बाथरूम की सेक्सी बीएफ

छवि स्रोत,बुर चोदा वाला सेक्सी वीडियो

तस्वीर का शीर्षक ,

बिहारी भाषा बीएफ: बाथरूम की सेक्सी बीएफ, भाभी ने दो प्लेट में नाश्ता लगाया और हम दोनों नाश्ते के लिए बैठ गए.

अमेरिकन सेक्सी शॉट

वो दिन भर अपने काम में व्यस्त रहे और रात 10:00 बजे उनकी ट्रेन भोपाल से इंदौर के लिए थी. मोहब्बतें की सेक्सीहम ऐसे ही बात कर रहे थे तो मैंने उससे पूछा- तुम मुंबई कब जाओगी?वो बोली- प्लान तो कल का था, पर अभी घर से कॉल आयी थी.

तो मेरा क्या … मुझे भी मौका दो सेक्स करने का! नहीं तो मैं सबको बता दूंगा. हार्दिक सेक्सीमैंने भी लेटे लेटे चुत को अपने मुँह में भर लिया और मेरी जीभ फिर से किसी कुत्ते की तरह उसकी चुत में चलने लगी.

इतनी जोर से डालता है क्या कोई? एक तो तुम्हारा लंड इतना मोटा और लंबा भी है.बाथरूम की सेक्सी बीएफ: पैंटी काफी टाइट थी जिससे चाची की चूत की दोनों फांकें अपनी शेप दिखा रही थीं.

निशा- ओके आप क्या करते हो?मैंने बताया, तो बोली- आज दो अक्टूबर को भी छुट्टी नहीं है?मैंने कहा- है तो … पर काम करने से ओवर टाइम का पैसा मिल जाता है.जब से तुमने मुझे प्रेग्नेंट किया, तब से आज तक मैंने तुम्हारे दोस्त का भी लंड नहीं लिया.

एचडी सेक्सी एचडी सेक्सी फोटो - बाथरूम की सेक्सी बीएफ

एक मिनट बाद मैंने उसकी सफाचट चुत को निहारा तो मेरी साली शर्मा कर बोली- ऐसे क्या देख रहे हो जीजू … क्या आपने कभी देखी नहीं, जो इतने प्यार से देख रहे हो.मैंने उसे अपने नीचे ले लिया क्योंकि पहली बार में लड़की कोलंड की सवारीनहीं कराई जा सकती थी.

मैं हर रोज उसके नाम की मुठ मार लेता उसको देख कर मन करता था कि साली को पकड़ कर रगड़ के चोदूं … टाइट टाइट टी-शर्ट पहन कर मेरे सामने आती और मेरा लंड खड़ा हो जाता. बाथरूम की सेक्सी बीएफ कमरे की कुण्डी बंद करने के बाद वो मेरे पास आया और बोला- जानू गांड यहीं नीचे मरवाएगा या ऊपर?मैंने कहा- ऊपर कहां?उसने टॉयलेट के ऊपर ही एक सामान रखने की जगह होती है, उसने उसको ही चुदाई का अड्डा बनाया हुआ था.

अब मैंने उसकी नाइटी उतार दी और साथ में मैंने उसके शरीर से पैंटी और ब्रा को भी अलग कर दिया.

बाथरूम की सेक्सी बीएफ?

अब मैंने अपना हाथ उनकी दोनों जांघों के बीच में ठीक उनकी चूत के ऊपर लगा दिया. मैंने कहा- क्यों?वो बोली- तुम सच्ची में लुल्ल हो … मैं पहली बार लंड ले रही हूँ मेरे प्यारे लुल्ल जी. मैंने उसकी चूत की फांकों पर अपना मुँह रख दिया और स्वाद भरा चूतरस पीने लगा.

उसने मुझसे कहा- जान ये बात कभी भी तरह से मेरे पति तक नहीं पहुंचनी चाहिए. मैंने जैसे ही दरवाज़े को नॉक किया तुरन्त उसकी हॉट बहन ने दरवाजा खोला. ये कैसे मेरी चुत में जाएगा?मैंने उससे बोला- जरूर चला जाएगा वीना … तुम इसको पहले अपने मुँह में लेकर गीला कर दो.

