चोदा चोदी हिंदी में बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो बीएफ पाकिस्तान

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ एचडी साड़ी: चोदा चोदी हिंदी में बीएफ, मैं- आप नाराज भी हो सकते हैं!धर्मेन्द्र- प्रोमिस बाबा नहीं होऊंगा नाराज, बोलो?मैंने संक्षेप में धर्मेन्द्र को अपनी ख्वाहिश बताई.

xxएक्सविडियो

ऐ … हुँहह … ऐ हहहह …”मेरे मुँह से कभी मादक और कभी दर्द भरी सीत्कारें निकल रही थीं- अरीई … उईईई … आअहह … उउउंम … हाँ … ऐसे ही अंकल जी … जरा धीरे अंकल जी स्स्स्स्स् … हुउउउ … आह री मौ …सी … दे …खो … अं …क …ल … ने मुझे चोद दिया … आह मौसी तुम … भी … चु …दवा … लो …मेरी और अंकल जी की ऐसी मिली जुली कामुक आवाजों से पूरा कमरा गूंज रहा था. सेक्सी वीडियो ब्लू बीएफजब मैंने पूछा- ब्रा नहीं पहनी क्या?तो उसने कहा कि आते समय उतार कर रख ली है.

मैंने कहा- तू ऐसा कर … नहा ले, क्या पता पसीने की वजह से खुजली हो रही हो. सेक्सी पिक्चर ब्लू बीएफ सेक्सीशीतल जैसे पकड़ी गयी हो… वो घबरा गयी यह जानकर कि उसके पति को पता चल चुका है कि वो अपने दोनों बेटों से चुदवा रही है- म… मै.

इस सच्ची कहानी को लेकर आपकी कोई सुझाव या प्रतिक्रिया हो तो प्लीज़ मुझे[emailprotected]पर ज़रूर मेल करें.चोदा चोदी हिंदी में बीएफ: अब मेरी पत्नी ने नीरू को कहा- नीरू, अगर तुझे कोई परेशानी ना हो तो तू मेरी चूत को चाट और तेरे जीजू पीछे से तेरी चूत में अपना मोटा लंड घुसा कर तेरी चुदाई करेंगे.

करीबन 15 मिनट बाद वो थक गईं और बाहर निकलने को बोल रही थीं, पर मेरा अभी तक नहीं हुआ था.मेरी योनि की मांसपेशियां तेजी के साथ हर धक्के पे सिकुड़ने और ढीली होने लगी.

नोट को चोदा चोदी - चोदा चोदी हिंदी में बीएफ

इतने मैं मम्मी बोलीं- नहीं बेटा, हम मजबूर थे … तेरे पापा अब कुछ कर नहीं पाते और इनके पति नहीं हैं, इसलिये हम …ये कह कर वो चुप हो गईं.उस दिन मैं दीदी की सहेली बेबी को चोद कर अंकल के घर से बाहर आया और फिर शादी के काम में लग गया.

एक बार उसने तिरछी नजर से मुझे देखा मगर हाथ थोड़ा तिरछा करके मेरी कोहनी को उसकी छाती पर छूने दी। मैं खुश हो गया। मुर्गी तो लाईन पर है!मैंने अब हाथ उसकी पीठ पर रख दिया और उसकी पीठ सहलाने लगा. चोदा चोदी हिंदी में बीएफ वो अपने हाथों से मेरा लंड सहला रही थी और मैं उसके मम्मों को चूस रहा था.

फिर उसने मेरे मोटे लंड को अपने मुँह में ले लिया और भूखी शेरनी की तरह चूसने लगी.

चोदा चोदी हिंदी में बीएफ?

बोलने लगी- मैं आप दोनों को छुप कर देख रही थी और मेरी हालत बहुत खराब हो चुकी है. मुझे समझते देर न लगी और मैंने अपना हाथ ऊपर बढ़ाते हुए उसकी ब्रा तक ले गया. उस वक्त हम खाना खाकर टीवी देख रहे थे और हमारा बेटा दूसरे कमरे में सो चुका था.

मैंने कहा- मैं यहाँ का मालिक हूँ और दरवाजा खोल! अगर तूने अब दरवाजा नहीं खोला तो मैं दरवाजा तोड़ दूँगा. उसने झुकते हुए मेरा निप्पल मुँह में लेकर चूसा और हाथों से पीछे से मेरे चूतड़ों को दबाया. एक बार समझ में नहीं आता क्या आपको?मैंने कहा- ठीक है मत बताओ और अब मुझे तुमसे बात भी नहीं करनी और ना मैं अब से खाना खाऊंगी.

