देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ

छवि स्रोत,बीएफ आईडी

तस्वीर का शीर्षक ,

सेक्सी लुगाई की चूत: देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ, मैंने उसे दोनों हाथ से उठाया, बाथरूम में एक बार फिर शॉवर चला कर अच्छी तरह से धोकर कपड़े से पौंछा.

बीएफ वीडियो एक्स एक्स एक्स हिंदी

अब आगे की मौसी की चूत की चुदाई:मैं- सॉरी मौसी … सुबह के लिए आई एम रियली सॉरी … आप मम्मी से मत कहना प्लीज. स्टूडेंट की बीएफवो बोली कि जब मैं ये पहन कर आपके सामने आऊँगी, तो आपको ज्यादा मजा आएगा.

आकाश- किसमें मजा आने की पूछ रहे हो अविनाश? इधर घूमने में या अपनी नई गर्लफ्रेंड को पेलने में?नताशा- क्या आकाश. बीएफ वीडियो सेक्सी शॉटजब मैंने हाथ फिराना जारी रखा तो वो पलटते हुए मेरी तरफ मुंह करके लेट गयी.

इसीलिए ये सोच सोच कर मेरी गांड फटी जा रही थी कि कहीं मौसी मम्मी से जाकर सब कुछ न बता दें.देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ: इसके लिए मैं कोई पैसा नहीं लेता हूं क्योंकि यह मेरा शौक है और मुझे ये सब करना पसंद है.

और अपनी पढ़ाई से समय निकालकर ये पार्टटाइम जॉब कर रही हूँ।मैंने बात पकड़नी चाही- बॉयफ्रेंड नहीं बनाया और करीब भी आया.नहीं बनाओगी तो तुम्हें खायेगा वो बेबी!मैंने भी बोल दिया- खा जाने दो.

बीएफ चोदा चोदी सेक्स - देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ

मैंने उनके दोनों चुचों को पकड़ कर बाहर निकाला और बारी बारी से चूसने लगा.करीब दस मिनट तक बेरहमी से चोदने के बाद में नताशा की गांड से लंड बाहर निकाल कर उसके चूतड़ों पर झड़ गया.

यदि आप मेरी गर्लफ्रेंड होतीं तो …मैंने पूछा- तो … पूरी बात बोल ना?वो बोला- कच्चा खा जाता. देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ मैं वापिस आया, तो उसने अपना अंडरवियर दुबारा पहन लिया था जो मुझे अच्छा नहीं लगा.

मुझे पता तो था ही कि उस पैकेट में वो अपने लिए ब्रा पेंटी ही लायी होगी.

देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ?

तभी प्रियंका सीमा को देख कर बोली- साली थोड़ा ऊँची आवाज में बोल … मुझे तो सुना नहीं!मैंने फिर कहा- अच्छा, जो जो ग्रुप सेक्स के लिए राजी है वो अपना हाथ ऊपर करे. फिर मैंने सोचा कि मम्मी और पापा के तलाक के बाद से मम्मी की चुदाई हुई नहीं है इसीलिए उनकी चूत में खुजली होना स्वाभाविक था. सच में मुझे तो खुशी का ध्यान ही नहीं रहा, वो मुझे ही उम्मीद से निहार रही थी.

लिहाजा मैंने भी तेजी से करते हुए रोहिताश और खुद को सन्तुष्ट कर दिया. अगले दिन जब ज्ञान जी मेरे घर आये तो उन्होंने मुझे तेल की शीशी थमा दी. मैं मना करती, तो कहता कि तुम्हारे अन्दर हिम्मत नहीं है क्या … डरती हो आदि आदि.

साथ में मैं उसे किस भी करता रहा; उसके बूब्ज़ के साथ खेलता रहा।कुछ देर बाद सुषी भाभी एक बार फिर से झड़ गई और मुझे कहने लगी- बस करो यार … अब मुझे दर्द हो रहा है।मगर मेरा अभी हुआ नहीं था तो मैं उसकी बातों को अनसुना करके बस उसे चोदने में लगा रहा।सुषी को अब बर्दाश्त करना मुश्किल हो गया था तो मैंने उससे कहा- तुम अपने हाथ से पकड़ कर मेरा निकाल दो. मैं मन ही मन सोचने लगी कि आज बहुत दिनों बाद कोई दमदार लंड मेरी चुत को चोदेगा. अब मुझे आपको ही चोदना होगा वरना आप जानते ही हैं कि जिस्म की भूखी औरत क्या नहीं कर सकती.

