आदिवासी लड़की का बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी वीडियो चूत और लंड

तस्वीर का शीर्षक ,

सी वीडियो बीएफ हिंदी: आदिवासी लड़की का बीएफ, शाम को थोड़ा अंधेरा भी होने लगा था तो अन्दर कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था.

सेक्सी बीपी वीडियो मराठी

कुछ मिनट तक बिना हिले गुलशन जी पड़े रहे, फिर उनको अहसास हुआ कि सुमन अब नॉर्मल हो चली है तो उन्होंने उसके होंठ आज़ाद कर दिए. ब्लू फिल्म भेज देमुझे विश्वास ही नहीं हो रहा था कि मैं आज उसे आज चोदने वाला हूँ, बहुत प्यार करने वाला हूँ.

लेकिन मोहन ने मम्मी की कमर को पकड़ कर धक्के लगाना स्टार्ट कर दिया फिर ‘थपथप. सेक्सी पिक्चर खचाखचजैसा कि आप लोग जानते हैं कि लोकल ट्रेन में भीड़ बहुत ज्यादा होती है.

अब यश मम्मी के पेटीकोट एक ही झटके में ऊपर उठा कर मेरी माँ की चूत चाटने लगा.आदिवासी लड़की का बीएफ: क्योंकि हमारा कमरा तो फर्स्ट फ्लोर पर था और बाक़ी सभी के कमरे ग्राउंड फ्लोर पर थे। इसलिए हमें कोई डर भी नहीं था।फिर मैंने उस की शर्ट निकाल दी और ब्रा के ऊपर ही अपना मुँह रख दिया। उस ने कामुकता के वशीभूत हो कर मेरा मुँह अपने चूचों में दबा लिया। मैंने उस की ब्रा भी निकाल दी। उस के नंगे चूचे देख कर मैं पागल हो गया.

मैं तो चली जाऊँगी इस बेटीचोद का ख्याल रखना, बड़ा मस्त चुदाई करता है.एक दिन मैं जाड़े का धूप सेंकने छत पर टहल रहा था, नीचे सभी औरतें आंगन में नहा रही थीं.

बीपी सेक्स ब्लू - आदिवासी लड़की का बीएफ

कुछ देर की घमासान चुदाई के बाद शिवानी का पानी छूट गया और मैंने भी अपना लंड बाहर निकाल कर उस की गांड और चूतड़ों को अपने लंड की पिचकारिर्यों से भिगो दिया.मुझे हमेशा अपने लंड पर घमण्ड रहा है परंतु उस हसीना की चूत, जांघें और उस की हाथी के सूंड के आकार जैसी गोरी टांगों को देख कर मेरे लंड का घमंड ख़त्म हो गया.

पूजा ने लंड को हाथ में पकड़ा और उसको सहलाते हुए उससे बात करने लगी- तू कितना अच्छा है और ये मामू गंदे हैं. आदिवासी लड़की का बीएफ चाचा बोले- आरती, तू तो पागल पन की हद तक सेक्सी है, मैं रोज तेरे नाम से तेरी पैंटी ब्रा को चूमने के बाद मुट्ठ मारता हूं, तेरा कपड़े बदलते और नहाते का चुपके से वीडियो बनाया, उसी को इन दोस्तों को दिया, सभी उसी को देख देख कर मुठ मारते और तुझे चोदने के लिए आज तक तड़पते रहे.

फिर तो मैं सारे मेहमानों को छोड़कर वंदिता की सेवा करने में लग गया, जिसे देखकर वो भी मुझसे इंप्रेस होने लगी.

आदिवासी लड़की का बीएफ?

गोपाल- अरे रोज थका हुआ आता हूँ तो सो जाता हूँ आज नीतू ने कमाल कर दिया. जोशना- आहह… दर्द हो रहा है यार, रुक जा… भैन के लंड अब नहीं चुदना मुझे… हट मादरचोद…पर मुझे तो जैसे होश ही नहीं था, मैं धक्के दिए जा रहा था. अब मैंने जैसे ही अपना लौड़ा सोनिया की गांड में डाला तो सोनिया तो गांड उचका उचका कर अपनी गांड मराने लगी जैसे उसे जन्नत का मजा आ रहा हो.

उसे पता था कि एक बार औरत के अन्दर की अन्तर्वासना जाग जाए, तो वो अपनी आग शांत करने के लिए बाजार में नंगी होकर भी भी चुदवा सकती है. आंटी एक दम से बोली- क्या कर रहा है, आराम से कर ना!मैंने आंटी की गांड में तेल लगाने एक बाद उस पर अपना लंड लगा कर सैट किया तो आंटी शाम कर बोलीं- धीरे से डालना. उसे भी मजा आ रहा था, वो मुझे पागलों की तरह किस किए जा रही थी और कह रही थी- यार अगर मुझे पता होता कि इतना मजा आता है तो मैं पहले ही करवा लेती.

