सेक्सी बीएफ लड़की वाली

छवि स्रोत,মুসলিম সেক্স ভিডিও

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ चोदी चुदाई: सेक्सी बीएफ लड़की वाली, मैंने देखा उनमें से दोनों की उम्र लगभग वही राज अंकल के आसपास थी 50-55 साल की.

चुदाई लड़की की चुदाई

अब तक हम लोग काफी घुल मिल गए थे और अब तो उसकी बेटी भी मुझ में इंटरेस्ट दिखाने लगी थी. सेक्सी वीडियो चाहिए हमकोमैंने फिर समझाया कि इसने मूता नहीं है, ये उसका वीर्य है, जिससे बच्चे पैदा होते हैं.

धीरे धीरे नेहा अब खुलती जा रही थी उत्तेजना के वश उसने अब शर्म हया छोड़ दी और खुद ही अपनी चुत को मेरे मुँह पर घिसना शुरू कर दिया. লোকাল এক্স এক্স ভিডিওवो बोली- लड़के की टांगों के बीच में क्या है?तो मैंने कहा- लड़के यहीं से मूतते हैं.

वो अब बहुत मस्त होकर दुनिया और शर्म से गाफिल होकर अपनी चिकनी टांगों से उस जवान गोरे लड़के को लपेट कर चुदवा रही थी.सेक्सी बीएफ लड़की वाली: ” प्रिया ने अब शरारत से मेरी तरफ देखते हुए कहा, जिससे मुझे भी हंसी आ गयी और मैं नेहा की तरफ देखने लगा.

मैंने उनकी तारीफ में कहा- आज तो आप एकदम फाड़ू माल मतलब पटाखा लग रही हो.यह तो कहीं से कहीं तक रंडी लगती ही नहीं है … यह तो अभी लिटिल माल है … पर गजब है.

मोटी चूत में मोटा लंड - सेक्सी बीएफ लड़की वाली

मन उनकी पीठ पर चढ़ कर उनके नीचे हाथ डाल कर चूचों को मसल मसल कर लंड के झटके दे रहा था.बड़ा ही मनोरम दृश्य था वो, लाल साड़ी में लिपटी लाल लाल गालों से घिरा वो खूबसूरत सा चेहरा … जी कर रहा था कि उनके पूरे चेहरे को ही चूम-चाट लूँ.

उन्होंने पूछा- इससे तुम्हें क्या फायदा मिलता है?मैंने कहा- फायदा कुछ नहीं मिलता … मगर कभी कभी किसी हॉट माल को देखकर पैन्ट टाइट हो जाती है. सेक्सी बीएफ लड़की वाली वो मेरी ब्रा के ऊपर से होता हुआ पेट पर आ गया, फिर पेट से होता हुआ मेरी पैंटी पर आ गया.

मैं अपने एक हाथ को उसकी चूची पर दबा दिया और दूसरे हाथ से अपने लंड को.

सेक्सी बीएफ लड़की वाली?

अब वो और मैं बिल्कुल नंगे थे, मैं उसकी दोनों टांगों के बीच बैठकर उसकी चूत को चाटने लगा. वओओओ … म्म्मममउ … मुझे प्रेस से करेंट लग गया!” प्रिया ने घबराई सी आवाज में हकलाते हुए कहा. दोस्तो, आगे भी आप मुझे ईमेल लिखते रहें और मुझको प्रोत्साहित करते रहे कहानी लिखने के लिए और जो सुझाव हों वे भी आप मुझे अवश्य दें.

मेरे रिप्लाई करने के थोड़ी देर बाद ही मुझे 2-3 फोटो और अगले मेसेज में नाम- पूर्वी शर्मा (काल्पनिक), पता लिखा मिला. दोनों अपने मजे में मस्त हो, मेरी आग कौन बुझाएगा?मेरी पत्नी अब नीरू की चूत में लग रहे धक्कों को उसके चूतड़ों की खाई फैलाकर मेरे लंड को अंदर बाहर जाते देख रही थी और कह रही थी- वाह क्या मस्त चूत है … एक भी बाल नहीं है. आगे और भी क्या क्या हुआ बहुत कुछ हुआ लेकिन इस कहानी को मैं यही विराम देना चाहता हूं क्योंकि लिखने को बहुत कुछ है और शब्द बहुत कम हैं.

जब भी कोई घर से बाहर जाता है और किसी और को बाहर नहीं जाना होता तो वो बाहर से लॉक कर जाता है. तो दोस्तो, कैसी लगी आपको ये हॉट कहानी … मुझे मेल से बताएं या मेरे लिए कोई सुझाव या परामर्श हो, तो जरूर भेजें. इसके बाद क्या हुआ उसके लिए इस सेक्स कहानी के अगले पार्ट को पढ़ें और मुझे मेल करें.

