जंगल वाले बीएफ

छवि स्रोत,2020 की सनी लियोन की सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ चुदाई खपाखप: जंगल वाले बीएफ, दोस्तो, मैं राहुल आपको अपनी कल्पना मामी की चुत चुदाई की कहानी में एक बार फिर से स्वागत करता हूँ.

देवर भाभी का फुल एचडी सेक्सी वीडियो

चाची की चूत मारकर मैंने अपनी पहली चुदाई का सुख ले लिया था और वो सुख सच में स्वर्ग जैसा था. मारवाड़ी सेक्सी xxउसने मेरे लौड़े को देखा और मुझसे नजरें मिलाते हुए मेरे लौड़े को पकड़ कर मेरे लौड़े पर एक जीभ फिरा दी.

उसकी हालत बुरी हो गई थी।मैं सिर्फ उसको गर्म करके छोड़ देना था ताकि वो अपनी चूत शांत करने के लिए मेरी हर बात माने।तो मैं मीना से अलग हो गया. क्लियर सेक्सीअस्मिता हंस पड़ी और बोली- तू तो पूरा खिलाड़ी है … कितनी औरतों के साथ यह आइडिया इस्तेमाल कर चुका है?मैंने बोला- मेरे पास आईडिया तो बहुत हैं.

उसकी मादक आह निकलने लगी और वो मेरा सर दबा कर अपने दूध चुसवाने का मजा लेने लगी.जंगल वाले बीएफ: रागिनी ने बिना कोई सवाल के गांड में लंड लेने के लिए खुद को सेट किया और मैंने उसकी गांड में लंड का जोर लगाया.

तभी वो लड़का बाहर जाने लगा और बोला- मैं यहीं सामने वाले स्टोर रूम में हूँ.ऊपर से भैया की पिटाई से मेरा पैर भी टूट गया था, जिससे मैंने कहीं भी दाखिला नहीं लिया था.

puja सेक्सी फोटो - जंगल वाले बीएफ

चूंकि वो कुर्सी पर बैठा था और मैं खड़ी थी, तो मैंने उसको उठा कर अपनी छाती से लगा लिया और उसका मुँह मेरी चुचियों के बीच दबा लिया.सनी बोला- ठीक है जब मैं तेरी मां चोदूंगा, तब तू चुपके से चुदाई देख लियो.

ये शायद प्यार ही था, जो मैं शायरा से प्यार तो करना चाह रहा था … पर उसे दर्द होता नहीं देख पा रहा था. जंगल वाले बीएफ लेकिन ऐसा कुछ नहीं हुआ और सारे रास्ते वो मेरे मम्मों से खेलता हुआ आया.

ट्विंकल- हैलो प्रिया … हाऊ आर यू … आज बहुत दिन में याद किया साली कमीनी … तू मुझको तो भूल ही गई.

जंगल वाले बीएफ?

जैसे ही चरम सीमा पर पहुंचने वाले थे हम दोनों ने लंड को एक दूसरे के गले तक धक्का दे दिया. वो बोलीं- क्यों सता रहा है … अभी पहले जल्दी से अन्दर डाल दे … ये सब बाद में कर लियो. जब उससे रुका न गया तो बोली- बस … बस … आह्ह … डाल दे अब … जान लेगा क्या मेरी … आह्ह … ओह्ह … रुक जा … आह्ह!मैंने जल्दी से उसकी चूत को छोड़ा और अपनी टीशर्ट और शॉर्ट्स उतार कर पूरा नंगा हो गया.

मैंने उसकी ब्रा के ऊपर से चूचियों को दबाया और उसकी सलवार के ऊपर से चूत को सहलाने लगा. अब मैंने चाची की पैंटी पर मुंह रखा और चूत को मुंह में लेकर जैसे खाने लगा. अनु मुस्करा हाथ से सीने पर ठोकते हुए बोली- इसको कहते है चुदाई करने वाला मर्द … मौसी.

तकरीबन 15 मिनट बाद मेरे शरीर में ऐंठन सी होने लगी और मेरी सारी गर्मी चुत से लावा बनकर निकलने लगी. तुमने उस समय बात क्यों टाली छुपाई क्यों?मैंने कहा- बुआ यदि मैं सच कहूंगा, तो आप बुरा तो नहीं मानोगी?बुआ ने कहा- हां कह तो मैं क्यों बुरा मानूंगी!फिर मैंने कहा- वो ही मेरी गर्लफ्रेंड हैं … और वो मुझे किसी से शेयर नहीं करना चाहती हैं. मैं डेजी की चूचियां ब्रा के ऊपर से ही चूस रहा था।डेजी ने अपनी ब्रा खोली और हम दोनों बेड पर लेट गये.

