ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती

छवि स्रोत,हिदी सेकसी फिलम

तस्वीर का शीर्षक ,

बेवफा सेक्सी बीएफ: ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती, वो अपने चूतड़ों को उठाने लगी और कासिब अस्मा के चूचे मसलता हुआ अपना लंड अस्मा की चूत में पेलने लगा.

सेक्स पिक्चर फिल्म

तेरे लिए तो जान हाजिर है।वो बोला- पहले वादा करो कि तुम मेरा काम करोगे और गुस्सा नहीं होगा।मैंने कहा- हां वादा रहा। बोल क्या काम है।वो बोला- भाई, मैं तेरी बुआ को कंपनी में जब देखता हूं तो मेरा लौड़ा खड़ा हो जाता है। उसकी आंखें, होंठ, गांड, भरी भरी चूचियां देखकर मैं रोज मुट्ठी मारता हूं. sexy movie ಮೇರಿ ಕ್ಯಾರಿउसकी क्या मदद करूं!मैंने स्वरा की जांघों पर हाथ फिराते हुए कहा- स्वरा तुम उसके साथ दिल भरकर खेलो और उसे हराभरा कर दो.

शादी में बहुत से लोग आये थे, मैं तो किसी को जानता नहीं था।सर्दी का मौसम था और गांव में अच्छी सर्दी थी।मुझे एक रूम मिला जो थोड़ी अंदर था. सेक्सी वीडियो खतरनाक वीडियोकहानी के पहले भागहॉट मामी के जिस्म की वासना- 1में आपने मामी की तरफ से चुदाई की पहल के बारे में पढ़ा था.

फिर जो खाने का ऑर्डर दिया था, वो लग गया और हम दोनों ने इसे तरह की दो अर्थी बातों का लुत्फ़ लेते हुए खाना खत्म किया.ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती: उसने मुझसे एक बार बातों बातों में कहा भी था कि प्रजजन का टॉपिक कभी आप प्रेक्टिकल करके बता दो.

अन्दर मधु सिर्फ एक टेप (मम्मों पर बांधने वाला कपड़ा) और स्कर्ट पहने मेरा इन्तजार कर रही थी.भाभी ने मेरी उंगलियों से सिगरेट ली और एक बड़े ही मस्त अंदाज में कश खींचा.

मैं तो सो रही थी मुझे मुर्गे ने जगाया - ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती

क्योंकि तुमने थोड़ी देर पहले जो किया था, वो तो कुछ अलग ही बयान कर रहा था.फिर अगले ही पल उसने करवट ली और मेरे हाथ को अपनी चूचियों पर ही दबाये हुए सीधी होकर पीठ के बल लेट गयी.

भाई साहब ने अपना मुँह नीचे किया और इशारे से एक उंगली अपनी होंठों पर रखी. ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती मैंने धीरे से अपने नाक को उसकी अंडरआर्म्स में रगड़ी और उसकी खुशबू लेने लगा.

अपने रूमाल से उसके रस को अपने होंठों को साफ किया और उसके पास ही लेट गया.

ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती?

चाची- उई मां … मर गई … आह भड़वे इतना जोर से डालते हैं क्या?मैं बिना कुछ कहे सुने बस चाची को चोदता रहा. सरपंच ने बोला- बढ़िया है, ये स्कूटी कितने दिनों में सीख जाएगी?मेरे पहले चाची ही बोल पड़ी- इसकी निपुणता से तो लगता है कि ये मुझे 7-8 दिन में सिखा देगा. मैंने पूछा- क्या हुआ?तो वो मुस्कुरा कर बोला- फोन पर कौन था … भाबी थी क्या!मैं हंस कर बोला- हां, अभी तो सैटिंग है, बाद में बिस्तर वाली भाबी बन जाएगी.

फिर उनके जाने के बाद वो भी मेरे लंड के बारे में पूछने लगे और उन्होंने मेरे लंड को पकड़ लिया. अम्मी ने मुझे इशारा करते हुए कहा- मस्त हैं, तो चूस ले मादरचोद!मैं अपनी अम्मी के दूध पीने लगा. देख तू मुझसे मजाक तो ना कर रही ना!सन्नो ने अपने पति का लंड कड़क होते देखा तो उसने हंसते हुए कहा- हाहाहा हाहाहा … कच्ची कली की सुनकर आपके लंड में उबाल आ गया है.

