मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ

छवि स्रोत,कामसूत्र बीएफ हिंदी

तस्वीर का शीर्षक ,

मराठी बीएफ ओपन सेक्स: मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ, मेरे पेरेंट्स कहीं गए हुए थे साहिल ने कॉल किया कि तुम घर पर हो तो मैं आ जाऊं?मैंने कहा- हां आ जाओ.

सेक्सी भोजपुरी सेक्सी बीएफ

उसने मेरी बीवी की चूत का पानी उंगलियों पर लगा देखा, तो वह पानी की तार सी बनने लगी. बीएफ नंगी चुदाई पिक्चर’ ज़रीना उत्तेजना में चिल्ला रही थी और अपने कूल्हे उछाल-उछाल कर मेरे धक्कों का साथ दे रही थी.

एक बार को मैंने उसको मेरी मम्मी के साथ बात करते सुन लिया कि उसकी उम्र इकत्तीस साल है और वो कुंवारी है और अभी तक उसकी शादी नहीं हुई है. चेन्नई की बीएफ सेक्सीसुराहीदार गर्दन, बूब्स बड़े बड़े करीब 38 साइज़ के एकदम गोल मटोल मम्मे.

अमित मेरे ऊपर आ चुका था और मैं उसके नीचे लेटी हुई उस जवान मर्द के सामने खुद को समर्पित करती जा रही थी.मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ: मेरे जोर जोर के धक्कों से उसका पेशाब निकलने लगा और उसी टाईम मेरा लंड भी पानी निकालने वाला था.

जब मैं लखनऊ से घर वापस आया, तो मेरी गर्लफेंड को मैंने एक दिन चोदते समय रिया के बारे में बता दिया.हमारी ज्यादातर बातें इंग्लिश में ही होती थीं, पर अन्तर्वासना के हिसाब से मैं हमारी बातचीत को हिंदी में लिख रहा हूँ.

चोदने वाला बीएफ सेक्सी - मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ

मैं हफ्ते में जब तक दो तीन बार चोदाई नहीं कर लेता, तब तक रह नहीं सकता.मैंने उनकी भावनाओं को पढ़ने की कोशिश की और उनकी आँखों में देखता रहा.

दोनों को आपस में खुलने भर की ही तो देर थी, नीना की चुदाई का प्लेटफार्म उसके सामने था. मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने अपनी दोनों टांगों के बीच में सोनू की दोनों टांगों को जकड़ लिया और एक हाथ से उसके एक मम्मे को पीने लगा और दूसरे हाथ से उसकी कमर को सहलाता रहा.

मुझसे अब बर्दाश्त नहीं हो रहा था क्योंकि गोली का असर मेरे लंड पर बहुत ही ज्यादा था.

मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ?

लगभग 20 मिनट तक उसने मेरी चूत की चुदाई की और फिर उसके लंड के धक्के और ज्यादा तेज हो गए. पहले मैं आप सभी को बता दूँ कि हमारा घर के पुनर्निर्माण का काम चल रहा था, तो हम लोग किराए से एक घर में रहते थे. सच में मुझे भरोसा ही नहीं हुआ जब प्रिया ने बिना किसी झिझक के मेरा वीर्य अपने मुँह में ले लिया था.

अब उसकी पीठ पूरी नंगी दिख रही थी और उसकी ब्लैक ब्रा का स्टेप दिख रहा था. तभी मेरा मंदबुद्धि भाई जिगर बाहर से इतना आवाज सुनकर अन्दर घर में आ गया और घर में सबको देखने लगा. ” मैंने सहमे हुए स्वर में कहा।साल? तुम एक साल की बात कर रही हो? तुम्हारे तीन साल खराब होंगे.

मैंने एकता को इशारा किया और एकता ने प्रमिला के होंठ पर अपने होंठ रख दिए. मुझे कुछ कुछ होने लगा है … मैं संभाल नहीं पा रही खुद को … घुसा दो पूरा लंड मेरी चूत में … और जोर जोर से चोदो मुझे … जमके चोदो … तुम्हारा लंड बहुत मस्त है. एक अजीब सी मदहोश करने वाली महक आ रही थी उनके जिस्म से, जो मेरी उत्तेजना और बढ़ा रही थी.

इंदु को इस आसन में मजा आने लगा, वो बोली- मैंने ऐसे पहले कभी नहीं किया. रंग लगाते समय वो मुझसे बचने की कोशिश कर रही थी, जिस चक्कर में मेरे हाथ उसके मम्मों पर लगे जा रहे थे.

