गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ

छवि स्रोत,हिंदी पिक्चर सेक्सी बीएफ वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

हिंदी सेक्सी वीडियो के: गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ, शाम को जाने से पहले मैंने सभी को विदा कहा और अंत में नम्रता आंटी को विदा कहा.

सेक्सी बीएफ चल जाए

और वह अपने चचेरे भाई का नाम लेकर अपनी चूत में उंगली करना शुरू कर देती है!इस बीच कुणाल चाचा जाग जातें हैं और अपनी बहू को किसी गैर मर्द का नाम लेकर चूत में अपनी उंगली करते देख लेते हैं!यह सावी के लिए अच्छी बात नहीं थी. शौचालय बीएफरानी चाची- आ जा मेरे राजा निकाल दे मेरी गर्मी … और बना ले मुझे अपनी जोरू!फिर मैंने चाची के पेट को चूसा, हाथ, बांहों, बगलों को चाटा.

बीवी में सेक्स की इच्छा मेरे से बहुत ज्यादा है, जो मैं पूरी नहीं कर पा रहा हूँ. सेक्सी बीएफ मूवी बीएफ मूवीवो बहुत चिल्ला रही थीं कि अनस छोड़ दे … मेरी फट गई तेरा बहुत मोटा है.

करीब 15 मिनट तक किस करते रहने के बाद मेरा लंड पूरा 7 इंच का हो गया.गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ: अब मैं ज़ोर ज़ोर से मामी की इंडियन गांड में धक्के मारने लगा तो मामी की गांड फट गयी और खून निकलने लगा.

अब आगे कुवारी लड़की की पहली चुदाई:अब मैं उसे किस करते हुए सहलाने लगा, वो कराह रही थी.तुम्हारा नाम क्या है?मैंने उसे स्माइल दी और कहा- मेरा नाम आर्यन है.

बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी मूवी - गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ

मेरी जोर से चीख निकल गई लेकिन किसी ने सुनी नहीं क्यूंकि जलालुद्दीन साहब ने पहले ही मेरा मुंह दबा दिया था.मैं मीनू को चोदते हुआ बोला- यार, तुम्हारा पति दस दिन नहीं आने वाला है, तुम भी यहीं रुक जाओ ना.

दो बच्चे होने के बाद सोनी और मेरे समझाने से रामू व कालू ने नसबंदी करवा ली थी. गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ मगर भईया को लग रहा था कि मैं उनके लंड को मुँह में अन्दर तक लेकर चूस लूं.

मेरी चाची की लड़की बहुत ही खूबसूरत है और उसके कई सारे बॉयफ्रेंड्स भी हैं.

गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ?

अपने अन्दर के हवसी को जगाने के लिए उसकी मुलायम कमर का अहसास ही मेरे लिए काफी था. मैंने उनके एक निप्पल को मुँह में भर लिया और उसे खींच खींच कर चूसने लगा. मेरी छोटी चाची मुझसे सात साल बड़ी हैं यानि कि अभी मेरी उम्र 25 है और उनकी 32 साल है.

मैं मस्ती करते करते कभी उसके बूब्स को हाथ लगा देता, तो कभी उसके ऊपर लेट जाता, तो कभी उसके बूब्स ही दबा देता. फिर मैंने उसके गुलाब जैसे होंठों पर अपने होंठ रख कर उसके होंठों को चूसने लगा. प्रिंस की ससुराल में उसके सास ससुर और उनकी 3 बेटियां और एक बेटा भास्कर है.

मुझसे अब रहा नहीं गया और मैं मॉम के दोनों चूतड़ों को फैला कर उनकी गांड के छेद को चाटने लगा. मैं भी उसकी ये बात सुन कर अब हर रोज आते ही कोई न कोई बहाना करके ऑफिस के बाहर जानबूझ कर घूमता रहता था. मेरे अंदर हवस उठने लगी तो मैंने भी अपनी सलवार खोल दी और शेखर ने अपना हाथ अंदर डाल दिया.