2 मिनट बाद वो बोली- मुझे दर्द हो रहा है।इसलिए मैं नीचे आ गया और मैंने उसको अपने ऊपर बैठा लिया उसने ऊपर आकर अपनी चूत में लंड डाल लिया और ऊपर नीचे होने लगी।मैंने दोनों हाथों से उसकी चूचियां पकड़ ली और दबाने लगा।वह अपनी चूत मेरे लंड पर मार रही थी और मैंने नीचे से झटके मारने लगा।5 मिनट मेरे लंड पर कूदने के बाद उसने आगे पीछे होकर लंड को लेना शुरू कर दिया।इस पोज में हम दोनों को बहुत मजा आ रहा था. मैं जैसे तैसे उतने लंड को सहन कर पाई थी कि इतने में दूसरा धक्का और तेज़ी के साथ लगा और मेरी गांड फट चुकी थी. अब मैंने तेज स्वर कहा- अगर तुम सच नहीं बताओगी, तो मैं ये वीडियो मौसी को दिखा दूंगा.

Xxx एनल बैक सेक्स कहानी में पढ़ें कि कैसे मैंने होटल के कमरे में एक भाभी की गांड तेल लगा कर मारी. अगर आपने इससे ज्यादा कुछ किया, तो मैं पागल हो जाऊंगी और मेरी आवाज निकलने लगेगी.

मैंने जेबाँ को अपने मुँह पर बैठने को कहा, जिससे मैं उसकी चूत चाट सकूँ.

मैं अपनी टी-शर्ट उतारने ही वाला था कि उसने मुझे जोर से बेड पर धक्का दे दिया और वो मेरे ऊपर लेट गयी.

ध्यान से सोचा तो मुझे सब समझ में आ गया कि भाभी का मूड आज ही चुदने का है. जैसे जैसे मेरी उंगलियां चूत में अन्दर बाहर हो रही थीं, वैसे वैसे शिल्पा की सिसकारियां भी बढ़ती जा रही थीं. जिस पर मैंने थोड़ा गुस्सा होते हुए कहा- तो क्या हुआ आप तो मेरे साथ लगभग नंगी सो चुकी हो, सिर्फ़ ब्रा और पैंटी में साथ सोई थीं, तो अभी और क्या पहनने की ज़रूरत है.

रेखा ने अपने दोनों हाथ मेरे गांड पर रखकर सहलाती हुई अपनी चूत पर दबाव देने लगी थी. आप सभी ने मेरी आपबीतीबीवी के धोखे में दूसरी चूत मिल गयीनामक सेक्स कहानी को बहुत सारा प्यार दिया. मैंने झट से मोबाइल से एक ओयो रूम बुक किया और कुछ ही देर में होटल के कमरे में आ गए.

लेकिन चाची अब मुझसे बात नहीं कर रही थीं और मैं भी उनसे नज़रें नहीं मिला पा रहा था.

मुझे लगा कहीं ये गांड मारने से मना न कर दे, तो मैं रुक गया और उसे सहलाने लगा, किस करने लगा. अब शिल्पा भी अपने हाथ को मेरे अंडरवियर में डाल कर लंड को सहलाने लगी. अब मेरी चूत फिर से गर्म होने में कितना टाइम ले लेगी, पता भी है?मैंने बोला- तो आज नहीं करते है ना … किसी और दिन सही.

हम दोनों ने थोड़ी इधर उधर की बात की पर इस दौरान किसी ने भी उस दोपहर को हुए उस वाकिये के बारे कुछ नहीं कहा. मैंने उससे नजदीक जाकर कहा- अदिति ये तुम क्या कर रही थीं और ये सब कबसे कर रही हो?वो मुझे देखकर डर गई और शर्म से अपने एक हाथों से चूचियों को और दूसरे हाथ से अपनी चूत को छिपाने लगी. जैसे जैसे बाइक किसी गड्डे में उछलती, वैसे वैसे दीदी भी चाचा जी के लंड पर उछल रही थी.

मैंने अपने होंठों और जीभ से उसकी चूत को चाटना और चूसना शुरू कर दिया.

मैं भी दिन में सोच रही थी कि मुझे मुकेश की हरकत का विरोध तो करना ही चाहिए था. मैंने बोला- वो क्या?भैया- मुझे एक साल के लिए ट्रेनिंग के लिए यूएस जाना पड़ेगा और तुम्हारी भाभी यहां अकेली रह जाएगी.