एक मिनट के लिए आप भी सब ये सोच रहे होंगे कि पहली ही मुलाक़ात में ये सब क्या हो रहा है.

उसके बाद मैं भाभी को घर पर छोड़कर अपने दोस्तों के साथ कहीं चला गया.

छीलने के बाद उन्होंने एक टुकड़ा निकाला और आधा अपने होंठों में दबा लिया और मेरी तरफ इशारा किया. उन दोनों ने मुझसे अलग अलग चैट में कहा कि उन्हें मेरा लंड वीडियो कॉल में देखना है. फिर उसके बाद हमने मनोहर को वापस को भेज दिया क्योंकि उसको ज्यादा देर घर में रखना ठीक नहीं था.

मेरे स्पर्श से वह जग गईं और बड़े प्यार से बोलीं- मेरी आँख लग गयी थी. सलोनी- कुछ मत बोलो … बस मुझे अपना बना लो!कह कर उसने अपने पैर हवा में उठा लिए, जितना वो फैला सकती थी, उतने पैर उसने फैला लिए. उस वक़्त कल्पना ने कुछ भी कन्फर्म नहीं बोला, तो मुझे लगा शायद टाइम पास ही कर रही थीं.

एक बात जरूर लिखना चाहूंगी कि मेरे साथ जिस तरह से घटनाएं हुईं और कुछ वारदातों को छोड़ दें, तो ज्यादातर चीजें मेरी ही सहमति और मर्जी से हुई हैं.

थोड़ी देर में मेरी बहन ने मेरा लोअर को भी उतार दिया और चड्डी में से लंड को देखकर चौंक गई. वो बोली- कोई बात नहीं भैया! आप करते रहो ना… लंड को रगड़ो ना मेरी चूत में … बहुत अच्छा लग रहा है मुझे!जब वो दर्द सहने को तैयार दिखी तो मैंने उसे कहा- लेकिन किसी किसी लड़की को पहली बार लंड घुसवाते समय ज्यादा दर्द भी होता है. फिर भैया जैसे ही भाभी को माला डाल रहे थे, वैसे ही मेरे बाजू खड़ी एक लड़की ने भाभी को पीछे खींच लिया और जैसे ही भाभी पीछे खिंची, तो भाभी और मैं एक दूसरे से टकरा गए.

मैं मस्ती से भाभी के मुँह को चोदने लगा और वो भी मेरा पूरा साथ देने लगीं. पिछली कहानी में आपने मेरे साथ एकशौकीन लड़के की गांड चुदाईका लुत्फ़ लिया था. परफेक्ट फिगर, कूल्हे थोड़े उठे हुए, लंबाई 5 फुट 6 इंच, एकदम स्लिम तो नहीं, पर भरी बदन की मल्लिका थी कल्पना.

भाभी कहने लगी- राज! अब आप अपने कमरे में चले जाओ, बहुत देर हो चुकी है.

चूंकि मैं उससे काफी छोटा था और वह मुझसे उम्र में सात साल बड़ी थी, वह बचपन से ही मुझ पर नजर रखे हुए थी. मैं गांड हिलाते हुए लंड लेने लगी और मैंने भैया से कहा- मार और जोर से … और तेज मार … फाड़ डाल.

मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ उसका नाम मैं यहाँ पर नहीं बता सकता लेकिन बिना नाम के कहानी का किरदार समझने में पाठकों को परेशानी न हो इसलिए मैं उसका नाम बदलकर लिख रहा हूँ।उसका नाम नीरू था. मेरी प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा के कारण मैं घर पर ही था और मेरी चचेरी भाभी सोनम, जिनकी अचानक ही तबीयत बिगड़ गयी थी, वे भी घर पर ही रुक गई थीं.

मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने उसकी कमर में हाथ डाला और उसको थोड़ा सा उठा कर अपना मूसल लंड फिर से उसकी गांड में जोर देते हुए पेला. जब वह कार से उतर कर होटल में अंदर जाने लगी तो मैंने उसकी फिगर को देखा.

अब उन्होंने मेरा हाथ पकड़ लिया और बोलीं- तू क्या कर रहा है, मुझे सब समझ आ रहा है.

ক্ষক্ষক্ষ

वे बोले- चल अब मैं तुम्हें पकड़ने आ रहा हूँ, तू जल्दी से भाग कर बचना. उस दिन रात को मामा खाने के बाद अपने दोस्त की शादी में शहर से बाहर चले गए. मैंने प्रिया से पूछा- कैसा लगा?वो बोली- बहुत अच्छा … पहली बार आपने इतना मज़ा दिया.

