सुशील बीएफ

छवि स्रोत,बिहारी की चुदाई

तस्वीर का शीर्षक ,

चूत चुदाई वाली बीएफ: सुशील बीएफ, उसके बाद भी हम कई बार मिले लेकिन उसकी तरफ से कोई पहल नहीं हुई और वह बात ऐसे ही आयी-गयी हो गई.

बांग्ला सेक्स वीडियो बांग्ला

इसका मतलब ये हुआ कि जिस दिन मैं उसकी चुदाई कर लेता हूँ, उसके बाद राहुल का नंबर आता है ताकि मुझे कुछ पता ना चले. हिंदी में चुदाई के वीडियोयास्मीन से नजरें मिली तो शरारत भरी मुस्कान थी उसके होंठों पर!मैंने सोच लिया कि अब इसकी चूत मारनी है, इसलिए मैंने सोचा कि एक कोशिश करके देखूंगा।रात में मैंने मेसेज किया कि तुम्हारे बाथरूम में एक क्रीम देखा, कैसी क्रीम थी वो?कुछ देर तक जवाब नहीं आया तो मैंने गुड नाईट बोल दिया.

शाम को क्लीनिक पर बैठते ही मैं अन्दर पहुंचा, तो देखा काफी भीड़ भाड़ थी. कॉलेज की लड़कियों की बीपीजैसे जैसे यास्मीन नीचे आ रही थी, मेरा लंड उसकी फुदी में जा रहा था।अब यास्मीन मेरे लंड पर कूद रही थी, मैं उसकी हिलती चूचियों को दबा रहा था.

अब आगे का काम मेरा था!मैंने उसके होंठ अपने होंठों में दबाये और लंड को उसकी चूत की गहराई में उतार दिया.सुशील बीएफ: मैं दोबारा से उसकी चूत की ओर गया और उसकी चूत में जीभ से तेजी से चोदने लगा.

मामी बोलीं- कोई नहीं राजा … मैं दूसरी ले लूंगी … फिलहाल अभी जो कर रहे हो, वो करो.यह कहते हुए मैंने उसके एक कान की लौ को दांत से हौले से काट लिया और तुरंत उसकी गर्दन को चूमने लगा.

सेक्सी ब्लू पिक्चर इंग्लिश वीडियो - सुशील बीएफ

बिन्नी- ग्रेट आइडिया, नंगे किचन में?मैं और बिन्नी मेरी छोटी सी किचन में ऑमलेट बनाने चले गए.उस वक्त मैंने पूरे फ्लैट में कैमरा और माइक कुछ ऐसी जगहों पर लगा दिए.

उन्होंने मुझे उसी दिन की घटना याद दिलाई, जब हम चाचा जी के सामने पकड़े गए थे. सुशील बीएफ वो तिरछी नज़रों से मेरे लन्ड को देख कर मुस्कुराने लगी क्योंकि मेरा लन्ड उसकी गांड देख कर पूरी तरह तो नहीं पर खड़ा हुआ था.

तभी सपना ने अपने मम्मे आगे किये तो अंशिका ने मेरे लंड का रस सपना के मम्मों पर गिरा दिया.

सुशील बीएफ?

(उंगली करना जारी रखो)कुछ देर बाद उसने मुझसे पूछा- तुम क्या कर रहे हो. न्यासा अपने घुटनों के बल खड़ी होकर मेरे लंड को पकड़ पर अपने मोटे चूचों के बीच रख कर अपने दोनों चूचों को दबा कर लंड की मुठ मारने लगी. तभी बीच में ही बैंचों पर बैठी हुई कुछ लड़कियों में से एक ने कहा- ओय … कहां?उसने शायद मुझे आवाज दी थी, मगर एक तो मेरे हाथ में चोट लगी थी और दूसरा मुझे गुस्सा भी आ रहा था.

सोशल साइट्स में आईडी बना कर देश विदेश के लोगों से मित्रता कर टाइम पास करने लगा. मेरी यह आज्ञा सुनते ही शीना झपट्टा मार के मेरा लौड़ा चूसने में लग गई और बस थोड़ा ठीक लगने के बाद ही फ़ौरन संजना भी आकर मेरा लौड़ा चूसने लगी. मैं वैसा ही कर रहा था, इसीलिए शायरा मुझे अपने दिल से किस कर रही थी.

मैंने उसके मुँह से लोलू शब्द सुना तो मैं समझ गया कि इसके पति का लंड कबाड़खाना होगा. मैं- ऐसे कैसे जाने दूंगा मैं … और तुम भी मुझे छोड़कर जा नहीं सकती, अब तो आपको भी मेरे लंड की सख्त ज़रूरत है. दूसरे भागपति के सामने यार का लंड चूसामें आपने जाना था कि मेरी बीवी सुमन ने मेरे दोस्त का लंड मस्त होकर चूसा.

