बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो

छवि स्रोत,ससुर पतोह सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

मस्त सेक्सी हिंदी: बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो, लेखक की पिछली कहानी:स्विमिंग पूल में दो कोच से चुदीहाय फ्रेंड्स, मेरा नाम माधुरी है.

शादी लाचा ड्रेस

मुझे बहुत ज्यादा अच्छा फील हो रहा था ऐसा लग रहा था मानो मैं जन्नत में हूं।मैं उसकी सलवार को पूरा उतार कर उसकी चूत को देखने लगा. हिंदी नंगी सेक्सी पिक्चर वीडियो मेंमैंने उनकी आंखों में झांका, तो उनकी आंखों में वासना दिखाई दे रही थी.

वो दो उंगली तेल में भर कर अंदर करती थी।मां- साली गान्ड में उंगली करने लगी वापस?मौसी- दीदी, तुम्हारी गान्ड का छेद कितना टाइट है. सपना भाभी सेक्सी व्हिडीओमेरे सीने के उभार बिल्कुल लड़कियों जैसे उभरे हुए चूचे जैसे दिखते हैं.

मैंने उसकी चूचियों को पीते हुए उसकी चूत में लंड के धक्के एकदम से तेज कर दिये.बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो: और धीरे धीरे मैं और चारू आंखों ही आंखों में एक दूसरे की ओर आकर्षित होने लगे थे.

’ये सुन कर वो और जोश में आ गया और बेरहमी से सोनाक्षी दीदी को देसी स्टाइल में पेलने लगा.मैं अपने बिस्तर पर जा लेटा और तभी नीता ने मेरी तरफ देखा और मुस्करा दी.

सुंदर सेक्सी लड़की - बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो

उसकी बगल में लेट कर मैंने धीरे से उसकी मोटी मोटी और बड़ी चूचियों पर हाथ रखा.और फिर मामी का पेटीकोट उठा कर उसमें घुस गया और उनकी रसीली रस टपकाती चूत को अपने होंठों और जीभ से चाटने लगा।यह सुखद अनुभव शायद मामी ने पहली बार लिया था क्योंकि इस अनुभव को पाकर उनकी कामुकता भरी ‘उफ़ हह ओह्ह फ़क आह आह आह हह उई मा आह आह’ की सिसकारियाँ पूरे घर में गूँजने लगी.

आज मेरी शादी हो चुकी मेरे बीवी के साथ मेरे अच्छे संबंध हैं और मेरी एक बेटी है. बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो मैंने इंटरमीडिएट की परीक्षा पास करने के बाद अपनी इसी कामना को लेकर फिर से सोचना शुरू कर दिया था.

पहले तो बुआ लंड के स्पर्श से सीधी हो गईं और बोलीं- अब तू छोटी को सिखा.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो?

मैंने उसके कान में धीरे से कहा- पसंद आया?वो कुछ नहीं बोली, बस नशीली आंखों से मुझे देखने लगी. उसके नजदीक आकर मुझे उसके जिस्म से एक अच्छी सी पर्फ्यूम की खुशबू आ रही थी. तभी बुआ बोलीं- अब पता नहीं क्यों … मयूर के सामने हमें नंगा होने में शर्म ही नहीं आती.

कुछ देर बाद मैंने भाभी की पैंटी के ऊपर से ही उनकी चुत पर हाथ लगा दिया और चुत को सहलाने लगा. इसलिए मुझे चाए पीने की आदत हो गई थी।फिर हमने चाय नाश्ता लिया और अंकल ने मुझे मेरा कमरा दिखाया और कहा- बेटा तुम इसी कमरे में रहोगे. मुझे पता था कि सेक्स में बहुत मजा अता है क्योंकि मेरी कुछ सहेलियों ने अपने चोदू यार पाल रखे थे और वे उनसे अक्सर अपनी चूत चुदवाती रहती थी.

दो मिनट के बाद ही वो बोली- बस करो … आह्ह … अब मुझे लंड दे दो, और नहीं बर्दाश्त कर पा रही हूं. फिर भी मैंने लंड पर थोड़ी सी क्रीम लगाई और दोबारा से भाभी की चूत पर लंड सेट कर दिया. फिर हमने थोड़ी देर बातें की।उसके बाद हम दोनों ने एक दूसरे के होंठों को चूसना शुरू किया.