हमने अपनी अपनी तरह का एक एक पैग और लगाया और फिर वो बोली कि चलो छत पर चलते हैं. अब मेरी पत्नी ने मुझसे कहा- अब आप धीरे से धीरे धक्के मारने शुरू करो ताकि नीरू को मजा आना शुरू हो!और मुझे हिदायत दी- यह मेरी बहन है, बहुत प्यार से करना है … धक्का जोर से नहीं लगाना … नहीं तो इसको दर्द होगा और फिर आपको इसकी चूत नहीं मिलेगी अगर आपने इसको दर्द दिया तो!अब मैंने अपनी पत्नी का कहा मान कर नीरू की चूत में धीरे धीरे धक्के मारने शुरू कर दिए. फिर मैंने उनकी पैंटी उतार दी और उनकी गोरी फूली हुई बुर मेरे सामने थी.

फिर मेरी छुट्टियां खत्म होने को थीं, इसलिए मुझे वापस अपने घर आना पड़ा. तभी मुझ से किसी ने कहा- असली चुदाई का मजा तो अब आएगा साली … ले इस नए मूसल का स्वाद चख.

हिमांशु पीछे से मेरी गांड में बहुत जोर से अपने लंड को अन्दर बाहर लंड करने लगा था.

मैंने सोचा कि चलो मैं ही उठकर किचन के फ्रिज से पानी निकाल लाता हूँ.

एक बारी तो ऐसा आया कि बहन ने पीछे मुड़ कर देखा और वो कुछ बोलने ही वाली थी तो मैंने मुँह पर हाथ रख कर चुप कराया और वहां से कमरे में ले गया, जहां हम पहले बैठे थे. फिर विक्रम बोला- मयूरी, तू यही चाहती है ना कि हम दोनों भाई एक साथ तुझे चोदें… तो तेरी ये ख्वाहिश हम जरूर पूरी करेंगे… हमने अपनी पुरानी बातों पर सुलह कर ली है… और अब तुझे एक-साथ अपने दोनों भाइयों का लंड का मजा मिलेगा… अब तो तू खुश है न?मयूरी को पक्का पता था कि यही होने वाला है. कुछ पलों के बाद दोनों अलग हुई और मुनीर बिस्तर पर खड़ी होकर दीवार से पीठ के बल लग गयी.

इसी बीच मेरी पत्नी बोली- अब आप दोनों ही मजा लोगे या मुझको भी शांत करोगे? मैं भी तो बीच में ही रह गई थी. उसने एक पल के लिए मेरा पूरा लंड अपने अन्दर लेकर कर आंखें बंद करके मुझे कस कर पकड़ लिया. थोड़ी देर बाद मुझे लगा कि पूजा के सारे बदन में कम्पकपी सी होने लगी है.

मैंने उनसे कॉल करने को बोला तो बोली कि अभी वो अपने पति के साथ एयरपोर्ट पर हैं.

फिर उनका लंड चूत में ही सिकुड़ गया और बहुत छोटा हो गया, तब जगत अंकल ने मुझे छोड़ा और उठ गए. तभी मेरे दिमाग में आया कि आज घर पर बस प्रिया और सुलेखा भाभी ही हैं, रात को प्रिया कमरे में भी अकेली ही होगी … तो क्यों ना मैं आज रात में प्रिया के कमरे में ही चला जाऊं?यह बात मेरे दिमाग में आते ही मैं तुरंत अपने कमरे से बाहर आ गया. मुझसे अब नहीं रहा गया और मैंने पूजा की चूत को अपने होंठों से चूमने के बाद उसको धीरे धीरे चाटना शुरू किया.

एक हाथ से मैं उनके पैर पे हाथ फेर रहा था और दूसरे हाथ से मैं उनके पेट पे ड्राइंग सी बना रहा था. मेरा इतना कहना था कि सोनू ने मुझे सीधा किया और मेरे ऊपर लेट के सीधा अपना लौड़ा मेरी चूत में पेल दिया. मेरा मन हुआ कि चूम लूं इसे! अबकी बार मैंने पूछा नहीं और लंड पर तीन चार चुम्मे दिए.

मैं उसके पेट पर किस करने लगा और उसकी नाभि के अन्दर अपनी जीभ डाल कर फिराने लगा.

तभी सतीश मेरे सामने आकर मुझे बोला- वन्द्या तुमसे खूबसूरत और सेक्सी लड़की मैंने अपनी जिंदगी में नहीं देखी, तुम्हें अभी जिसने भी चोदा हो, पर तुम अभी भी बहुत प्यासी हो. आज तो उन्होंने कह दिया मुझे बच्चा चाहिए जैसे भी हो तुम जानो! अब तुम ही बताओ केशव, मैं क्या करूँ?तब मैंने कहा- अगर आप बुरा न मानें तो मैं एक बात कहूं?तो वो बोली- आजकल मुझे कुछ बुरा नहीं लगता है बताओ?मैंने कहा- देखिये, अगर मैं आपकी मदद करूँ तो आप बदले में मुझे क्या देंगी?तो बोली- तू जो कहेगा, मैं दे दूंगी.

