बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन

छवि स्रोत,इंग्लिश सुपर सेक्सी

तस्वीर का शीर्षक ,

महबूबा सेक्सी वीडियो: बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन, यदि हम एक दूसरे की जरूरत पूरी करेंगे, तो शायद इससे हम दोनों भाई बहन का प्यार ही बढ़ेगा.

जवान लड़कों की सेक्सी वीडियो

मौसी की लड़की को देख कर वासना ऐसी भड़की कि मन कर रहा था कि उसके दूधों को पकड़ कर अभी मसल दूं. jiopay सेक्सी वीडियोफिर मैंने उसके एक निप्पल को मुँह में लेकर धीरे से उसे काट लिया, वो एकदम से उछल पड़ी और मुझे अपने सीने से कसके चिपका लिया.

बेशक मम्मी का कोई न कोई यार हर हफ्ते हमारे घर रात को छुप छुपा कर आता था, मगर लाला भी महीने में एक दो बार ज़रूर आता था. डाकू की सेक्सी फिल्ममैंने भाभी से पूछा- आपको कबसे पता चला कि मुझे आपको चोदने की इच्छा है.

एक शाम को माँ ने बोला- बेटा बगल की आंटी आयी थीं, वो तुमको पूछ रही थीं.बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन: कई दिनों बाद मुझे चुदाई का सुख मिल रहा था, इसलिए मुझे भी अपनी चूचियों के चूसे और मसले जाने से बड़ा मजा आ रहा था.

उसके मुँह में मैंने लंड डाल दिया और जितना भी माल आया, सब उसी के मुँह में झाड़ दिया.यह कहानी मेरी पिछली कहानी से पहले की है और मेरे विद्यालय से शुरू होती है, जब मैं पढ़ता था.

एक्स एक्स सेक्सी वीडियो एचडी हिंदी - बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन

कुछ ऐसे चिकने लौंडे भी होते हैं कि एक पिक्चर देखने के बदले वे अपनी गांड मरवा लेते हैं.अब तो मैं नीचे धक्के पर धक्के लगाने लगा और वो मेरे होंठों और जीभ से खेलने लगी.

मेरा मन तो नहीं कर रहा था लेकिन उसकी बात मान कर मैंने वीर्य निकलने से पहले लंड को उसकी चूत से निकाल लिया. बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन अब तक की इस ग्रुप सेक्स स्टोरी के पिछले भागखेल वही भूमिका नयी-10में आपने पढ़ा कि रमा और रवि से उनकी उत्तेजना सहन नहीं हुई और उन दोनों ने किरदारों की भूमिका पेश किए बिना ही एक बड़ा ही जबरदस्त सम्भोग किया.

एक बार उनको काम के सिलसिले में ब्राज़ील के बीच (समुद्र तट) और कल्चर पर एपिसोड बनाने थे.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन?

मैंने उसको प्यार से समझाया कि मैं आराम से डालूंगा, तो पूरा चला जाएगा. पहले उसके हाथ का स्पर्श और दूसरा उसके मम्मों को देख कर मेरा लंड खड़ा होने लगा. अनिल से मामाजी ने कहा- जल्दी औंधा हो जा, नखरे नहीं।मामा जी के कहने से अनिल औंधा लेट गया.

और वह भी खुलकर बेशर्मी से!ऐसी ही एक बोल्ड किटी पार्टी मेरी पत्नी ने भी ज्वाइन कर रखी है. मैंने भाभी के मम्मों को इतना ज्यादा चूसा कि भाभी की चूचियां एकदम लाल हो गईं. मैंने तेरे आने से पहले तेरे घर में बोल दिया कि आज मैं तुझे एग्जाम की वजह से नाईट क्लास दूंगी और तू खाना भी यहीं खाएगा.

इसी तरह 7 महीने पहले दोनों गांव आए हुए थे, तब सरस्वती ने उसे संभोग का मौका दिया और फिर दोनों ने मर्जी से किया. इस पर अनिल ने कहा- साली रंडी … केवल चूची दबाने पर मुझे रोक रही हो और सुरेश से चुदवाने में कोई दिक्कत नहीं है. उसने ये सब इतनी तेजी में किया कि मेरे झड़ने के क्रम में अधिक बाधा नहीं आई.

