एचडी बीएफ चोदा चोदी

छवि स्रोत,xxx भोजपुरी

तस्वीर का शीर्षक ,

एक्स एक्स बीएफ चोदा चोदी: एचडी बीएफ चोदा चोदी, मैं लेटा था, मेरा लंड पत्थर की तरह हार्ड था और वो मेरे ऊपर खड़ी थी.

कुंवारी लड़कियों की चुदाई वीडियो

जैसे ही लंड अंदर जाने लगा रूबी ने मजे और थोड़े दर्द से अपनी आँखें बंद करनी शुरू कर दी. क्ष ब्लू फिल्मअब उसकी सेक्स भरी सिसकारियाँ घुटन बन कर निकलने लगी थी और मैं उसकी टाइट चूत में डुबकी लगा रहा था.

दरवाजा खोलते ही वो अन्दर आ गई, मैं इससे पहले में कुछ कहता वो अन्दर आते आते सपना-सपना. यूपी बिहार सेक्ससुरेश ने मुझे कहा- रानी, आज के लिए तू द्रौपदी बन जा और हम तुम्हारे पांच पांडव.

गुलशन जी को सुमन पे बड़ा प्यार आया तो उन्होंने सुमन को किस कर लिया, जिससे उसकी भी आँख खुल गई.एचडी बीएफ चोदा चोदी: बहुत मज़ा आ रहा है तेरी गांड चाटने में और तुझसे अपनी गांड चाटवाने में.

मैं उठा और उससे पूछा- झांटें साफ नहीं करती क्या कभी?बोली- पहले करती थी, अब नहीं करती.अब वो भी अपनी गांड उठा-उठा कर मेरा लंड अपनी चुत में ले रही थीं मौसी ‘उउईईई उउह उफ्फ़.

देहाती औरतों की - एचडी बीएफ चोदा चोदी

हो सकता है कि कोई मुझे अपनी बीवी और ज्यादा दिनों के लिए देने के लिए तैयार हो जाये.अब मैंने चाची की एक टांग छोड़ी और उनकी टांगों के बीच में घुसकर उनकी एक टांग उठाकर चोदने लगा.

अंकल ने उसको सीधा लेटाया और उसके पैरों को मोड़ कर लंड को बुर पर सैट करके रगड़ने लगे. एचडी बीएफ चोदा चोदी काफी वक्त यह चुदाई का सिलसिला चलता रहा जिसमें नीता दो बार झड़ गई पर पप्पू के तगड़े लौड़े ने उसे फिर चुदवाने के लिए मजबूर कर दिया.

दोस्तो आ गई मैं नए पार्ट के साथ, अब कहानी में अलग मोड़ आ गया है तो चलो देखते हैं आगे क्या हुआ.

एचडी बीएफ चोदा चोदी?

मैं बोली- मैं आपका लंड पकडूँ क्या?मामा जी ने हाँ कर दी; मैंने मामा जी का लंड पकड़ लिया मेरी उंगली को मामा जी के लंड से धारा निकलने की थरथराहट महसूस हो रही थी, बीच बीच में मैं मामा जी के लंड के छेद पर उंगली डाल देती थी जिससे या तो धारा रुक जाती थी या धारा बिखर जाती थी, मेरी उंगलियाँ मामा जी के सू सू से गीली हो गयी थी. मैं बिना कोई उत्तर दिए चुपचाप तरुण के तने लिंग को सहलाते हुए सोचती रही कि उसके द्वारा कही गयी बात से अपनी सहमति कैसे व्यक्त करूँ. इतने में सुमन ने अपनी बेटी प्रिया से कहा- अंकल के लिए एक कप चाय बनाओ.

आज तो इस निगोड़ी चुत का बाजा बजवाकर ही रहूंगी रे!इधर चुत में उंगली करते करते मैं ये भी ना जान पाई कि मेरा कब पानी निकल गया. वो मेरे लंड को बाहर से ही पकड़ कर बोली- हाय बता तो तेरा लंड कितना मोटा है?मैंने कहा- बाहर निकाल कर तो देखो डार्लिंग. थोड़ी देर बाद मैं बाहर आने लगा तो वो बोलीं- कहाँ जा रहे हो?मैंने कहा- दस मिनट में आता हूँ.

फिर मेरे थोड़ा जोर देने पर, बहुत देर तक उन्हें मनाने के बाद आखिरकार उसने हाँ कह दिया. इससे पहले कि हम अपने आपको सम्भाल पाते मनोज बिल्कुल हमारे बिस्तर के पास आ गया था. फिर मैंने उन को बालों से पकड़ कर उनके होंठों को चूसा, उन की चुत में उंगली डाल कर ज़ोर से हिलाई, वो अपने पंजों पर खड़ी हो गई.