आज अपने सभी संस्कार उसने अपनी चूत में घुसेड़ लिये थे और वो रंडियों की तरह व्यवहार करते हुए चुद रही थी. दादी के घर आने के बाद दादी को तीन महीने बेडरेस्ट करना था लेकिन करीब एक महीना ही बीता होगा कि मैं उनके घर गया तो दादी लेटी थीं और मल्लिका पास में बैठी थी.

मैंने बोला- अब मुझसे रहा नहीं जा रहा है … प्लीज अपना लंड जल्दी से अन्दर डाल दो.

दीपा उठ कर जाने लगी, मनोज ने पूछा- क्या हुआ?तो दीपा हंस कर उसके खड़े लंड की ओर इशारा कर के बोली- ये बैठने नहीं दे रहा.

मेरे लिए इस समय ऐसा अहसास था कि आम के पेड़ के नीचे खड़ी हूं … लेकिन आम नहीं ले पा रही हूं. थोड़ी देर बाद अनिल ने पिंकी से कहा कि वो उसका भी चूस दे … तो पिंकी रवि पर अहसान चढ़ाते हुए बोली- अनिल का नहीं, चूसूंगी तो केवल रवि का. कुछ देर के बाद दोस्त के द्वारा बताया गया सारा सामान रिचा निकालकर ले आई और उसे दे दिया.

मैंने वैसे ही पीछे से उसकी फुद्दी में लंड डाल दिया और उसके मम्मे पकड़ लिए. मगर मेरा तो अभी आधा ही काम हुआ था, तो मैं अपना हाथ उसकी चूत के पास लेकर गया. इस बार उसने मुझे घोड़ी बना दिया और पीछे से लंड को चूत में डालकर चोदने लगा.

जैसे ही उसने मेरे लन्ड को अपने मुंह में रखा, मेरा शरीर ढीला पड़ने लगा.

थोड़ी बहुत ना-नुकर के बाद मुझे हीरो-होंडा पैशन बाइक मिल गयी और मेरी साइकिल पर रोहित ने कब्ज़ा कर लिया. मुझे भाई का यह सुझाव अच्छा लगा, मैं तुरंत विजय के साथ अपनी कोरोना जांच करवाने पहुंच गई और कोरोना जांच करवाई. अपने लण्ड का सुपारा रेखा की चूत के मुखद्वार पर सेट करके मैंने धक्का मारा तो पहले धक्के में आधा और दूसरे में पूरा लण्ड रेखा की गुफा में समा गया.

यह सब करके उसने अपनी नाइटी भी उतार कर फैंक दी और पूरी तरह से नंगी हो गई. अपने शरीर का भार उसके बदन पर डाल कर चुदाई के मजे ले भी रहा था और उसको पूरा मजा देने की कोशिश कर रहा था. उसने मेरे मम्मों को चूसना शुरू कर दिया और धीरे धीरे चोदना भी चालू रखा.

पकड़ कर बताओ तो कि आठ इंच का हिस्सा कौन सा चाहिए?वो आंख दबाते हुए मुस्कुरा दी और इधर उधर देखने लगी.

इस पर वो तड़प कर रह गये और पास आकर गिड़गिड़ाते हुए बोले- जान, ऐसा मत कर! बहुत दिनों का प्यासा हूँ. थोड़ी देर अपने शरीर को उसी तरह रगड़ने और दीदी के स्तनों को चूसने और काटने के बाद मैंने अपने हाथों से उनकी साड़ी को कमर के ऊपर उठा दिया.

सुशील बीएफ अब वो काले पेटीकोट और काले ब्लाउज़ में खड़ी थी और उसने मेरे लोअर के ऊपर से ही मेरा लन्ड सहलाते हुए बोली- हाय साहब जी, आपका लन्ड तो बहुत सख्त मोटा और लम्बा है. रामू- भाभी बताओ क्या हुआ था … आप कैसे गिर गई थीं और आप दौड़ क्यों रही थीं?आरिषा भाभी ने रोते हुए बताया- वो तुमको तो पता ही है रमेश के और मेरे झगड़े के बारे में … आज फिर से झगड़ा हुआ और वो बाहर जाने लगे.

सुशील बीएफ मैंने बोल दिया है गुलाबो को।”फिर गौरी बाथरूम चली गई और मधुर चाय नास्ता बनाने रसोई में चली गई।मैं थोड़ी देर मार्किट में जाकर आता हूँ. एक मिनट बाद जब मॉम का दर्द बंद हुआ, तो मॉम भी अंकल को किस करने लगीं.