ठीक 10 बजे मैं उसको उसके घर के अगले चौराहे से अपनी बाइक पर बिठा कर अपने घर के कुछ दूर लाकर उतार दिया. भूसा लेने के लिए कभी मैं, तो कभी माँ उसकी दुकान के पीछे बने गोदाम से भूसा ले आते थे.

मैं तब भी महसूस करता कि मेरी लुल्ली अकड़ जाती, मगर मैं डर मारे माँ से थोड़ी दूरी बना लेता, कहीं माँ कान के नीचे एक धर न दें कि क्या ये लुल्ली मेरे पीछे लगा रहा है.

उसने मेरी तरफ हंसते हुए देखा, तो मैंने पूछा- बड़े खुश नजर आ रहे हो … क्या हुआ?मुझे पता था कि वो भी भाई बहन की चुदाई का मजा लेने के लिए बेचैन हो रहा है.

जब वो बेड की दूसरी तरफ जाकर झुकी, तो उसकी टाइट पैंट से उसकी गांड साफ साफ दिखाई दी. क्या कह रही हो तुम? क्या फूलने की बात कर रही हो?वो चहक कर बोली- अब यार सब बात यहीं समझ लेना चाहते हो क्या. उसकी चुचियों को ब्रा में से ही रगड़ने के कारण वे एकदम लाल हो गयी थीं.

मैंने सोचा कि कल ये वीडियो वाली बात सोमेश भैया से बताऊंगा, तो वो उन लड़कों से वीडियो डिलीट करवा देंगे. मैं उसी कमरे में आइना के सामने तैयार होने का नाटक करता और पीछे से आइने में उसे सलवार पहनते हुए देखता. मेरी चूत भी लंड मांग रही थी तो …मेरी चूत की कहानी के पहले भागचूत चुदाई की हवस-1में अब तक आपने पढ़ा कि मेरे पड़ोस में रहने वाला सुनील मेरी वासना को समझ कर मुझे अपनी बांहों में भर कर मेरी पीठ को सहलाने लगा था.

अब तो उसके मुंह से सिसकारियां निकल रहीं थीं- उम्म्ह … अहह … हय … ओह … मम्मीईई … आह्ह … चोदो जानू … आइ लव यू डार्लिंग!जैसे जैसे चुदाई आगे बढ़ रही थी वो मुझसे लिपटने लगी थी.

मैंने धीरे से उसकी लेग्गिंग नीचे खिसका दी, उसने कोई विरोध नहीं किया. वो जगह क्या थी … जानते हो … जहां से उनके गोल गोल और गोरे गोरे चूतड़ों की गहराई चालू हो रही थी. छिपते छिपाते हुए मैं चुपके से उन दोनों की करतूत की वीडियो बनाने लगा.

जब तक मेरे पति बाहर से वापस नहीं आ गए, तब तक हम दोनों लोग रात में सेक्स का मजा करते थे. वाकयी राजशेखर का चेहरा देखकर भी लग रहा था कि वो बहुत आनन्द ले रहा था. आपने अब तक मेरी इस सेक्स कहानी के पिछले भागपुराने साथी के साथ सेक्स-6में पढ़ा कि सुरेश मेरे साथ एक बार के सम्भोग के बाद फिर से मुझे चोदना चाहता था.

मंगल खुद मात्र अंडरवियर पहने हुए था और जॉयश को अपनी गोद में उठाकर हॉल में आ रहा थाऔर जॉयश ने बहुत ही शानदार मेकअप किया हुआ था लेकिन …लेकिन …लेकिन …उसके जिस्म पर एक भी कपड़ा नहीं था वह पूर्णतया नग्न अवस्था में मंगल की गोदी में समाई हुई थी.

मेरे मन की बात मास्टर साहब ने कह दी थी, लेकिन मैं तब भी उनकी बात को आगे सुनने लगा. वो बोली- ओह्ह, तो मेरे जैसी चाहिए!मैं बोला- जी!फिर वो बोली- देखो, मैं तुम्हारी गर्लफ्रेंड तो नहीं बन सकती लेकिन फ्रेंड जरूर बन सकती हूं.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन उसने अपनी कमर को झटके देते हुए पूरे लंड को जड़ तक पेलना शुरू कर दिया और हर धक्के पर उसकी गोलियां मेरी चूत से टकरा जाती थीं. आखिर मैं समझ गया कि वो अब मना नहीं करेगी, तो मैंने समीज उतारनी शुरू की.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन मेरा अंडरवियर उतरते ही अन्दर कैद सात इंच का फड़ाफड़ाता हुआ लंड उसके हाथों की पकड़ में आ गया था. कहानी को पढ़कर मेरी नजर चाची के चूचों पर गई तो मेरा लंड खड़ा हो गया.