साथ ही साथ मैं उसके पेटीकोट के अंदर हाथ डाल कर उसकी मांसल जांघों को सहला रहा था. नीता को कस कर दबोचते हुए, उसका एक निप्पल चूसते हुए पप्पू बेरहमी से चोदने लगा.

सैर करते करते उसने पूछा कि आपने बताया नहीं था कि आपको कैसे पता लगा कि हम भी घर आए हुए हैं?मैंने बोला- वो तो मैंने यूं ही बोल दिया था.

अगर आपका रेस्पॉन्स अच्छा रहा तो मेरी विवेक के साथ और भी चुदाई की कहानियां हैं.

वो बुढ़ऊ बोला- ये मम्मी है तुम्हारी!यह सुन कर मेरे पैरों तले से धरती खिसक गई. फिर मैंने उबासी सी ली तो दीदी ने मुझसे कहा- भैया तुम थक गए होगे, बाथरूम में जाकर चेंज कर लो, मैं चाय बना देती हूँ. उसने मेरा लोअर नीचे किया और नीचे बैठ कर मेरा लंड मुँह में लेकर चूसने लगी.

सिर्फ इन 6-7 महीनों में ही मेरा पूरा शरीर भी भर गया, बूब्स का साइज़ दुगुने से भी ज्यादा हो गया मेरे गाल भी अब गुलाबी हो गए. मगर किसी भी ऐरी गैरी के लिए तुम मुझ पर ऐसे चिल्ला कैसे सकते हो?संजय- चुप करो टीना. फिर उसने मेरे कपड़े उतारने शुरू कर दिए उसने मेरे कपड़े उतारते ही मेरा लंड मुंह में ले लिया.

इस वक्त टीना भी अब चुदाई के चरम सुख का मज़ा लेना चाहती थी तो उसने जाने को कह दिया.

मैंने चाय बनाई और हम दोनों ने साथ में नाश्ता किया, फिर साथ में बैठ कर बाते करने लगे. मगर सुमन की बात को वो टाल भी नहीं सकता था तो उसने लंड को हाथ में लिया और चुत को देखने लगा. मैंने उसे बाथरूम दिखाया और मैं खुद भी कपड़े उतार कर केवल लोअर में ही बैठ गया.

उन 3 दिनों में मैंने उन्हें करीब 20 बार घर के हर कोने में हर आसन में चोदा. सुबह सुबह नेहा सिर के पास बैठकर मुझे जगाने लगी… मैं डर के मारे नहीं उठा, सोने का अभिनय करता रहा. भाभी बिल्कुल नंगी बेड पर लेटी थी, अपने नंगे पति के नीचे थीं और उनके पति उनकी दोनों टांगों के बीच में थे, उनको चोद रहे थे.

पहले तो नीता दर्द से ‘आहहह, ओहहह’ कर रही थी पर जब और कुछ धक्कों के बाद नीता ने हल्की सी मुस्कुराहट के साथ पप्पू की तरफ़ देखा, तो पप्पू समझ गया कि नीता की चूत का दर्द अब खत्म हो गया है.

फिर हम साथ में नहाये, जहाँ मैंने उसकी चुत साफ़ की और उसने मेरा लंड चूसा और धोया. तभी मैंने उसे फिर से घुमाया और उसके होंठों पे एक गहरा सा चुम्बन किया.

एचडी बीएफ चोदा चोदी 8 इंच के सख्त लंड पर था और मेरा हाथउसकी चूत के दाने को सहला रहा था. आज उसने मुझे अपने चेम्बर में बुलाया और कहने लगा कि पुराना एकाउंटेंट नौकरी छोड़ कर चला गया है.

एचडी बीएफ चोदा चोदी लेकिन आज आपने साड़ी क्यों पहनी है?तो दीदी ने बोला- मैं जरा मार्केट जा रही हूँ. जिसे तुम बहुत चाहते हो या प्यार करते हो?मैं शर्मा कर बोला- मेरी कोई गर्ल फ्रेंड नहीं है.

पूरी चुदाई के बाद मैं उसको अपने पास लिटाकर प्यार करने लगा और वो आई लव यू बोलकर मेरी बांहों में आ गई.