तो जीजू ने कहा- वो सरप्राइज तो मेरे घर में है, उसके लिए तुम्हें मेरे घर चलना होगा. लगभग 15 मिनट के इस प्यार में पापा ने अपनी बेटी सुमन को एकदम नंगी कर दिया था और खुद के कपड़े भी निकाल दिए थे. दूसरे ही दिन थोड़ी देर बात करने के बाद हम दोनों को ही कुछ समझ में आने लगा था.

पहली बार पूर्णतया: विकसित चुचियों का आभास पाकर मेरा लंड तो अपना होश खो चुका था. मेरे हाथ बढ़कर उन दोनों लड़कियों की चुत तक पहुँच गए और मैंने अपने हाथ से ही ऐसा जलवा दिखाया कि उनकी चीखें निकलने लगी.

मैंने अब धीरे धीरे झटके लगाने शुरू किए और आनन्दमयी गति से चुदाई चालू कर दी.

इसे आप यहाँ से download करें!सेक्स से भरपूर देसी इंडियन सेक्सी लड़की जानवी से हिंदी में सेक्स चैट, वीडियो सेक्स चैट करने के लियेदिल्ली सेक्स चैट गर्ल जानवीपर आयें और मजेदार सेक्स की बातें करके मजा लें!.

) को देखता रहा।वे दोनों पूरी तरह से नींद में थे। भैया रात को सोते वक्त तम्बाकू का पान खा कर गहरी नींद में सोते थे। वैसे भी वे दिन भर की भाग दौड़ में थक जाते थे. अनजानी जवान लड़कियों की कामुकता भरी गुलामी-1अब तक आपने मेरी इस सेक्स स्टोरी में पढ़ा था कि तीनों लड़कियों ने मुझे फंसा लिया था और अब मैं उनके चंगुल में था. हम लोग आपस में बातें करते हुए कुल्फी खा रहे थे, पर मैं कम ही बोल रहा था क्योंकि वो लोग अपने अपने घरों की बातें ज्यादा कर रही थीं.

अब आप लोग परेशान हो रहे होंगे कि मैं ये सब फ़ालतू की बात बता रहा हूँ. मैंने पहला लंड मुँह से निकालना चाहा मगर तभी दूसरे ने अपना लंड भी मेरे मुँह में घुसाने की कोशिश की. शायद उसी समय उसके लंड ने उसका साथ छोड़ दिया, उसकी पिचकारी चल गयी, वो तेज़ी से अपना हाथ छुड़ा कर रूम से भाग गया.

जब भी उसे या उसकी सहेली को ऐसा समय मिलता तो वो एक दूसरे के घर एक रात आती जाती थीं, जिससे उनका समय पास हो सके.

अब माँ से रहा नहीं जा रहा था, वो रहमत को गाली देते हुए बोली- रुक क्यों गया हरामी, आजा ऊपर आ, अब चोद न मुझे!पर रहमत माँ को तड़पाना और चाहता था, उसने लंड को चूत पर रखा और रगड़ने लगा जिससे माँ बेचैन होने लगी. मैं भी जोश में आ कर अपने चूतड़ उठाने की कोशिश कर रही थी लेकिन जय ने मुझे इतनी बुरी तरह से जकड़ रखा था कि मैं चाह कर भी अपने चूतड़ नहीं उठा पा रही थी. जन्नत का अहसास है गांड चुदाईइसके बाद तीन दिन तक मेरी गांड में मीठा मीठा दर्द होता रहा.

फिर मैं उसकी चुचियों से खेलने लगा और उसे किस करने लगा, तो उसने भी लंड पकड़ लिया और उसे सहलाने लगी. मैंने सागर को बेड पर खड़ा किया और नीचे बैठ कर सागर का लंड चूसने लगी. उन दिनों जाड़े के दिन थे, वो नहाते हुए धूप का आनन्द लेना चाहती थीं, शायद इसी वजह से खुले में नहा रही थीं.

मैंने पूरा वीर्य उसके मुंह में डाल दिया और वो फिर मेरा लंड का माल चूस कर चाट गया.

उसने टांगें और फ़ैला लीं और कहा- धीरे धीरे डालना, क्योंकि मेरा सिर्फ़ दूसरी बार है तो दर्द होगा. अर्पिता दिल्ली में अपने पति के साथ रहती थी, उसके पति बिज़नेसमेन हैं.