मैं तो चाहती हूँ कि तुम और पापा मुझे एक साथ गांड और चुत लंड पेल कर चोदो और मुझे मज़े दो. इससे पहले चुदाई के दौरान मुझे उनके पानी निकलने का दो-तीन बार अहसास हुआ था. मैंने उसकी चूत का ख्याल कैसे रखा?दोस्तो, मैं आज एक सेक्सी भाभी की चुदाई कहानी को अपने साथ घटे एक सच्चे अनुभव के आधार पर लिख रहा हूँ.

वह फिर अपना मुंह खोलकर बोली- हां अंकल! उसको कॉल की थी मैंने तो वह बता रहा था कि बाहर है और एक घंटे के अंदर आ जायेगा. इस सोच का नतीजा ये हुआ कि मेरी निगाहें अपने इर्द गिर्द रहने वाली लड़कियों और महिलाओं पर जाने लगीं.

इसके बाद मैंने ज्यों ही गेट को दुबारा से नॉक किया, आंटी ने बड़बड़ाते हुए आकर उसी गुस्से में दरवाजा खोल दिया.

नेहा ने और हमने साथ में बैठ कर चाय पानी किया और उसने हम दोनों से ऊपर की मंजिल वाले कमरे में जाने के लिए इशारा कर दिया.

उसने मुझसे सब बातें इंग्लिश में ही की थीं … मगर मैं आपको सभी बात हिंदी में ही बताऊंगा. उसने भी अपने अन्दर गिरते वीर्य को महसूस किया और आंखें बंद करके उस सुखद एहसास का मज़ा लिया. मुझे बहुत तेज भूख लग रही है और मुझे नहीं मालूम कि इधर अच्छा खाना किधर मिल सकता है.

पड़ोसन सेक्स की कहानी में पढ़ें कि मैंने पड़ोसन को मेरी गर्लफ्रेंड बनने के लिए कहा तो वो नाराज दिखी. मैंने लंड हिलाते हुए भाभी से पूछा- भाभी, कंडोम?भाभी ने एक ड्रावर की ओर इशारा किया. सच में मैंने देखा कि मेरी अम्मी का चुदवाने का निमंत्रण का अंदाज़ कितना कामुक होता था कि 60 साल के बूढ़े का लंड भी उनको चोदने के लिए तड़प उठे.

उसने अपने हाथ से मेरे लंड की मसाज शुरू कर दी और मैंने उसकी जांघों पर हाथ फेरते फेरते उसकी चूत में उंगली घुसा दी.

मैं जानबूझकर आंटी के शरीर को कातिल निगाहों से घूर रहा था, एक दो बार आंटी से नजर मिली तो उन्होंने आँखें नीचे कर लीं. उस समय मेरे मॉम डैड ने मेरे लिए मन्नत मांगी थी कि 12 वीं में पास हो जाऊं. इस पर उसने झट से कमेंट मारते हुए कहा- जो आप बोलें मेरे प्यारे मित्र.

फिर मैं काल आने का बहाना बनाकर बातें करते करते बाहर निकल गया और घर के छत पर चला गया।इस बीच सौरभ किचन में चला गया और मेरी बहन को ज़ोर से पकड़ के बाहों में भर लिया और उसके गाल में किस कर दिया. मैंने उससे पूछा- तुम चारों एक साथ क्यों मिलना चाहती हो?स्वीटी- हम लोग का एक प्लान है. मेरी उम्र का अतिरिक्त एक साल एक ही क्लास को दो बार करने में निकल गया था.

अब मैं उठकर उसकी गोद में आ बैठा और उसके चेहरे को हाथों में थामकर अच्छी तरह से किस करने लगा.

लेकिन मैं उन बहुत सारी घटनाओं में से कुछ चुनिंदा घटनाओं को आपके सामने पेश करता रहूंगा. कासिब ने फिर एक करारा धक्का लगाया और उसका लंड चूत की सील तोड़ कर आधा लंड अस्मा की चूत में घुस गया.

ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती मैं उसका लंड भी मुठिया रही थी, जिससे वो बस तीन या चार मिनट में ही झड़ गया. ”अंकित तुम कितने अच्छे से उंगली करते हो यार, साले पानी निकाल दिया आआह आउच धीरे से कर न कमीने.

ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती जिस स्टेप पर अंकित बैठा था, उसके नीचे वाली स्टेप पर सायली बैठी थी और अंकित पीछे से सायली को बांहों में लेकर अपने दोनों हाथों से उसके टॉप के ऊपर से ही मम्मों को दबा रहा था. राज बोला- देखो, तेरे मम्मी पापा भी हमारे साथ सेक्स करना चाहते हैं, अब तो तुम मान जाओ.

आपको ये सेक्सी हॉट पड़ोसन चुदाई कहानी कैसी लगी, मुझे मेल करके जरूर बताएं.

सेक्सी फिल्म नांगी फिल्म

जब मेरे दोस्त ने उसको प्रिंस के नाम से बुलाया, तब मुझे मालूम हुआ कि उसका नाम प्रिंस था. यूं तो मेरी कई लड़कियों से दोस्ती थी, जो मेरे घर पर मुझसे मिलने आते थीं. हनी की पैन्टी से अपना लण्ड व उसकी चूत साफ करने के बाद मैंने अपने लण्ड पर कॉण्डोम चढ़ाया और फिर से हनी की चूत में डाल दिया.

कुछ देर बाद दिन का खाना आदि हुआ और लगातार बातें हंसी मजाक आदि चलता रहा. चाचा मुझे अपनी गोद में उठाकर मम्मी के कमरे में लेकर आ गए और बेड पर मुझे लिटा कर मेरे ऊपर चढ़ गए।वे मेरी आंखों में देखते हुए बोला- इस रूम और इस बेड पर कभी तुम्हारी मम्मी की सील तुम्हारे पापा ने तोड़ी होगी. मैंने उसे अपनी बांहों में जोर से भींच लिया और उसके गालों पर अपना प्यार भरा चुम्बन दे दिया.

बहुत हैंडसम हैं आप!मैं चुपचाप खड़ा होकर सुन रहा था।वह बोलती रही- रोहित से क्लास का नोट्स लेना था इसलिए सोची घर आकर ले लेती हूं.

ऐसे ही हमारी कुछ देर बातें और हुईं और हम दोनों व्हाट्सएप्प चैट खत्म करके सो गए. अंत में भाभी ने पूछा- कल का क्या प्रोग्राम है … स्टॉक है या नहीं?मैंने उनको मैसेज भेजा- अगर नहीं भी होगा … तो भी आपके लिए कहीं से भी ला दूंगा. मैंने जैसे ही उसके दूध रगड़ना शुरू किए, वो बेसुध होकर चित लेट गई और मेरे हाथों का मजा लेने लगी.

बाकी आज नहीं कल, अभी तो तू इस फसल में अपना आखिरी पानी डाल दे मेरे सनम. तो वो बोला- हाँ … नहीं तो रोज यही अडे रहवे थे। चल तू जल्दी कर!अनीता ने अपनी सलवार खोल दी. उसने मुझे बैठने को कहा और फिर मेरे लिए कोल्ड ड्रिंक और स्नैक्स लेकर आयी.

अब आपका दूध मैं भला कैसे पी सकता हूँ!चाची- क्यों नहीं पी सकता! रूक, तेरे लिए अभी मैं दूध निकाल कर लाती हूँ. मैंने गेट की तरफ देखा तो वह मेरी पहचान वाला था। वह मेरे पति का बचपन से ही दुश्मन था। मेरे पति की और उसकी एक नहीं बनती थी।वह फ्लैट उसी का था.

और जब पीछे से धक्का लगता तो उसका लन्ड अब मेरी गांड में चुभता और मेरी चुची उसके हाथ से दब जाती. उसने गीता की कमसिन जवानी की एक बार भी परवाह नहीं की और ऐसे ही दे घपाघप चुदाई करने लगा. सन्नो- हां मैं जानती हूँ जी, मगर उनको देख कर आपको अच्छा लगता है क्या … कुछ तो करने का मन करता ही होगा … बताओ ना!रणजीत- साली तुझे हुआ क्या है.

रेखा के नंगी होते ही जब मैंने उसको सामने से और अपने करीब से देखा तो मेरा कलेजा हलक में आने लगा.

वो मेरे लिए एक चॉक्लेट भी लेकर आई थी और मैं उसके लिए एक सुन्दर सा गिफ्ट लेकर गया था. फिर वो बोला- भैया आप बैठ जाओ ना लंड पर!तो मैंने उसे लेटा दिया और उसके लंड पर बहुत सा थूक लगा कर बैठ गया. रेखा की चूचियां कम से कम 36+ की रही होंगी और उसकी गांड देख कर तो ऐसे लग रहा था कि साली को अभी पटक कर उसकी गांड चोद लूं.