जंगल की सेक्सी वीडियो दिखाओ

क्या तुम्हारे पति का लंड ज्यादा लम्बा और मोटा है?मैंने मेहता से झूठ बोला और कहा- जी सर. अब मैंने सर्वेश के जिस्म पर आधी फट चुकी टीशर्ट को पूरा फाड़ दिया और उसके मर्दाना राजपूताना कड़क जिस्म और फूली हुई छाती को बेपर्दा कर दिया और उसकी छाती और उभारों पर टूट पड़ा।वह मेरी गांड को नोचे जा रहा था और मैं उसकी छाती को चाट चाट कर लथपथ किये जा रहा था. अब थोड़ा बर्दाश्त करो, बस कुछ दिन की बात है फिर जैसे चाहे नीतू को चोद लेना.

मैंने थोड़ी देर लंड डाले हुए रुक कर लंड को बुर से दोस्ती करने दी, फिर आराम से उसकी बुर चुदाई करने लगा. साली की चूत एकदम क्लीन थी, दूधिया साली के जिस्म की लाल रंग की चूत बहुत सुंदर लग रही थी. अब और क्या फीस चाहिए मेरे नाई जी को?”मैंने बहु की पैंटी नीचे खिसका दी और अपना लंड गांड के छेद से अड़ा दिया- फीस तो मैं इसी छेद से वसूलूंगा आज!धत्त, वहाँ मैंने कभी नहीं करवाया.

मैं चुपके से मामी का हैंडबैग चैक करने लगा, उसमें सेक्स कॉमिक और कंडोम पड़ा था.

उन्होंने बताया कि आप से सेक्स करके मुझे पता चला कि मुझे क्या चाहिए था. क्योंकि फ्लॉरा ने एक बार जॉय का लंड देख लिया था जो करीब 9″ का होगा, बस इसी लिए उसकी वासना भड़क गई. आराम से चूसो उफ्फ आह…काफ़ी देर तक गुलशन जी अपनी बेटी के मम्मों को चूसते रहे.

रितु दीदी ने पूछा- मैं नंगी कैसी लगी?मैंने कहा- जैसा मैं समझता था उससे कहीं ज्यादा खूबसूरत. तभी वह लड़का दौड़ के फिर मेरे पीछे आया, मुझे कस के पकड़ लिया और बोला- साली, आज तेरी सारी गर्मी उतारूंगा. थोड़ी देर में उसने अपने होंठ खोल दिए और मैंने अपनी जीभ उसके मुंह में डाल दिया.

गुलशन जी शुरू हो गए मगर सुमन को सर थोड़ी दबवाना था, वो तो आज कुछ और ही दवबाने के मूड में थी. अब उसने मुझे घोड़ी बनाया और पीछे से सीधा झटका मारते हुए लंड पेल दिया.

फ्लॉरा की नज़रें झुकी हुई थीं और वो अपने हाथों से अपने मम्मों को छुपा रही थी. मैंने रुस्लान से उसकी किसी xxx फिल्म को देखने की इच्छा प्रकट की तो उसने अपने मोबाइल में अपनी किसी क्सक्सक्स वीडियो क्लिप को ऑन कर दिया. बीच में ब्रा आने पर इस बार उसने बिना पूछे ब्रा के हुक खोल दिए, कविता ने कुछ नहीं कहा.

अभी तो आपसे विदा लेने का वक़्त आ गया है तो दोस्तो जल्दी से कमेंट्स दो ताकि आगे के पार्ट में आपको बताऊं कि इनके नहाने के बाद क्या हुआ था.

वो बहुत हॉट हो गयी थी, उसने मेरा हाथ पकड़ के अपने बूब्स, जो 32″ के होंगे, के ऊपर पहने पीले रंग के टॉप पर रख दिये. मेरा भाई शाहिद कपूर हीरो टाइप दिखता भी है और जिम भी जाने से उसकी बॉडी और गठीली दिखती थी. मम्मा- नहीं बेटा, वो बोल रही थी कि आज आप शाम को ही भेज देना और तू जा कर रेडी हो जा.

फिर हम दोनों नीचे आने लगे तो दूसरे रास्ते से नीचे आने लगे, जहाँ एक गली से हो के आना पड़ता है. एक तो इतने दिनों से वो चुदी नहीं थी और फिर आज अपने पापा का हाथ सीधे चूत पर लगा तो बस उसकी चूत को बहने का मौका मिल गया.

तुझे ज़्यादा चोट लग जाती तो क्या करती? ये सब बातें अपने पापा को बताना ताकि वो मोबाइल लेकर दे दें. मगर जब उनके लंड खड़े हो जाने थे तब पता नहीं इनमें से कौन कौन वहशी बनने वाला था. ”वो बोलीं- तुमने किसी लड़की की चूत तो देखी नहीं होगी आओ पहले तुम्हें अपनी चूत और क्लिट दिखा दूँ.