सुरेश बोला- सरस्वती, अब हम चुदाई करने जा रहे हैं … और देखना हमें, देख कर ही तेरा पानी खुद निकल जाएगा.

अंग्रेजों की सेक्सी वीडियो जबर्दस्त

मैं- क्या कमी तुम्हें खल रही थी?सुरेश- खुलापन, पत्नी मेरी साथ तो देती थी … मगर खुल कर नहीं. उसका फिगर इतना मस्त है कि मुझे अपने भाई से जलन होने लगी थी कि कैसी माल हाथ लगी है उनको. एक दिन अचानक मेरे साथ पढ़ने वाली गर्लफ्रेंड का एक मैसेज मेरे व्हाट्सैप नम्बर पर आया.

उसने कई बार मेरे लंड को देखा और मैं उसके चूचों पर नजर गड़ाये हुए था. उसने मेरे मुँह में अपनी जीभ डाल कर मुझे प्यार किया और अपने साथ अपनी छाती पर लिटा लिया. आनन्द ने कहा- देखा नेहा, सोमेश ने तुमको धोखा दिया … तुम्हें अब उसे छोड़ देना चाहिए.

उसने अपने काम के वेग को विराम देकर मेरी पत्नी के योनि भेदन के लिए उसको पूरा समय देते हुए तैयार किया.

फिर कुछ देर यूं ही स्कूल की कुछ चीजों को लेकर हम लोगों के बीच में बातें होती रहीं. जिन्हें देखकर मेरा लण्ड मोसी को तुरंत चोदने के लिए उतावला हो रहा था. मैंने संध्या के मुँह पर हाथ रख कर उसे उठाया, वो समझ गयी कि आज उसको वो आनन्द मिलने वाला है, जो शायद वो जानती थी कि उसकी दीदी ले चुकी है.

पहली नजर में ही दिल से लेकर लौड़े तक को घायल कर गई थी वो गुदाज बदन की मल्लिका. मैंने भाभी से पूछा- बहन किससे चुदवाती हैं?वो बताने लगीं- मैं और मम्मी एक दिन शाम को 4 बजे के बाद मार्केट गए हुए थे, तो मैंने देखा कि प्रीति दो लड़के से बातें कर रही थी. उसके बाद मैंने उसे अपनी बांहों में लिया तो वो भी मेरी बांहों में लता सी लिपट गई.

मैंने अपनी चड्डी उतार फेंकी और बिस्तर के नीचे से कंडोम निकाल कर लंड का सुपारा ऊपर करके कंडोम चढ़ा लिया. मैंने स्माइल कर दी … उसने भी वापस स्माइल की, लेकिन बहुत हल्की शर्माते हुए.

कुछ देर बाद वो बेकाबू होकर अपना पूरा बदन हिलाने लगी और जोर से मेरा सिर अपनी बुर पर दबाने लगी. पहले तो उसने थोड़े नखरे किये लेकिन फिर मान गई।तो मैंने लिप्स किस करते हुए पूरे शरीर को किस किया. मगर बाथरूम से पहले ही मैंने देखा कि दीदी मम्मी के कमरे में कुछ देख रही है और अपने हाथ से वो अपनी सलवार के अन्दर कुछ हिला भी रही है.

जब मेरा लंड चाची के कंधे से टच होता था उसमें और उत्तेजना आ जाती थी और चाची के कंधे पर झटका लगता था.

अभी मैं उसको अपनी बांहों में भरने ही वाला था कि उसने मुझे ऊपर वाले कमरे में जाकर फ्रेश होने के लिए कह दिया. जैसे ही मैंने अपनी टेबल पर नज़र डाली, मुझे मेरी उपन्यास ‘हाफ गर्लफ्रैंड. उस दिन शाम को मैं गुमसुम बैठा लंड सहला रहा था कि तभी मेरे फोन पर एक अनजान नंबर से फोन आया.

