मौसी को चोदा बीएफ

छवि स्रोत,आदिवासी भील सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

16 साल की हिंदी सेक्सी: मौसी को चोदा बीएफ, रवि ने मुझे एक मेज पर लिटाया और ब्रा के ऊपर से ही मम्मों को मुँह में लेकर चूसने लगा.

बिहार वाला सेक्सी वीडियो एचडी

वो हंस कर बोलीं- मस्त किसे कहते हैं?मैंने कहा- मेरा मतलब वो कुछ कुछ आपके जैसी हो. सेक्सी पिक्चर रोटीछोटे आदमी का लंड बड़ा हो सकता है और बड़े आदमी का लंड छोटा।तब तक थापा ने कहा- मेम, आप झांटें सब साफ़ करवाएंगी या कोई डिजाइन बनवाएंगी?मैंने कहा- यार फिलहाल तुम सब साफ़ कर दो। डिजाइन बाद में बनवाऊंगी।उसने मशीन से मेरी झांटें एकदम साफ़ कर दी और क्रीम वगैरह लगा चूत एकदम चिकनी कर दी।मैं उसका लंड मुंह में लिए हुए चूसती रही। मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था.

ऊईई … अब मेरी चूत में लंड डाल और मेरी चूत में लगी आग को शांत कर। मेरे पूरे बदन में सेक्स की आग लगी हुई है. वीडियो मराठी सेक्सी बीपीबस में बहुत ज्यादा भीड़ थी, हम दोनों के सीटों के बीच में खड़े हो गए.

मेरे 2-3 दिन तो बस प्रिया को देखने में ही कैसे गुजर गए, पता ही नहीं चला.मौसी को चोदा बीएफ: [emailprotected]नंगी सेक्सी वाइफ पोर्न कहानी का अगला भाग:एक रात नए बेड पार्टनर के साथ- 4.

फिर धीरे धीरे उसके उरोजों पर आकर दूध की एक दो चुस्कियां लगाते हुए उसके पैरों को मोड़ दिया.लेकिन बाद में मेरी बीवी के आने की आहट हुई तो वो उसी कमरे में बनी सीढ़ियों से ऊपर बने अपने रूम में चली गयी.

इंडियन सेक्सी पिक्चर बीपी व्हिडिओ - मौसी को चोदा बीएफ

मेरी इस दलील पर मेरी बीवी चुप रही और उसने मेरे लंड को अपने मुँह में ले लिया.अगल बगल देख कर मैंने उसके कमरे में जाने की कोशिश की ताकि किसी को पता ना चले और उसकी बदनामी ना हो.

वो मेरे कान में अपनी गर्म हवा छोड़ती हुई बोली- तू क्या ठंडा है?ये सुनकर मेरा भेजा घूम गया. मौसी को चोदा बीएफ कोई 30-40 धक्कों के बाद प्राची ने मुझसे पोजीशन चेंज करने के लिए बोला.

मैं उनकी बात समझ गई और उनके पास आ गई, भाभी को सर से लेकर उनकी चूत तक जहां जहां वीर्य लगा हुआ था, मैं अपनी जीभ से साफ करने लगी.

मौसी को चोदा बीएफ?

उस दिन मेरा जन्मदिन था तो उसने मुझे यकीन दिलाया कि हम दोनों की शादी के बाद हमारा रिलेशनशिप इसी तरह चलता रहेगा. मैं आगे बढ़ने से पहले आपको उस भाभी के बारे में थोड़ा बता दूँ जिस भाभी की चूत मारी मैंने!भाभी का नाम आंचल था, उनकी उम्र 33 साल थी. मैं उठी तो एक ने कहा- भाभी कल बुलावा तो नहीं भेजना पड़ेगा न?मैंने धीरे से हंस कर कहा- मैं समय से आ जाऊंगी.

उसकी पैंटी पूरी गीली होने की वजह से मेरी अंडरपैंट भी लंड के ऊपर गीली होने लगी थी. उन्होंने मेरी चुत के दाने को अपने होंठों में पकड़कर खींचकर छोड़ दिया, फिर जीभ से हल्का हल्का कुरेदने लगे. प्यार दोस्ती ये सब बहुत ही पाक रिश्ते होते हैं, इनकी कदर करें, सच्चा प्यार और दिल से चाहने वाला लाइफ में एक बार ही मिलता है.