आदिवासी लड़की का बीएफ तभी वे दोनों अंकल बोले- तुम लोग बहुत पागल हो! बेचारी की हालत देखो, इसके नीचे चूत से रस बह रहा है और तुम लोग उसे तड़पा रहे हो? ये रस अनमोल है. कभी वह मेरे लंड पर आइसक्रीम लगाती और मेरा लंड चूसने और चाटने लगती, कभी मैं उसकी चूत पर दही डाल देता और चाटने लगता.

आदिवासी लड़की का बीएफ तो वो हंसने लगी और बोली- मैं तुम्हारे उम्र की तो नहीं हूँ तो मैं तुम्हारी फ्रेंड कैसे हो गई?मैंने कहा- आप मुझसे इतनी अच्छी बातें करती हैं, कुछ प्राब्लम हो तो सलाह भे ले लेती हैं. हरामी मज़े पूरे ले रहा था बस नाटक ऐसे कर रहा था, जैसे मैं कुछ समझ नहीं रही थी.

इस वक्त गर्मी पूरे जोर से पड़ रही थी इसलिए कहीं निकलना मुश्किल ही होता था.

बांग्लादेश सेक्सी सेक्सी वीडियो

तभी सलमा एकदम नंगी ही मेरे पास आई और शिशिर के थूक से भीगी मेरी चुचियों को चाटने लगी. चुदाई की मस्ती में मैं यह भी भूल गई थी कि सलमा और एक अजनबी आदमी ऊपर की बर्थ पर लेटे हैं. फिर अचानक ही मोहन 10-15 ठापें मारके शांत होने वाला ही था कि शमशेर ने उसे हटा दिया और उसने मम्मी को जमीन पर चित्त लिटाकर मम्मी की दोनों टांगों को ऊपर करके एक बार फिर से लंड अन्दर डाल दिया.

मुझे क्या ऐतराज हो सकता था, मैंने भी कह दिया- हाँ, जब तुम कहो, जहाँ कहोगे, मैं आ जाऊँगी, बस मुझे प्यार ऐसे ही करते रहना।उसके बाद हम आधी फिल्म बीच में ही छोड़ कर घर वापिस आ गए।मगर इससे पहले कि हमारा कोई प्रोग्राम बनता, उसके पापा का ट्रांसफर हो गया, वो मुझे छोड़ कर चला गया।मैं बहुत रोई, इसलिए नहीं कि मेरा बॉयफ्रेंड चला गया बल्कि इसलिए कि मेरे हाथ से चुदाई का मौका चला गया।कहानी जारी रहेगी. एक हफ्ते में मैंने मौसी की चूत का भोसड़ा बना डाला था और कई बार गांड भी मार चुका था. थोड़ी देर बाद अर्चना के सलवार सूट को मैंने उतार दिया, मेरी मस्त बहन ने अन्दर काली ब्रा और काली पैन्टी पहनी हुई थी.

मैंने तो ऑपरेशन करवाया हुआ है, इसलिए मैंने तुझसे अन्दर झड़ने को कहा.

लंड का अहसास होते ही रीना ने मेरा लंड छोड़ कर दोनों हाथ से अपना मुँह ढक लिया. मैंने उस भाभी को देखा तो आदमी ने उस भाभी को आगे अपनी गोद में बिठा लिया और उसकी चूचियां दबाने लगा. मेरे भाई ने जब मुझे और मम्मी को चोदा तो उसने यही कहा- दीदी, मुझे ज्यादा मजा मम्मी को चोदने में आया है.

वहां हम लोग नक्की झील के सामने एक ऐसे होटल में रुके जो एक घर में ही बनाया गया था. दीदी मेरा लंड देखकर बोलीं- आज तो तेरा लंड और भी बड़ा और कड़क दिख रहा है. गाली देते देते बोलती जा रही थी- मार साले मेरी गांड… अह… आज मैं तेरी रांड… रखैल…मैं भी चौंक गया कि ये क्या बोल रही है.

कुछ समय बाद मेरी बड़ी बहन की शादी थी, उसमें वो भी आई थी, लेकिन कोई बात नहीं हुई, केवल एक-दूसरे को देख रहे थे. आंटी की गांड भी बहुत मस्त थी, मैंने आंटी से पूछा- आंटी गांड मरवाती हो?आंटी बोली- कभी कभी तुम्हारे अंकल मेरी गांड मारते हैं लेकिन मैं ज्यादा मारने नहीं देती.

फिर वो जोर से बोली- जान मेरी, मैं चुदने को तैयार हूँ, लाइए अपना लंड मेरी चूत में डालिए और चुदाई करिए. उधर अतुल तो फ्लॉरा की चुत चाटने में लग गया और वीरू उसके मुँह को चोद रहा था. लगभग थोड़ी देर के बाद फिर स्टार्ट हो कर थोड़ी दूर चल कर वापस बंद हो गई.

मैंने दोनों चूतड़ों पे हल्के से दांत से काट लिया, तो उस की हल्की से सिसकी निकल गई.