बाथरूम की सेक्सी बीएफ उस दिन मैं और मेरा फ्रेंड साथ में बाहर घूम रहे थे, तभी अचानक मेरे फ्रेंड को कॉल आया कि भाभी और भैया घर पहुंच गए हैं. मिनी ने अपने पर्स से वैसलीन की डिब्बी निकाली और काफी वैसलीन मेरे लंड पर लगा दी और कुछ अपनी चुत पर.

बाथरूम की सेक्सी बीएफ मैंने पहले से बगल में पड़ी वैसलीन को उठा कर अपने लंड पर मल दिया और और उसकी चुत में भी लगा दिया. कुछ दिन तक रोज रात में मैं ही रुचिता को फोन लगाता और वो मुझसे साधारण बातचीत करती.

अन्तर्वासना में सेक्स कहानी पढ़ने के बाद मेरा लड़कियों भाभियों की तरफ आकर्षण बढ़ने लगा था.

गांव वाली देसी बीएफ

तभी दीदी ने कहा- बहुत दिन बाद आया है अजय … तुझे हमारी याद नहीं आती क्या?मैंने कहा- याद तो बहुत आती है, पर आप अपने छोटे भाई को बुलाती कहां हो. हैलो मेरे कामुक मित्रो, मेरा नाम शाहबाज़ है और मैं पुणे महाराष्ट्र से हूँ. मुझे एक बात याद आ गई कि ‘पुरुष अक्सर संभोग के दौरान वीर्यपात होने पर अलग हो जाते हैं और स्त्री को लगता है कि वह छली गई है।’मैंने उसकी आंखों में देखने का प्रयास किया पर कुछ जान नहीं पाया.

मेरे भाई के लंड में भी रगड़ लग गई थी तो भी उसने अपने लंड का फंसा हुआ टोपा बाहर नहीं निकाला बल्कि उसकी अवस्था में रुक कर मुझे प्यार से किस करने लगा. हम दोनों किसी प्रेमी जोड़े की भांति एक दूसरे से जुड़े होंठों को चूमने लगे. पूरे कमरे में ‘फच्चर फचर आआह उम्मम्म अहा आआह उफ्फ्फ …’ के साथ गालियों की आवाज़ गूंजने लगी.

इस पर श्रेया बोली- अरे यार, तुम भी बहुत बड़े वाले चूतिये हो, तुम्हें मुझ पर लाइन मारनी चाहिए … लेकिन मैं तुम्हें अपने आपसे लाइन दे रही हूँ और तुम पीछा छुटा रहे हो.

मैं उसे पागलों की तरह वाइल्ड किस किए जा रहा था, कभी उसे काटता, कभी कुछ. घर की परिस्थितियों की वजह से मुझे काम की जरूरत पड़ी तो मैं अपने ही शहर में काम की तलाश करने लगा. मैं वासना भरे स्वर में बोला- आह चाची … एक बार अपनी सेवा करने का मौका तो दो, ऐसी खातिरदारी करूंगा कि आप मेरी कायल हो जाओगी.

मैंने कहा- जल्दी क्यों … क्या सॉफ्टवेयर भाग जाएगा?वो हंस दी और बोली- यार, मुझे तुम्हें जल्दी से वो दिखाना है. अब मैंने अपना हाथ उनकी दोनों जांघों के बीच में ठीक उनकी चूत के ऊपर लगा दिया. मैं चिल्लाने लगा- उईई अम्मी मर गया … आह अम्मी बचा ले … मर गया … आह मेरी फट गई आह!उसने एक हाथ से मेरा मुँह भींच लिया.

भाभी ने बड़ी हैरत से लौड़े की लम्बाई मोटाई देखी और अपने हाथ से मेरा लंड पकड़ लिया. मैंने उसको ऐसे खड़ा कर रखा था, जिससे कोई छेड़खानी ना कर सके जोकि मेट्रो में आम बात है.

कुछ देर सोचने के बाद वीना ने मेरे लंड को अपने मुँह से लगा लिया और उसको मुँह में लेकर खींचती हुई चूमने लगी. लंड और चूत गीली होने के कारण पच पचा पच की मादक आवाजें गूंजने लगी थीं. इस पर मुकेश बोला- तो फिर जीनी तुम मुझसे कहां मिलने आओगी?मैंने कहा- कहीं नहीं.

सौम्या बोली- मुँह दिखाई?अच्छा … मुँह दिखाई भी चाहिए, क्या चाहिए मुँह दिखाई में?”सौम्या ने कहा- कुछ ऐसा स्पेशल, जो मुझे अभी तक ना दिया हो.

