगा. अचानक बाबा ने अपना लंड निकाल लिया और वल्लिका की गोरी चूचियों पे टूट पड़ा.

सब यही समझेंगे कि जब चाहो, टोंटी खोल लो और दिल करे तो बंद कर दो वरना खुली छोड़ दो. और अकेले में होने के कारण मुठ मारने के लिए मेरा दिल बेचैन हो रहा था.

बातें करते समय पद्मिनी अपने बापू के लंड को महसूस कर रही थी कि उसका बापू उसकी जांघों पर अपना मोटा लंड रगड़ रहा है. ऐसा लग रहा था कि जैसे भाभी की चूचियां ब्रा को फाड़ कर बाहर ही आ जाएंगी. वो पूरे जोश में आ गईं और उंगली को और जोर जोर से करने को बोलने लगीं.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो

मुझे नहीं पता था कि उसने अपनी बहन से बात की या नहीं की, मगर कुछ दिनों बाद मुझे मेरे भाई का फोन आया.

मैं उसके स्तन चूसने लगा, थोड़ी देर बाद वो नार्मल हो गई और मैं उसे चोदने लगा. मैंने उस दिन सलवार पहनी थी तो सर ने ये भी कहा कि जब मुझसे टयूशन पढ़ा करो तो हमेशा स्कर्ट पहन कर बैठा करो. ऐसा ही चलता रहा, एक दिन रवि की रात को तबियत खराब हो गई तो भाभी ने तुरंत मुझे फ़ोन लगाया.

उसने किसी से फ़ोन करके पूछा- देखो जो नौकरी कुछ दिन पहले निकाली थी, उसमें कोई इस नाम की लड़की की एप्लिकेशन आई थी क्या?कुछ देर बाद उसका फोन आया और बोला- जी हां सर, आई हुई है. रास्ते में कोमल ने मुझे बताया कि वो ओर उसकी फ्रेंड आईटी कम्पनी में काम नहीं करती हैं, बल्कि यही दोनों एक स्पा में काम करती हैं. देसी सेक्स वीडियो सेक्सअंकित भी आकर मेरे ऊपर लेट गया और मेरे होंठों को अपने होंठों में लेकर चूसने लगा.

फिर मैंने कहा- अब जब करना होगा तो फ़ोन करना।मैं जानता था कि ये जरूर मानेगी. फिर उसने अपने कुर्ते में सामने से हाथ घुसा के फोन निकाला और किसी से बतियाने लगी.

मैंने देखा कि वो एकदम मस्त टाइट लैगीज पहने हुई थीं और कुर्ता डाला हुआ था. उन्हीं में से एक किस्सा उन्हीं की ज़बानी आपके सामने पेश कर रहा हूँ. अब वो जोर से चिल्लाने लगी- आहा ऊई… मुझे… कुछ हो रहा है…यह कह कर वो जोर जोर से लंड को अपनी चूत में अन्दर बाहर करने लगी.

शीतल ने दरवाजा खोला और बड़े ही कामुक अंदाज में मुस्कुराते हुए उसने विक्रम का स्वागत किया।शीतल- आ गया मेरा लाडला!विक्रम- हाँ माँ…और विक्रम हैरानी से अपनी माँ को देखता रह गया. मेरे ये कहते ही वो मेरा लंड सहलाने लगीं और मैं उनकी चूचियों को चूसे जा रहा था. मेरी सास ने एक हफ्ते के लिए मुझे फिर से अपनी हवस बुझाने के लिए बुला लिया.

जैसे ही मेरा लंड भाभी की चूत के अन्दर गया, वो एकदम से ही खड़ी हो गईं.

बुआ अपने छोटे वाले बेटे को अपने साथ लेकर मम्मी के साथ रिश्तेदार की शादी में गई थीं. फिर मैंने उनका ब्लाउज और ब्रा भी उतार दिये और उनके खरबूजों का रस पीने लगा.

पद्मिनी ने फिर एक बार अपने बापू को लंड पैन्ट में सीधा करते देखा और होंठों को दांतों में दबाये एक छोटी सी मुस्कान के साथ नजरें नीचे कर लीं. मैंने उसे पीछे से पकड़ा और उसकी गर्दन में किस करके उससे बोला- राज के सामने ही बदल लेती, इतनी शर्म क्यों?वो भी मजाक में बोली- जाओ बुला के लाओ, उसके सामने बदल लूंगी!हम दोनों हँसने लगे. मैंने उनकी गांड पर कई बार हाथ फेरा लेकिन वो मुझे अपनी गांड नहीं मारने देती हैं.