वो पलट कर मेरे सीने से लिपट गयी और हम नीचे से नंगे ही दोनों एक दूसरे के चिपक गये. इसके बाद हम बाथरूम में जाकर नंगे नहाये और उधर से ही मैं नंगी भाभी को अपनी गोद में उठा लाया.

फिर उसके दो पल बाद जीजू ने अपना पूरा लंड बाहर निकालकर फिर से एक जोर का धक्का दे दिया।मैं इसके लिए बिल्कुल तैयार नहीं थी, उनके धक्के से मैं दर्द से चिल्लाई।उस धक्के से उनके लंड के अंदर बचा सारा पानी मेरी चूत में निकल आया. मैंने गौर से देखा कि उन दोनों महिलाओं में से एक लड़की थी, जो कि लगभग 22 साल की थी. संगीता ने अपने एक हाथ से मेरे जबड़े को पकड़ा और खोलने का इशारा किया.

हिंदी हरियाणवी बीएफ

जब से पूजा ने अपनी सहेली रेखा को मेरे सामने वीडियो कॉल में पूरी तरह नंगी करके उसके गोरे और मालदार शरीर को भोग कर मुझे भी चक्षु चोदन का मजा करवाया था.

अब अंकित का एक हाथ सायली का पूरा बदन धीरे धीरे सहलाते हुए उसकी लैगीज के अन्दर जा पहुंचा और चूत की फांकों को रगड़ने लगा. मैंने उनकी तरफ प्यार से देखा, तो मामी ने एक चांदी की डिब्बी मेरे आगे कर दी. मैंने भी वक़्त ना गंवा कर अपने दांतों की मदद से उसकी ब्रा को निकाल फेंका.

बलराम ने टांगें पसारते हुए कहा- आह क्या जादू है रे तेरे हाथ में … देख साली हाथ लगाने के साथ ही पुलिस का डंडा भी खड़ा हो रहा. सेक्सी लड़की की वासना की कहानी में पढ़ें कि मेरी पड़ोस की जवान माल मेरी अच्छी दोस्त थी. सेक्स हद फोटोअंकित- मेरा निकलने वाला है, किधर डालूं?सायली- डाल दे अन्दर, मैं गोली खा लूंगी, पर एक भी बूंद बाहर नहीं गिरनी चाहिए.

खाना खाकर सब सो गये और मैं मछली की तरह तड़प रही थी।आपको मेरी 100% रियल सेक्स कहानी कैसी लग रही है?[emailprotected]100% रियल सेक्स कहानी का अगला भाग:पहली चुदाई का जोश- 2. अब आगे की अन्तेरवासना गेसेक्स स्टोरी:वो चिकना लौंडा प्रिंस अब कुछ नहीं कर रहा था, तो मैंने सोचा कि मुझे ही कुछ करना पड़ेगा.

टोपे से दो इंच अंदर तक लंड घुस गया था और रेखा भाभी दर्द भरी आवाजें करती हुई छटपटाने लगी- ऊईई … आआ … नहीं … ओह्ह … निकालो … उफ्फ … ईईई … मर गयी. सुरेश कुछ देर मीता के होंठों चूसता रहा, फिर उसने लंड को हरकत शुरू कर दी और लंड के धीरे धीरे झटके चूत में लगने लगे. मैं भी बाथरूम में गया और अपना लंड साफ करके वापिस आकर उसके साथ लेट गया.

मैं बाथरूम में जाकर अपनी मां की ब्रा और पैंटी पहन लेता था और उसमें ही नहाया करता था. मैंने भी एक घंटे बाद कमरे से निकल कर मेन गेट के रास्ते अन्दर आ गया. साइट के कमेंट बॉक्स में कॉमेंट्स दो और बताओ कि आपको मज़ा आ रहा है या नहीं … हम सब जल्दी ही मिलेंगे बाय.

मैंने कुछ नहीं कहा, बस राज के दूध दबाने को लेकर ये सोचने लगी कि आज मेरे पापा मेरे दूध मसल रहे हैं.