मैं क्या करूं इसमें?मैं बोला- अगर तू रिस्क लेने के लिए तैयार है तो फिर गर्मी तो मैं सारी निकाल दूंगा, मगर कहीं दोनों फंस न जाएं!उसने कहा- रात के अंधेरे में किसी को क्या पता चलेगा, कुछ नहीं होगा. जैसे मॉम को 4 आदिवासियों से चुदवा दिया, मॉम की सहायता से बुआ को चोदा, ये सब बारी बारी से अगली सेक्स कहानी में बताऊंगा.

मैं सीधा बाथरूम की तरफ पेशाब करने जा रहा था तभी मुझे अचानक सिसकारी की आवाज सुनाई दी.

मैं भाभी की टांगों के बीच में आ गया और भाभी की चुत पर अपना लंड रखकर मैंने अपना लंड रगड़ना शुरू कर दिया.

मैंने भी बहुत कोशिश की, मगर जब वो नहीं मानी, तो मैंने भी उससे बोलना बंद कर दिया. तो परीक्षा से दो दिन पूर्व ही मैं अपनी बीवी को अपनी ससुराल छोड़ने के लिए गया. मुझे महिलाओं का तो नहीं पता लेकिन लौड़े तो नयी नयी चूत के बहुत प्यासे रहते हैं.

मैंने उठ कर फिर से रात की चुदाई को याद किया और भाभी की सहेलियों की चुत चुदाई मिलने का इन्तजार करने लगा. सामने सपना के पापा बैठे थे, मुझे नहीं मालूम था कि वो सपना के पापा हैं. अब दोस्तो, भाभी की चुदाई किस तरह से हो पाई ये मैं इस सेक्सी भाभी स्टोरी के अगले भाग में लिखूंगा, तब तक आप मुझे मेल कीजिएगा.

पहली बार मोटे लंड से चुद कर मजा ले ले … पता नहीं तेरे नसीब में किसका लंड लिखा होगा.

आधा घंटे बाद मेरी ममेरी बहन मेरे कमरे में आई, तो मैंने उससे पानी मांगते हुए पूछा- घर में बड़ा सन्नाटा सा लग रहा है … क्या सब सोए हुए हैं. अंकल मुझे जो अश्लील किताबें पढ़ने के लिए देते थे, उसमें जो लिख होता था, वह सब कुछ मेरे सामने हो रहा था. दोस्तो यह सेक्सी कहानी कैसी लगी आपको? मुझे ज़रूर बताएं और अपनी कीमती राय दें।मुझे मेल करें[emailprotected]पर।धन्यवाद।.

काफी गाली गलौच हुआ और इतना सब होने के बाद वो रोता हुआ अपने घर चला गया. मैं- अरे अंकल मैंने पी रखी है, कहीं गाड़ी कहीं लड़ गयी तो?अंकल- तुम उसकी चिंता मत करो और अपनी सीट से बाहर निकल कर इस तरफ आ जाओ. यह बात सन 2013 की है, जब मैं 12वीं की परीक्षा देने के बाद जयपुर आ गया था.

यह सिलसिला कई माह तक उसका छुट्टियों में आने तक चलता रहा और हमारी नजदीकियां बढ़ती गई.

मुझे काजल के साथ थोड़ा अजीब सा लग रहा था … पर वो साली बड़ी बेशरम निकली. शायद इस बार चाची ने पल्लू जानबूझकर गिराया था क्योंकि वो बार बार मुस्करा रही थी.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो उस दिन होटल में हम दोनों ने अपनी पूरी वासना निकाली; वहां पर उस दिन हम चार-पांच बार सेक्स किया और बहुत मजे किए. मगर मैंने ज्यादा नहीं सोचा क्योंकि अभी तो बस चूत चोदने का पूरा मजा लेना था.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो फिर मैंने अंकल को नमस्ते किया और फिर हम लोगों ने साथ में ही डिनर किया. फिर मैंने सिगरेट जला ली तो खुशबू ने मेरे हाथ से सिगरेट लेते हुए अपनी टांगें खोल दीं.

हमारा गाँव का घर बहुत बड़ा है और गाँव में केवल भैया भाभी और चाचा ही रहते हैं बाकी सब बाहर जॉब में हैं.