ना मैं तुम्हारे लिए चाँद तारे तोड़ सकता हूँ और ना ही तुमसे शादी कर सकता हूँ. रवि बोला- ऐसे कैसे बेकाबू हो जाएगा तेरा मन! तेरी चूत तो बस मैं ही फाडूंगा.

कुछ देर बाद उनको देखते ही मैंने उनके एक दूध को पूरा अपने मुँह में लेने की कोशिश की तो भाभी बहुत उत्तजित हो गयी थीं.

मैं ज्यादा देर तक नहीं रोक सकती थी इसलिए मैं तेजी से उसके लंड पर ऊपर नीचे होने लगी.

कामवासना कहानी में पढ़ें कि मैं अपने गेस्ट हाउस में अपने अफ्रीकी मेहमान के साथ उसके बिस्तर में थी. जब तक वो आता, मैंने जानबूझ कर अपना दरवाज़ा हल्का सा खोल दिया … इससे उसको मेरे कमरे के अन्दर का सब नज़र बाहर साफ दिख जाता. ज़ारा- आ…ह! जान!मैं झटके मारने लगा तो कुछ ही देर में वो क्लिट रगड़ने लगी!तो मैं बोला- क्या कर रही हो?ज़ारा- जा…न मुझे जल्दी झड़ना है!मैं- क्यों?ज़ारा- जान मेरी गांड बाकी है!मैं- लेकिन मुझे चूत में झड़ना है!ज़ारा- तो घुसा देना जब झड़ो! अब प्लीज चोदो!मैं फिर से चुदाई करने लगा तो कुछ ही देर में वो झड़ गयी.

उसके बाद उसकी मौसेरी सास की चूत मारी और फिर उसे गांड सेक्स का मजा दिया. अब आगे ससुर ने बहू को चोदा:फ्रेश होकर आने के बाद मैंने उसके हाथ से रूई ली और उसकी चूत पर लगे अनचाहे बालों को साफ करने लगा. और मैं चुदवाता जा रहा था।काफी देर के बाद चाचा जी ने मेरी गांड में ही अपना माल निकाल दिया।चाचा जी के गर्म गर्म वीर्य से मेरी गांड भर गयी।मुझे एक अलग ही अहसास हो रहा था जब उनका माल मेरी गांड में उतार रहा था।उनकी चुदाई से मैं भी बिस्तर पे ही झड़ गया.

वैसे शायरा ने अपना इरादा क्यों बदल दिया … मैं ये भी जानना चाह रहा था.

दूसरी बार वे मुझे गुलाब बाग साईकिल पर ले गए, जब उन्होंने थूक लगा कर लंड मेरी गांड में डालने की कोशिश की, तो एकदम से पेल दिया. मैंने भी उनकी हंसी में साथ देते हुए कहा कि तो हम लोग अपना काम चालू करें!आफ़िया भाभी ये सुनकर बेड की तरफ चल पड़ीं और मैं भी काफ़ील के साथ बेड पर आने को रेडी हो गया. मैंने कहा- कैसा मजा?वो बोली- तुम्हें नहीं पता?मैं बोला- नहीं, मैं तो तुम्हारे मुंह से सुनना चाहता हूं.

शादी के बाद उसने खुद से मुझे अपना नम्बर दिया और मुझसे मेरा नम्बर मांगने लगी. इससे पहले रस सूखता, उसे वापस उसी तरह अंदर धंसा दिया। इस बार पहले की अपेक्षा कुछ आसानी से गया और अपने हाथ उसकी जांघों पर टिका कर बड़ी आराम से धीरे-धीरे अंदर-बाहर करने लगा।योनि एडजस्ट हो गयी और तो उसने अपना हाथ हटा लिया और अब आंखें बंद कर के धीरे-धीरे सिसकारने लगी।जोर-जोर से पेल न बे! शिवम ने उकसाने की गरज से कहा।शुरुआत में ऐसे ही ठीक है. पीछे से प्रिया भी इनकी हरकत देख गर्म हो गयी थी तो उसने अजय के कान को और गर्दन को किस करना शुरू किया.

रवि के जाने के बाद पिंकी पार्लर हो आई और नेल पॉलिश भी नया लगा लिया.

