श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,ka सेक्स वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ लखनऊ की: श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ, मैंने तो अभी अपना सुपारा ही तुम्हारी बुर के अन्दर डाला है, इसमें ही तुम्हारा यह हाल है, तो पूरा लंड तुम्हारी बुर में जाएगा.

वॉलपेपर लड़कियों

सारा घर खाली होने की वजह से हमारी चुदाई की आवाज़ भी सारे हॉल में गूँज रही थी. তামিল সেক্স ফটোसलोनी- आआह्ह्ह …मैंने दो उँगलियों से उसके निप्पल को ज़ोर से मसल दिया.

फिर वो कुतिया की तरह बिस्तर पर पोजीशन बना कर बोलीं- आ मेरे कुत्ते, अपनी इस कुतिया की चूत को अपने लंड से निहाल कर दे, आ मेरे लाल. वीडीयो सेकसीउसकी कमर को चूस करके मैंने लाल कर दिया और फिर धीरे धीरे में उसके चूचों को दबाने लगा.

मैंने उनसे पूछा- क्या आपको जाने की जल्दी है?उन्होंने कहा- नहीं बस उनका ध्यान रखना पड़ता है … ज्यादा ड्रिंक न करें, नहीं तो ऊपर लाना मुश्किल होगा.श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ: मैंने उसे रुकने को कहा और हम लोग सामने टीवी पर इन्टरनेट कनेक्ट करके उस पर पोर्न मूवीज देखने लगे.

जब मैंने पूछा- भाभी, आपको चुदवाये कितने दिन हो गए हैं?तो भाभी उदास हो गई और कहने लगी- मुझे नहीं पता कितने साल हो गए हैं, जब यह छोटा हुआ था उसके बाद हमने एक दो बार किया है.अमित का एक हाथ मेरी कुर्ती के अंदर सरक गया और सुरक्षा कवच के अंदर गंतव्य स्थान पर पहुंच कर उसने मेरे उरोजों को सहलाना शुरू कर दिया.

इंडियन फुल सेक्स - श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ

फिर हम लोग ने बाइक पान दुकान के पास लगाई और उसकी गाड़ी में बैठ कर बार पहुंच गए.फिर मैं उसे बेडरूम में ले गया और उस पर किसी कुत्ते की तरह टूट पड़ा.

फिर मैंने उनसे जाने की अनुमति मांगी, तो उन्होंने भी थोड़ा मजाकिया अंदाज में कहा- प्रधान जी, आप पक्का चल पाएंगे ना, कहीं मुझे फिर से आपको कंधे का सहारा ना देना पड़े. श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ फिर मेरे से उसने पूछा- कभी इसे टेस्ट किया है ना?मैंने कहा- हाँ बहुत बार.

अगले 15 दिनों में ही उसके अलग अलग लड़कों के साथ किये गए करतूत हमारे सामने आ गए.

श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ?

कुछ ही देर बाद मेरा रस निकलने वाला था, तो मैंने उसके मुँह से लंड निकाल कर उसके मम्मों पर पूरा माल निकाल दिया. इस समय गाड़ी में बैठते ही वो मुझसे बस इतना ही बोल पाई- जीजू, जल्दी चलिए … यहां से निकलिए. मैंने हताश होकर पर्ची को पलट कर देखा, शुक्र था कि उस गंदे लव लेटर के पीछे एक एस्से टाइप क्वेस्चन का आन्सर भी लिखा हुआ था.

खैर, शाम को भाभी को चोदने के ख्याल से मैं अन्तर्वासना की सेक्स स्टोरी पढ़ के अपने लंड को हिला रहा था. मैंने कहा- ठीक है, आप ऑफिस पर आ जाओ, मैं हाथ के हाथ टिकट करवा देता हूँ. वह दबे पांव बाहर आया और चुपके से सीढ़ियों पर से होते हुए छत पर वापस चला गया.

इसी तरह से हम दोनों लोग चुदाई करते करते पूरी मस्ती से एन्जॉय कर रहे थे. मेरे दिमाग में फिर से वही सब सवाल चलने लगे, जो दोपहर में चल रहा था. मेरा मन बार बार उनकी चूत को चाटने का कर रहा था, परन्तु उनकी बड़ी बड़ी गोरी चूचियां और उन चुचियों पर बड़े बड़े काले निप्पल मुझे बार बार अपनी ओर बुला लेते थे.

करीब 15 मिनट तक चूमने के बाद मैंने भाभी से कहा- कल मेरा एग्जाम है तो सुबह मुझे जल्दी उठना होगा. अगर आपको कहानी पसंद आई तो मैं और भी मजेदार कहानियों को लेकर हाजिर होता रहूँगा.