नीरू दर्द से चिल्लाने लगी, पर मैंने तब तक अपनी उंगली उसकी गांड के अन्दर पेल कर चारों तरफ घुमा दी.

मराठी सेक्स व्हिडिओ क्लिप

फिर मैंने उनसे अपने मित्र के बारे में पूछा, तो डॉक्टर साहब ने बताया कि वे आर्मी में हैं, उनको छुट्टी कम मिलती है. सेल्सगर्ल- मैम एक बार देख तो लीजिए हमारे यहां का कलेक्शन और वैरायटी बहुत ही अच्छा है. एक बार तो मन हुआ कि इनके खेल की पोल खोल दूं, लेकिन इनको मजे लेते देख कर मेरे मेरे लंड में भी हलचल होने लगी थी.

मैं किसी भरोसेमंद आदमी के साथ ही यह सब करना चाहती थी और ऊपर से कोरोनावायरस का भी डर था. इधर संजना अपनी दूध मसलवाते हुए अपनी नाज़ुक सी मुनिया को मसल रही थी और अपनी तेज सांसों की रफ्तार के साथ मुझे अपने दूध पिला रही थी. भाभी के कातिलाना मम्मों को देखकर मेरा मन उनके मम्मों को अभी के अभी दबाने का कर रहा था.

नेहा की चुदाई करते समय उसकी बहन देविका खिड़की से झांक के देख रही थी, इस बात को हम दोनों जान गए थे.

मैं अंदर आया तो देखा ज़ारा के बेडरूम का दरवाजा खुला पड़ा है और लाइट भी जल रही है. उसने बताया कि उसके हस्बैंड नहीं हैं, यही कोई आठ साल पहले उनकी डेथ हो गयी थी. आंटी अपनी गांड मरवाने में मस्त थीं, वो तो जोर जोर की आवाजें निकाल रही थीं- आआआ … हुहुहूँ …मैं बाहर आकर सीधा कार में बैठ गया.

नहाने के बाद मैंने ब्रा और पैंटी पहनी और उसे अपनी अंडरवियर और बनियान पहनाई. रात के करीब 12 बजे मेरी आंख खुली और मैंने महसूस किया कि कोई मेरी कमर पर हाथ फिरा रहा है. अमित- अच्छा … तुमको मज़ा नहीं आता तो कहानी पढ़कर दो दो बार हस्तमैथुन कौन करता है?पूजा सकपका गयी और अंदर वाले कमरे में भाग गयी.

मैंने चुदाई के दौरान अपने दांतों के कई निशान उसके जिस्म पर बना दिए थे. खन्ना सर के आने के बाद हम दोनों कम्पनी में आ गए। उसके बाद जब भी मौका मिलता तो मैं सपना को चोद आता।वो आज भी मेरे लंड की दीवानी है.

एक दिन वो बोली- यार, क्यों ना हम दोनों अपने अपने लंडों से एक दूसरे के सामने चुदें. मेरा मन होने लगा कि अभी इसी समय यास्मीन को आगे झुकाकर गांड पकड़ कर अपना लंड चूत में डाल दूँ।मैंने काफी चूतें मारी हैं लेकिन आज तक इस बिरादरी की किसी लड़की की फुदी नहीं मारी।उसका फिगर 36 – 30 – 36 थी, जो मुझे बाद में पता लगा।इस तरह हर शनिवार और रविवार को मैं जाने लगा. आपको इस देसी सेक्सी गर्ल हॉट स्टोरी में मजा आ रहा है ना?[emailprotected]देसी सेक्सी गर्ल हॉट स्टोरी का अगला भाग:कमसिन पहाड़ी लड़की की बुर चुदाई- 2.

मगर दिक्कत यह है कि माफ करना … मुझे ये बात कहनी पड़ रही है, मगर तुम्हारी माँ तुम्हारे पापा से खुश नहीं है। अब जब हम दोनों एक दूसरे के बहुत करीब आ चुके हैं, तो मुझे उसने बताया कि वर्मा जी तो 2-3 मिनट मुश्किल से टिक पाते हैं।जब मैंने यह सुना तो मुझे माँ की हालत अपने जैसे लगी। कैसे मैं भी अपने बॉयफ्रेंड से असंतुष्ट रहने के बाद किसी और के नीचे लेट गई थी.

वो नंगी हो गई तो मैं कभी उसके मम्मों को चूसता … कभी प्यासी चूत में उंगली करता … कभी नीचे आकर उसकी चूत चाटता और उसकी चूत का स्वाद उसके होंठों को चूस कर उसे भी दिलाता. उसका एक निप्पल मैंने अपने मुंह में भर लिया और दूसरे बूब को अपने हाथ से दबाने लगा. अब भाबी ने मेरा हाथ अपने चुचे से हटा दिया और मेरा हाथ पकड़ कर अपनी फुद्दी पर ले गईं.