उन्हें कोई नहीं देख रहा है, इस विश्वास के साथ दोनों एक बार आलिंगन बद्ध हुए और थोड़ी देर एक दूसरे से चिपके रहे. मैंने सिर्फ इन सभी को यही कहा कि मैं पहले आपको नहलाता हूँ, साफ़ करता हूँ.

मैंने फ़ोन उठाया तो कॉल रिसेप्शन से था।उन्होंने मुझे बताया कि कोई अंजलि जी आप से मिलने आई हैं.

मैं भी पूरी ताकत से झटके दे दे कर चुदाई करवा रही थी पर मुझे कहीं न कहीं यह डर था कि अमन मुझे बिना कंडोम के चोद रहा था.

आंटी की सास आठ दिन बीमार रहीं और मैंने और आंटी ने उन आठों दिन आंटी चुदाई की. मैंने उन्हें अपने लिए सुहाग का जोड़ा कैसा हो, वो इस प्रकार से बताया था. मगर उधर कोई नहीं था जो कोई भी आया था, वो मेरे देर से आने से बाहर से ही वापस चला गया था.

मेरी शादी को एक साल हो गया है और मेरी मेरे हस्बेंड से ज्यादा बनती नहीं है इसलिए मैं उनसे झगड़ा करके मायके आ गई थी. फिर हम दोनों ने कपड़े पहने और कोमल बगीचा में जाकर मीनू की मदद करने लगी. अगले दो दिनों तक मुझे कोई दौरे नहीं पड़े तो मुझे लगने लगा कि अब मैं ठीक हो गई हूँ.

तुम मुझसे चुदवाने के लिए ही पैदा हुई हो और तुमने मुझे इसीलिए पैदा किया था कि मैं तुम्हारी चूत की आग बुझा सकूं.

मैंने उसकी गांड साफ की और उसने मुझे पीठ पर साबुन लगा कर अपनी चूचियों से मेरी मालिश की. फिर मैंने जोर-जोर से उनके चूचों को दबाना शुरू किया और उनके चूचे चूसने लगा. ये सुन कर वो छी छी करती हुई बोली- आप किसी दूसरे की बीवी से ऐसे कैसे बात कर सकते हैं.

तब अपनी उसी उंगली को चाट कर बोले- पिछवाड़े में भी खुशबू आ रही है, मतलब जिन्न को मुंह से खींच कर निकालना होगा. तभी मैंने अपना लंड पकड़ा और माधुरी की चूत में डाल कर उसे अन्दर धकेलने लगा. मेरी पिछली कहानीअल्हड़ लड़की के साथ कामक्रीड़ा का तूफानमें आपने पढ़ा कि कैसे दारू के सुरूर मैंने और पिंकू ने तूफानी सेक्स का टीन पोर्न का आनंद लिया.

हम दोनों एक-दूसरे के होंठों को चूसने लगे और मेरा हाथ चाची की चूत में था और चाची के हाथों में मेरा लंड खेल रहा था.

तापोश नीना के साथ सम्भोग करने की अनुमति देने के लिए तुम्हारा धन्यवाद. मैंने पहले से ही स्टोर रूम में अदीबा की चुदाई की व्यवस्था कर रखी थी.

गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ हम दोनों चौंक गए कि इस टाइम कौन आ गया।मैंने आवाज़ लगाकर के पूछा- कौन है?तो आवाज़ आई- मैं हूँ राजवीर, दरवाजा खोल यार!मैंने अंजलि को बोला- तुम बाथरूम में चली जाओ, मैं इसको देखता हूँ।अंजलि ने अपने कपड़े लिए और बाथरूम में चली गई. उन्होंने उस दिन एक काले रंग की नेट वाली साड़ी पहनी हुई थी और ऊपर से उनका ब्लाउज भी स्लीवलैस था.

गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ फिर चाची ने खड़े होकर अपने कपड़े पहन लिए और मुझे भी कपड़े पहनने को कहने लगीं. यह कहानी एक शादीशुदा महिला की है जो अपनी प्यास बुझाने के लिए मेरे साथ सेक्स करती है.

माधुरी का शोला बदन और उसकी ऐसी कातिल अदा थी कि देख कर तो किसी बुड्ढे में भी जवानी छा जाए.