एक दिन मेरी पत्नी बाहर गई, तो मैंने प्रिया को रात को करीब दस बजे फोन किया. आज मेरे पास सिर्फ दो लुंगियां हैं, एक मैंने पहनी है, एक आप पहन लो, अभी तो और कुछ नहीं है मेरे पास. मैंने मूतने के बाद वापस आ कर दोनों की चुत में से डिल्डो खींचा और गीता की कमर से बेल्ट खोल कर अलग किया.

मैं भी अपने बॉयफ्रेंड से चुदवाना चाहती थी, हम दोनों आज चुदाई का भरपूर मजा लेना चाहते थे.

मैंने लंड उसकी चूत के ऊपर रखा और धीरे से धक्का दे दिया और आधा लंड उसके चुत में पेल दिया. एक बार हम पैसों की तंगी से बहुत परेशान चल रहे थे और मेरी नौकरी भी छूटी हुई थी, इसलिए हम थोड़ी परेशानी में चल रहे थे. वह बोला- तुम घर पर हो, मैं अभी आता हूं?मैंने कहा- इतना ज्यादा भी बीमार नहीं हूं.

अपने लंड को वो जैसे ही मेरी चूत पर रखता, मैं जानबूझ कर हिल जाती थी ताकि लंड असानी से चूत में ना जा पाए और उसे कुछ अहसास हो कि चूत चुड़ी हुई नहीं है, कुछ दम लगाना पड़ेगा लंड को अंदर करने के लिए. तो मैंने पूछा- तुम कहाँ हो?तो अनामिका बोली- मैं अपनी सहेली के घर उससे मिलने आयी हूँ शाम को घर आऊँगी।मैं भी डर रहा था कि अकेले में उन्होंने मुझे क्यों बुलाया है. वो बोली- क्या रब करना पड़ता है?मैं एक बार तो झिझका, पर उसने मेरी जांघ पर हाथ फेरते हुए मुझे उकसाया और कहा कि बताओ न … क्या रगड़ते हैं?मैंने भी साफ़ कह दिया कि लड़की के बूब्स को रब करना पड़ता है, उसके निप्पलों को सक करना पड़ता है.

”फिर मैंने खाना खाया और अपने बेटे के कमरे से वियाग्रा की कुछ गोलियां निकाल कर अपने पास रख लीं. उसने मेरी कुर्ती को उतरवा दिया और मेरी ब्रा में कैद मेरे उरोज उछल कर बाहर छलक पड़े.

ऐसे ही बातें करते-करते मैं भाभी के होंठ और चूचियां पीने लगा और चूत के ऊपर हाथ लगाने लगा, भाभी फिर गर्म हो गई और उन्होंने मुझे बेड पर धक्का देकर नीचे लिटा लिया और खुद मेरे ऊपर चढ़ गई. उन्होंने तुरन्त बोला- क्यों?मैंने सहज में बोला- ऐसे ही देखूं तो सही. वो पेंटी खोल कर मुझे दिखाने लगा, फिर बोला- मैडम अगर आपको ना पसंद आए हों, तो दूसरी ला दूँ.

वो एक लेडी डॉक्टर थी और देखने में बहुत सी सेक्सी लग रही थी।मुझसे काफी देर तक बात करने के बाद उस डॉक्टर ने कहा कि मुझे टेस्ट करवाना पड़ेगा।मैंने उससे पूछा- टेस्ट के सैंपल के लिए कहाँ जाना होगा?तो उसने मुझसे कहा- अभी तो काफी सारे पेशेंट आए हुए हैं, आप शाम को 6 बजे आ जाना.

थोड़ी देर बाद वो भी मजे लेने लगीं और बोलने लगीं- और जोर से चोद दो … ज़ोर से चोदो मेरे राजा. मेरा दर्द जब कम हो गया, तो उसने अपना लंड मेरी चूत में डाल दिया और फिर से मेरी चूत को चोदने लगा. लेकिन वक्त के साथ मैंने मान लिया अब मेरा शौहर कभी वापस लौटकर नहीं आएगा.

मैं और लता भाभी चुपचाप हर रोज़ चुदाई करते रहे और जैसे कि इश्क और मुश्क छिपाए नहीं छुपता, हमारे इस खेल का हेमा भाभी को शक हो गया था. मैं आप सभी के प्यार की वजह से एक बार फिर एक चटपटी और कामुक कहानी लेकर आई हूं.