फिर मैं वहाँ से निकलने लगा तो उन्होंने मुझे दरवाजे के पास रुकने को बोला और दूसरे कमरे में चली गयी, मैं उनके आने का इंतजार करने लगा. वो बोली- कैसे?मैंने कहा- केवल यह कह दो कि घर चलने तक तुम किसी चीज की मना नहीं करोगी.

मैं मौसी को लगातार किस किए जा रहा था और उनकी चूचियों को सहला रहा था.

हम दोनों चिपक कर लेटे रहे, वो खुश लग रही थीं, वो बोलीं- पहली बार इतना मजा आया है.

लेकिन जैसे कि होता है कोई भी उनकी बात पर ज्यादा ध्यान देता नज़र नहीं आ रहा था. अब वो मेरे लंड को चूसने के मूड में थी, उसने जांघ के आसपास किस करना और दाँत काटना शुरू कर दिया था. कोई आठ किलोमीटर जाने के बाद धर्मेन्द्र ने एक मल्टी के सामने अपनी मोटरसायकल खडी कर दी और बोला- यहीं मैं रहता हूँ.

आगे झुकी हुई औरत की नंगी रसभरी चूत एक शानदार दृश्य है, जिसमें इस दुनिया को चलाने वाली प्रकृति की शक्ति का स्पष्ट रूपांतर है. मैंने कहा- ठीक है, मेरी पत्नी को क्या प्रॉब्लम!उसके 3 दिन बाद नीरू पायल को लेकर दोपहर के समय हमारे घर पर आ गई. जैसे ही उसने अपनी टाँगें कुछ ढीली की तो मैं उसकी टांगों के बीच में आ गया और अपने होंठ उसकी चूत के मुँह पे रख दिए। वो हम्म करने लगी.

शीतल- हे भगवन… ये तू क्या कह रही है?मयूरी- सच तो कह रही हूँ माँ…शीतल- अच्छा? तुझे कैसे पता?मयूरी- मैंने आपके दोनों बेटों को आपस में बात करते सुना है.

मैं बोला- तुमको ये सब कैसे पता है कि मैंने अपनी दीदी के साथ क्या किया था?इस पर वो बिंदास बोली- मुझे तुम्हारी बहन ने ही बताया है कि रात में मैंने अपने भाई का वर्जिन लंड अपने मुँह में लिया था, बहुत मज़ा आया था. मैंने कहा- तुम माफ़ी क्यों मांग रहे हो? जो भी हुआ हम दोनों की मर्ज़ी से हुआ है और मैं तो इससे खुश हूँ. जग ने बाथरूम के बाहर आकर मुझे आवाज़ दी- क्या हुआ बोलो?मैंने कहा- मैं तौलिया लेना भूल गई हूँ.

शायद सुलेखा भाभी किशोर भैया के ही आने का इन्तजार कर रही हैं, इसलिए ही वो मुझे ज्यादा कुछ कह नहीं रही थीं. मम्मीई … मेरे पास पहले की रखी हुई थी, जब मैं बीमार हुई थी ना … तब की बची हुई थी. तभी एकता भाभी भी मेरे करीब आ गईं तो मैंने उनको किस किया और उनकी गांड सहला दी.

अब मेरी पत्नी ने कहा- पीछे बैठकर इसकी चूत में जीभ से चाटो!मैंने अपनी पत्नी की आज्ञा का पालन करते हुए उसकी चूत को कुत्ते की तरह चाटना शुरू कर दिया.

मैंने अब धीरे से प्रिया के कमरे के दरवाजे को खोलना चाहा मगर दरवाजा अन्दर से बन्द था. अब वे मेरे मम्मों को दबाते हुए ज़ोर ज़ोर से मेरी चुत में लंड डाल कर चोदने लगे.

सेक्सी बीएफ लड़की वाली देखो अभी हम लोग धर्मशाला पहुंच जायेंगे, फिर बारात की तैयारी; रात भर शादी में रुकना पड़ेगा. मेरा और मनीषा का भी जाने का मन था लेकिन मनीषा के बोर्ड के एग्जाम की वजह से मुझे भी नहीं जाने दिया गया.

सेक्सी बीएफ लड़की वाली वो केवल 5 मिनट का वीडियो था, पर उसने मुझे दुनिया के एक नए पहलू से अवगत कराया. मैं यह सुनकर उससे बोली- तो बात तो वही हुई न कि तू वहां पर कॉल गर्ल जैसा काम ही तो कर रही है.