सेक्सी बीएफ मस्ती

मतलब कुछ लड़कियों को अगर समय पर चोदा ना जाये तो उनको दौरे पड़ने लगते हैं. भाभी अपनी खरीदारी के बहाने मुझे बुला लेतीं, फिर हम दोनों उनके फ्लैट में जाकर खूब चुदाई करते. लगभग 5 मिनट बाद उसके लंड ने पानी छोड़ दिया तो मैंने उसने लंड से निकला अमृत पी लिया.

[emailprotected]हॉट सेक्सी भाभी न्यूड स्टोरी का अगला भाग:शादी में मिली भाभी ने दिया चरमसुख- 3. मैं किसी मर्द की औरत बनने वाली थी जो मेरे साथ सुहागरात मनाने वाला था. चाची की तीती पर एक भी बाल नहीं था जिससे मुझे उनकी चूत चाटने में और आनन्द आ रहा था.

शायद वो भी माधुरी की चूत के दर्शन के लिए बेकरार था … लेकिन अब कर भी क्या सकता था.

ऐसे ही उससे बातों से पता चला कि उसकी शादी के 4 महीने बाद ही उसके पति का एक्सीडेंट में देहांत हो गया था. मैंने कहा- आज मत रोको मेरी जान!वो बोली- नहीं मेरा पहली बार है और मैंने सुना है कि पहली बार में दर्द होता है. ’मुझे तो कुछ समझ नहीं आता था लेकिन इन सहेलियों की बातें सुन सुन कर डर भी लगता था कि जाने निकाह के बाद मेरे साथ क्या क्या होगा.

मैंने उसे फोन लगाया तो उसने कहा- मैंने गेट खुला रखा है, तुम सीधा अन्दर आ जाना और गेट बंद करके ऊपर आ जाना. अब मेरे दिमाग में मामी की ब्रा पैंटी ही घुस गई थी और मैं मौका मिलते ही उनकी ब्रा पैंटी खोजने लगता था. मैंने भाभी के शरीर की सिहरन को महसूस किया, तो ऐसा लगा कि वह जाग रही हैं.

इसके बाद मैंने स्नेहा को कॉल किया और उससे पूछा- हाय एंजेल, क्या सब लोग चले गए?उसने कहा- हां अभी निकले हैं, तुम आ जाओ. पोर्न भाभी सेक्स कहानी में पढ़ें कि शादी में मिली सेक्सी भाभी को मैं पटाकर घर लाया! उसने कैसे मुझे तन और मन का सुख दिया? आप लोग खुद ही पढ़िए!दोस्तो, मैं संदर्श!कहानी के पिछले भागमदमस्त जवानी के साथ चुदाई से पहले का मजामें आपने पढ़ा कि मैं एक बार फिर से कोमल भाभी की नंगी हो चुकी जवान चूत के सामने उसे चोदने को आतुर खड़ा था.

मैंने उंगली को मीना की चूत के छेद में डाला, तो उनकी चूत पूरी गीली हो गई थी. प्रिय पाठको, आपको मेरी हॉट कजिन सेक्स कहानी कैसी लगी, कृपया कंमेंट में जरूर बताइएगा. अब उसकी आहें और तेज हो चुकी थी और मेरा भी पजामा अब जमीन पर गिर चुका था.

उसके भाई छोटे थे और पढ़ाई करते थे तो वो अपने भाइयों की देखभाल के लिए उनके साथ ही रुक गयी.

आप जैसी कोई सुंदर लड़की मिली ही नहीं।वे हंसने लगी- सच में क्या मैं इतनी सुंदर हूं तुम्हारे लिए?मैंने कहा- हां, आप जैसे हसीन और सुंदर औरत तो मैंने देखी ही नहीं कहीं! आप बहुत हॉट भी हो!यह सब सुनकर उनके मन में आग से लगने लगी वह चूत चुदवाने के लिए मचलने लगी थी. उन्होंने मेरे पजामे को नीचे किया तो मेरा लौड़ा आजाद हो गया और भाभी ने फट से अपने हाथ में लेकर मेरे लंड को थोड़ा हिलाया. यह कहकर पुलकित रिया की चूत से लंड निकाल कर आयेशा के पास चला गया और उसके बूब्स दबाने शुरू कर दिए.