उस पूरे दिन में हम दोनों के बीच 4 बार चुदाई हुई और उसके बाद लगभग हर रोज मैं सौम्या को चोदकर खुश करने लगा था. चाची ने कहा- हां, अभी मेरे साथ बगल वाली आंटी बैठी हैं … मैं तुझसे बाद में बात करती हूँ. मैंने मौके का फायदा उठाते हुए अपनी कार एकदम उसके पास ले जाकर रोक दी और दरवाजा खोल दिया.

इतने में उसने फिर से मेरी तौलिया खींच दी और एक बार मैं फिर से उसके सामने नंगी हो गई थी. फिर आंटी कहने लगीं- अब और खड़ा नहीं हुआ जाता … अब मुझे लेटा कर चोद लो.

मैंने पूछा- आपको कुछ हुआ तो नहीं?वो हंस कर बोली- नहीं, कुछ नहीं हुआ. चाची के स्पर्श से मुझे बहुत बढ़िया लग रहा था, मैं तो मानो जैसे अपने होश खो बैठा था।तभी मुस्कान भी आई और मेरे होंठों को चूमने लगी. सेक्सी कॉलेज गर्ल Xxx कहानी में पढ़ें कि कैसे मैं कल्पना में अपनी मम्मी के कॉलेज के दिनों में गया और कमसिन मम्मी को पटा कर उनकी कुंवारी बुर फाड़ी.

बीएफ के बारे में बताओ

मैंने उसके एक बूब को अपने मुँह में ले लिया, पर वो पूरा मेरे मुँह में नहीं आया.

मुझे लगा अपनी मम्मा सौम्या मुझसे पूछेगी कि मैं कहां था इतने साल!लेकिन सौम्या ने कुछ कहा ही नहीं. उसने पहले मेरा लंड अंडरवियर में से ही पकड़ा और झटके से मेरा अंडरवियर भी नीचे कर दिया. बेडरूम में जाते ही रेखा जोर जोर से चिल्लाकर अपनी गांड जोर से ऊपर नीचे करने लगी, मेरी पीठ पर अपनी उंगलियां गड़ाने लगी.

हंसते समय उनके मम्मे बड़े मस्त हिलते थे और मैं बड़ी हसरत से शीला भाभी की जवानी को निहारने लगता था. उसे ट्रेन में बिठा कर लौटा, तो प्लेट फार्म पर ही रनवीर (पिछली कहानीगांड मराने का शौक क्या क्या न कराएका पात्र) दिखा. पड़ोस वाली भाभी की सेक्सी वीडियोमैंने उसके एक बूब को अपने मुँह में ले लिया, पर वो पूरा मेरे मुँह में नहीं आया.

फिर मैंने पूछा- आपके कितने बच्चे हैं?वो मुझसे बोलीं- आप ये सब क्यों पूछ रहे हो?मैंने बोला- बस ऐसे ही. अब चाची से रहा न गया तो उन्होंने अपनी पैंटी भी उतार दी और अपनी चूत मेरे सामने नंगी कर दी.

दोस्तो, मैं आपका यश हॉटशॉट, अपनी Xxx कहानी में आपको आगे मजा देने के लिए हाजिर हूँ. मुझे बहुत तेज भूख लगी थी रात पर चुदाई के कारण पेट भूख से बिलबिला रहा था. सौम्या अपनी गांड मरवाना भी बहुत पसंद करती है और सौम्या को उसकी रेगुलर चुदाई नहीं होने की वजह से गुस्सा भी बहुत आता है.

रात को वो मेरे साथ एक ही कमरे में अलग बिस्तर पर सोती भी थी तो मैं उसे देखता रहता था. मेरी चूत जितनी ज्यादा गीली हो गयी थी, गला उतना ही ज्यादा सूख गया था. वो अपने दोनों हाथ अपने सर में घुमा रही थी और ‘आअह्ह उउउह आआई ईई मरर गईई …’ की आवाजें निकाल रही थी.

मेरा मन तो कर रहा था कि अभी दरवाजा खोल कर रानी को चोद दूँ, पर जल्दबाजी में काम उल्टा न पड़ जाए … इसलिए मैंने उसे कपड़े थमा दिए.