चोदा चोदी हिंदी में बीएफ लेकिन सहसा कुछ देर बाद मेरी नजर एक पास खड़ी खूबसूरत लड़की की ओर गई, जो अभी-अभी उस जगह पर आई थी. उनकी चूत में अब कसावट आ रही थी और एकाएक उन्होंने अपना पानी छोड़ दिया.

चोदा चोदी हिंदी में बीएफ फिर उन्होंने मुझसे एक बात पूछी- क्या तुम वो सब मेरे साथ भी कर सकते हो, जो चांदनी के साथ करते हो?तो मैंने कहा कि मैं आपका मतलब नहीं समझा?उन्होंने अपने बारे में बताया कि उनका नाम रीतू है, उम्र 35 वर्ष है, उनकी 22 की उम्र में शादी हो गई थी और 3 साल पहले पति की मृत्यु हो गई थी. मैंने उस दिन अपने घर में बहुत डांट खाई थी और मुझे तो मम्मी ने पीटा भी था.

कुछ पल बाद फिर से चुदास भड़क गई और हम दोनों एक दूसरे को गर्म करने लगे.

योनि सेक्सी वीडियो

और जब तक इसको तुम्हारे लंड का पानी नहीं मिलेगा, मेरी चूत की ये आग नहीं शांत होगी. पहले तुम्हारी चूत की इन झांटों को साफ़ करना पड़ेगा ताकि हीरा जंगल से बाहर निकल आए. तुझे फुल टाइम रंडी बनना हो तो भी बताना, मैं तुझे कभी क्लाइंट की कमी नहीं होने दूंगा.

मालिश करते समय मनीष की चार उंगलियां भाभी के मम्मों को साइड से सहला रही थीं, पर भाभी आंख बंद करके लेटी थीं. मगर फिर से किसी ने मुझे जोरों से हिला दिया … अबकी बार मैं उठकर बैठ गया और देखा तो सही में मेरे सामने प्रिया ही खड़ी हुई थी. मैंने ऐसा ही किया और अपने लंड का सुपारा नीरू की चूत पर सेट कर दिया.

मैं उनके पास जाकर खड़ा हो गया तो बोलीं- क्या हुआ निकालो ना?मैंने हाथ उनकी तरफ बढ़ा दिए.

इसलिए मैं भी पूरे जोश में भर कर उनकी चूचियों को अपने मुँह में लेकर जोर से चूसने लगा. फिर मम्मी मुझसे बोलीं- सोनू ये राज अंकल बहुत अच्छे हैं, ये लोग कहते हैं कि मानिकपुर में बहुत अच्छा बाजार है. अभी तक इस इन्सेस्ट सेक्स कहानी में आपने पढ़ा कि कैसे एक जवान लड़की ने पहले अपने दो भाइयों को पटा कर अपनी चूत चुदवायी, उसके बाद अपनी माँ को उकसा कर उसके साथ लेस्बियन सेक्स किया.

इस बात पर वो हँसने लगीं और मेरे करीब आकर बोलीं- इतने समय से तो कुछ कर नहीं पाया और तू बच्चा करेगा?वो मेरे इतने करीब थीं कि उनकी गर्म सांसें मुझसे टकरा रही थीं. मेरी कजरारी आँखों के कोने में आंसू की बूँद झिलमिला उठी, जो बह कर मेरे गाल को काला करने लगी. ”उसने मेरे नाज़ुक पाँव को अपने हाथों से पकड़ा, तो मेरे बदन में सिहरन सी उठने लगी.

हिमांशु मेरे दूध पकड़ के बोला- साली झूठ बोलती है … कोई मम्मी कैसे अपनी लड़की को चुदवाने बुकिंग में लेकर आएगी?तो मैं बोली- नहीं ऐसा नहीं है … मम्मी को कुछ नहीं पता, उनके साथ जो बैठे हैं न वे मम्मी की बहन के नंदोई हैं. फिर हिम्मत जुटा कर मैंने उनके हाथ पर अपना हाथ रखा, उन्होंने कुछ नहीं कहा तो मुझमें थोड़ी हिम्मत आ गई.

इस तरह से मम्मी ने ही खुद से बोला कि सोनू अभी बहुत छोटी है, बस थोड़ी लंबी हो गई ही. मेरा लन्ड तुम्हारी चूत में मैं तो अपनी तरफ से ना घुसा रहा आज!”चलो फिर तय रहा यह हमारे बीच!”!बाकी हम सारा प्यार का का खेल खेलेंगे ही, बस चुदने का फैसला लन्ड और चूत ही करें आज तो!”ठीक है मेरे राजा!” मेरे लन्ड को अपने हाथ में लेकर मुठियाते हुए मीता बोली. कुछ देर के लिए चाची अपनी सांसें रोक कर अपने बदन को ऐंठते हुए कचकचा कर मुझसे लिपट गईं.

