बीएफ हिंदी देसी पिक्चर

छवि स्रोत,एक्स एक्स एक्स सेक्सी वीडियो देसी बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

जीप का गेम डाउनलोड: बीएफ हिंदी देसी पिक्चर, मुझे भी कोई दिक्कत नहीं थी … मगर ये सब एकदम से हुआ तो कुछ समझ नहीं आया कि मामला क्या है.

घरेलू बीएफ हिंदी में

मुझे लगने लगा था कि अब किसी भी वक्त मेरा गर्म वीर्य लंड से बाहर फूट सकता है. बिहारी सेक्सी सेक्सी बीएफललित ने बताया था कि धारा अक्सर दोपहर में चैट रूम में बातें करने आ जाती है.

दोस्तो, किंजल की चुत चुदाई की कहानी में मजा आया हो तो प्लीज़ मुझे मेल करना न भूलें. नई बीएफ बीएफमुझे अपनी गांड खुली खुली महसूस हो रही थी।इसके बाद में कई बार राहुल के पास गया और अपनी गांड मरवाई.

भाभी बोली- क्या बात है पायल, बहुत हंसी आ रही है?पायल- भाभी, राज … के हाल तो बेहाल हो रहे हैं.बीएफ हिंदी देसी पिक्चर: पापा की ज्यादा तनख्वाह नहीं है, इसलिए भाई ने पढ़ाई छोड़ दी और मुझे भी पापा जैसे तैसे पढ़ा पा रहे हैं.

मैंने अपनी चुदाई की रफ्तार जारी रखी और यामिना को जगह जगह से नोचता काटता रहा.मेरे सामने मेरी चाँद सी सुंदर बीवी नंगी खड़ी है और उसकी चूत में घुसा हुआ मेरा लंड। हमें देख कर चाँद भी शर्मा जाता है और बार बार खुद को बादलों में छुपा लेता है।रूपाली ने भी एक सरसरी नज़र आसमान में घुमाई और बोली- जितना आप चुदाई करने में उस्ताद हो … उतना ही बातें बनाने में! बातें बनाना तो कोई आपसे सीखे!फिर मौसी बोली- नीचे दीदी अकेली हैं.

बीएफ बिदेओ - बीएफ हिंदी देसी पिक्चर

एक बार मैं उसके घर गया तो मैंने क्या देखा?हैलो फ्रेंड्स, मैं संजीव कुमार आपको लॉकडाउन में अपनी फ्रेंड और कॉलेज फ्रेंड सेक्स कहानी सुना रहा हूँ.आंटी खलास हो गई थी उन्होंने मुझे कुछ देर जकड़े रखने के बाद एक लंबी सांस लेते हुए अपनी टांगें मेरी कमर से खोल दी और बोली- राज! बहुत दिनों बाद, मुझे बहुत मज़ा आया और मैं जल्दी ही खल्लास हो गई.

वो मान गईं और कहने लगीं- इस ठंड से बचने के लिए वो कुछ भी कर सकती हैं. बीएफ हिंदी देसी पिक्चर लेकिन इस जबरदस्त कजिन सेक्स कहानी के अगले भाग में और भी मजा आने वाला है.

इधर रमण का लंड खाली नहीं हो रहा था।अनीता ने नीचे बैठ कर उसका लंड ज़ोर ज़ोर से चूस कर निचोड़ दिया।रमण ने उससे ये वादा लिया कि अब जब भी प्रकाश की दारूपार्टी होगी वो ऐसे ही सेक्स का मजा लेंगे।तो दोस्तो, इस तरह से अनीता ने अपने ही घर में एक गैर मर्द से चुदाई करवाई और अपने पति की शराब की लत का फायदा उठाकर पराया लंड लेती रही.

बीएफ हिंदी देसी पिक्चर?

अब मैं उसकी गांड में पिस्टन की तरह लंड हिला रहा था, वो भी प्यार से लंड सह रही थी. इसलिए मैंने बाल पकड़ कर लंड मुँह में घुसा दिया और आगे पीछे करने लगा. यामिना के मुँह से एकदम आह … की आवाज निकली और उसने अपनी चूत को नीचे से ऊपर उठाकर मेरे लण्ड को जकड़ लिया.