सबने एक से बढ़कर एक कमेंट्स दिए, जिसे सुनकर बरखा हवा में उड़ने लगी. पर आज तेरे इस वेल-मेंटेंड गुजराती जिस्म की चूत, गांड, मुँह और मम्मों का भोसड़ा बनाकर रख दूँगा समझी? बहनचोद तुझे इतना चोदूँगा कि तुझमें उठने का दम ही नहीं रहेगा. मैं उसकी चुचियों को चूसने लगा और भाभी मेरा लंड पकड़ के बार बार अपनी तरफ़ खींच रही थी.

उसकी बात सुन के मैं भी थोड़ा नम हो गया, मैंने उससे कहा- नहीं, तुम हमेशा मेरे पास रहोगी. मुझे बहुत दर्द हुआ, इरफान से 3 साल से सेक्स करने के बावजूद मेरी सील आज ही टूटी हो, ऐसा महसूस हो रहा था.

उसमें से तो कुछ निकला ही न होगा, है ना?”बहूरानी ऐसे बोलती हुई किचन में गयी और पौंछा लाकर फर्श साफ़ करने लगी. चूंकि हम लोग काफ़ी विदेश भी घूमे थे, ड्रेसिंग के मामले में काफ़ी फ्री थे, वो बीच पर बिकिनी में घूम रही थी. जब मेरी मम्मी 10 दिनों के लिए चली गई थीं तो पड़ोस वाली आंटी से खाना बना कर देने के लिए कह गई थीं ताकि मुझे कोई परेशानी न हो.

सेक्सी इंडियन ब्लू पिक्चर वीडियो

अब आगे…सुमन- ओह माँ… ये कैसी आवाज़ है मॉंटी?मॉंटी- हा हा हा… कुछ नहीं दीदी, वो पास वाले घर में काम चल रहा है शायद कोई बड़ा सामान गिरा होगा… ये उसी की आवाज़ है… आप तो डर गईं.

आपने मेरी पहली रियल सेक्स स्टोरीसोशल मीडिया पर पंजाबी चुत मिलीके दोनों पार्ट को बहुत पसंद किया, उसके लिए धन्यवाद. मैंने ताव में चुत के मुहाने पर लंड टिकाया और नारी शक्ति का जयकारा लगा कर अपना 7 इंच का लंड आधा पेल दिया. वो कुछ देर बाद ऐसे ही लेटी रहीं और फिर धीरे से बोलीं- सुमित?मैं जानबूझ कर कुछ नहीं बोला.

इतनी देर में सुगंधा की नजर मेरी शर्ट पर पड़ी जो पीछे से गंदी हो गई थी. नेहा बोली- होता है होने दो, आप इसे फाड़ डालो, ये बहुत दुःख देती है मुझे. ब्लू पिक्चर फिल्म दिखाओकुछ देर बाद एअरपोर्ट से बाहर निकल कर मैंने अर्पिता को कॉल किया और पूछा कि वो कहाँ है, तो बात करते-करते वो मेरे पीछे आ कर खड़ी हो गई.

मैं बोला- तुम तो कह रही थीं कि किसी लड़की के पास सोने से वीर्य निकलता है. अंशु के पास इंदौर जाने के अलावा कोई चारा नहीं था। तो अगले ही हफ्ते सुबह साढ़े आठ बजे की ट्रेन पकड़ कर हम इंदौर चल दिये।दोपहर करीब साढ़े ग्यारह बजे हम दोनों मोहन के दफ्तर पहुंच गए, वहां पर पता चला कि वो आज देर से आएगा। यह बात पहले से ही तय थी कि मोहन हमें नहीं मिलेगा.

मुझे मजा सा आने लगा था और नशे में मुझे ग्रुप सेक्स की फ़िल्में याद आने लगी थीं. मैंने उसे सामान रखने में मदद की, लेकिन उसी समय बस चलना शुरू हो गई ओर उसके स्तन मेरे हाथ को लगे. मैं देखता हूँ कौन आया है?मैंने कहा- दर्द के मारे मेरा तो बुरा हाल है.

मैंने ताव में चुत के मुहाने पर लंड टिकाया और नारी शक्ति का जयकारा लगा कर अपना 7 इंच का लंड आधा पेल दिया. तो मैंने पोजीशन चेंज करके पीछे मामी की चुत में लंड सैट करके दबाव दे दिया. कुछ देर बेबी ने दूध पीना बंद कर दिया और आंटी के चूचे से दूध की तेज धार मेरे मुँह में आ रही थी.

यह सब देख के बाहर उस लड़के को भी बेचैनी और आग लग रही थी, इस का अहसास मुझे रूम तक हो रहा था.