हम दोनों ने हग किया और दो मिनट यूं ही चूमा चाटी के बाद वो मुझसे अलग हो गई.

उसने भी बिना एक पल गंवाए मेरा पूरा साथ देते हुए मेरे लंड पर हाथ फेर दिया. फिर वो बिना झड़े ही हट गया और उसके बाद मुझे दो और नये लंड खाने को मिले. पिछली कहानी में आपने जाना था कि मैंने कैसे अपनी दीदी की सहेली की चुदाई की थी.

तो वो जोर से हंस पड़ी और बोली- मैंने तुम्हें दिन में ही कहा था कि तुम बहुत दिलचस्प आदमी हो. मैं यह सुनकर उससे बोली- तो बात तो वही हुई न कि तू वहां पर कॉल गर्ल जैसा काम ही तो कर रही है.

इसी बीच मेरी पत्नी ने भी अपने सारे कपड़े उतार दिए और वह भी बिल्कुल नंगी हो गई और वह मुझ पर टूट पड़ी. मुझे समझते देर न लगी और मैंने अपना हाथ ऊपर बढ़ाते हुए उसकी ब्रा तक ले गया. बहुत देर तक हमने मजे लेते हुए पोजीशन बदलते हुए चुदाई की और अभी तो पूरी रात भी बाकी थी.

नोएडा की सेक्सी फिल्म

मुझे मालूम था कि चूत में लंड जाते ही ये फिर से चिल्लाएगी, इसलिए मैंने पहले ही अपने हाथ से उसकी आवाज रोक ली, जो बहुत तेज निकली थी.

कभी वो अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल कर अच्छे से घुमाते हुए मजा ले रही थीं. जिनका मकान है वे मुझे बोले- तुम बस मेरी बात मानो और चाहे तो अपनी आंखें बंद कर लो और चुपचाप लेट जाओ. उसने इस प्रकार से मेरी योनि को चाटना शुरू किया कि कुछ ही पल में मुझे लगने लगा कि मैं झड़ जाऊंगी.

जैसे ही मेरा हाथ उसके लोवर के बाद उसकी पेंटी में घुसने लगा तो वो मचल उठी. चाची अपना चेहरा बिगाड़ बिगाड़ कर फांक में रगड़ मारते हुए लंड को देखने लगीं- क्या लंड है तेरा रे … कितना तगड़ा और गर्म लंड है तेरा. नेपाली बीएफ हिंदी मेंवे लड़के मुझसे मौसी के यहां की शादी में आने की बात कर रहे थे, जिसमें वे अपने साथ एक या दो नीग्रो को लाने के लिए भी कह रहे थे.

उसने कहा- फिर बहाना!मैंने कहा कि ये बातें शादीशुदा लोगों की होती हैं. वन्द्या तेरी मम्मी को तो दस हजार रुपए दे दूं तो वो खुद तुझे चुदवाई करवाने ले आएगी और हजार दो हजार दे दूंगा तो वो खुद चुदवा लेगी.

तब मैंने कहा- क्यों जी नहीं भरा अभी?उन्होंने कहा- आज पूरी रात यह मेरा है. कुछ ख़ास लोग ही आये हुए थे उस शाम को … पर मुझे लगा उसके पति को देख कर कि इन दोनों के बीच में सब कुछ ठीक नहीं है क्यूंकि उसका पति बार बार उसको आंख दिखाता या हल्का फुल्का डांट देता था. इसी तरह एक हफ्ता बीत गया, हम मिले नहीं पर फ़ोन पे सारा दिन बात करते थे।वो बोली- मुझे आपसे मिलने का दिल कर रहा है.

वो बोली- हां तेरी बात तो सही है, पर यार … सच में रोज नया लंड लेने बड़ा मजा आता है. मैं आपको बता दूँ कि मेरे और उनके कमरे के बीच में सिर्फ़ एक स्टोर रूम है. जैसे जैसे लंड चूत में जाता जा रहा था, वैसे वैसे उसकी गर्मी महसूस हो रही थी और मज़ा तो सातवें आसमान पर था.

अंकल जी फोन चला के तो देखो कैसा है?” कम्मो बोली और फोन का डिब्बा मुझे दे दिया.

इससे मुझे मीठा दर्द भी होता था, पर उसके लंड चूसने के अंदाज़ से मैं बहुत खुश था. किरण जी ने मम्मी को पूरी नंगी करके बिस्तर पर लिटा दिया और उनके चूचों को चूसने लगीं.