सोना ने एकदम से मेरे सिर को पूरा अपनी चूत में दबा दिया और वो झड़ने लगी. चाची ने कहा- गिरने वाला है रे … रुकना मत प्लीज … ऐसे ही चोद … जोर जोर से.

इसके बाद दूसरे दिन जब वो मुझे पार्क में मिली, तो मैंने खुद ही आगे बढ़ कर उससे हाय की. मैं अब एक हाथ से उसके चूचे दबाने लगा और दूसरे हाथ से उसकी चूत में उंगली चलाने लगा. पर वो कहते है ना कि जिस चीज को आप दिल से चाहो, वो आपको मिल ही जाती है.

चाची छत से अन्दर आने को बोलीं … क्योंकि चाची का कमरा जीने के बगल वाला था. कुछ ही मिनटों में मेरा लन्ड इतना टाइट हो गया कि उसके ऊपर का चमड़ा खिसक कर अपने आप ही पीछे हो चुका था. उसकी चूत का पानी मैंने चाट लिया और अब मेरा लंड भी चोदे बिना नहीं रह सकता था.

ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती मैंने चाची को आवाज़ देकर देखना चाहता था कि कहीं वो जाग तो नहीं रही हैं. सन्नो- राम राम बाबूजी, ये मेरी बिटिया को देखो ना … कैसी आग की तरह तप रही है.

मौसी की चुदाई बीएफ

बहुत हैंडसम हैं आप!मैं चुपचाप खड़ा होकर सुन रहा था।वह बोलती रही- रोहित से क्लास का नोट्स लेना था इसलिए सोची घर आकर ले लेती हूं. वैसे दीदी मेरे सामने घर के नौकरों से भी चुदवा लेती थी इसलिए उनको मेरे सामने जीजू से चुदने में कोई शर्म नहीं थी. फिर कंचन ने मेरी जिप खोल ली और अंदर पैंट में हाथ देकर मेरे लंड को अंडरवियर के ऊपर से पकड़़ लिया.

तो उसने पूछा- कौन सा फलेवर?तभी मेरे दिमाग की बत्ती जली कि वो कंडोम के फ्लेवर की बात कर रही थी. मैंने आंटी की चूत में थूक मला और लंड को चूत में टिका कर अंदर घुसा दिया. स्त्री की छातीमेरे कानों को जैसे विश्वास ही नहीं हुआ, तो मैंने उससे पूछा- नूपुर क्या हुआ?तो वो मुझे जोर से पकड़ कर चुपचाप लेटी रही.

इससे पहले मैं कुछ बोलती वो बोले- देखो मैं तुम्हारे लिये गिफ्ट लाया हूं.

वो इतनी गर्म हो चुकी थी कि उसने कहा- साले चुत तो ठोक जाओ, फिर खा लेना. आज दामाद जी का लंड भी सामने है तो तैयार हो जाओ हम दोनों तुम्हारे दोनों छेदों में एक साथ लंड पेल देते हैं.

फिर मैंने तेल उसके पूरे शरीर पर लगाया और उसके पेट पर मालिश करने लगा. तो मैंने ब्लाउज को गले के पास पकड़ कर खींच दिया, सारे बटन चट चट करके टूटते चले गए. मैं रीति का हाथ पकड़ कर वापस बेडरूम में ले गया और हम दोनों नग्न होकर अपने रंगमंच पर आ गए.

फिर जैसे ही साहिल ने अपना लंड मेरी चूत के अंदर ठेला तो मेरी दर्द के मारे जान निकल गयी; और खून भी निकलने लगा.

मेरे ही लिंग को देखकर मुझे कोई काले सांप का आभास हुआ। जब अपनी हथेलियों से छुआ तब जाकर महसूस हुआ कि ये तो मेरा अपना जीवनसाथी था. इस बीच एक बात जरूर हुई कि राज अपनी सास को देख कर अपना लंड सहलाता रहा और पापा ने मुझे देख कर अपना लंड सहलाया. उसकी उँगलियाँ मेरी चूत को सहला रही थी, चूत भट्टी की तरह धधक रही थी.

जिप्सी कारमैंने नशे में मामी की आंखों में देखा और कहा- मेरी जान … स्यू आग इतनी ज्यादा लग चुकी है मगर अब तक धुंआ नहीं निकला!मामी समझ गईं और मेरी गोद से उठ कर पास में रखी गोल्डफ्लेक की डिब्बी उठा लाईं. फिर चाची ने अपने हाथों से मेरे लंड को अपनी चुत पर सैट किया और अन्दर डालने को बोली.