मैं उससे मिला, तो वो बोला- आप यहां रुकिए … मुझे जाना ही पड़ेगा, कल से कॉलेज जाना ही पड़ेगा. मेरे मामा के घर से थोड़ी ही दूर एक घर है, जहाँ मैं बचपन में अक्सर खेलने जाया करता था. आज तेरी वजह से सुहागरात हो जाएगी, तेरा नाम हमेशा लूंगा कि मेरे भाई के कारण मेरी सुहागरात हुई थी.

कॉटन की साड़ी दिखाएं

मुझे उसकी भावना और बातों से पता चल चुका था कि वो मुझे चोदना चाहता है.

अब उस दिन की शाम ढलने लगी, पर मेरे अन्दर की जो आग थी, वह अब तक बुझी नहीं थी. फिर वो मेरे पास बैठ कर बोली- और दिखा ना?मैं उसे और वीडियो दिखाने लगा. ऐसे लोगों की बांहों में उनकी टांगों के नीचे होगी, तुझे ऐसे मस्त लोगों से मिलवाऊंगा कि तू कायल हो जाएगी उन मर्दों के लंड की … अभी सब मैं बहुत जल्दी में कर रहा हूं, नहीं तो तुझे चोदने से पहले एक बोतल दारू पीता, फिर तुझे हाथ लगाता.

इधर उसने भी मुझे फोन पर यही बताया कि वो भी डर रही थी कि मम्मी ने मुझे क्यों बुलाया है।मैंने सोचा कि कोई बात नहीं, अब पकड़े गए तो जाना तो पड़ेगा ही. लगभग 20 मिनट लगातार चोदने के बाद उसने अपना माल मेरी बीवी के दोनों संतरों पर छुड़ा दिया और लंड के सुपारे को दोनों निप्पल ऊपर रगड़ कर माल मलने लगा. बीएफ ब्लू फिल्म सेक्सी ब्लू फिल्मआंटी के मुंह से कामुक सिसकारियों के साथ अब हल्की-हल्की दर्द भरी आवाजें भी निकल रही थीं.

फिर मैंने देखा जब मम्मी उठी तो उनकी चूत से सफेद सफेद गाढ़ा सा कुछ निकल रहा था, जिसे मम्मी ने पास में रखे हैंड टॉवल से साफ किया. बात आज से साल भर पहले की है जब लंड की ललक मुझे ज्यादा ही परेशान करने लगी थी.

फिर हम एक दूसरे से अलग हुए और मैं उसे गोद में उठाकर उसके बेडरूम में ले गया. सलोनी की तो दर्द भरी चीख निकल गई जिसके साथ मैं भी चीख पड़ा क्योंकी सलोनी ने मेरे लण्ड को दर्द में ज़ोर से दबा दिया था. वो बोली- हे मेरे लंड देवता, मुझे और पागल करो, मुझे चोद दो, मेरी गांड का भी कल्याण कर दो मेरे राजा, मेरी चूत को और मसलो अपने लंड से, मेरी गांड भी फाड़ दो है मेरे लंड नाथ.

वे दोनों ये बातें ही कर रही थीं … तभी मैं नीचे झुक के उनकी गांड पे अपनी जुबान से लिकिंग करने लगा. कल्पना- क्या मैं अभी आपको वीडियो कॉल कर सकती हूं?मैं- सॉरी मैडम, अभी मैं ऑफिस में हूँ. थोड़ी ही देर में वो सफल होकर मेरी जींस के अंदर और फिर मेरे जॉकी के अंडरवियर में हाथ डाल कर उसने मेरे लण्ड को अपने कोमल हाथों से पकड़ लिया.

अब मैंने अपने कपड़े अपने रिंकी को दिए और बोला कि इन्हें भी अपने कपड़ों के साथ ही रख लो.

मैंने भी सलहज को उस दिन एक गिफ्ट देने का वादा किया और एक चुम्बन ले के बाहर आ गया. अच्छी बात ये थी कि आधी रात का समय था, कोई हमें इस तरह देखने वाला नहीं था.

मार्च का रोमांटिक गुलाबी महीना और उन दिनों बेमौसम की बरसात तो उसे कुछ अधिक ही तड़पा रही थी. वो समझ गयी थीं कि अब ये चुदाई, उनकी चूत का कुंआ मेरे मोटे लंड के पानी से भरने के बाद ही रुकेगी. मैंने उससे पूछा- कौन चाहिए … क्या काम है?उसने थोड़ी अलग ही भाषा में टूटी फूटी हिंदी में बोला- मुझे नामित ने बुलाया है.

