सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ

छवि स्रोत,बंगला देसी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

फोटो ब्लू फोटो सेक्सी: सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ, तो देखा वही भाभी स्कूटी स्टार्ट कर रही हैं लेकिन उनसे स्कूटी स्टार्ट नहीं हो रही थी.

नंगा डांस वीडियो बीएफ

भाभी की चूत लगातार पानी छोड़ रही थी और मेरा लौड़ा बड़े आराम से अन्दर बाहर आ जा रहा था. भाई बहन का सेक्सी बीएफ देहातीमैंने उसकी बुर से गरम रस की धार को महसूस किया और समझ गया कि उसने अपना कामरस छोड़ दिया है.

आआआ स्स्स्स…”अच्छा लग रहा है?”आआह…”तुम बहुत टेस्टी हो जान आआह… स्स्स्स…”वो मेरी जांघों को जीभ से चूसने लगे. बीएफ मूवी कैसे देखें कैसेमैंने देसी भाभी की चूत में निशाना साध कर अपना लंड घुसाते हुए कहा- ले.

अब पारुल को नशा होने लगा और पारुल अगली सीट पर बैठ गयी और मैं गाड़ी ड्राइव करने लगा.सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ: मेरी स्टोरी आपको कैसी लगी? आप मुझे मेरी मेल आईडी पर मेल करके बता सकते हैं।[emailprotected].

लेकिन मैं आज उसे अपने घर ले कर आऊंगा और तुम नाइट में मिनी स्कर्ट और चैन वाली टी-शर्ट में रहना और अन्दर ब्रा पेंटी भी मत पहनना.भाभी टांग के ऊपर टांग चढ़ा कर ‘सी सीई…’ करने लगी, बोली- शिव, बहुत मजा आ रहा है.

बीएफ मूवी जानवर - सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ

रीमा- सिर्फ देखने या उनको चोदने?उसकी इस बात पर मनन और मैं एक दूसरे को देखने लगे.उस दिन के बाद जब भी मौका मिलता था, तब हम दोनों सेक्स कर लिया करते थे.

वो मेरे ऊपर बैठ कर मेरे साथ सेक्स कर रही थी, इससे उसकी चूत और टाइट हो गई और मेरे लंड में भी दर्द होने लगा. सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ जो तुमने मेरे लिए अपने शरीर की कुर्बानी की है, उसे मैं कभी भी भूल नहीं सकूँगा.

मैंने उससे कहा- तुझे जब भी देखता हूँ तो मेरा मन करता है, तुझे अभी पकड़ लूँ और जी भर के प्यार करूं, क्या तुम एक दिन के लिए मेरी बीवी बनोगी?वो बोली- आपको देखकर मेरा मन भी यही करता है.

सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ?

मैंने कूपे को भीतर से लॉक किया और बहू रानी की पीठ से चिपक के उसको अपने बाहुपाश में कैद कर लिया और उसके स्तन मुट्ठियों में दबोच के उसकी गर्दन के पिछले हिस्से को चूमने चाटने लगा. फिर मैंने बहूरानी की नाइटी उसके बदन से छीन के बर्थ पर फेंक दी; नाइटी के भीतर तो उसने कुछ पहना ही नहीं था तो उसका नग्न यौवन मेरे सामने दमक उठा. मेरे चाहने वाले तो मेरे बारे में जानते ही हैं कि मैं कितना मस्त हूँ.

तभी मेरे मन में शैतानी जागी और मैं उससे सेक्स की बात करने लगा; उसको सेक्स वीडियो दिखाया और उसको सहलाने लगा; उसके मस्त होंठों पर ज़ोर से किस भी किया. मेरी नज़र अब सिर्फ दरवाजे पर ही थी कि कब आंटी आएं और मैं उनकी जम कर चुदाई करूँ. बात ऐसी हुई कि एक जगह मैं इंटरव्यू के लिए गया था, वहाँ एक लड़की भी आई थी, सलवार कमीज़ में अपने पूरे बदन को ढके हुए डरी हुई सी बैठी थी, मैं उसे देख रहा था, पर उससे बात करने की हिम्मत नहीं हुई.

दिल कर रहा था यहीं पकड़ लूँ लेकिन उसके हज्बेंड की वजह से फट भी बहुत रही थी. मैंने धीरे धीरे उसे किस करना शुरू किया और उसके हाथ को सहलाना शुरू किया. जैसा कि मैंने बताया कि हम काफी समय से अच्छे दोस्त थे और सब तरह की बातें आपस में शेयर करते थे.

उसने पूछा- आप किसी का वेट कर रहे थे?तो मैंने मज़ाक में ही बोल दिया- नहीं, मैं कार निकाल ही रहा था कि आप दिख गईं. मैंने घड़ी में देखा तो ग्यारह बज चुके थे और लगभग सभी लोग थक कर सो गए थे.

फिर मैंने बिना उसकी पेंटी उतारे अपने होंठ उसकी चुत पर रख दिए और चुत को चुम्मा करने लगा.

मुझे नहीं पता कि वो अभी तक सील पैक थी या नहीं, उसके दर्द से लग रहा था कि जैसे पहली बार चुद रही हो लेकिन उसकी चूत से कोई खून नहीं निकला था और उसकी हरकतें भी चुदी चुदाई लड़कियों जैसी ही थी.