फिर भी उसने अपनी आंखें तो नहीं खोलीं, मगर जब मैं उसके चेहरे पर जगह जगह किस करने लगा, तो उसके होंठ कंपकंपाने से लगे. वो बेचारा अपने हॉल में बैठा किचन की तरफ़ उसे ललचायी नज़रों से देखता रहता और अपने पैंट के उभार को अपने हाथों से छिपाता रहता. धीरे धीरे करके मेरी शर्ट पसीने से गीली हो गई थी और ब्रा की स्ट्रैप भी दिखने लगी थी.

उसमें लिखा था- हैल्लो यश … क्या बात है तुम आजकल मुझसे ठीक से बातें नहीं कर रहे हो!मैंने उनको मैसेज किया- नहीं भाभी, ऐसी कोई बात नहीं है. उसके नंगे जिस्म के साथ खेलते हुए मैंने इतना तड़पाया कि वो खुद मेरा लंड मांगने लगी. भाभी ने भी सन्नी के पास जाकर उसकी पैंट से सिगरेट की डिब्बी निकाली, तो सन्नी ने भाभी की मैक्सी को उतार दिया.

मैंने कहा- अच्छा जी, इतना गुस्सा?अब मैंने अपने हाथों में गुलाल लिया और उनके दोनों गालों को कसके रगड़ना चालू कर दिया. सोनम उस वाशबेसिन पर झुक कर आंखें बंद करके उस गांड चटाई का आनन्द ले रही थी.

फिर लगभग 10 मिनट बाद उस लड़के ने, जो सबसे पहले मेरे पास आया था, मेरी कमर में उंगली चलाना शुरु कर दिया.

भाभी ने नंगी होकर सन्नी को देखा, तो उसने भाभी को अपनी गोद में खींच लिया और भाभी अपनी चूचियां मिंजवाती हुई सिगरेट जलाने लगीं.

मुझे जावेद भाई का मस्त लंड याद आ गया, जो मेरी गांड में खलबली मचा देता था … पर मैं चुप रहा. अब पापा ने मम्मी की चड्डी उतार दी और मम्मी की चूत में उंगली करना शुरू कर दिया. वो आह्ह आह्ह करते हुए लंड पर उछलने लगी और साथ में उसकी चूचियां भी उछलने लगीं.

वे बोले- प्रभात झांसी में पोस्टेड है उसकी शादी झांसी में ही हो रही है. पहली बार में लगभग आधे दिख सके थे, मगर आज तो मानो लंका में आग लग गई थी. अब मेरा लंड उसकी बच्चेदानी में आराम से पूरा सात इंच अन्दर समाहित होकर ठोकर दे रहा था.

दोस्तो, यहां मैं आपको बता दूँ कि इनके बीच इस तरह की चुहलबाजी चलती रहती थी.

मैंने रोशना को बांहों में उठाकर पंलग पर लेटा दिया व उसकी पैंटी के ऊपर से ही चूत को चूमने लगा था. करके झर गई और उसने मेरी गर्दन में अपनी बाहें लपेटते हुए मुझे जोर से चूमा और फिर निढाल हो गई. और रही बात मेरी पहली चुत की, तो मेरी बड़ी बेटी आशा तो साली आजकल बड़ी व्यस्त रहती है.

आलिंगन के साथ-साथ मैं उसकी पीठ पर पीछे से हाथ भी अब धीरे-धीरे ऊपर नीचे कर रहा था और मेरा हाथ उसके कूल्हे तक जा रहा था।अब हम दोनों एक दूसरे से इतने चिपक गए थे कि मुझे उसकी चूचियों की गोलाकार गेंदों का अहसास मेरे सीने में होने लगा था. मैंने उन्हें पकड़ लिया और उनकी गांड पर लंड रगड़ने लगा और उनकी एक चुची को दबाने लगा. मैंने उसकी मनोदशा समझी और अपना कामरस में भीगा लंड उसकी चूत के मुंह पर लगाकर एक झटका दे दिया.

मैंने धीरे धीरे उनके कपड़े खोल कर उन्हें पूरी नंगी कर दिया और उन्हें नहलाने लगा.

मालिश क्या … यूँ कहें कि अपने लंड को तेल से चिकना कर मुठ मारना शुरू कर दिया. हुआ कुछ इस तरह कि हमारे गांव में कॉलेज नहीं था तो बारहवीं पास करने के बाद दीदी ने पापा से कॉलेज की पढ़ाई के लिए कहा.

बीएफ हिंदी देसी पिक्चर अन्तर्वासना सेक्स की कहानी पढ़ने के बाद मुझे भी अपनी पहली चुदाई की स्कूल फ्रेंड सेक्स कहानी लिखने का मन हुआ. मैंने उसको बिस्तर पर लिटा दिया और उसकी टांगें उसके सर से लगा आकर उसकी गांड में लंड घुसा दिया.