उसे अगर पता होता कि इनकम टैक्स ऑफीसर उसकी गांड की बैंड बजाएगा, तो शायद वो इतनी मेहनत नहीं करती … पर होनी को कौन टाल सकता है?अब रवि ऋतु की गांड के छेद को चाटने लगा.

पर शुरू के कुछ पल तो ऐसे हिचकी लेने जैसा उठता और फिर लटक जाता और मैं बुरी तरह से गर्म होकर व्याकुल हुए जा रही थी कि कब ये खड़ा होगा और मेरे भीतर आएगा.

मैं और मेरी सास पूरे 12 साल लिव इन रिलेशनशिप में रहे, जिसके बाद काम्या उसे अपने साथ ले गयी और मैंने भी एक तलाकशुदा से शादी करके घर बसा लिया. उस पर मैंने लिख दिया कि जिस भी औरत को मेरी सर्विस चाहिए मुझे कॉन्टेक्ट करे. फिर मैं अपने कपड़े उतार कर जैसे ही उसके ऊपर लेटा, उसको जैसे करंट लगा हो, वो ऐसे हिल गई.

मैंने जैसे-तैसे करके अपने खड़े हो चुके लंड या यूं कहें कि अपने बुरे तरीके से तनाव में आ चुके लंड से पेशाब किया और अपने अंडरवियर में अपने खड़े लंड को ऊपर की तरफ सेट करके सीधा कर लिया ताकि वह उन दोनों को खड़ा हुआ दिखाई न दे. साथ ही नीना ऊपर-नीचे सांस छोड़ने लगी जिससे चूचियां भी ज्वार-भाटा की तरह हरकत करने लगीं. उसने यह कहते हुए अपनी टांग उठा कर मेरी कमर पर रख दी, जिससे उसकी नंगी चूत का गीलापन मुझे महसूस होने लगा.

उसकी तनी हुई चुचियों का साइज 34 इंच का है तथा उसकी गांड का साइज 36 इंच के करीब है.

एक दिन तो मैंने अपनी चूत को शांत करने के लिए एक रिक्शे वाले से चूत को चुदवा लिया. पहले यौवन का रस और मैं राहुल उसको चाटता, सहलाता और पीता हुआ!उफ्फ्फ … सलोनी का ऐसा सौंदर्य कई गोरी चिट्टी लड़कियों को भी मात दे रहा था. प्रिया ने रोते हुए कहा- क्या करूँ!वो बहुत देर तक रोई, फिर बोली- छोड़ो इन बातों को, मेरी वजह से आप लोग क्यों परेशान होते हो.

फिर उन्होंने मुझे सोफे पे बिठा दिया और कहा- आज आप यहीं रुक जाइये, कल चले जाइएगा. वो मुझे मना तो कर रही थी, लेकिन मुझसे अलग होने का प्रयास नहीं कर रही थी. भाई जब तक एक महीने की छुट्टी से वापस आए तो भाभी प्रेग्नेंट हो गई थी.

मैं लंड के मजे लेते हुए सोचने लगी और दिमाग लगाया कि ये लगता है वही है, जिसने मेरा थोड़ा सा लहंगा उठा और मुझसे चिपके हुए निहाल को देख लिया था और फिर उसने निहाल से बहस भी की थी.

मैं भी बहुत देर से भरा खड़ा था, तो मैंने भी सोचा चलो एक बार पानी निकाल ही लेता हूँ. ‘ओह माई गॉड!’ क्या कमाल की चिकनी और मलाई जैसी गोरी और छोटी सी सुन्दर चूत दिखाई दी.

श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ मैंने आंटी के बालों को पकड़ लिया और एक हाथ गांड पर रख कर लंड को चूत में धकेलने लगा. जब मुझे लगा कि मेरा लंड थोड़ा सा उसकी गांड में चला गया है, तो मैंने अपना लंड पूरा घुसाने के लिए थूक टपका कर लंड का दवाब बना दिया.

श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ मैंने एक हाथ उसकी चुत पर रखा, तो पता चला कि उसकी चुत पूरी भट्टी की तरह जल रही थी … जो ज्वालामुखी की तरह गर्म थी. मैंने उसकी कमर में हाथ डाला और उसको थोड़ा सा उठा कर अपना मूसल लंड फिर से उसकी गांड में जोर देते हुए पेला.

अभी तेरे भाई को बोलता हूँ, कहीं अच्छा रिश्ता ढूंढे … तेरा भाई तो कब से कह रहा है, पर मैं ही उसको टालता रहता था कि माया अभी छोटी है.