रितु की चूत ने ढेर सारा पानी जेम्स के मुंह पे छोड़ दिया और वह मजे से स्वाद ले रहा था. उसी दिन रात को पिंकी ने कहा कि दीदी मुझे कल किसी से मिलने जाना है, जो मेरी पुरानी सहेली है. मैंने भी उन्हें जाने दिया क्योंकि कम से कम इन डेढ़ सालों में तो मुझे उनकी वजह से खुशी तो मिल पाई.

पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म पम्मी ने थोड़ा सोचकर बोला- मान ली आप लोगों की बात कि सिर्फ़ पूरे कपड़े पहने, बैठ कर नहीं देखूँगी. उसके बाद मैंने कपड़े पहनने शुरू किए और बाहर आकर उससे कहा- अरे तुम अभी नहाने नहीं गए, मैं तो सोच रही थी कि तुम अब तक नहा चुके होगे.

हिंदी सेक्सी चोदा

( मुझे मेरी बुरी हरकत की सजा दो!)मेरी बहन मेरे बाल ज़ोर से पकड़ के मुझे ज़ोर ज़ोर से चूमने लगी. फिर उन्होंने कहा- अभी तो नहीं होगी ना!बड़े ही बेचैन लफ्जों में कही यह बात भी सही थी. एक दिन वो स्कूल नहीं आया तो मैं भी हाफ टाइम में घर आ गई और फिर उसके घर उस से मिलने गई तो वो कंबल डाल कर सो रहा था.

जब पद्मिनी ने टीचर के बारे में कहना शुरू किया था, उस वक्त वो अपनी पेंट में से ज़िप खोल कर अपना लंड निकालने वाला था. मैंने ओके बोला और कहा कि मेरे लायक कोई काम हुआ करे तो बता दिया कीजिएगा. ત્રિપલ એક્સ એચડી વીડીયોपुरुषों की सोच बदलने का वक़्त आ गया है! नलिन तुम सफ़ेद चादर बिछाना चाहते तो पहले मुझे बताओ कि क्या तुम वर्जिन हो? साबित करोगे? अगर नहीं साबुत कर सकता तो तू इस घर को छोड़ने की सोच … यह घर तेरा नहीं मेरा है … आयुषी को मैं इस घर की लक्ष्मी बना कर लाई हूँ.

उसने अब अपना लंड मेरी चूत पर सैट किया और पेलने की जुगत में हो गया था.

मेरा लंड खाला की चूत के अंदर ही था, उनकी चूत ने मेरे लंड को जैसे जकड़ लिया था. मैं चरम तक आधा भी नहीं पहुंचा था कि उनकी चूत ने अपना रस एक जोरदार सिसकारी के साथ छोड़ दिया और कांपने लगी.

अबकी बार मैंने उसका कुर्ता उठा दिया और उसकी तरफ देखा तो उसने मुस्कुरा कर हां कर दी. इतने राहुल ने अपने होंठ मेरे होंठों पर रख दिए और बहुत ही अच्छी तरह से बड़े प्यार से उनको चूसा. मैं भी वहाँ पहुँच गया, जब वो मेरे सामने आई तो मैं उसको देखता रह गया.

कोमल उठी और अपने कपड़े ठीक किए और ठीक से बैठ गए, क्योंकि कोमल को विकास नगर उतरना था.

पता नहीं कितने यार थे इस सीमा के, एक विनोद, दूसरा मैं, तीसरा ये राहुल… सीमा थी ही चालू… यह समझ कर मेरे दिल को बड़ी ठेस पहुंची कि क्या सोचा था, क्या हो गया. सुंदर गुलाब के फूलों वाली नई चादर पर बैठी नवविवाहिता आयुषी अपने फ़ोन में कुछ फोटो देख रही थी. मैंने उसकी बात मानी और उसके मुँह में कपड़ा देकर अपने लंड पर पहले तेल लगाया और कुछ तेल उसकी चूत पर भी लगा दिया.

গুজরাটি বিপি সেক্সি ভিডিওमैं पास पहुँचा तो फिल्म में देख कर वे दोनों अपनी अपनी पेन्टी में हाथ डाल कर खुद को उत्तेजित कर रही थीं. कृपया आप अपनी प्रतिक्रियाएं हमें[emailprotected]पर भेजना न भूलें, हम दोनों ही बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं.

बफ हद फिल्म

मैं तो अपना सब कुछ आप पर लुटाना चाहती हूँ मगर आप लूटना ही नहीं चाहते. अन्दर भाभी ने ब्लू ब्रा पहन रखी थी, जिसमें से उनकी गोरी चुचियां चमक रही थीं. चाचा बोले कि पिछले पचास साठ वर्षों में मुझे इतना मजा कभी नहीं आया, तू लाजवाब है वन्द्या.