लॉकडाउन सेक्सी वीडियो

वो मेरे सीने पर हाथ रख कर अपनी कमर और कूल्हे उछाल कर चुदाई कर रही थी. उसके बाद एक दिन वो उसके पड़ोस में रहने वाले एक लड़के के साथ पटना चली आई और वो लड़का उसे पटना में छोड़कर कहीं भाग गया जिसे वो अपना पति कहती है और ये कहते-कहते वो रोने लगी और उसे गाली देने लगी. खाना खाते हुए मैंने देखा कि मॉम और वो अंकल दोनों एक दूसरे को देखकर हल्का हल्का मुस्करा रहे थे.

इसके बाद दोनों ने एक साथ अपना पानी छोड़ दिया … जिससे हम दोनों को ही बहुत मजा आया. कैसे?दोस्तो, आपको मेरा प्यार भरा नमस्कार। मेरा नाम ओरिंदम है और मैं पश्चिम बंगाल से हूं। मैं एक मध्यवित्त परिवार से हूं। अभी मेरी उम्र 23 की है।मैं जिम में अक्सर जाता रहता हूं ताकि मेरी बॉडी अच्छे से मेंटेन रहे।आपका ज्यादा समय न लेते हुए मैं कहानी शुरू करना चाहूंगा. उस से प्रेरित होकर मैंने सोचा था कि काश यही लण्ड मुझे मिल जाये तो मैं खूब उछल उछल के चुद जाऊँ और अपनी बरसों की प्यास बुझा लूँ।लेकिन मैंने वासना पूर्ति के लिए ऐसा नहीं किया। मुझे लगा कि यह हमारे संस्कारों के विरुद्ध होगा.

मैं अपनी विधवा मां और तलाकशुदा मौसी के साथ पूर्वी उत्तर प्रदेश के एक छोटे गांव में रहता हूं। दोनों का बदन सेक्सी चोदने लायक है भरा हुआ.

प्लीज यार!उस टाइम तो मैंने जोश में काजल की चूत चुदाई की इच्छा के बारे में बोल दिया पर उसका अंजाम बड़ा खराब हुआ. उसने मेरे 7 इंच लंबे और 3 इंच मोटे लंड को अपने हाथ में लेकर सहलाना शुरू कर दिया. चुदाई चुदाई चुदाई … इस कहानी में मैंने खुद एक लड़के से अपनी वासना शांत की फिर उसी से अपनी 3-4 सहेलियों को भी मजा दिलाया.

इसी के साथ मैंने अपने हथियार को चुत के दरवाजे पर रख कर हल्का सा धक्का दे दिया, जिससे मेरे लंड का सुपारा उसकी चुत को होंठों को चीरते हुए थोड़ा सा अन्दर घुस गया, जिससे मेरी दी ने आह की आवाज निकली. उसने मेरी टांग को हटाकर अपनी दोनों टांगों को चौड़ा कर लिया और मैं उसकी टांगों के बीच में आ गया. मैं भी चाचा का साथ देते हुए बोला- आह्ह चाचा … फाड़ दो … आह्ह … मैं आपका लंड बहुत दिनों से लेना चाहता था.

मैंने उनकी ब्रा खोल दी और उनके नंगे होचे मदभरे मम्मों को जोर जोर से दबाने लगा और स्मूच करने लगा. इस वेबसाइट मेरी यह पहली कहानी है जो मैं आप लोगों को बताने जा रहा हूं.

फिर हम दोनों मिल कर नहाये और वहां भी एक दूसरे से ढेर सारा प्यार किया. आपके मेल की प्रतीक्षा में आपका रहमान खान[emailprotected]भाई बहन सेक्स कहानी का अगला भाग:मैंने अपनी तीन बहनों की सीलपैक चुत चोदीं- 2. उसने मेरे 7 इंच लंबे और 3 इंच मोटे लंड को अपने हाथ में लेकर सहलाना शुरू कर दिया.

मैं बोला- सर जब मैं घर से निकला था … तब बारिश नहीं हो रही थी और जब आपके घर के पास आ गया, तो बारिश तेज होने लगी.

प्रियंका भाभी मेरी जांघ के ऊपर आकर बैठ गईं और हम दोनों एक दूसरे को प्यार से देखने लगे. खाना खाने के बाद फिर से बची हुई चुदाई हमने पूरी की।उसको चोदते हुए मैंने अपने लंड की सारी मलाई उसकी गांड में उड़ेल दी. रास्ते पर कोई टैक्सी नहीं दिख रही थी … तो मैं बिना टैक्सी का इंतजार किए पैदल ही अपने घर की तरफ निकल पड़ा.