नमस्कार दोस्तो, मेरा नाम हैप्पी सिंह (बदला हुआ नाम) है और मैं मुम्बई में रहता हूं।अपने साथ घटित हुई सच्ची घटना को मैं आपके साथ बांट रहा हूं. उसकी इस हरकत से मेरी उत्तेजना एकाएक बढ़ गयी और मैंने अपनी गर्दन उसके कंधे पर रख दी जिससे उसको और आसानी हो जाए.

जंगल वाले बीएफ अनिल ने पिंकी को कसम दी कि तुम रवि से सेक्स मत करो, तुम पर मेरा अधिकार है. पहले तो डेजी ने शर्म और परेशानी में थोड़ा इनकार किया लेकिन बाद में वो मान गई.

जंगल वाले बीएफ बहुत जी ली शराफत की जिंदगी, अब मैं भी अपनी लाइफ में पूरा इंजॉय करूंगी. मेरा यौवन मेरी ब्रा में कैद जैसे कह रहा था कि अभी उसे निर्वस्त्र न किया जाये.

प्रियंका उसे सब बताने लगी कि जीजू आयशा के ब्वॉयफ्रेंड हैं … और उन्होंने मुझको और आयशा को साथ में ही चोदा था.

बिहारी सेक्सी वीडियो एक्स

अगर किसी औरत की अच्छे से चूत चूस दी जाए, तो वो पांच मिनट के अन्दर झड़ जाएगी. इसके बाद तकरीबन 15 मिनट और रुकी फिर गाड़ी भर जाने के बाद ड्राइवर ने गाड़ी आगे निकाली. रंग का थोड़ा ज्यादा सांवला था लेकिन पति के शरीर के साथ मिलता था।पास में रखी शीशी उठाकर उन्होंने अपने लिंग पर तेल लगाया।फिर वो शीशी रख कर मेरे पास आ गये और मेरे ऊपर चढ़ गये; अपने लिंग के टोपे को उन्होंने मेरी चूत पर टिकाया और उसको ऊपर नीचे रगड़ने लगे.

तुमने उस समय बात क्यों टाली छुपाई क्यों?मैंने कहा- बुआ यदि मैं सच कहूंगा, तो आप बुरा तो नहीं मानोगी?बुआ ने कहा- हां कह तो मैं क्यों बुरा मानूंगी!फिर मैंने कहा- वो ही मेरी गर्लफ्रेंड हैं … और वो मुझे किसी से शेयर नहीं करना चाहती हैं. जैसा कि मैंने बताया कि मैं शादी से पहले एक छोटे शहर में रहती थी, तो शादी के बाद पति के साथ बड़े शहर आ गयी. मैं यही सब सोचते हुए अपनी चूत सहला रही थी कि इतने में ही पंकज मेरे पास आकर झुककर अपने दोनों हाथों से मेरी चूचियाँ दबाते हुए मेरे बेचैन रसीले होंठों को चूसने लगा।अचानक हुए इस हमले से मेरी चूत ने बेसाख़्ता ही फिर से पानी छोड़ दिया और मैंने भी तुरंत ही एक हाथ से उसकी पीठ सहलाते हुए सीधे हाथ से उसके लंड को टटोलते हुए पैंट के ऊपर से ही पकड़ लिया और उसे प्यार से सहलाने लगी.

वो पिंकी को गोदी में उठाकर नीचे से उसकी चूत में अपना लंड घुसा कर चोदता था.

मैंने उसको रुकने के लिए कहा और अयान से बोला- तुम बहुत अच्छी तरह से दबा लेते हो … प्लीज़ मेरी पीठ में बहुत दर्द है क्या तुम मेरी पीठ को भी दबा दोगे?अयान ने हामी भर दी. मैंने दिल में ही सोचा कि उन पैड को तो उस दिन मैंने ममता जी को दे दिया था. जिस तरह से मेरे धक्के की ताकत होती, उसी तरह से सायरा के मुँह से आवाज आती.

वो अपनी गांड उठाते हुए कहने लगी- आह मजा आ रहा है … तेज तेज चोदो … आह थोड़ी और तेज आ … आ. फिर मैंने मोना को पीछे से पकड़कर उसकी चूचियों को दबाना शुरू किया और उसकी कमर पर किस करना शुरू कर दिया. जब मुझे लगा कि उसकी चूत में आग भड़क चुकी है तो मैंने अपनी उंगली चूत से हटा ली और उसकी गर्दन को चूमने लगा.