उसकी आंखें बंद होने लगीं तो मैं समझ गया कि वो मज़ा लेने और देने के लिए रेडी है. भाई ने बहन को चोदा इस कहानी में! मेरी मौसी की बेटी शादीशुदा और मुझसे दोगुणी उम्र की थी.

‘अब जो होगा देखेंगे’ यह सोचकर मैंने अपना हाथ उसके कंधे पर रखा और हल्का सा दबाव दिया तो उसने कंधा झिड़क कर हाथ हटा दिया. वो मेरे सर के बालों को सहला रही थी और अपनी गांड को भी मस्ती में इधर उधर कर रही थी. वीना अपने कॉलेज से 2 बजे आ गयी, तो घर में मुझे देख कर पूछा- चाचा, दादी कहां हैं … दिख नहीं रही हैं?मैंने उसको सब बताया.

घर पहुंचकर मैं सोफे पर बैठकर सोचने लगी कि मुझे मुकेश से बात ही नहीं करनी चाहिए थी. मैं- भाबी अब आपको इन सबका उपयोग नहीं करना पड़ेगा, मैं हूं न आपके लिए!भाबी- जाने दो मुन्ना, तुम अकेले काफी नहीं हो. मैं मस्ती से उसके दोनों मम्मों को बारी बारी से पी रहा था और उसे चूम रहा था.

बाथरूम की सेक्सी बीएफ तभी मैंने अपने सारे कपड़े उतारे और अपना लंड उसके हाथ के आगे कर दिया, फिर उसका हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया और आगे पीछे करने लगा. फिर बाकी बातें रात को खाना खाने के बाद करेंगे। और आज रात हमारे नज़दीक ही सोना, 12 बजे हम यहां से निकलेंगे।” सीमा ने सारी बातें बताकर मयंक को साइकिल लेने भेज दिया।रात का खाना सर्दियों की वजह से जल्दी हो गया करीब 8 बजे तक खाना खत्म कर 9 बजे तक तो सब सोने लगे।लेकिन हमें इंतज़ार था सब के सोने का, कोई कोई रिश्तेदार अभी भी जग रहा था.

बीएफ वीडियो लड़कियों की

वो हाथ से लंड छोड़ कर मेरे सामने घुटनों पर बैठकर मेरा लंड मुँह में लेकर जोर जोर से चूसने लगी. मुझे इस उम्र में झांट तमीज नहीं थी कि मम्मे का निप्पल कड़क होने का मतलब है कि लड़की या औरत को मजा आना शुरू हो गया है. पिछले भागप्यासी औरत के हाथ में मेरा लंडमें अब तक आपने पढ़ा था कि डॉक्टर रेखा ने मुझे अपने घर बुला लिया था और वो मुझसे चुदने के लिए मचल रही थी.

वो जोर से कराहने लगा लेकिन अब मुझसे भी रहा नहीं जा रहा था तो मैं जोर जोर से अपना लंड उसकी गांड में अन्दर बाहर कर रहा था. इतना मजा आ रहा था कि उसके थप्पड़ लगवाने से भी मुझको दर्द नहीं हो रहा था. खलीफा सेक्सी एचडीचूंकि भीड़ बहुत थी, इसलिए मैंने सोचा कि कोई ने जानबूझ कर नहीं किया होगा.

मुझे बहुत ख़ुशी हुई और उस फ्री फैमिली सेक्स Xxx रात को मैं कभी नहीं भूलूंगी.

प्राची ने मुझे उसी होटल में एक रूम बुक करने को कहा, जहां वो मुझे एक नई चूत दिलवाने वाली थी. मैंने अपने होंठों और जीभ से उसकी चूत को चाटना और चूसना शुरू कर दिया.

उस पूरे दिन में हम दोनों के बीच 4 बार चुदाई हुई और उसके बाद लगभग हर रोज मैं सौम्या को चोदकर खुश करने लगा था. प्रीति ने मुझे जोर दिया कि मैं उन लोगों से मिल लूं।मैं आधे मन से उनके घर गया. उसकी दोनों टांगें अपने दोनों हाथों से दोनों तरफ फैलाकर लंड अन्दर बाहर करने लगा.

पत्नी की चुत से मेरा वीर्य बाहर बह रहा था लेकिन मेरी प्यारी Xxx वाइफ ने उसे साफ नहीं किया, वो वैसे ही मेरी बांहों में पड़ी रही.