मैंने भी हेलमेट पहना हुआ था ताकि अगर किसी को लड़की घर में आती दिख भी जाये तो हम दोनों के चेहरे न दिख पायें. परंतु जब माही को बहुत ज्यादा दर्द होने लगा, तो वो एक बार फिर से चिल्लाने लगी- साले कुत्ते, जान निकालेगा क्या?मुझमें भी जोश आ चुका था.

जिसको जूही देख कर उस खेल में शामिल हो गयी।उस रात दोनों माँ बेटी एक ही लन्ड से चुदी और उस दिन सागर ने सपनी की चूत और गांड दोनों की सील तोड़ दी।उस दिन के बाद से मैं सागर ने इंस्टीट्यूट में ही चुद लेती और घर में कभी मम्मी कभी मामी और अब तो सपना भी सागर के लन्ड की दासी हो गयी।सागर ने सपना को चोद चोद कर औरत बना दिया।हम चारों एक ही लन्ड के सहारे हैं. वो मुझे बस किस करने, बूब्स चूसने और दबाने देती … उसके आगे कुछ भी नहीं करने देती. वह बहुत ही ज्यादा कमीने और गंदे इंसान थे यह मुझे बाद में अच्छे से समझ में आ गया.

इंग्लिश में सेक्सी फिल्म भेजो

मैंने उनके होंठों से अपने होंठ मिला दिए और उनको लिपकिस करना शुरू कर दिया.

मैंने हौले से कहा- आप थोडा़ जल्दी करेंगे?उसने मुझे देखा और कहा- मादरचोद, अभी तो दो चार लण्ड से चुद कर आई है, अभी भी इतनी आग बची है कि तुझे चुदने के लिए जल्दी मची है!उसने मेरी बात का गलत मतलब निकाल लिया मगर मैंने कुछ नहीं कहा और वो मेरी टांगें फैला कर अपना लण्ड मेरी चूत में घुसाने लगा. और उसके घूंघट को उठा दिया।इस पर पीहू बोली- अब मेरी मुँह दिखाई दीजिये?तो मैंने कहा- अपनी आँखें बंद करो. मेरा यह मानना है कि यह लगभग 80% लोगों के साथ उनके यौवनारंभ के दिनों में ही शुरुआत हो जाती है.

मम्मी ने तुरंत ही पेशाब करना चालू कर दिया … जो सीधे प्रशांत के मुँह में गई. और यह सिलसिला बहुत दिन तक चलता रहा, आसानी से चलता रहा क्योंकि मुझे भी मज़ा आ रहा था. ফ্রী সেক্স ভিডিওमॉम ने उसे हाथ से सहलाते हुए पूछा- ये उदास क्यों है?अंकल बोले- तुम पहले सोफे पर बैठो.

मैंने अपनी रजाई से बाहर मुंह निकाल कर देखा तो मेरे ठीक पास वाले बिस्तर से ये आवाज आ रही थी।वैसे मैं वहां सबको जानता भी नहीं था और बरामदे में लाइट भी नहीं थी तो मैं पहचान नहीं पाया कि वो कौन है।देखने के बाद मैं फिर से अपनी रजाई ढक कर सोने की कोशिश करने लगा मगर मैं सो नहीं पा रहा था. फिर अचानक मेरी आँखों के आगे अंधेरा छा गया और मेरी गांड में अजीब सी जलन होने लगी और मैं किसी कुतिया की तरह तड़प रहा था.

आपा की चीख निकलने को थी पर उन्होंने खुद को रोका कि चीखने से फ़रिश्ते के काम में खलल होगा. जिस तरह से घुड़सवारी करते वक्त लगाम को हाथ में पकड़ते हैं … इसी तरह मैंने लगाम की जगह पर भाभी के सर के बाल पकड़ रखे थे. संजय अंकल की इस सेक्सी हरकत ने तो मुझे बहुत ही ज़्यादा कामुक कर दिया था.

मॉम उनको गांड चोदने के लिए मना कर रही थी लेकिन वो लगातार गांड में लंड के धक्के लगाने की कोशिश कर रहे थे और मॉम की गांड को खोलना चाह रहे थे. मैंने जैसे ही फोन ऑन किया, तो देखा कि उसके फोन में भाई बहन की एक सेक्स कहानी खुली हुई थी. तभी उसने एक नहीं, दो नहीं, पूरे तीन जोरदार धक्के लगातार लगाए जिससे उसका पूरा लंड मेरी चूत में घुस गया.