जापान जापान सेक्सी वीडियो

वो मेरे सामने गहरे गले का टॉप पहन कर बैठ जाती और बीच बीच में अपने दूध दिखाते हुए कहती- मेरे भी तो मस्त हैं, देखो न?उसकी इन बातों से मुझे लगने लगता कि इसको पकड़ कर चोद ही दूँ. उन्होंने ये भी बताया कि पीरियड से ये पता चलता है कि अब लड़की बच्चे पैदा करने के लिए तैयार है. मैंने दोनों को अपने से चिपका लिया और कहा- यह मेरे लिये एक सरप्राईज़ ही था कि औरत इतनी लम्बी धार मार सकती है.

साथ ही मैंने भी अपनी कामकला का प्रदर्शन करके डॉली की प्यारी चुत को चोद के रस निकाल लिया, फिर नहा कर बाहर आ गए. तुझे रंडी बाजी करने का छिनाल बनने का इतना शौक है, तो हमारे घर के लड़कों को क्यों फंसाया. अन्तर्वासना पर ये मेरी पहली रियल सेक्स स्टोरी है, जो कि मेरे और मेरी भाभीजान के बीच की है.

एक ही दिन में दो नयी बीवियां … एक कटरीना जैसी और दूसरी ज़रीन खान जैसी.

दोनों चिल्लाने लगीं- आआआ … उईईईई … मादरचोद लम्बी रेस के घोड़े … यू फक सो गुड …वे दोनों तरह तरह की आवाजें निकाल रही थीं. मैंने दोनों की टांगें ऊपर उठवा कर दोनों की गांड साथ साथ में बिस्तर के कोने में लगा कर, बारी बारी से लंड दोनों चूतों में अन्दर बाहर करने लगा. जब उन्हें अच्छा लगने लगा और उनके डर पर मज़ा हावी होने लगा, तभी मैंने एकाएक दोनों उंगलियों को अन्दर घुसा दिया.

उसने फिर पूछा- बताइये न रीना जी? मैं आपके जवाब का इंतजार कर रहा हूँ. इतने में स्टेशन आया, तो मैं बदनामी के डर से उस डिब्बे से उतर गया और उस लड़के से आंख बचा कर दूसरे डिब्बे में चढ़ गया. यह कहते हुए उस ने अपना टॉप उतार दिया और एकदम नंगी हो कर मेरे सामने खड़े हो गयी.

फिर इसके बाद तो उस का हाथ मेरे पीछे तरफ अपने आप मेरी कूल्हों में चलने लगा और उसका लंड भी दोनों चलने लगे. सारा के बाद जरीना की सील तोड़ने का मदमस्त चुदाई का खेल आपकी खिदमत में अगले भाग में पेश करूँगा.

अब तुम मुझे भाभी नहीं बुलाओगे … तुम्हारे लिए एक और सरप्राइज है मेरे पास!मैंने पूछा- क्या …शारदा बोली- मैं अभी तक आधी कुंवारी ही हूँ. इस दौरान मैंने दो महीने तक सेक्स नहीं किया था, इसलिए मेरे पूरे बदन में सेक्स चढ़ने लगा था. कह के भाभी के एक मम्मे पर अपना मुंह लगाकर चूसने लगा और दूसरे मम्मे को अपने हाथ से दबाने लगा।भाभी बोली- मैं भी चार दिन से चुदी नहीं हूं, अब फटाफट चोद दो बस।भाभी भी मस्ती में आकर बोल रही थी- ऊऊउह्ह हाआआ … और जोर से चूसो रमेश … बहुत अच्छा लग रहा है.

अगले कुछ मिनटों की मेहनत के बाद योनि ने अपना प्रसाद कामरस की धार के रूप में उसके लिंग पर बरसा दिया.

भाभी जी के बात करने के तरीके से लग रहा था कि वह पूरी तरह से चुदासी हो गई थीं. राहुल ठोकर पर ठोकर मार रहे थे और मेरी चूत फचफचा रही थी। राहुल मैं झड़ रही हूँ … आहह्ह्ह … ठोको अपना लंड … चोदो … फाड़ दो मेरी चूत. एक दिन उसने बताया कि अब उसके पति मुझे बहुत प्यार करने लगे हैं, बिस्तर पे भी अब वो बहुत रोमांटिक होते हैं और मेरे साथ प्यार से ही सेक्स करते हैं.

जब उसका लिंग मेरी योनि से स्वयं ही बाहर आ गया तो उसने उठते हुए अपने मोबाइल में टाइम देखा. अब आगे: मैं बेड पर लेटा हुआ था लेकिन मुझे नींद नहीं आ रही थी और सोचने लगा कि कैसे शुरुआत की जाए.