अगर सच कहूँ तो पति के गुजर जाने के बाद मैं ही जानती हूँ कि कैसे दिन काट रही हूँ. अमित- कौन करेगा तेज मेरी जान? मैं या राजवीर या दोनों?पूजा- दोनों करो अहह …अमित- मेरी जान, मैं तो तेज ही कर रहा हूँ.

मेरा दिल कर रहा है कि कच्चा ही खा जाऊं इनको … उम्मअम्अ!मैं एक हाथ से पकड़ कर एक को चूस रहा था और दूसरे हाथ से दूसरी को मस्ती से दबा रहा था. मुकेश संगीता की पपीते जैसी चूंचियों को निचोड़ कर बोला- और तेरी बहन, साली उसको तो बुला ले, उसी को चोद दूंगा. मैं मुंबई में एक कंपनी में हाई प्रोफाइल पोस्ट पर जॉब करता हूं और मेरी बीवी हाउस वाइफ है.

लड़की पटाने की आईडिया

आप लोगों के सामने में अपनी नई सेक्स कहानी लेकर दोबारा आऊंगा, जब मेरी मॉम और एक जिम के मालिक के बीच चुदाई हुई.

फिर मेरा लंड हाथ में लेकर बोला- आपका हथियार मस्त है … चुदाई में मजा बांध दिया. ”उपिन्दर बोला- कामिनी 4 पेग की कोई खास वजह?हाँ, आज तुम और मम्मी हीरो हीरोइन हो और मैं और अंजू दर्शक। तो हर पेग के बाद हीरो हीरोइन एक दूसरे का एक एक कपड़ा उतारेंगे। कपड़े 4 तो पेग भी 4”वाह कामिनी मस्त आईडिया है. बॉस अगले दिन शिफ्ट हो गया और उसने शायद अपने पेरेंट्स को कुछ दिनों के लिए बुला लिया था.

बस का केबिन बंद होने और संगीत के कारण किसी को कोई शक नहीं हो रहा था कि केबिन में क्या रासलीला हो रही है. मगर भैया की मर्जी के बिना मैं भी क्या कर सकता था … इसलिए मेरी यही दिनचर्या बन गयी. सुहागरात सेक्स वीडियोएक मिनट बाद मैंने उससे कहा- मालिश का असर बिना तेल लगवाए नहीं होगा!वो बोला- तो मैं तेल मालिश कर देता हूँ.

मैंने अपने लण्ड पर वेसेलिन लगायी और मालविका की गांड में अपना लण्ड पेल दिया।मालविका की गांड में मैंने पूरा लण्ड एक बार घुसा दिया जिससे कि मालविका का पहना हुआ डिल्डो 7 इंच तक सौरभ की गांड में घुस गया।सौरभ की गांड फट गई उसकी चीख निकल गयी, वो मालविका को गाली देने लगा।उसने पीछे देखा कि मैंने मालविका की चुदाई शुरू कर दी है, मैं मालविका को धक्के लगाता, गांड सौरभ की फट जाती. मेरे मम्मों का साइज भी अभिषेक ने बढ़ा दिया था क्योंकि अभिषेक को मेरे बूब्स चूसना और मसलना बहुत पसंद हैं.

दो लड़कियाँ बेड पर बैठी, यास्मीन मेरे बगल में कुर्सी पर।मैं उन्हें बताने लगा कि एग्जाम में कैसे टाइम मैनेजमेंट करना है, किसी सवाल को बाद के लिए छोड़ना है।ऐसे ही कई चीज जो मैंने अपने अनुभव से सीखी थी, बताया।2 घंटे तक क्लास चली और फिर मैं वापस आ गया।हर बीतते हुए दिन के साथ मैं यास्मीन में परिवर्तन देखा, वो मेरे साथ ज्यादा घुलमिल गयी थी. यदि पायल ने उसे ये सब न बताया होता तो शायद वो मुझसे अकेले मिलती या सीधे मेरे कमरे पर आने का सोचती. मैंने अपनी ताकत से अपने चूचियों को कस-कस कर मसला, लेकिन वो मजा नहीं आ रहा था.

वह कराहने लगी- आअह्ह आई … ऊह्ह मर गयी … मार डालाअअअ प्लीज प्यार से करो … काटो मत … दर्द होता है. मेरा लंड उसकी चूत में कैसे घुसा?मेरा नाम रुद्र है और उस लड़की का नाम शालया (बदला) है, जिसकी Xxx नर्स सेक्स कहानी मैं लिख रहा हूँ. उसके बाद मैंने उनके दोनों स्तनों को एक साथ पकड़ा और दोनों निप्पलों को एक साथ चूसने की कोशिश करने लगा.