”ये कहते हुए उसने मुझे उल्टा किया और मेरी गांड में अपना मुँह दे दिया. मासी मादक सिसकारियां लेने लगीं- अह अह … अभय चूसो … आह मैं बहुत प्यासी हूँ.

वो हम दोनों को अठखेलियां करते हुए देख कर अपनी नज़रें बार बार चुरा लेती थी. आप मेल करके जरूर बताएं क्योंकि इससे ही मुझे आगे की सेक्स कहानी लिखने का हौसला मिलेगा. और लंड बार बार अंगड़ाई तोड़ रहा था तो मैं चाची की चूचियों को पीने लगा.

उसकी पतली कमर के नीचे चौड़े चूतड़ जैसे कामदेव को भी दीवाना कर दें इतने कातिल थे.

उसके ऐसा करते ही मेरी आंखें मदहोशी से बंद हो गईं और मैं उस क्षण को शब्दों में बयान नहीं कर सकती. इस मौसम में कभी हम तीनों सामूहिक गोला मारते, तो कभी स्कूल की तरफ से बारिश के चलते छुट्टी हो जाती थी. मैं एकदम उत्तेजना में था और उनको गाली बके जा रहा था- आह साली … तू बस अब मेरे लौड़े से चुदने के लिए तरसेगी कमीनी.

बिन्नी की आवाज को मैंने अपने हाथ से दबा लिया और लण्ड को पूरा एक ही झटके में अंदर तक ठोक दिया. दिल्ली सेक्स चैट पर देसी इंडियन हॉट मॉडल इस काम को बखूबी कर लेती हैं.

तेल लगाते लगाते कभी कभी मामी की चुचियां मेरे पैरों में टच हो रही थीं. वो मेरे 7 इंच लम्बे और ढाई इंच मोटे लंड को देखते हुए अपनी जीभ को अपने होंठों पर फिराने लगी. उसकी चूत ने पानी छोड़ दिया और चुदाई में अब फच … फच … की आवाज आने लगी.

दूल्हे के पैर की मेहंदी

लंड अन्दर लेते ही मेरी सिसकारियां निकलने लगीं और मेरे मुँह से जोशीली आवाज में ‘उफ्फ आह आह आई उह ईईई आह.

अयान ने अपनी मां के सामने अपना सर हिलाते हुए हां में इशारा किया और आकर मेरे पैर दाबने लगा. फिर मैं पूजाबुआ की चूत की चुदाईउनके घर में करके अपने गांव आ गया था. हम जैसे ही इस हवेली के नाम से चर्चित होटल के मेनगेट पर पहुंचे, हमें लेने के लिए एक मर्द गेट पर खड़ा था.

मगर अगले पल ही वो हल्के से हंस दी और बोली- अरे वो तो ऐसे ही … और उसकी तो शादी हो चुकी है न. मैंने अपने अनुभव और पटाने की कला का प्रयोग करके उस देसी सेक्सी लड़की धीरे धीरे करके पटा ही लिया. 3 सेक्सी गानाअब चाचा जी का लंड भी खड़ा था और उनकी लंगोट उनके लंड को पूरा नहीं संभाल पा रही थी।उनके खड़े लंड को देखकर मुझसे रहा नहीं गया.

मैं बोला- अब तुम अपने दोनों हाथ मेरे पेट पर रखो और अपनी कमर को धीरे धीरे आगे पीछे करो. मैं बीच-बीच में कभी प्रिया भाभी के होंठों को चूसता, कभी उनकी चुचियों को पीता और कभी ट्विंकल के होंठों का रसपान कर लेता, तो कभी उसकी चुचियों को मसल देता.

मैंने अपने एक दोस्त को साथ लिया और …दोस्तो, मैं राजकुमार राजस्थान से हूँ. जब अविना को दर्द होना कम हुआ, तो मैं फिर से धीरे धीरे लंड नई चुत में पेलने लगा. कुछ देर बाद एक बार फिर से मैं ऊपर हुआ और उसके उरोजों को, जो अब काफी तन चुके थे, बारी-बारी से मुँह में भरकर चूसने लगा.

कुछ देर बाद वो पानी लेकर आया, तो मैंने बात बात में उससे उस मैनेजर के बारे में पूछा. उनके आते ही मयंक और शेखर में जिस नम्बर पर कॉल किया था, उस लड़की के साथ अपने रूम में चल दिये और चुदाई का सीन चालू कर दिया. होटल में चुदाई का प्रोग्राम फिक्स होने के बाद मैंने मेडिकल की दुकान से सारा जरूरी सामान ले लिया और ओयो होटल में एक एसी कमरा बुक करवा लिया.