जैसे ही मेरी जीभ उसकी चूत से टकराई, रेवती एकदम से उछल पड़ी और उसकी पूरी चूत मेरे मुँह में समा गई.

आदिवासी लड़की के सेक्सी वीडियो

सुलेखा भाभी के जाते ही प्रिया ने मुझे आंखें दिखाते हुए थप्पड़ का इशारा किया. मेरे ऊपर बैठ कर पूजा कुछ देर तक मेरे लंड से खेलती रही और फिर वो मेरे ऊपर लेट गयी. अब वो अपने अनुभव से काम ले रहा था, क्योंकि शायद उसे अब झड़ने की इच्छा हो रही थी.

प्रिया के इस जवाब को सुनकर मुझे अपने कानों पर विश्वास ही नहीं हो रहा था. मैं कराहते हुए उठ बैठने जैसी हुई और मैंने फिर से दोनों हाथों और टांगों से पूरी ताकत से उसे पीछे धकेल कर रोकना चाहा. मेरी पत्नी डिल्डो को अपनी गांड में लेने को तैयार होती हुई नर्म सोफे पर अपने पैर फैलाती हुई लेट गई.

अगर इज़ाज़त हो तो तुमसे कुछ पूछूँ?उसने कहा- हां पूछिये ना!मैंने कहा- तुम मुझे इतना घूरते क्यों रहते हो?उसने कहा- सच बोलूं या झूठ?तो मैंने कहा- अब तो सच ही बोल दो, तो अच्छा है.

फिर मैं अपना लंड उसकी चूत पर रगड़ने लगा और फिर छेद का निशाना लगा कर अन्दर घुसेड़ दिया।उसे दर्द हुआ और वो चिल्ला पड़ी बोली- उम्म्ह… अहह… हय… याह… आराम से कर!उसकी आँखों में आँसू आ गए थे।मैंने उसे सॉरी कहा, फिर मैं धीरे धीरे अपना लंड उसकी चूत के अंदर सरकाने लगा लेकिन उसे अभी भी दर्द हो रहा था और उसकी चूत में से खून भी निकल रहा था. कुछ देर बाद मम्मी ने खाना लगाया और मेरे साथ ही बैठ कर खाने लगी। खाना खाने के बाद मैं अपने कमरे में सोने चला गया. मैं अपने घर बाथरूम में अक्सर अपनी नंगी जवानी देख, अपने स्तनों को दबाती सहलाती रोंएदार चूत के गुलाबी होंठों को छेड़ लेती.

वो बोली- लड़के की टांगों के बीच में क्या है?तो मैंने कहा- लड़के यहीं से मूतते हैं. कुछ ही पलों के बाद जब नेहा मैडम अपने चूतड़ उछाल-उछाल कर धक्के देने लगीं तो मैं समझ गया कि उनका दर्द कम हो गया है. तभी उसकी चुत से दुबारा जो फव्वारा निकला … बाप रे!मैं उसकी चुत का पानी पी रहा था लेकिन बहुत ज्यादा पानी बाहर आ रहा था.

लेकिन हमारे मिलन के लिए कोई सुरक्षित जगह हो चाहिये ही न; मैं तुम्हे किसी ऐसी वैसी जगह लेके तो नहीं जा सकता न. जब मम्मी आईं तो मौसी ने मम्मी से पूछा- क्या गपशप हो रही थी राज जीजा से?मम्मी बोलीं- कुछ नहीं … कब से राज जीजा उल्लू बना रहे हैं कि तुम्हें साड़ियां दिलाऊंगा … और आज तक एक पैसे नहीं खर्चा किए.

बायोलॉजी पढ़ने का सब्जेक्ट नहीं है क्या?फिर मैंने और थोड़ा कड़क होते हुए कहा- चलो चलो. हां बगलों के बाल भी पूरी तरह से साफ़ करके पूरी चिकनी चमेली बन कर आना. मुझसे नए जुड़ने वाले साथियों के लिए बताना चाहता हूँ कि मेरा नाम रिक्की (बदला हुआ नाम) है.

मैडम की हालत देख कर साफ़ पता लग रहा था कि उनको इसमें बहुत मजा आ रहा है.

मैं शर्माने की एक्टिंग करते हुए बोली- जीजू, आप भी ना आते ही सीधा अटैक मारते हो क्या?वो बोले- हां, तेरी बहन ने जादू ही ऐसा किया है. हां बगलों के बाल भी पूरी तरह से साफ़ करके पूरी चिकनी चमेली बन कर आना. वो मेरे लंड को होंठों से चूसती, ऊपर नीचे करती हुई दाँत से हल्के हल्के काट रही थी.