बीएफ वीडियो फिल्म पिक्चर

उसने अपने दोनों बाजू मेरे गले में डाल रखी थी तो मैं ऊपर की तरफ भी नहीं हट पा रही थी, मेरे आंसू बह रहे थे. मोहम्मद यासीन खान (खान जी) जिन्होंने मुझे क्रॉसड्रेस के बारे में बहुत कुछ बताया और मेरी गांड का उद्घाटन भी किया. उधर राज ने मम्मी की टांगें फैलाकर उनकी चुत चाटना चालू कर दिया और मम्मी भी अपनी चुत चटवाते हुए मेरे पास को झुक गईं.

मेरा लौड़ा अब खड़ा हो गया मैंने अपना लोवर और अंडरवियर उतार दिया।अब मेरी हिम्मत बढ़ गई थी।मैंने धीरे धीरे उसकी साड़ी निकाल कर अलग कर दी और उसके पेटीकोट का नाड़ा खोल दिया।मैंने अपना हाथ डाल दिया उसने अंदर पैंटी नहीं पहनी थी।उसकी चूत चिकनी थी, बाल साफ़ किए हुए थे।मैंने धीरे धीरे उसकी मखमली गुलाबी चूत में उंगली चलाना शुरू कर दिया और अपने लंड को मसलने लगा. इससे अच्छा तो यही है कि तुम ही इसको प्यार से चोद लो और इसकी गर्मी मिटा दो. यह सुनकर तो मैं एकदम सुन्न पड़ गयी।फिर चाचा ने कहा- अगर तुम चाहती हो कि मैं किसी से न कहूँ.

उनके दोनों हाथों की अंगुलियाँ मेरे बालों में थी।कुछ देर मेरे होंठों को चूसने के बाद उन्होंने अपनी जीभ को मेरे मुँह में दे दिया. मैंने बता दिया- ओके … कल जहां पर मुझे आपने छोड़ा था, मैं वहीं पर मिल जाऊंगा. भाभी गांड मराई के लिए तैयार हुई या नहीं?दोस्तो, मैं विकास एक बार फिर से आपके सामने आ गया हूं अपनी कहानी के दूसरे भाग के साथ.

ऐसे ही एक दिन जब मैं शाम को उनके घर ट्यूशन देने गया तो मैंने पाया कि आंटी अकेली थी. मुनिया का नाम सुनकर रणजीत का पारा चढ़ गया … लेकिन सन्नो ने कसम याद दिला कर उसे चुप कर दिया.

उसके बाल एकदम काले, बड़ी बड़ी आंखें, गुलाबी होंठ, क़ातिलाना शक्ल सूरत वाली लड़की थी.

मैं चाची की चूचियां मसलने लगा और सोचने लगा कि चाची ने अभी भी अपनी पैंटी पहने हुई है. आरती कोल कोरांवअब मेरी नजर उनके लण्ड पर पड़ी तो मैं चौंक गई, उनका लण्ड तुम्हारे लण्ड से कुछ ही छोटा था. भोजपुरी हीरोइन का सेक्सी पिक्चरमैंने करीब एक घंटे तक इतंज़ार किया, फिर जब कुछ नहीं हुआ, तो नीचे चला आया. ये सुन कर मैंने कहा- मैडम आजकल ब्लू फ़िल्में सब कुछ सिखा देती हैं मगर आज मेरे लंड का उद्घाटन हुआ है, ये आप सच मानिए.

मैं सोच रहा था कि काश कोई मेरी भी सेटिंग होती और मैं भी उसके साथ ऐसे ही मजे करता.

मेरी धर्मपत्नी अभी कुछ देर पहले बताई थी कि तुम्हारा काफी सुडौल और कड़क लन्ड है।” ससुर ने जिज्ञासपूर्वक कहा. अगले दिन मेरे कुछ दोस्तों को गांव से मेरे पास आना था, तो मैं उनके साथ ही व्यस्त रहा. मैंने तुरंत मीनाक्षी को फोन किया और कहा कि कल किसी भी तरह से तुम्हें दिन में फ्री रहना है.