इसलिए पहला निवाला खाते ही मैंने शायरा के एक हाथ को पकड़ कर उसे चूम लिया और शायरा बस देखती रह गयी.

मोबाइल पर उन लोगों ने गाना लगाया और बारी बारी सब लड़कों ने मेरे पूरे बदन का स्पर्श लेते हुए मेरी गांड और चुचियों को छूते हुए मेरे साथ डांस किया. जब मैं सारा सामान खरीदने लगा, तो दुकान वाले ने पूछ ही लिया कि घर के सब लोग आ गए क्या!वहां पर भी मैंने हां में सिर हिलाया और सामान लेकर वापस चल दिया.

‘ले साली मेरी मां को गदहे से चुदवाएगी कुतिया … तेरी तो मां के साथ साथ तेरे खानदान की सभी चूतों को फाड़ कर भोसड़ा बना दूंगा … और चौराहे पर आते जाते लोगों से चुदवाऊंगा … मेरी रखैल भाभी. मैंने पूछा- क्या हुआ मां?वो बोलीं- पैर में मोच आ गई, बहुत दर्द हो रहा है. भाभी हंस दीं और बोलीं- चिकनी और खुरदुरी को छोड़ो … जल्दी से धकापेल कर दो.

सेक्स कहानियों को पढ़ कर न जाने कितनी ही बार अपने हाथ से लंड हिला कर सुख ले चुका हूँ. नीचे जाते वक्त रास्ते में ही प्रियंका सुरभि से बातें करती हुई मिल गई. और उनकी मौज हो गयी जो अपनी सेटिंग के पास एक दिन को गए और वहीं फंस गए.

जंगल वाले बीएफ मैंने बिन्नी की दोनों जाँघों को पकड़ते हुए उसकी गुदाज़, चिकनी और रस से गीली चूत को अपने मुँह में भर लिया. फिर बोली- गांड त तेरी भी टुट गी किसे त बतायी तो!मैं बोला- मैं ना बताऊ।चाची बोली- ठीक सै.

भाभी जी की फोटो सेक्सी

मैंने उसे अन्दर खींचा और झट से गेट बंद करके उसे अपनी गोद में उठा लिया. वो मौसी को कहती जा रही थी- बधाई हो मौसी … आज आपकी गांड की सील भी टूट गयी. फिर क्या हुआ?मेरी गांड एक बड़े लंड के नाममैं एक ऐसी गे बॉय सेक्स कहानी से आपको रूबरू करवा रहा हूँ, जहां एक वैडिंग प्लानर अपने काम और काम वासना के किस्से सुना रहा है.

मुझे याद आया कि खुराना की वैडिंग में मैंने एक जाट से अपनी सेवा करवाई थी. उसकी जीभ लगते ही मैं गुदगुदा गयी और सोची- मार दे बहनचोद … मैं सही में तेरी रंडी ही हूं. इंग्लिश सेक्सी कथामैं बोला- मां, क्या मैं फिर से आपके दूध पी सकता हूं?वो बोलीं- पगले, अब थोड़ी ना दूध आएगा … लेकिन अगर तू चाहता है तो इन्हें चूस सकता है.

वो मेरे चूतड़ों में हाथ फेरने लगी और साथ ही उंगली को मेरी गांड के अन्दर डालते हुए और मेरी तरफ देखते हुए बोली- वैसे बात आपकी भी सही है कि जब हम लोगों ने हर जगह का मजा लिया है … तो फिर इससे क्या फर्क पड़ता है.

अब आगे की फ्री गे पोर्न स्टोरी:वो हाथ मेरी कमर से होते हुए मेरे कंधे तक धीरे धीरे आया. चूंकि चुदाई का मजा ले चुके थे तो हम दोनों अपनी चुदाई के मजे के बारे में ही बात करते थे.

उसके बाद मैंने उसके दोनों गालों पर एक एक लंबा से किस किया और इठलाते हुए बाहर चली आयी. मैं- तो असलम भाई अपने मजा लिया?असलम- हां कई बार उन्होंने मजा दिया, बिलकुल आप जैसा ही उनका मस्त हथियार था. पंकज ने फिर से मुझे अपनी ओर खींच कर मेरी गांड के छेद को अपनी उंगलियों से सहलाना शुरू कर दिया.

जैसे कि मैंने पिछली सेक्सी बुआ Xxx स्टोरी में बताया था कि मेरी बड़ी वाली मीना बुआ तो इतनी बड़ी रांड थीं कि वो तो पैंटी ही नहीं पहनती थीं.