मैंने देखा कि वो लगभग 50 साल की उम्र का व्यक्ति था, लेकिन एकदम मोटा तगड़ा था.

निशा भाभी- उसका भी इंतजाम है, अभी पहन कर आती हूँ, जरा वेट करो मेरे रसगुल्ले. उसके होंठों को छोड़ कर मैं उसकी चूचियों से होते हुए उसकी नाभि पर किस करते हुए नीचे तक आ गया.

उन्होंने मेरा और ना जाने मेरे जैसे दूसरों का भी यौन उपयोग अपनी जिस्मानी भूख मिटाने के लिए किया होगा. जब घर नजदीक आने को था, तो उसने अपनी उंगली निकाल कर अपने मुँह में दबा ली और मेरी तरफ वासना से देखने लगा. माँ हल्का सा मुस्कुराई और कहा- चल लेट जा।और वो मेरा लण्ड चूसने लगी।मैं बस उन्हें ही देखे जा रहा था और सोच रहा था कि मेरी माँ नंगी कितनी ख़ूबसूरत लग रही है.

बहुत बार तो उन्होंने छुट्टी के बाद मेरे क्लास रूम में भी मेरी गांड मारी और मुझसे लंड चुसवाया. दोस्तो, मैं इक़रार खान अपनी कहानीरात भर अम्मी की चुदाई का नजाराका अगला भाग आपके लिए लेकर हाजिर हूँमेरी सेक्स कहानी के उस भाग में आपने पढ़ा कि कैसे अम्मी रात भर फूफा जी और उनके बेटे शकील से रात भर चुदी. तब उन्होंने मेरे कमर को एक हाथ से पकड़ा और एक हाथ से अपना लण्ड मेरे गांड के छेद पर फिट करके धक्का मारा.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो वहां वह नहीं दिखी, मैंने थोड़ी देर इधर उधर देखा, तो वह मुझे अपनी बहनों के बीच में दिख गई. फिर मैंने जोर देकर पूछा- उस रूमाल का क्या किया तुमने?वो फिर चुप रही और नीचे जाने लगी.

देहाती सेक्सी चुदाई वाला वीडियो

मैम मुझसे दूर हुए जा रही थीं पर मैं उनको अपने बांहों में थामे उनके बेडरूम में लेकर चला गया. उसकी आहह ऊईई ऊईई आआआ आहह आहह हह आहह से मेरे लौड़े को जोश आ रहा था।अब हम दोनों बिस्तर पर चुदाई का पूरा मज़ा ले रहे थे। अब वो भी अपनी गांड को आगे पीछे कर लंड ले रही थी।तब मैंने लंड निकाल लिया और उसे कहा- तुम मेरे लौड़े पर बैठ जाओ. मैंने उसी पल टीचर की जांघ पर हाथ रखा और बोला- प्लीज़ सर एक बार मान जाइए, आप लोग जो भी बोलेंगे, मैं करने को तैयार हूँ.

भाभी अपने मोबाइल में कुछ उत्तेजक देख रही थी और अपनी चूत में उंगली कर रही थी. फिर मैंने उसकी ब्रा को हटा कर उसे उठाया और वहीं डेस्क पर लिटा दिया. एमसी वाला सेक्सीदोनों बुआ घर पर अकेली थीं, उन्होंने मुझे एक कमरा दे दिया और सामान जमाने में मेरी मदद करने लगीं.

मैं लंड हिलाते समय सोच रहा था कि क्या मुझे कभी उन्हें चोदने का मौका मिलेगा.

मैं नीचे से धक्का लगाता रहा और उसकी चूचियों को अपने होंठों से चूसने लगा. प्रिन्सिपल ने मुझसे बोला- देखिए आप शाम को मेरे रूम पर आइए, फिर बात करते हैं.

मैं बोला- मरवायेगी क्या? शिल्पी और आंटी भी तो है?वो बोली- चाची इस टाइम आराम करती हैं और एक-दो घंटे सो जाती हैं. फिर मैंने भी उसकी पैंटी को उतार दिया और उसकी नंगी चूत को हाथ से रगड़ दिया. वो सर्दियों की छुट्टियों में आई हुई थी और मैं तो बहुत खुश था उसको देखकर.

ज़ोहरा की गांड के दवाब से मेरा लंड खड़ा होकर आपा की गांड की दरार में सेट हो गया.