कुछ ही देर में फिर से चुदास भड़क गई और उसने दुबारा मेरी चूत में अपना लंड डाल दिया और हम लोग फिर से चुदाई करने लगे. फिर वो बोली- बहुत समय हो गया है, तुम्हें भूख लग रही होगी, चलो अपना गिलास खाली करते हैं और खाना खा लेते हैं.

पांच सात मिनट में ही मेरा लंड फिर से तन कर खड़ा हो गया मैडम की चूत की घाटी का अन्वेषण करने के लिए. ” की एक मीठी सीत्कार भरकर दोनों हाथों से मेरे सिर को जोरों से अपनी चुत पर दबा लिया. मुझसे खड़ा नहीं हुआ गया, तो मैं बेड पर बैठ गया और वह आराम से लंड चूसने लगी.

ब्लू पिक्चर सेक्सी खचाखच

वो बाथरूम से बाहर निकला, विक्रम भी नीचे से बिल्कुल नंगा था क्योंकि थोड़ी देर पहले ही उसकी अपनी माँ ने उसके लंड को चूसने के लिए उसकी शॉर्ट्स को खोल दिया था.

थोड़ी देर बाद उन्होंने अपने होंठों को मेरे होंठों पे रख दिए और हम दोनों जोर जोर से किस करने लगे. उस समय जनवरी 2013 का महीना चल रहा था, उसी टाइम मतलब फरवरी 2013 में हमारे छोटे चाचा की शादी भी पक्की हो गई. पांच सात मिनट में ही मेरा लंड फिर से तन कर खड़ा हो गया मैडम की चूत की घाटी का अन्वेषण करने के लिए.

अगर तुम्हारे पति को आपत्ति नहीं है तो मैं तुम्हारी हर इच्छा पूरी करने को तैयार हूँ!”मुझे कोई आपत्ति नहीं है… मेरे लिए मेरी पत्नी की इच्छा सबसे महत्वपूर्ण है!” मैंने सहर्ष अनुमति दे दी. अगले दिन जब मैं कम्प्यूटर कोर्स के लिये निकल रहा था, तब वो सब भी शायद गांव जाने की तैयारी कर रहे थे. सेक्सी वीडियो बफलेकिन एक दिन संडे को मेरी नज़र उस सामने वाले घर में सामने वाली भाभी पर पड़ी।उम्र तो उसकी काफी लग रही थी थी दोस्तो … पर क्या गज़ब बॉडी मेन्टेन थी। भाभी की उम्र लगभग 36-38 होगी पर बूब्स कुछ 34c और गांड 36 की तो होगी ही।देखते ही मेरे मन में विचार आया यह माल रगड़ने को मिल जाये तो मजा आ जाए.

क्योंकि दोस्तो, इस औरत के साथ मुझे पैसा, प्यार अपनापन सब मिला, इसलिए ही मैं यह कहानी लिख रहा हूँ. फोन और कम्मो के सूट बहूरानी को पसंद आये और उसने मेरी इस बात की तारीफ़ भी की कि मैंने कम्मो को कपड़े दिलवा दिए थे और अपना रिवाज निभा दिया था; अब वो बेचारी क्या जाने कि कम्मो की मचलती उफनती जवानी ने भी अपनी रीति निभा दी थी मेरे संग.

मैं रेवती के बेहतरीन हुस्न को निहारने लगा और अपनी आँखों की प्यास बुझा ही रहा था कि रेवती ने मुझे आवाज लगाई- कहां खो गए सरस. मेरे लिए उसका इतना करना ही आग में घी डालने के बराबर साबित हुआ और मैं लोहालाट हुए लंड पर तेजी से मुठ मारने लगा. वो नीचे से अपनी गांड उठाकर मेरी जीभ से चुद रही थी और बोले जा रही थी- आआ … आहहह … ओह … प्रकाश ये क्या कर दिया तूने … ये जिंदगी में मैं पहली बार अनुभव कर रही हूँ … आह … आहहह … कुछ तो हो रहा है … आह मेरी चुत से कुछ बाहर आने वाला है शायद!वो अपने हाथ से मेरा मुँह हटाने की कोशिश करने लगी.

इस पर मुनीर ने कहा- अब शर्माओ मत … इतने दिनों के बाद मिली हो, थोड़ा देखने तो दो … आखिर मुझे भी तो जानना है कि तुम्हारा स्वाद कैसा है. मैं सहम कर वही बैठ गई।तुम कुछ बोलते क्यों नहीं विक्रम?” मम्मी ने पापा को बोला।सुधा… हो गयी छोटी सी गलती बेटी से. जीजू ने मेरे कपड़े निकालने के बाद मेरी ब्रा और पेंटी भी निकाल दिए और मेरी चूचियों को दबाने लगे.