मैं चकित था और सोच रहा था कि इसका मतलब मेरी बीवी ने मेरी मां को अपनी चुदाई के बारे में सब बताया था. उसके बाद मैंने कुर्ती पहनी, इसमें मेरे गले के आगे और बैक का साइज कुछ ऐसा बनवाया था, जिसमें मेरी ब्रा की हुक और डोरी बाहर दिखाई दें.

नीना जब सोनी के लंड के पास पहुंची, सोनी का खड़ा लम्बा, मोटा और काला लंड देखकर मुग्ध हो गयी. थोड़ी देर के बाद मैंने अपनी गति को तेज किया और उसे खूब जोर से चोदने लगा. मैंने घड़ी की ओर देखा और कहा- उसके वापस आने में अभी भी 2 घंटे का समय है.

बीएफ हिंदी पिक्चर सेक्सी वीडियो

और मैं उसके मुंह को फिर से चोदने लगा और उसके मुंह में ही मैंने अपना पानी छोड़ दिया।उसके बाद हम दोनों किस करते हुए सो गए.

थोड़ी देर बाद हम दोनों खड़े होकर बाथरूम में गए और साथ में नंगे ही नहाने लगे. मुझे टेबल कोहनी पर चुभे न, इसलिए सोफे के कुशन मैंने कोहनी के नीचे रख लिए थे. उफ्फ उईई उम्म्म की आवाज के साथ हमारा स्लीपर ऐसे गूंज रहा था मानो‌ दोनों‌ का डर खत्म हो गया हो.

कुछ ही देर में चूत को मजा आना शुरू हो गया और वो भी अपनी पूरी ताकत से मेरी चूत की धज्जियां उड़ाने में लग गए थे. अब मैंने सीधे सीधे पूछा- आखिरी बार उसने तुम्हारे साथ सेक्स कब किया था?उसने भी बेलाग जवाब दिया- आठ महीने पहले. हिंदी में बीएफ मुसलमानीमैं अभी उन्हें देख ही रहा था कि आंटी मेरे पास आईं और बोलीं- आप यहीं रहते हैं?मैंने कहा- हां.

फिर वो बेड पर आ गयी और मैंने उसे अपने ऊपर खींच लिया और किस करने लगा. उनके गालों की दीवारों पर बनती हुई मेरे लंड की आकृति बार बार मुझे उत्तेजित कर रही थी.

कुकोल्ड वाइफ की चुदाई का मौक़ा मुझे मिल रहा था तो मुझे क्या आपत्ति होती. आंटी ने मुझे जगाने की कोई कोशिश नहीं की बल्कि थोड़ी देर बाद उनका हाथ हलचल करने लगा. मेरी मम्मी का फोन आया कि दिल्ली वाले चाचा और चाची घर आ रही हैं, तो तू जल्दी घर आ जाना.

मैंने सोचा कि घर नजदीक ही है तो फटाफट पहुंच जाऊंगी लेकिन आते आते पूरी भीग गयी. फिर वो समय आ ही गया, उसकी एक गोटी काफी तेजी से आगे बढ़ती हुई आ रही थी, जिसे वो जल्द मेरे पाले से निकलना चाहती थी. मेरी तो यह फंतासी थी ही कि मैं किसी भाभी के साथ बाथरूम में नहाऊं और चुदाई का मजा लूँ.

दो साल पहले जब मैंने कॉलेज पूरा करके काम शुरू ही किया था, यह तब की ही घटना है.

फिर मैंने माधुरी के नीचे होंठों को भी चूमा और बीच बीच में मैं अपनी जुबान माधुरी के मुँह में डाल देता तो माधुरी मेरी जीभ को चूसने लगती. मैंने और आगे बढ़कर शबाना को उठाने का प्रयास किया तो शबाना ने मुझे अपने ऊपर खींच लिया और बहुत बुरी तरह से मुझसे लिपट गई.