मेरा लंड रानी की चूत में घुस गया था और पिंकी की चूत मेरे ठीक सामने थी. ऊपर से पानी गिर रहा था और नीचे मेरे बहन की चुत में मेरा लंड सटासट चल रहा था. वो बोली- मैं गर्ल हूँ न … तो मैं हुई न तेरी गर्लफ्रेंड?ये कह कर वो हंसने लगी, पर मैं नहीं हंसा.

ಇಂಡಿಯನ್ ಕನ್ನಡ ಸೆಕ್ಸ್ ವೀಡಿಯೋಸ್दो-तीन मिनट में ही चूत से कामरस बहने लगा।मैंने उसको अपना लंड पकड़ाया और चूसने को बोला. औरत की चुदाई की प्यास जागती है तो वह चुदने के लिए लाखों बहाने ढूंढती है.

भोजपुरी सेक्सी वीडियो भोजपुरी में

इधर मैं उसकी चूची पर अपने हाथ से रगड़ रहा था और उसे अपनी तरफ खींचकर चूम रहा था. थोड़ी देर बाद मैम को भी मजा आने लगा और वह आवाजें निकालने लगीं- आंह … हां राजा … हां और जोर से चूसो … मुझे चोद दो … अपनी जीभ से पूरा चाट लो मुझे. मेरी बड़ी बहन की चूत चुदाई की कहानी के पिछले भागमेरी आपा की औलाद की ख्वाहिश-2में अपने पढ़ा कि कैसे गलती से मैंने अपनी आपा की चुदाई कर डाली थी और मैं समझ रहा था कि मैंने अपनी बीवी की चुदाई की है.

निशा भाभी ने एक नॉटी स्माइल के साथ कहा- हां … और उठ भी नहीं रहा था. वो बोली- पागल हो गया है क्या? मैंने कभी तेरे मौसा को गांड नहीं दी तो तुझे कैसे दे दूं. मैं लंड हिलाते समय सोच रहा था कि क्या मुझे कभी उन्हें चोदने का मौका मिलेगा.

इधर मैंने दिन में ही मौक़ा निकाल कर अपनी बीवी की घमासान चुदाई करके उसे पूरा मजा देकर चोद दिया और अपना सारा माल अपनी बीवी की बच्चेदानी में भर कर रात की नींद को पूरा करने लगा. मोटा लंड लेने से उसे दर्द हो रहा था … लेकिन वो मुझे अहसास नहीं होने देना चाहती थी. मैंने चाची के घुटनों से उसकी टांगों को पकड़ लिया और तीन चार धक्के जोर जोर से चाची की चूत में लगाये और मेरा लंड एकदम से अकड़ने लगा.

वो कसमसाते हुए बोली- उई भाई … लग रही है … आह धीरे करो … यह मेरा फर्स्ट टाइम है. वहां वह नहीं दिखी, मैंने थोड़ी देर इधर उधर देखा, तो वह मुझे अपनी बहनों के बीच में दिख गई.

इससे गांड चिकनी हो गई थी और मॉम की गांड में लंड जाने के लिए तैयार था.

मैंने उसकी एक न सुनी और अगले ही थोड़ा सा लंड बाहर निकाल कर एक ही बार में पूरा लंड उसकी गांड में अन्दर डाल दिया. सेक्सी चाहिए सेक्सी ब्लू पिक्चरमम्मी पापा से तो कोई प्रॉब्लम नहीं थी क्योंकि वो तो सुबह निकल कर शाम को ही आते थे लेकिन रिया का कॉलेज बंद था. స్వాతి నాయుడు ఫుల్ సెక్స్आपको मेरी गांड मरवाने की चुदाई की कहानी कैसी लगी … प्लीज़ मुझे मेल करें. हवस के जोश में हिम्मत पता नहीं कहां से आयी कि मैं दरवाजा खोल कर भाभी के रूम में पहुंचा.

कुछ मिनट बाद उसको भी मज़ा आने लगा और वह अपनी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी.

इस पर वो मुस्करा दी और थैंक्यू बोल कर मुझे डाइनिंग टेबल के पास आने को बोल कर किचन में चली गयी. मैं- तो क्या हुआ, तू मेरे लिए इतना नहीं कर सकती … मैं तुझे खूब प्यार करूंगा. उसके बाद पिता जी ने मौसी को जमीन पर टांगें रखवा कर पलंग के सहारे से कुतिया जैसा बना दिया और पीछे से आकर मौसी की योनि में लिंग डाल कर कुत्ता कुतिया के जैसे कामक्रीड़ा करने लगे.

