बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ

छवि स्रोत,मराठी ट्रिपल एक्स सेक्स व्हिडिओ

तस्वीर का शीर्षक ,

रोज सेक्स: बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ, उसने कस्टमर हेल्प लाइन वाले नम्बर पर ही फोन किया था।फोन पर उसने मुझे अपनी प्रॉब्लम बता दी.

गुजराती एक्स एक्स बीपी

इस बार मैंने उसे अपनी गोद में बिठा लिया और लंड पेल कर जोर जोर से झटके देने लगा. हिंदी एम एम एस वीडियोइतने दिनों से मुझे भाभी के घर जाने में डर नहीं लगता था … लेकिन अब उनके घर में घुसने से डर लगने लगा था.

मैं वॉशरूम में गया और चेंज करके कमरे में आकर आराम से बेड पर लेटा हुआ था. चोदा चोदी वाला सेक्स वीडियोफिर बोली- तुम अपने बालों को साफ नहीं करते हो क्या? कितने ज्यादा घने हो गये हैं.

उसे मैंने अपनी बहन को दिखाया- देखो, बस ऐसे ही तुम्हारी बुर में भी होता है.बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ: आह क्या मस्त अहसास था वो … निशा ने मेरे लंड को किस किया और अपने मुँह में ले लिया.

मैंने अपनी एक उंगली से आईसक्रीम निकाल कर उसकी चूत पर रखी, तो कल्पना के मुँह से जोर ‘आह … हह.मेरे मन में तो यह सब बातें सोच कर ही सिरहन होने लगी थी, चूत से पानी टपकने लगा था … मैं कांपने सी लगी थी.

एचडी हिंदी - बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ

मैंने उसे पटाते हुए ब्रा ऊपर करने का बोला कि अच्छा खोलो मत … ऊपर कर लो.वह धीरे- धीरे जीभ से कभी उसके दाएं निप्पल को छेड़ता, फिर उसके इर्द गिर्द सर्किल बनाता, कभी होंठों में दबा कर हल्के दबाव के साथ चुमला देता.

तुम्हारे आने से मेरा तो अच्छा टाइम कट जाता है, आते रहा करो। तुम्हें कहाँ चाय बनाना आता होगा।”भाभी, बिना पिये ही बोल दिया? चलो आज ऊपर ही चलो, फिर बताता हूँ कि मुझे क्या क्या बनाना आता है। शायद आपको मालूम ही नहीं कि मैं अपने लिए खाना घर पर ही बनाता हूँ।”अच्छा ये बात है? तो चलो मैं आती हूं. बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ मैंने बोला- मामी आपको पसंद है?मामी ने लंड सहलाते हुए कहा- हां बहुत प्यारा लंड है तुम्हारा.

मैंने निधि की नाभि की चारों तरफ जब अपनी जीभ घुमाई तो उस पर फिर से चुदाई का सुरूर चढ़ने लगा।उसके पेट और कमर को चूमते हुए मैं निधि की चूचियों के पास आ गया, निधि की चूचियों के निप्पल एकदम तन गए थे, मैंने अपने दोनों हाथों की उंगलियों में उसके दोनों निप्पल को फंसाकर मसलने लगा.

बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ?

मैंने इससे पहले आंटियों की चुदाई और कई औरतों की चुदाई भी की हुई थी लेकिन अम्मी के बारे में कभी इस तरह से नहीं सोचा था. वैसे पापा ने तुम्हें कुछ नहीं कहा?बहू बोली- नहीं, उन्होंने मुझे कुछ नहीं कहा. उसने अपनी साड़ी पेटीकोट उतार दी और अपनी पेंटी उतार कर मेरे मुँह में ठूंस दी.

यह कहानी मेरी खुद की है, जिसमें मेरी सगी बहन नन्दिनी, चचेरी बहन ज्योति और मेरी भांजी कविता शामिल हैं. जैसा कि मैंने बताया कि मैंने अभी तक सेक्स नहीं किया है इसलिए मैं वर्जिन हूं. मैंने फिर से गर्म करने के लिए उसके होंठों और मम्मों पर किस करना स्टार्ट किया, जिससे वो मुझे अपने ऊपर खींचने लगी.