धीरे धीरे नहीं घुसा सकते थे क्या?वो बोला- भाभी 3 ही धक्के तो लगाए हैं मैंने. मैंने उस से कहा- वैशाली ने मुझे तुम्हारे बारे में बताया तो था कि तुम सुन्दर हो, परंतु इतना नहीं पता था कि तुम वास्तव में इतनी मस्त हुश्न की मलिका होगी.

पहले तो मैं डर गया कि कहीं अर्चना मुझे पकड़ कर सबके सामने ले जाकर रात वाली बात न बता दे. आह्ह्ह् ऊऊह्हह…” उसके मुँह से ऐसी आवाज आ रही थी और अगले ही पल वो अपने हाथों से मुझे दूर कर रही थी, पर मैंने उसे मजबूती से पकड़ रखा था और उसके होंठों को चूसे जा रहा था. दोस्तो, मैं दिनेश, मेरी पिछली कहानीमेरी मामी के साथ सहेलियों का लेस्बियन सेक्समेरी साली ममता की सहेली सुधा की थी, भूल गए तो बता दूँ कि मेरी साली ममता बड़ी नखरे वाली थी, उसे मैंने बड़ी मुश्किल से पटा कर चोदा था.

मौसी ने हाथ जोड़ कर कहा- नहीं बेटा मुझ पर दया करो, मैंने आज तक कभी गांड नहीं मरवाई है और तुम्हारा लंड भी बहुत लम्बा है. ब्लू-फिल्म देखते समय वो एक हाथ की उंगली को अपनी चिकनी चुत में दे रही है. अगर मेरी किस्मत में रवि का साथ लिखा है, उसके लंड से चुदने का अहसास लिखा है तो मुझे समलैंगिक होने में कोई परेशानी नहीं है.

आदिवासी लड़की का बीएफ मैंने भाभी से कहा- सुमन भाभी आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो, रोज़ रात को आप मेरे सपने में आती हो, मुझे आपसे बात करना अच्छा लगता है और आपके साथ रहना अच्छा लगता है. जब तक वो ठंडी नहीं हो गई। मैं उस का सारा रस पी गया था।अब मैं उठा और अपने सारे कपड़े निकाल दिए और पूरा नंगा हो गया.

काली महिला सेक्सी वीडियो

थोड़ी देर के बाद मैंने नयना को नीचे उतार बिस्तर के किनारे उसके घुटनों पर कुतिया बना कर खुद जमीं पर उसके पीछे खड़ा अपना मस्त गीला लन्ड उसकी झड़ी हुई चूत को छुआ दिया. हर लड़की या औरत का एक सेन्सिटिव पॉइंट होता है, वैसे ही सुमन का पॉइंट उसकी गांड का छेद था. मैं भी जोश में आ कर अपने चूतड़ उठाने की कोशिश कर रही थी लेकिन जय ने मुझे इतनी बुरी तरह से जकड़ रखा था कि मैं चाह कर भी अपने चूतड़ नहीं उठा पा रही थी.

इस बार पार्ट्नर बदल गए थे, मगर चुदाई वैसे ही जोश में हुई और सबने इन तीनों की चुत और गांड को ऐसा ठोका कि बस पूछो मत. मेरी आखों से फिर आंसू आ गए और मैंने कहा- नहीं यार… तूने फोन दे दिया वही बहुत है. नताशा सेक्सी वीडियोमैंने अपनी एक छोटी सी सवालिया कहानी में आपको अपनी कामना को लिखा था.

तभी नेहा ने आवाज़ लगाई- प्रिंस कहाँ देख रहे हो, मम्मी ने तुम्हारे और अंकल के लिए खाना भेजा है.

मैंने उनसे पूछा- मैडम आपका बाथरूम कहाँ पर है, अब पहले मैं आपकी चुत की साफ-सफाई कर दूँ. मैं सिर्फ़ पेंटी में उनके सामने खड़ी थी। उनकी आँखों की चमक बता रही थी कि उन्होंने इससे अच्छा बदन कहीं नहीं देखा था।अब वो मेरी पेंटी को उतारने लगे, मैं उनका साथ दे रही थी.

मैंने किचन में से उसके लिए पानी ला दिया और सीधा बेडरूम में चला गया. यही सोच कर उन्होंने लंड को ज़ोर ज़ोर से चुत पर रगड़ना शुरू कर दिया और साथ ही साथ हाथों से सुमन की जाँघों को भी मसलने लगे, जिससे सुमन का मजा दुगुना हो गया. मैंने भी चुत में गीली हुई दोनों उंगलियां अपने मुँह में डाल लीं और चूसने लगा.

इतना पानी मैंने आज तक किसी लड़की का झड़ता नहीं देखा जितना प्रीति का निकला.