मैं अपने लिंग के चारों ओर प्रिया की योनि की हल्की-हल्की पकड़ और स्पंदन महसूस कर रहा था. मुझे अपने पति का ख्याल आया और फिर मैंने उन्हें कॉल करके बोला कि आज छोटे की तबियत खराब हुई थी तो मैं डॉक्टर के पास उसे ले गई थी. मैंने तुरंत उनकी साड़ी का पल्लू हटाया और उनके उभारों को ब्लाउज के ऊपर से ही चूसने लगा.

हमारे यहाँ बेटियों की शादी जल्दी ही कर दी जाती है तो हम अपनी बेटी के लिए रिश्ते की तलाश में थे। कुछ लोगों से बात बनी नहीं, कुछ की दहेज़ की मांग बहुत थी।मेरे पति किसान हैं, वो खेती करते हैं. मैंने लंड सलवार के ऊपर से ही अपनी बहन की उभरी हुई गांड के दरार के बीच दबा रखा था. जिसमें से ब्रा मैंने निकाल दी और उनके बोबों को किसी छोटे बच्चों की तरह चूसने और दबाने लगा.

फिर ऐसे ही कुछ महीने बीत गए, महीने क्या पूरी गर्मी का मौसम निकल गया और फिर सर्दियाँ शुरू हो गईं.

अगले कुछ मिनट हम वैसे ही पड़े रहे तब वो बोली- बहुत दिनों बाद चुदी हूँ आज मैं… मुझे मजा आया, तुम्हें मज़ा तो आया ना?मैं उसे एक प्यारा सा किस करते हुए बोला- बहुत मज़ा आया, अब तो यह मजा रोज मिलेगा, जब चाहें मिलेगा!उसने हाँ में सर हिला दिया और बोली- हाँ, बहुत अच्छा लगा. मेरी क्लास में 4 मैडम और 4 सर अपने अपने सब्जेक्ट पढ़ाने के लिए आते थे. प्रिया की आँखें समर्पण के आनन्द के अतिरेक से बंद थी और प्रिया का पूरा जिस्म रह रह कर हल्के-हल्के झटके खा रहा था.

मैं अन्तर्वासना का नियमित पाठक हूँ और मुझे भी गांड मारने और मरवाने का शौक है. हमने फिर से हाहाकारी चुदाई शुरू कर दी और अबकी बार बहुत देर तक चुदाई का मजा लिया. चूंकि उस वक्त घर में कोई नहीं था मुझे लगा कि मौका अच्छा है, मैं उसकी गांड मारने की सोचने लगा.

मेरे मेरी माँ के साथ सेक्स सम्बन्ध कैसे बन गए, यह मैं आपको बता रहा हूँ मां की चुदाई की इस कहानी में!मैं वरुण हूँ, यह मेरा रियल नाम है.

मेरी चोदन कहानी के पिछले भागविलेज के मुखिया का बेटा और शहरी छोरी-2में आपने पढ़ा कि मैं अपनी सहेली के साथ उसके गाँव गयी थी. खाना खाने के बाद आंटी बोलीं- मैंने तुम्हारे रुकने का इन्तजाम ऊपर के रूम में कर दिया है, तुम थक गए होगे, जाकर आराम कर लो.

सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ इतना कहकर उसने मेरी शर्ट के बटन को खोल दिया और मुझे बिना शर्ट के पलंग पर बिठा दिया. ”मैं बोला- यार तुम्हारी सास तुम्हारे गाँव में और रिलेशन में किस-किस को जानती हैं?तो मधु बोली- बस मेरे घर वालों और मामा को।तो फिर ठीक है।”क्या ठीक है?”तुम यश और अपनी सास से बोलो कि मेरे मामा का लड़का मुझसे मिलने आ रहा है.

सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ मैं एक हाथ से उसकी चुत मसल रहा था और दूसरे हाथ से उसकी शर्ट के बटन खोल दिए. उसका फिगर भी इतना कमाल का है कि इतनी उम्र की होने के बावजूद वो लगती 30 की ही थी.

ड्राईवर बोला- दरवाजा खोल कर मेमसाहब अन्दर चलिए, साहिब आप का इंतज़ार कर रहे हैं.

সানি লিওনের থ্রি এক্স ভিডিও

वो मुझे देखकर मुस्कुराने लगा तो मैंने भी उसे मुस्कुराते हुए उसके गाल पर एक हल्की सी चपत जड़ दी. मुझे पता तो लग गया था कि ये भी मुझे पसंद करती है, बस आई लव यू बोलना था. विनय ने जीभ से मेरी चूत को चोदना शुरू कर दिया, जिसे मैं ज्यादा देर तक नहीं झेल पाई और विनय के मुँह में ही झड़ गई.

अजीब बात थी… मैं और मेरी मुजस्सम मुमताज़ घर में अकेले थे लेकिन एक नहीं हो पा रहे थे. थोड़ी देर में उसकी मेल आ गई। जिसमें उसका पता और फोटो था। मैंने फोटो देखा तो देखता ही रह गया क्योंकि मधु मेरे साथ कॉलेज में पढ़ी थी। कक्षा की सबसे सुन्दर और शरीफ लड़की. नताशा के हलक से चीख निकल गई, लेकिन मैंने उसके मुंह को चोदना नहीं छोड़ा और हाथों से उसके कन्धों को उचका कर नीचे दबाना और तेज कर दिया.