उसके बाद चिन्ना द्वारा ली गई हर परीक्षा को अव्वल नंबरों से पास किया और खुद भी एक पारंगत सेक्स गुरु बन गई, जो अब किसी भी जवान होते लड़के को कोई भी पाठ अच्छे से पढ़ा और समझा सकती थी।[emailprotected]. तो उन्होंने बहुत ही प्यार और नजाकत से कहा- आज मैं तुम्हारे जिस्म के एक-एक अंग और हिस्से का मुआयना कर रहा हूँ. काफी देर मेरे पिछवाड़े से खेलने के बाद उसने मुझे सीधा किया, मेरे दोनों पैरों को हवा में ऊंचा करते हुए मेरे ही हाथ में थमा दिया और कहा- इन्हें ऐसी ही चौड़ा करके पकड़ो.

पर देखने में मामी सिर्फ 35 साल की लगती हैं और वे एकदम टनाटन मस्त माल हैं. काफी लम्बे अन्तराल के बाद पिछले हफ्ते मैं ससुराल गया तो हनी को देखकर मेरे मुंह में पानी आ गया.

मैं मम्मी के कमरे में पहुंचा तो मम्मी पेटीकोट, ब्लाउज पहने हुए ड्रेसिंग टेबल के सामने अपने बाल संवार रही थीं.

अगले दिन मामाजी की ऑफिस की छुट्टी थी तो मैं उनके साथ घूमने के लिए चला गया.

मेरे होंठ पूरे गीले हो गये उनकी चूत के रस से … और मेरी लार भी उनकी चूत को गीला करने लगी. वे मुझे बहुत हाथों हाथ रखते हैं इसलिए मैं उसे छोड़ने का सोच भी नहीं सकती थी. थोड़ी देर में सारिका ने अपनी टांगें फैला दीं तो मैंने अपनी उंगली सारिका की चूत के आसपास चलाना शुरू कर दिया.

घुटनों तक उठे गाऊन से बाहर दिखतीं मम्मी की गोरी गोरी टांगें देखकर उनकी जांघों और चूत के बारे में सोचते सोचते मेरा लण्ड टनटना गया. मैंने कहा- आह्ह … कोमल एक बार करने दे बस… बहुत दिन हो गये हैं यार… जब से तेरी भाभी गयी है तब से ही मैं सेक्स के लिए तरस गया हूं. पांच मिनट बाद हम दोनों साथ में झड़ गए और एक दूसरे को जोर से अपनी बांहों में भर लिया.

उसको लिटा कर मैंने बहन की चूत पर अपनी जुबान का जादू चलाना शुरू कर दिया.

जैसे ही अम्मी के ये लफ्ज़ मेरे कानों में पड़े तो मैं वहीं पर रुक गया. मैं रात भर यही सोचता रहा कि वो काम वाली दिखने में न जाने कैसी होगी. तनु मेरे बालों को सहलाती हुई बोली- मैं जानती हूं कि तुम्हारे पास चूत की कोई कमी नहीं है लेकिन मेरी चूत को दिन में एक बार जरूर चोद देना.

तभी मैंने रानी को कुतिया बना दिया और उसकी चूत में लंड डालके पीछे से उसके बाल पकड़के उसे चोदने लगा. अब करोना जानबूझकर चिन्ना के होंठों और अपनी चूचियों की दूरी घटाने लगी. परन्तु चिन्ना ने फिर चाल खेली, वह चूत पर लण्ड के सुपारे के चार-पांच घस्से मार कर उसे पीछे हटा लेता था.

मैंने कहा- भाभी एक बार और कुछ पिला सकती हो?उसने कहा- क्या … मेरा मूत पीना चाहता है.

मैंने उसको फेसबुक पर मैसेज करने की सोची लेकिन उसका फेसबुक अकाउंट भी बंद हो गया था. उन्हें देख कर मैं बोली- जी मैं अंजलि … कुकिंग के लिए!वो मुझे तीखी नजरों से देखते हुए बोले- हां हां … आओ अन्दर आ जाओ.

बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ पर वो ये कहते हुए ‘बाद में आऊंगी’ तेज़ी से सीढ़ियाँ उतरने लगी।मैंने उस लड़की से बहाना बना कर कहा- देखो किताब लेने आई थी पर भूल गयी. मेरी बहन रिचा की हाइट पांच फ़ीट पांच इंच है, रंग साफ बल्कि एकदम गोरा है.

बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ वो कभी मेरे स्तनों को मसलता, कभी मेरे चूतड़ों पर हाथ फिराता कभी निप्पल उमेठता. मैंने भी सोचा हुआ था कि अगर आज किला फतेह नहीं हुआ, तो आगे से दरवाज़ा तक छूने को नहीं मिलेगा.