तेज बिजली चमक रही थी, मैंने तीन चार अजनबियों को खेतों की ओर जाते हुए देखा. टॉयलेट के साथ में एक और खुला कमरा सा था जहाँ पुराना फरनीचर और कुछ आलू की बोरियां पड़ी थी. एक लड़की ने मेरी दोनों टांगें फैला दीं और मेरी गांड में उंगली डालने लगी.

लड़कियों की मसाजमुझे बर्दाश्त करना मुश्किल हो रहा था लिहाजा मैंने उसके बाथरूम में जा कर मुठ मार कर खुद को शान्त किया वरना साली का जबरदस्त चोदन ही कर देता. शिशिर अपने लंड को मेरे मुँह में अन्दर बाहर करते हुए मेरे मुँह को ही चोदने लगा.

सेक्सी पोर्न वीडोज

आंटी थोड़ा चिल्लाईं और बोलीं- आराम से नहीं डाल सकते थे क्या?मैंने उनकी बात ना सुनते हुए उनको चोदने लगा. उसके लंड की धार बहुत तेज थी, जिससे आधा वीर्य अपने आप पेट में चला गया. रीना ने मेरी तरफ देखा तो मैंने कहा- जब से आपको देखा है, मैं कुछ खो सा गया हूँ, आप मुझे बहुत पसंद हो.

फिर मैंने शीशे के सामने ही रेखा को एक मेज से सहारा देकर खड़ा कर दिया और अपना घुटने के बल नीचे बैठ गया. फिर एक एक करके सभी सहेलियां झड़ कर अपने मुकाम पर पहुँच गई थीं और सभी पस्त हो गई थीं. उसने मुझे वापस बस स्टैंड तक छोड़ा… यहां तक भी पूछा कि भूख लगी हो तो कुछ खा ले… पैसे मैं दे दूंगा.

जिससे भाभी के मम्मे एकदम से उछल कर खुली हवा में आजादी की सांस लेने लगे. अब मैं लंड को पूरा अन्दर ले गया और फिर लंड को अन्दर बाहर करता रहा, जिससे समीर को बहुत मजा आ रहा था. ममता भी पीछे पीछे बाथरूम आ गई, मैं देख चुका था कि वह ब्लू फिल्म देख रही थी.

वो हमारी एक गंदी बातों वाली जंगली वल्गर और हिन्दी में मस्त यादगार चुदाई थी. मैंने कहा- ऐसा करते हैं, इससे बहुत मजा आता है, मैंने पढ़ा है और फिल्मों में भी देखा है और तुम भी तो फिल्म देख रही थी न, मुझे पता है.

घर पर आने के बाद दीदी और माँ दोनों मेरे लंड की मालिश करतीं और चुम्मा लेतीं.

फिर मैं बैंगन को गांड के छेद पे रख कर अंदर की ओर ठेलने लगी लेकिन बैंगन में वेसलिन लगी होने के कारण बार बार फिसल जाती थी बहुत कोशिश करने के बावजूद बैंगन थोड़ी से भी अंदर ना घुस पाई और आख़िरकार बैंगन टूट गयी. एक्स एक्स वीडियो हिंदी वालाये सब हम दोनों अंग्रेजी में बात कर रहे थे क्योंकि अजय हमारे बिल्कुल पास ही खड़ा था. पोर्न सेक्स देसीपप्पू द्वारा उसकी माँ के बारे में बताई बात सुन कर नीता जल्दी से वो फटी बनियान अपने जिस्म पे ओढ़ कर फटी आँखों से पप्पू को देखने लगी. पापा- सुमन तेरी चुत में बहुत आग है… मेरी उंगली झुलस रही है… बाहर ये हाल है तो अन्दर तो क्या पता कितनी आग होगी… ले मेरी बेटी आने दे तेरी रस की धारा… तेरा पापा तैयार है पीने को.

उन्होंने मुझे 1000 रुपए दिए मैंने मना किया तो बोलीं- ये तेरा गिफ्ट है.

अब पप्पू ज़रा बिंदास होकर उस औरत के पीछे चिपक के गर्म साँसें उसकी गर्दन पे छोड़ने लगा. मैंने भी अपने कपड़े निकाल दिए और उसके ऊपर चढ़ गया, मैं लंड हिला कर बोला- अब तुम्हारी बारी है. मैंने प्यार करते करते उसे बेड पर लिटा दिया और खुद अपना लंड हाथ में लेकर उसके मुँह के ऊपर चढ़ गया.

मुझे याद है वो नीचे बैठ जाती थी और मेरे लंड को लॉलीपॉप जैसा चूसने लगती थी. ’वो शमशेर को अपने ऊपर से हटाने की कोशिश करने लगीं, लेकिन शमशेर ने उन्हें इस पोजिशन में जकड़ा हुआ था कि मम्मी छटपटाने के अलावा कुछ भी नहीं कर सकती थीं. मैं अर्चना की चूत को चूसने लगा और अपनी जीभ को उसकी चूत के बीच डाल कर काम रस को चाटने लगा.