आप तो बस ये बोलो कि क्या आपको कोरी बुर के मज़े लेने है?रणजीत- साली कुंवारी बुर की सुनकर ही मेरा लौड़ा फड़फड़ाने लगा है. मेरा लंड पेलना रुक गया, तो मधु ने पीछे मुड़ कर देखा और पूछा- यार … रुक क्यों गए?मैंने मधु से कहा- मेरी जान, पिछले 3 महीने से मैं तेरा आगे का छेद चोद रहा हूँ और तेरी चूत में रबड़ी गिराने के कारण तुमको बार बार मेडिसिन लेनी पड़ जाती है. मैंने उसकी चूत में अपने लंड का फव्वारा छोड़ दिया और उसी तरह उसकी चूत में अपने लंड को डाले लेटा रहा.

सेक्सी बीएफ वीडियो पाकिस्तानी

मैं सुर बदल कर बोला- ठीक है साली रंडी … आज से मैं तुझे तेरा नाम लेकर बुलाऊंगा. अगले दिन मैंने सोच लिया था कि आज भाभी को अपने दिल की बात बता ही दूंगा, चाहे आगे जो भी हो. उसकी ये नाइटी पारदर्शी थी, जिसमें से उसका जिस्म बड़ा ही कामुक लग रहा था.

पहली बात तो वो मेरे साथ होते नहीं और जब होते भी हैं तो कुछ करते नहीं, बुड्ढे हो गये हैं.

मैंने कहा- तेरा घर वाला तुझे नहीं चोदता के!वो मुँह बना कर बोली- हुंह … उसकी तो छोटी सी लुल्ली है … मैं तो तेरे भाई ते चुदवा लेती हूं.

मैं बोली- ठीक है, पर हम उन दोनों को पटाएंगे कैसे!अब चार लोगों में एक साथ चुदाई कैसे हो, इसकी पूरी मॉम डैड सेक्स स्टोरी मैं आपको अगले भाग में लिखूंगी. काफी देर तक चाची की चूत चूसने के बाद मैंने अपना लंड निकाल कर उसे चूसने के लिए कहा. सेक्सी पिक्चर ओपन मेंये मेरी स्टूडेंट्स Xxx चुदाई कहानी आपको कैसी लगी … मुझे मेल करके जरूर बताना.

फिर मैंने उसकी गांड पर एक किस किया और फिर अपने लंड को उसकी गांड के छेद पर लगाने लगा. खैर छोड़ो … अब मेरी बात गौर से सुनो, आज तुम्हें क्या करना है, वो मैं बता रहा हूँ. हैलो फ्रेंड्स, मैं पिंटू एक बार फिर से नूपुर की चुदाई की कहानी लेकर आपके सामने हाजिर हूँ.

उनको चूमने के बाद चाचा मेरी गर्दन को चूमते हुए, कंधों से होते हुए मेरी चूचियों पर आ गये. मैंने भी उसको उठा कर उधर ही पड़े बेड पर लिटाया और उसे एक किनारे खींच कर उसके दोनों पैर फैला दिए.

फिर राज मेरे ऊपर आकर मेरी चुत में लंड पेल कर धक्के मारने लगा और ऊपर से मेरे मम्मों को चूसने लगा.

मैंने हीरोइन से कहा- अब तुम खाना खा लो, मैं स्वरा देवी की चुत की पूजा करता हूँ. फिर मैंने दिन में मौका देखकर उस दराज़ को खोल कर देखा, तो दंग रह गया. कॉलेज की लड़की की सेक्सी कहानी के द्वितीय भागबेटे की क्लासमेट की कुंवारी बुर की चुदाई- 2में मैंने बताया था कि मेरे बेटे की दोस्त सोनाली मेरे घर मेरे बेटे रोहित के नोट्स लेने आयी थी.

मुझे सेक्स करना है आपका बहुत बहुत धन्यवाद।मन ही मन मैं सोचकर मुस्करा उठा कि ऐसे भी लोग होते हैं जो अपनी नई नवेली बीवी की टाइट चुत गैर मर्द से चुदवा देते हैं और फिर धन्यवाद भी बोलते हैं. अब तक भाभी एकदम आसमान में उड़ने लगी थीं और उनके मुँह से मादक आवाजें निकलने लगी थीं- आह्ह उह आशस हह आह्ह … मत कर आह कितना सता रहा है.