बीएफ हिंदी देसी पिक्चर मैं- ठीक है, क्या आप मेरे सामने बिना कपड़े आओगी!भाभी- बदमाश कहीं का … मैं तुम्हारी भाभी हूँ, कोई भाभी से ऐसे बात करता है क्या?मैं- क्यों भाभी देवर का रिश्ता होता ही ऐसा है. मैं- भाभी पर आपने मेरा नंगे सोते हुए की वीडियो क्यों बना ली?भाभी- ताकि तुम सच बोल सको.

सीमा ने मुझे वो पता बताया और कहा- जाओ … और ध्यान रखना … कुछ गड़बड़ न कर देना.

ब्लू फिल्म सेक्सी दिखाना

लेकिन निधि अभी नहीं झड़ी थी तो उसने मुझे देखा और एक कंडोम मेरे हाथ में दे दिया. अब तो वो खुद भी नीचे से अपनी गांड उठा कर चूत में लंड लेने के लिए धक्के लगाने लगी थी. कुछ देर बाद मेरी बहन रीना के मुंह से ‘आह्ह इइइ …’ की मादक सिसकारियां निकलने लगीं.

[emailprotected]जीजा साली सेक्स क्लिप:जीजा ने साली को नंगी करके चोद दिया. मुझे उनकी सारी बातें तो समझ में नहीं आ रही थीं लेकिन सिसकारियां सुनाई दे जाती थीं. मैंने देखा कि प्राची की आंखें बंद थीं और इसी का फायदा लेते हुए मैंने अपना हाथ उसकी शॉर्ट्स में डाला ही था कि उसी वक्त बच्ची नींद से उठ कर रोने लगी.

लेकिन अब बच्चा होने और उम्र थोड़ा बढ़ने से चाची का शरीर भर गया और चाची सेक्स बम्ब तो क्या, सेक्स की तोप बन चुकी थी.

पापा की ज्यादा तनख्वाह नहीं है, इसलिए भाई ने पढ़ाई छोड़ दी और मुझे भी पापा जैसे तैसे पढ़ा पा रहे हैं. संगीता उसके पास बेड पर बैठ गई- उठ जा बेटी … देर हो जाएगी तुझे कॉलेज जाने में!स्नेहा- गुड मॉर्निंग मॉम, सोने दो ना … कितनी अच्छी नींद आ रही थी. वो बोली- अरे राज जी … आप आ गये! आपको मेरी ननद तंग तो नहीं कर रही?मैंने कहा- नहीं.

अहसान चुकाने के लिए मैं और प्रभात दोनों ही साहब की सेवा में उपस्थित हुए. उसके बड़े बड़े मम्मों को हथेलियों से पूरा भर पाना बहुत मुश्किल काम था. अब मेरी भी शर्म खुल गयी और मैं बोला- आप चाहोगी तो सब कुछ हो जायेगा.

जब मैं खेल कर वापिस आता था तो अक्सर चाची मुझे पीने के लिए दूध गर्म करके दे देती थी. तो मैंने उससे कहा- देख भी, मैंने माभी नहीं किया ऐसा काम … तुम आराम से करना।उसने मुझे आश्वासन दिया कि वह आराम से करेगा.

मैंने अपना हाथ थोड़ा नीचे किया और फिर पूछा- यहां?वो बोली- नहीं, थोड़ा और नीचे. ये कह कर उसने सुधीर का पहना हुआ अंडरवियर फिर से नीचे करके उतार दिया. मैं ऐसी ही चारपाई में बैठी थी कि अचानक जोर से तेज़ बिजली के कड़कने से मेरे मुँह से चीख निकल गयी थी.

जया गांड मटकाती हुई आई और अपने पति के सामने ही वो अजय की गोद में बैठ गई.

फ़लक मुस्कराते हुए बोली- सर, आज तो बुरी तरह से दुख रही है, लगता है चूत सूज गई है, कल कर लेना?हम वाशरूम के शीशे के सामने खड़े थे. मानस को इसी बात का इंतजार था कि कब ये रंडी अपनी औकात पर आ जाए और फिर इसकी धुंआधार चुदाई का मजा मिल सके. उसकी मुलायम गांड मेरे लंड से टकरा रही थी इससे मेरा लंड एकदम कड़क हो गया था.