उसी दौरान मैंने उसकी कमीज़ उतार दी थी और हाथों से उसके मम्मे दबोचते हुए उसके पेट को चूम रहा था. मेरा लौड़ा देखकर भाबी जी बोल पड़ीं- आज तो मेरा बुरा हाल होने वाला है. जब मुझे महसूस हुआ कि उसकी चूत की कसावट कम हो गयी है तो मैंने अपने धक्कों की स्पीड बढ़ा दी.

तमिल सेक्सी वीडियो दिखाओ’वो खुद अपनी चुत को ऐसे ऊपर नीचे करने लगी, जैसे मेरी उंगली को अन्दर लेना चाहती हो. मुझे डर तो लग रहा था क्योंकि मेरे चूमने की वजह से पैंटी और मुठ मारने की वजह से ब्रा गीली हो गयी थी.

हिंदी बीएफ फिल्म नंगी

यहां पर एक चौंकाने वाली बात ये भी थी कि मेरी मम्मी ने लड़कियों जैसा चुस्त सूट सलवार पहनना शुरू कर दिया था. तब मैं धीरू से बोली- मैंने जब आपका लंड पहली बार देखा, तो सोचा नहीं था कि ये मेरी गांड मारेगा. सोने समय मैंने भी सिर्फ़ एक निक्कर पहनी थी और उसके नीचे कुछ भी नहीं पहना था.

फिर खाला हंसकर बोलीं- मेरा शाहबाज़ कब इतना बड़ा हो गया, पता ही नहीं चला. कुछ देर बाद पापा ने भी मुझे अपनी तरफ खींच लिया और अपने सीने से चिपका लिया. फिर मैंने निशा से बोला- निशा, अब बताओ कहां दर्द हो रहा है?उसने कहा कि घुटनों से लेकर कमर तक मालिश कर दीजिए, मैं ठीक हो जाऊंगी.

मम्मी पापा अपने रूम में, मैं और भैया तो शादी के पहले से ही एक ही रूम पर सोते आए हैं, तो मैं और भैया कमरे में आ गए और बेड पर बैठ कर एक दूसरे को देखते रहे. मैंने शालू से पूछा कि क्या कंडोम लाऊं?वो खुल कर बोली- नहीं नहीं कंडोम नहीं … ऐसे ही करने का मन है. मैंने उसे अपनी बांहों में चिपकाते हुए और उसके आंसुओं को पीते हुए कहा- जान, मैं तुम्हें कहां मरने दूंगा.

तीन दिन बाद चाची का फोन आया- आज तुम्हें मेरे घर सोना है, तुम्हारे चाचा किसी काम से बाहर गए हैं. मैंने भी जानबूझ कर तौलिया को खोल दिया और मेरी तौलिया जमीन पर जा गिरा.

ऐसे ही महीने बीतते गए और एक दिन विलास का सुबह फोन आया कि सरिता को लड़का हुआ है और दोनों ही ठीक हैं.

मैंने उससे पूछा कि क्या तुमने पड़ोसन लडकी वाली सेक्स कहानी पढ़ी?वो बोली- हां पढ़ी … और मुझे बड़ा मजा आया. चोदी चोदा सेक्सी वीडियो पिक्चरकम से कम बीस मिनट की चुदाई के बाद भाभी अकड़ने लगीं और बोली- अब बस कर दे. वीडियो सेक्सी वीडियो ब्लूटूथ’मैंने फिर वैसे ही पानी पिया और पानी गर्दन से होता हुआ बूब्स में चला गया. पर शिल्पा का चेहरा देखते हुए नहीं लग रहा था कि वो मेरी बात से सहमत है.

कोचिंग क्लास शुरू किए हुए एक महीना हो गया था, सब कुछ सही चल रहा था.

अब भाभी को जब भी जरूरत होती और मौक़ा मिलता तो भाभी मुझे बुला लेती हैं. मैंने उन्हें मुस्कुराते हुए आंख मारते हुए बोला- तुम्हारा काम हो जाएगा।उसके कुछ ही देर बाद लांस और केविन ने मुझे उनका घर दिखाया और तो और मुझे दोनों ने उनका बेडरूम भी दिखा दिया. ’मैंने फिर वैसे ही पानी पिया और पानी गर्दन से होता हुआ बूब्स में चला गया.