जब उसने अंडरवियर भी उतारा तो पहली बार हक़ीक़त में लंड सामने देख घबरा गई. सुनील ने मुझसे बोला- तुम अपने पैर ऊपर सीट पर कर लो … हम लोग बस तुम्हें अच्छे से देखना चाहते हैं. मैंने उसके चूतड़ पर एक झापड़ मार दिया तो वो मजा लेती लेती चिंहुक कर पीछे मुड़के मुझे देखने लगी। मैंने उंगली की स्पीड और बढ़ा दी और उसकी गांड उंगली से चोदने लगा।फिर कुछ देर बाद आनन्द से उसकी आँखें बंद होने लगी। अब मैंने छोड़ दिया उसको और बंद कर दिया उंगली से चोदना!सुशीला वहीं पर खड़ी रही और एक पल भी नहीं खिसकी वहाँ से …मैं- देख रही हो मानसी तुम्हारी माँ को? कैसे रंडी बनकर चुदवाने के लिये खड़ी है.

फिर थोड़ी देर बाद उसने अपना लंड मेरी चूत पर लगाया और एक जोरदार से धक्के से अपना पूरा लंड मेरी चूत में घुसा दिया. रेवती अब बिस्तर से खड़ी हुई और मेरे कपड़े उतारने लगी और साथ ही मुझे चूमती जा रही थी. मैंने उंगली से डिल्डो के ऊपर थोड़ा सा नारियल तेल मलते हुए, थोड़ी ताकत लगा कर लगभग तीन चौथाई डिल्डो रशियन लड़की की गांड में उतार दिया.

चोदा चोदी हिंदी में बीएफ लंड और उसकी माँ की गांड में बहुत तेल होने के कारण यहाँ भी बहुत चिकनाई हो गयी थी. मैं सोच ही रहा था कि जिस चूत को चोदने में इतना मज़ा आया, उसका रस कितना मीठा होगा.

जुदाई सेक्सी हिंदी में

इसमें छपने वाली हर चुदाई की कहानी को पढ़कर मैं अपनी चूत मैं उंगली करती हूँ. तभी झटके से उठकर मैंने उसे पकड़ लिया, वो कुछ समझे उससे पहले ही मैंने उसे बांहों में भरकर बिस्तर पर गिरा लिया और उसके नर्म मुलायम कश्मीरी सेब से लाल गालों को चूमने लगा. मैंने उसका हाथ पकड़ कर अपने लंड के ऊपर रखा और वो पेंट के ऊपर से मेरा लंड सहलाने लगी.

वो बोली- देख छोटू, मैं भी बहुत दिन से तड़प रही हूँ। पहले मैं अपनी प्यास बुझा लूं फिर तेरी प्यास भी बुझाऊंगी. मैंने उनके दोनों हाथ कस के पकड़ लिए और उनके निचले होंठ को दांतों के बीच में पकड़ लिया. सेक्स मुव्ही हिंदीमयूरी कुछ बोल भी नहीं पाती क्योंकि विक्रम उसके मुँह में ताबड़तोड़ चुदाई कर रहा होता है और अपना लंड उसके गले तक पेल रहा होता है.

आज यह मेरे जीवन का पहला सेक्स होने जा रहा था, जहाँ लड़की को मैं हीरो की तरह चोदने वाला था.

फिर अब भला मैं कहाँ पीछे रहने वाला था, ‘इसस्स … आआह …’ सिसकारी भरते हुए मैंने भी मीता की नाभि में उंगली से चुदाई शुरू कर दी और दूसरी उंगली से चूत को अंदर बाहर करते हुए दोतरफा बाहरी चुदाई शुरू कर दी. तीसरे वाले ने चुसाया था। वह हालाँकि शौकीन था और उसके साथ लंबी ट्यूनिंग चल पाती तो वह जुगाड़ बना के जब तब मजे देता लेकिन मेरी बुरी किस्मत।”उनके साइज क्या थे?”पहले वाले का तुमसे थोड़ा लंबा और थोड़ा मोटा था.

मैंने दूसरी मसाजर से कहा कि तुम इसके पांव की मालिश करो और धीरे धीरे ऊपर की तरफ बढ़ो और कुछ मत बोलना, वो कुछ कसमसाए तो भी ध्यान नहीं देना. जब वो झड़ने को हुई तो उसने अपने आप ही मेरे सर को बालों से पकड़ लिया और लिप टू लिप किस करने लगी. सुशीला- आह … हमें छोड़ दो मुनीम जी, आपको पाप लगेगा … मैं शादीशुदा हूँ … पंडित की बीवी हूँ.

