सविता भाभी सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,पुलिस वाली सेक्सी ब्लू

तस्वीर का शीर्षक ,

योगा सेक्सी वीडियो 2021: सविता भाभी सेक्सी बीएफ, मैंने उससे पूछा कि मैं अपना माल कहां निकालूं?उसने बोला- चूत में ही निकाल दो.

mp3 सेक्सी भोजपुरी

कुछ देर बाद मैं भी वहां पहुच गया, तो मैंने भी उसे मुठ मारते देख लिया. नर्स सेक्सी वीडियो हिंदीसाक्षी कातिल स्माइल देती हुई बोली- बड़े शैतान हो, मेरी गांड इतना दर्द कर रही है और तुम्हारा हथियार अभी भी इसी की लेना चाहता है.

सामने से छोटी बुआ बोलीं- जीजी, कहां तक पहुंच गईं?मैं जल्दी से बोला- बस जयपुर पहुंचने वाले हैं. चीनी सेक्सी ब्लूगांव की सड़क तो आप सब जानते ही हैं इतने गड्डे होते हैं कि आदमी बाइक पर ठीक से बैठ ही न पाए.

अन्दर आकर सबसे पहले मैंने घुटनों पर बैठकर गुलाब को कोमल की तरफ बढ़ाया और उसके सामने अपना प्रणय निवेदन किया.सविता भाभी सेक्सी बीएफ: जब तक हमारी फ़ैमिली घर वापस नहीं आई, तब तक हम दोनों ने सुबह शाम चुदाई का खेल खेला.

हमने आपस में असली सेक्स कैसे किया?दोस्तो, मैं आप सबकी कोमल मिश्रा अपनी एक और सेक्स कहानी लेकर हाजिर हूँ.उसने कुछ सोचा और कहा- हां कोई है तो नहीं जो देखेगा, हम दो ही तो है यहां.

एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो चला - सविता भाभी सेक्सी बीएफ

मेरे होंठ कोमल के सेक्सी होंठों से चिपके हुए थे और मेरी जीभ कोमल मुँह के अन्दर चली गई थी, जिससे कोमल की लार मेरे मुँह में आने लगी थी.अब जीजू ने मुझसे अपने हाथ पर थूकने को कहा तो मैंने ढेर सारा थूक दिया.

पर हम दोनों इतने ज्यादा थक गए थे कि एक दूसरे के नंगे जिस्मों से चिपके हुए ही बेड पर पड़े रहे. सविता भाभी सेक्सी बीएफ वो हँसते हुए बोले- साली रंडी, चुदना खुद को है और नाम जिन्न का बदनाम कर रही है.

मैं समझ गया कि हॉट भाभी वांट सेक्स!परन्तु हम दोनों अलग अलग शहर से थे तो हमारा मिलना नहीं हो पा रहा था।आपको मैं बता देता हूँ कि अंजलि को मैंने अभी तक देखा नहीं था, सिर्फ हैंगआउट पर ही बात होती थी।मेरा एक दोस्त है जिसका नाम राजवीर है।उसका मुझे एक दिन कॉल आया, उसने बताया कि उसको कपंनी के काम से बाहर किसी हिलस्टेशन जाना है.

सविता भाभी सेक्सी बीएफ?

चाची ने भी रास्ते में हर बार गड्डे में बाइक जाने पर मेरा लंड अपने हाथ में पकड़ा और जोर से दबाना शुरू कर दिया. लोहे की रॉड सा खड़ा लंड चूत की फांकों में अड़ा हुआ था, दाब देने से लंड का नीबू सा सुपारा कोमल की चूत के अन्दर घुस गया और किसी खूँटे सा फिक्स हो गया. छुट्टी से पहले मैंने स्कूटी स्टैंड पर जाकर उसकी स्कूटी से हवा निकाल दी और अलग खड़ा हो गया.

फिर जैसे ही उसने लंड का सुपारा अपनी बुर के छेद में लिया, उसकी गांड फटने लगी. मुझे उससे बात करने में थोड़ा अजीब सा लग रहा था इसलिए मैंने उससे ज्यादा बात नहीं की. साथ ही साक्षी की ‘आह आह इस्स्स …’ की तेज और कामुक सिसकारियां निकलने लगती थीं.