इस कहानी में पढ़ें कि माँ ने कैसे अपने दो जवान बेटो की वासना जगा कर अपनी हवस का इलाज किया. उनके बूब्स देख कर मेरे मुँह में पानी आ गया और मैं उनके मम्मों पर एकदम से टूट पड़ा. अब महीने में एक दो बार मैं अपना कॉलेज बंक करता हूँ और उनके घर जाकर उनकी चुदाई कर लेता हूँ.

मेरी सास ने मेरी साली को हमारे साथ रहने और अपने काम में रोजी की मदद के लिए भेजा. अब आगे बाथरूम Xxx चुदाई कहानी:फिर मैं बेड से नीचे उतर कर सोनाली से बोला- मुझे जोर से मुत्ती आ रही है.

उसने रीना की पीठ पर हाथ लगा कर उसको हल्का सा उठाया और ब्लाउज उतारकर अलग रख दिया.

गगन ने दिनकर से पूछा- क्यों चाचा, तुमने कभी अपनी बेटी आशा को अकेले नहीं चोदा था?दिनकर- हां बे … मेरी बेटी आशा ने मुझे अकेले कभी चोदने ही नहीं दिया.

मैंने भी अब अपने धक्के तेज कर दिए थे और कुछ बीस धक्कों के बाद मैंने पूरा लावा प्राची की गांड में उगल दिया. फिर सोचा कि ये तो वैसे भी मेरे लंड से चुदने के लिए रेडी हैं और अभी पूरी रात पड़ी है … तो जल्दबाजी क्यों करूं!मैंने अपने बैग में से अपना बरमूडा निकाला और कपड़े बदलने चला गया. मैंने फिर से कहा- ये लोग कौन हैं?एक ने कहा- भाभी, हम लोगों को दूध दुहने की आदत तो है नहीं, तो हमने इन्हें बुला लिया है.

शादी हो जाने के बाद में वापस आया, तो मन में उसे खो देने का डर सताने लगा. भईया ब्रा के ऊपर से ही भाभी के मम्मे दबाने लगे और भाभी की कामुक आवाज कमरे में गूंजने लगी- आआहह आआहह हम्मम … धीरे मसलो न … आह!कुछ देर बाद भईया ने भाभी की ब्रा का हुक खोला और उनके दोनों मम्मों को आजाद कर दिया. मैं जैसे तैसे उसका लंड चूसती रही और अचानक उसने मेरे मुँह में ही पानी छोड़ दिया.

मैंने उसकी चूत से अपना लंड निकाला और उसके ऊपर से कंडोम हटा कर दूसरी तरफ रख दिया.

मगर मुझे अन्तर्वासना की सेक्स कहानी की याद आई तो मैं लंड चूत में पेले यूं ही रुक गया. हसित उसके मम्मों को दबाने लगा और कहने लगा- यार रीना, तुम सही में अप्सरा से कम नहीं हो, जैसा मुझे चाहिए था, तुम्हारा वैसा ही फिगर है. मैं अपनी मौसी की धुआंधार चुदाई कर रहा था, उनके मम्मों को हाथ से पकड़ कर एक को चूस रहा था और दूसरे को हाथ से दबा रहा था.

क़रीब पांच मिनट तक होंठ चूसने के बाद मैंने जैकेट खोल दी और कपड़े ऊपर कर के अपने निप्पल उसके मुँह में लगा दिए. एक ने चूची पर अपना लंड रगड़ना चालू किया, तो एक ने गांड पर और तीसरे ने पारुल के मुँह में अपना लंड पेल दिया. अब हम दोनों ने खाना खाया और उसके बाद भाभी ने पूछा- घर कितने बजे तक जाना है?तो मैंने फोन लगा कर घर पर कह दिया- आज मैं अपने दोस्त के घर रुक गया हूं, इसलिए घर नहीं आऊंगा.

मैं अपने लंड को उन पर घिसने लगा और मैंने चूचियों गर्दन गाल और पेट को चूमना शुरू कर दिया.

मीनाक्षी बोली- ये मत कहो नवीन, तुमने मुझे वह सुख दिया है, जो मैं शुरू से ही तुमसे पाना चाहती थी. भाभी कराहती हुई बोलीं- आंह आराम से करो यार … मैं बहुत दिनों से चुदी नहीं हूँ और तुम्हारा बहुत मोटा भी है.