फिर पता नहीं मामी के मन में क्या आया कि वो पूछ बैठी- तुमने अभी तक कोई गर्लफ्रेंड बनाई है या नहीं?मैंने कहा- नहीं मामी, मेरी तो कोई गर्लफ्रेंड नहीं है.

क्सक्सक्स इंडियन गर्ल्स

भाभी की सहेली ने मुझसे कहा- तो तुम अपनी चीज का कमाल दिखाओ?मैंने कहा- आप 10 मिनट और रुको, भाभी को आने दो. फिर उसने एक प्यारी मुस्कान दे कर कहा- आर्यन मैं तुम्हें फ़ोर्स नहीं करूंगी, पर तुम एक बार मेरी उस फ्रेंड साक्षी के बारे में सोच कर बताना. सुबह जल्दी उठ कर नहाने गया और फटाफट तैयार हो कर नाश्ता किया और कल्पना के बताए एड्रेस पर पहुंच गया.

थोड़ी सी नानुकुर के बाद मैंने हाँ कर दी और कमल से बात करके आठ दिन का पूरा प्रोग्राम तय कर लिया. जिस पर एक पेंडल था जिस पर अंग्रेजी का M बना हुआ था जो सिम्मी के स्तनों के बीच लटका हुआ था।मैं अंदर ही अंदर सोच रहा था इस पगली ने मुझे अपना तन मन सब कुछ सौंप दिया है।अब मेरे सामने दो टेनिस की गेंदें थी जिनका रंग दूध के समान एकदम सफेद था. नसरीन मन ही मन अपने बड़े भाई (अब पति) के 9 इंच लंबे लंड से चुदने के लिए अपने आपको तैयार कर चुकी थी.

थोड़ी देर चोदने के बाद मैंने रानी को कुतिया बना दिया और उसकी गांड पर एक थप्पड़ मारा.

उसने देर न करते हुए अपने लंड का सुपारा मेरी चूत पर सेट किया और ज़ोर से धक्का मारा. हालांकि वो देखने में मेरे से ज्यादा भारी भरकम थी मगर आप तो जानते ही हो कि जब चूत मिलने वाली हो तो लौंडों में ये ताकत तो अपने आप ही आ जाती है. वो बोली- अरे, ये क्या कर रहे हो आप? हाथ छोड़िये मेरा, कोई देख लेगा!!नेहा अपना नर्म और पतला सा हाथ छुड़ाने की कोशिश करने लगी.

अब हमारे फ्लोर पर सिर्फ मैं अपने रूम में और वह अपने रूम में दो ही बचे थे. उस दिन 14 फरवरी को सुबह 7 बजे ही सैम का मैसेज आया- दस बजे तैयार रहना. मैंने देखा कि मेरा सेक्सी शरीर देखकर पापा का लंड उफान मार रहा था और मेरी भी चुत से पानी टपक रहा था.

मैं चुदाई से इतना अधिक थक गया था कि मेरे में उठने तक की ताकत नहीं बची थी. कविता ने खुश होते हुए कहा- मम्मी आप मेरी चिंता मत करना, मामा घर पर हैं, आप आराम से कल आ जाना.

जब चाची ने देखा कि मेरा लंड सो रहा है तो उन्होंने मेरे लंड को पहले से हाथ से सहलाया और फिर मुंह में लेकर उसको चूसने लगी. भाभी बोली- तुम्हें जितना गंदा सेक्स पसंद है, उससे कहीं ज्यादा एक मेरी फ्रेंड है … उसे पसंद है … तो उसे भी बुला लूं?मैंने कहा- ठीक है कोई बात नहीं … उसकी उम्र क्या है?उसने कहा- कोई 48 साल की है. मैने अपनी चूचों पर क्रीम से मालिश की और अपनी चूत के बाल साफ किये क्योंकि मुझे पता था पवन मुझे चोदना चाहता है.

मुझे वह होंठ मिलने वाले थे चूसने के लिए।फिर भाभी ने हमारे लिए ड्रिंक बनाए अपने लिए भी और मेरे लिए भी!हमने दो दो पैग लगाए.

उसके मुंह को चोदने में जो मजा मिल रहा था उससे सुखद अहसास उस वक्त कोई भी नहीं था. कुछ देर तक चोदने के बाद उसने अपना सारा माल मेरी चूत में ही छोड़ दिया और जाने लगा. काफी देर तक की चुसम चुसाई के बाद रूबी झड़ गई और मेरा भी वीर्यपात हो गया.