” कहते हुए नेहा ने अपने लोवर व पेंटी को पकड़ लिया और तुरन्त ही उठकर बैठ गयी.

सोनल- प्रकाश वहां वाल पे एक हुक है … तुम एक काम करो, ये रस्सी से मेरे हाथ बांध दो और वो हुक में रस्सी बाँध दो. अब मैंने पैरों को फैला कर अंकल को अपने ऊपर लिटा कर लंड को बुर के पास रगड़ने लगी.

वो उन दोनों का लंड पकड़कर टीवी के पास से चलकर सोफे तक ले आई और दोनों भाइयों को सोफे पर बैठाया पर खुद खड़ी रही. पतली कमनीय कटावदार कमर और उस पर कोहेनूर हीरे सी जड़ी गोल गहरी नाभि और ऊपर रसभरे दो यौवनकलश जिनके रस को मैं जितना पीता था, उतनी ही प्यास बढ़ती थी. उसकी हरकतें बता रही थीं कि वो बहुत ही ज्यादा उत्तेजित और जोश में थी.

साली की चूत एकदम गीली हो जाने के कारण लंड ने एकदम से अटैक कर दिया था. कुछ देर बाद मेरी मम्मी सीधे बोलीं- आअअअअ जल्दी पेल अपनी माँ की चुत में लंड …माँ की चूत चुदाई के ख्याल मात्र से मेरा लंड दोबारा सलामी देने लगा और मैंने भी आव देखा ना ताव, एक बार में ही अपना लंड मम्मी की चुत में पूरा डाल दिया. पहली बार मैंने अपनी रेशमी जांघों के बीच अपनी नाज़ुक सी चूत को उंगली से छेड़ा.

सेक्सी बीएफ लड़की वाली मैं बोली- ओके अंकल जैसा आपको ठीक लगे! पर मम्मी जान ना पाए कहीं कि मैं रात में बाहर गई थी. वो हांफता हुआ बोला- आह्ह … मुझे जन्नत मिल गई … वन्द्या तू बहुत सेक्सी है … तेरी प्यास बुझाने के लिए कोई विदेशी ही चाहिए … इंडियन कल्चर से तू अलग है वन्द्या … तू बहुत मस्त माल है.

कुंवारी लड़की की सेक्सी चूत की चुदाई

वहीं पास में एक तीन मंजिल अपार्टमेंट था, जिसमें केवल कुछ 4-5 कामकाजी औरतें रहती थीं. उसको बहुत अधिक पीड़ा हुई लेकिन उसने धीरे धीरे पूरा लंड अपनी चूत में ले ही लिया. अगर किसी को यह ‘घर की चूत’ तैयार करने में कोई परेशानी हो तो वह मेल कर के पूछ सकता है कि कैसे बनायें अपने तकिये को ‘होम मेड सेक्स टॉय’यह एकदम सुरक्षित है.

मैंने उनकी टी-शर्ट निकालने के लिए हाथों को ऊपर किया तो उन्होंने भी तुरंत अपने दोनों हाथ हवा में किये और मुझे हरी झंडी दिखा दी. मेरी बुर पूरी तरह से भीग गयी थी, जिससे उंगली बुर में सट सट जा रही थी. मारवाड़ी चोदने का वीडियोफिर इतराते हुए बोलीं- किसी ने देख लिया तो?मैंने कहा- आंटी अंकल तो रात से पहले आते नहीं है.

वे अपने चूचों को किरण के मुँह में देकर कहने लगीं- लो समधन जी चूसो … और चूसो काटो ले लो अआअ … अहहहह!ये सब देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया.

इतने में जो गैबरियल के जैसा ही उसका नीग्रो साथी मैक था, वह पीछे से मेरी पीठ की तरफ आ गया और मेरी पूरी नंगी पीठ में अपना हाथ चलाने लगा. ये लोग इतना क्यों हंस रहे हैं?तो उसने भी हंस कर कहा- आज आपके बायोलॉजी का टर्न है ना!मैंने कहा- तो इसमें हंसने की क्या बात है.

एक दिन ऐसे ही मैं उसके घर गया, तो चुचे मसलने के बाद मैंने देखा कि उसका टॉप थोड़ा ऊपर उठा हुआ था. आप सोच रहे होंगे कि ये ढाई बार कैसे होता है?मैं बताता हूँ … 2 बार तो मेरा पानी निकला पर तीसरी बार जल्दी निकल ही नहीं रहा था और पूर्वी काफ़ी थक चुकी थी. तो मम्मी बोलीं- हां यहां से फोन आया था, तो तेरे राज अंकल ने टैबलेट ली है.