’मुझे तो कुछ समझ नहीं आता था लेकिन इन सहेलियों की बातें सुन सुन कर डर भी लगता था कि जाने निकाह के बाद मेरे साथ क्या क्या होगा. हमने कोचिंग संस्थान शिफ्ट तो कर लिया पर दिक्कत ये थी कि गेट पर थोड़ी मिट्टी जमा थी जिसको हटाने के लिए बोला था. नहाते-नहाते भाभी की नाइटी जांघों से ऊपर सरक आती तो उनकी गोरी-चिट्टी टांगें मुझे मदहोश किए जा रही थीं.

मैं अब तुम्हारी हूं, तुम जब चाहो मेरे साथ सेक्स के मजे ले सकते हो।तब से जब भी मुझे मौका मिलता है मैं उन्हें खूब चोदता हूं, घर के कोने कोने में चोदता हूं।प्रिय पाठको, आपको मेरी न्यूड आंटी सेक्स कहानी कैसी लगी? कमेंट्स करके मुझे बताएं. वह मुझसे लंड अन्दर पेलने की उम्मीद कर रही थी लेकिन जब मैंने नहीं किया तो उसने मेरी तरफ गुस्से से देखा.

इस तरह से मुझे अब तक काफी देर हो गई थी और इतनी देर में चाची 1 बार और झड़ चुकी थीं.

मैं घर पर हितेश के घर ग्रुप स्टडी की बोल कर बाइक लेकर आंटी के घर पहुंच गया.

चाची को थोड़ा होश आया तो उन्होंने मेरा सर फिर से अपनी चूत पर दबा लिया. मैंने कहा- चाची मैं कुछ मदद कर दूँ?चाची ने मुझे देख कर मुँह फेर लिया और हुंह बोल कर मुँह बना लिया और अपने ऊपर का कम्बल चेहरे तक ओढ़ लिया. उसका ये प्यार देख कर मैं भी भावुक हो गई और उसके सीने पर सर रख रोने लगी.

बुआ को चूत चटवाने में मजा आ रहा था, वो उसी जोश में मेरे लंड पर दांत से दबा देतीं. कुछ देर ऐसे ही धक्के मारने के बाद मैंने चूमते हुए उससे पूछा- दर्द हो रहा है?उसने न में सर हिलाते हुए जवाब दिया. मैं बारी बारी से साक्षी के दोनों निप्पल्स को अपने होंठों में लेकर चूसने लगा था.

अचानक जीजू गुर्राने लगे और मेरी आपा की चूत पर बुरी तरह से दबाव डालते हुए अपने कूल्हे नचाने लगे.

तो उन्होंने मुझसे कहा कि आदित्य, तुम्हारी भाभी को अगर किसी चीज़ की मदद चाहिए होगी तो तुम मदद कर देना. इसके लिए नितिन ने मुझसे कहा कि तुझे उसे धीरे धीरे लाइन पर लाना होगा, अब ये तेरे ऊपर है. आंटी हंसने लगीं और बोलीं- पता नहीं कब नींद लग गयी, कुछ अहसास ही नहीं हुआ.

उसमें अन्दर से उसकी जवानी फूट फूट कर दिख रही थी, चूचियों के निप्पल एकदम कड़क दिख रहे थे और वो मेरी तरफ देख कर मुस्कुरा भी रही थी. क़रीब 15 मिनट की चूत चुसाई के बाद चाची एक तेज चीख के साथ अपने बदन को ज़ोरदार झटका देती हुई झड़ गईं. कोमल के निप्पलों से खेलते हुए ही मैंने एक हाथ को कोमल की चूत में डाल दिया और अन्दर ही अन्दर घुमा कर भट्टी सी तपती चूत को ठंडा करने की कोशिश करने लगा.

मैंने उसे रोका और याद दिलाया- सोनू डार्लिंग, पहले अपनी भतीजी को तो देख लो.

ये सुनकर आंटी थोड़ी परेशान सी हो गईं और बोलीं- तेरे अंकल भी अब अपने ऑफिस पहुंच गए होंगे और अब शाम‌ को ही मुझे वापस लेने आ पाएंगे. माधुरी चूची चुसवाती हुई बोल रही थी- आंह … और चूसो इन्हें पूरा खाली कर दो.