मैंने भाभी से पूछा- क्या प्रोफेसर साहब का इतना बड़ा नहीं है?तो भाभी कहने लगी- प्रोफेसर साहब तो नाम के ही आदमी हैं, बाकी उनमें कुछ नहीं है, उनका लंड तो बिल्कुल छोटा सा है, लगभग 3 या साढ़े 3 इंच का होगा और वह भी उनके टट्टों के अंदर ही घुसा रहता है. भैया मेरे दूध दबा कर बोले- चुप रह साली रंडी … अब तू मुझे समझाएगी कि क्या छोटा होता है और क्या बड़ा होता है … मैंने कइयों के छेद फाड़े हैं. अगर उन्होंने देख लिया तो मैं मम्मी को मुँह दिखाने लायक नहीं रहूँगी.

इंडियन सेक्सी बीपी साडीवाली

चोदाई के बाद हम दोनों ही बिना कपड़ों के ही लेटे हुए थे, तब मैंने उससे पूछा- तुम रंडी का काम ज़रूर करती हो, पर तुम रंडी तो नहीं हो, सही बात क्या है?उसने कोई जवाब नहीं दिया.

जब उसका लंड खड़ा हो गया तो उसके बाद उसने मुझे लेटाया और अपना 9 इंच का लंड मेरी चूत पर टिकाते हुए बोला- जान, जरा संभाल लेना. मैंने उनको अपना तौलिया देते हुए कहा- आप ये तौलिया ले लो और बाथरूम में चली जाओ, मैं तब तक आपके लिए चाय बनाता हूँ. मैंने दोनों निप्पलों को एक साथ मुँह में ले लिया और चूसने लगा और काटने लगा.

जब हम पहुंचे तो वहां पर 2-3 पेशेंट ही बैठे थे। आखिर में मेरा ही नम्बर था. उसने मिशिका की टांगों को फैला दिया और उसकी चूत को जीभ से चाटने लगा. लड़की और डॉग सेक्सीमैंने बैग से कंडोम का पैकेट निकाला और एक कंडोम अपने लंड पर चढ़ा लिया.

वहां से गाड़ी सीधा राजू के पान दुकान में रुकी, मदन ने कुछ ज्यादा ही पी ली थी, तो मैंने झा जी से कहा आप दोनों मेरे घर जाइए. टाइट भी हैं। फिर उन्हें सहलाते हुए, खेलते हुए मेरे चूचकों को मसलने लगे.

मुझे मेरी कज़िन सिस्टर अविका शुरू से ही बहुत मस्त लगती थी और मेरे मन में कहीं न कहीं उसको चोदने की ललक थी. मुझे भी इतना मजा आ रहा था कि मैं चुदास की मस्ती में ख़ुशी के मारे चिल्ला रही थी. जब से अपनी गर्लफ्रेंड को चोदा था, तब से हर दिन चुदाई करने का मन करता था.

भैया मेरे पास आए और मुझसे भागता न देख कर बोले- क्या हुआ तू भागी क्यों नहीं?मैं बोली- भैया मेरी ब्रा पानी के अन्दर चली गई है. ‘आपके दोस्तों के साथ कार्यक्रम कैसा था … आपको देख के मज़ा आया?’‘तू मस्त चीज़ है, कमाल कर दिया. नेहा को तो तूने बहुत चोदा है अब मुझे भी चोद … आ … आह्ह … बोल कर संध्या फिर से झड़ने को हुई तो मैंने भी अपनी स्पीड बढ़ा दी.

मैंने उसको सहारा देते हुए अपने कंधे के साथ लगाया और उसको अपने साथ लेकर चलने लगा.

लेकिन ये फर्स्ट टाइम था जब मैं किसी लड़के के साथ लिप किस कर रहा था. लेकिन मुझे भी उसके साथ सेक्स का मजा लेना था … इसलिए मैंने उसको कुछ भी नहीं कहा.

मैं जोर से चिल्लाने लगी, पर कार बंद थी … इसलिए आवाज बाहर नहीं निकली … न किसी को सुनाई दी. फिर मैंने उनसे अपना लंड चुसवा कर साफ़ करवाया और उनकी चूत चाट कर साफ़ की. मेरे घर से थोड़ी ही दूर पर एक घर था, जिसमें एक छोटा परिवार रहता था और मैं उसी में रहने वाली एक लड़की से प्यार करता था.