हिंदी सेक्सी हॉट व्हिडिओ

मैंने अपनी ड्रेस में ब्लू ब्रा बिल्कुल टाईट और ब्लू कट वाली डिजायन में पेंटी पहनी. क्या, सरप्राइज दोगी बिस्तर में? मैं कुछ समझा नहीं बहू बेबी?” मैंने अचंभित होकर पूछा. मैंने पूरा माल उसके मुँह में छोड़ दिया और उसकी चुत से जूस पीता रहा.

इधर मेरा और दीपक का खड़ा लंड रंजु के चूतड़ों में लग रहा था, जिसे वह भी महसूस कर रही थी, पर वासनामय होने के कारण मजे से मोबाइल पर लगी रही.

अरे उसकी शादी नहीं हुई होती तो मैं भगा कर ले जाता उसे और उस माल को तेरे बाप से भी ज्यादा चोदता रहता.

पूजा की बात सुनकर संजय को हँसी आ गई क्योंकि उसने कही ही ऐसे थी- हा हा हा अरे मजाक कर रहा हूँ मेरी जान… तुझे दर्द देकर मुझे मजा थोड़ी आएगा. अब मामी भी उत्तेजित होने लगीं और अचानक उन्होंने उठ कर अपनी लहंगा एवं चोली निकाल दी और पूरी नंगी हो गईं. देसी ब्लू फिल्म ओपनफिर जो लड़की मेरे पास थी, उसने अपना स्कर्ट उतारा, मैं देख कर हैरान था कि उसने पहले से ही डिल्डो पहना हुआ था.

जब मैं बस में बैठा तो मेरे सीट के बाजू में कोई नहीं बैठा था, बस जैसे ही मुलुंड के बाद रुकी तो एक औरत 6 महीने के छोटे बच्चे के साथ मेरे बाजू में आ बैठी. वो दोनों हाथों से रूपा का ब्लाउज खींच कर उतारने लगा, जिससे उसका ब्लाउज फट गया. तू ऊपर क्यों नहीं करती और ये हंस क्यों रही है?नीतू कुछ बोले उसके पहले मोना की आवाज़ दोनों को सुनाई दी, जिसे सुनकर गोपाल होश में आया और जल्दी से नीतू का हाथ हटा दिया.

मैं अपने दोनों हाथ से उनकी एक चुची दबा रहा था और एक चूची के निप्पल को दांत से काट रहा था, जिससे उनको भी बहुत मजा आ रहा था. अपनी नंगी टाँगें सहलाती हुई नीता बोली- क्या आप भी ना अंकल? अब जाने दो मेरी बात, आपने इन धब्बों की वजह नहीं बताई, कैसे लगे यह धब्बे यहाँ अंकल?यह पूछते हुए नीता ने अपनी टाँगें खोल कर उंगली अपनी चूत के ऊपर शॉर्ट्स पे लगे धब्बे पे रखी.

लगभग 15 मिनट के इस प्यार में पापा ने अपनी बेटी सुमन को एकदम नंगी कर दिया था और खुद के कपड़े भी निकाल दिए थे.

मुझे लग रहा था कि उसके चुचे जोर से चूस लूँ और पूरा का पूरा खरबूजा खा जाऊं. गुजराती भाभी की चुदाई की कहानी जारी है, मेरी सेक्स स्टोरी पर कमेन्ट भेजिए. नीतू चाय बनाने चली गई और मोना मन ही मन खुश होने लगी कि उसको अब ज़्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ेगी.

हिंदी बफ फ़िल्म चचाजान अपने सारे कपड़े उतारे बिल्कुल नंगे अपना तना हुआ मूसल लंड लिए हुए खड़े थे. फिर काजल, सुरेश के ऊपर चढ़ गई, उसके पेट पर बैठ कर उसको हेड मसाज देने लग गई.

एक तरफ तो मैं रिजवाना के पैर पे अपना पैर रगड़ रहा था तो दूसरी तरफ आयशा की जांघ भी रगड़ रहा था. नमस्कार अंतर्वासना के प्रिय पाठकगण, मैं भगवान दास अपने जीवन की एक और देसी सेक्स स्टोरी लेकर हाजिर हूँ,आपने मेरी पिछली सेक्स स्टोरीमामी की चुदाई के बाद उनकी बेटी को चोदामें पढ़ा कि किशोरावस्था से ही मामी अपनी वासना पूरी करने हेतु मेरा जमकर इस्तेमाल करती रही थीं, जिसके कारण मैं चुत का आशिक बन गया था. एक रात जब मेरी आँख खुली तो भाभी रात को मेरी तरफ आकर भैया के ऊपर दूसरी टांग डाल कर सो रही थी। उनका एक पट नीचे मेरी तरफ था और गाण्ड आधी उघड़ी हुई थी। उस रात भाभी ने एक बहुत ही छोटा सा नाईट गाउन पहना था। उस गाउन के आगे के बटन खुले थे जिससे उनके मम्मे भी आधे बाहर निकले हुए थे.