तो मैं हमेशा की तरह ब्लू फिल्म की सीडी लगा कर हाथ से अपना लंड हिला रहा था.

कुछ देर तो ऐसे ही रुक कर बस चूत में लंड अन्दर जाने का मज़ा लेता रहा, उसके बाद मैंने धीरे धीरे धक्के मारना शुरू किए. मैं रेवती को उस स्पीड से चोदे जा रहा था कि कहीं मेरा लंड सच में उसकी चूत नहीं फ़ाड़ दे. बीच बीच में मैं उसकी चूत को खोल कर रखता और वो गोरा निशाना लगाकर अपना नौ इंच का भरकम लंड अन्दर घुसा देता और मेरी पत्नी मज़े में कोयल की तरह चहक उठती और ख़ुशी में लोटपोट हो जाती.

पोर्न सेक्सी वीडियोआज मैं आप लोगों के समक्ष अपनी कहानी प्रस्तुत करके काफी गौरवान्वित भी महसूस कर रहा हूं. जब वो अपने पिता के कपड़े उतार रहा था तो अशोक ने उसको रोका और बोला- रजत…रजत- हाँ पापा?अशोक- सुना है कि तुम दोनों भाई लंड भी चूसते हो?रजत- जी पापा… आप देखना, एक बार पूरा परिवार एक साथ आपका लंड चूसेगा… आपको खूब मजा आएगा.

सेक्स सेक्सी xxx

इंटरवल होने के बाद मैंने देखा कि वही मैडम हमारी ही लाइन में बैठ कर फिल्म देख रही थीं. अपनी बीवी के बगल में नीचे अपना एक हाथ टिकाकर दूसरे हाथ से अपना लंड उसकी चुत की दरार में लगा दिया और हल्का सा दबाव डाला. उसकी शानदार गांड देखते हुए उसके बचपन के बॉयफ्रेंड का लंड कठोर और कठोर होता जा रहा था, ऑफ़ कोर्स मेरा भी!क्या इरादा है जानेमन.

वो मुझसे बात करने लगी और मैं उसकी बड़ी बहन के चक्कर में उससे बात करने लगा. उस रात के बाद सुबह उन्होंने मेरा शुक्रिया किया और मुझसे इस बात को गुप्त रखने का वादा लिया. भाभी क्या गजब लग रही थीं, उनके तने हुए चूचे, पिंक पैंटी, गोरा बदन सच मनीष की लॉटरी लग गई थी.

मैं अमीश के लैपटॉप पर काले हब्शी वाली चुदाई की फिल्म लगाकर बैठ गया. मजा आ रहा है मेरी सेक्स स्टोरी में? आप मुझे ईमेल करके बताएं![emailprotected]कहानी जारी है. बेबी- तभी तुम्हारी दीदी बहुत लक्की है … जो उसे इतना चाहने वाला भाई मिला है.

इस सेक्स कहानी में आज आप मज़े लीजिए कि कैसे रिया भाभी ने मुझे उनकी सहेलियों की गांड भी दिलवाई. उन चारों के साथ बारी बारी से कैसे चुदाई की और हम पांचों ने एक साथ कितनी मस्तियां की.

इन दिनों गर्मी का मौसम था, जिसमें वैसे ही पसीना आना आम बात है, मगर हमारी हाथापाई और डर के कारण नेहा को‌ कुछ ज्यादा ही पसीना आया हुआ था.

एक बार हम ऐसे ही बात कर रहे थे और जैसे ही मैंने उसकी दीदी का जिक्र किया, वो कहने लगी कि आप दीदी के बारे में बात न किया करें. बीपी देसी बीपीइनको भी तो पता लगे कि हां कोई मर्द इनको छेड़ रहा है, इनको मसल रहा है. स्कूल गर्ल क्सक्सक्समैक्सी भी पारदर्शी अन्दर से दूध के पर्वत खुद बाहर निकालने को बेताब थे. ये देख माइक ने तारा की कमर पकड़ी और नीचे से ही बहुत तेज़ी में अपनी कमर उचकाते हुए धक्कों की ताबड़तोड़ बारिश सी कर दी.

आंटी के करवट के बल सोने की वजह से उनकी चूत मुझे दिख नहीं रही थी, तो मैंने अब उनकी टांगें फैलाना शुरू कर दीं.

उन्होंने बोला- बेटा तेरा बहुत अहसान है हम पे … और कोई नहीं है जो इतना कर सके. मैं वासना में इतना अधिक पागल हो रहा था कि मैं खुद अपना माल ही गटक गया. जैसे ही मैंने उसके नीचे कपड़े उतारे, उसकी बिना बालों वाली चूत नज़र आई.