नहीं तो मैं किसी भी लड़की को अपने साथ ले जाऊं, उसे कोई आपत्ति नहीं है.

उसके पूरे जिस्म को चूमने के बाद उसकी चुत के पास आया और उसकी चुत को पैंटी के ऊपर से ही चूमा. मैंने एक मिनट इंतज़ार करने के बाद जब वो नार्मल हुईं तो मैंने एक जोर से धक्का मारा. जब भी मैं उसे पीछे से गर्दन पर किस करता था, तो वो बहुत उत्तेजित हो जाती थी और मुझे भी मज़ा आता था.

बीएफ वीडियो बताइएआओ ना जीजू!मैंने देर ना करते हुए नीरू की जंघाओं को चौड़ा कर उसकी चूत के छेद पर अपने लंड को सेट किया तो नीरू बोली- अभी लंड नहीं डालना है. मुझे मालूम था कि चूत में लंड जाते ही ये फिर से चिल्लाएगी, इसलिए मैंने पहले ही अपने हाथ से उसकी आवाज रोक ली, जो बहुत तेज निकली थी.

सेक्सी डीजे वीडियो में सेक्सी

अंकल ने होंठों को चूसना शुरू किया और एक चुची भी कस कस के दबाने लगे. शिवानी ने तुरंत ही मेरी नाभि के नीचे से बियर गिरानी शुरू कर दी और तभी सोनू अचानक से मेरे लहंगे में घुस गया. उसका लिंग अभी उत्तेजित भी नहीं था, पर उसकी मोटाई और लम्बाई देख कर मैं तो डर गई.

मुझे सब प्रकार का सेक्स अच्छा लगता है, आप वाईल्ड सेक्स, डर्टी सेक्स करो या कुछ भी करो, लेकिन करो … आज मैं आप में समा जाने के लिए मरी जा रही हूँ. मुझे पकड़कर हिमांशु पीछे घूम गया और थोड़ा मुझे पीठ के बल लिटा दिया. मैं खुद सम्हाल नहीं पाया और मैं मानसी के ऊपर चढ़ गया और उसकी चूचियों को चूसने लगा।उसकी आँख खुल गयी और वो मेरा साथ देने लगी।कुछ देर बाद उसने अपने आप से ही मेरे लंड को चाटना चूसना शुरु कर दिया.

मैंने कहा- कुतिया हाथ से हिला मत, अभी मुझे तीनों की गांड मारनी हैइस पर सब हंस पड़े. इसके बाद मैंने उनको फिर से नीचे जमीन पर लिटा दिया और उनके ऊपर आ गया. मेरे मुंह से लंड शब्द सुनकर धर्मेन्द्र मुस्कुरा दिया, बोला- तो पक्का इरादा करके निकली हो तुम.

उसने मेरी कमर पे दांत से काटा, जिससे मैं नीचे से ऊपर तक सिहर गयी और मैंने आंखें बंद कर लीं. लेकिन अब मैं पछता रहा हूँ कि उस दिन अगर उससे कुछ बात हो जाती तो मुझे उसकी चूत फिर से मारने के लिए मिल जाती.

दो मिनट बाद उसने पप्पू को छोड़ा और बोली- वाह, मज़ा आ गया! मस्त लंड है.

वो हांफते हुए बोली- सही में यार तुम बहुत मस्त चुदाई करते हो … कभी मुंबई आओ, उधर की सारी लड़कियां तुम्हें चाहने लगेंगी और खूब चुदाई करवाएंगी. बीएफ सेक्स वीडियोमैंने उसे अपना लंड हिला कर इशारा किया तो झट से उसने मेरा लंड मुँह में भर लिया और 5 मिनट तक लंड चूसा. ৩ক্স ব্লু ফিল্মपहले तो बोली कि पागल है क्या … फिर मेरे ज़ोर देने पर दीदी बोली- दिलवा तो दूँ, पर ये कैसे होगा?मैंने कहा कि शाम को तुम शॉपिंग जाओ और मुझे घर छोड़ दो. फिर अपनी शर्ट उतारकर मेरे ऊपर लेटकर मेरे होंठों को चूमने लगे। मुझे बहुत मजा आ रहा था.

दूसरी तरफ मयूरी भाभी इतनी खूबसूरत थीं कि बस यूं लग रहा था कि उनको पूरा दिन चूसता चाटता रहूँ.

तब तक उसने मेरे आधे नंगे जिस्म को देख लिया और सॉरी सॉरी कहते हुए भाग गया. यह कहानी मेरे पहले सेक्स की है, जो मैंने पड़ोस के लड़के की मौसी के साथ किया था. कुछ देर बाद मैंने अपना पैर भाभी में गांड के ऊपर रख कर धीरे धीरे नीचे सरका दिया.