भाभी बोली- मुझे ऐसे ही लड़के पसंद हैं जो मेरे पूरे बदन को चाट कर रख दें. अगले हफ्ते दीदी घर जा रही है तभी हम मिल सकते हैं।”एक हफ्ते तक जब भी मौका मिलता मैं उसे गर्म करता रहा.

मैं चुत से मुँह हटाना चाहता था, लेकिन निशु ने अपने टांगों से मेरे सर को पकड़ लिया और हाथों से चुत पर दबा दिया. बाद में मैंने उससे लंड चूसने के लिए बोला, तो इस बार वो रंडी की राजी हो गई थी. दीदी की ब्रा बीच में आ रही थी, इसलिए अब दीदी को मैं नंगी करना चाह रहा था.

देसी लड़की सेक्स वीडियो

लेकिन मामी का परिवार बहुत बड़ा है, तो मामी के घर में ऐसा कोई चांस नहीं मिल पाता है.

मुझे तुम्हारे दोस्त पंकज ने पहले से ही सब बताया था कि तुमने अब तक कुछ भी नहीं किया है. वो बोली- क्या हुआ, कुछ काम था क्या?मैं बोला- मेरी कमर में भी दर्द था, मैंने सोचा कि मैं परवीन से मालिश करवा लेता अपनी कमर की. वो कहती हैं कि उन्हें मेरे लंड के बिना कुछ अच्छा नहीं लगता और वे चाहती हैं मैं उन्हें हमेशा चोदता रहूं।आपको मेरी मैम की सेक्स कहानी पसंद आई या नहीं? अपनी राय मुझे इस मेल आईडी पर दें.

वो बार बार मुझे मेरा लंड उसकी चूत में डालने के लिए बोल रही थी, पर मैंने उसकी एक ना सुनी. मैंने अपना काम खत्म करके शाम को 5 बजे उसे कॉल किया, तो वो भी बस अपने ऑफिस से निकलने ही वाली थी. एक्स एक्स एक्स एंटीमैंने अन्तर्वासना पर मां-बेटे की चुदाई की कहानियों को कई बार पढ़ा था.

मुझे उसके मुँह में अपने लंड के जाने से मजा आने लगा और मैं अपनी शर्ट ऊपर उठा कर उससे लंड चुसवाने का मजा लेने लगा. मैंने कहा- क्या बात है बहू की मुझे भी तो बता?तो वो बोली- कल बताऊँगी.

उसकी टांगें उत्तेजना की अधिकता में और मस्त चुदाई से हवा में उठी हुई थीं. जिस तरह से पहली ही चैट में उसने आई लव यू बोल दिया था तो फिर शंका का स्थान तो कहीं था ही नहीं. मैंने उससे बोला- ओके, मैं बाहर रूम में सो जाता हूँ, तुम बच्चों के पास सो जाओ.

वो देखने में कोई खास सुन्दर नहीं है, पर उसकी चूचियां और गांड काफी मोटी हैं. मेरी नजर उसी पर रहती थी लेकिन मैं बाकी लोगों को मैं पता नहीं चलने देता था कि मैं उसको ताड़ रहा हूं. उनकी नंगी कमर को पकड़ कर उनके चूचे मुंह में लेकर मैं नीचे से धक्के लगा रहा था और भाभी ऊपर से भाभी हो या हो या करती हुई बहुत मजे ले रही थी.

ससुर की पेंशन से घर चल जाता था लेकिन अब महंगाई धीमे-धीमे बढ़ रही थी.

पापा बोले- तुम लुंगड़ी को साइड में करके करवट ले लो, तेल लगाने में आसानी होगी. मेरी पिछली कहानीबीवी की मदमस्त सहेली की गर्म चूतमें आप सभी ने पढ़ा कि कैसे मैंने अपनी बीवी की मदमस्त सहेली हरप्रीत को चोदा था.

उसके मुंह में तो उसके पति का लंड था लेकिन उसकी चूत को छेड़ने की वजह से उसकी सिसकारी बाहर नहीं आ रही थी. मेरे सामने वही वेटर खड़ा था, जो अपने मोबाइल से मेरी वीडियो रेकॉर्डिंग कर रहा था. वो हंस कर बोली- भाई ये आज खत्म नहीं होंगे, अब तो आपको लाइसेंस मिल ही गया है.