चूंकि मम्मी पापा के मुझे केवल चूतड़ ही दिखाई दे रहे थे इसलिए वह मुझे नहीं देख सकते थे. आप ही सोचिये अगर आपको चार दिन खाने को ना मिले, तो आपकी हालत कैसी होगी?पापा बोले- तुम कहना क्या चाहती हो? मैं भूख से पागल हो जाऊंगा और क्या?मम्मी बोली- मेरी बच्ची की भी हालत ऐसी है, आप समझ रहे हैं ना, उसकी शादी कर दो, सब ठीक हो जाएगा, घर की लक्ष्मी को कोई जानवरों तरह पीटता है क्या? वो तो अभी नादान नासमझ है. अब आगे:मैं उसके पास चली गई, तो उसने मुझे पीछे दीवार की तरफ खड़ा होने को बोला.

श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ एकदम से बूब्स उछल गए और मैंने बहन की ब्रा को उतार कर फेंक दिया। उसके बूब्स मुँह में ले कर चूसने लगा और दबाने लगा और कभी निप्पल को काट भी देता और वो जोर से उम्म्ह… अहह… हय… याह… करने लगी और कहने लगी- भाई धीरे करो ना, दर्द होता है।उसके बाद मैं धीरे से उसकी नाभि में जीभ को फिराने लगा और चूसने लगा तो वो तड़पने लगी और अपनी आँखें बंद करके मजे लेने लगी और जोर से सिसकारियां लेने लगी. उसके बाद एक और … एक और … और कितनी बार धार निकली, मैं तो जैसे आसमान में उड़ गया। कितना आनंद, कितना मज़ा।मेरे लंड से निकले सफ़ेद पानी ने मॉम और आस-पास का बिस्तर भी गीला कर दिया। मैं मॉम के ऊपर ही गिर गया। मॉम ने अपने गाल से मेरे सफ़ेद पानी को अपनी उंगली पर लिया और चाट लिया.

सेक्सी वीडियो फिल्म चित्र

उसने मेरी बीवी की गांड में ही अपना गरम गरम माल छुड़ा दिया और हट गया. तभी मुझे पता नहीं चला कि पीछे बैठी लेडीज कब चली गईं, उधर कुछ रस्म हो रही थीं. मैंने कहा- तो क्या आपके पहले पति ने आपकी आधी सील ही तोड़ी थी?वह बोली- हां, बाकी की आधी भी वह तोड़ना चाहते थे लेकिन मैंने मना कर दिया था.

बात करने पर पता चला कि वह दो हजार रूपये में पूरा महीना खाना खिलाता है. मैं उसकी एक अनछुई चुचि को हाथ में लेकर दबाने लगा और दूसरी चुचि को होंठों से दबा कर पीने लगा. बच्चों वाला सेक्सी वीडियोबस अब क्या था, मैंने उनकी कमर पकड़ कर अपने पास खींचा और लंड पेल कर तेज़ तेज़ धक्के देने चालू कर दिए.

मेरे लंड ने उसके गर्म मुंह में फिर से अपना वीर्य छोड़ना शुरू कर दिया.

मैंने उसे नीचे किया, उसकी दोनों टांगों को फैलाया और अपने लंड से जोर जोर से उसकी चूत पर चाबुक चलाने लगा. हम दोनों लोगों के जिस्म की गर्मी निकल चुकी थी और इस वक्त हम दोनों को एक दूसरे से चिपक कर चुम्मियां लेने में बड़ा मजा आ रहा था.

मिसेज रॉय का परिचयमैं अपनी पिछली कहानी में बता चुका हूँ, जो हमें क्लब में मिली थीं. फिर मैंने एक हाथ से उसके बाल पकड़े और दूसरे हाथ से उसकी कमर को थामा. लगभग 4 साल से मैं कुंवारी की तरह से रह रही हूँ, हम तो सोते भी अलग-अलग हैं, प्रोफेसर साहब तो बच्चों को पढ़ाने के बाद ड्राइंग रूम में ही दीवान पर सो जाते हैं और मैं बच्चों के साथ बेड पर सोती हूँ.

मैंने पंकज को अपनी तरफ खींच लिया जिससे उसका लंड मेरी चूत पर फिसलने लगा.

वो भी पूरा गरम और उत्तेजित हो गई थीं और जोर जोर से सीत्कार भरने लगीं. अभी तक मैंने कल्पना का चेहरा देखा नहीं था, तो मैं इस समय उनकी उम्र बताने की अवस्था में नहीं था. मेरी जो 20 साल वाली बहन है उसका नाम मिशिका है और जिसकी उम्र 22 साल है उसका नाम राशिका है.

सेक्सी वीडियो पंजाबी मेंदीवार की तरफ मुँह करके वह लेटा हुआ था और मैं भी जाकर राहुल के पीछे लेट गयी. मगर किस्मत से मेरा इंटरव्यू अच्छा नहीं गया और मैं उदास होकर वापस आ गया.