जैसे ही पेमेंट पूरी हुई तान्या के साथ मेरा लाइव सेक्स चैट सेशन शुरू हो गया. मैं करीब ऐसे ही 2 घंटे तक चुदती रही और मेरी पूरी जान निकल गई।फिर सब ने कपड़े पहने। जब मैं पहनने लगी तो एक ने मेरी ब्रा और एक ने पैंटी रख ली और उसे सूंघने लगे।मैंने मजबूरी में जींस और शर्ट पहनी जिसकी वजह मेरे बूब्स बहुत हिल रहे थे.

सुबह मेरी आंख पांच बजे खुली तो मैं उल्टी करवट लेटी थी और पीछे से मेरी नाइटी कमर तक उठ गयी थी जिसकी वजह से मेरी 40 की गांड पूरी नंगी थी।मैं जल्दी से उठी तो देखा समीर अपने बिस्तर पर नहीं था तो मैं समझ गयी कि आज लड़के ने सुबह सुबह अपनी मालकिन की नंगी गांड का दर्शन कर लिया है।अब मैं भी उठी तो देखा वो झाड़ू लगा रहा था. शायरा के घर का दरवाजा वैसे तो बन्द था … मगर अन्दर से कुंडी नहीं लगी थी इसलिए मैं सीधा अन्दर घुस गया. दिल्ली सेक्स चैट वेबसाइट पर ये मेरा पहला एक्सपीरियंस था दोस्तो। उसके बाद मैंने मिशैल के साथ कई बार और भी सेक्स चैट सेशन किया.

ब्लू सेक्स ब्लू पिक्चर सेक्सी

उस पूरी रात में कामशास्त्र की ऐसी कोई पोजीशन बाकी नहीं रही होगी जो हम दोनों ने नहीं की हो.

अब मैं चूत में लीन हो चुकी थी और अब आगे आनंद का अपार सागर खोज रही थी।आपको मेरी लेस्बियन लव स्टोरी कैसी लगी आप मुझे इस बारे में जरूर लिखें. इतने में बस का दूसरा स्टाप आ गया था और बस में और ज्यादा भीड़ हो गई थी. मैं अपना मुँह उसकी चूत पर रख कर चाटने लगा, दो मिनट बाद ही वह सिसकारी भरने लगी.

निर्मला जी ने आंखें बंद करके सर पीछे किया और सांस खींचते हुए गहरी आह भरी. इसलिए मेरे लंड को ममता जी की चुत में अन्दर बाहर होते शायरा आसानी से देख पा रही थी. चुदाई का बीएफ दिखाओ10-15 मिनट टीवी देखने के बाद धीरे-धीरे मैं उसके पास गया।वह उतना सहज महसूस नहीं कर रही थी।मैंने उससे पूछा कि तुम शायद सहज महसूस क्यों नहीं कर रही हो न? क्या तुमने पहले भी किया है किसी के साथ?वो बोली- नहीं, सिर्फ किस किया था। जब मैं बाहरवीं में थी तो मेरा एक बॉयफ्रेंड था.

उसके शरीर से मेरा शरीर लिपट गया था और चुत में लंड का घर्षण चल रहा था. मैंने कम रोशनी में सिरहाने रखी पानी की बोतल टटोली, फिर हाथ फैलाए … तो देखा भाईजान की जगह खाली थी.

मैं रोज़ रात में उनकी चुत का पानी झाड़ देता और मामी की चूत को चाटता. अब मैं भी कहां रुकने वाला था … मैंने धीरे धीरे धक्कों की स्पीड बढ़ा दी. ममता जी को पकड़कर मैं सीधा उनके ऊपर आ गया और उनके होंठों को चूसने‌ लगा.

शादी के दूसरे दिन वो जब आपने घर वापस आई तो इतनी खुश थी कि जैसे उसको उसकी सबसे प्यारी चीज मिल गयी हो. इस बीच मैंने भी इस बारे में थोड़ा सोचा था … तो मुझे भी दो मर्दों के बीच में रोमांस करने का एक अनुभव लेने का मन हो गया था. मैं अभी भी उधर ही डरकर बैठा हुआ था कि भाभी मेरे घर कि तरफ क्यों गई हैं.

घर में मैं ऐसे सूट पहनने लगी, जिसमें मेरे बूब्स के उभार थोड़ा दिखते थे.