करीब दस मिनट के बाद वो डॉगी स्टाइल में आ गई मगर डॉगी स्टाइल में आने से मुझे भाभी की मखमली गांड दिखने लगी. कुछ देर में मेरा दर्द कम हो गया तो जीजू ने एक बार फिर जोरदार धक्का मारा और अपना सारा लंड मेरी चूत में उतार दिया. हालांकि मैंने ज्यादा देर नहीं करते हुए चूत से मुँह हटाया और अपने लंड पर कंडोम लगा लिया.

हम दोनों ने चूत और लंड धोकर कपड़े पहने और गेस्ट हाउस से फार्म हाउस पहुंचे. मैं सोच रहा था कि वो और सोनी हॉस्टल के एक कमरे में रहते थे, एक और दोस्त तापोश बाजू वाले कमरे में रहता था. मैंने कहा- सब आपका ही किया धरा है, एक मासूम लड़की को चोद चोद कर चुड़क्कड़ रांड बना दिया.

गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ मैंने कोमल चड्डी की इलास्टिक को अपने दांतों से पकड़कर नीचे खींचना शुरू कर दी. जाते जाते हिजड़ा बोला- बार बार बदन मसलकर जिन्न को थकाने से उसकी ताकत बढ़ती जाएगी, इसलिए अगर अब जिन्न हमला करेगा तो जलालुद्दीन आलिम खुद आकर उसको निकालेंगे.

श्रीलंका सेक्सी बीएफ

मेरे मोटे लंड के गांड में पेलने से साक्षी को दर्द बहुत ज्यादा हो रहा था और उसकी आंखें भर आयी थीं. ये जानते ही उनको थोड़ी सी शर्म आयी और उन्होंने मुझे टोकते हुए कहा कि निखिल क्या देख रहे हो?‘मैं. एक बार तो चाची की एक पैंटी, जो पुरानी हो गई थी, उसे चाची ने अलग रख दिया था; उससे मैंने इतनी बार मुठ मारी कि मैं बता नहीं सकता.

मैंने देखा कि वो दोनों औरतें अपना काम करती हुई थोड़ी दूर चली गई थीं. मैंने धीरे धीरे अपना हाथ ब्लाउज के अन्दर डालने की कोशिश की तो चाची जाग गईं और उन्होंने मेरे हाथ को हटा दिया. किन्नर बीएफ सेक्सकुछ देर लंड पर झुलाने के बाद मैंने उसको अपने लंड से उठाया और उसको कुतिया बना कर झुका दिया.

अब दीदी ब्रा में खड़ी थी और उनकी ब्रा पिंक कलर की थी और दीदी के जिस्म के कलर से ऐसे मैच कर रही थी कि ऐसा लगता था मानो कुछ पहना ही ना हो.

कोमल अपने हाथ बेड को पकड़े हुई थी और उसकी एड़ियां बेड के गद्दे पर थीं. जिनमें से एक कमरा मेरी बड़ी रुखसाना मामी का है, दूसरा मेरी नानी का है और तीसरा वाला मेरी छोटी निशा मामी का है.

’मैंने जाकर खिड़की से झाँक कर देखा कि चाची अपनी चूत में बेलन चला रही थीं. मैंने चूत में काफी अन्दर तक अपनी जीभ घुसा दी और उन्हें जीभ से ही चोदने लगा. बीवी जल्दी से अपने आप को ठीक करने में जुट गयी लेकिन हल्के हल्के नशे ने उसकी कोशिश पर पानी फेर दिया.

कुछ पांच मिनट में ही हम लोग थक गए थे क्योंकि हलासन में पीठ पर पूरा खिंचाव होता है और पेट पूरा दबा हुआ होता है.

अगला मौका जब भी मिले मैं रम्भा को नहीं छोडूंगा।खैर उस दिन के लिए ज्यादा रुकना नहीं पड़ा।मैंने सोचा कि आज रात को अपना काम पूरा कर ही दूंगा।रात का इंतजार लंबा होता जा रहा था. रोज रात को वो मेरे कमरे में आते और आधी रात तक हमारा चुदाई का खेल चलता. वो- अब इसमें समझने के लिए बचा ही क्या है, सब कुछ तो दिखा दिया आपने.