कमरे में आते ही मैंने दरवाजे की कुंडी लगा दी और उस देसी लड़की कंचन के सारे कपड़े एक एक करके उतार दिए और वो पूरी नंगी हो गई.

आज मैंने मन बना लिया था कि चाहे निशा गुस्सा ही क्यों न हो लेकिन मैं उसकी ख़ुशी को लौटा कर ही रहूँगा. मैंने कहा- कोई बात नहीं भाभीजी, आपके छेद के दीदार तो हमने वैसे भी कर लिए. दीदी के चुचे काउंटर से टच होने लगे… और झुकने के कारण दीदी की गांड पीछे की ओर और भी ज्यादा बाहर निकल आई.

अर्जुन कुछ देर अपने खड़े लंड को सहलाता रहा और फिर जब उससे सहा नहीं गया तो वो बोला मेरा नाम लेकर- चूसेगा मेरा लंड?मैं बहुत ही खुश था कि वो खुद से बोल रहा है लेकिन उस समय मेरा डर मुझ पर हावी हो गया और अर्जुन मेरे जवाब का इंतज़ार करते करते थक गया! कुछ देर बाद वो उठा और बाथरूम में जाकर मुठ मारकर वापिस आया और मेरे साथ ही पहले की तरह सो गया. मेरे बच्चा सो चुका था। मेरा भतीजा अभी अपने कमरे में सोने ही जा रहा था. आंटी ने भी मदमस्त होते हुए कहा- ओह्ह्ह… वाव्व… कितना बड़ा लंड है यार ये!उसने मेरे लंड को अपने हाथों में पकड़ लिया और उस दिन मेरे लंड पर पहली बार किसी औरत का हाथ मैंने महसूस किया.

मैंने उसके होंठों को चूमते हुए एक और धक्का लगाया, जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में चला गया. मैं दरवाजा खुला छोड़ कर किचन में गई, तब तक वो अन्दर आ गया और उसने दरवाजा बंद कर दिया.

उनकी चुत में उंगली डाल कर मैं उनको फिंगर फक कर रहा था, तभी मुझे उनकी चुत में पानी का अहसास हुआ और मैं समझ गया कि अब ये भी गरम हो गई हैं. अगले दिन सुबह नाश्ता के वक़्त मैंने उसकी तरफ देख कर एक स्माइल दी, तो वो थोड़ा शरमा गई. मैंने उस की कोई बात नहीं सुनी और मैं उसकी स्कर्ट उतारने की कोशिश करने लगा.

एक झटके में पूरा लंड अन्दर जाते ही उसकी ज़ोर से चीख निकल गई, वो बोली- हाययई.

उसकी कामुक मुस्कान देख कर मुझे लगा जैसे उसक उसकी मनपसंद खिलौना मिल गया हो. मुझे ऐसा लग रहा था कि जैसे कोई जलती हुयी अंगीठी मेरे लिंग के पास पड़ी हो. दीदी ब्लू रंग की ब्रा और ब्लू रंग की जी स्ट्रिंग पहने हुए अपनी गांड मटकाते हुए किचन में दाखिल हुईं.

मेरी कमिशन 10% काट कर मतलब 5000/- और 40000 मेरा लोन इस तरह से 45,000 मेरे बनते हैं बाकी के ये रहे 5000 रूपए, जो तुम्हारे हैं, ले लो. अब मेरा सिर एरिक के पैरों के ऊपर रखा हुआ था, और ठीक मेरी आँखों के सामने स्थित नताशा की गांड के पीछे दोनों लड़कों के सामानांतर रूप से जुड़े हुए लंड मेरी भार्या की चूत में घुसे हुए थे.

जब मेरा हाथ बहन की बुर पर पड़ा तो वो बेड से आधा फीट ऊपर उछल पड़ी और कराहने लगी. कामिनी उस को देख कर इतनी खुश हुई कि बस पूछो मत!उसने जेब से एक गिफ्ट निकाला और मेरी बीवी कामिनी से बोला- उंगली कहाँ है मैडम आपकी?और एक रिंग पहना दी. फिर बोला- ओके अब तुम जल्दी से नहा लो, मैं तुम्हारे कपड़े और 30000 वहीं छोड़ कर कहीं जा रहा हूँ.

सेक्सी वीडियो छोडा छोड़ि वाला

मैं बारी बारी से उसके चुच्चे चूसने लगा, उसके दोनों मम्मों को किसी भूखे कुत्ते की तरह चूसता रहा.

आशीष बोला- यार अभी तक ध्यान ही नहीं दिया कि इसकी गांड कितनी मस्त है। वन्द्या बोल तेरी गांड में डालूं अपना लन्ड?फिर बोला- कुतिया तू ऐसा कर कि अपने होने वाले पति बालू से गांड की सील तुड़वा ले!मुझे बात बिल्कुल सही लगी कि कुछ तो होने वाले पति से अब करवा लूं। नहीं तो पता चला कि उसमें भी पहली बार आशीष ने अपना लन्ड डाल दिया. लेकिन यह भी सच है कित्रिया चरित्रम् पुरुषस्य भाग्यम्, देवो न जानति कुतो मनुष्यम्”देखते हैं कि जिंदगी आगे क्या-क्या रंग दिखाती है?अगर आगे ऐसा कुछ हुआ तो आप सब से अपने अनुभव जरूर बाँटूगा. मैं उसके पैरों के बीच जा कर पैंटी के ऊपर से उसकी चुत में उंगली करने लगा.