जिस तरह से लंड को वो चूत के अन्दर डाल रहा था, उससे ऐसा लग रहा था कि चूत के अन्दर आरी चल रही है.

और फिर मैं कपड़े पहन कर वापस निकलने लगा। मैंने यास्मीन को गले लगाया, उसकी चूचियाँ दबायी, उसकी गांड सहलायी और किस करके बाहर निकल गया।बाद में हमने कई बार सेक्स किया. मेरी दीदियों की गांड मेरी गांड से भी बड़ी हैं और उनके मम्मे भी बड़े हैं.

हमने फोन पर बात करके घर रेंट पर ले लिया और मैं देविका को थैंक्स कहने के लिए जैसे ही पीछे घूमा, वो ठीक मेरे पीछे ही खड़ी थी. फिर ब्रा पैंटी पहन कर ऊपर से बस एक चादर ओढ़ ली … क्योंकि वैसे भी सब खुलने थे. हमारे घर में मेरे अलावा मेरे पिता (साहिल) जिनकी आयु 46 साल और मेरी प्यारी मॉम (शालिनी) जिनकी आयु 42 साल है, हम तीनों ही रहते हैं.

जब मैंने देखा कि सरनी की फुद्दी गीली हो चुकी है और मेरे लंड को अन्दर जाने में ज्यादा दिक्कत नहीं होगी, तो मैंने किस करते करते अपने लंड को सरनी की फुद्दी पर सैट कर दिया. अब मैंने भाभी से अपना अंडरवियर निकालने को कहा और अपने चूतड़ों को थोड़ा ऊंचा उठा दिया, जिससे भाभी ने अंडरवियर निकाल दिया. तभी उसने तेजी से तीन चार शॉट मार दिए और एक बार फिर से जोर से चिल्ला कर शांत होकर ठंडी हो गयी.

सुशील बीएफ मैं उसके लंड को अपने चूत के अन्दर लेने के लिए इस कदर व्याकुल हो गई थी कि मैं नहाते समय भी डॉक्टर के लंड को जब भी मौका पाती, अपनी चूत से रगड़ देती. मेरी मनोदशा को समझते हुए डॉक्टर ने पुशअप स्टाईल में अपने को पीछे किया और हल्का सा मेरी जिस्म से सटते हुए आगे को आया.

नंग्न फोटो

मुझे लगा कि शायद वो मुझसे और बात करना चाह रही हैं, इसी लिए मैंने उनसे पूछा- आपका दिन कैसा रहा?उन्होंने कहा- बढ़िया. मुझे मालूम था कि आप किस ट्रेन से आ रहे हैं, तो मैं आपकी ट्रेन की लोकेशन अपने मोबाइल से चैक कर रही थी. वो उसको जोर से काट रहा था और इसी उत्तेजना में मैं उस दूसरे वाले लड़के के लंड पर तेजी से मुंह चला रही थी.

वो आरिषा भाभी के पास आया और बोला- भाभी क्या हुआ … आज भैया इतने गुस्से में क्यों गए?आरिषा- कुछ नहीं रामू, तुम अपना काम करो. नमस्कार दोस्तो, मैं चंडीगढ़ से राकेश एक बार फिर अपनी एक उत्तेजक कहानी आप की खिदमत में पेश कर रहा हूँ. हिन्दी xxx comफिर उसने मेरी पैंटी के ऊपर से मेरी चूत को सहलाया और मुझे सोफे की ओर ले जाने लगा.

विक्रम ने उसकी हालत देखकर उसे बेड पर लिटा दिया और उसकी चूत से लंड निकाला, तो चूत से घप्प की आवाज आई.

काफी सोच विचार के बाद हमने हॉस्पिटल में ही मिलने का प्रोग्राम बना लिया. उसने मेरी बात सुनकर मेरी पैंट के ऊपर से मेरे लौड़े पर हाथ रख दिया और सहलाने लगी.

इधर एक सेकंड में दो शॉट की स्पीड से मैं उसकी चुत की मां चोदने में लगा था. मैं- इस समय हम दोनों को एक-दूसरे की जरूरत है भाभी … और अब मुझसे कन्ट्रोल नहीं हो रहा. जो महिलाएं मेरी तरह सोच रखती हैं, वो मुझे फॉलो करें, मैं उनका साथ दूंगी और टिप्स दूंगी.