शादी के बीएफजब मॉम सज-धज कर तैयार होकर बाहर निकलती हैं, तो क्या बच्चे, क्या बूढ़े और क्या जवान … सभी के लंड मेरी मॉम की सेक्सी जवानी को देखकर सलामी देने लगते हैं. मोहित ने कहा- साली अब मत रोक … वर्ना यहीं पटककर तेरी चूत में चारों का लंड डलवा दूंगा.

एक्स एक्स एक्स वीडियो चुदाई बीएफ

अब आंटी धीरे धीरे मेरा लौड़ा सहलाने लगीं, फिर उन्होंने धीरे से मेरा लोअर निकाल दिया. मैं मॉम से पूरी तरह सटा हुआ था और मैं उनके बड़े बड़े चूतड़ों को बहुत बुरी तरह मसल रहा था. उसका लंड लेने के लिए मैं बेडरूम के बाहर आई और हिना को मेरे घर फोन करके बोलने कहा कि कह दो कि मैं सुबह घर आऊंगी.

जब मैंने उनसे कहा कि अपनी बीमारी के बारे में बताइए तो वो थोड़ा हिचकिचाईं. कुछ 15-20 मिनट तक पूरी शिद्दत से मेरे लंड की चुसाई करने के बाद वो उठा और उसने अपनी चड्डी निकाल दी. मुझे ऐसे और ज्यादा जोश आ गया तो मैंने उनके एक दूध के निप्पल को काटना शुरू कर दिया.

तकरीबन एक मिनट बाद वह भी अपनी गांड को उचका उचका कर मेरे लंड का आनन्द लेने लगी थी. काफी देर तक जीजू मेरे होंठ चूसते रहे तो मुझे भी अच्छा लगने लगा और मैं भी जीजू के होंठ चूसने लगी. खिड़की के पर्दे से टकरा कर आने वाली हवा उनमें नई शक्ति का संचार कर रही थी.

और पूरा का पूरा बदन जैसे किसी संगेमरमर की मूर्ति हो, ऐसा है।दीपिका को जो देखता है, देखता ही रह जाता है।मुझे गिटार बजाने का शौक भी है और एक दिन मैं घर पर अकेला था तो ऐसे ही गिटार बजाने लगा।दीपिका भाभी ऊपर कपड़े सुखाने आयी तो वहीं खड़ी मुझे देखने लगी।भाभी बोली- आपको गिटार बजाने का भी शौक है. मैंने अपने दोनों हाथों से पहले माधुरी की बड़ी गांड को सहलाया, फिर उसकी चूत को किस करके गांड पर एक थप्पड़ मारा.

फिर मैंने मोहित को रोका और उससे बोली- मुझे 2 लंड से एक साथ चुदना है.

मैं रूका तो मम्मी ने अपनी टांगें मेरे कंधों से उतार लीं और अपनी सांस सामान्य करने लगीं. देहाती बीएफ जबरदस्तीमैं इसी तरह बैठा हुआ पीछे को लेट गया और उसकी गांड को दबा ऊपर को उठाना चाहा. बीएफ फिल्म भोजपुरी सेक्सीभाभी जी ने नमस्ते स्वीकार की लेकिन शायद भाभी जी को मेरे द्वारा भाभी जी कहना पसंद नहीं आया. तब असिस्टेंट ने कहा- इसका लंड तो देखो भोसड़ी वाले का, कितना छोटा सा नुन्नी सा है.

अब मैं और जोश में आकर चोदने लगा और पीठ गर्दन पर चूमने लगा, काटने लगा.

अगले ही पल जैसे ही साक्षी पूरी तरह से खड़ी हो गयी तो उसकी गांड से मेरे कामरस की कुछ बूंदें नीचे फर्श पर टप टप करके टपक रही थीं. मैंने जल्दी से नाश्ता किया और मैं अपनी छोटी बहन के साथ टीवी देखने लगा. बहत देर से लगातार चुदाई चल रही थी फिर भी ना ही तो मेरा और ना ही जलालुद्दीन का पानी छूटा था.