वह अच्छा ज़माना था, होटल बुक करने के लिए आजकल की तरह कोई आइडेंटिटी प्रूफ, कोई एड्रेस प्रूफ नहीं देना पड़ता था. मैंने अचकचा कर भाभी की तरफ देखा और फिर मुंडी न में हिलाते हुए कहा- नहीं भाभी. मैंने कुछ नहीं कहा तो उन्होंने पूछा कि क्या आपके पास सेक्स मूवीज हैं?तो मैंने भाभी को मूवीज के स्क्रीन शॉट भेजे, बस भाभी और मैं कामुकता में खो गए.

हम दोनों लोग एक दूसरे के होंठों को चूस रहे थे, कभी कभी वो मेरे होंठों को काट भी रहा था. फिर अपने होंठों को दांतों में दबाते हुए एक छोटी सी मुस्कान के साथ पद्मिनी ने अपनी उंगलियों से लंड को उस जगह से हटाया, जहाँ अंडरवियर में अटका हुआ था. मैं उनकी चूत को लगातार चाटता ही रहा जिससे एक बार फिर से भाभी गरमा गईं.

अब वो मुझे खूब प्यार से किस पर किस किये जा रहा था और मेरे चूचे भी दबाए जा रहा था. इतने में कुछ बाल जैसी चीज मेरे जीभ से टकरायी, मैंने निकाल कर देखा तो सफेद सूत सा कुछ था.

तभी मैंने देखा कि एक बहुत सेक्सी मस्त भरे हुए बदन वाली मस्त औरत उनके साथ आ रही थी.

मैंने अपना बांया हाथ उसकी जाँघ पर रख दिया, हालांकि उस समय मेरी भी गांड फट रही थी कि कहीं ये कुछ बोल ना दे. राजस्थानी चुदाई दिखाओमुझे ऐसा करने में बहुत मजा आता था और वो भी मेरी इस बात का बिल्कुल बुरा नहीं मानती थीं. सेक्स करते हुए ब्लूरात को मैंने भाभी को मैसेज किया, उन्होंने मेरी व्हाट्सअप प्रोफाइल पिक्चर की तारीफ की. यह घटना मेरे साथ दस दिन पहले ही उस वक्त हुई थी, जब मैं अपने ऑफिस से अपने घर के लिए एमजी रोड से मेट्रो में चढ़ा था.

इस सब सामान को खरीदते हुए अब मेरा मन भी चुदाई के लिए बेकाबू होने लगा था.

तभी शीतल भाभी ने मेरे खड़े होते हुए लंड को देखा तो कहा- ये क्या है?मैंने कहा- आप पूछ तो ऐसे रही हो, जैसे कुछ जानती ही नहीं हो. जब वो बाथरूम में चला गया तो मैंने की-होल से देखा कि वो अपने लंड की मालिश करके उसका रस निकालना चाह रहा था. जाते हुए कोमल ने थैंक्स कहा और बोलीं- शाम का डिनर साथ करेंगे, मेरी दोस्त आई है.

मैंने बेल बजाई तो आंटी ने दरवाज़ा खोला और बोलीं- अरे तुम आज कॉलेज नहीं गए?मैंने कहा- छुट्टी है. तीनों जब इस घनघोर चुदाई के बाद थक गए तो एक साथ ही सोफे पर एक दूसरे पर गिर गए लेकिन थोड़ी ही देर में तीनों इस चुदाई के खेल के लिए फिर से तैयार हो गए. फिर मैंने उनका ब्लाउज और ब्रा भी उतार दिये और उनके खरबूजों का रस पीने लगा.

हिंदी में चोदा चोदी बीएफ

सर अपना लंड लेकर मेरे मुँह के सामने होंठों पर टच कराने लगे और तभी मेरे दोनों बूब्स जोर से दबा दिए. मैंने अपना लंड एकदम टाइट किया और थोड़ा तेल लगा दिया और उसकी गांड पे भी लगा दिया और धीरे से अन्दर डाला तो उसकी चिल्लाने की आवाज़ आने लगी. मेरी पिछली कहानी थीपड़ोसन आंटी का अंगप्रदर्शन और धमाकेदार चुदाईयह सेक्सी स्टोरी मेरी और एक हाई प्रोफाइल भाभी की चुत की आग की है.

उसने एक बार फिर से अपना वीर्य मेरी चूत में ही डाल दिया, जिसके कारण मुझे बाद में गोली खानी पड़ी थी.