अब समय था रचना की चूत में अपना लौड़ा पेलने का! मैं रचना के दोनों जांघों के बीच में आ गया और अपने दोनों हाथों से रचना की कमर पकड़कर उसकी गांड उठा दी. उसकी चूत को देख कर ऐसा लग रहा था जैसे वो खुद ही मेरे लंड के द्वारा चुदने का इशारा दे रही हो. कुछ देर तक कान के छेद मैं जीभ फिरने के बाद बोला- बेटी ये क्या हैं?करोना ने शर्म के मारे कोई जवाब नहीं दिया.

बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ पहली चूची पर मेरे मुंह की लार लगी हुई थी इसलिए पहली चूची का निप्पल एकदम से चिकना हो गया था. हनी धीरे धीरे मेरा लण्ड चूसने लगी तो मैंने उसकी चूचियां सहलाना शुरू कर दिया.

ऑंटी कि चुदाई

इतना सब होने के बाद भी हम दोनों में कोई बात नहीं हो रही थी, सिर्फ चुदाई की आवाजें ही कमरे में आ रही थी. वो बस तड़प रही थी, कभी मजे में और कभी दर्द में।उसके बाद नीचे की ओर जाते हुए मैंने उसकी नंगी कमर को सहलाया. लेकिन बस मैं उसे बहुत पसंद करने लगा था!पता नहीं कब हम वक़्त के साथ एक दूसरे के करीब आते गए.

कई बार मार्केट में कृत्रिम उत्पाद भी प्राकृतिक का टैग लगा कर बेच दिये जाते हैं. इस बार मेरा लंड एकदम अन्दर चला गया और कल्पना के मुँह सिसकारी निकल गयी. સેક્સ વીડીયો એચડીअगले दिन सुबह मेरा कॉलेज था और कॉलेज की ड्रेस नीला शर्ट और सफ़ेद सलवार पहन कर सिटी की लोकल बस पकड़ कर कॉलेज पहुँच गयी.

अब आगे आयुषी और रिचा की चुत में लंड पेलने की कहानी आपके मेल मिलने के बाद लिखूंगा.

थोड़ा होश आने पर बोली- भैया आप क्या कर रहे हैं?मैंने बोला- तुम्हारी प्यारी बुर को भी तो प्यार चाहिए न. इस सेक्स कहानी को आगे बढ़ाने से पहले मैं आपको अपनी फैंटसी बता देना चाहता हूँ.

आज मेरा सब कुछ कर जाने का इरादा था, तो मैंने कहा- बेटू आज हम दोनों अपने पूरे कपड़े उतार कर सोते हैं … मजा आएगा. रवि ने एक कम्बल निकाला और हमने उसे फैला कर कमर तक रख लिया और बीच में पत्ते फेंकने लगे. धीरे धीरे धक्के लगाते हुए मैंने ट्रिक से उसकी चूत में पूरा लंड उतार दिया और उसको दस मिनट तक चोदा.

तभी बहू बोली- वैसे रानी सारा काम कर गयी?मैंने कहा- हाँ वो तो आधे घंटे पहले ही चली गयी थी.

फिर मैंने अपना थोड़ा भार अपनी बहन पर डालते हुए अपने लंड को उसके चुत में पेल दिया. उधर से मैं लिक्विड चॉकलेट की बॉटल उठा लाया और उसके पूरे बदन पर गिरा कर उसको चॉकलेट से मसाज करने लगा. कोमल भी मेरी तरफ देख कर रंडी के जैसे मुस्कुराने लगी।मैंने वो प्लास्टिक जो नीचे बिछाई थी, उसको हटा दिया और उसकी बुर को बराबर साफ कर दिया।कोमल बोली- चाचू जान बहुत मजा आया।मैंने कहा- अब ऐसा मजा तुझे मैं रोज चोद कर दूँगा।मैं थोड़ी देर मैं फिर से अपने दोस्त की बेटी की चूत चुदाई के लिए तैयार हो गया.

सेक्स वीडियो ब्लू पिक्चर फिल्मफिर उसने लंड मुँह से निकाला और पीछे आकर बहुत सारा थूक मेरी गांड के छेद पर थूक दिया. रात करीब ग्यारह बजे मुझसे रहा नहीं गया और मैं पजामे के ऊपर से अपने लंड को दबाते हुए उसके कमरे की तरफ चला गया.