मैंने भी हिम्मत से बोल दिया कि या ये भी हो सकता है कि आपने जानबूझ कर सलवार सूट पहन लिया हो, ताकि इसमें आपके बड़े बड़े मम्मे नजर आएं और मुझे इनको दबाने का मन हो जाए. जब मैंने हाथ फिराना जारी रखा तो वो पलटते हुए मेरी तरफ मुंह करके लेट गयी.

ऐसे ही एक महीना बीत गया और अब तक भाभी हमारे घर के सदस्यों के साथ भी घुल-मिल गई थीं.

रिया इतनी गर्म हो गयी कि उसकी सिसकारियां कमरे की दीवारों को जैसे तोड़ने पर उतारू हो गयीं.

पर आज हम तीनों ही जानवर बनना चाहते थे और जानवर होने की सारी हदें तोड़ देना चाहते थे. मैं भी उसकी गर्मी को सहन नहीं कर पाया और उससे बोला- आह मेरी रंडी कुतिया … मेरा रस निकलने वाला है … आजा भैन की लौड़ी मुँह खोल दे. क्या मौसी को मुझसे चुदना पसंद आया था, इसलिए वो ऐसा कह रही थीं, या वो ये जाहिर कर रही थीं कि कुछ हुआ ही नहीं था.

लिहाजा मैंने भी तेजी से करते हुए रोहिताश और खुद को सन्तुष्ट कर दिया. मैंने खुद ही फिर अपनी पैंट को नीचे कर लिया और अंडरवियर भी नीचे कर लिया. वो क्या करे, उसे कुछ समझ नहीं आ रहा है … और ना ही मेरे पास उसके सवाल का जवाब है.

अब सोनम के तीन अति संवेदनशील अंगों को पुरूषों का स्पर्श मिल रहा था.

मुझे देखते ही वो बोला- वाह मेरी जान, तुम तो कमाल लग रही हो!मैंने उसे थैंक्स बोला और अंदर आने को कहा. मुझे उसकी इस बिंदास अदा से हैरानी तो थी, मगर मेरा भी जोश चढ़ने लगा था. मैं खुशी से लिपटकर मन भर रो लेना चाहता था, अपनी बेचैनी को उसी समय जाहिर कर देना चाहता था.

रोहित पीछे से संजू को चोदने लगा, जिससे संजू की पूरी गांड हिल रही थी. लंड तो मेरा भी खड़ा हो गया था लेकिन ज्यादा देर वहां रुक कर ये नजारा देखने में भी रिस्क का काम था. ”हनी की टांगें अपने कंधों पर रखकर मैंने हनी की चुदाई शुरू की तो हनी उफ्फ उफ्फ करते हुए उछलने लगी.

चोदो मुझे मेरे लंड महाराज, जोर से चोदो, मेरी चूत को फाड़ दो, मेरी गांड को फाड़ कर मटका बना दो.

हाथ में लन्ड आते ही मेरे शरीर में सनसनी दौड़ गयी। अब मैंने उसका लन्ड सहलाना शुरु कर दिया. उसके दो दिन बाद फिर से उन्होंने अपनी गांड की खुजली मेरे लंड से मिटवाई.

देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ अब आगे:मैंने कुछ देर पहले ही एक कामवर्धक गोली खा ली थी ताकि मैं अपनी बहन की सहेली को जम कर चोद सकूँ. मेरी पत्नी ने कहा- तुम्हारी बात मान भी लूँ तो तुम्हारा प्रस्ताव हनी से कहूँ कैसे?देखो, अगर तुम मौसी बनना चाहती हो तो रास्ता तो बनाना ही पड़ेगा.

देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ जल्दी ही उनसे मिलने गाजियाबाद जाने का प्रोग्राम बना!वहाँ पहुँचकर मैंने रोहिताश को कॉल की उसने पहले से ही अपने और मेरे लिए रूम बुक कर लिया था. थोड़ी देर बाद अम्मी ने अपनी टांगें फैलाईं और बोलीं- मेरी मुनिया का स्वाद चखेगा ज़रा!मैंने भी अम्मी के चुत में मुँह घुसेड़ दिया और उनकी चुत चाटने लगा.

भाभी ने लाइट बंद कर दी और उसी बिस्तर पर बाबूजी मेरे साथ कामक्रीड़ा करते रहे.