मैंने तब अपनी जीभ निकालकर पूजा की चूत को ऊपर से चाटना शुरू किया और धीरे धीरे अपनी जीभ को पूजा की चूत के अन्दर डालना चालू किया. अब गैबरियल ने मुझे सीधा लिटा दिया और मेरे पैरों से मुझे चूमना शुरू कर दिया. एक दूसरे को खिलाते थे, वो मुझे अपने मुँह का निवाला मेरे मुँह में डाल देता था और मैं अपने मुँह में पानी भर के उसके मुँह में डाल देती थी.

अफ्रीका फुल सेक्सी वीडियो

बड़ी उम्र की महिलायें, नव यौवनाएं, ताज़ी ताज़ी जवान हुयीं छोरियां, कमसिन कच्ची कलियां सब की सब झिलमिल झिलमिल कर रहीं थीं. पर जैसे जैसे उसने मेरी योनि में लिंग से जगह बनाई, वैसे वैसे मेरी पकड़ ढीली होती रही. हां बगलों के बाल भी पूरी तरह से साफ़ करके पूरी चिकनी चमेली बन कर आना.

चाची- इतने सालों से तो चोद रहे हो … कहाँ फाड़ पाए हो अभी तक मेरी चूत को … आह … मेरी चूत इतनी कमजोर नहीं है कि फट जाएगी.

एक दिन वो कॉलेज से थक कर आई थी, मैं उसके घर गया, तो देखा वो सो रही थी.

जीजू अगले दिन चले गए और उसके बाद हम दोनों लोग आज तक संपर्क में हैं. वो मस्ती में आंखें बंद करे हुए अपनी जांघें जोर से दबाए हुए और अपने दोनों हाथों से मेरे हाथ पकड़ते हुए बैठ गई थी. सेक्सी ब्लू बढ़ियाहाँ, वो मास्टर बाथरूम था पर इतना भी बड़ा नहीं था कि उसमे 3 मर्दों का ग्रुप सेक्स आसानी से हो जाए!दूसरे वाले ने भरपूर कोशिश की पर वो बड़ी मुश्किल से मेरे चूतड़ों पर अपना मुँह ले जा पाया! जिसे जो मिला वो उसी में खुश हो रहा था! मेरे चिकने चूतड़ उसको इतने पसंद आये कि वो उनको की किसी लड़की के गाल समझ कर चूमने चाटने लगा और जल्दी ही उसका ये चूमना चाटना, काटने में बदल गया.

उसने मुझे हाथ पकड़ कर उठाया और कहा- मैं तुम्हें जरा सी भी तकलीफ नहीं होने दूंगा, पूरे आराम से करूँगा ताकि तुम्हें ज्यादा से ज्यादा मजा आये. इस टाइम तो मेरे अन्दर भी लालच आ गया था कि कहीं बहन की चूत सच में देखने को मिल जाए. वह बरेली की रहने वाली है, हर साल ही नीरू के यहां यानि अपनी मौसी के घर आती है.

मैं फिर भी पूजा के नीचे चुपचाप लेटा रहा और पूजा को पूरी तरह से झड़ने दिया. मैं- साइड में रखने के लिए ये सब लेकर आयी हैं या खाएँगी भी?पूर्वी- हाँ खाएँगे भी … पर आपने अपने लिए ग्लास तो भरा ही नहीं?मैं- मैं तो ऐसे ही केन से ही पी लूँगा.

वैसे मैंने उन दोनों की फोटो भी मोबाइल में खींच ली थी, मैं सोच रहा था कि प्रशान्त की भी गांड मारूँ! लेकिन जब कुँवारी चूत सामने हो तो गांड का क्या करना … और मुझे तो सिर्फ चूत पसंद है।फिर जब मैं नीचे आया तो भैया ने पूछा- तुम कहाँ थे?तो मैंने कहा- मैं सो गया था.

बस में सबके टिकट बन जाने के बाद जब ड्राइवर ने लाइट बन्द कर दी, तब मैंने धीरे से उसके ऊपर हाथ रखा तो उसने मुस्कुरा कर अपना सिर आगे की सीट पर टिका लिया एवं अपनी शाल आगे से खोल दी. बहू को वो रूप देखकर मुझे अपने लंड के मुकद्दर पर फ़ख्र हुआ कि इस शानदार जिस्म की मलिका की चूत को मेरा लंड अनगिनत बार भोग चुका था. वो ऊपर से मेरी चूत को चोद रहा था और नीचे मेरी चूचियां बुरी तरह से हिल रही थीं.