ஆந்திரா செக்ஸ் வீடியோஸ்

लगभग 10 मिनट की चुदाई के बाद उसने पानी छोड़ दिया और वो मुझे गले से लगा कर शांत होकर लेट गई. उनके प्यार और अपनेपन से कहीं इस बात से मैं आगे कुछ और नहीं कह पायी. शिल्पा- मतलब?मैं- जैसे तुम्हें अभी रिलैक्स लगा है, वैसे ही तुम मुझे रिलैक्स करवाओगी और फिर दोनों साथ में रिलैक्स करेंगे उसके बाद.

मुझे हमेशा से ही बड़ी चूचियों को देखने और उनको हाथ से छूने की बहुत तमन्ना रहती थी. मैंने उसी क्षण अपने होंठों को उसके होंठों पर रख दिया और ये हमारा पहला चुम्बन था. भाभी बोली- मुझे ऐसे ही लड़के पसंद हैं जो मेरे पूरे बदन को चाट कर रख दें.

अब मैंने उसके पेट को बिना किसी के डर के दबाते हुए उसका सूट ऊपर कर दिया. दूसरा अगर मैं कहूंगा तो तुम चुदवाने से मना नहीं करोगी और तीसरा अगर तुम्हारी चुदवाने की इच्छा होगी तो बेझिझक चली आओगी. उनको भी चुदने का मन करता है और वो बाहर वाले से ज्यादा किसी घर वाले से चुदना सुरक्षित समझती हैं.

मैंने देखा कि उनकी गांड से खून की हल्की सी धार निकलने लगी थी … लेकिन मेरा लंड तो खड़ा था. फिर मैंने आकांक्षा को बेड पर लेटाया और आकांक्षा के पैर उठा कर अपने कंधे पर रख लिए.

जैसे ही स्टेशन आया टी टी ने दरवाजा खोल कर मुझे उतार दिया और हाथ हिला कर मुझसे विदा ली.

वैसे पापा ने तुम्हें कुछ नहीं कहा?बहू बोली- नहीं, उन्होंने मुझे कुछ नहीं कहा. एक्स एक्स मूव्हीहमारी फैमिली नॉर्मल ही है लेकिन नॉर्मल फैमिली में कई बार एबनॉर्मल बातें भी हो जाती हैं. বৌদির বিএফमैंने उसके उसके ड्रेस के पीछे की चैन खोल दी और उसका ड्रेस उसके जिस्म से अलग कर दिया. वो गुस्से से मुझे ऐसे देखने लगी जैसे मैंने उससे उसका खिलौना छीन लिया हो.

वे भी अपना लंड अपने हाथ में पकड़ कर मेरे मुंह में डालने लगे। थूक का लार मेरे होंठ और उनके लंड से चिपका पड़ा था।फिर उन्होंने मुझे बिस्तर पर सीधा लेटा दिया और मेरी जांघें फैला दी.

मैंने कहा- तुम यहां रोज आती हो क्या?वो बोली- हां, तो फिर रोज ही इस तरह बकरा और बकरी के मजे लेती हो देख कर?ये सुन कर उसका चेहरा शर्म से लाल हो गया और मेरा लंड मेरी पैंट में एकदम से सख्त हो गया. अब आगे:मैं उसके गले को किस करने लगा, उसके दोनों चुचों को ब्लाउज के ऊपर पकड़ कर जोर से दबाने लगा. दोस्तो, मैंने भाभी की चुत चूसना शुरू कर दिया और काफी देर तक चुत चूसता रहा.

मैं- अरे नसरीन तूने जो पैसे उधार लिए थे, वो अब दे दे … कब तक देगी?नसरीन- दीदी आप जानती हो, मैं अभी नहीं कर पाऊंगी … आपने मेरी इतनी हेल्प की है … मैं आपकी कर्जदार हूँ. आंटी ने मेरी तरफ देखा तो बॉक्सर के अन्दर से मेरे तने हुए लण्ड पर उनकी नजर पड़ गई. मैंने देखा कि उनकी गांड से खून की हल्की सी धार निकलने लगी थी … लेकिन मेरा लंड तो खड़ा था.