मैंने कहा- अब क्या करें?उसने मेरा लंड पकड़ लिया और कहा- अब तुम मुझे माँ बना दो. उसके बड़े लंड को इतनी गहराई मैं लेते हुए मुझे अजीब तरह की उत्तेजना महसूस हो रही थी.

”आह … आज ही मेरी चूत पूरी फाड़ने का इरादा कर लिया है क्या?”वो हंस कर बोला- मुझे चूत का मालिक बना दिया है, तो आज पूरी तरह से मस्ती करने दो डार्लिंग. मैं धीरे से मुस्कुरा दिया, पूजा ने मेरी तरफ गौर से देखा, उसने मुझे इशारे से अकेले में बुलाया और पूछा कि आखिर तुमने ऐसा क्यों किया?मैंने कहा- जान जैसे तुमने किया, वैसे उसने किया. इस वक्त तो मैं उसके हुकुम का गुलाम था तो सौम्या की हर बात मानता हुआ मैं छिपते छिपाते उसके घर के अन्दर चला गया.

सेक्सी सुवागरात

’इसके साथ ही एक मादक आवाज़ दस्तूर की भी आ रही थी, जो बहुत तेज थी ‘उम्म्ह … अहह … हय … ओह … फक मी … फक मी … फक मी … और ज़ोर से हर्ष और ज़ोर से … अन्दर तक ठोको … आआहह आआहह.

इस कला को मैं लिख कर तो नहीं सिखा सकूँगा।अब वो बोलने लगी- अब मेरा हो गया, अब आप अपना पानी निकाल लो, अब मुझसे नहीं होगा. और ये सब देख कर जिया भी कुर्सी पर बैठे बैठे अपनी चूत पर दो चार बार हाथ फेर चुकी थी, वो कुछ ज़्यादा ही चुदासी हो रही थी।रिया की मसाज हो जाने के बाद जिया ने ड्राइवर को बुला कर बोला- रिया को होशंगाबाद जल्दी जाना है, तुम इसे लेकर जल्दी निकलो। मैं घर चली जाऊँगी. उसने मुझे किस किया और अपने होंठों में मेरी चुची को दबाकर चूसने लगा.

थकान इतनी हो गयी थी कि दोनों को कुछ याद ही नहीं रहा कि कैसे सोए हैं. फिर एक दिन मैंने नहाने के तुरंत बाद देखा कि मेरी ब्रा पर मेरे भाई का वीर्य लगा हुआ था. इंडिया सेक्सी दिखाइएफिर मैंने मेडिकल स्टोर से कुछ कंडोम के पैकेट, रूम परफ्यूम और सेक्स पॉवर बढ़ाने वाली कुछ टेबलेट्स भी ले लीं.

तभी इतने में रीता की चुत ने भी अपना रस निकाल दिया था, जिससे मेरे लंड को ऐसा लगने लगा था, जैसे इसकी चुत में मलाई का तालाब सा बन गया हो. और तब मैंने अपने लंड को उसकी योनि के छेद में टिका दिया और जोर से धक्का मारा.

सच में उसकी मतवाली गांड इतनी जबरदस्त मटक रही थी कि उस वक्त अगर उसे कोई देख लेता, तो या तो उसे पटक कर चोद देता … या वहीं मुठ मारने लगता. ज्यादा लड़कियों को चोदने और मुठ मारने की वजह से मेरा लंड थोड़ा टेढ़ा था. यह सुनकर मैंने बिना देर किये अपने एक हाथ को मोनिषा आंटी की चूत के ऊपर पहुंचा दिया और साड़ी के ऊपर से ही मैं उनकी चूत को सहलाने लगा.

उस मॉल में फिल्म देखने बहुत ही कम लोग आए हुए थे … क्योंकि इस फिल्म को लगे दो हफ्ते हो चुके थे. मैंने इससे पहले कई बार उंगली कर अपना पानी निकाला है, पर आज जो मजा तुमने दिया, ऐसा मजा कभी नहीं आया. विद्या ने अपनी आंखों पर काजल लगाया हुआ था, वो तो यूं समझो कि मुझ पर कहर ही ढा रहा था.

फिर उन्होंने अपना दूसरा हाथ मेरी गर्दन के नीचे से निकाल मेरे सर को सहारा दे दिया व पीठ पर मोड़ कर और करीब कर लिया.