मैं बहुत जोर जोर से चिल्लाने लगी, पर वह एक नहीं माने और अपना पूरा लंड अन्दर करते गए. मैं महीने के बाद ही आ सकता हूँ … बताओ?भाभी- ठीक है, जैसी तुम्हारी मर्जी वैसे जब तुमने पैसे दे ही दिए हैं, तो तुम रूम तो कभी भी छोड़ सकते हो न … भले महीना पूरा हो या ना हो?मैं- अच्छा देखता हूँ यार. ऊपर 32 इंच के मस्त चुचे, बीच में 26 की कमर और नीचे 38 की मखमली गांड.

मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ मैंने भाभी से कहा- भाभी आपकी तो तबीयत खराब थी, और ये सब आप क्या कर रही हैं?तो भाभी रोने लगीं. यहाँ किसने आना है अब, सारे कपड़े अन्दर सुखा देता हूँ और लुंगी पहन लेता हूँ, जब तक लाइट है, तब तक तो ठंड लगेगी नहीं.

श्रद्धा की सेक्सी वीडियो

फिर कुछ देर बाद में वो अचानक से बोली- एक मिनट रुको, मैं सुसु करके आती हूँ. आअह … आ आ आ आ … हहह … हम्म ओह …मैं उसकी जांघों के जोड़ के पास आकर रुक गया. इसलिए जब से मेरा शौहर मुझे छोड़कर गया था तब से एक और जिम्मेदारी मुझे निभानी थी.

मुझे चित लिटा कर मेरी टांगें खोलीं और चूत से सटा कर लंड अंदर पेल दिया। इस बार चूँकि लंड गीला नहीं था तो गीली होने के बावजूद चूत चरमया गयी और लंड आधे पर ही फंस गया लेकिन चार पांच धक्कों में जड़ तक पहुंच गया।आह … यही तो चाहती थी मैं। कितना खूबसूरत अहसास होता है जब एक कठोर गर्म लंड आपकी चूत में गहरे तक धंस कर उसकी खुदाई कर रहा हो। इस आनंद को बयान कर पाना मुश्किल है. ’बस मैंने बातों ही बातों में उसको एक जोर का झटका मार दिया, तो अब उसकी आंख में आंसू थे. बीएफ सेक्सी पिक्चर दिखाएं वीडियोभाभी की चूत चुदाई कहानी के पिछले भागपड़ोसन भाभी के साथ सेक्स एंड लव-2में आपने पढ़ा था कि मैंने नैना को एक बार चोद दिया था और वो मेरे बाजू में लेटी हुई थी.

जब प्रमिला पूरी तरह मजा लेने लगी, तो मैं धीरे धीरे पूरा लंड अन्दर बाहर करने लगा.

मैं भाभी के दूध दबाते हुए बोला- तुम तो ये बताओ मेरी जान कि मज़ा आ रहा है या नहीं?भाभी बोलीं- तूने तो आज मुझे पूरा मज़ा दे दिया. उनके लिए कुछ अलग करना ही रोचक था, जो उन्हें संतुष्टि प्रदान करती थी.

भाभी कुछ देर बाद कपड़े पहनकर मेरे रूम में आयी और मैं जानता था कि भाभी के बिना पेंटी के ही आई है. उसने मेरी चुनरी उतार फेंकी, जिस वजह से मेरे पहाड़ जैसे चूचे और उनके बीच का चीर … और चीर के बीच मेरा लॉकेट खेल रहा था. कुत्ता भी उसके पेशाब को सूंघते हुए उसके पास आ पहुंचा और उसके चूतड़ों को सूंघते हुए कुतिया की योनि चाटने लगा.

मैंने एक बात नोट की है कि एक बार जब औरत अपना पानी छोड़ देती है, उसके बाद उसे सेक्स का असली मज़ा आता है.

करीब आठ दस मिनट तक इसी तरह चुदाई के बाद मुझे लगा कि अब उसका माल झड़ने वाला है. ऊपर से पार्लर वाली ने मालिश करके और मेरी चूत साफ करके मुझे और भी गर्म कर दिया साथ ही बियर का नशा भी मुझे मदमस्त किये जा रहा था. कहता है टाइम नहीं मेरे लिए, भड़वा कहीं का … मुझे चोदने में उसको पैसा तो लगता नहीं, फिर क्यों कमीना इतनी गरज दिखा रहा है.