अपने शरीर को साफ किया और रूम में खड़ी होकर अंकल को आवाज दी, पर उनका कोई जवाब नहीं आया. अगर नौकरी नहीं मिली तो फिर कुछ और सोचेंगे, लेकिन पहले तू आ जा, कुछ ना कुछ तो काम जरूर मिल ही जाएगा.

पहली बार देखने पर जिस चूत का छेद बिल्कुल चिपका हुआ बंद दिखाई दे रहा था उस छेद का अब पूरा मुँह खुल चुका था. मेरे लंड का रस पूनम बुआ के मल से मिलकर उनकी गांड से बाहर बहने लगा था. थोड़ी देर बाद मैंने एक इलेक्ट्रीशियन को बुलाया और भाभी के घर की लाइट ठीक करवाई.

शायरा ने अब एक‌ बार तो इधर उधर देखा … फिर चुपचाप वो खाने का डब्बा उठाकर अन्दर चली गयी. नौकर सामान लेने के लिए किचन में चला गया और संगीता ने हमसे कहा- तुम लोग व्हिस्की तो पीते हो ना!मैंने संगीता से कहा- जी … कभी-कभी जब मिल जाती है, तो पी लेते हैं. तीसरे हफ्ते में मुझे लगने लगा कि मैं तो मुठ मारकर मर ही जाऊंगा थकान से.

बीएफ हिंदी देसी पिक्चर वो रोज मेरी ट्रैक पैंट में उभरी गांड के पहाड़ों को देखकर मजा लेता था. सोनम ने अपने मुँह से उसकी अंडरवियर को निकला और एक जोर का थप्पड़ मानस के गाल पर रसीद कर दिया.

ஆந்திர ஆண்ட்டி செஸ் வீடியோ

उसके बाद क्या हुआ?नमस्कार दोस्तो, मैं अन्तर्वासना की कहानियां करीब 5 साल से पढ़ता आ रहा हूं लेकिन मैंने कभी सेक्स कहानी लिखने पर विचार नहीं किया था. स्नेहा- वो सब छोड़ो दीदू, आप ये बताओ आपने चाची की चुदाई कैसे देख ली?नेहा- चाची का भोसड़ा ही था ना उस समय!नेहा- हां, वो तो चाचू के साथ शादी से पहले ही चुदवा चुकी थीं. पति का नाम अशोक है और मेरी उससे मुलाकाल ऑफिस में किसी काम के सिलसिले में हुई थी.

अभी भी भाभी दिखावा करने के लिए आराम आराम से बोल रही थीं- यश कोई देख लेगा. उसने पूछा- कौन से एरिया में हो?मैंने कहा- मैं ड्राइव इन एरिया में हूँ. बीएफ एक्स एक्स एक्स इंग्लिश मेंघर आकर मुझे सीमा की बातें याद आ रही थीं और मेरे मन में गुदगुदी हो रही थी.

संगीता ने आते ही रूम को लॉक किया और मुझसे कहा- आर्यन यहां कुर्सी पर क्यों बैठ गए?मैंने कहा- संगीता जी, मैं ठीक हूं आप फिक्र मत करो.

छाया- तो भाभी जी यानि अपनी मम्मी से काम चला लो न! तुम्हें तो इतनी अच्छी और परमानेंट जुगाड़ दे दी हैं … जो सदियों से लंड की प्यासी है. चाची ने अपनी चुत में उंगली डाल कर उसे साफ की और मेरे लंड को भी प्यार से साफ कर दिया.

मुझे अपनी कमर में जहां उभार महसूस हो रहा था, उस जगह को मैं हल्के हल्के से दाएं बांए करके कमर से रगड़ रही थी. एक बार मैं उसके घर गया तो मैंने क्या देखा?हैलो फ्रेंड्स, मैं संजीव कुमार आपको लॉकडाउन में अपनी फ्रेंड और कॉलेज फ्रेंड सेक्स कहानी सुना रहा हूँ. अब मैं कल्पना करने लगा कि मैं उसके कमरे में हूं और वो मेरे सामने चूत खोलकर लेटी हुई है.

हम दोनों ने एक और राउंड लगाया और फिर सुबह की चहल पहल से पहले ही मैं बुआ के घर से निकल गया.

कुछ देर तक तो वो ऐसे ही सोनम की पीठ पर पड़ा रहा, पर जैसे ही उसकी सांसें काबू में आईं, उसने अपना लौड़ा सोनम की चुत से बाहर निकाला और उसके साथ साथ सोनम की फुद्दी में भरा हुआ उस चपरासी का माल भी सोनम की जांघों पर और जमीन पर गिरने लगा. महबूबा के साथ सेक्स सिर्फ दो जिस्मों का मिलना भर है लेकिन बीवी के साथ सेक्स से जिम्मेदारी जुड़ी है. यामिना- यही बात मैं आपसे कहने वाली थी, मुझे पहली बार ऐसे चोदा गया है कि पोर पोर शान्त हो गया है.