मैंने भी अपनी चूचियों को हिलाते हुए कहा- खुशी को दबाना नहीं चाहिए बल्कि उसे दूसरे के साथ शेयर करनी चाहिए. उसका सात इंच का सांवला सा लंड देख कर मेरी बहन की आंखों में हवस साफ दिखाई देने लगी.

मोनिषा आंटी ने कहा- नवीन मेरी चूत में जल्दी से अपने इस मूसल लंड को उतार दो … मैं चाहती हूं कि तुम्हारा लंड मेरी चूत की गहराई को नापे. एक तो मामी की आवाज बहुत मधुर थी और दूसरी तरफ वो मीठी मीठी बातें करके जैसे मुझे उत्तेजित करना चाह रही थी. मेरे लंड के सुपारे के नीचे के भाग से भी रक्त निकल रहा था और उसके चूत से भी खून निकल रहा था।फिर भी हम दोनों थोड़ा देर आराम करने के बाद फिर से चालू हुए.

के प्रथम वर्ष की पढ़ाई कर रही थी लेकिन उस दिन मजबूरी थी तो मुझे कॉलेज से छुट्टी लेनी पड़ी और मैं काम करने के लिए चली गई. आगे बढ़ते हुए मैंने ब्रा के स्ट्रिप को खोल कर एक साइड फेंक दी, जबकि गाउन अभी भी उसकी गांड और कमर तक था. ज़रीना अपनी आंख बन्द कर होंठों को दबा कर अपनी प्यासी जवानी को काबू में रखने की कोशिश कर रही थी.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन भाभी ने मुझे देखा और कुछ न कहते हुए वे उठकर पेशाब करने के लिए बगल में चली गईं. मैं भी अब पूरी तरह से उत्तेजित हो गयी थी, जिसके वजह से उसे अपना दूध पिलाने में सहयोग करने लगी.

सेक्सी हॉट हॉट सेक्सी वीडियो

वो मस्ती से भर गया और मेरी कमर पकड़ कर मुझे सहारा देते हुए अपने होंठों को भींचते हुए कराहने लगा. मैंने अपने खड़े लंड को बहू की गांड से हटाया और पीछे धकेलते हुए उसको घूमने की जगह दे दी. मैं उसकी चुत के छोटे से दाने को दांतों से हल्का सा काट भी रहा था और बार बार अपनी उंगलियों से चुत की पंखुड़ियों को फैला कर गुलाबी रसीली चुत को देख भी रहा था.

अगर छोड़ देता तो दोबारा नहीं देती, इसलिए जोर से झटका दे मारा, एक बार में ही पूरा लंड अन्दर घुस गया था. मैं अब केवल ब्रा और पेटीकोट में थी और मेरे साथ जोर जबरदस्ती में उसने सट से खींच मेरी पेटीकोट का नाड़ा भी खोल दिया. देसी सेक्सी वीडियो राजस्थान काउसने मुझसे कहा- ये तुम्हारा पहला दिन है … चलो मैं तुमको बताती हूँ कि रूम कैसे बनाते हैं.

पर मोसी की चूत बहुत टाईट थी, शायद मौसा जी का लण्ड मेरे लण्ड से पतला था और शायद वो मोसी को रोज नहीं चोदते थे। वो भी बेवकूफ ही थे इतनी गर्म और सख्त माल को छोड़ दिया.

बिस्तर के पास पहुंचते ही उसने मुझे पीछे से पकड़ लिया और मेरी गर्दन पर चुम्बनों की बरसात करने लगा. मैं बोला- अगर मैं जबरदस्ती करने लगा तो?वो बोली- अच्छा जी, सीनाजोरी करोगे अपनी मामी के साथ?मैंने कहा- जी बिल्कुल, आपने पूरा हक दिया हुआ है मुझे.

मैं तुमको मना नहीं करूंगी … मगर आराम से करना … मुझे बहुत दर्द होगा. बुआ बाथरूम में जाकर अपनी चुत को साफ करके वापस आ गईं और चादर बदल कर हम दोनों सोने लगे. भाभी मेरा सर अपने मम्मों में दबाते हुए ये कहती जा रही थी- तुम मुझे गिरा ना दो … इसलिए मैंने तुम्हारे सिर को पकड़ कर रखा है.