फिर मैंने फिर से चाय पी और उससे कहा- हाँ, अब ज़्यादा मीठी हो गयी है. उसकी मादक आवाजें सुनकर मैं अपनी स्पीड बढ़ाने लगा और ज़ोर ज़ोर से चोदने लगा. जंगल बीएफ मूवीइंसान तो क्या कोई जानवर भी वहां होता तो न चाह कर भी उसका लंड खड़ा हो जाता और पीछे से दीदी की गांड पर चढ़ाई करके लंड गांड में घुसा देता.

फिर मैंने उनके पैर छोड़े और उनके मस्त रसीले मम्मों को दबाना शुरू कर दिया. ”उसकी तड़प देख कर लग रहा था कि उसकी आग बहुत दिनों से शांत नहीं हुई है.

शायद हमें एक दूसरे से उस समय आँखों ही आँखों में प्यार हो गया, पर हम कुछ नहीं बोले. कामिनी कहाँ पीछे रहने वाली थी, उसने विवेक की पैंट का हुक खोल दिया, फिर उसने बटन खोल दिए, उसकी पैन्ट नीचे गिर पड़ी. इस बीच वो अपना लंड मेरी साली को हाथ में थमाना चाहता था, पर मेरी साली उसे पकड़ने को तैयार नहीं हुई तो उस लड़के ने उसकी पेंटी को घुटनों तक उतारने की कोशिश की.

अब उस लड़के ने अपनी पेंट की ज़िप खोल कर पेंट को घुटनों तक उतार दिया, तो उसका 4-5 इंच लम्बा और 1. मैंने झट्ट से आँखें खोली तो पाया कि बैडरूम का दरवाज़ा भी बंद था और बैडरूम की ट्यूब-लाइट तो बंद थी ही अपितु फुट-लाइट भी बंद थी. मैं- आप मरवा दोगी… अगर माँ ने डैड को बता दिया तो वे मेरी फाड़ देंगे.

जहाँ उसकी सास थीं।मैंने उनके पैर छुए और हाल-चाल पूछा।उन्होंने बताया- आज सुबह मैं बाथरूम में फिसल गई.

पारुल बोली- अब मुझे लन्ड अपनी चूत में चाहिए; तुम कुछ भी करो!मैंने पारुल को बोला- दो घंटे के लिए किसी होटल में रूम ले लिया जाए तो कैसा रहेगा?पारुल ने कहा- बिल्कुल ठीक है!आगे कुछ दूर चल कर रास्ते मे एक होटल पर मैंने गाड़ी रोकी और कमरे का पता किया. मैं अगले ही रविवार को चर्च के पास चली गई और वहाँ सामने बने एक होटल में बैठ कर उसका इंतज़ार करने लगी.

मैं ये भी बोली थी कि ‘अंदर से भी बंद कर लो’ भले ही मम्मी बाहर से कुंडी लगा दी है।पर बालू ने कोई एक बात नहीं मानी मेरी, उसी का परिणाम कि शादी बालू गधे से होने वाली है और मेरी चूत उसके मौजूदगी में कोई और चोदे जा रहा है।कहानी जारी रहेगी. तभी मैंने मौका देखकर अपने लंड को मिंकी की चूत से बिना निकले पूरा बाहर खींच लिया और दूसरा जोरदार पूरी ताकत से धक्का लगा दिया जिससे मेरा लंड मिंकी की चूत में 7 इंच तक घुस गया तो मिंकी की दर्द के मारे जोरदार चीख निकल गई, उसकी आँखें बाहर को आ गई लेकिन मैंने मिंकी पर कोई रहम नहीं किया और ताबड़तोड़ 2-3 जोरदार धक्के पूरी ताकत के साथ लगा दिये जिससे मेरा लंड मिंकी की चूत में जड़ तक घुस गया. तो मैंने सोचा कि अभी देखने का ही मजा लेते हैं, कम से काम आज साली की चूत तो देखने को मिलेगी.

उसने पूछा- वो कैसे?मैंने कहा- घर पर कोई नहीं है, पंकज जरूर रेखा को चोदने जाएगा. गोरा रंग, उसका 32-26-33 का माप, 5’3″ का कद और डिज़ायन में कटे हुए कंधों से थोड़ा नीचे तक के बाल. तू अब तक क्यों नहीं झड़ा?मैंने उनको अपनी तरफ खींचते हुए उनके मम्मों को अपने हाथों में लेकर मसलना शुरू किया और कहा- मुझे नहीं पता किस वजह से लंड नहीं झड़ रहा है लेकिन आप मुझे अधूरा मत छोड़ो, प्लीज़ मेरे लंड को शांत करो.

सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ मैंने सोचा अब तो मेरी बैंड बज गई, घबरा गया मैं… मुझे लगा कि ये भाई और भाभी को सब बता देगी. अजय ने पूछा- कौन कौन इसकी गांड मारेगा?साले सबके सब तैयार हो गए, सबने तीन तीन के झुण्ड बना लिए.