जब हम दोनों नीचे जा रहे थे, तब भाभी ने मुझसे कहा- मुझे अपने टीवी के डिश एंटीना को सैट करने के लिए एक मैकेनिक की जरूरत है. आखिर में वो अपने कामवासना और उत्तेजना के सामने हार गयी और मेरा साथ देने लगी. यह मेरी पहली कहानी है अगर इसमें कोई त्रुटि हो तो मैं क्षमा चाहता हूं.

सेक्सी व सेक्सी

मैं- कहीं क्यों जाना है, यहीं चेंज कर लो न!निशा भाभी- नहीं, बाथरूम में कर लूंगी. फिर क्लास में तुझे गुमसुम देखकर यक़ीन भी हो गया कि तू ही था और अभी भी तू उन्हीं के बारे सोच रहा था. उसकी टांगों को अपने कंधे पर रख लिया और उसकी चूत में फिर से लंड दे दिया.

मेरी बहन का नाम रुहाना है और वो अपनी स्कूल की तालीम पूरी कर चुकी है.

मैंने अपना हाथ उनकी पीठ पर लिया और उनकी ब्रा का हुक खोल दिया और उनके मम्में मेरे सामने खुल गए.

फिर एक दिन जब हमारे फिजिक्स सर का ट्रांसफर हो गया, तब हमारे कॉलेज में एक मैम पढ़ाने आईं. मेरे ससुराल में मेरी सास नीरु जिनकी उमर 42 साल है, ससुर जी जिनकी उम्र 47 साल, एक साला जिसकी उमर 21 साल है और मेरी इकलौती साली सीमा जो 19 साल की माल है।मेरे घर में मैं और मेरी पत्नी शहर में रहते हैं और मेरे मम्मी पापा गाँव में रहते हैं।कहानी मेरी और मेरी प्यारी सास की है जो भरे बदन 36 32 38 की मालकिन हैं। पिछले चार साल से उनकी चूत में कोई लंड नहीं गया. हिंदी सेक्सी वीडियो बीपी हिंदीफिर उसने अपने हाथ से पकड़ कर मेरे लंड को खुद ही अपनी चूत के छेद में रख दिया.

हमारी चुदाई चालू थी और मैं आगे बढ़ाकर भाभी लटकते मम्मों को भी दबा देता, उसकी वजह से भाभी को और जोश आ जाता. वो रविवार का दिन था। मेरी बीवी को ऑफिस के काम के लिए मुम्बई से दिल्ली जाना था तो वो सुबह ही चली गयी थी. चलो मैं मन ही मन खुश होने लगी कि पापा भी मिल लेंगे अमित जी से।फिर मैंने सोचा कि मैं भी बैंक चली जाती हूँ.

फिर मैंने भी उसकी पैंटी को उतार दिया और उसकी नंगी चूत को हाथ से रगड़ दिया. फिर मैंने उसे चुदाई की पोजीशन में लिया और उसकी चूत की फांकों में घिसना शुरू कर दिया.

आज मैं आप सबके साथ अपने जीवन के वो पल साझा करने जा रहा हूँ, जो शायद मेरी उम्र के लड़के अक्सर उसी बात के बारे में सोचते रहते होंगे या उसका सपना देखते होंगे.

फिर उसने मुझे सीट पर लिटा दिया और मेरी टांगें फैला कर अपना लण्ड मेरी चूत में डाल दिया. चाचा जी ने कहा- मुझे मालूम है तुमको भी मुझसे चुदने में मज़ा आया है. तो मैं रुक गई।मैं अपनी ननद के साथ लेटती थी व ननदोई अलग लेटते थे।एक दिन रात में मेरी नींद खुली तो देखा कि दीदी मेरे साथ नहीं थी और ननदोई की चारपाई से कुछ आवाज आ रही थी।मैं चुपचाप आँखें बन्द करके लेटी रही.

देहाती सेक्सी वीडियो खेत वाली फिर मैंने उसको सीट पर लिटा दिया और उसकी जींस और पेंटी को उतार कर साइड में रख दिया. मैंने उसे कुछ इस तरह से उठाया कि लंड चुत में ही रहा और वो मेरी गोद में आ गई.

उसने मेरे हाथ से उस पैकेट को लेकर एक तरफ रख दिया और बड़े ही नशीले अंदाज़ में मुझे देखा. श्रुति का एक बड़ा भाई था जिसकी शादी हो चुकी थी और वो अपनी बीवी के साथ शहर में रहता था. उसकी आंखों से आंसू निकल रहे थे और मैंने देखा तो उसकी चूत से भी खून निकल रहा था.