उसके गले तक डालने के बाद मुझे लगा मैं जीत गया, लेकिन अभी भी मुझे कुछ कमी लग रही थी.

आपको मेरी यह बुर की चुदाई की सेक्स कहानी कैसी लगी, प्लीज मुझे मेल करें. मैं उसके ऊपर ऐसे ही लेटा रहा और उसे किस करने लगा, ताकि वो नीचे का दर्द भूल जाए. वो रूखे मन से चला तो गया, पर मुझे कुछ अलग सा महसूस हुआ कि आखिर उसने बेमतलब पुरानी बात क्यों की, जबकि हम जब साथ थे, उस वक्त न करके आज इतने सालों बाद की.

सेक्सी डबल चुदाईमैं सोचने लगा कि काश मेरी बहन भी मुझसे पट जाए, तो मेरे पास अपने घर में ही दो रंडियां हो जाएंगी. उसे तो मालूम था कि आज ‘नो ड्रेस किटी पार्टी’ होने वाली है इसलिए उसकी तैयारी पूरी थी नंगी हो के भी वो नॉर्मल थी.

2021 की सेक्सी 2021 की सेक्सी

वापस आने के बाद मैंने उससे भी फ्रेश होने के लिए कहा तो वो बोली- मुझसे चला नहीं जा रहा है. हम लोग सेक्स के लिए गर्म हो गए थे और विभोर बहुत अच्छे से मेरी चूत को चाट रहा था. मैंने फोन से पूछा, तो वो बोली- लास्ट डे है … सबको खुश करके जाना चाहती हूँ.

फिर उसने पूरा लंड मेरी गांड में ठोक कर मेरी गांड को चोदना शुरू कर दिया. वो चुप हो गई, लेकिन उसने सिर्फ इतना कहा- अगले हफ्ते से मैं भी ट्यूशन आ रही हूँ. रात की बात याद करके मैंने भी उसको देखकर स्माइल कर दिया और उसके बाद मैं अपने रूम में आ गयी.

बुआ की चूत पर छोटे छोटे बाल थे, ऐसा लगता था कि उन्होंने थोड़े दिन पहले ही अपनी झांटों को साफ किया था. एक दिन अचानक मेरे साथ पढ़ने वाली गर्लफ्रेंड का एक मैसेज मेरे व्हाट्सैप नम्बर पर आया. मेरी योनि से लगातार तरल रिसने लगा और मुझे चिपचिपा झाग सा बनना महसूस होने लगा.

कुछ ही देर में मैंने माँ की साड़ी कमर तक कर दी और उनका पेटीकोट धीरे धीरे ऊपर करने लगा. मम्मी कोशिश कर रही थीं कि वह अपने मुँह में ज्यादा से ज्यादा लंड ले लें.

आंटी के कहने पर वो पीछे हट गई और आंटी ने हमें अंदर आने के लिए कह दिया.

तभी निर्मला ने कहा- अब तुम्हारी सालों की प्यास बुझने वाली है सारिका, राजशेखर प्यार से चोदना इसे. एक्स वीडियो सेक्सी भेजिएमैंने कहा- किसी से नहीं कहूँगा कि मैंने अपनी माँ को चोदा!माँ को बहुत थकान लग रही थी, तो वो सो गईं. सेक्सी वीडियो पसंद आईनितिन के प्रमोशन की वजह से अब मुझे नौकरी करने की जरूरत नहीं थी, तो मैंने भी जॉब करनी बंद की और घर पर रह कर बच्चे की देखभाल करने लगी. फिर एक दिन उसका मैसेज आया और उसने पूछा- क्या आप मेरे घर आ सकते हो?मैंने पूछा- क्यों?उसका रिप्लाई आया- आपको गुरुदक्षिणा देनी है.

पठान ने दीदी की चिल्लपौं पर ध्यान ही नहीं दिया और वो दीदी को धकापेल चोदने में लग गया.