ऊंची सेक्सी

बेबी रानी ने ये बहस आगे नहीं बढ़ने दी- ओके पिंकी … ओके … ग्रुप चुदाई ओके!गुड्डी रानी ने मुंह तो बनाया मगर बोली कुछ नहीं. रुकैय्या ने कहा- मुझे मालूम है कि तेरा पानी छूटने वाला है क्योंकि तेरा लण्ड अकड़ने लगा है और तेरा सुपारा फूलकर मेरी बच्चेदानी पर चोट कर रहा है. मैं जब दुकान से आता तो कई बार दोनों को एक ही रूम से निकलते हुए देख चुका था.

मैंने उसके कंधे पकड़े और दनादन बीस पच्चीस धक्के बहुत तेज़ी से मारे. वो बोली- मुझे पता था कि तू नामर्द है मगर तू तो गांडू भी है! ये तो बहुत अच्छा हो गया. मैं- क्या हुआ?कोमल- जिया आकाश से कुछ नहीं कहेगी … बल्कि तुम्हारे लिए खुशखबरी है.

फिर अपनी अपनी बीवियों के साथ मिलकर सफर की थकान उतारी। उसके बाद रात का खाना अपनी अपनी बीवियों के साथ ही खाया.

इधर मेरे स्ट्रोक्स बार-बार बढ़ते ही जा रहे थे और उधर संजना और शीना दोनों कामुक सिसकारियां लेने में मशगूल थीं. कई ट्रक गुजरे और मैंने रूकने का इशारा भी किया, पर कोई ट्रक नहीं रूका. प्रिया ने दिन में ही अपनी चूत चिकनी की थी सुनील का लंड लेने के लिए और मजे ले रहा था विशाल.

फिर मैंने उससे दोबारा कन्फर्म किया कि वो अकेली ही रहती है या कोई और भी रहता है साथ में?तो वो कहने लगी कि मैं तुम्हें खा नहीं जाऊंगी. वो उछल कर बैठ गई और बोली- हाईला दीदी … तब तो ट्रक के सारे खलासियों ने और ड्राईवर ने तेरी चुत का तो भुर्ता बना दिया होगा. मैंने उसके दूसरे हाथ को पकड़ कर पेटीकोट के ऊपर अपनी बीवी की चूत के ऊपर रखवा दिया.

फिर वो कमरे से बाहर निकल गई और इधर मुझे अन्दर से अभी भी सेक्स की तलब लगी हुई थी. मैंने दीपिका को उसके माथे से लेकर पांव के पंजे तक निहारा तो लगा कि भगवान ने उसके हर अंग को स्पेशल तरीके से बनाया था.

सिस्टर कमरे में आ गयी और चैक करके बोली कि सब ठीक है, कोई फीवर नहीं है … अब आप सो जाओ. मैं भी खुल कर बोल रही थी- और चोदिये … और जोर से … आपके भतीजे से कुछ नहीं होता … ऐसे ही चोदते रहिए. नजमा काफी गर्म हो गई थी और कामुक सिसकारियां ले रही थी- ईश सआ स … स … खा जाओ मेरे बूब्स को … आंह निचोड़ कर चूस लो … अह … आआह … चूसो और जोर से चूसो आई लव यू राज.

उसने मुस्कुरा कर कहा- कहां खो गए जनाब!उसकी आवाज से मैं एकदम से चौंक गया.

मेरी बीवी की पूरी पेशाब रोहित की छाती से लेकर उसके पेट को भिगो गया था. वे जोश जोश में या जानबूझ कर बार बार अपने दांत मेरे मम्मों पर चुभो रहे थे … जिससे मुझे दर्द तो हो रहा था लेकिन एक नए लंड की ख्वाहिश ने इस मीठे दर्द से मुझे मज़ा दिलाना शुरू कर दिया था और मैं मीठी मादक सीत्कारें भरते हुए जीजू का साथ दे रही थी. जब उससे रहा न गया तो वह एकदम से उठ गयी और मेरे लंड पर हाथ से सहलाने लगी.

कुछ ही पलों में रोहित के लंड की मार इतनी जबरदस्त हो गई थी कि संजू की चुचियां कभी ऊपर, कभी नीचे हो रही थीं. लेकिन तभी मैंने उसके दोनों हाथ फैला कर ऊपर को कर दिए और रोहिताश को दोनों हाथ पकड़ने का इशारा कर दिया.

भुंडी के आस पास जीभ से सहला रहे थे पर भुंडी को छूकर निकल जा रहे थे. जीजू ने अपना लण्ड मेरी चूत रखकर धक्का मारा, तेल से सना होने के कारण जीजू का लण्ड चूत के मुहाने से फिसल कर मेरी नाभि तक आ गया. ”मंगलवार रात को सुधीर चला गया तो बुधवार दिन में हम लोग स्मोकिंग का आनंद लेते रहे और व्हिस्की के साथ स्नैक्स फाइनल किये.