सविता भाभी सेक्सी बीएफ मैं उसकी लार को अपने मुँह में लेकर किसी अमृत की तरह चूसे जा रहा था. इस पर बीवी ने मजाक में कहा था कि कभी रवि से मिली तो उससे गांड मरवाने की कला सीख लूंगी.

सविता भाभी सेक्सी बीएफ मैं चकित था और सोच रहा था कि इसका मतलब मेरी बीवी ने मेरी मां को अपनी चुदाई के बारे में सब बताया था. मैं- नीना, बहुत साल बाद चूत देखकर मैं बहुत उत्तेजित हो गया, इसलिए जल्दी झड़ गया.

देसी पोर्न नजारा और चाची की चूत देखकर मेरा लंड एकदम से खड़ा हो गया.

घड़ी एक्स वीडियो

देसी हिंदी Xxx भाभी की चुदाई का मौका मुझे गाँव में टैब मिला जब मैंने एक शादी में गया था. मैंने उनकी चूत को अपनी हथेली से दबाया तो भाभी की सिसकारी निकल गयी- आआह अभिननव!इस पर मैं उनके दोनों स्तनों पर टूट पड़ा और उनको बारी-बारी से चूसना आरम्भ कर दिया. मैंने आखिरकार एक दिन उसे मिलने के लिए राजी कर ही लिया लेकिन इस शर्त पर कि हमारे बीच सेक्स जैसा कुछ नहीं होगा.

मेरे मुख से निकला- अआह्ह आह्ह आराम से जानू … मेरी चूत फट जाएगी … अआह ऊऊ ऊईई ईईईई ईअ आह्ह!अमन बहुत जोर जोर से मेरी चूत में झटके दे रहा था. तब खालिजा भाभी ने लण्ड चाटना शुरू कर दिया।बबली भी नंगी हुई और वह खालिजा की चूत चाटने लगी. मैं मॉम से बोल रहा था- सीमा, आज तो तू मेरी बीवी बनने वाली है, आज पूरी रात तेरी अच्छे से चुदाई करूँगा मेरी जान.

माधुरी ने कहा- मैं हमेशा चूत साफ रखती हूँ, पर इस शॉप की भागदौड़ में वक़्त नहीं मिला.

इसी पल मैंने अपने होंठ शबाना की नाभि पर चुम्बन के लिए सैट किया और हाथ से सलवार का नाड़ा खींच दिया. पुलकित ने झट से अपना लंड पकड़कर एक झटके में आयेशा की गांड में उतार दिया. इस X भाभी की हिंदी कहानी के अगले भाग में मैं आपको बताऊंगा कि माधुरी भाभी को मैंने किस तरह से सैट किया और उसकी चुदाई किस तरह से कर पाया.

वह अपनी बारी चलने ही जा रही थी कि मैंने उसे रोका- पहले ये तो बता, जीतने वाले को क्या मिलेगा?‘ह्म्म्म …’उसने थोड़ा सोचकर बोला- कुछ भी नहीं. उसकी लेगिंग्स उसकी गांड और जांघों से ऐसी चिपक कर टाइट दिखती थी कि जब भी वो अपनी शॉप के सामने कभी झाड़ू लगाने या रंगोली बनाने की लिए झुकती, तो पीछे से ऐसा लगता, जैसे कोई जलपरी अपनी गांड उठाकर दिखा रही हो. मैंने उसको अपनी बांहों में भर लिया और एक स्तन अपने मुंह में ले लिया और फिर लंड चूत में पेल दिया.

अब मैं जब भी भाई बहन की सेक्स कहानी पढ़ता, तो उसके नाम की मुठ मारने लगता था. अब जब भी उसेचोदने का मनकरता है, तो फोन से समय सैट कर लेते हैं और हम दोनों चुदाई कर लेते हैं.

कुछ ही देर में उसकी चूत से रस निकलने लगा, मैं समझ गया कि मामी को लंड चाहिए. इस बार मैंने उनके चूतड़ों के नीचे दो तकिये रखे, जिससे चूत का मुँह आसमान की तरफ हो गया. अचानक आंटी का फोन बजा और वो मेरे ऊपर से उठ कर फोन पर बात करने लगीं.