नेपाली सेक्सी हिंदी वीडियो

मैंने धीरे से हाथ नीचे ले जा कर उसके ब्लाउज़ के सारे हुक खोल दिये और उसकी चुचियो को मसलते हुए उसके निप्पलों को खींचने लगा. उस दिन का नाश्ता भी जग ने ही बनाया था और मेरे पति जाने से पहले जग को बोल गए थे कि मेरे पूरा ध्यान रखे और उस दिन जग ने वैसा किया भी. उसके बाद दोनों वहां से निकल गए और मैं भी उनके पीछे पीछे ही पब से निकल गया.

माँ ने मुझे उनका फोन नम्बर दे दिया था ताकि मैं उनसे फोन पर बात कर सकूँ. मेरे बूब्ज़ बिल्कुल तने हुए रहते हैं और मेरे हिप्स मेरा पॉइंट ऑफ़ अट्रैक्शन हैं एकदम गोल और पीछे को निकले हुए, बिल्कुल शेप में! इन्हें देख के बहुत सारे लोग मुझे लाइन मारते हैं और पटाने की कोशिश करते रहते हैं. आखिर शिखा ने ऐसे बिहेव क्यों किया आज?रात को जब दस बजे का टाइम हो गया तो दीदी की आवाज आई कि खाना रेडी हो गया है.

अपना मुँह मैंने भाभी के मुँह में घुसा कर उन्हें जोर से हैवान के तरह जीभ डाल कर चूमने लगा और साथ में दो उंगली भाभी के गर्म चुत में पेल कर पूरे ज़ोर ज़ोर से अन्दर बाहर करने लगा. एकता ने अपने मुँह से बोला- ऊओह्ह्ह्ह सक माय एस उह्ह्ह्हह … यू सक गुड … सक माय एस. फिर वो भी कुतिया बनकर बोली- मेरी गांड और चूत का भी भला कर दो लंडराज.

खाने के बाद राहुल ने टीवी चालू करके ब्लू फिल्म लगाई, हम तीनों फिल्म देखने लगे. यह बोल कर वो मेरे ऊपर आ गयी और खुद चूत में लौड़ा टिका कर मेरे ऊपर उछलने लगी.

जब उसका दर्द कम हुआ तो मैंने एक और ज़ोरदार धक्का मारा जिससे कि मेरा पूरा लण्ड उसकी चूत में घुस गया। वो दर्द के मारे कराह रही थी। फिर मैं कुछ देर तक रुका रहा, जब उसका दर्द थोड़ा कम हुआ तो मैं अपना लण्ड अंदर-बाहर करने लगा.

फिर बहुत सारा थूक मेरी गांड के छेद में लगाकर मुझसे बोले कि सोनू तेरी गांड चोद दूं?मैं बोली- हां अंकल, आपको कभी मना करूंगी. सेक्सी व्हिडिओ हिंदी सेक्सी व्हिडिओवो मुझे प्रथम श्रेणी के उस केबिन में ले गया जिसमें सिर्फ दो ही बर्थ होते हैं और बोला- आप यहाँ आराम कीजिये, मैं यात्रियों की टिकट चेक करके आता हूँ. ज्वालामुखी पिक्चरदेख लीजिए सर … अब इसकी जिंदगी और इज़्ज़त आपके ही हाथ में है!” मैडम भी कुछ अजीब से तरीके से उनकी ओर देखकर मुस्कराई।पूछ तो रहा हूँ … क्या करूँ? ये कुछ बोलती ही नहीं …” उनकी वासना से भरी आँखें लगातार मेरे बदन में ही गड़ी हुई थी. तभी वह मेरे नीचे मेरी नंगी टांगों से लिपट कर एक उंगली, मेरी चुत की जो रेखा थी, उस पर चलाने लगे और बोले- हां तू मेरी सेक्सी भांजी है.

डेविड ने मेरी कच्छी हटा दी और अपनी दो उंगलियां सीधे अन्दर तक घुसेड़ दीं.

सीमा ने देखा कि मुझे सर्दी लग रही है तो उसने अपना शॉल मुझे ओढ़ने के लिए दे दिया. वो मेरे सर पर अपना दूसरा हाथ रख कर मुझे अपने से दबाते हुए कह रही थी- आह … अभिलाष आज मेरी प्यास बुझा दो. मैं- अरे यार ट्रेनिंग पे थक जाता हूँ, अब उठ गया हूँ तो खाना खाने बाहर जाऊंगा.