मैंने अपना टाइट लंड उसके चूत के छेद पर रखकर उसकी चुत को भोसड़े में बदलना शुरू कर दिया.

उन्होंने मुझसे लिख कर बोला था कि मीटिंग में थी, इसलिए कॉल नहीं रिसीव किया. एक बार जब मेरी बड़ी बहन की शादी नहीं हुई थी, यह बात तब की है, मैं, मेरी बड़ी बहन और छोटी बहन अमनदीप कौर ने अमृतसर से आगे वाघा बॉर्डर पर जाने का प्लान बनाया. सेक्सी भाई बहन का वीडियोइस वक्त मुझे ऐसा लग रहा था कि वो मुझे पूरा का पूरा अपने अन्दर घुसा लेगी.

फिर उसने अचानक मेरा हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया और मैं भी उसका लंड हिलाने लगी. लॉन में जाकर पहले तो दो कप चाय पी और फिर बाहर निकल के एक रिक्शा पकड़ा. और फिर धीरे धीरे अपनी हथेलियों से ग्रिप बनाते हुए उनके दूध पकड़ कर सहलाने लगा साथ ही उनकी नाभि में अपनी जीभ घुसा दी.

अभी अरुण आगे बढ़ पाता कि तभी उसके मोबाइल पर किसी के कॉल ने उसका ध्यान आकर्षित किया- कहां हो … अभी जल्दी पहुंचो, काम बहुत है. मम्मी घर में मखमली नाइटी पहन कर घूमा करती थी जो उसके बदन से पूरी चिपकी रहती थी जिससे उसके बड़े बड़े चुचे और मटकती गांड एकदम झलकती रहती थी.

किसी को क्या पता चलेगा कि यहां क्या हो रहा था?मेरी बात सुनकर आंटी ने नाड़ा छोड़ दिया और मैंने झटका देकर खोल दिया.

वाइट शर्ट में हॉट पैंट शर्ट मम्मी की चुचियाँ बाहर को दिख रही थी।आकर वो ससुर जी की गोद में बैठ गयी।ससुर जी ने पहले तो मम्मी के नीचे के शर्ट के दो बटन को खोला और उनके पेट पर हाथ फिराने लगे, मम्मी को किस करने लगे. फिर मैंने अपना लंड हाथ में पकड़ कर बीवी की चुत के छेद पर सैट करके हल्का सा धक्का मारा. मैं सीमा को पहले ही चोद चुका था, आज फिर मेरी तमन्ना जाग उठी कि फिर से एक बार सीमा के साथ खेत में सेक्स का खेल खेलना है.

इंडियन बीपी सेक्सी ओपन मैं ऑफिस के बेसमेंट में गया और ड्राइवर रामू को जगाया, जो कि गाड़ी में सो रहा था. वो मेरे सामने आधी नंगी होकर शर्माने लगी और खुद को चादर में छिपाते हुए बोली- अपने भी तो कपड़े उतारो.

तो फिर वो मनाने के लिये सब खुल के बात करने लगी, बोली- अच्छा तो आप सेक्स के लिए बोल रहे थे!मैं- हाँ. मैं तो वैसे ही बाहर आ गया तो देखा कि सुरेश जी ऑफिस के लिए तैयार हो रहे थे. वो मेरे ऊपर जोर से ऊपर नीचे होकर धक्के मार रही थी, ये झटके अब मुझको अच्छे लग रहे थे और उसको भी ऐसे करने में अच्छा लग रहा था और उसी समय जैसे कुछ मेरे लिंग से निकल कर उसकी योनि में गया और मेरे को बहुत ही अच्छा लगा.

हॉट न्यूड वीडियो

हमने पानी पिया, फिर उसने मोबाईल पर लाईट म्यूजिक लगा दिया और हम बातें करने लगे. रजत थोड़ी शैतानी से मुस्कुराते हुए- तो तुम कर दो गीला!विक्रम आश्चर्य के साथ- मतलब?रजत- अरे… जैसे तुमने दीदी की चूत को गीली किया, वैसे ही मेरा लंड अपने मुँह में लेकर इसको भी गीला कर दो…रजत के ऐसा कहने से मयूरी और रजत दोनों धीरे-धीरे मुस्कुराने लगते हैं. मुठ मारने की आदत तो मुझे बचपन में ही लग गयी थी, यहाँ तक कि मैंने अपने कई दोस्तों को मुठ मारना सिखाया था, यहाँ तक कि मेरे दोस्त मुझे बाबा(गुरु) बुलाते थे क्योंकि मैं उन सभी में इस काम पे सबसे ज्यादा एक्सपर्ट था।मेरी मामी की हरकतें भी ऐसी थी कि क्या बताऊँ!एक दिन तो उन्होंने मेरे बगल बैठ कर मुझसे बाते करते हुए मेरी जांघों पट अपना हाथ रख दिया और अपना हाथ फिराने लगी.