बीएफ में सेक्सी चाहिएबाद में मुझे एक घर के बारे में मालूम चला जिन्हें एक पेइंग गेस्ट चाहिए था. मैं अभी तक एक बार भी नहीं चुदी थी और अपने बॉयफ्रेंड से चुदने के लिए मचल रही थी.

आर्केस्ट्रा डांस नंगा

वो एक तरफ तो तेज़ी से धक्के मार रहा था, दूसरी तरफ मेरी जांघों को पकड़ धक्के के साथ उठा कर मुझे खींचने लगा. वो मेरे चूतड़ों को चूमने लगा और बोला- माया तेरे पूरे जिस्म में तेरी ये गांड ही है, जो मुझे तेरा पागल बना देती है. इस पर नामित और निक एक साथ बोले- सर हम भी गर्म हैं, चलो सब साथ ही खेलते हैं.

फिर मैंने अपने लंड को भी चिकना किया और उसके गांड के छेद पर लगा दिया. वो बोली- आह … साले चूस तो रही हूँ … मेरे जानू … मेरे मुँह में और अन्दर डाल न … मज़ा आ रहा है. मेरी खोपड़ी सारे दिन यही सोचती रहती थी कि किस तरह से भाभी को चोदा जाए.

यह सुनते ही मेरी गांड बिना लंड डाले ही फट गयी और मैं डर गई, मैंने उससे ‘नो नो …’ कहा, तो इससे उसकी हिम्मत बढ़ गयी और वो सीधे मेरे मम्मों को अपने हाथों में ले कर मसलने लगा और मेरे गले को अपनी जीभ से चाटने लगा. दीवार की तरफ मुँह करके वह लेटा हुआ था और मैं भी जाकर राहुल के पीछे लेट गयी. मेरा कद साढ़े पांच फुट का है और मर्द का सबसे जरूरी अंग यानि मेरा लंड 6 इंच का है.

भाभी को जब मैंने पहली बार ही देखा तो एक ही नज़र में मैं उनका दीवाना हो गया. मैंने भाभी को पीछे करके उनको अपनी बाहों में भरा और ज़ोर से भींचकर ऊपर उठा दिया.

उसने मुस्कुरा कर कहा- ज़्यादा ना खो जाओ, वरना निकलना मुश्किल हो जाएगा.

मुझे कल्पना ने जिस बिल्डिंग का नाम बताया था, वो 21 मंजिल की एकदम शानदार बिल्डिंग थी. झारखंडी बीएफ हिंदी”मुझे कोई परेशानी नहीं है … हाँ अगर तुम्हें कोई परेशानी है तो बताओ … अगर कहो तो तुम्हारे लिए दूसरा कमरा ले लूँ?”नहीं कमरे की कोई जरूरत नहीं है … आप बहुत अच्छे है … मुझे आपके साथ कोई परेशानी नहीं … मैं एडजस्ट कर लूँगी. ब्लू फिल्म बीएफ दिखाओएक दिन की बात है जब मेरे चाचा-चाची दोनों ही किसी काम के सिलसिले में बाहर गए हुए थे. आज समझ पाया हूँ कि पापा सेक्स के मामले में मम्मी के लायक नहीं थे, इसीलिए मम्मी ने अपने जिस्म की भूख मिटाने के लिए अपने ही भाई को चुना।शायद इसलिए कि उनका काम भी बन जाएगा और घर की बात घर में ही रह जाएगी.

इस वक्त वो चिल्ला रही थी- वाह समीर, तुझे तो सब पता है … आह तेरी बीवी तो किस्मत वाली होगी.

मैं एक खुले विचारों की विवाहिता लड़की हूँ और मुझे लड़कों से दोस्ती करने में कोई दिक्कत नहीं होती है. जब वे अपनी चुदाई की किस्से बतातीं, तो मन मेरा भी बहुत करता कि मैं भी एक ब्वॉयफ्रेंड बना लूँ और उससे चुदवाया करूँ. थोड़ी ही देर में मेरा औजार फिर से खड़ा हो गया। अब अंताक्षरी खेलते-खेलते भी बहुत समय हो गया था.