एक दूसरे के बारे में जानकारी करने के बाद मैंने उसका नम्बर माँगा तो बोली- नम्बर का क्या करोगे?मैंने कहा- दोस्ती की है, तो नम्बर तो देना ही पड़ेगा. उनके मुंह से साथ ही कुछ इस तरह की आवाज़ें भी निकल रही थीं- उम्म उम्म्ह… अहह… हय… याह… आआह्हह!मुझे यह सब देखकर बड़ा मज़ा आ रहा था. तो अश्लीलता से दूध पकड़ कर बोली- तो देर किस बात की है … आओ … पी जाओ मेरा पूरा दूध.

सेक्सी भाभी सेक्स सेक्स

पापा भी जब आते हैं और मम्मी से जब लड़ाई होती है तो सब पुरानी बातें बोल देते हैं. कार में मैंने उसके अन्दर भभक रही कामाग्नि को और भी हवा दी- अरे मेरे दोस्त कल तेरी बहुत सराहना कर रहे थे. उसने अपने होंठों को भींच लिया, सिर ऊपर उठा लिया और नाक से सीत्कार भरने लगी.

फिर मैंने उनकी कमर के नीचे से हाथ डाल कर ब्रा का हुक खोल दिया और उनकी चुचियों को आज़ाद कर दिया और उनके चूचों को चूसने लगा और काटने लगा.

दिल तो हुआ कि जाकर उनके आंसू पोंछ दूँ और अपनी बांहों में ले लूँ, मगर मजबूर था.

समझी नहीं मैं?उसने कहा- क्या एक दिन के लिए आप मेरे साथ बाहर घूमने चलेंगी. उसने मुझे हिलाते हुए देखा तो वो कहने लगी- भाई क्या कर रहे हो?उसकी आवाज सुनकर मैं एकदम से घबरा गया और मैंने अपना लंड अपनी पैन्ट में डाल लिया. हिंदी बीएफ वीडियो सुहागरातमैंने अपने हाथ शिवानी के कंधे पे रखे हुए थे और शिवानी बियर उड़ेल रही थी.

मेरे इशारे पर स्टीव ने झुक कर उसके एक पाँव को अपनी गोद में रखा और टांग पे हाथ फेरने लगा, पर बीवी एकदम से कुर्सी से उठने लगी. आओ ना जीजू!मैंने देर ना करते हुए नीरू की जंघाओं को चौड़ा कर उसकी चूत के छेद पर अपने लंड को सेट किया तो नीरू बोली- अभी लंड नहीं डालना है. मैंने भाभी के कमरे में देखा तो भाभी भी शायद नहा ही रही थीं, शावर की आवाज आ रही थी.

उसने पैंट पहनी हुई थी और मुझे उसके लंड की हल्की सी शेप उसकी पैंट में दिखाई दे रही थी. वो जरूर मेरा तुम्हारा साथ जाना इस बात से जोड़ कर देखेगी कि तुम आज दिन भर मेरे साथ अकेली थीं.

एकदम गोरा रंग है उसका।इसी तरह से पिकअप करवाते हुए कुछ दिन गुजर गए फिर एक दिन सबा ने मुझसे कहा कि अगर आप मुझे काल कर बता दिया करें कि गाड़ी आ रही है तो मुझे पिकअप प्वाइंट पर पहले से पहुँच कर खड़ा नहीं होना पड़ेगा.

फिर उसने मुझे अपनी सहेलियों से मिलवाया, एक का नाम था हिमिका, वो 24 साल की होगी. क्यूँ?विक्रम- पा… पा… वो… आपको पता है?शीतल- क्या?शीतल इस बात से अनजान थी और उसके लिए ये बात एकदम नयी थी. जैसे ही वो अन्दर आया, मैंने गिरने के बहाने से उसे पकड़ लिया और गले से लगा लिया.

सेक्सी बीएफ सेक्सी सेक्सी ये जानते ही मैंने उनको अपनी तरफ घुमा लिया और उनके पैर को ऊपर करके अपनी कमर पर रख लिया. उसे भी बहुत मज़ा आने लगा तो मैंने फ्रंटियर मेल की रफ्तार से उसकी चूत चुदाई आरम्भ कर दी.

मैं अमीश के लैपटॉप पर काले हब्शी वाली चुदाई की फिल्म लगाकर बैठ गया. तब मैं बोला था कि मेरे एक अंकल हैं, उनको भी ले आऊं? तो वन्द्या बोली थी कि जिनको जिनको लाना है ले आओ, उस वक्त उसने बहुत मस्त बात की थी, तब लालजी इसकी चूत चाट रहा था और एक इसकी बहन का लड़का पीयूष भी इसके साथ बिस्तर में था. वो बोला- उठने की कोशिश करो!मैंने उठना चाहा, पर नाटक करते हुए फिर से बैठ गई और बोली- ऊंह … नहीं उठा जाता, सहारा दो मुझे.