मैं बहुत प्यासी हूँ … क्योंकि तुम्हारे चाचा का लंड कुल 5 इंच का है और वो मेरी भूख मिटा ही नहीं पाए थे, इसलिए मुझे छोड़ कर मुंबई चले गए.

आज बहुत दिनों के बाद ये मौक़ा मिला था और हम इसका जी भरके मज़ा लूटना चाहते थे. अंजलि ने पानी पिया और कुछ रिलेक्स फील करने लगीं।मैं दोबारा अंजलि के सामने बैठ गया।अब मेरी नज़र अंजलि के शरीर पर थी. मेरा लौड़ा अभी थोड़ा सा ही गया था कि उसकी चीख निकल पड़ी और वह मुझसे अलग होने के लिए छटपटाने लगी.

चाची की मादक सिसकारियां बढ़ने लगीं और वो ‘उईई ऊईईई आह आह …’ करने लगीं. मैंने अपना लंड नीना के मुँह में डाल दिया और नीना का मुँह चोदने लगा.

रात को तीन बजे से ज्यादा का समय हो चुका था लेकिन आज नींद हम दोनों से कोसों दूर थी. वो वीर्य पीने में नखरे करने लगी मगर मैंने लंड को मुँह में ही रख कर उसकी नाक दबा दी जिससे उसे मेरा माल पीना पड़ा. अगले दिन का वादा करके जलालुद्दीन उस दिन मुझे बिना चोदे ही कमरे से बाहर निकल गए.

आगरा का सेक्स वीडियो

थोड़ी देर में उसे भी मज़ा आने लगा और वो भी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी.

मीनू की उत्सुकता देख कर कोमल बोली- सुनो न … आप मेरे साथ ऐसे ही करोगे क्या?मैंने हां कह कर सिर हिला दिया. एक दिन मैंने उसे अन्तर्वासना की भी बहन वाली स्टोरी भेज दी, जिसे देख कर उसका पहली बार रिप्लाई आया- छी: इतनी गंदे लोग भी होते हैं?मैंने कहा- हां ऐसा होता है. तो उसने मुझसे कहा- यार फेहमिना, मुझसे गलती हो गयी थी, मैंने तेरे साथ वो सब किया मगर मुझे लगा शायद तुझे मज़ा आएगा.

वो मैं अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा कि किस तरह दोस्त से उसको चुदवाया. क्या तुम उसका दूध पीना पसंद करोगे?मैं- अरे वाह … फिर तो आपकी वाइफ को चोदने में बहुत ज़्यादा मज़ा आएगा. पंजाबी सेक्सी ओपन शॉटमेरी आपा भी अपनी टांगें मेरे जीजू के ऊपर उठाकर गुर्राने लगी और जीजू को बुरी तरह मसलने लगी.

वीडियो कॉल में मेरे नंगे जिस्म को देख उनका तो पहले से ही बुरा हाल था और मैं भी उनके जैसे हट्टे-कट्टे मर्द से चुदाई के लिए बेकरार थी. इसी बीच उसने अपनी चूत से पानी छोड़ दिया जिससे वो थोड़ी शांत हो गई और चुपचाप लेट गयी.

काकी ने मेरे बापू का सर अपने दोनों हाथों से पकड़ा हुआ था और ‘हूँ ऊं उं चाट ले साले … आह लल्लूऊ … मैं गई आह. उसने कहा कि अगले महीने से मेरी शॉप दूसरी जगह शिफ्ट होगी, तुम मुझे कॉल या मैसेज मत करना. लगभग बारह पंद्रह घंटों तक कुछ नहीं हुआ तो मुझे लगा कि अब मैं ठीक हो गई हूँ.

मैं सब पाठकों को पृथक उत्तर नहीं दे सकती तो इसके लिए माफी मांगती हूँ. जब मैं वहां पर अपना काम करने के बाद फारिग हुआ तो मैं अपने होटल जा रहा था. तापोश- मुझे मालूम है तुम्हारे गेस्ट हाउस में तुम्हारे शिक्षक आकर रहते हैं.

तभी मामी और चाची दोनों छत पर आ गई थीं और हम तीनों आपस में बातचीत करने लगे थे.

तो वो हंस के बोली- तो चलो फिर!हम लोग रूम पर आए और आते ही शुभी नहाने के लिए बाथरूम में घुस गई. उन तीनों ने खाना खाया लेकिन मैंने भूख नहीं लगने की बात कहकर खाना नहीं खाया.