पिंकी ने हंस के कहा- आज क्या कुछ ख़ास बात है?रवि ने आंख दबा कर कहा- सरप्राइज है. प्रियंका- बिना गांड चुदाई के मजा नहीं आएगा तेरे को … कुछ बाकी रह गया लगेगा. वो कहानी मैं बाद में बताऊंगा कि कैसे मैंने आंटी को चोदा।दोस्तो, टाइट चूत की सेक्स कहानी पसंद आई होगी.

सेक्सी ब्लू मशीनजब तक वह समझ पाती, मैंने उसको गोदी में उठाया और गोद में ही लटका कर उसकी चुत में अपने लंड से ताबड़तोड़ हमले कर डाले. उसमें से एक लड़के ने मुझे लार्ज पैग बना कर दिया और दूसरे ने मुझे चकना दिया.

पढ़ने वाली सेक्सी स्टोरी

चुत पर हल्के हल्के बाल‌ थे मगर गीले होने के कारण वो चुत की फांकों से ही चिपक गए थे. क्योंकि वो भी टुन्न था और मेरे साथ मुझे छोड़ने जाने से अच्छा था कि मैं टैक्सी से ही चला जाऊं. इसलिए मैंने अपने लंड को बाहर निकाल लिया और प्यार से उसके होंठों को चूसने‌ लगा.

संध्या चाची ने अब मुँह खोल कर लंड का टोपा अन्दर लिया और धीरे धीरे चूसने लगीं. पांच मिनट बाद वो मेरा सर दबाने लगीं और मेरी जीभ के जादू से फिर से गर्म होने लगी थीं. नैना को भी मुझ पर विश्वास था कि उसके कही किसी बात को मैं टालने वाला नहीं था.

स्थिति इतनी उत्तेजक हो गयी कि अब हम एक दूसरे की योनि को उंगलियों को मैथुन करने के साथ, एक दूसरे के योनिरस का स्वाद भी लेने लगे. गोदी में आते ही सायरा मेरे होंठ को चूमते हुए बोली- पापा याद है ना आपको, एक बार आप बोले थे कि आप नंगे हो और मैं तौलिया लपेटे हुए हूं और आज मैं नंगी हूं … और आप लुंगी पहने हो. दोस्तों, आपको मेरी सेक्स सेक्स Xxx कहानी कैसी लग रही है? आप मुझे जरूर बतायें!मेरी मेल आई डी है-[emailprotected]आप सभी का धन्यवाद!सेक्स सेक्स Xxx कहानी जारी रहेगी.

प्रिया भाभी भी बीच बीच में ट्विंकल की चुत के दाने को सहलाती और कभी उसके और मेरे जिस्म को चाटती जातीं. उसने अपने दोनों पैर मेरे कंधे पर रख दिए और मेरे मुंह को अपनी चूत में दबाने लगी और मैं उसकी चूत चाटने लगा.

मेरी भाभी ने उससे बोला- अयान, अपनी चाची के पैर दबा दे … फिर चले जाना.

उसने इशारा किया कि वो तैयार है और फिर मैं भी वो कामुक रोल प्ले करने के लिये तैयार हो गया. राजस्थानी लड़का सेक्सी वीडियोउसके लंड से कई पिचकारी निकली और उसने अपना सारा माल मेरे पेट पर गिरा दिया. विश्व की सेक्सी पिक्चरमैंने अपने चेहरे को शॉवर की तरफ किया और आंखें बंद करके मानवेन्द्र के साथ हुए उस छोटे से पल को याद करने लगा. मैंने बड़ा सा बाईट काटा और उनको अपने मुँह से मुँह लगा कर खिलाने लगा.

अपने ही शरीर को निहार लेना, मेरी उन आदतों में से एक है … जो मैं हर रोज करता हूँ.

मैंने उसके हाथ को पकड़ा और अपने लंड पर रखवा कर फिर से उसके चूतड़ों पर लंड सटा दिया. उधर मैंने भी नीरू की चूत के छेद को उंगलियों से चौड़ा किया और उसकी चूत को थोड़ी देर सहला कर अपनी जीभ से उसके चूत के दाने को चाटने लगा. मैंने सायरा की कमर को पकड़ कर अपनी तरफ खींचा और सीने से चिपकाते हुए कह- हम दोनों तो पति-पत्नी है न.