দেহাতি সেক্স

मेरी चूत भी तुम्हारे लंड की प्यासी हो रही है, प्लीज इसकी आप भी प्यास बुझा दो न. ऐसा करते ही दीदी की आँखें, जो अब तक बंद थी, खुल गयी और उन्होंने पहले मुझे हटाना चाहा पर जैसे ही मैंने जम कर किस किया, उन्होंने फिर आँखें बंद की और मम्मम्म ह्म्म्म की आवाज़ करने लगी।मैंने थोड़ी देर दीदी को किस किया फिर उनकी गर्दन कान माथे को किस किया। जब मुझे लगा कि वो अब तैयार हैं और बार बार गांड उठा रही हैं तो मैंने एक हाथ से लण्ड को चूत के छेद पर सेट किया और धक्का दिया. लेकिन मेरी मां कोई कुंवारी लौंडिया तो थी नहीं, जल्दी ही उनकी चूत ने लंड से सैटिंग कर ली और मां को चुदाई में मजा आने लगा.

मैंने पिंकी की कमर के नीचे तकिया रखा और उसकी टांगों और गांड को ऊपर उठा कर नीचे न्यूज़ पेपर लगा दिया. बीच में मम्मी एक बार वॉशरूम गईं तो मैं मौका देख कर किचन में घुस गया और पीछे से उसे ज़ोर से हग कर लिया, वो डर गई और मुझसे छुड़ा कर दूर हो गई. गंदे गंदे बीएफभाभी को पहली बार इस कंडीशन में देख कर मेरा लंड एकदम से तन गया, मैंने सीधा बाथरूम में जाकरमुठ्ठी मार कर अपने लंड को तस्सली कराई।उस दिन के बाद भाभी जब भी मुझे देखती तो वो हल्का सा मुस्करा देती और चली जाती। यह देख कर मेरे मन को हौंसला मिलता रहता था।एक दिन भाभी मेरे घर पर आयी और मेरी मम्मी से कुछ बात करने लगी.

वो दोनों एक दूसरे का हाथ पकड़े मॉल में घुस गए, पहले वो एक जहाँ औरतों की ब्रा पेंटी और नाइटी की शॉप में घुस गए और उस बंड़े ने शायद शॉप की सेल्स गर्ल से कुछ कहा और वो बहुत सुन्दर ब्रा पेंटी के सेट दिखाने लगी.

मैंने चुत पर हाथ फेर कर कहा- अब मैं आ गया हूँ ना प्यार करने के लिए. बहूरानी जी बार बार अपना चेहरा अपनी हथेलियों से छुपाने का जतन करती लेकिन मैंने उसकी एक न चलने दी और अब उसके दोनों स्तन अपने अधिकार में करके अपनी मनमानी करने लगा.

मुझे उसकी बात सुनकर गुस्सा तो बहुत आया था क्योंकि उससे 70000 उससे लिए थे, जो कि उसने मुझे बता दिया था कि 20000 अड्वान्स में ले गई थी. आज मैं आप लोगों को जो कहानी बताने जा रहा हूँ वो मेरे को एक मेरे चैट फ्रेंड ने लिखने का आग्रह किया है, यह उनकी जिंदगी की ट्रू सेक्स कहानी है. और मेरी तरफ देख कर बोला- क्यों सही कहा ना?मैंने कहा- जी!बोले- अरे मैडम की बर्थडे है, शैम्पेन वगैरा नहीं खोलोगे?मैंने- नहीं… है नहीं!वो बोला- मैं लाया हूँ!और मुझसे बोले- नीचे मेरी कार खड़ी है, ड्राइवर है, उससे ले लीजिए!मैंने कामिनी की तरफ देखा तो वो बोली- अरे सर कह रहे हैं जाओ ना!और मैं मजबूरी में कार से बोतल लाने चला गया.

मैं अपने घुटने के बल फर्श पर बैठ गया था और मेरे सामने वह चुपचाप खड़ी थी.

फिर मैंने उंगली से थोड़ी देर तक उसकी चूत को चोदा, पहले ही उसकी चूत बहुत पानी छोड़ चुकी थी, जिससे उसकी पैंटी काफी गीली हो गई थी. मैंने उसकी गांड मारने की स्पीड को बढ़ा दिया, पर देखा कि मैं झड़ ही नहीं रहा हूँ तो मैंने अपना लंड उसकी गांड से निकाल कर बाथरूम में जाकर धो लिया और वापस आकर उसके मुँह में लंड पेल दिया. विनय अभी नहीं झड़ा था, इसलिए दो पल बाद उसने मुझे घोड़ी बना दिया और पीछे से लंड मेरी चूत में पेल दिया.

भारतीय चुदाई बीएफतुम करो तो!उसने मेरा लंड पकड़ कर हिलाया, लेकिन वो मुठ मारने की तरह से नहीं हिला रही थी तो मैंने उसे मुठ मारने का तरीका कर के दिखाया और इस तरह से हिलाने को कहा. मैंने एक दिन उसको मिलने बुलाया तो वो बोली- कहां मिलेंगे?मैंने कहा- डिस्को में मिलते हैं.

भाई बहन के सेक्सी

तुम्हें पापा से पूरी सैलरी भी मिलेगी और अगर हम लोगों का कहा माना तो कुछ अलग से भी मिलेगा. हम दोनों सुन कर खुश हुए और रीमा अपनी स्कूटी पर मुझे बैठा कर अपने घर ले गई. ”अगर मेरी प्रियतमा को ये सब छुप छुप कर करना पसंद था तो ठीक है… मैं जो उस को पसंद है वैसे ही करूंगा.