वह निहाल से भी छोटा था और इतने में वह लड़का, जो मेरी गांड को चोद रहा था उसने भी जल्दी से अपना लंड निकाल लिया. कौशल्या अब पूरी थक चुकी थी, पर मैं पूरी बेदर्दी के साथ उसकी चुदाई कर रहा था. उसने मेरी चुनरी उतार फेंकी, जिस वजह से मेरे पहाड़ जैसे चूचे और उनके बीच का चीर … और चीर के बीच मेरा लॉकेट खेल रहा था.

हिंदी ऑडियो पोर्न वीडियो

अब तेरी मम्मी के लिए कोई आता नहीं होगा, तो लड़की को धंधे में लगा दिया. पर मुझे उस समय उन बातों से कुछ लेना देना नहीं रहा और मैं भूल भी गई. जितनी भी लेडीज, जो मुझे पहली बार देख रही थीं, मुझे खा जाने की नज़र से देख रही थीं.

हम दोनों अकेले थे बस ये सोच कर मैंने हिम्मत की और उसके पीछे जाकर खड़ा हो गया.

मेरी फैमिली काफी खुली विचारों वाली है, शुरू से ही मुझ पर या मेरे भाइयों पर कोई पाबंदी नहीं थी.

हम दोनों को ही सेक्स का खुमार चढ़ा हुआ था, तो जल्दी ही हम दोनों फिर से गरम हो गए. तुझे इस सोसाइटी के बारे में ही बता दूँ, इसी सोसाइटी के करीब 90℅ औरत और मर्द का कहीं न कहीं टांका भिड़ा है. सेक्सी बीएफ अमेरिकनमैंने हताश होकर पर्ची को पलट कर देखा, शुक्र था कि उस गंदे लव लेटर के पीछे एक एस्से टाइप क्वेस्चन का आन्सर भी लिखा हुआ था.

मैं चुदाई के साथ साथ उसकी गांड में थूक टपकाता जा रहा था, जिससे चिकनाई बनती जा रही थी और लंड सटासट अन्दर बाहर होने लगा था. उंगली करने के वजह से चुत पहले ही गीली हो चुकी थी, जिसका स्वाद अब मेरी जीभ पर लग रहा था. कोई भी मर्द मुझे पाया तो शायद ही कुछ ही ऐसे मर्द मेरे जीवन में आए हैं, जिन्होंने मुझे अकेले पाकर भी मुझे सेक्स के लिए नहीं बोला.

मेरा लंड अब बर्दाश्त नहीं कर पा रहा था, मैंने भाभी को लंड मुँह में लेने को कहा, लेकिन भाभी ने मना किया. फिर मैंने फोन लगा के उससे डरते हुए कहा- एक बात पूछना चाहता हूँ प्रिया?प्रिया- बोलो न.

इधर सुनील जी ने भी मेरी पैंटी भी उतार दी और मेरी फुद्दी पर जुबान फेर दी.

बाथरूम से आते वक्त उसने बेडरूम में जाते जाते मुझसे कहा- चलो तुम भी शॉवर ले लेना … और आते वक्त बाहर की लाईट बंद करके कुंडी लगा के आना. कुछ देर बाद हम दोनों का सेक्स करते करते पानी निकल गया और उसके बाद होटल के बाथरूम की तौलिया से अपना पानी साफ़ किया. ”उसकी बात सुन मैं उसकी तरफ घुमा और उसके चेहरे को देखा तो वो अब शांत थी और शायद अपनी बात पर शर्मिंदा भी थी- इट्स ओके … पर हुआ क्या जो इतना गुस्सा आया है तुम्हें?ऐसा कुछ नहीं है … बस मेरा एक बॉयफ्रेंड है जो आज मेरे साथ मूवी देखने आने वाला था … पर देखो ना अब तक नहीं आया … जबकि उसने मुझे कहा था कि तुम थिएटर के अन्दर चलो, मैं दस मिनट तक आ जाऊँगा और अब उसका फ़ोन भी बंद आ रहा है.

हिंदी बीएफ व्हिडीओ दिखाइए मैंने आंटी के घर की बेल बजाई और आंटी ने दरवाज़ा खोला तो मैं हैरान रह गया. मैंने कहा- ओह अच्छा …दीदी ने हंसते हुए कहा- याद है, जब मैंने येलो कलर का ड्रेस पहना था, उस वक्त भी मेरा इशारा था कि आ जा कुछ तो कर … तुझे याद है और भी दो तीन बार ऐसा हुआ था.