मौसी को चोदा बीएफ फिर घुटनों के बल बैठकर उसने अपना लंड सोनम की गांड के छेद पर रखकर हल्का धक्का दे दिया. वहां पहले से ही उसकी लग्जरी टूरिस्ट बस होटल के गेट के आगे लगी हुई थी जिसमें काफी विदेशी पर्यटक अपना सामान रख रहे थे और होटल से चेक आउट कर रहे थे.

मौसी को चोदा बीएफ उसने अपने एक हाथ से मेरा लंड पकड़ कर अपनी चूत पर रगड़ा और हिलाने लगी. हज़ीरा नीचे से धक्का मारती हुई बोली- अरे जान एक बार साली अपनी चुदाई देख लेगी … तो अपने आप चुदवाने के लिए तैयार हो जाएगी.

अब मेरी कोशिश रहती थी कि मैं उनको किसी भी देख लूं और भाभी को ताड़ने का मौक़ा मुझे मिलता रहता था.

की तरफ से

इसलिए शनाया को नए लंड से कोई दिक़्क़त नहीं थी बल्कि उसे तो अपनी चूत के लिए एक नया लंड मिल रहा था. मैंने मामी से पूछा- ऐसा क्या हो गया था कि आप ये सब करने के लिए तैयार हो गईं?मामी- तेरे मामा मेरे साथ करते ही कितना है जो मेरी प्यास बुझ सके. मेरे नीचे उतरने के बाद उसका साथी सीट से उठकर ऊपर स्लीपर केबिन में चला गया और उसने पर्दा लगा लिया.

उसने प्यार से सोनम का घूँघट उठाया और कहा- मेरी सोनम बहुत सुंदर दिख रही है. उसके मम्में निचोड़ते हुए वो शब्बो के चूचक दांतों से काट रहा था, उनको उंगलियों से मरोड़ मरोड़ कर उनको सुजा रहा था और शब्बो चुपचाप अपनी टाँगें फैलाकर उसकी बेटी के उम्र के लड़के के साथ अपनी इज्जत लुटा रही थी. सोनाली ने घड़ी देखी, तो घड़ी में पांच बज गए थे- हर्षद अब मुझे नीचे जाना पड़ेगा.

वो मेरे लिए अनोखा और अभूतपूर्व अनुभव था क्योंकि अब तक मैं किसी स्त्री के इतना करीब नहीं गया था।मैंने कभी उनकी चूची पर हाथ रख हल्का सा सहलाता तो कभी उनके निप्पल को ऊंगलियों पर महसूस करता।मैं उनकी जांघ पर अपनी जांघें पूरी तरह महसूस कर रहा था कि इसी बीच उत्तेजना में कब मेरा मुठ बिना मुठ मारे ही निकल गया.

उस समय बर्गर वाले के पास खड़े होने की जगह कम होने के कारण अधिकतर लोग बर्गर पैक करवाकर घर ले जा रहे थे. उफ्फ क्या लंड चूसती हैं यार वो … मैं तो समझो जन्नत में पहुंच गया था. हनी विस्मय ने बोला- क्या वाकयी?सोहल ने फिर से हां कहा और उसके लंड को सहलाने लगा.

कुछ देर इधर उधर घूमने के बाद मैंने देखा कि एक मेरा एक सहकर्मी जो बैंगलोर से था, उस लड़की के साथ कुछ ज्यादा ही चिपक रहा था. तो दोस्तो, ऐसा था मेरा ज्योति के साथ डिनर और गांड चुदाई की कहानी का मजा. मैंने अपनी रात वाली चड्डी बाथरूम में ही छोड़ दी क्योंकि मुझे पता था कि मेरे नहाने के बाद ससुर जी भी नहाने आयेंगे.

वो हंस कर बोली- अच्छा मतलब मेरी जानकारी रखने में तुम्हें काफी रूचि है. उन्होंने कोई प्रतिक्रिया नहीं की।मेरी हिम्मत और बढ़ गई और मैं बातें करते करते उनकी कमर को सहलाने लगा.