मुझे लगा अब देरी करना ठीक नहीं, भट्टी गर्म है … लंड डाल देना चाहिए. और उस दिन शायद मैं उसे अपनी चूत भी दिखा देती लेकिन मेरे जेठ की बीवी यानि अंकेश की मम्मी कंचन आ गई और मुझे खुद को रोकना पड़ा. मैंने एक पोर्न वीडयो स्टार्ट की और उसे भी देखने को कहा तो वो भी वीडियो देखने लगी.

बीएफ सेक्स फिल्म बीएफ

’ताबड़तोड़ चुत चुदाई का खेल चल रहा था और वो मस्ती से चुत चुदवा रही थी. ‘उन्हहंह गंग गों …’अगले ही पल वो अपने मुँह से मेरा लंड निकालकर एक तरफ खड़ी हो गयी. मैंने उसकी टांगों को फैलाया और पूछा कि कभी किसी का लंड लिया है?जीजू आप खुद अपना लंड डाल कर देख लीजिए.

जैसा कि आपने पिछली कहानी में पढ़ा था कि नैना और मैं सरकारी नौकरी की तैयारी कर रहे थे.

और उस दिन शायद मैं उसे अपनी चूत भी दिखा देती लेकिन मेरे जेठ की बीवी यानि अंकेश की मम्मी कंचन आ गई और मुझे खुद को रोकना पड़ा.

लेडी डॉक्टर पोर्न स्टोरी के अगले भाग में उसके साथ चुदाई के अगले दौर को लिखूंगा. लंड घुस चुका था तो मैंने उसकी एक टांग अपने हाथ में उठायी और उसे धक्के मारने लगा. झारखंडी सेक्सी वीडियो एचडीउनसे मैं कैसे चुदी?हेलो फ्रेंड्स, मैं जेसिका एक बार फिर नई कहानी के साथ उपस्थित हूँ.

मैं- हां यार, तुम दोनों की चुदाई देख कर मेरे लंड का बुरा हाल हो गया था. 30 बज चुके थे मैंने उन्हें खाना दिया और पूछा- भाई, आपका सोने का क्या इंतज़ाम है?वो दोनों बोले कि हम दोनों टैंट में ही सो जाएंगे. अब चाचा जी ने लंड पेले हुए ही दीदी की चूचियां दबानी शुरू की और बाइक चलाने को बोल दिया.

मोनिका थी।रेखा मोनिका को लेकर सोफ़े पर पसर गयी।आशु ने मौका देख कर रेखा से कहा- आप लोग बात कीजिये, मैं लंच करके आता हूँ, एक घंटे में आ जाऊंगा।अब रेखा क्या कहती … उसने हाँ कह दी. अब वो मेरे सामने सिर्फ ब्रा और पैंटी में थी।मेरा 7 इंच लम्बा लन्ड अब बिल्कुल सख़्त हो चुका था जैसे अभी पैंट फाड़ कर बाहर आ जायेगा।मेरी चाची ने मेरे लन्ड को खड़ा देखा और हल्का सा मुस्कुराते हुए मुस्कान को कहा- पूरी नंगी हो जा बेटी!मुस्कान ने अब अपनी ब्रा ओर पैंटी भी निकल दी.

मैंने पहले ही मैडम को बता दिया है कि कुछ दिन तुम अकेले ही क्लास आओगे.

ये सुन कर वो जल्दी से उठीं और मेरा लोवर उतार कर सीधा लंड पकड़ लिया. मैंने सौम्या डार्लिंग से पूछा- मैं अपनी मलाई कहां गिराऊं?तो उसने बोला- तुम्हें पता है मेरे राजा. जी देखिए, अभी निकल पाना मुश्किल है और बाहर का माहौल आप देख ही सकते हैं.

साऊंड सेक्सी इसलिए मैंने उसको घुमाया और उसकी चुत में उंगली करते हुए उसकी गांड पर अपना लंड घिसने लगा. थोड़ी ही देर में मेरी चूत ने पानी छोड़ दिया और मैं भाई से अलग होकर सो गयी.

अगर किसी को पता चल गया तो और भी ज्यादा दिक्कत होगी … और इज्ज़त का क्या होगा!मैं- अगर ऐसा नहीं किया तो वैसे भी उनकी इज्जत जानी है. शाम को मैंने साड़ी पहनी, ब्रा में कप लगाए और विग लगा कर मेकअप कर लिया. लांस ने तुरन्त ही मेरे अकॉउंट में डॉलर ट्रांसफर कर दिए।अब चंद मिनटों में मेरे अकॉउंट में एक बड़ी रकम आ गई थी तो मैं खुशी से फूले नहीं समा रही थी.