हैलो फ्रेंड्स, मैं जैस्मिन आज मैं आप सभी के साथ अपनी प्यासी जवानी की सच्ची कहानी साझा करने जा रही हूँ.

मगर मेरा पानी तो नहीं निकला था, तो मैंने उनसे बोला- भाभी, अभी मैं बाकी हूँ. प्लान के मुताबिक मैंने उसके नंगे बदन पर हंटर चलाना शुरू किया और कुछ कोड़े मारे. जब मैंने लंड उसकी फुद्दी पर रगड़ना शुरू किया, तो पीछे हो कर वो लंड को फिर से अपनी फुद्दी में डालने लगी.

राजस्थान लड़की की चुदाईपहली बार मैं कोई कहानी लिख रहा हूँ उम्मीद करता हूँ आप गलतियों पर ध्यान नहीं देंगे. मैं उसके दूध मसलते हुए उससे पीछा- जान, मजा आ रहा है?वो कहने लगी- मुझे ऐसा मज़ा कभी नहीं आया.

फूल और कांटे फुल मूवी

बहुत कम देखने मिलती है, ब्लू फिल्म में भी ऐसी चिकनी गुलाबी चुत नहीं दिखती है. वो- अब नाटक ये बंद करो, मैं जानती हूँ कि तुम ऐसा बोल कर मुझे पहन कर दिखाने को बोलोगे. जो औरतें लण्ड नहीं पातीं, तमाम बीमारियों की शिकार हो जाती हैं, यहां तक कि चेहरे की रौनक खत्म हो जाती है, कई बार पागल तक हो जाती हैं.

मैडम के साथ व्हाट्सएप पर गुडमार्निंग गुड नाईट विश हो जाता था … उससे ज्यादा कुछ नहीं होता था. वो इस समय घुटने के बल बैठकर मेरी बीवी की नाभि और कमर को चाट और चूस रहा था. इसी तरह करीब दस मिनट तक अभिषेक ने अपना लंड मुझे चुसाया और उसने मुझे खड़ा कर दिया.

”अंजू बोली- कामिनी, तू कहने में शरमा क्यों रही है? तेरी माँ हमारी रखैल है, माल है हमारा। पर हम ये बात उससे कहेंगे तो वो थोड़े ही मानेगी. मेरी शानदार मखमली अनुभवी चुत पाकर लंड भी बावला हो गया और इसी बावलेपन ने बवाल ही मचा दिया. कम से कम सात लड़कियों की तो मैंने सील तोड़ी है और आंटियों की तो कोई गिनती ही नहीं है.

जिस तरह से लंड को वो चूत के अन्दर डाल रहा था, उससे ऐसा लग रहा था कि चूत के अन्दर आरी चल रही है. वो अकेली ही स्टाफ रूम में थीं, तो मैंने पूछा- बाकी टीचर्स कहां हैं?उन्होंने शरारती लहजे में कहा- क्यों मेरे साथ बैठने में डर लग रहा है?मैं शर्मा गया.

जहां मर्जी सो जाए … इसमें छोटी बड़ी की क्या बात है!संगीता- बिगाड़ उसको … मुझे क्या.

रियल सेक्स स्टोरी के पिछले भाग में मैंने आपको बताया कि मेरे भाई ने अपनी गर्लफ्रेंड यानि की मेरे चाचा की लड़की की चूत चुदाई के साथ मेरी भी चूत और गांड की चुदाई की. सेक्सी डाउनलोड एप्सपहले तो मैंने प्रीति के गले पर बेतहाशा किस किया और काट कर निशान सा बना दिया. एक्स एक्स एक्स कॉलेज वीडियोवो‌ लड़की पहले ही चिढ़ी हुई थी, ऊपर से मेरे ऐसे चल देने से वो अब और भी चिढ़ गयी. मुझे काम है।मैं कुछ बोल पाता उससे पहले उसने कॉल काट दिया।मैंने फटाफट कपड़े पहने और उसके घर पहुंचा तो देखा कि वो घर पर अकेली थी।उसने पिंक कलर की हाफ नाईटी पहन रखी थी।मैंने कहा- भाभी क्या काम है?वो बोली- अंदर चलोगे या सब कुछ यहीं गेट पर ही बता दूं?फिर हम दोनों अंदर आ गए.

लंड महाराज केले के तने जैसी कोमल जांघों का स्पर्श पा कर फूलने लगे थे.

मेरी पकड़ और मुँह में लंड होने से उसको सांस लेने में दिक्कत हो गई थी, तो पकड़ छूटते ही वो हांफने लगी. यह सब पता नहीं कब से इन दोनों के बीच चल रहा है … और वैसे भी अब तक तो वो साला कइयों बार मेरी बीवी शिल्पा की चुत पेल चुका होगा. काफी गहरे टॉप में से उसकी उन्नत दूधघाटी बेपर्दा होकर मेरी उत्तेजना को अपने शिखर पर ला रही थी.