तभी मेरी आपा ने मेरी तरफ देखा तो मैं घबरा कर सीढ़ी खड़ी हो गई और मेरी आहें बंद हो गईं. काकी भी बापू के गोटे पकड़ कर सहला रही थीं और बापू की आंखें मस्ती में बंद थीं. आगे से तो सिर्फ उसकी नंगी जांघें दिख रही थी और पीछे से उसकी गोल गोल गांड साफ दिख रही थी।मेरी और राजवीर की नज़र उसकी गांड पर ही थी.

फिर मैंने सोचा कुछ देर मैं मॉम के साथ लेट कर उनके जिस्म के मज़े ले लेता हूँ. चाची बोलीं- मुझसे झिझक कैसी राज?चाचा ने कहा- इसने तुमसे कभी बात नहीं की न … शायद इसलिए!इस पर सब हंसने लगे. कोमल को दूर से देखकर मेरा दिल टूट गया था क्योंकि कोमल ने वो ड्रेस नहीं पहनी हुई थी.

सविता भाभी सेक्सी बीएफ शेखर मेरी चूत को उंगली से चोद रहा था और मेरे अंदर ऊँची ऊँची लहरें उठ रही थीं. मैंने कहा- साहिला आंटी, आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो, मैं आपसे बहुत प्यार करता हूँ.

दूसरे मर्द से अवैध संबंध

तब मैं अपने परिवार वालों के साथ किराए के घर में रहता था और तब आसपास उतना कोई किराएदार नहीं रहता था. ये सोचते ही मेरे लंड महाराज अब नेकर फाड़ कर कुछ और फाड़ने को बेताब हो रहे थे. कविता ने मुझे बताया कि मम्मी शाम को वापस आएंगी और अब घर में तुम्हारे अलावा कोई नहीं है.

पोर्न चाची बोल रही थीं- वाह मेरे शेर … मान गई तुझे … और तेरे इस लंड को … और ज़ोर से आह और ज़ोर से चोद मुझे … फाड़ डाल मेरी चूत को आज. इतना सुनते ही उन्होंने मुझसे कहा- तो फिर तुम्हारे सेक्स का क्या होता होगा?मैंने उनसे कहा- मुझे तो सेक्स किए ही एक साल से ज्यादा हो गया है।इतना सुनते ही उन्होंने मुझसे पूछा- क्या तुम मुझसे मिलना चाहोगे?मैंने सुनते ही हां में उत्तर दिया. सेक्सी वीडियो हिंदी हरियाणवीमैं उस कामुक नज़ारे को देख कर अपना लंड बाहर निकाल कर सड़का लगाने लगा.

उनके साथ कोई और भी था जो दिखने में उनके जैसा ही था पर वो काले रंग का आदमी था.

रात को खाते समय तापोश बोला- मुझे और नीना को यहां की शांत जिंदगी पसन्द है, पैसे बहुत कमा लिए. अब मैं खुद नीचे लेट गया और उसको मेरे ऊपर आने को बोला।वो झट से मेरे ऊपर आ गयी, उसने ही मेरे लंड को अपने चूत में सेट किया और मेरे लंड को अपनी चूत में ले लिया।वो अपनी चूत को थोड़ा ऊपर उठाती और वापस मेरे लंड पे चूत गिरा देती।अब मैंने उसे अपनी ओर खींच लिया और उसके होंठों पर अपने होंठ लगा दिये.

मेरे दांत उसकी चूची को चुभते तो वो और जोर से मादक सिसकारियां लेने लगती- आहा … आउच स्स्स अह … और चूसो इन्हें … आह इनका दूध पी जाओ मेरे राजा … और जोर से चूसो अह हां ऐसे ही … और चूसो आह … मजा आ रहा है. अंकित ने मुझे गले से लगा लिया फिर मुझसे अलग होते हुए उसने मुझे गाल पर किस किया. पूरी तरह से निराश व मायूस होकर मैं अपने घर चला आया कि साला अब तो आंखें भी सेंक नहीं सकता.

उसने कहा- सर आज क्या काम है?मैंने कहा- कुछ जरूरी काम है, मिल कर काम निपटा लेंगे.