मैं तो घबरा ही गई- ना बाबा ना… मेरे को नहीं चुदाना इतने मोटे लंड से. मैं तो बस उन तीन जवान मर्दों की लगायी लंड की प्यास को बुझाने के लिये किसी जवान चोदू लंड को खोज रहा था और अब मेरे पास इतना समय नहीं था कि एक नये मर्द की तलाश करूँ…मैं बिना कुछ बोले वहाँ से खड़ा हुआ और थोड़ी दूर पर लगी कुर्सी पर जाकर आराम की मुद्रा में बैठ गया, अब मेरा ध्यान उस पर नहीं था. भाभी की आँखों से आँसू बहाने लगे पर मैंने भाभी की एक ना सुनी और मैं थोड़ी देर रुका रहा और भाभी को किस करते रहा.

तभी मुझे भी लगा कि मैं भी झड़ने वाला हूँ तो मैंने भाभी की गांड को ज़ोर से भींच लिया और चाटने लगा और भाभी के मुख में ही झड़ गया और भाभी ने सब गटक लिया।अब हम शांत हो गए और फिर से बिस्तर पर आकर लेट गए।भाभी का सिर मेरे सीने पर था और मैं उनके सिर को सहला रहा था और वो मेरे लंड को हाथ में लेकर ऊपर नीचे कर रही थी. फिर मैंने और एक बार थूक लगाया और लंड को सैट करके जोर से धक्का दिया. इतना कह कर उसने बिना मेरे उत्तर की प्रतीक्षा किए बिना ही धक्का दे दिया.

लेकिन भैन की लौड़ी नाटक तो ऐसे कर रही थी, जैसे पहली बार लंड लिया हो. मैं काफी देर तक उसकी चूत पैंटी के ऊपर से सहला रहा था, इतने में उसने मेरा हाथ पकड़ के सीधा अपनी पैंटी में डाल दिया.

लेकिन जान पहचान वाले लड़के मेरे जिस्म से खेल कर मुझे बदनाम भी करेंगे.

दूसरी तरफ बीवी के साथ तो जैसा अपना नसीब समझ के मैं काम चला लिया करता हूँ. बीएफ एक घंटा कामैं बोला- सच बताओ, कौन है?मेरी बीवी फिर बोली- कोई नहीं है, मैं सच बोल रही हूँ. सन 2021 के बीएफ वीडियोसाली खिचड़ी बना कर जैसे ही बाहर आई तो बोली- जीजा, मैं सही से नहीं चल पा रही हूँ. इसके बाद हम पीवीआर में गए, वहां हमने मूवी देखी, इसके बाद हमने एक होटल में रूम बुक किया और हम दोनों कमरे में पहुँच गए.

उसे मेरी टीशर्ट के कारण मेरे मम्मों को दबाने में दिक्कत सी हो रही थी तो मैंने अपनी टीशर्ट निकाल दी और वो मेरे मम्मों को आराम से दबाने लगा.

मैंने उनका लंड मुँह में लेकर चूसा और लंड के नीचे के बॉल्स भी बड़े मजे से चूसे. मैंने लैपटॉप वगैरह बंद किया और अब मॉम और दीदी को कैसे चोदूँ, बस यही सब सोचने लगा. हां तुम अपने वकील से मिल कर अपना डाइवोर्स का केस शुरू करो और अगर किसी अच्छे वकील की ज़रूरत हो तो मुझे बताना में पूरी हेल्प करूँगा.

कुछ देर बाद जब उसने अपनी गांड हिलानी शुरू की, तो मैंने भी धक्के लगाने स्टार्ट कर दिए. मैं तो बाहर जाने को तैयार था, जब हम रास्ते में थे तो मेडिकल से वियाग्रा टेबलेट ले ली. कमरे में आते ही मैंने दरवाजे की कुंडी लगा दी और उस देसी लड़की कंचन के सारे कपड़े एक एक करके उतार दिए और वो पूरी नंगी हो गई.

ফুল সেক্স ফুল সেক্স

वो तो अब अपनी गांड उछाल रही थी और कहे जा रही थी- अहहहा ओह… ओह्ह्ह्ह… ओह्ह्ह्ह… ओह्ह्ह… ह्म्म्मम्म… उम्म्म करो… और करो… मैं और सहलवाना चाहती हूँ… ह्म्म्म… उम्म्म… येह्ह्ह्ह…वो पूरे जोर से अकड़कर… पर धीमी आवाज में सीत्कार रही थी. एक दिन जब मैं ऑफिस जा रहा था तो सोचा कि निशा से पूछ लूँ कि शाम के लिए बाजार से कुछ चाहिए, तो मैं उसके घर गया. इस सेक्स स्टोरी हिंदी का पिछला भाग :मुझे किस किस ने चोदा-1अभी तक आपने पढ़ा कि भाभी के पापा के दोस्त ने मुझे कार में नंगी कर लिया था और मेरी चूत की चुदाई शुरू करने ही वाले थे.

क्योंकि उसे पता था कि मैं उसके बिछाए जाल में फंसती जा रही हूँ और इसमें से निकलने का कोई रास्ता नहीं बचेगा, सिवाय चुत को चुदवाने के.