बीएफ ब्लू हिंदी सेक्सी वीडियोअलवीना के बारे में आप लोगों को सीधे तौर पर बताऊं … तो अलवीना एक नम्बर की माल लौंडिया थी. जिसे दीदी ने महसूस कर लिया था और वो मुझसे नहाने और खाने के लिए कहने लगी थीं.

सेक्सी पेंटी

उन्होंने आह भरी और बोलीं- आह अमित … और जोर से!मैं उनकी मचलन को समझते हुए, उनके चूचे जोर जोर से दबाने लगा और उनके गले पर चूमता रहा. विदेशी का लंड लंबा और मोटा था जिसके घुसते ही अंकिता की हॉट देसी इंडियन चुत के होंठ पूरी तरह से फैल गए थे. रेणु के पास तो हर्ष था जिसकी वजह से वो व्यस्त रहती लेकिन शेखर नोएडा में अकेला था और अपनी आदत से मजबूर रात भर सेक्स की आग में तड़पता रहता था.

पार्टी में अनु दीदी ने दोनों बहनों के साथ अपने हुस्न का तड़का लगाने में कोई कसर नहीं छोड़ी थी. कुछ देर बाद जब मैंने खींच कर लंड चुत से बाहर निकाला, तो उसकी चुत में दर्द हो रहा था. फिर पापा नहीं माने और मम्मी की साड़ी और पेटीकोट ऊपर करके मम्मी की जांघ पर हाथ फेरने लगे.

संध्या चाची 37 साल की एक भरे पूरे 36-28-38 के फिगर वाली कामुक औरत हैं. वो मेरे टट्टों को चूमने, चाटने और एक-एक करके, दोनों टट्टों को मुँह में भरने के कुछ देर बाद अपनी जीभ को आगे बढ़ाने लगीं. फिर उन्होंने मुझे गोदी में उठाया और मेरी चूत अपने लंड पर सेट की और वो मेरे वज़न से अंदर चला गया और मेरी जान निकल गयी।वो मुझे ऐसे ही लेकर सोफे पर लेट गए और जोर जोर से चोदने लगे.

वैसे तो शायरा नीचे बैठ गयी थी और पहले के जैसे ही एसी के बगल से हमें अब भी देख रही थी. ऊपर चैट पढ़ने पर पता लगा कि वो उस बंदे के साथ कई बार चुदाई करवा चुकी हैं.

लंड पूरा खाली होने के बाद मैंने अपना हथियार चुत से बाहर निकाल लिया और मामी को एक लंबा किस दिया.

एक हाथ से कमर को कस कर पकड़ा और इस बार एक झटके में पूरा लंड गांड में पेल दिया. एक्स एक्स बीएफ एक्स एक्स वीडियोमैं जिसके साथ मज़े कर रही थी, वो मेरा सगा बेटा था और शायद वो भी भूल गया था कि वो अपने मम्मी के साथ संभोग कर रहा है. बीएफ एक्स एक्स एक्स हिंदी सेक्सीनर्म और गदराए पेट में चाची की गोल धुन्नी (नाभि) और धुन्नी के नीचे से पैंटी तक का नँगा भाग देखकर मेरे कान लाल हो गए, गला सूखने लगा. कैसे?नमस्ते दोस्तो, अन्तर्वासना पर आती लगभग हर एक सेक्स कहानी को मैं नियमित रूप से पढ़ता हूँ.

चाची- क्या हुआ, यहाँ क्यों आये हो?मैं कुछ नहीं बोला, बस चाची की चूचियों की ओर देखता रहा.

उसने खुद भी खाना खाया और फिर सारा काम करके अपनी बूढ़ी को मां को सुला दिया. दूसरी तरफ निखिल भी ना जाने कौन सी धुन में था कि बिना झिझक के वो मेरा साथ देने को आतुर हो चला था. दीपक मस्त अनु दीदी को दोनों टांगों को चौड़ा कर हचक कर चोद रहा था और दीदी उसके हर झटके पर कराहती हुई चुत चुदाई के मज़े ले रही थीं.