उन्होंने पहले खींच कर मुझे थप्पड़ मारा और बोले- इतनी देर क्यों लगी दरवाजा खोलने में?मैंने कहा- वो … वो …पापा बोले- वो वो क्या? कपड़े पहन रही थी, कहां है वो मजदूर की औलाद?मैं बोली- पापा आप क्या कह रहे हैं, मैं समझ नहीं पा रही हूँ. उस टेस्ट में उन्होंने न केवल मुझे पास कर दिया था, बल्कि अपना फ़ेवरेट चोदू भी बना लिया था. मैंने कहा- आवाज़ पहचान ली है पर इतनी सुबह आपने कैसे याद किया?उसने कहा- इडियट आज शनिवार है, वीकेंड …मैंने कहा- तो क्या हुआ?संध्या बोली- मैंने क्या कहा था, याद है या भूल गए.

बूढ़ी औरत की चुदाई

फिर मैं नीचे का दरवाज़ा बंद किया और डोर-बेल का कनेक्शन बंद करके ऊपर आ गया. अब मैंने उसको सीधा लिटाया और उसके पैरों को किस करते करते और चाटते उसकी चूत तक आया. मैं मेरे मेल बॉक्स को देख रही थी कि तभी मेरी नज़र उस मेल पर गई, जिसके साथ एक अटेचमेंट था.

मैं बोली- क्या सच में? मैंने कुछ नहीं देखा … ना मुझे कुछ समझ आया, शायद इसलिए कि मैं अपने में ही मस्त हो गई थी. रमीज मुझसे बोला- वन्द्या, मैं लौड़ा घुसा दूं तेरी गांड में?मैं बोली- हां रमीज डाल दो.

जब मैं 22 साल का था तब मेरी भाभी ने मुझे मुट्ठ मारते हुए देख कर रंगे हाथ पकड़ लिया था.

उसके जाते ही वाणी की वाणी मचलने लगी- भैनचोद … इतना गरम कर दिया है कि अब रहा ही नहीं जा रहा है. उनके जाने का दिल बिल्कुल भी नहीं था, मगर मीटिंग ज़रूरी थी, तो उनको जाना ही पड़ा. एक दिन उन्होंने मुझे सुबह कॉल किया कि आज बच्चे अपने डॅडी के साथ दादी के घर जा रहे हैं और वे रात में लौटेंगे.

वहां जाकर मैं जल्दी-जल्दी आन्सर कॉपी करने लगी। उन्होंने भी अपना वादा निभाया और रोज मुझे आंसर देते रहे। मैं हर पेपर में उन्हीं के द्वारा बताए गए आन्सर को लिखने लगी. तभी जगत अंकल बोले- यार वहां बगल वाली कार में, जिसमें इसकी मम्मी है वह खड़ी है. मेरा लंड उसकी गांड से टच हो रहा था और वो पीछे से अपने पैर मोड़ कर मेरे चूतड़ों पर लात मार रही थी.

फ़िर हम भरे मन से एक दूसरे से गले मिले और दुबारा मिलने का वायदा करके मैं वापस अपने घर के लिए निकल पड़ा.

मां बेटे का सेक्सी वीडियो बीएफ: आह्ह् … आह्ह … बहुत दिनों के बाद किसी ने मेरे निप्पलों को इतने मजे से चूसा था. बच्चे के लिए तो तुम्हारी चूत से अंडा निकलना जरूरी होता है जो अपने टाइम पर आता है.

मेरे अन्दर की इच्छाएं जाग चुकी थीं, दिल से एक टीस आ रही थी कि बस इनका ये हाथ रुके न. मैंने इशारे से पूछा- कैसा लग रहा है?तो भाभी ने बदले में मेरे माथे पर किस कर दिया और मुझसे लिपट गयी. फिर सोचा कि मेट्रो लाइन के नीचे खड़ा हो जाता हूं कुछ तो राहत मिलेगी.

नमस्कार मैं सारिका, आप सभी पाठकों का मेल मिले और मैं आप सबका हृदय से धन्यवाद करना चाहती हूँ कि आप सभी ने मेरी कहानी को बहुत सराहा.

कुत्ते का लिंग, कुतिया की योनि में फंस गया था और जब तक वीर्यपात नहीं होता, वो बाहर नहीं निकल सकता था. ये काफी मजबूत किस्म का लंड भी है और इसकी ख़ास बात ये है कि ये दिखने में भी गोरा है. मैं भाभी के दूध दबाते हुए बोला- तुम तो ये बताओ मेरी जान कि मज़ा आ रहा है या नहीं?भाभी बोलीं- तूने तो आज मुझे पूरा मज़ा दे दिया.