जॉयश जोकि सबकी लीडर बनी हुई थी, बोली- तो दोस्तो, तुम लोगों में से किसी की सेक्स फेंटेसी पूरी हुई या नहीं?सब ने कहा- हमारी ऐसी किस्मत कहां है?तो फिर जॉयश ने बोला- फिकर नॉट … यह किटी पार्टी इसीलिए तो कर रही हूँ कि यहां हम सब अपनी मनमानी करेंगी. अब क्या करता … एक तो मैं चूतिया और दूसरा मेरी कोई गर्लफ्रेंड नहीं थी. तो मैंने आपकी राय मान कर सुशी के भाई विक्की को बता दिया कि सुशी मुझसे क्या चाह रही है.

उसने भी अपने होंठों को मेरे होंठों से जोड़ दिया और हम दोनों करीब 5 मिनट तक किस करते रहे. रंजन ने मेरी चूचियों को चूसने के बाद मेरे नीचे की तरफ सरकना शुरू किया. उसे एक हफ्ते से बोल रहा था, तब किसी तरह दोपहर को गाय वाले घर में हम मिले.

सेक्सी पिक्चर डॉगी

वाकयी राजशेखर का चेहरा देखकर भी लग रहा था कि वो बहुत आनन्द ले रहा था. ये बात न उसने पूछी कि मैंने किस से चुदाई करवाई है और न मैंने उससे पूछा कि तुमने सबसे पहले किसे चोदा था. आंटी की चीख निकली- उम्म्ह … अहह … हय … ओह …दर्द मुझे भी हुआ क्योंकि मैंने भी पहली ही किसी की चूत में अपने लंड डाला था.

उसे खुद औरत होते हुए भी नंगी औरतों को देखना और उनके जिस्म से खेलने का बहुत मन है.

देखते ही देखते सौम्या अचानक बहुत वाइल्ड हो गई और मेरी जीन्स भी उसने उतार दी.

वो मेरी बात मान कर मेरे ऊपर आकर लण्ड पे बैठ गयी। लेकिन उसे लंड पर बैठ कर उछल कूद करके चुदना नहीं आता था। उसका पति सिर्फ लेटा के चोदता था औऱ सो जाता था।मैंने उसे लण्ड पे बैठा कर नीचे से धक्के लगाने शुरू किया, उसे इसमें मजा आया. सरस्वती- क्या नहीं दिया, दो बार तो चोदने दिया, वो भी इतना रिस्क उठा कर, पकड़े जाते तो दोनों को पिट-पिट कर मार ही देते गांव वाले … और क्या देती?सुरेश- चोपा नहीं दिया था न तूने. सेक्सी फिल्म चुदाई हिंदी वीडियोअंधेरे में जंगल में बेटे का लंड लेते हुए अलग ही रोमांच पैदा हो रहा था मेरे अंदर.

अब मुझे भी लगा कि भाभी को भैया की जरूरत नहीं … बल्कि लंड की जरूरत है. अपने अपने मुँह पर हाथ रखे दोनों मेरे लंड को देख देख कर हंस रही थीं. मेरा लंड तन कर पूरे आकार में आ चुका था और उसकी मोटाई को नापते हुए मामी की सिसकारियां निकलने लगी थी.

आपको यह मेरी माँ की चुदाई की कहानी कैसी लगी, कृपा करके कमेंट जरूर करें. अब मैंने एक एक करके उसके सारे कपड़े उतार दिए … और उसकी चुत में फिंगर डाल दी.

आंटी बोली- जब तक तुम्हारा खाने का इंतजाम नहीं होता तब तक तीन-चार दिन तक तुम हमारे यहां भी खाना खा सकते हो.

उस वक्त मेरी पढ़ाई पूरी करने के लिए मैं पहली बार घर से बाहर गया था. मैंने ज़्यादा समय ख़राब ना करते हुए उसकी ब्रा हटा दी और तेल हाथ में लेकर मालिश शुरू कर दी. खाना खाते वक्त दो चार बार हमारी नजरें मिलीं, उसकी आंखों में शर्मिंदगी झलक रही थी.

इंग्लिश सेक्सी डाउनलोड सेक्सी डाउनलोड मैंने भी ‘हां’ कह दी और अगले दिन दोपहर में भोपाल के लिए बस से निकल गया. एक तरफ मेरा पति था, जिससे मुझे दो साल तक कोई शारीरिक सुख नहीं मिला था और आगे भी मिलने की कोई गारंटी नहीं थी.