फिर एक दिन मैं उसे बोल नहीं पाया … या यूं समझो कि मैं जानबूझ कर उससे दिन भर नहीं बोला. चूंकि मोना भाभी मेरे पड़ोस में रहती थीं, तो मैं उनके घर जाया करता था. विशाल और प्रकाश तीनों की गांड अदल-बदल कर मारने लगे, उनके स्तन दबाने और निप्पल चूसने लगे.

मैंने अपनी जीभ से ही उसकी पैंटी की इलास्टिक को हटाने की कोशिश की, जिससे मेरी जीभ ने उसकी चूत की ढलान को पूरी तरफ से चल कर माप लिया था.

अब फूफा जी का लंड मेरी चुत में घुस चुका था, मुझे काफी दर्द हो रहा था. जिया दीदी- मतलब?मैं- मैं आपकी उम्र का होता तो जीजाजी को आपको पटाने ही नहीं देता क्योंकि मैं आपको अपनी गर्लफ्रेंड बनाता और आज आप मेरी बीवी होतीं. लेकिन जैसे ही मैंने अपना हाथ मम्मों पर लगाना चाहा, उसने मेरा हाथ हटा दिया.

वो हॉट इंडियन स्कूल गर्ल मेरे जिस्म से सटकर मेरी गर्दन पर किस कर रही थी. काफी देर तक मनाने पर वो मान गई और उसने मेरे लौड़े के सुपारे को जीभ से चाटा.

लॉकडाउन के समय रात के ग्यारह बजे मैंने दीदी को फोन किया था लेकिन पहली बार की रिंग में जिया दीदी ने फोन नहीं उठाया तो मैंने दोबारा फोन किया. मैंने अपने लंड को भी हिला कर खड़ा कर रखा था ताकि दीदी को मेरा लंड फुल साइज़ में बड़ा दिखे. तब हसित बोला- रीना, मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूँ मगर क्या करूँ तुम मेरे सबसे प्यारे दोस्त की पत्नी हो.

ओपन सेक्स फिल्म

आआहा मज़ा ही आ गया था, उसकी मुलायम चूचियां मेरे सीने पर दबाव बना रही थीं.

मुझे लगने लगा था कि मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड की बात न मानकर गलती कर दी है. मैंने मेरे लंड को उसकी चुत पर रगड़ना शुरू किया तो कुछ ही मिनट में वासना का सुरूर उसकी आंखों में दिखने लगा. वे सीने से अब पेट तक पहुंच गई और नीचे पहुंच कर मेरी बैल्ट खोली, फिर पैंट का बटन और चैन खोलने लगी.

करीब 10 मिनट बाद मैंने अपने हाथ उठा कर उसे ऊपर किया और वो सीधी बैठ गयी. सोनाली ने मेरा मुरझाया हुआ लंड पूरा अपने मुँह में लेकर चूसकर साफ कर दिया. सेक्सी मूवी तेलुगूअम्मी की चुत का पानी निकलने के कुछ मिनट बाद ही मैंने अपना वीर्य अम्मी की चुत के अन्दर ही गिरा दिया और अम्मी के ऊपर ही सो गया.

मैंने कहा- ठीक है, अगर तू रीना को पटा सकता है … तो मुझे कोई ऐतराज नहीं है. भाभी भी अब थोड़ा भावुक हो गईं और उन्होंने मेरा चेहरा पकड़ कर होंठों पर किस कर दिया- आई लव यू बेबी … पर अभी जाने दो प्लीज.

भाभी अब थोड़ा खुल गईं- तो फिर उस दिन क्यों नहीं बताया?मैं- उस दिन बताता तो ये कैसे पता चलता कि वो ब्रा आपकी है. जब कोई माल नहीं दिखा तो मैंने आंख बंद की और सोने का निर्णय ले लिया. भाभी कराहती हुई बोलीं- आंह आराम से करो यार … मैं बहुत दिनों से चुदी नहीं हूँ और तुम्हारा बहुत मोटा भी है.

तभी मैंने हिम्मत करके दी की कमर पर रखा हुआ हाथ नीचे को बढ़ा दिया और जिया दीदी की मदमस्त मखमल जैसी गांड पर रख दिया. मीनाक्षी ने बातों बातों में मुझसे पूछा- नवीन, तुम स्कूल में मुझे पसंद करते थे ना!मैंने भी कहा- हां, तुम भी तो मुझे ही देखती रहती थी. तभी फिल्म में एक डरावना सीन आया, उसने पूरी तरह से मेरी तरफ झुक कर मुझे अपने गले से लगा लिया और मुझसे कसके चिपक गयी.