कृष्णा मंदिर, कृष्णा नदी, मंकी पाईंट, मैप्रो गार्डन और मुल्सी झील है … और हां लंच भी वहीं कहीं कर लेंगे. परी ने गर्व से अपने दूध मेरे सामने तानते हुए कहा- हम्म … अक्सर ऐसा ही होता है. वे खाना परोसने में सहयोग करते थे, काम करते थे … और जो लेबर थे, वे बदलते रहते थे.

सेक्सी वर्ल्ड वीडियो

रात लगभग 11:00 बजे चाची ने बाथरूम में अपने कपड़े बदले और बाहर आ गई. अब हमें जिंदा रहने के लिए अपने अन्दर की गर्मी को एक-दूसरे के सहारे से सम्भालना पड़ेगा. विराज- पहले ये तो बताओ जाना कहां है … दूसरी बात मैं और ज्योति पढ़ाई का नुकसान नहीं करना चाहते, सो कुछ ऐसी प्लानिंग करो कि दोनों काम हो जाएं.

रेणु, शेखर की पत्नी एक बहुत ही ख़ूबसूरत और गदराए हुए जिस्म की मालकिन है। आज भी मौहल्ले के मर्द उसे देख कर आहें भरते हैं और शायद अपने नवाब को अपने हाथों में लेकर उसके ख्यालों में अपना काम-रस निकालते होंगे.

चिराग- दोस्तो, हम दो दो के ग्रुप में बंट जाते हैं और चार रूम में एडजस्ट कर लेते हैं.

लड़की की कामवासना स्टोरी में पढ़ें कि एक तलाकशुदा महिला हिमाचल में गेस्ट हॉउस चलाती थी. मैंने कहा कि इंसान की बॉडी में सबसे गर्म हिस्सा चुत और लौड़ा होता है. एक्स एक्स एक्स बीएफ वीडियो एचडी मेंअब आगे भाभी की नंगी चुदाई:मैंने मोना भाभी को कसके अपनी बांहों में भर लिया और अपने दोनों हाथों को पीछे उनकी नंगी पीठ को सहलाने लगा.

एक जो मुंबई से मेरे साथ आई थीं, जिनका नाम सोनल है और दूसरी भाभी बड़ी हैं, उनका नाम विधि है. मेरी दीदी ने ग्रेजुएशन पूरा कर लिया है और अभी वो घर के ही काम करती हैं. मोना भाभी की आवाज पूरे रूम में गूंज रही थी और वो पागलों की तरह बोले जा रही थीं- आह यश … चोदो ओर जोर जोर से … फाड़ दो मेरी चूत को … आह चोदो मुझे … और जोर जोर से चोदो और जोर जोर से.

क्लासमेट सेक्स कहानी के पिछले भागक्लासमेट की चूचियों का दूध पीयामें अब तक आपने पढ़ा था कि प्राची मेरा लंड चूस कर वीर्य पी चुकी थी और मेरे साथ फिर से कामुक हरकतें करने लगी थी. ’ऐसे ही अपनी ख़ुशी का इजहार करते हुए सोनम बड़े दिनों बाद अपनी गांड की सेवा उस चपरासी मानस से करवा रही थी.

मैंने उसी वक्त भाभी को पीठ के बल बेड पर लेटा दिया और उनके ऊपर चढ़ गया.

आज उसकी देवदासी वाली हालत बता रही थी कि वो मुझसे कितना प्यार करने लगी थी. कुछ देर के बाद मामी बोलीं- अब नहीं रहा जाता … अपना मोटा हथियार मेरी चुत में डाल दो. लंड की लंबाई 7 इंच के आस पास ही है, लेकिन मोटा इतना है कि किसी भी चूत में आसानी से नहीं जाएगा … सामने वाली की आंखों में आंसू ला देगा.

बीएफ भेजें हिंदी कजिन सेक्स कहानी में पढ़ें कि मैं अपनी मौसी की बेटी को लेकर अपनी बुआ का घर गया तो हम दोनों ने बुआ के बेटे और बेटियों के साथ कैसे सेक्स के मजे लिए. रेणु, शेखर की पत्नी एक बहुत ही ख़ूबसूरत और गदराए हुए जिस्म की मालकिन है। आज भी मौहल्ले के मर्द उसे देख कर आहें भरते हैं और शायद अपने नवाब को अपने हाथों में लेकर उसके ख्यालों में अपना काम-रस निकालते होंगे.