जबकि डॉक्टर एक ही हाथ से मेरे मम्मों को बारी बारी से कस-कस कर मसल रहा था और दूसरे हाथ से चुत की फांकों के अन्दर बहुत ही प्यार से अपनी उंगली चला रहा था. [emailprotected][emailprotected]देसी कॉलेज गर्ल सेक्स स्टोरी का अगला भाग:सेक्सी हॉट माल दिखने के चक्कर में चुत चुदवा ली- 2. कानों में ईयरफोन था और मैं मजे से पोर्न मूवी देखता हुआ लंड को सहला और मसल रहा था.

मां बेटे की चुदाई स्टोरी

एक दिन मुझे मेरी फेसबुक पर एक लड़की का फ्रेण्डशिप के लिए रिक्वेस्ट आया तो मैंने उसे स्वीकार कर लिया।वैसे उसका नाम अपर्णा (बदला हुआ नाम) था और वो इंजीनियर की स्टूडेंट थी. विमला को बेड पर गिराकर उसकी छाती पर लेट कर होंठों पर पहला चुंबन दिया. अब तुम्हारी हां के चक्कर में यहां किचन में ही खड़े खड़े सुबह हो जाएगी.

जैसे कि उसकी चुत कह रही हो कि मुझे जीभ नहीं, तुम्हारा लंड चाहिये … लंड देना है तो अपना लंड पेल दो, जीभ से मेरा क्या होगा? जीभ से तो मेरी आग और भी भड़क जाएगी.

कुछ देर तक यूं ही चूसने के बाद उसने अचानक से शॉवर को बंद कर दिया और फिर से मेरे होंठों के पास से गिरती हुई बूंदों को चाट कर साफ़ कर दिया.

मतलब टाइट चूत बिल्कुल चिपकी हुई थी जैसे उसने महीनों से लंड न खाया हो।मैंने उसकी चूत की फांकों को खोला और एक उंगली घुसा दी. वो गांड आगे को उठा कर लंड लेने की कोशिश कर रही थीं मगर मैं बार बार लंड पीछे कर लेता था. कल्याणी सेक्सी व्हिडिओमैं अनामिका के आम देख कर बोला- वाह क्या रसीले चूचे हैं … पहली बार ऐसे आम देखे मैंने.

मैंने भाभी से पूछा- आज कितनी बार चुदाई हुई?भाभी बोलीं- वो लोग सुबह छह बजे के करीब आ गए थे. सुबह होते-होते मैंने इतना तय कर लिया कि जब तक मैं जिन्दा हूं, सायरा के जिस्म को इस तरह से परेशान नहीं होने दूंगा. उसका गोरा बदन, झील सी नशीली आंखें, सुर्ख गुलाबी होंठ … सच में वो कोई अप्सरा लग रही थी.

शायरा कुंवारी तो नहीं थी मगर उसकी चुत से मुझे नहीं‌ लग रहा था कि उसका पति कभी ठीक से उसकी चु्दाई करता भी होगा. वो- और तुम्हारी ये टीचर … इसको कब पटाया … शादी से पहले या बाद में!मैं- अरे … इसकी तो सील ही मैंने …(तोड़ी थी)मैं ये पूरा कहता, तब शायरा ने खाना डालते डालते ही चम्मच से मेरे हाथ पर मार दिया और चिहुंक गई.

जिस बदन को आज तक केवल रवि ने देखा था, कितनी बेशर्मी से उसने अनिल को सौंप दिया.

उसने बताया था कि उसके पति एक मल्टीनेशनल कंपनी में मार्केटिंग हेड हैं और पूरे महीने में केवल 10-12 दिन ही सिटी में रहते हैं. उन्होंने मुझे चोदते हुए ही कहा- बेटा सुहानी एक गुजारिश है तुमसे!मैंने कहा- आहह … अहह … चाचा जी, आज तो आप … आहह कुछ भी … मांग लो … आहह … आई लव यू … चाचा जी … बोलो ना क्या चाहिए. पैंटी मैंने सन्नी की ओर फेंक दी, जिसे सन्नी सूंघने लगा और अपना लंड सहलाने लगा.

एक्स एक्स सेक्सी वीडियो बढ़िया वाला मैं तेजी से लंड पर हाथ चलाते हुए मुठ मारने लगा और एकदम से कुर्सी से उठते हुए मेरे लंड से वीर्य की जोरदार पिचकारी निकली जो सीधी कीबोर्ड पर गिरी. दोनों छेदों में उंगलियों की रफ़्तार बढ़ाते हुए पूरे कमरे में फच फच फच और अनामिका की आंहों की आवाज गूंजने लगी थी.