बाहर आकर सभी ने पैग का मजा लेना शुरू किया और सत्या ने कहा- आज वास्तव में शनाया के साथ मुझे मज़ा आ गया.

मैंने कहा- अच्छा ये बताओ, मेरा सरप्राइज क्या है?वो बोली कि अभी रूको जरा, इतनी जल्दी क्या है?फिर लगभग 9:15 हुए होंगे तब वो मुझसे थोड़ा अलग हुई. मैं अनमने मन से उनके सामने बैठ गई और एक एक करके दोनों का लंड चूस कर पानी निकाल दिया.

कुछ देर चुदाई के बाद फिर से मुझे दर्द का अहसास होने लगा, तो मैंने फिर से एक चाल चली. शायद मैं काफी हैंडसम लग रहा था क्योंकि क्लास की सारी लड़कियां मुझे देखे जा रही थीं. वो भी लंड का मज़ा ले रही थी, नीचे से अपनी कमर उठा उठा कर लंड चूत में ले रही थी.

कोरोना के कारण अभी कॉलेज नहीं खुले हैं तो मैं अभी अपने शहर उन्नाव (उत्तर प्रदेश) में ही हूं।शुरू में जब मैं घर वापस आया था तो समय नहीं कटता था. मैं और तेजी से अपना लंड अन्दर बाहर करके उसकी चूत की गहराई नापने लगा था. मैंने कहा- सुनो तो सही!उसने चलते हुए पीछे देखा और कहा- जाओ फिर मिलेंगे, आई लव यू!वो देसी हॉट टीन गर्ल कदम तेजी से बढ़ाती हुई चली गई.

मौसी को चोदा बीएफ उनके बूब्स देख कर मेरे मुँह में पानी आ गया और मैं उनके मम्मों पर एकदम से टूट पड़ा. मैंने मौक़ा देख कर लंड बाहर निकाल कर उसके एक आंड को मुँह में भर लिया.

यामी गौतम सेक्सी

उसे अपनी जांघों में और चूत में दर्द महसूस हो रहा था, वो मेरा हाथ पकड़कर खड़ी हो गयी. पहली बार लंड चुत में पेलने का टास्क इतना कठिन होता है, ये मुझे पहली बार मालूम हुआ. हसित ने रीना को गोदी में उठा लिया और ज़मीन पर बिछे कालीन पर लिटा दिया.

भाभी- जवाब दो!मैंने कहा- भाभी, मैं आपको 5 साल से पसन्द करता हूँ … और देखता हूं. वो भी हंस गई कि मैं बांसुरी बजाने की बात मतलब लंड चूसने की बात कर रहा हूँ. सेक्सी मूवी एचडी पिक्चरबहुत इंतज़ार करवाया तुमने!मेरी बात सुन कर कुच्ची मेरी पीठ थपथपा कर हंसने लगा.

मैं तुम्हें बताना चाहती हूँ कि मेरा बचपन का दोस्त, मेरी मौसी का लड़का है.

वह कुछ महीनों के लिए यहां रहेगी इसलिए हमें उसके लिए अलग सोने की व्यवस्था करनी चाहिए. अनिकेत ने अपनी बहन की बेटी लूसी को बांहों में उठाकर बिस्तर पर उल्टा करके पटक दिया और लूसी की गांड में डालकर लंड हिलाने लगे.

उसने मेरे दूसरे हाथ को अपने हाथ में लेकर उस पर दो-तीन किस कर दी और मेरे हाथों को चूमने लगा. एक दिन मैंने हिम्मत करके अपना नंबर कागज पर लिख कर उसे दिखाया और उसके दरवाजे पर रख कर अपनी जॉब पर चला गया. फिर मैंने पोजीशन सैट की और लंड का सुपारा उसकी गांड के छेद पर टिका दिया.

भाभी बोलीं- क्या ये सही है यश … मेरी बहनों को नीचे सुला दिया?मैंने बोला- भाभी मैंने तो कहा था कि बेड पर सो जाओ, मैं नीचे सो जाता हूँ.