मैंने उसको किनारे पर खींच लिया और दोबारा से प्रयास किया मगर इस बार भी लंड चूत में नहीं जा पाया. फिर झा जी ने मुझे थोड़ा साइड में आने को कहा- ये क्या है सर? वो लड़का कैसी हरकत कर रहा है और आप भी मजे ले रहे हैं … कोई देख लेगा तो क्या बोलेगा सर?मैं- कोई नहीं देखेगा … मैं इस लड़के के साथ हफ्ते में 3-4 दिन यहां आता हूँ. मैंने सलहज इंदु को बोला- भाभी, आपकी गांड बहुत मस्त है, एक बार इसे भी चोदने दो.

कुत्र्याची आणि बाईची सेक्सी व्हिडिओ

तभी उसने मेरा पायजामा उतारा, अंडरवियर नीचे किया और लंड पकड़ कर अपनी चूत पर फिराने लगी. मैंने कहा- अभी हमारी शादी नहीं हुई है भाभी … शादी होनी तो अभी बाकी है. मैंने उसकी भावनाओं का ध्यान रखते हुए घर वालों से शादी की मना कर दी.

जब उसका छूटने वाला था, तो उसने मुझे बिस्तर पर पटक लंड घुसाकर तेज़ झटके दिए और दोनों एक साथ झड़ गए.

लेकिन जैसे जैसे मैं बढ़ती गई, वैसे ही मेरे जीवन में हर बार एक अलग आदमी आता गया.

मैं भी बोल रहा था- यस मेरी हॉट दीदी मैं आज तुझे चोद चोद कर रंडी बना दूँगा … आह ले मेरी दीदी मेरा लंड ले आह. मैंने नीरू से कहा- बहन एक बार मुंह में तो लेकर देख ले कैसा लगता है लंड का स्वाद!वह मना करने लगी, बोली- नहीं, मुझे मुंह में नहीं लेना है. अच्छी अच्छी कहानियांमेरी सेक्स करने की पिपासा मुझे बहुत गरम करे जा रही थी, मैं एकदम से बेकाबू सांड सा हो गया था.

जैसे ही मैं और जोर से उसकी चूत को चाटने लगा, ज़रीना पागल हो गई- ओह आमिर … ये क्या कर रहे हो, आज तक ऐसा मजा नहीं आया, हाय अल्ला मुझे बहुत अच्छा लग रहा है. शाम को मैं अपने चचेरी सलहज इंदु के घर गया, उसने भी मेरी काफी आवभगत की. मैं अपने खड़े लंड को छिपाने के लिए एक तरफ घूम गया तो मामी ने पूछा- क्या बात हो गई मेरे प्यारे हैरी?मैंने कहा- आप मुझे मेरे प्यारे हैरी क्यों कह रही हो?मामी ने कहा- तुम मेरे एकलौते भान्जे जो हो.

राहुल के पास मैंने सामान रख दिया और राहुल से बोली- राहुल मैं अभी आती हूँ. उसकी पैंटी को हाथ से सहलाया तो पता चला वह पहले से ही गीली हो चुकी थी.

मैं लोवर में था और भाभी मैक्सी में अन्दर ब्लैक कलर की ब्रा पेंटी पहने हुई थीं.

मेरा लंड अपने पूरे आकार में आ चुका था और 7 इंच लम्बा हो चुका था जिसे आंटी पूरा का पूरा अपने गले में उतार रही थी. थोड़ी देर बाद दोनों ने लंड के सुपारे को भी चमड़ी से आज़ाद किया और लिंग-मुंड को जीभ से चाटने लगीं. मेरी बिंदास दोस्त के साथ सेक्स की कहानी कैसी लगी आपको? आप लोग मुझे जरूर मेल करना.

हिजडा कसा असतो एन्जॉय करो … क्यों ऐसे मौके को हाथ से जाने देना चाहती हो? मेरी ड्यूटी रात 1:30 बजे तक चार स्टेशनों बाद खत्म हो जाएगी. इस वक्त वो चिल्ला रही थी- वाह समीर, तुझे तो सब पता है … आह तेरी बीवी तो किस्मत वाली होगी.

मुझे बहुत मजा आ रहा था, पर उसने मेरे मुँह पर हाथ रखा और एकदम जोर से धक्का लगा दिया. अब मुझसे सहन नहीं हो रहा था।अब जैसे ही राहुल ने मेरी चूत से मुँह हटाना चाहा तो मैं राहुल के सिर को अपने हाथों से अपनी चूत पर दबा कर सिसियाने लगी- आआआ … आआअहह … ओह माय गॉड … चूसो मेरी चूत को राहुल … खा जाओ आप मेरी इस चूत को … इसने आपके बहुत सपने देखे हैं. मैंने उनको समझाया, तो कुछ देर बाद मान गईं और बोलीं- कल उसको बिलासपुर आने को बोलूंगी, अगर आ गई तो ठीक है.