अब प्रीत के मुंह से सिसकारियां निकलने लगीं- आह्ह … अक्षिता भाभी … ओह्ह … गुड … वैरी नाइस … आह्ह … मस्त हो … आह्ह बहुत अच्छे भाभी।अपनी एक टांग को सोफे पर रखकर वो मेरे मुंह को चोदने लगा. फिर भी आप थोड़ा ध्यान रखना क्योंकि आपका लंड मेरे पति के लंड से कहीं ज्यादा मोटा है. उसने मुझसे सन्नी के बारे पूछा, तो मैंने बता दिया कि सन्नी रूम में बियर पीने गया है.

अंग्रेजों की सेक्स मूवी

मुझे उसने छत से देख लिया था तो दरवाजा खुला था और वो दरवाजे पर खड़ी थी. जब भी कोई मित्र फ़ोन या वीडियो कॉल पर कपल कन्फर्मेशन करने को बोलता तो नीता कभी भी किसी से बात करने या कैमरा के सामने आने को राज़ी नहीं होती थी और ना ही किसी नये दोस्त से मिलने को हाँ बोलती. 20 मिनट तक उसकी गांड चोदने के बाद भाई ने अपना माल उसकी गांड में छोड़ दिया.

उसकी चुत पर एक भी बाल नहीं था … उसने आज अपनी चुत को मेरे लिए सज़ा रखा था.

देविका कराहने लगी- आह नहीं … मुझे नहीं चुदना … आह दर्द हो रहा है … निकालो इसे बाहर!वो इधर उधर सर हिलाने लगी.

शाम को ऑफिस बंद होने से पहले वो मेरे पास आकर बोली- कल चलना और घर पर बोल कर आना कि कुछ देर हो सकती है. मेरी टांगें मेरी स्कर्ट से पूरी बाहर आ गयी थीं बैठने के बाद। मेरी चिकनी गोरी टांगें उन दोनों के लिए जैसे एक ख्वाब थीं. ब्लू पिक्चर भेजो सेक्सी वीडियोमैं पूरा सेक्स में डूब चुका था, मैं अपने हाथ उसके पीछे ले गया और उसकी मुलायम नर्म पीठ को कस कर पकड़ लिया.

उसने मुझे पेड़ की आड़ में कैसे चोदा?मेरी सेक्स स्टोरी के पिछले भागसिनेमा हाल में चूत चुदाई का मजामें आपने पढ़ा कि कैसे मैं अपने यार से सिनेमा हाल में चुदी. जब मेरी उससे बातचीत हुई, तो उसने मुझे बताया कि उसने उस व्यस्क साईट पर मेरा एड देखा था. श्रेया मैडम खुद इंटरव्यू के पैनल का हिस्सा थीं तथा दो एक्सपर्ट्स में से एक मेरे अजीज़ प्रोफेसर थे.

फिर संजू थोड़ा नीचे आई और विक्रम के सिक्स पैक्स एब्स को अपने होंठों से चूसने और चूमने लगी. मेरे पति मेरे पास आकर बोले- बेबी, क्यों शर्मा रही हो? यह सब मेरा किया कराया ही है.

शायरा के होंठों को चूसते हुए मैं अब तब तक उससे वैसे ही चिपका रहा, जब तक की शायरा ने खुद ही अपने कूल्हों को हिलाना शुरू नहीं कर दिया.

वीर्य से सनी दादी की चूत साफ करके मालू ने दादी से पूछा- दादी मैं थोड़ी देर के लिए बगल वाले कमरे में जाऊं. हम मिल दूसरी बार रहे थे, एक बार हम इस से पहले एक मॉल में मिले थे।हम घर के अंदर चले गए। उसने मुझे ड्राइंग रूम में बिठाया और चाय पानी के बाद मुझसे बातें करने लगी. मॉम ये बोल ही रही थीं कि अंकल ने बचा हुआ लंड भी मॉम के चूत में पेल दिया.

హిందీ సెక్స్ వీడియో సెక్స్ వీడియో मैं अपना हाथ धुलाई कर ही रहा था कि तब तक वो‌ लड़कियां भी टंकी के पास ही आ गईं और मेरी रगड़ाई शुरू हो गई. और तभी संजना ने मेरे एक हाथ पकड़ कर अपने दूध पर रख दिया और अपने हाथों से मेरे हाथ दबाया और अपने दूध मिंजने लगी.