अब मैं चाची के साथ ही लेट गया और कुछ देर तक हम दोनों ने सेक्स की बातें की. कुछ एक सेकंड को हम दोनों तड़फ गए और मैंने उसकी आवाज निकलने से पहले फिर से किस करना चालू कर दिया. कुछ देर तक तो हमें होश ही नहीं रहा कि हम बैड पर ऐसे नंगे एक दूसरे पर लेटे पड़े हुए हैं.

वीडियो हिंदी सेक्सी सेक्सीहम लोग सेक्स में तरह तरह का प्रयोग करते थे, रोल प्ले करते थे, सेक्स वीडियो देखते थे. दोस्तो, सेक्स कहानी के अगले भाग में आप पढ़ेंगे कि कैसे मैंने उस कमसिन लड़की की चुदाई की और उसने किस तरह से मेरे मूसल लंड को झेला.

अनुष्का एक्स एक्स एक्स

मैंने उनको‌ जवाब दिया- आंटी, मम्मी तो अपना कमरा बन्द करके गयी हैं, तो आपको उनके कपड़े तो नहीं मिल पाएंगे. उस दिन मेरे पैतृक गांव में एक कार्यक्रम चल रहा था जहां हमारे परिवार के बहुत सारे सदस्य उस समारोह के लिए एकत्रित हुए थे. जलालुद्दीन आलिम बोले- लगता है जिन्न बहुत ढीठ है, दूसरा तरीका आजमाना होगा.

वो बोली- क्या देख रहे हो, आप तो बना ड्रिंक बना दो, फिर देखती हूं कि उसे एक पैग से नशा होता है या नहीं. हम लोग टैक्सी में जाकर बैठे ही थे कि तभी ड्राइवर अब्दुल नाम के मकैनिक और हेल्पर छोटू को लेकर आ गया. निखिल मेरी चूचियाँ पीछे से पकड़ कर जोर जोर से मसलने लगा; मेरे कान की लौ पर चूम लेता तो कभी चूचियों को सहला देता.

काफी देर तक मेरी गांड की ठुकाई होने के बाद मेरी गांड में बुरी तरह जलन होने लगी थी तो मैंने जलालुद्दीन साहब से मिन्नतें की कि अब लण्ड गांड से निकाल कर चाहें तो मेरे मुंह या चूत में घुसा दें. मुझे समझ आ गया कि यही सही वक़्त है जब मुझे अपने काले लंड को माधुरी की चूत में डाल देना चाहिए. चाची ज़ोर ज़ोर से चिल्लाती हुई रोने लगीं- अअह … अहह ऊऊई मां मार डाला रे!अब चाची का दर्द बर्दाश्त से बाहर हो गया था, वो अपने हाथ खुलवाने की कोशिश करने लगीं और कहने लगीं- बाहर निकाल अपने लंड को मेरी चूत से कमीने.

एक-दो बार जब हम पास थे, उसने अपने स्तन मेरी बांहों पर रगड़े और एक बार उसके बाएं हाथ की उंगलियों ने मेरे लंड को भी सहलाया. मैं ऊपर उठती तो सररर से उनका लण्ड बाहर निकल आता और फिर बैठ जाती तो एक बार फिर धचाक से उनका लण्ड मेरे अंदर समा जाता.

अब रुकना मेरे लिए मुश्किल था, मैंने उसको सीधा लिटाया और उसकी टांगों के बीच आ गया.

यह सब देख कर मैं एकदम से उत्तेजित हो गया और उसे देखते हुए मदहोश होने लगा था. मम्मी की सेक्सी चूत‘कौन बात कर रहा है?’उधर से आवाज आयी- कहां हो तुम … आज ऑफिस नहीं आए क्या?मैंने समझ तो लिया था कि ये माधुरी की आवाज है. फुल सेक्सी मूवी हिंदी फिल्मजलालुद्दीन आलिम बोले- लगता है जिन्न बहुत ढीठ है, दूसरा तरीका आजमाना होगा. मैं आंखें बंद किए बस माधुरी की जुबान अपने गोटियों पर महसूस कर रहा था.

मुझे घर छोड़ने के बाद शाम को उनके लौटने तक मुझे वहीं रहने के लिए कहा.