सेक्सी ओपन मराठी बीपी

मुझे विश्वास ही नहीं हो रहा था कि मैं आज उसे आज चोदने वाला हूँ, बहुत प्यार करने वाला हूँ. सुमन- आह… चोदो मॉंटी आह… फास्ट करो तुम छोटे हो लेकिन मुझे मजा पूरा दे रहे हो आह… करो… आह दम से चोदो मुझे. मांग में सिंदूर और गले में मंगलसूत्र, उसको भी मैंने आज तक ये नहीं बताया है कि उस दिन वो बहुत ब्यूटीफुल लग रही थी और बहुत गोरी भी.

मुझे आई फोन लेना था लेकिन उसके पचास हज़ार दाम सुनकर मेरी चड्डी से धुँआ निकलने लगा. कुछ ही पलों में हम दोनों की कामुकता बढ़ गई और मैंने उसका टॉप उतार दिया.

मैंने भी अपने कपड़े निकाल दिए और उसके ऊपर चढ़ गया, मैं लंड हिला कर बोला- अब तुम्हारी बारी है.

पूजा ने दर्द के मारे रीतिका के चूतड़ पर दाँत गाड़ दिए, उस वजह से रीतिका ने मेरे सीने पर दाँत गाड़ दिए और मुझे रोक दिया. वो मेरे पास आई और लंड को हाथ से पकड़ कर मेरे होंठों में होंठ डाल दिए. वो उठी और मेरी तरफ अपनी मोटी सी गांड करके कुतिया वाले आसन में बैठ गयी। एक आदमी पीछे से आया और अपना थूक से भीगा हुआ लंड उसकी चूत में डाल दिया।दूसरी औरत भी उठी और उसके साथ ही उसी आसन मैं बैठ गयी और दूसरे आदमी ने अपना मोटा काला लंड उसकी गांड में पेल दिया। दोनों ने एक दूसरे को देखा और ऊपर हाथ करके हाई फाइव किया और एक आदमी दूसरे से बोला- यार, तू सही कह रहा था.

”मैं दीदी के ऊपर लदते हुए उन्हें जोर जोर से कुतिया की तरह चोदने लगा. मैंने भी मम्मी के बड़े बड़े बूब्स दबाने शुरू कर दिए और ब्रा खोल कर मम्मी के बूब्स आज़ाद कर दिए. और हाँ, आज के लिए तो कोई नयी वीडियो नहीं दी आपने?मामा जी बोले- नहीं, आज के लिए कोई वीडियो नहीं है.

थोड़ी देर कोशिश करने के बाद सुपारा गांड में घुस गया और पूजा दर्द से बिलबिलाने लगी, मगर उसने दाँत कस कर भींच लिए और वैसे ही डटी रही.

आदिवासी लड़की का बीएफ: मेरा चूमना क्या हुआ कि रीना तो अपनी छाती उठा उठा कर सिसकारियाँ भरने लगी- स्स्स्स्श उह्ह्ह्हा. क्या आप तैयार हो?उसने इस बारे में कुछ कहा तो नहीं, पर बोली- मुझे अभी कुछ नहीं पता.

वो साथ वाले कमरे में जाकर दो मिनट में लोअर पहनकर वापस हुक्के वाले कमरे में आ गया. अब दोनों भाई बहनों के मन में कुछ और ही ख्याल आने लगा था, दोनों को ही अभी तक सेक्स नसीब नहीं हुआ था और शायद यही बात दोनों को बेकाबू किये जा रहे थी. मैं आराम से हुक लगाने की कोशिश कर रहा था, पर दरअसल मैं हुक लगा नहीं रहा था.

कुछ ही मिनट में दीदी ढेर हो गईं, पर लगता था आज वो रुकने वाली नहीं थीं.

खड़े खड़े, आड़ा करके, पीछे से, सामने से, उलटा करके, ऊपर नीचे, किसी भी तरह से चुदने को तैयार थी साली मस्त माल थी. वो मेरे बदन को नोंचने लगी और उसने अपनी टांगों को मेरी कमर के इर्द गिर्द कस लिया. भाभी के पीछे मेरा 7 इंच का लंड भी अपने पूरे ताव में था और पीछे सुमन भाभी की गांड से भिड़ा हुआ था.