क्सक्सक्स विडीओ

फिर मैंने एक करवट ली, जिससे चादर मेरे लंड से हट गयी और मेरा लंड दिखने लगा. बहू बोली- डैडी जी, आप हफ्ते में एक बार तो आ सकते हैं ना मेरे लिए?मैंने कहा- बहू, अगर मैं हर हफ्ते आऊंगा तो बेटे को शक हो जायेगा कि पापा हर हफ्ते क्यों आते हैं. मैंने निधि की नाभि की चारों तरफ जब अपनी जीभ घुमाई तो उस पर फिर से चुदाई का सुरूर चढ़ने लगा।उसके पेट और कमर को चूमते हुए मैं निधि की चूचियों के पास आ गया, निधि की चूचियों के निप्पल एकदम तन गए थे, मैंने अपने दोनों हाथों की उंगलियों में उसके दोनों निप्पल को फंसाकर मसलने लगा.

पहले दिन जब मैं दोपहर को बुआ के घर पहुंची तो बुआ ने मेरा सारा सामान कमरे में रखवा दिया.

ठीक इसी तरह का दिल उसकी दोनों चूचियों के निप्पल को बीच में लेकर बना था, उसमें भी हम दोनों का नाम था।मैंने निधि से कहा- लग रहा है सुहागरात की तैयारी काफी पहले से चल रही थी.

कुछ मिनट तक आराम से बहन को चोदा, फिर मैंने एकदम अपनी रफ्तार ज्यादा कर दी. करीब 15 मिनट तक चली इस चुदाई में हम दोनों थक गए और पसीना पसीना हो गए थे. एक्सएक्सएक्स देहातीमैं चादर के अन्दर से मामी को देख रहा था कि मामी की सांसें तेज़ हो रही थीं.

पर जब बाकि लोगो से पूछा तो एक ने भी हाँ नहीं की क्योंकि सबको ही पढ़ना था. मौसी अभी भी मेरे सामने कपड़े चेंज करती हैं लेकिन अब वो पूरी नंगी होकर नहीं करतीं. जब मेरा ध्यान इस बात पर गया तो मैंने पाया कि दीदी मेरी ओर झुक गयी थीं.

करीब पांच मिनट बाद करोना- अंकल आप मेरी चूत का बैंड कब तक बजाओगे?चिन्ना- आअह बस हो गया मेरी प्यारी बेटीईईईई!करोना की चूत में चिन्ना का लण्ड थोक में झड़ने लगता है और करोना उसकी पिचकारियों को महसूस करती है. वो भी बाथरूम से निकल कर मुझसे कुछ भी नहीं पूछती थीं, तो मैं भी खुश रहता था और दिन भर उन्हें ताड़ता रहता था.

इसलिए सूझ बूझ का प्रयोग करते हुए सही का चुनाव करें क्योंकि आप इसको अपने शरीर के सबसे संवेदनशील अंगों पर प्रयोग करने वाली हैं.

रीना के चेहरे पर मुझे कहीं भी किसी प्रकार की ग्लानि या शर्म नहीं दिख रही थी. मैंने उसको शांत किया और आराम से पूछा- श्वेता, बस मुझे इतना बता दो कि ये सब कब से शुरू हुआ है और कैसे शुरू हुआ?दोस्तो, मेरी बहन का साइज बहुत ही मस्त है. उसे भी इस चीज का अहसास हो गया था कि मैं उसके लिए काफी गंभीर हूँ!अब हम लोग एक दूजे के होने के लिये बेसबरी से तरस रहे थे.

सेक्सी ब्लू हिंदी सेक्सी ब्लू पिछले 4 महीनों से प्यासी हूँ।मैंने भी पिछले दो महीनों से कुछ नहीं किया था तो बरदाश्त करना अब मेरे भी बस में नहीं था. करोना की आँखों में हवस के लाल डोरे तैर रहे थे।परन्तु अनुभवी लंडैत चिन्ना इस खेल तो इसी प्रकार धीरे धीरे आगे बढ़ा कर करोना को बिल्कुल ऐसी हालत में ले जाना चाहता था जहाँ पढ़ी लिखी ऊँचे घराने की नाजुक सी करोना हाथ जोड़कर अनपढ़ अपराधी प्रवृति के शातिर औरतखोर चिन्ना से अपनी कुंवारी नाजुक चूत का उद्घाटन उसके बमपिलाट काले लौड़े करवाने के लिए मिन्नतें करने लगे.