बाहर बारिश रुकने का नाम नहीं ले रही थी और मेरे मन के अन्दर सेक्स का सूखापन मुझे आंटी के इस रूप पर मोहित किए जा रहा था. आंटी हंसने लगीं और बोलीं- पता नहीं कब नींद लग गयी, कुछ अहसास ही नहीं हुआ. ’तभी मैंने उंगलियों से उसकी चूत की फांकों को फैलाया और लंड को टिकाकर अग्र भाग अन्दर डाला.

पहला हाथ चूत के पास से होते हुए पेट पर जाने लगा था और दूसरा हाथ दूध पर जाने लगा था. अपने दूध दबते ही वह ‘आआहह …’ की आवाज करके हल्के से चिल्लाई मानो वह अभी होश से बाहर आई हो. लंड को चूत के छेद में रगड़ने लगा, जिससे उसको और मस्ती चढ़ने लगी और नीचे से वो अपने चूतड़ उठाने लगी.

होली चित्र

मैं बिस्तर पर लुंगी पहने लेटा हुआ था और कविता मेरे पैरों के पास बैठकर लुंगी को मेरे घुटनों के ऊपर तक हटा दी और घुटनों पर तेल लगाने लगी. नीना जब सोनी के लंड के पास पहुंची, सोनी का खड़ा लम्बा, मोटा और काला लंड देखकर मुग्ध हो गयी. पहले उन्होंने मेरी चूत पर लंड को रगड़ा और एक झटका लगाया पर उनका लंड अन्दर गया ही नहीं … और मुझे दर्द भी हुआ.

साक्षी भी घोड़ी बने अपनी कमसिन गांड आगे पीछे करके अपनी चूत का चिपचिपा पानी मेरे लंड पर मलने लगी.

तो अमन ने कहा- बहनचोद अगर ये शर्त मंजूर हैं तो बोल, वर्ना माँ चुदा.

फिर मैं और डैड, मॉम को उनके बेडरूम तक ले आए और हमने उन्हें उनके बेड पर लिटा दिया. अब काकी ने अपनी आवाज अपने होंठों में दबा ली थी और वो नीचे से गांड उठा कर चुदाई का मजा लेने लगी थीं. सेक्सी वीडियो मूवी ऑनलाइनथोड़ी देर तक मैं आंटी के ऊपर ही पड़ा रहा, फिर नंगा ही बगल में सो गया.

मेरा सारा थूक जीजू ने अपने लंड पर लगा कर उसको चिकना बना लिया और फिर एकबार धक्का मारने का प्रयास किया. बापू काकी के सर के बाल पकड़ कर उसके मुँह में लंड दबादब पेले जा रहा था. उसने हंस कर कहा- अरे जालिम काट मत, तुम्हारे अंकल पूछेंगे तो क्या बताऊंगी.

फ्रेंड्स, मैं संदर्श एक बार फिर से शादी में मिली मदमस्त हसीन कोमल भाभी की चुदाई की कहानी का अगला भाग लेकर हाजिर हुआ हूँ. उसी समय आंटी ने मुझे पलटाने की कोशिश की और हम दोनों संतुलन खोकर सोफे से ज़मीन पर आ गिरे.

लेकिन जीजू मेरे आंसू देख कर भी नहीं पिघले और अपना लंड मेरी चूत में डाले हुए मेरे होंठ चूमने लगे.

उससे मुझे पता चला कि वो यहीं पास में हिंजेवाड़ी में रहती है और वो बहुत चालू किस्म की औरत है. धक्का लगते ही चाची की ज़ोर से चीख़ निकल गई- अअह अह मर गई रे … आराम से पेलने को बोला था … इतनी ताक़त से धक्का लगाने को नहीं … तुमने तो एक ही धक्के में मेरी मासूम सी तीती को फाड़ डाला रे!चाची की आंखों में आंसू आ गए. फिर उसने मुझे जमीन पर लेटा दिया और मेरी पैंटी मेरे जिस्म से अलग कर दी.

राजस्थान सेक्सी वीडियो जंगल में उस वीडियो में जैसे-जैसे लड़का लड़की के साथ कर रहा था, वैसे वैसे मैं उसके साथ करने लगा. मैंने साक्षी की पीठ पर किस किया और कहा- ठीक है अब मैं चलता हूँ तुम ऐसे ही कुछ देर आराम करो.