मेरी कजिन सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने चाचा की हॉट जवान बेटी की कुंवारी बुर की चुदाई की. उसके बाद मैंने उससे लंड को निकालने के लिए कहा तो उसने लंड को छोड़ दिया. अगले दिन हम सुबह के वक्त ही निकल गये थे क्योंकि हमें काफी दूर जाना था.

सेक्सी करने वाला सेक्सी

जिस दिन मेरे ऑफिस की छुट्टी रहती है और बुआ अपने बेटे के साथ हमारे घर आती हैं. अब मैं अपने दोस्त की जगह ले लेता हूं और बिना किसी देरी के कहानी को शुरू कर रहा हूं. मैं बोला- क्या प्राब्लम है सब ठीक है ना!वो बोली- हैलो माई सेल्फ़ दस्तूर (बदला हुआ नाम) यार … मेरी कार में कुछ प्राब्लम हो गई है, स्टार्ट ही नहीं हो रही है.

मैंने धीरे धीरे मौसी की लड़की की चूत में अपने लंड से धक्के देने शुरू किये. शेव करते समय अपने लंड का जंगल भी याद आ गया और मैंने नीचे लंड के बाल भी साफ कर दिए.

इतना कह कर वो चला गया … और जाते जाते उसने मेरी बीवी को किस किया … उसकी चुत में उंगली डाल कर आगे पीछे की और मेरी बीवी के मुँह में उंगली डाल कर चला गया.

उसने ऐसी पोजीशन में लेटाया कि दीदी की टांगें नीचे जमीन की ओर लटक रही थीं और उसका धड़ ऊपर टेबल पर लेटा हुआ था. तफसील से बात करते हुए दीदी ने मुझे बताया कि उन लड़कों में कोई ठेकेदार का लड़का था और कोई वहां के लोकल नेता का लड़का था. शायद मुझे भी उसका साथ अच्छा लगा, इसलिए मैं अपने गुस्से को दिखा ही नहीं पाई.

किसी लड़की के मुँह से पहली बार इतनी सकारात्मक तारीफ़ सुनकर मुझे बहुत ही अच्छा लगा. मैंने कहा- क्यों … क्या तुम्हारे पास लाल रंग की ब्रा पैंटी नहीं है क्या?वो बोली- मेरे पास लाल रंग की ब्रा पैंटी के चार सैट हैं. मैंने कहा- अपने ऊपर सुला लोगी क्या?ये कहते हुए मेरे मुंह से सिसकारी सी निकल गई.

यही मेरे लिए सबसे मज़े का काम होता, क्योंकि मैं माँ के साथ चिपक कर सोता.

बीएफ सेक्सी हिंदी वीडियो इंडियन: इससे आगे की कहानी जो मुझे बाद में पता चली अब वो मैं आपको बताता हूँ।मेरे जाने के बाद उर्वशी बहुत अकेलापन महसूस कर रही थी कि तभी दोपहर को मिहिर अचानक हमारे घर आया. मैडम ने डांटते हुए कहा कि अब स्कूल खत्म होने के बाद मेरे ऑफिस में ही आगे की बात होगी.

अब हम दोनों ने आंखें बंद कर लीं और मैंने हाथ बढ़ा कर उसकी ब्रा और पेंटी को उतार दिया. फिर नेहा को वियाग्रा खिला दी, जिससे वो मना नहीं कर पायी और तब से मतलब एक हफ्ते से ये सारे लड़के यहीं रहते है और नेहा को चोदते हैं. विभोर को तो जब भी मौका मिलता था तो वो मुझे किस करता था और मेरी चूची दबाता था जिससे मैं भी उसके पैंट के ऊपर से उसका लंड सहलाने लगती थी.

वो मस्ती से भर गया और मेरी कमर पकड़ कर मुझे सहारा देते हुए अपने होंठों को भींचते हुए कराहने लगा.

मैडम ने एक दो बार मेरे मूसल को हाथ में लेकर रगड़ा और फिर उस पर अपने रसीले होंठ रख दिये. जिसकी प्यास बुझाने के लिए मामी ने फिर क्या किया वो मैं मामी सेक्स स्टोरी के अगले भाग में बताऊंगा. फिर एक जुलाई को दस्तूर ने बताया- मेरा कल बर्थडे है … क्या हम दोनों ईव्निंग में कहीं चल सकते हैं?मेरी तो जैसे मुँह माँगी मुराद पूरी हो गयी थी.