दोनों मिरर बिल्कुल आमने सामने लगे थे, जिससे बाहर का नजारा साफ दिख जाता था कि गेट पर कौन खड़ा है. मेरा मन कर रहा था कि अंकल का लंड मुँह में ले ही लूं लेकिन अंकल बूब्स को चोद रहे थे. मैं घर पर अकेला बोर हो रहा था तो मैंने एक सेक्सी कहानियों की किताब उठाकर पढ़नी शुरू की.

लड़की का सेक्सी वीडियो फिल्महॉट भाभी सेक्स कहानी जयपुर की रहने वाली एक मस्त चालू भाभी की है जिसे हर वक्त नए नए लंड की तलाश रहती है. मैंने कोई ऐतराज नहीं किया तो सर अब धीरे धीरे मेरा स्कर्ट उठाने लगे थे.

सेक्सी फिल्म दे वीडियो में

तो मैंने भी सोचा कि एक दिन कॉलेज में अनुपस्थित रहने से बाधा नहीं आएगी. मैंने भाभी को आंख मारते हुए ये बात बोली, तो अंजलि भाभी बोलीं- शैतान कहीं के. मॉम हंसने लगीं और बोलीं- अच्छा बेटा … मतलब अपनी मॉम से चिपके होने से तुम्हारा खड़ा हो गया था?मैं- मॉम आप हो ही इतनी सुंदर कि कोई क्या कर सकता है.

उन्होंने मेरे सीने को धकेलते हुए मेरे सीने पर अपने नाख़ून गड़ा दिए थे. मैं अपने गांव का सबसे सेक्सी लड़का हूं और मेरा लंड 7 इंच लम्बा व 2. मैं- मेरे मन कुछ सवाल पैदा हुए हैं, इनका तुम सही सही जवाब दोगी तो मैं सोचूंगा कि कहूं या न कहूं.

डाक्टर ने बोला टायफाइड हो गया है, कुछ दिन इन्हें आराम की जरूरत है।मैंने दीदी से बोला- बेचारी मौसी मां इतना काम अकेले करती हैं, आप लोग भी हेल्प करा दिया करो।वो मुझपे चिल्लाने लगी, बोली- हमें पढ़ना रहता है और मौसी मां के लाडले … तू क्यूं कुछ नहीं करता?झगड़े की आवाज से मौसी मां जग गयी, बोली- क्या हुआ? क्यों झगड़ रहे हो?मैं तुरंत भागकर मौसी मां के पास गया और उनसे पूरा हाल पूछा. जब भी वो मुझे छूते हैं, तो ये सोचकर ही मेरी चुत पानी छोड़ने लगती है कि न जाने अब मेरे पति मुझे कैसे चोदेंगे. फिर काफ़ी देर बाद मुझे लवी का ध्यान आया, तो मैंने अपना फोन चैक किया.

मैं चाचा के इरादे समझ गई थी कि ये घर के अन्दर मेरी खबर लेने नहीं, मेरी लेने आए हैं. मैंने दीदी की मांग भी भरी थी और सुहागरात तो हम रोज़ ही मना लेते हैं.

उस समय एक बार हम साथ साथ खलिहान में लेटे थे, तब उनके एक दोस्त ने मेरी गांड मार दी थी.

फिर और साड़ी के अन्दर हाथ डालकर उसकी पैंटी को एक तरफ से खींचना चालू किया. बालवीर और अनन्या की सेक्सीफिर उन्होंने मुझसे पूछा- बेटा तुम्हें कोई बीमारी है क्या?मैं बोला- नहीं तो आंटी, ऐसे क्यों पूछ रही हैं आप!आंटी बोलीं- मुझे कुछ कुछ पता है. कुत्ता और सेक्सी फिल्मइधर मैं अपने हाथ ऊपर करके उसकी चूचियों को ऐसे मसल रहा था जैसे अब इनमें से दूध निकल ही आएगा. सीमा भी सोचने लगी कि मैं भी तो उनकी चुदाई देख रही हूँ लेकिन मैं बाधा नहीं बनूंगी सर, बस हमें भी चुदाई का मौका दीजिए न.

तब तक विशाल और प्रकाश, रवि की गांड मारकर अपनी यौन इच्छा पूरी करते रहे.

मैं आपको सोनाली की चूत की चुदाई की कहानी का आखिरी भाग सुना रहा हूँ. मैंने भाभी को फोन करके उन्हें सब बात बता दी कि मैं आज अपने पति को क्या गोली देकर आ रही हूँ. एक दिन मैंने ठान लिया कि आज किसी भी हालत में मैं भाभी को चोद ही डालूंगा.