तभी सुरेंद्र जीजा बोले- अंकल, आप वन्द्या की चूत में लन्ड अंदर बाहर करना शुरू कर दो और मैं इसकी गांड में करता हूं.

मैं जब उसके पास गई तो वो शराब पी रहा था और सिर्फ चड्डी पहन कर बैठा हुआ था. नीति मैडम का शादी के बाद एक दिन फोन आया, वो बोली- सर, मैं आपके लंड को बहुत ही याद करती हूँ. ब्लू बीएफ सेक्सी वीडियो पिक्चरजब मैं भाभी के ऊपर से हटा तो मैंने देखा कि भाभी के नीचे खून था, मैं बोला- भाभी, क्या आपकी ये पहली चुदाई हुई है?तो वो बोलीं- किसी मर्द का लंड तो पहली बार ही मेरी चुत में गया है.

शायद रात में दो लोग और कोई आने वाले हैं लेकिन अभी उनका कुछ कन्फर्म नहीं है. आपको मेरे जीवन की पहली पूर्ण सत्य घटना, जो मेरे साथ हुआ, वह कैसी लगी? मेरी मेल आईडी में अपना अनुभव बता सकते हैं।यह बिल्कुल सच है और मेरा दावा है कि मुझे देखने के बाद आप अपने ऊपर कंट्रोल नहीं कर पाएंगे, और मुझसे मिले बिना आपको चैन नहीं मिलेगा।पाठको, हर वक्त आप मुझे अपने ख्वाबों ख्यालों में सिर्फ मुझे पाओगे और मुझसे मिलने का अरमान लिए अपनी रातों को गुजारेंगे।[emailprotected]. फिर मैं खड़ा हो गया और अंजलि से पूछा- बोल चोरनी, आराम से सच सच बता दे कि चोरी का माल कहाँ छुपाया है तूने? देख ले, मैं बहुत गुस्से वाला हूँ.

सुहानी से मैंने पूछा- मम्मी कान में क्या बोल गईं?कुछ बातें बताने की नहीं होती छोटे जीजू!”मैं बोला- क्यों जी हमारी बातें तो सब जान लीं… अपनी नहीं बताओगी?पूजा बोली- यार बता दे ना मेरे आशिक को… क्यों नखरे कर रही है?सुहानी बोली- कोई बात नहीं थी बस मम्मी बोलीं कि अच्छे से नहाना और जरूरत हो तो पूजा से मदद ले ले, इसकी शादी हो चुकी है तो ये सब बता देगी. एक दिन मैंने डॉक्टर से बात की कि क्या इसका कोई इलाज़ है?उसने कहा- हां है.

शाम को ऑफिस से लौटते समय एक बढ़िया सा केक, एक गुलाब का गुलदस्ता, एक गजरा, कैंडल और कुछ फूल ले लिए.

हम दोनों को एक ही फील्ड के होने के कारण एक दूसरे से बात करने का मौका मिल जाता था. मां के इस ब्लाउज का गला बहुत गहरा था, जिससे उनकी चूचियां आधी से ज्यादा दिखाई डी रही थीं. मैं ऐसी नहीं हूँ उसे समस्या थी तो गई थी और मैं गोवा में थी, इसलिए ना आ पाई, ना कॉल कर पाई.

बीएफ चोदी चोदा नगरी नगरा चाची ने पूछा- आकाश बेटा, तुम मुझे ऐसे क्यों देख रहे हो?मैं- कुछ नहीं चाची, आज पहली बार मुझे पता चला है कि परियां स्वर्ग में ही नहीं, यहाँ धरती पर भी रहती हैं, जिनमें से एक आप हैं… आज आप बहुत सुन्दर लग रही हैं. जैसे ही वो बोर्ड पर लिखती तो उसकी चूतड़ों की वो लाइन सबको पागल कर रही थी.

प्रिया के दोनों हाथ मेरी पीठ पर कस कर जमे थे; प्रिया की योनि के अंदर का उत्ताप मेरे लिंग को जलाने पर उतारू था जैसे. मैंने उससे पूछा तो क्या तुम तैयार हो, मुझमें पूरी हिम्मत है?उसने इस पर कुछ नहीं कहा और हँसने लगी… मैं समझ गया. मैंने कौतूहल वश उसके नजदीक जाकर उसके काले धब्बों को अपने हाथ से सहलाते हुए सवाल किया कि ये काले काले क्या हैं?उसने गरम होकर मेरे हाथों को मजबूती से अपने उन काले धब्बों को दबवाते हुए जवाब दिया- इनको चूची कहते हैं.

इंडियन हिंदी पोर्न

थोड़ी देर तक ऐसे ही चुचे चूसने के बाद उस लड़के ने नीचे का रुख किया और मेरी साली की सलवार, जो कि उसकी नाभि तक बंधी हुई थी, उसे थोड़ा नीचे खिसका कर उसकी नाभि में जीभ घुसा कर चाटने लगा. खिड़की खुली थी और बाहर ठंडी हवा चल रही थी, जिससे पत्तियों के सरसराने की आवाज के बीच एक चुप्पी सी छाई थी. मॉम भी झटके से लंड घुसने पर करीब एक मिनट तक शांत आँख बंद करके लेट गई थीं.