मारवाड़ी सेक्सी वीडियो पिक्चर

तौलिये के अंदर हमला होते ही लंड ने बगावत कर दी और तन गया, टॉवल नीचे गिर गया.

मैंने उनके सीने पर हाथ घुमाते हुए कहा- अगर आप मुझे इसी तरह पिलाते रहे, तो सुबह सबको पता चल जाएगा कि रात में मैंने वाइन पी है और फिर मेरी गांड सुताई शुरू हो जाएगी. मेरी पत्नी और सलहज के जाते ही मैंने पिज्जा ऑर्डर कर दिया और कोकाकोला की बॉटल व दो गिलास लेकर गिन्नी के बगल में बैठ गया. मेरे दिमाग में घुस गया कि ये पैड यूज करने का क्या मतलब है?अब मनु और परमीत तो पैड यूज करना जान चुकी थीं, पर मैंने और मीता ने आश्चर्य से पूछा- पैड यूज करना? इसका कोई खास तरीका भी होता है क्या?तब मनु ने मुस्कुरा के कहा- हां जानेमन … खास तरीका ही होता है.

दीदी की चुत में जब पहली बार मेरा लंड गया था, तब अजीब सा आनन्द मिल रहा था. ये लम्हें बेशकीमती थे और न तो दोबारा दोहराये जाने थे … न ही वापिस मिलने के थे. इंग्लिश की सेक्सी बीएफअब कोमल भी मेरे लंड को चुत में लेने की आदी हो गई थी इसलिए उसने मेरे लंड का मजा लेना शुरू कर दिया.

मैंने खुद ही फिर अपनी पैंट को नीचे कर लिया और अंडरवियर भी नीचे कर लिया. मैं उन सबकी हवस भरी नज़रें और डांस करते हुए मेरे हिप्स को छूने से ही उनके इरादे भांप गयी थी.

फिर मुझे खड़ा करके उसने मेरे होंठों पर अपने होंठ रख दिए और अपनी चुत के रस को मजे से चूसने लगी. उसे घिन तो आई पर आज वो वो हर काम करना चाह रही थी जिसे बड़े आदमी करते हैं. मेरी अम्मी, छोटी बहन ज़ेबा, बीवी शमा और खाला, इस कहानी के अहम पात्र हैं.

क्यों? प्रियंक नहीं चोदता क्या?”वो चोदता है लेकिन मुझे आज पता चला है कि चुदना किसे कहते हैं. इस मौसी की चूत की चुदाई कहानी के अगले भाग में मौसी के साथ एक मस्त चुदाई का सफ़र लिखना जारी रखूंगा. मैंने गिन्नी के मुंह से अपना लण्ड निकाला और मैं गिन्नी की टांगों के बीच आ गया.

मैं- उम्महा मुउहा उफ मम्मी … आपका बेटा आज आपको चोदना चाहता है … तुम कितनी सेक्सी हो मम्मी.

फिर उसका पेट और धीरे धीरे मैं उसकी चूत पे आ गया। चूत पर जीभ रखते ही वो पागल सी हो गयी वो गीली होने लगी।मैंने उसकी चूत को दो उंगली से खोला और फिर एक उंगली से उसको अंदर बाहर करने लगा।वो मचल रही थी। उससे भी चुदास सहन नहीं हो पा रही थी. इधर सायरा ने भी पलंग का चादर बदल कर, उस चादर को लाकर बाल्टी में डालकर उसे गीला कर दिया।उसके बाद मैं और सायरा वापिस पलंग पर आकर बैठ गये।थोड़ी देर बाद मैंने सायरा को बिस्तर पर ही खड़े होने के लिये कहा.

उसके मुँह से निकला- वाह मेरी रांड … आजा मेरी गोद में बैठ जा!मैं भी लड़कियों की तरह गांड मटकाता हुआ भाई की गोद में बैठ गया. ज्यादातर धंधे वालीं जब इस टाईप से लिफ्ट लेती हैं तो वे अन्दर कुछ नहीं पहनती हैं. फिर पानी पीकर लाइट की तरफ गई और नाइट लैम्प ऑन करके मेरे पास आकर लेट गई.