भाभी की बीएफ बीएफ

हर झटके के साथ लगभग 3 हिस्सा मेरे लंड का उसकी चूत में जाता और बाहर आता. दीदी बोलीं- अच्छा मतलब हिला चुका है?मैंने कहा- नहीं अभी हिला ही रहा था कि आपका फोन आ गया. थोड़ी इधर उधर की बात करने के बाद रीटा ने मुझसे कहा- मैं अपने बच्चों से मिलने राजस्थान उनके हॉस्टल गई थी और अब वापस जमशेदपुर जा रही हूँ.

मन तो कर रहा था कि पांचों को पटा कर चोद दूं … लेकिन मुझे फिलहाल सौम्या पर फोकस करना था. मैंने कहा- ठीक है, जैसा आप कहो!तो दूसरे दिन दोपहर को मेरी बहन हमारे घर आ गयी.

मेरे दिल में अरमान तो बहुत थे लेकिन बिना किसी गर्लफ़्रेंड के अरमान किसके साथ पूरे करता.

मैंने सौम्या डार्लिंग को जोरदार किस किया और अपनी सोच में वापस चला गया. मैं तुम्हें रात में ही बताने वाला था कि तुम्हें तो बस नींद आ रही थी।मैं बोली- कोई बात नहीं, आप नहा लीजिए, फिर नाश्ता लगाती हूँ।जेठ जी नहा कर आए और फिर हम दोनों ने साथ नाश्ता किया. दो चार दिन ऐसे ही फ़ेसबुक पर हमारी बात होती रही, तो अपने अपने पुराने प्यार-क्रश की सारी बातें हमने एक दूसरे को बताईं.

मैंने धीरे से उसके निप्पल को ब्रा के ऊपर से ही अपने होंठों में भर लिया और दबाते हुए मसलने लगा, साथ ही दूसरे निप्पल को अपनी दो उंगलियों की बीच में लेकर मींज दिया. मुझे लगा तौलिया शायद बाहर ही रखा होगा, तो मैं ये चुन्नी लपेट कर तौलिया लेने आया ही था कि आपने मुझे देख लिया. निशा अब लंबी लंबी सांस ले रही थी, उसे भी मेरी मालिश से मजा आ रहा था.

जिन फीमेल पाठकों को लंड चूसने में मज़ा आता है, वो प्लीज मुझे मेल करके जरूर बताएं कि लंड चूसते हुए उन्हें कैसा महसूस होता है.

बाथरूम की सेक्सी बीएफ: मैंने तुरंत अपने कपड़े चेंज किए और मेज पर खाना रखकर अपने कमरे में चली गई।जेठ जी नहा कर बाहर आए और डाइनिंग टेबल के पास कंचन कंचन चिल्लाने लगे. फिर मैंने बस पांच सेकेंड के अन्दर अपनी निक्कर और शर्ट उतार दी और चुपचाप जाकर बेड पर लेट गया.

मेरी बहन को देख कर मैं वापस बाथरूम में चला गया और बाथरूम का दरवाजा आधा खोल कर अपनी बहन को देखने लगा. गर्म पेशाब की धार सरिता सह नहीं सकी तो चिल्ला पड़ी- ऊंई मां ऊं अहाहा हं हं ऊंई!उसकी कामवासना भड़क चुकी थी, उसने आंखें बंद कर लीं. मेरे सीनियर सर उसको मेरे पास लेकर आए तो मैं उन्हें देखता ही रह गया.

सौम्या मुझसे बातें करती हुई झुक कर बार बार अपनी चूचियों के दर्शन कराती रहती थी और रात को मेरे साथ सोते हुए अपने गुदाज अंगों जैसे कि चूचियां, गांड अपनी चूत को भी मेरे अंगों पर रगड़ने लगी थी.

फिर मैं उसको बोली- थोड़ा नीचे मालिश कर!‘थोड़ा नीचे … थोड़ा नीचे …’ बोलकर मेरी गांड तक उसका हाथ पहुंच ही चुका था. जब सौम्या डार्लिंग से रहा नहीं गया तो उसने कहा- अब और मत तड़पाओ राजा … चोद दो अपनी इस खूबसूरत जानू को. मैंने बात करते करते 2-3 बार उसकी चुचियों को देखा तो पाया कि वो मेरी तरफ ही देख रही थी.