विजय रह रह कर बार-बार मेरे बूब्स पर नजरें गड़ा रहा था और बात भी मेरी आंखों में आंखें डाल कर बात रहा था. मैं आंखें बंद करके उसका मुँह चोदने लगा था, जिससे न्यासा की हालत खराब हो गई. मेरा तकरीबन आधा लंड अन्दर चला गया औऱ उसी वक्त मैंने किस करके उसका मुँह बंद कर दिया.

सेक्स मूवी फुल वीडियो

अब उसका मन गांड मारने से भर गया था तो उसने फिर जल्दी से शिल्पा को चित लेटा दिया. इस पर भाभी हंसने लगीं और बोलने लगीं- अरे आने दो उसे … उसे भी देख लूंगी कि कितना दम है उसके लौड़े में! मैं डरती नहीं!जब वो सन्नी के साथ चुदने के लिए मान गईं तो मैंने भाभी को एक ग्रुप चुदाई के लिए मना लिया. अनीता और अविना बोलीं- ये सब क्या था फूफाजी?मैंने कहा- एनर्जी ड्रिंक … बहुत ही शानदार चीज है.

उन्होंने अपने सर को पीछे धकेल कर मेरे चूमने के लिए जैसे और जगह बना दी हो. इसके अलावा आप अपने साथ घटी हुई रोचक घटना भी मेरे साथ साझा कर सकते हैं.

अब वह अन्दर बाहर अन्दर बाहर शुरू हुआ … धच्च फच्च धच्च फच्च … लंड चलने लगा.

रात में जब हम अपनी अपनी बीवी की चुदाई करते तो एक अलग ही उत्तेजना हमारे अंदर होती थी कि ये मेरे दोस्त के साथ गुलछर्रे उड़ा रही है इसलिए चढ़ाई में घमासान जोरदार होता था। कुछ दिन तक तो ऐसे ही चलता रहा. मामी कहने लगीं- राजा इतना बड़ा और मोटा लंड मैंने आज तक नहीं देखा … तुम्हारे मामा को तो इसका आधा भी नहीं है. ये तो तय था कि उन सभी के होंठ चिपके हुए होंगे और हाथ भी इधर उधर हो रहे होंगे.

हैलो फ्रेंड्स, मैं जैस्मिन आज मैं आप सभी के साथ अपनी प्यासी जवानी की सच्ची कहानी साझा करने जा रही हूँ. इसका मतलब ये था कि जब वो स्खलित हुई थी … तो उसकी चुत के रस से पूरी पैंटी भीग गई थी. फिर मेरी चूत में लंड को पेलते हुए वो बोला- भाभी, आपको एक सरप्राइज़ दूं?मैं कुछ होश में आकर बोली- क्या सरप्राइज़?तभी उसने मेरे पति का आवाज लगाई.

खासतौर पर मैं अपनी सहेली, मेरी चूत को छू रही थी और मैं अपनी एक उंगली को अन्दर डाल चुकी थी.

सुशील बीएफ: इसलिए शायरा को जल्दी से ठंडा करने के लिए मैंने शायरा के ऊपर लेटकर तेजी से धक्के लगाने शुरू कर दिया. मैंने मीना को पूछा- तुम्हारी कोई इच्छा है सेक्स के बारे में बताओ।मीना बोली- मेरी एक कॉलेज की दोस्त है तो उसने मुझे बताया कि बियर या दारू पीकर सेक्स करने में बहुत मज़ा आता है.

मेरी गदराई पीठ को सहलाते हुए वे बोले- मुस्कान, कसम से जब से तुमको पहली बार देखा था, तब से तुमको पाना चाहता था. सपना ने जैसे ही उसे चूसना शुरू किया, मैंने सीधी धार उसके मुंह में छोड़ दी. उस दिन सुबह मामा ने बताया कि मैं नानी को लेकर दस दिन के लिए बड़े वाले मामा के पास जा रहा हूँ.

वो फिर से गर्म होने लगी।5 मिनट में मेरा लन्ड भी तन गया और श्रुति भी तैयार हो गयी।मैंने कहा- श्रुति तुम तैयार हो न?उसने कहा- हां।मैंने लन्ड में पहले थूक लगाया.

अब कुछ भी कहने का कोई फ़ायदा नहीं था … क्योंकि उसके लंड के लिए चूत तो मेरी भी तड़फ़ रही थी. ये उसकी ताजगी भरी जवानी का एक नमूना था, जिसने मुझे मस्त कर दिया था. फिर मैं अपने घटनों पर बैठकर भाभी की चुत चूसने लगा, जिससे अचानक ही भाभी की आवाजें मदहोश हो गईं और वो मेरा सिर अपनी चुत पर दबाने लगीं.