उस मर्द ने मेरे साथ चुदाई की और मेरे बदन में एक अलग ही सिरहन पैदा कर दी. मेरी गांड अब भी दर्द कर रही थी, पर चूत में चुदवाने की वजह से बहुत मजा आ रहा था. फिर मैंने अपर्णा के एक दूध को अपने मुंह में भर लिया और उसका दूध पीने लगा.

సెక్స్ ఇండియా

सुपारा, टट्टे और उसकी हल्की हल्की झांटों में मेरा थूक ही थूक हो गया था. आज से हम फिर से दोस्त बन रहे हैं और इस पर मैं अब कुछ नहीं सुनना चाहता. समय व्यतीत होता गया और मेरी सेक्स लाइफ बहुत बोरिंग हो गई।उस रात को आज भी नहीं भूल पाई हूं.

पिंकी ने फटाफट अनिल को विदा किया और बाथरूम में जाकर नहाई और दूसरा नाईट सूट पहन कर रूम में आ गई. रश्मि के मुंह से आह्ह … आह्ह … की आवाज करते हुए कहने लगी- साले दम नहीं है क्या? और जोर से चोद.

उसका मेरे नितम्बों को दबाना मुझे अत्यधिक उत्तेजित कर रहा था।मुझसे और सहा नहीं गया और मैंने दोबारा उसे चूमना शुरु कर दिया।उसने भी मेरा फिर से पूरा साथ दिया और जीभ को मेरी जीभ से मिला दिया।किस करते हुए ही मैंने अपना हाथ उसके सीने पर रखा और उसकी शर्ट के बटन खोलने लगी। सारे बटन खोलने के बाद मैंने उसकी शर्ट को नीचे उतार फेंका।अब वो ऊपर से नंगा हो गया। उसकी छाती काफी आकर्षित करने वाली थी.

मामा लोग अमीर थे और उनका घर भी दो मंजिला बना था जिसमें ग्यारह कमरे बने थे. ऐसा बोलकर अनिल बिस्तर से उठकर सोफ़े पर बैठ गए और पंकज को शुरू करने के लिए बोल दिया. नीबू के साइज की सलोनी की चूचियों के निप्पल्स टाइट होकर मेरे सीने में चुभ रहे थे.

मैं टेबल पर नंगी लेटी थी और मेरा मुंह व बूब्स टेबल पर दबे थे और हाथ हवा में थे. [emailprotected]इससे आगे की कहानी:साली की छोटी बेटी की कुंवारी चूत की चुदाई. पर अब भी जब वो आते हैं, मैं उनसे अपने मन की सारी बातें बताता हूँ।और वो अभी भी मेरे सबसे अच्छे दोस्त और सेक्स पार्टनर भी हैं।तो दोस्तो … यह थी कहानी रोनी और उसके चाचा जी की। मुझे आपके कमैंट्स का इंतज़ार रहेगा.

थोड़ी देर में ही उसकी चूत ने मेरे लंड को जगह दे दी और वो आराम से नॉर्मल होकर चुदने लगी.

जंगल वाले बीएफ: मेरे हाथों की पकड़ बहुत तेज थी और उसकी चूचियां एकदम से लाल हो गयी थीं. वैसे तो मेरा दिल आख़री के धक्के धीरे धीरे मारने में मेरी बहुत मदद कर रहा था.

मैंने बिना हिल-डुल किए वैसे ही भाभी की गांड में अपना लंड फंसा दिया और भाभी को कसके अपने हाथों से पकड़े रहा. डेजी ने जब उसका परिचय करवाया तो उसने बताया कि वो उसकी होने वाली भाभी है. वो अपने घुटनों पर था और मैं नीचे झुका हुआ उसके लंड को मुंह में लकर तेज तेज चूसने लगा.

कमरे के अन्दर उसने बाथरूम में जाकर चेंज किया और होटल का बाथरोब पहन कर बाहर आ गई.

आपने गाँव की चूत चुदाई स्टोरी के पिछले भागदेसी मामी से लंड की मालिश करवायीमें अब तक पढ़ा था कि कल्पना मामी मेरे साथ बिस्तर पर मस्ती कर रही थीं. मैंने प्यार से बिन्नी के गालों को सहलाया और उसे सांत्वना देते हुए कहा- बस हो गया जो होना था. अभी भी मेरा हाथ मेरे लंड पर चल रहा था ताकि पीछे वीर्य नली में रह गया वीर्य भी बहकर बाहर आ जाये.