फिर मैंने उनकी सुतवां नाक को अपने होंठों में दबा लिया और चूसने लगा, हल्के से काटने लगा. मुस्कान फिर से बोली- यश कुछ बोलो ना?मैंने भी बोल दिया- आई लव यू टू मुस्कान.

अन्तर्वासना के प्यारे पाठको, आपको मेरी हिन्दी सेक्स कहानी कैसी लग रही है? मुझे मेल करके बतायें![emailprotected]कहानी का अगला भाग:ट्रेन में मिली महिला की सेक्स की प्यास-2.

मैंने अगले कुछ दिनों में देखा कि दीपक का पिंकी की तरफ़ कुछ ज्यादा ही झुकाव हो गया था. राज अब मंजू के बालों को कस कर पकड़ कर जोर जोर से आगे पीछे करने लगा! मुझसे अब ये सब देख बर्दाश्त के बाहर हो गया. दोस्तो, मैं शर्मिंदगी महसूस करने लगा कि मुझे अंडरवियर पहनना चाहिए था.

मेरी बात सुन कर वो बहुत हैरान हुआ और बोला- क्यों ऐसे क्या बात हुई है. वो यह सब सुन कर मेरे हाथ जोड़ कर बोली- मैं भगवान से प्रार्थना करूँगी कि आपको भगवान, जितनी भी वो आप को उँचाइयों तक ले जा सकता है, ले जाए. मैं भी पहले से बिल्कुल जोश में थी, सो मनोहर से ऐसे लिपट गई, जैसे मेरे जिस्म में और मनोहर के शरीर में कोई अंतर ही न हो.

मम्मी…” मैं भर्राये गले से बोली। मुझसे मम्मी की हालत देखी नहीं गयी, उनका सुन्दर चेहरा मुरझा गया था, आँखें ऐसी सूजी हुई थी जैसे वो सालों से सोना भूल गयी हो। मुझे ज़िन्दगी में पहली बार मम्मी के दुःख का एहसास हुआ।मुझे मम्मी मत कह… मैं तेरी माँ नहीं सौतन हूँ। जा चली जा यहाँ से… मुझे तुम लोगों की जरूरत नहीं है। मैं अकेली जी सकती हूँ.

पंजाबी बीएफ सेक्सी ब्लू फिल्म: मगर मेरा तौलिया नीचे आ गया और मैं पीछे की तरफ से पूरी नंगी सैमी के सामने हो गई. विक्रम ने जरा भी देर ना करते हुए वो बैठा और सीधा उसकी शॉर्ट्स और फिर पैंटी को एक साथ ही लगभग खींचता हुआ-सा निकलने लगा.

प्रिय अंतर्वासना के पाठको, आपके मेल ही मुझे आगे की कहानी लिखने के लिए प्रेरित करेंगे। मेरी आपबीती पसंद आई? क्या आप मेरी कहानी आगे भी पढ़ना चाहते हैं? तो कृपया मेल करें[emailprotected]पर।कहानी का अगला भाग:याराना-4. दीदी ने जल्दी से मेरे लंड को अपने मुँह में भर लिया और लपक के चूसने लगीं. चाचा बोले- देखो वन्द्या तुम्हारा फिगर एक नंबर का है, भले ही उम्र कम है तो क्या हुआ, एज से कुछ नहीं होता अभी तुमने एक साथ तीन तीन वो भी बड़े बड़े लंड अपने तीनों होल में डलवाये और पूरी संतुष्ट भी हुईं.

क़रीब साढ़े पांच फुट का कद और घने काले बाल जिन्हें उसने चोटी से कस के बांध रखा था.

मैं टाइम पास करने के लिए बाहर मार्केट चला गया और वहां से पूरे 6:00 बजे होटल आ गया. मैं सोच रहा था कि ये वही लड़की है जिसकी गांड में दो मिनट पहले मेरा लंड फंसा हुआ था. कुछ लड़कियों के ग्रुप दूर कहीं कोने में किसी मोबाइल पर नजरें गड़ाये मजे ले रहे थे; हंसना मुस्कुराना, कोहनी मार के हंस देना … यह सब देख कर सहज ही अंदाज लगाया जा सकता था कि उनके मोबाइल में क्या चल रहा होगा.