यह मेरे लिए बहुत ही कौतुहल का विषय था कि मेरा बाप अपनी ही बहू (पुत्रवधू) को चोद रहा था और मेरे सिवा किसी को भनक तक नहीं लगी. शीला उसके ऊपर लेट गयी और अपनी चूत उसके मुँह पर रख दी और हाथ से ही जितना हो सकता था साब के लंड को मसला. उन्होंने कहा- जान, दिल तो मेरा भी नहीं भरा है, तेरा ये मूसल मेरे दिल को ही इतना भा गया है कि बस मेरा दिल अब इससे ही बार बार चुदने का करता है.

देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ मैंने उनकी पैन्टी में हाथ डाल दिया और चुत को अपनी उंगली से छूने और रगड़ने लगा. मैंने भाभी को कॉल किया कि मैं कितनी देर में आऊं?भाभी बोली- बस दस मिनट में मैं आपको कॉल करूंगी.

तृप्ति सेक्सी वीडियो

फिर जल्दी ही दिन गुजर गये और वह अंकल मुम्बई आ पहुंचे, पहुंचने के बाद उन्होंने मुझे वटसऐप कॉल किया. मैंने मौसी की स्पोर्ट्स ब्रा ऊपर कर दी और उनके नंगे चुचों पर हाथ फेरा. जेठजी ने मुझे थोड़ा ऊपर नीचे करके एडजस्ट किया ताकि मेरी चूत का छेद उनके लंड के ठीक सामने आ जाए.

लेकिन मैं इसे नजरअंदाज करते हुए … पूरी मस्ती में मौसी की चूत चाट रहा था. पर मैं अपने पेट तक आती, समीज और पेंटी के ऊपर से भी खुद को पूरा निहार कर असंतुष्ट ही रही. सेक्सी बीएफ फुल सेक्स वीडियोट्रिप से आने के बाद हमारा मिलना अब सिर्फ कॉलेज में हो पाता था, पर उसको लेकर मेरी हवस दिन दोगुनी रात चौगुनी बढ़ोतरी पर थी.

बाकी आशा की चूचियां और चूत नीरा से बेहतर हैं इसका अन्दाज मुझे हो ही चुका था.

जैसे तेरी बहन की चुत को चौड़ी बना दी है वैसे ही तेरी कर देता … आह ले. दोनों लड़के उठ कर बैठ गए और एक दूसरे के सामने घुटनों के बल खड़े होकर एक दूसरे की मुट्ठी मारने लगे.

मैंने भी उसका लंड पैंट के ऊपर से पकड़ लिया और उसे जोर जोर से दबाने लगी. मैंने कोमल की गांड पर चपत लगाकर लंड अन्दर ठेला और कहा- चुप रह साली … वरना तेरी गांड फाड़ दूंगा … आज तो तुम पूरी तरह से रांड लग रही हो. मैंने कहा- तो फिर मसाज करवाना चाहोगी?वो बोली- पहले अपनी ड्रिंक तो खत्म कर लो.

बाकी आशा की चूचियां और चूत नीरा से बेहतर हैं इसका अन्दाज मुझे हो ही चुका था.

दोस्तो, मैं अजमेर से राज फिर आपके सामने अपनी सेक्स कहानी को लेकर हाजिर हूँ. घोड़ी बने बने ही मैं उससे अपनी गांड चटवाने लगी।उसने मेरी गांड और चूत को थूक से भर दिया. जब मैं उन दोनों को किस करते हुए देख रहा था तो अपने आप में ही मेरे अन्दर एक कुछ खलबली समझ रही थी.

मां बेटा सेक्स बीएफदुध-मुँहे बच्चे की परवरिश की सारी ज़िम्मेदारी अम्मी और मेरी जवान हो चुकी बहन ज़ेबा पर आ पड़ी. क्या लाजवाब शरीर था, मक्खन जैसा!मैंने उसके पैरों से उसे चूमना चालू किया और मस्ती में चूर होता हुआ धीरे धीरे उसकी रेशमी टांगों को चाटता हुआ उसकी चूत तक जा पहुंचा.

जानवर की सेक्सी बीपी

अब तक इस हिंदी सेक्स स्टोरी के पिछले भागएक्स-गर्लफ्रेंड की कुंवारी ननद की चुदाईमें आपने पढ़ा था कि मैं जिया को चोदने के बाद अपने कमरे में चला गया था और इन्हीं सब कामुक बातों के साथ मेरी एक्स गर्लफ्रेंड अपनी ननद के साथ मेरे लंड से चुदने की बात का मजा ले रही थीं. एकाएक तभी उसका शरीर टाईट हो गया और वो रोहित के सर को अपनी बुर की तरफ ठेलते हुए झड़ने लगी. एक सिगरेट लेकर जलाई, कश लगाया … फिर फोन निकाल कर देखा … तो उसके 10-12 मिस कॉल पड़े थे.