मेरा लंड ज्यादा देर उसकी गांड की गरमी सहन नहीं कर पाया और 15 मिनट की गांड चुदाई के बाद मेरे लंड ने पांच-छह पिचकारियों से गर्म वीर्य उसकी गांड के छेद में भर दिया. फिर मैंने उसको डांस के लिए इन्वाइट किया तो शुरू में उसने मना कर दिया … पर मेरे बार बार बोलने पर वो मेरे साथ डांस करने के लिए राज़ी हो गई. मई माह में 12वीं के रिजल्ट आने के बाद मैं बुआ के घर आ गयी और वह एक कॉलेज ज्वाइन कर लिया.

ব্লু পিকচার ভিডিও মে

वो भी ‘आह आह उइ मम्मी आ … अअ अ … मर गयी रे … और जोर से चाट आह … और जोर से. उसकी चुत इतनी गर्म हो रही थी कि बस किसी भी पल बिस्फोट होने वाला हो. लंड का टोपा घुसते ही रूबी ‘आःह्ह…’ की सिसकारी के साथ ऊपर की तरफ खिसक गई.

दीपिका के मुंह में अजय का लंड था और अजय भी मस्ती में लंड को चुसवाने का मजा ले रहा था. मैं बैंक कर्मचारी हूं तो मैं शाम को पाँच बजे अपने कमरे पर आ जाता हूं.

हमारा हौसला बढ़ाने के लिए आप हमें मेल जरूर करें, आपके मेल का इंतजार रहेगा.

माथे पर मालिश करने के प्रयास में जब भी करोना आगे झुकती तो उसके टॉप में कैद उसकी चूचियों की घुण्डियां अनायास ही चिन्ना की नंगी छाती के सख्त बालों को स्पर्श कर जाती तो करोना को अनजाना सा मजेदार अनुभव देने लगती थी. उसके बाद चिन्ना बेपरवाही के साथ मूतने लगा।करोना के कमरे में अँधेरा था और बाथरूम में लाइट जल रही थी। अपनी इस स्थिति की वजह से चिन्ना करोना को नहीं देख सकता था पर करोना चिन्ना तो साफ़ साफ़ देख सकती थी. मैंने कभी उसका घर नहीं देखा था। हां एक फोटो उसने जरूर लगाई हुई थी व्हाट्सएप पर.

मुझे बहुत शर्म आ रही थी और थोड़ा घबरा भी रही थी कि ना जाने यह बंदा क्या करने वाला है. विशु अभी भी एकदम बुलेट ट्रेन की रफ्तार से मेरी मां की चुदाई कर रहा था. मन करता था कि उनकी गांड पे बहुत तेज स्लैप करूं और उसे खा जाऊँ। बड़ी गांड मेरी कमजोरी है.

जब मुझसे बर्दाश्त नहीं हुआ तो मैंने अपने हाथ बहू की कमर में डाले और उसे अपनी तरफ खींच लिया.

बुड्ढे बुड्ढे का बीएफ: पर अब मेरी नौकरी मेरी अपने शहर में लग गयी थी और मैं घर पर ही पिछले तीन महीनों से था. अगर कहानी के बारे में कुछ सुझाव देना चाहते हैं तो आप नीचे कमेंट बॉक्स में भी अपने कमेंट लिख सकते हैं.

उसके हाथ मेरे चूचे पर आ गए जिससे मेरी सिसकारियां निकल गई- उंह … आह … अय!लगभग 5 मिनट तक हम दोनों ने पागलों की तरह किस किया. मैंने आकांक्षा को कॉल किया और उसे बहाना बनाकर आज के लिए मना कर दिया. मासिक पीरियड से निवृत होने के बाद लड़कियों की सेक्स करने की इच्छा पूरे उफान पर होती है.

वो वासना से तड़प रही थीं, उन्होंने मेरे लंड पर हाथ फेरा, तो मैंने अपनी पैंट को उतार दिया.

सारिका का हाथ हिलाकर उसे जगाते हुए मैंने पूछा- सारिका, ये जो पोर्न वीडियो में दिखाया जाता है, क्या ये सही में किसी स्कूल का किस्सा है?इतना कहते कहते मैंने मोबाइल सारिका को पकड़ा दिया. भाभी ने मुझे एक प्यार से थप्पड़ मारा और कहा- तुझे ज्यादा शौक है ना गंदा सेक्स करने का … और कुत्ता बनने का … आज मेरे हस्बैंड भी घर पर नहीं है … चल आज मैं तुझे असली मजा दूंगी, जैसा तू चाहता है. करीब 5 मिनट बाद वो शांत हुई, तो मैंने उसकी गांड मारना शुरू कर दिया.