पहली सेक्सी वीडियो

जबकि तुम्हारी दीदी को चोदते चोदते तो मेरा मन भर गया है, इसलिए मैं कभी कभी अपने पड़ोस की गर्लफ्रेंड को भी चोद लेता हूँ. उसके बाद मैंने 5 मिनट तक सोनाली की गांड भी मारी औऱ मैं सोनाली की गांड में झड़ गया. वो भाग कर मेरे सामने आई और बोली- प्लीज यार किसी से मत कहना … मम्मी मार डालेगी मुझको.

सतीश बोला- मेरे दो-तीन दोस्त भी आएंगे … वे भी बड़े लोग हैं … तुझे चलेगा न … हम लोग बड़ी गाड़ी में आएंगे. तब हिमांशु बोला- सतीश भाई, बहुत ज्यादा चाटने चूटने में टाइम मत निकालना … नहीं कोई आ जाएगा.

उसने बताया कि जीजू का औजार बहुत बड़ा और ज़बरदस्त है और वो उसको बहुत जबरदस्त तरीके से चोदते हैं.

उसने मेरे कंधे पर हाथ रखा और गार्जियन की तरह समझाने लगा- नन्दिनी जी, यह रास्ता बहुत फिसलन भरा है. कुरेदते हुए ही मैंने आसानी से चूत में घुसी उंगली को फटी हुई गांड से अन्दर ही अन्दर बाहर निकालना शुरू कर दिया!वाउ! मेरे छेदों की तो आज तुम लोगों ने कतई बैंड बजा डाली!! मुझे लग रहा है कि इनमें तो आज कोई ट्रेन भी आराम से निकल सकती है!” नताशा ने हँसते हुए चुहल की तो दीमा संग हम दोनों ने भी उसकी हंसी का साथ दिया. फिर उसके होंठों को अपने होंठों से सटा कर उसे किस करने लगा और धीरे से उसकी ब्रा को निकाल कर उसके मम्मों को बारी बारी चूसने लगा, जिससे वो भी आह अह करने लगी और मेरा सर अपने बूब्स पर दबाने लगी.

शिवानी फटाफट आयी, सोनू ने कहा कि धीरे धीरे ये बोतल से बियर अपनी मम्मी के लहंगे में डालती जाना. उन्होंने अपनी आँखें बन्द कर रखी थीं और अपने हाथों से मेरा लंड ढूँढ रही थी. रोज रात को अपनी खिड़की खोल कर रखती और मेरी खिड़की के खुलने का इंतजार करती.

‘अअह … औय …’ की आवाज करते हुए नेहा ने अपने दोनों हाथों से मेरे हाथ को पकड़ लिया और‌ उसे खींचकर अपने लोवर से बाहर निकालने की कोशिश करने लगी.

चोदा चोदी हिंदी में बीएफ: एक औरत कामवासना के वशीभूत हो क्या क्या कर गुजरती है, मेरी इस कहानी में पढ़ें!दोस्तो, मेरा नाम रूपा राठौर है, मैं 39 साल की एक शादीशुदा औरत हूँ. मेरी उम्र 21 साल की है और मैं बाकी लोगों की तरह झूठ नहीं बोलूंगा, पर मेरे लंड महाराज का साइज 8.

मैंने कहा- हां सासू माँ, आज तो मैं आपकी और मेरी दोनों की हर इच्छा पूरी कर दूँगा. अब तक की इस सेक्स स्टोरी के पहले भागग्रुप सेक्स का ऑनलाइन मजा-1में आपने जाना था कि मुनीर तारा और माइक का थ्री सम सम्भोग चल रहा था, जिसे मैं ऑनलाइन देख रही थी. अब कम्मो भी चुम्बन में मेरा साथ देने लगी थी और उसकी पैर स्वयमेव खुल से गये थे.

वो मेरी चूचियों को ऐसे चूस रहे थे जैसे उनको बहुत दिन से मेरे जैसे चूचे चूसने के लिए नहीं मिले हों.

मेरे मुंह से लंड शब्द सुनकर धर्मेन्द्र मुस्कुरा दिया, बोला- तो पक्का इरादा करके निकली हो तुम. कहानी का पहला भाग:विशाल लंड से चुदाई का नया अनुभव-1अब तक आपने पढ़ा था कि मुनीर अपनी कमर में बैल्ट से नकली लिंग बाँध कर किसी आदमी की गुदा को भेद रही थी. दोस्तो, मैं पीहू …एक बार फिर से आप सभी के सामने अपना एक और सच्चा सेक्स अनुभव लेकर आया हूँ.