मैंने पूछा- बहन के लौड़े … हम उस मेल एस्कॉर्ट कंपनी में ज्वाइन कैसे करेंगे?मयंक बोला- ये काम वो लड़का करवा देगा. तो मैंने रूपाली से कहा- देखो रूपाली, कितना अनोखा और कितना उतेजित नज़ारा है. मैंने भी अपनी टीशर्ट और ट्रैक पैंट उतार दी जो पसीने से भीग चुकी थी।मुझे थोड़ी ताजा हवा की जरूरत है.

राजस्थानी सेक्सी पिक्चर चोदने वाली

मैंने अपने हाथ आगे ले जाकर मोना भाभी के दोनों चुचों को जकड़ लिया और उनको सहलाने लगा. मुझे पता था कि मेरा ऑफिस रोहन के ऑफिस के रास्ते में आता था और वो बाइक पर ऑफिस जाता था. मेरे परिवार में मेरे अलावा मेरी दो बड़ी बहनें और मम्मी-पापा हैं।लड़की की सेक्सी कहानी तब की है जब मैं कॉलेज में पढ़ता था और मेरी एक दोस्त संजना के साथ मेरे शारीरिक सम्बन्ध बने।यह कहानी बिल्कुल सच्ची है जो मेरे साथ मेरे कॉलेज के दिनों में सच में हुई थी.

उनकी दबी हुई आवाजें इस बात को इशारा कर रही थीं कि आज भाभी अपनी सारी प्यास बुझाना चाह रही थीं. मैं उठकर बैठा उसके पास; उसका घूंघट उठाया तो उसने शरमा कर आंखें बंद कर लीं और गर्दन झुका ली.

फिर अपने बच्चे के सोने के बाद रोज़ रात में एक बजे के बाद मेरे कहे अनुसार चूड़ी और पायल दोनों निकाल कर आ जातीं.

उसकी ऊंची और कामुक सिसकारियां इस माहौल को और ज्यादा गर्म कर रही थीं और इस लाइव सेक्स चैट सेशन का मजा दोगुना हो गया था. मैंने निधि भाभी को अपनी सारी सेक्स कहानी के लिंक्स भेजे और उनको पढ़ने का बोला. मैं- मैं कुछ नहीं जानता, प्रभात नहीं बोलेगा … इसलिए मैं बोल रहा हूं.

मैं तो अभी ज्यादा से ज्यादा लोगों का स्पर्म लेने के मिशन पर थी इसलिए मैंने भी उस डॉक्टर का पूरा साथ दिया. जैसे ही मेरा पानी उनकी गांड में गिरा, बुआ की चुत ने भी अपना झरना छोड़ दिया और हम दोनों रस से सराबोर हो गए. औरत और मर्द बिना चुदाई के इस सर्दी से किसी भी तरह से निजात नहीं पा सकते थे.

भाभी की चुत का गर्म लावा मेरे लंड को स्पर्श हुआ … जिससे लंड फच फच की आवाज करते हुए अन्दर बाहर होने लगा.

बीएफ हिंदी देसी पिक्चर: मैं कुछ देर चुत चाटने के बाद वापस खड़ा हुआ और उनके चुचों को बारी बारी से मुँह में लेकर चूसना शुरू कर दिया. उसके बड़े-बड़े हिप्स जब हिलते और लण्ड को अंदर-बाहर ले जाते तो मैं भी आनंद में डूब जाता।मैंने उसके दोनों हिप्स को नोचना, उसकी गाँड के छेद को उंगली से चोदना शुरू कर दिया।रेनू भी मस्त होकर लण्ड अंदर तक ले जा रही थी.

मालिश करते समय बीच बीच में उसके दोनों निप्पलों को भी बारी बारी से काट रहा था. ऐसे ही भाभी ने अपने दूसरे चुचे को मेरे मुँह में दे दिया और उसको भी दबा दबा कर पिलाया. सुबह पापा मम्मी से कह रहे थे- कल रात बहुत मजा आया न?मम्मी ने हां में सिर हिला दिया.

अंत में मैंने उसकी चुत को भी चाट लिया उसकी चुत का स्वाद बहुत ही नमकीन था.

उन्होंने अपनी दोनों टांगें हवा में उठा लीं और मैं दे देनादन भाभी को चोदने में लग गया. दो घंटे से बातें करते-करते शेख़र और धारा एक दूसरे से काफ़ी हद तक खुल चुके थे. और भरता भी कैसे! सामने दो अमृतकलश नग्न थे और मैं बोतल से दूध पी रहा था.