हम दोनों ने चूत और लंड धोकर कपड़े पहने और गेस्ट हाउस से फार्म हाउस पहुंचे. पर दिक्कत ये थी कि सैट किसे और कैसे करूं?पूरे कॉलेज में हर लड़की किसी न किसी के साथ भिड़ी हुई थी. बस फिर क्या था … मैंने मीनू का हाथ पकड़ा और उसकी कमर में हाथ डाल कर अपनी तरफ खींच लिया.

औरत कुत्ते की बीएफ

उनकी दशा देख कर साफ़ समझ आता है कि मेरे चाचा ने उनकी चूत तो बहुत मारी होगी, लेकिन ये नहीं लगता था कि वो कभी उनकी चूचियों के साथ खेले होंगे. दस मिनट बाद मेरा लौड़ा फिर खड़ा हो गया और मैं फिर से कोमल को चोदने में लग गया. चाची बोलीं- मैं भी तुझे पसन्द करती हूँ राकेश … जब से ससुराल आई हूँ तबसे मैं तेरे साथ ही चुदने की सोच रही हूँ.

उसकी चुत से निकले लावा की गर्मी ने मुझे भी अपने साथ ही उतार लिया और दस पंद्रह तेज झटकों में मैंने भी सारा ज्वार मीना के अन्दर उतार दिया.

जब रात में कभी मेरे पति नहीं होते, तो रात भर चुदाई की बात करते हुए हम दोनों एक दूसरे को गर्म करते.

मैंने कहा- मेरी जान इतनी भी क्या जल्दी है, सब कुछ होगा आराम आराम से … आज तो जन्नत की रात है. अब दोनों की चुदाई अंतिम चरण पर पहुंच गई थी और हर झटके से दोनों की आहहह आह की आवाज तेज होती जा रही थी. हिंदी बीएफ 3 सालमैं चाची की गर्दन पीठ पर चुम्बन करने लगा, उनकी चूचियां दबाने लगा और वो भी मादक आवाज में चिल्लाने लगीं.

दोनों हाथों से मम्मी की कमर पकड़कर जोर का झटका मारा और पूरा लंड पेल दिया. उसकी चूत से अभी भी रस बह रहा था, जिसे मैंने जीभ से चाट कर साफ किया. और ज़ोर से चोद आआह हहमम आहह हहम उई माँ … क्या चुदाई करता है तेरा लंड … मुझे बहुत मज़ा आ रहा है और ज़ोर से चोद.

मुझे माधुरी की 36 साइज की मलाई की तरह कोमल और दूध सी सफ़ेद चूचियां मस्त दिखने लगी थीं. अब मैंने उसके एक दूध के निप्पल को चूसना शुरू किया और वो मस्त होकर अपने हाथों से मेरे सर को अपने मम्मों पर दबाने लगी.

वो हंसने लगी- हां यार … वो मैंने पोर्न में बहुत पढ़ा था कि गांड में लंड लेने से दर्द होता है.

चूंकि मेरी गांड की चुदाई पहले ही सलीम का लंड कर चुका था इसलिए हारून का लंड अन्दर लेने में मुझे कम दर्द हुआ और मजा ज्यादा आने लगा. नाश्ते के दौरान ही भाभी ने कहा- आज तक मैंने ऐसा सेक्स कभी नहीं किया था. मैं एकदम से डर गया और पीछे मुड़कर देखा तो मेरी आंखें फटी की फटी रह गईं.

2021 बीएफ सेक्सी वीडियो लेकिन उस बेदर्दी ने अपना पूरा लंड बाहर निकाल कर एक बार फिर पूरी ताकत से मेरी चूत में पेल दिया. देसी आंटी की चुदाई का मजा मुझे दिया मेरे भाई की सास ने! मैं उनके साथ स्लीपर बस में था.