मेरा दिल रोने को हुआ लेकिन अपने अम्मी अब्बू के सामने मैंने खुद को संभाले रखा. मीना भी अपने चूतड़ ऊपर उठा कर लंड लेने के लिए अपनी तड़प को दिखा रही थी. चाची के मम्मे बहुत बड़े बड़े थे और उनके ब्लाउज का गला काफी खुला था, तो उनके मम्मे और भी ज्यादा कामुक लग रहे थे.

रोमांटिक सुप्रभात

शबाना को मज़ा खूब आ रहा था लेकिन डर भी लग रहा था कि ये अन्दर घुसेगा तो ढेर सारा दर्द होगा. इस चुदाई के बाद वो ठीक से चल नहीं पा रही थी तो सबने पूछा- क्या हुआ. मैं कोमल के हाथों को खोलकर उसके ऊपर लेट गया, जिससे मेरी छाती के बाल कोमल पीठ से रगड़ कर मस्ती करने लगे थे और मेरा लंड कोमल की गांड के दरवाजे पर दस्तक दे रहा था.

उसने अपनी उंगली से लंड की लंबाई और मोटाई का जायजा लिया और फिर दूसरे हाथ से लुंगी को हल्का ऊपर उठाई और लंड को देखने लगी. वही हाल मेरे दोस्त का भी था और शायद मेरी मामी ने इस बात को ताड़ लिया था.

कभी-कभी मुझे ऐसा लगता कि बहुत मामूली से दचकों में भी उसके हाथ आगे-पीछे हो रहे थे.

मैं भी बहुत प्यार से उनका साथ दे रही थी और हम दोनों एक दूसरे के मुंह में अपनी अपनी जीभ घुसाने की पूरी कोशिश कर रहे थे. उसने मुझे सैनेटाइजर दिया और पूछा कि वॅक्सिनेशन हुआ है आपका?मैंने हां कहा. फिर सबने एक दूसरे की तरफ देखकर इशारा किया और डिल्डो का टोपा लड़कों की गांड में पेल दिया जिससे सभी लड़कों की एक साथ चीख निकल गयी.

भाभी ने मुझे अपने सीने से लगा लिया और हम दोनों काफी देर तक एक दूसरे को प्यार करते रहे. लेकिन वो भी एक सेक्सी और चालू औरत थी तो वो भी अपनी भरी हुई जवानी का दीदार करवाती और सबके लंड खड़े करवाती. उन्होंने अपना लण्ड मेरे गालों पर फिराया और होठों तक ले आये और मुझे मुंह खोलने को कहा.

मैं बस उन दोनों का ख्याल मेरे दिमाग में घूम रहा था कि वे कमरा बंद करके क्या कर रही होंगी.

सविता भाभी सेक्सी बीएफ: फिर चाचा और पापा को पास के गांव में किसी काम से जाना पड़ गया, रात को तेज बारिश शुरू हो गई तो पापा और चाचा वहीं रूक गए. मैं सोच रहा था कि एक बार निशा मुझसे चुद गयी तो फिर ये खुद दे दिया करेगी और मेरी मौज रहेगी.

जॉब लगने के बाद हर शनिवार मैं घर आता था तो यार दोस्तों के साथ बीयर पीता था. चाची बोलीं- चल अब मैं चलती हूँ, तू जल्दी से बाईक घर लेकर जा, तेरे चाचा को भी अपने काम पर जाना है. यह Xxx गे पोर्न स्टोरी उस वक्त की है, जब मैं अपनी ग्रेजुएशन में था.

बस और फिर दोनों शांत हो गए, आपा की टांगें बिस्तर पर गिर गईं और जीजू निढाल होकर आपा के ऊपर ही गिर गए.

उसने पीछे से मेरी पीठ पर चढ़ कर अपने हाथों से मेरे मम्मे पकड़ लिए और जोर जोर से दबाते हुए मेरी चूत चोदने लगा. मेरे चरम सुख पर पहुँचते ही मेरी चूत ने झटके खाए और रस की फुहार छोड दी. उसकी गोटी काटने की चक्कर में मैंने गलत गोटी को टच कर दिया जिसे मोबाइल ने स्वीकार करते हुए उसकी गोटी से आगे खड़ा कर दिया.