सबसे पहले इस गाँव की देसी चुदाई स्टोरी में मैं आपको अपने शुरुआती जीवन के बारे में बताऊंगा कि मेरे जीवन में सेक्स की शुरुआत कैसे हुई. एक दिन प्रिया दोपहर को खाना लेकर आई और झुक कर रोटी रखने लगी तो मेरी नजर उसकी वक्षरेखा पर चली गई. वैसे मैं पहले ही बता दूं कि उस वक़्त तक मुझे सेक्स के बारे में कुछ भी नहीं पता था.

कूदता पजामा

मैं गेट बंद करके जैसे ही ऊपर आया और उसके रूम के बाहर से नॉक किया तो लवी बोली- एक मिनट रुको बाबा, आती हूँ. ससुर जी बाथरूम से निकलने के बाद मैं वापस बाथरूम में गयी और मैंने वही पाया जो मैंने सोचा था. क्या गजब कमर हिला रही थी वो … मैं भी नीचे से लंड उठा कर चुत चोदे जा रहा था.

उनके दोनों हाथों में भैया के सर के बाल दबे हुए थे और वो उनके बाल खींच कर चूत झड़ने जैसा कर रही थीं.

हालांकि उस वक्त मैंने अपने ब्वॉयफ्रेंड की बात नहीं मानी और उसके दोस्त के साथ चुदने से मना कर दिया.

मुझे बहुत गुस्सा आया और थोड़ा कड़क आवाज में बोला- क्या यार ऐसा क्या हो गया?भाभी- तुम्हारा लंड बहुत मोटा और बड़ा है. भाभी बोलीं- कभी क्या आता हूँ … नवम्बर में मेरी बहन निशा की शादी है, तो आपको तो दो हफ्ते पहले ही आना है क्योंकि आपके भैया तो दूसरे काम में बिजी होंगे, तो मुझे भी आपकी हेल्प चाहिए होगी न. इंडियन इंग्लिश सेक्सी पिक्चरआप अच्छे इंसान है कोई हर्जा नहीं है, लेकिन इसकी आग हमारे परिवार तक नहीं जानी चाहिए.

मेरी शादी हो चुकी है, किसी को पता चला तो उसका परिणाम जानते हो!मैं- मॉम-डैड सो चुके होंगे और हम ऊपर हैं … तो उनको पता ही नहीं चलेगा और दूसरे किसी को पता चलने का सवाल ही नहीं है. मैं लवी और श्वेता दोनों को काफ़ी अकड़ू सा एटिट्यूड में रहने वाली लड़कियां समझता था, पर मैं ग़लत था. भाभी कहने लगीं- मैं तो कब से आपके साथ सेक्स करना चाह रही थी लेकिन आपकी ही फट रही थी.

तो दोस्तो, आपको मेरी हॉट सिस Xxx कहानी कैसी लगी, कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं. इधर भाभी को किस करने के बाद मैं मुस्कुरा दिया और उधर वो एक कदम पीछे को हटकर गुस्सा हो गई.

अब सोहल को घर जाना था क्योंकि उसकी माँ घर पर उसके आने का वेट कर रही थीं लेकिन हनी का मन था कि सोहल उसके पास ही रुके.

मैं बेबी को देखने लगा और मैंने उनसे कहा- बेबी बिल्कुल आप पर गया है. विलियम ने सोचा जैसे मैंने हाथ पर किस के लिए हाँ बोल दिया था उसी तरह मैं लिप किस के लिए भी हां बोल दूंगी. वो मेरे लिए खाना लेकर आई ही थीं कि मैंने उन्हें खींच कर उनके चूतड़ पकड़ लिए.

जानवरों की सेक्सी दिखाइए वीडियो में मैं मदहोश हो चुकी थी- ससुर जी, अब और मत तड़पाइये, आपका लन्ड अंदर डाल दीजिये ना!ससुर जी ने अपनी धोती ओर चड्डी खोली और मेरी आँखों के सामने उनका विशालकाय और मोटा लन्ड आ गया. भाभी चुदाई हिंदी कहानी के पिछले भागदोस्त की कुंवारी बीवी की सील तोड़ीमें अब तक आपने पढ़ा था कि सरिता भाभी अपनी चुत में हाथ लगा कर देखने लगीं.