फिर मैंने उसकी चूत में उंगली डाल दी और उसकी चूत में उंगली चलाने लगा. मैं उनके हर धक्के को एन्जॉय कर रही थी और बराबर से उनका साथ दे रही थी. क्या कभी आपने किसी और की बीवी के साथ सेक्स किया है? या कभी आपने एक से ज्यादा लड़की के साथ सेक्स किया है? आप मुझे मेल और कमेंट करके जरूर बताना.

लेकिन सबसे सुंदर लड़की उनमें सोनल थी जो बाद में मेरा क्रश भी बन चुकी थी।अब धीरे धीरे उन लड़कियों का हरामीपन बढ़ता जा रहा था. उसने मुझे घुमाया और मेरे पैर अपने कंधों पर रख कर एक ही बार में एक तगड़े झटके में अपना पूरा लंड मेरी गांड में अन्दर डाल दिया. वसुंधरा का कसा हुआ सुतवां ज़िस्म नित्य योगा और क़सरत की बदौलत अभी तक तो उम्र को पछाड़ने में क़ामयाब रहा था.

मेरा नाम सुजाता है, मैं एक आदिवासी परिवार से हूं, इसलिए न तो गोरी चिट्टी हूं, न ही चेहरा बहुत सुन्दर है. दीपिका की चूत का नर्म और गुदाज़ हिस्सा मेरे मुँह और नाक पर इस कदर अड़ गया कि एक बार तो मेरी सांस बन्द हो गई थी.

मैंने उस रात बहुत हल्की सी नाइटी पहनी जिसमें मेरा जिस्म हल्का हल्का सा दिख रहा था.

नहीं बनाओगी तो तुम्हें खायेगा वो बेबी!मैंने भी बोल दिया- खा जाने दो. हिंदी बीएफ पिक्चर दिखा दोउसने कहा- काली क्यों?तब मैंने मजाक करते हुए कहा- क्योंकि मैं काला हूं ना. हिंदी सेक्सी बीएफ हिंदी बीएफसच मानो इतना हैंडसम लड़का आपके बगल में बिना शर्ट के लेटा हो, तो किसका मन नहीं मचल जाएगा. अभी गर्मी की छुट्टियां लगी ही थी कि मुझे भी सर और कमर में दर्द महसूस होने लगा, शायद आप यकीन नहीं करेंगे कि मैं इस दर्द से परेशान होने के बजाय खुशी का अनुभव करने लगी.

लगभग 1 मिनट बाद ही मम्मी की चूत से सारा पानी निकल गया जिसे अंकल ने पी लिया.

चाची भी जोर जोर से सिसकारियां लेते हुए बड़बड़ाने लगीं- आंह … कमीने … अब चोद भी दे यार … क्यों तड़फा रहा है मुझे. स्नेहा भाभी- अच्छा जी … वो क्यों?मैंने कहा- इतनी सुंदर हॉट सेक्सी गर्लफ्रेंड सामने हो, तो कोई पागल ही होगा … जो आपके पीछे ना पड़े. ”क्या गारन्टी है कि तुमसे चुदवा कर वो मां बन ही जायेगी?”आज तक जितने डॉक्टरों को दिखाया, फीस दी, किसने गारन्टी ली.

शीना को ये पता ना होने की वजह से उसने बिना रुके सीधे से कहना शुरू कर दिया- मुझे भी अपना पानी पिलाओ मेरे बाबू. मेरे साथ ऐसा पहली बार ऐसा हुआ कि किसी पति ने अपनी पत्नी की चूत के साथ अपनी गांड का भी मज़ा मुझे दिया. मैंने कहा- रानी मैंने कब मना किया आराम करने को … मैं तो सिर्फ गुड्डी रानी की सफाई के लिए जगा रहा था.

टार्जन पिक्चर सेक्सी वीडियो

उस दिन तो बात आई गई हो गई, पर फिर अक्सर मेरा बॉयफ्रेंड इस टापिक को लेकर मुझे छेड़ने लगा. आकाश- कैसा खेल?अविनाश- आज हम अपनी पार्टनर के बारे में बताएंगे, वो भी सिर्फ चुदाई के समय के बारे में. साला रात की सूजन उतरी नहीं थी कि जब होश आया तो पाया कि रणवीर ने अपना मूसल चूत में ठोक रखा है।हा हा … हा हा … हा हा … की आवाज़ आने लगी.