कुछ देर तक ड्राइवर से चुदने के बाद मेरे बदन में गर्मी आने लगी थी और मैंने सिसकारियां भरनी शुरू कर दिया था. मैंने उसकी दोनों टांगे खोली और अपना लंड लगाया उसकी रसीली झांटों से भरी बुर पर … जो पहले से ही फटी थी. उसने भी विदा कहा और सेक्सी आंटी ने मुझे फुसफुसा कर कहा- किसी को मत बताना कि क्या हुआ, कभी घर आ जाओ.

बीएफ वीडियो डॉक्टर

जब उन्होंने एकदम बढ़िया तरीके से मेरी चूत को चाट कर उसकी सफाई कर दी तो मुझे अपनी अंडरवियर उतारने का इशारा किया. मोहित जितना मुझे गाली दे रहा था, मैं उतना ज्यादा मोम उसकी गांड में डाल रही थी. अब बस मैं इस इंतजार में था कि बस पापा जल्दी से जाएं और मैं मां चोदने का अपना सपना पूरा करूं.

अब ड्राइवर ताव में आ गया और बोला- साली रंडी, जंगल में अजनबी के साथ मंगल करती है और इधर ताव दिखाती है. कोल्ड वाइफ नो सेक्स कहानी में पढ़ें कि शादी के 8 साल बाद मेरी बीवी की सेक्स के प्रति रुचि कम हो गई.

मैं एकदम से डर गया और पीछे मुड़कर देखा तो मेरी आंखें फटी की फटी रह गईं.

मैं इतनी जोर से चूचे चूस रहा था कि तीन बार अन्दर तक चूची खींचने से साक्षी का दूध मेरे मुँह में पूरा भर जाता था. मैं थोड़ी दूरी बनाकर भीग रहा था पर भाभी किसी न किसी बहाने मेरे निकट आ जातीं. आपने भी कभी देसी लड़की की चूत चोदने का मजा लिया होगा?मुझे मेल करें![emailprotected].

कोमल के गोल गोल रसदार आम, जिनको पाने की हरसरत पहली नजर से थी, वो मुझे काफी देर से आमंत्रित कर रहे थे कि आओ और चूस लो हमको, पी जाओ सारा रस. उन्होंने मेरे छेद को चाटते चाटते मुझे इतना मदहोश कर दिया था कि मैं खुद उनका लंड पकड़कर अन्दर लेने को उतावली हो उठी थी, पर वो मुझे और तड़पा रहे थे. मैंने चाची से कहा- चाची आप थोड़ी देर आराम कीजिए, मैं बाईक घर छोड़ कर अभी आता हूँ, चाचा को जाना होगा.

मुझे टेबल कोहनी पर चुभे न, इसलिए सोफे के कुशन मैंने कोहनी के नीचे रख लिए थे.

गुजराती सेक्सी पिक्चर बीएफ: जलालुद्दीन ने बड़े ही प्यार से मेरा थूका हुआ पान खाया और बोले- ऐसा स्वाद तो पान में पहले कभी नहीं आया. सोनी ने अपनी बीवी से आगे जानने के लिए पूछा तो उसकी बीवी बोली- जिन स्त्रियों को उनके पतियों ने सताया है, उनका गुस्सा शांत करने के लिए, हम पुरुष गुलाम को भाड़े पर लाती हैं.

पर किसी के जग जाने के डर से रात में एक बार से ज्यादा चुदाई नहीं हो पाती थी. थोड़ा मक्खन अपने लंड के सुपारे पर लगाया और लंड को भाभी की फुद्दी पर टिका दिया. उसके बड़े बड़े गुंबदों से मम्मों के बीच मैंने अपने चेहरे को रखा और अपनी जीभ कोमल के मम्मों की घाटी में डाल दी.

करीब 5 मिनट चूत चुसवाने के बाद वो बोली- मेरे पति ने इससे अच्छी तरह से चूत और गांड नहीं चाटी है, जिस तरह से तुमने चाटी है.

रोज रात को वो मेरे कमरे में आते और आधी रात तक हमारा चुदाई का खेल चलता. जब मैं नई नई इस कॉलोनी में रहने आई थी तो वो सभी मुझ पर भी लाइन मारते थे. मेरा लंड जैसे ही मॉम की चूत में गया तो वो हल्की सी चीखीं और शांत पड़ गईं.