तो दोस्तो, ऐसा था मेरा ज्योति के साथ डिनर और गांड चुदाई की कहानी का मजा. रात को हम दोनों ने चुदाई नहीं की क्योंकि कल दिन में मेरी चूत गांड की जमकर चुदाई होना तय थी. मैंने कहा- ठीक है भाभी … जो आप कहें!फिर अगले दिन शाम को उनका कॉल आया कि आज मैं शॉप बंद करने के बाद घर पर आ जाऊं.

मेरी दादी पर 10 लाइन

मैं अलमारी से कंडोम का पैकेट निकाल लाया जो मैंने तीन महीने पहले खरीदा था. ससुर जी- तेरी सास कहाँ है दिख नहीं रही है?मैं- वो पड़ोसी के यहाँ पर गयी है।यह सुन ससुर जी ने अपने मजबूत हाथों से मुझे पकड़ा और मुझे अपने पास ले आये और मुझे चूमने लगे. तभी मेरे दिमाग में विचार आया कि यह मौका हाथ से जाने नहीं देना चाहिए तो मैंने थोड़ा घबराहट में और थोड़ा शरमाते हुए कहा- मेरे बारे में क्या विचार है?वह शर्मा कर बाहर चली गयी.

उस समय एक बार हम साथ साथ खलिहान में लेटे थे, तब उनके एक दोस्त ने मेरी गांड मार दी थी. तुम भी विलास के घर वालों से कितना घुल-मिल गयी हो और सबके लिए कितना काम करती हो.

उन कहानी को पढ़ने के बाद मेरे दिमाग में आया कि क्यों न मैं भी अम्मी को पटा कर उनकी जमकर चुदाई करूं.

मैंने झट से उसके होंठों पर अपने होंठ रखे और किस करते हुए उसकी आवाज को दबाने लगा. थोड़ी देर बाद वो मुझे हटाने लगी और कान में बोली- ये आप क्या कर रहे हो जीजू?मैंने कहा- प्यार. उसकी चूत बहुत गीली हो चुकी थी जिससे लंड आसानी से अन्दर जा रहा था और बाहर आ रहा था.

सोनाली ने घड़ी देखी तो सवा दो बज चुके थे- हर्षद मुझे यकीन ही नहीं हो रहा है कि हम करीब करीब एक घंटे से भी ज्यादा ये चुदाई का खेल रहे थे. अंकल भी धीरे धीरे मेरी चुत की फांकों के अन्दर पूरी जीभ डालने लगे और बड़ी मस्ती से मेरी कमसिन चुत चाटने लगे. मैं उत्तेजित होकर जिया दीदी की गांड पर तेज तेज हाथ घुमाने लगा था क्योंकि वहां से हाथ मुझे अपना हाथ हटाने का मन ही नहीं कर रहा था.

रात 3 बजे मेरी आंख खुली तो मैंने देखा कि मदन अपनी वाइफ से न्यूड वीडियो कॉल में लगा हुआ था.

मौसी को चोदा बीएफ: लेकिन एक दिन गलती से हार्दिक का फ़ोन हमारे दोस्त वंश के हाथ पड़ गया. झड़ने के बाद आज मुझे पहली बार अलग सा सूकून मिला था … अलग सा मजा आया था.

उसकी आंखों में फिर से आंसू आ गए थे, पर अबकी बार ये खुशी के आंसू थे. उसकी काली आंखें, तीखी नाक, मुस्कान ऐसी जैसे होंठों से फूल झड़ रहे हों. तो विशाल बोला- हम सब भी ऐसा करें तो मज़ा आएगा, क्या सब राज़ी हैं?प्रकाश ने हां कहा.

सोनाली ने अपनी गांड उठाकर मुझे अपनी बांहों में कस लिया और वो झड़ने लगी.

उनकी आंखें बंद थीं और होंठों को दांतों से दबा कर मीठे दर्द का मजा ले रही थीं. सोनाली अब शांत हो गयी थी और वो अपने होंठों को मेरे होंठों पर रखकर चूमने लगी थी. होंठों को चूमते हुए हम दोनों एक दूसरे के गाल और गर्दन को भी चूमने लगे.