सो धीरे धीरे उनका आना कम हो गया, पर मेरा कद औरतों में और बढ़ गया था.

इसलिए मैं जीजू से बोली- ये क्या कर रहे हो यार जीजू … मेरी चुचियों पर निशान पड़ जाएंगे.

उधर बेबी रानी गुड्डी रानी के चूचे भूल कर अपनी भगनासा रगड़ने में लग गयी थी और चिल्ला चिल्ला कर है है है कर रही थी. मैंने अपनी आँखें बंद की और रवि के लण्ड पर अपनी चूत को दबाते हुए उन्हें चुदाई आरंभ करने का इशारा दिया।बस फिर क्या था … रवि के धक्के और मेरी सिसकारियां … जितने तेज रवि के धक्के हो रहे थे, उतनी तेज मेरी सिसकारियां।मेरा मुँह बन्द करने के लिए रवि ने अपना एक हाथ बिस्तर पर रखा और दूसरा हाथ मेरी टांग से उठाकर मेरी कमर पर रख दिया. बांग्ला बीएफ वीडियो सेक्सऔर फिर धीरे-धीरे मैं उसके बूब्स को दबा रहा था वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी। आज वो बहुत ही मस्त लग रही थी। शायद वो भी जानती थी आज उसकी चुदाई होने वाली है।उसके बूब्स दबाने से टाइट होने लगे वो तन कर जैसे मुझ से कह रहे हों कि आओ और मुझे जोर जोर से दबाओ और मुझे खा लो।फिर मैंने उसकी टॉप और साथ ही ब्रा भी उतार दी और उसकी चूचियों पर किस करने लगा.

ये कहते हुए मैंने भाभी का हाथ अपने लंड पर रख दिया, जो जोश में फनफना रहा था. जैसे ही में झड़ने को हुई तो उसने उंगली करने बन्द कर दिया और पैंटी में से हाथ निकाल लिया।अब मुझे गुस्सा आने लगा तो मैंने उसके लन्ड को जोर जोर से दबाना शुरू कर दिया. जब दो गर्म औरतें मेरे लौड़े के साथ खेल रही हों, तो मैं भी कितनी देर तक अपने आपको बर्दाश्त कर सकता हूं.

आसमान पर पूर्ण रूप से बादलों की सत्ता क़ायम हो चुकी थी और सूर्य भगवान् कब के बादलों की मोटी तय में जा छुपे थे. अन्तर्वासना की कामुकता में खोए हुए दोस्तों को मेरा नमस्कार।मेरा नाम डेविल है। मैं जालंधर, पंजाब से हूं। मेरी उम्र 30 साल है।आज मैं आपको मेरी जिंदगी की रियल कहानी बताने जा रहा हूँ।यह कहानी 2016 की है जब मैं विदेश में रह रहा था। वहां मेरा अपना काम था। मेरा बदन ना ज्यादा पतला है ना ज्यादा मोटा.

सोनम के मुंह में मेरा लंड फंसा हुआ था जिसको वो गूं-गूं की आवाजें करते हुए तेजी से चूस रही थी.

उसके बाद मम्मी ने मुझे सोने के लिए कमरे में भेज दिया और खुद अंकल के कमरे में चली गई. इस टाइम उसका 7 इंच का लंड मेरे सामने था, उस लंड की गुलाबी टोपी मानो उसे और भी मस्त बना रही थी. और तू जब तक यहाँ है, अपने बाप से मजे लेती रह! मेरा क्या है मैं तो यहीं हूँ न।मैंने कहा- भाभी सुनो, बाऊजी तो बहुत स्ट्रांग हैं.

केरल के बीएफ पर शायद फिर भी वो अन्दर से तैयार थी … चाहे जो भी हो उसको भी वो पानी चाहिए ही था. मैंने भी उसके होंठों को छोड़ कर उसके मम्मों को चूसना और दबाना शुरू कर दिया, जिससे उसे हल्का सा आराम मिलने लगा.

कुछ देर तक उसी पोज़ में चोदने के बाद जेठजी ने चूत में लंड डाले डाले ही मुझे गोद में उठा लिया और मेरे पैरों में अपने हाथ फंसा कर खड़े हो गए. वो मेरी चुचियों को देखने के लिए इतने व्याकुल हो गए कि उन्होंने मेरे टॉप को को जोर से खींचना चालू कर दिया. ऐसे ही एक बार दोनों साथ में बातें कर रहे थे और हमारा किसी बात को लेकर आपस में झगड़ा हो गया.