मैंने उससे हैलो कहा, उसने भी हैलो का जबाव देते हुए कहा- कैसे हो?मैंने कहा- अभी तक तो ठीक था लेकिन अब नहीं हूँ. अगली कहानी में बताऊंगा कि कैसे कैसे दीदी को चोदा और हमने सेक्स किया.

अब तो मेरे पति बहुत कम ही मुझे चोदते हैं। मेरी बहन की बेटी बचपन से हमारे यहाँ ही रहती थी।काफी साल पहले एक दिन अचानक मेरी बहन की एक्सीडेंट में मौत हो गयी थी लेकिन मेरे बहनोई जी ने मेरी बहन की औत के कुछ महीने बाद नई बीवी ले आये थे.

हर लंड वाला चूत में लंड फँसा कर मज़े लेना चाहता था और यहाँ तो एक ही झटके में पूरा लंड अन्दर चला जाता था और जब वो आधा निकाल कर धक्का मारना चाहता था, तो मेरी ढीली चूत के कारण उसका लंड पूरा ही बाहर आ जाता था. फिर भी भाभी ने मुझे छोड़ा नहीं और मैं भी भाभी के मम्मों से खेलने लगा और भाभी मेरे बालों को सहलाने लगी. वो हमेशा की तरह मेरे मम्मों को टच कर रहा था, पर लाइट्स ऑफ होने की वजह से किसी और को ये दिख नहीं रहा था.

जैसे ही बनता है, मैं बता दूँगी।ऐसे ही हमारी रोज बात होती रही और मधु भी अब बिना शर्म के खुलकर बात करती और हम सेक्स चैट करते। परन्तु मिलने का कोई प्लान नहीं बन पाया। ऐसे ही एक दिन मधु का फोन आया वो बोली- यार सुनो. पहले मैंने उससे बोला- अपने हज़्बेंड की ड्रिंक की बोतल दे, आज भेजा घूमा हुआ है. मैंने उसके स्तनों को काफी देर तक चूसा और दबाया और अर्पिता भी इसमें मेरा साथ दे रही थी, वो अपनी पूरी ताकत से मेरा मुँह अपने सीने में दबा रही थी। पर अन्तर्वासना की कृपा से मैं कच्चा खिलाड़ी नहीं रहा, मैं धीरे धीरे स्तनों से नीचे आना लगा, थोड़ा सा उसका टॉप ऊपर किया, इतना कि मम्मे न दिखें! और उसके पेट, नाभि पर चूमने लगा, काटने लगा.

मैंने धीरे धीरे उसकी चुत को स्ट्रोक देते हुए अपने लंड को पूरा का पूरा चुत में धकेल दिया.

सेक्सी वीडियो एक्स बीएफ: शायद उनका इस तरह से पहली बार था पर साला मेरे मुँह से भी आवाज़ निकल गई, दर्द मुझे भी हुआ. मेरा लंड अपनी बहन की चूत के बारे में सोच सोच कर पूरा खड़ा हो गया था तो मैंने सोचा कि बाथरूम में जाकर एक बार मुट्ठ ही मार लेता हूँ!और मैंने बाथरूम में जाकर अपनी सेक्सी बहन को ख्यालों में नंगी करके उसके नाम की मुट्ठ मारी.

जब हम उसके रूम में पहुँचे तो मैंने उससे नेहा की मुलाकात करवाई और यह कहा कि यह मेरी सबसे अच्छी फ्रेंड है और इससे मैं कुछ भी नहीं छुपाती, यहाँ तक कि मैंने आपके साथ कल रात में क्या क्या किया, वो भी इसे बता दिया है. शायद आपने भी यह बात नोट की होगी।अब मैंने अंजलि की शर्ट वहीं निकाल दी और उसकी ब्लैक ब्रा भी निकाल कर बाथरुम में ही में उसके चुचे चूसने लगा; अंजलि मेरे लन्ड को हाथ में लेकर आगे पीछे करने लगी. ’ निकला। मैंने सोचा इसे भी मज़ा आने लगा है। उसकी हाइट कम होने के कारण उसने अपने पैर मेरी टांगों पर रख लिए। वो मेरे ऊपर ही चढ़ गया। फिर उसने और ज़ोर लगाया और उसका आधा लंड गांड को चीरता हुआ अन्दर चला गया।मेरी आँखों में आंसू आ गए, मैंने अपना मुँह तकिए से दबा लिया। मुझे यह सब एक मजबूरी के लिए करना पड़ रहा था। उसने एक और धक्का लगाया और पूरा लंड मेरी गांड में गाड़ दिया।मेरी टांगें एकदम कांप गईं.

हमने शाम को चाइनीज खाया फिर गार्डन में घूमे और रात को 8 बजे घर पर आ गए.

अब देखो कब ऐसा मौका मिलता है कि मैं किराएदारन आंटी अपनी मॉम और बहन तीनों को एक साथ एक ही बिस्तर पर कब चोद पाता हूँ. बहुर साल पहले से ही मैंने अन्तर्वासना की गर्म कहानियाँ पढ़ना शुरू कर दिया था और आज तक पढ़ रहा हूँ. लाइट बंद होने की वजह से मैं उसका लंड देख नहीं पाया था इसीलिए मैंने अपना मोबाइल लिया और रज़ाई के अंदर से ही नीचे जा कर उसके लंड की तरफ अपना मुँह कर लिया.