इंडियन सेक्सी वीडियो सहित

अगर चूत गीली हुई तो वो नाटक रही है और नींद का बहाना करके मजा ले रही है. फिर जब ये सुनिश्चित हो गया कि शिल्पी गहरी नींद में है तो नीता धीरे से उठकर मेरे पास आ गयी. फिर आगे एक वाइन शॉप से उन्होंने मुझसे बीयर की दो बोतलें भी ले आना का कहा.

मुझे अच्छा लग रहा है।मैंने मौसी के चेहरे को देखा तो वो मुस्करा रही थी. भाभी की चुत ने पानी निकाल दिया और उनकी चुत की मलाई की चिकनाई की वजह से मेरा लंड चुत में फिसलने लगा.

हम दोनों आ गए और किराए पर रहने लगे।मैं घर की जरूरत का सामान ले आया और रुबीना बाजी को बोला- बाजी आज से मैं आपका शौहर हूं, कोई पूछे तो ये ही बताना.

मैंने कहा- हां मेरी जान, ये बताओ जी कि सुहागदिन की चुदाई के लिए मेरी जानेमन तैयार है?ज्योति ने मुझको कसके अपनी बांहों में भरते हुए कहा- हाँ मेरी जान, मैं तैयार हूँ।उसके बाद मैं उसको गोद में उठाकर बेडरूम में लेकर आया और बिस्तर पर बैठा दिया।मैंने उसके घूंघट को उठाया और कहा- ज्योति, तुम सच में बहुत ही खूबसूरत हो। आज तुम एक अप्सरा लग रही हो. इसके बाद अंकल ने दीदी के नंगे जिस्म पर वे सारे गंदे ताश के पत्ते जमा दिए जिससे उनका नंगा जिस्म काफी कुछ ढक गया. आप क्यों टेंशन लेती हो … जाओ आप … मम्मी भी मेले से कभी भी आ सकती है.

वो घड़ी आई और शाम को सब सोने लगे और हमारा बिस्तर पास पास ही लगा था।रात को मैं अपनी बहन से चिपक कर सोया था. फिर मेरा लंड बहुत ज्यादा टाइट हो गया और मैंने धीरे धीरे मुठ मारने का सोचा. आइला के मम्मों को देखकर किसी का भी लंड खड़ा हो जाएगा, ऐसा मेरा दावा है.

इसी दौरान भाभी का भी सिर्फ एक ही बार पानी निकला था, जिसकी वजह से चुत और लंड के बीच की चिकनाई खत्म हो चुकी थी.

बीएफ इंडियन सेक्सी वीडियो: उन्होंने मेरे लंड को चड्ढी के ऊपर से पकड़ लिया और लंड मसलते हुए बोलीं- कितने महीनों से लंड का स्वाद नहीं चखा है. मैं तेजी से उठा और उसको अपनी बांहों में जकड़ कर उसकी चूची पर दाँत काट लिया.

पेटीकोट उतना नीचे तो नहीं था कि मौसी के चूतड़ ही दिखने लगें लेकिन जहां से मौसी की गांड की दरार शुरू होती थी वहां तक का भाग जरूर दिख रहा था. मैंने बाइक को उनके घर से थोड़ा दूर खड़ी कर दी और उनके घर पर ऊपर वाले कमरे में चला गया. कभी मैं उनके पेट को टच करता, तो कभी ब्रेक लगा कर पीठ पर किस कर देता.

इसके बाद मैंने शोभा भाभी से कहा- भाभी, आप जब तक अपनी गांड में तेल लगा कर ढीली करो … मैं तब तक सुमन भाभी की गांड बजाता हूँ.

मेरे मोटे लंड पर हाथ रखते ही उसके मुँह से मादक आवाज़ निकल गई- हाय अम्मी … इतना बड़ा लौड़ा है … मेरी तो चुत ही फट जाएगी याल्ला मुझको भाईजान के कटे हुए लंड से बचा लो. इस पर मैं कुछ सोचने लगा, तो उमेश सर बोले- चिंता मत करो, मैं इन फोटो को किसी को भेजूंगा नहीं … ना ही तुमको कोई दिक्कत होगी. तो उन्होंने कहा कि चलो आज मैं रहने देती हूँ … अब हम कल फिर से आएंगे ही, तब मैं सीख लूंगी.