सेक्सी चुदाई करते हो

लंड पेलने के बाद रोहित ने संजू को इसी पोज में अपनी गोदी में उठा लिया. चूंकि वह मेरे साथ ही पढ़ रही थी इसलिए हम दोनों एक दूसरे को पहले से जानते थे. बस मुद्दा ये है कि तुम गलत मर्द से अपनी सील तुड़वा रही हो … या सही आदमी से.

अन्तर्वासना की कामुकता में खोए हुए दोस्तों को मेरा नमस्कार।मेरा नाम डेविल है। मैं जालंधर, पंजाब से हूं। मेरी उम्र 30 साल है।आज मैं आपको मेरी जिंदगी की रियल कहानी बताने जा रहा हूँ।यह कहानी 2016 की है जब मैं विदेश में रह रहा था। वहां मेरा अपना काम था। मेरा बदन ना ज्यादा पतला है ना ज्यादा मोटा. एक दो पल रुकने के बाद जीजू अपने लंड को मेरी चुत में आगे पीछे करने लगे.

वो- कितना टाइम लगेगा?मैं- वो तुमको भी पता होना चाहिए, वहां से तुम्हारे घर तक आने में कितना समय लगता है.

मेरे मुँह से फिर गाली निकलने लगी थी- आंह फाड़ दो … मेरी चुत को भोसड़ा बना दो जीजू … क्या मस्त चोदते हो. हाँ … थोड़ा सर को झुकाओ। हाँ और चुदासी लाओ चेहरे पर … हहम्म … सही एकदम।रिया ने वैसे करके पूछा- ठीक है ये?अब रमेश ने रिया को फर्श पर कुतिया की तरह दोनों हाथों और घुटनों पर आने को कहा. वह बोलीं- मैं तुझे अच्छा लड़का समझती थी … और तू ऐसा कर रहा था मादरचोद, हवसी साले भड़वे.

दोस्तो, मेरा नाम समीर है, मेरी उम्र 27 साल है और मैं मुंबई का रहने वाला हूँ. नीरा ने जवाब दिया- मैं मानती हूँ कि यह गलत हुआ लेकिन इससे किसी का घर बसता हो तो बुरा भी नहीं है. एक कपड़ा एक लड़का उतारेगा, जिसके पास जाकर जो भी लड़की पूरी नंगी हो जायेगी वो उसी को चोदेगा.

आप चाहते हैं कि मैं भाई के साथ? … आप ऐसा सोच भी कैसे सकती हो?चित्रा- देख आलिया, कल तुम किसी से शादी जरूर करोगी.

देवर भाभी का एक्स एक्स एक्स बीएफ: मैं पूरी तेजी से कोमल की चुदाई कर रहा था और वो भी चुदाई का पूरा मजा ले रही थी. मौसी की टांगें भी हवा में उठ गई थीं, जिससे मैं अब अपना पूरा लंड चूत में अन्दर तक पेलने लगा था.

मैं- अब ये बातें छोड़ … हमने जो अधूरा काम छोड़ा था … वो पूरा करें?कोमल- कौन सा अधूरा काम?मैं- चुदाई का. मैंने कहा- जब गोली खा ही है, तो अभी क्यों लगा रही हो?उसने कहा- मुझे इसका अनुभव करना है. नीचे पतली कमर के बीच में अन्दर को दबी हुई उसकी नाभि और दोनों जांघों के बीच में एक पतली सी लकीर, जो उसकी अमृत फली यानि योनि थी.

फिर हम सब मॉल में शॉपिंग करने के लिए गए, जहां लेडीज का ग्रुप अलग हो गया और हम सभी मर्द अलग ग्रुप में गए.

उसका हिसाब हो गया पर मेमसाब ने उससे बहुत अपनापन दिखाते हुए हिसाब के अलावा अपने दो तीन कपड़े, मेकअप का सामान और पांच हजार अलग से दिए कि वो इस राज को कभी न बताये. मैं- वैसे तुम्हारे पति की फैमिली में कौन कौन है?कोमल- मेरे सास-ससुर अहमदाबाद में रहते हैं … और आकाश की एक बहन है. इससे पहले कि अम्मी की गांड का छेद सिकुड़े, अब्बू ने अपना लण्ड अम्मी की गांड में पेल दिया और आगे की ओर झुककर अम्मी की चूचियां दबोच लीं.