देसी सेक्सी वीडियो देहाती सेक्सी वीडियो

कुछ ही देर में वो लौंडा मेरी भावना समझ गया और उसने वैसे ही मेरी पेंटी निकाल कर मेरी चूत को सहलाया. रात को हम जैसे रोज़ करते हैं, वैसे ही चुदाई कर रहे थे और चुदाई करते समय आवाजें निकालने की मेरी आदत है, क्योंकि उसके बगैर हम दोनों को ही मज़ा नहीं आता था. मेरी पहले से योजना थी कि एक जनवरी को अपने कुछ एडल्ट साइट के मित्रों के साथ समय बिताऊँ और इसके लिए हम सभी ने पूरी तैयारी भी कर ली थी.

सलोनी की तो दर्द भरी चीख निकल गई जिसके साथ मैं भी चीख पड़ा क्योंकी सलोनी ने मेरे लण्ड को दर्द में ज़ोर से दबा दिया था. मेरे दिमाग में फिर से वही सब सवाल चलने लगे, जो दोपहर में चल रहा था.

इसलिए मैंने भी बोल दिया था कि मैं जाऊंगा और आ जाऊंगा … रुकूंगा नहीं.

कुछ समय के लिए मुझे संतुष्टि मिल गई मगर अभी भी बार-बार राधिका आंटी और उनकी सेक्सी हरकतें मेरी नज़रों के सामने नाच रही थीं. मुझे दबाने में बहुत मजा आ रहा था। फिर मैंने धीरे से उसके गाउन के बटन खोल दिए और ब्रा के ऊपर से ही बूब्स दबाने लगा। फिर ब्रा (जो कि रेड कलर की थी) को ऊपर करके बूब्स को बाहर निकाला और दबाने लगा। उसके निप्पल को धीरे से घुमाने लगा। फिर एक को मुँह में ले कर चूसने लगा और दूसरे को हाथ से छेड़ने लगा. मैंने धीरे से अपने हाथ से उनके कंधे पर जोर दिया, तो उन्होंने वासना भरी निगाह से मुझे देखा.

जब चूत से पानी आने लगा, तब मैंने पहले सबसे पतली सी गाजर को उठाया और उसे लंड इमैजिन करके जैसा पोर्न वीडियोज में देखा था, वैसे ही फील करने की कोशिश करते हुए मुँह में डाल कर अन्दर बाहर करने लगी. उसने अपने हाथ से अपनी सलवार थोड़ी ढीली कर दी, जिससे मेरा हाथ आसानी से अन्दर आ जा सके. मैं बाइक लेने पार्किंग पहुंचा और बाइक बिल्डिंग के बाहर निकालते ही अचानक से ज़ोर की बारिश शुरू हो गई, मैं तो तुरंत वापस आकर बिल्डिंग में घुस गया.

मैं भी कभी उसको अपने सीने से चिपका लेता था, तो कभी उसकी चूचियों को चूसते हुए चुदाई का मजा लेने लगता था.

श्रद्धा कपूर के सेक्सी बीएफ: अंकल के दोनों बेटों की शादी हो चुकी थी लेकिन उनकी बेटी अभी कुंवारी थी. जब पहली लाईट ग्रीन ड्रेस पहना था और दुप्पटा गिराया था, उसका मतलब था के मैं भी इंटेरेस्टड हूँ.

अब आगे:आशीष ने मेरी जींस के बटन खोल कर जैसे ही जिप को खोला, मैं एकदम से उठने को हुई. थोड़ी देर आराम करने के बाद सीमा आंटी उठने की कोशिश कर रही थीं, पर उनसे उठा ही नहीं जा रहा था. सभी पाठकों को हिमांशु बजाज का हृदय से प्रणाम! गुरू जी और अंतर्वासना पाठकों के साथ सम्बंध इतना गहरा हो चुका है कि ज्यादा दिन अब दूर रहा नहीं जाता.

कुछ देर बाद मैं अपना लंड उसकी चूत की दरार पर ऊपर से नीचे घिसने लगा.

अब मैंने लंड को अच्छे से बाहर तक निकाल निकाल कर वापिस चूत में पेलना शुरू किया, तो कल्पना को भी मज़ा आने लगा और वो अपनी चूत उठा उठा कर मेरे लंड से ताल से ताल मिलाने लगीं. उसने पूछा- क्या कर रहे हो?मैंने कहा- तुम्हारे लिए कॉफी बना रहा हूं. वैसे तो मैं एक सॉफ्टवेयर डेवेलपर हूँ, पर थोड़ा ज्यादा पैसा और एंजोयमेंट के लिए मैं प्लेब्वॉय का काम भी साइड बाइ साइड करता रहता हूँ.