मैंने मौके का फायदा उठाते हुए उसे अपनी बांहों में भर लिया और वो भी बिना किसी विरोध मेरी बांहों में आकर लेट गई. साड़ी भी कुछ अलग से थोड़ी सेक्सी लग रही थी जिसमे उसकी कमर दिखाई दे रही थी।मुझे समझते देर न लगी कि वो मेरे लिए ये सब तैयारी करके आयी है क्योंकि वो ऐसे स्कूल नहीं जाती है और सवेरे से शाम तक स्कूल में रहने के बाद तो वैसे भी ऐसा रूप बचा नहीं रहता. शनिवार से लेकर एक हफ्ता तुम्हारा है, हनीप्रीत के साथ सेटिंग कर लेना.

गांव की देसी लड़की चुदाई

आपने ब्रा भी नहीं पहनी है और आपके गोरे गोरे स्तन शिफान की साड़ी में से झलक रहे हैं. अपने हाथ से उसने मेरा लंड पकड़ कर खुद ही अपनी चूत पर रख दिया और बोली- पेल. संगीता अपनी येलो रंग के स्लीवलैस मैक्सी में किसी हीरोइन से कम नहीं दिख रही थी.

बीस मिनट के बाद चाची की गांड में मैंने तेज तेज धक्के लगाए और चाची की गांड के अन्दर ही लंड का रस छोड़ दिया. जिसमें रागिनी बैठी और मैं बीच में और मेरे बगल साहिल … वो ऊपर हो कर बैठा था.

हीरोइन ने लंड सहलाते हुए कहा- मैं तो तुम्हें कल सुबह तक बोनस देने वाली हूँ.

मैं उत्तेजित अवस्था में पूजा को किस करने लगा और उसके चूचों को अपने दोनों हाथों से सहलाना चालू कर दिया. मैंने भी वक़्त ना गंवा कर अपने दांतों की मदद से उसकी ब्रा को निकाल फेंका. इससे कुछ ही देर में मेरे पैर और शरीर कांपने लगा और मेरा पानी निकल गया.

उसके मुँह से वो निकलती हुई गर्म सांसों को में महसूस कर रहा था और उसके छोटे छोटे दूध मेरे सीने से सटे हुए थे. अब मैं सोफ़े पर लेटा हुआ था और संगीता मेरे लंड को बड़े मजे से चूस रही थी. उन्होंने मेरे बाल पीछे से पकड़ कर कुछ जोर से खींचे और धक्के लगाने लगे.

इधर बॉस ने मेरी चूत में हथेली से चपत मार मार कर उसे थोड़ी सी फैला दी, फिर अपनी जीभ से चुत चूसने लगे.

ब्लू बीएफ सेक्सी देहाती: बुआ सेक्स की हिंदी कहनी में पढ़ें कि मैं मेरी विधवा बुआ के घर गया तो उन्होंने कैसे मुझे अपने जिस्म की झलक दिखलाकर मेरी कामवासना जगायी. मैंने पूछा- आपको क्या काम था?अंकिता ने बोला- हमें यहां पर आए काफी दिन हो गए हैं … पर अब तक हम दोनों ने जयपुर नहीं घूमा.

आज तेरा पहला दिन होने वाला है इसलिए मैं तेरे को ज्यादा दर्द नहीं दूंगा. चूंकि सुरेश को पता था कि आज चुत चुदाई होगी तो वो पहले से ही एक पावर बढ़ाने वाली गोली खा चुका था. मेरा शरीर इतना अकड़ रहा था कि मैंने जोश में कब दीपक की पीठ पर नाख़ून मार दिए, मुझे पता ही नहीं चला.

फिर अपने कपड़े पहने, मुझे मेरे कपड़े पहनाए और मेरे माथे पर किस कर बोले- शईमा, मेरी जान तुम बहुत मस्त हो, अब तुम आराम करो!और वो बाहर चला गया।मैं बेड पर पड़े पड़े सोच रही थी कि चाचा ने मुझे डरा कर कर चोदा.

कुछ देर बाद उनके मुख से कामुक स्वर निकलने लगे थे- आआहहह … उंह …सच में वो बड़ी आनंदित हो रही थीं. दूर से देखने से ऐसे लग रहा था कि ये दोनों सीढ़ी पर बैठे बातें कर रहे थे. अब आगे की फैमिली वीमेन सेक्स स्टोरी:अगले कुछ पलों में संगीता जल्दी से उठ खड़ी हो गई और मैंने भी अपने आपको संभाल कर बेड से उठा लिया.