सेक्सी वीडियो चोदा चोदी वाली कैसे रेवती और मैं एक हो गए और कभी ना भूल सकने वाली कहानी रात के काले अंधेरे में प्यार की कलम से एक दूसरे के जिस्म पर लिखते चले गए. इधर बातें चल रही थीं, मुझे जगत अंकल आगे से और राज अंकल पीछे से पकड़ कर चोदे जा रहे थे और मैं अब बर्दाश्त नहीं कर पा रही थी.

पर फिर सोचा कि बेटा भी तो साथ है, नीता इसको बीच में सुलायेगी।पर जब वो चेंज कर के बाहर आयी उसने लोअर और टी शर्ट पहनी हुई थी. मेरी पत्नी ने उसको समझाया- देखो नीरू, तुम्हें थोड़ा दर्द तो बर्दाश्त करना पड़ेगा. भाभी की हालत उस समय एक प्यासे हाथी की तरह हो गई थी, जो किसी तरह नदी तक पहुंचना चाह रहा था.

लेडीस घोड़े की सेक्सी

मीता पूरे शरीर पर हाथ फेरता हुआ मैं अपने लन्ड से मीता की चूत पर अपना प्यार लगातार अंकित करता जा रहा था. मैं थोड़ी देर तक उनको मसलता रहा, फिर मैंने मैडम के चुचूक अपने मुँह में ले लिए और उनको पीने लगा. सब चुप थे पर अशोक अब अपना एक हाथ मयूरी की चूची पर से हटाकर उसकी पैंटी में डाल चुका था और अब वो उसकी चूत में उंगली कर रहा था.

मैंने भाभी के कमरे में देखा तो भाभी भी शायद नहा ही रही थीं, शावर की आवाज आ रही थी. मैंने देखा कि वो दोनों नीग्रो बहुत बड़े-बड़े थे, उनमें से एक की उम्र तो करीब 45 के ऊपर रही होगी और दूसरे की लगभग 30 साल.

पर दो-तीन मिनट धीरे धीरे करना और उसके बाद खुद सोनू बोलेगी कि स्पीड बढ़ाओ.

प्रियंका की बात से आईडिया आया कि क्यों ना हम लोग वॉशरूम ही चल कर आगे का काम करें. वहीं पास में एक तीन मंजिल अपार्टमेंट था, जिसमें केवल कुछ 4-5 कामकाजी औरतें रहती थीं. थोड़ा चाटने के बाद बोली- कितनी गीली हो चुकी है तुम्हारी योनि, भीतर से पानी रिस रहा है, अब समझ आया कि मर्द क्यों तुम्हें चाहते हैं.

मेरा लिंग भाभी की योनि में एकदम टाइट सा सरकता चला गया, बिल्कुल ऐसे जैसे कि अन्दर कोई तेल या ग्रीस लगा रखी हो. तुझे क्या चाहिए, बता दे?मैं बोली- मम्मी आप ले लो, मैं पहले थोड़ा आराम करना चाहती हूं. तभी जगत अंकल बोले- वन्द्या को भी यहीं बुला ले, यह मस्त तो हो रही है.

मैं उसे अपने आप न जाने क्यूं बिल्कुल चूसने लगी, चाटने लगी और अपने आप मेरा हाथ उनके लंड में चला गया.

सेक्सी बीएफ लड़की वाली: देखना तू इससे भी बड़ी रंडी बन कर मुझसे अपनी गांड उछाल उछाल कर चुदवायेगी. लड़की जब सेक्स की इस सिचुएशन में आ जाती है, तब उसे सम्हालना असंभव हो जाता है.

मैं चाहती हूँ कि आज मेरे छोटे छेद में मेरे पति, और मेरे बचपन के प्रेमी, दोनों के लंड इकठ्ठेट्ठे ही घुस जाएँ!” नताशा ने सिसकारियां भरते हुए जवाब दिया. लेकिन यह आकर्षण सिर्फ मीता के साथ गुजारे पलों में ही था, उसके अलावा मेरे सम्बन्ध जहां भी बने, वहां पर मैं एक सामान्य मर्द ही होता था. मैं- चाची मेरा एक काम कर दोगी?चाची- कैसा काम?मैं- मुझे बड़ी चाची को भी चोदना है … किसी तरह आप चुदवा दो न.

दिन गुजरते गए और हम दोनों एक दूसरे को और अधिक बेहतर तरीके से समझते गए.

मैं पागल हुई जा रही थी और मेरे हाथों की रेंज पर सिर्फ मुन्ना अंकल थे. और यह कहकर उसने मुझसे कहा- जीजू आओ ना … पायल को दिखाओ कि चूत में लंड किस तरह घुसता है. उसकी बुर के नन्हे से दाने को अपनी दो उंगलियों के बीच में दबा कर जैसे ही मसला उसकी आह निकल गई और वो एकदम से गरमा गई.