हरियाणा की ब्लू फिल्म सेक्सी

हमारी कॉलोनी में बहुत सी लड़कियां रहती थीं क्योंकि उस कॉलोनी में करीब 15 घर थे और हर घर में एक दो लड़कियां तो थीं ही.

प्यारे साथियो, और चुत वालियों मेरा नमस्कार, आप लोगों के लिए मॉम की चुदाई की एक सच्ची स्टोरी पेश कर रहा हूँ,एक बार मेरा तबादला 6 महीनों के लिए हरियाणा के रोहतक में हुआ. उसके होंठ पतले और रसीले, आँखें नशे से भरी हुईं, जो भी देखे उसकी आँखों में खो जाए. मैंने मना कर दिया, मेरी आँखों में तो आँसू तक आ गए, पर वो रेगुलरली मेरे मम्मों को सहलाए जा रहा था.

तो उन्होंने अबकी बार सुमन का पजामा धीरे से नीचे किया और उसकी चुत को देख कर हल्के से बोल पड़े- वाह, क्या मस्त चुत है तेरी सुमन. उसका कुछ वीर्य मेरी चूत से बाहर बहाने लगा तो उसे मेरी कुतिया मॉम ने चाट लिया. এক্স এক্স বেঙ্গলি বিএফमैंने नेहा की दोनों टांगों को फैलाया और नेहा उसकी चूत की फांकों को अलग अलग करके एक गहरा चुम्बन लिया और कुछ देर तक उसकी चूत को चूसा.

इसके बदले में तुम मेरे लिए उस घर की देखभाल और चौका बर्तन आदि तथा खेतों में मेरी सहायता कर दिया करना. कुछ ही पलों में उन्होंने हमें पूरी नंगी कर दिया और फिर पकड़ कर उसी गोल टेबल पे खड़ा कर दिया.

कुछ मिनट की चुदाई के बाद मैं फिर से झड़ गई तो जय ने अपना लंड मेरी चुत से निकाल कर मेरी गांड में डाल दिया. मुझे अच्छे से चोद और जब तक मुझे चोद रहा है… मेरी बेटियों के ख्यालों में खो मत जाना. तो कहने लगीं- अच्छा बिना किसी वजह से आना बंद कर दिया?मैं कुछ नहीं बोला.

कभी आशीष मेरे निचला होंठ तो कभी ऊपर का होंठ चूसते रहे, कभी तो दोनों होंठों के एक साथ चूसने लगते. टीना को कुछ समझ नहीं आया तो संजय ने उसे कुछ बातें समझाईं कि अब आगे वो सुमन को क्या करने को कहेगी, जिसे सुनकर टीना की आँखों में चमक आ गई. फिर मैंने अपने लंड को उसकी छोटी सी बुर पर लगाया और धक्का लगाया। गुड़िया बिटिया एक बार मुझसे चुद ही चुकी थी इसलिए थोड़ी ही देर में पूरा लंड उसकी बुर में घुस गया, उसको थोड़ा थोड़ा दर्द हुआ जिसे वह बर्दाश्त कर गई।मैं कुछ देर तक तो उसकी बुर को आराम से चोदता रहा, फिर मैं उसे स्पीड में चोदने लगा और मेरा लंड ने पानी छोड़ दिया.

यह अच्छी बात है कि चार-चार लड़के एक साथ तुझे मसलते हैं नीता… इससे तू ज्यादा से ज्यादा मर्दों के साथ चुदाई कर सकेगी.

मैं अपने नाना के यहां एक सप्ताह तक रहा था और रोज़ रात हम चुदाई करते रहे. मेरी ब्रा के अंदर का तनाव बढ़ गया था कि तभी उनके हाथों को अपनी चूचियों पे महसूस किया.

बोली- एक टूटा फूटा घर है, उसमें रहती हूँ, कभी कोई आता है… चोदता है कुछ पैसे दे देता है और चला जाता है. सुमन ने अपने घर में पहुँचने के बाद मुझसे कहा- सर एक बात आपसे कहना थी. मॉम ने यश को लंड मेरी चूत में घुसाने का इशारा किया और अपने होंठ मेरे होंठों से चिपका दिए.

मैंने मोनिका को होटल चलने को कहा, पर वो मानी नहीं क्योंकि उसके लिए यह पहली बार था, वो कभी ऐसे होटल नहीं गई थी और वो कॉलेज भी बंक नहीं करना चाहती थी. मैंने तुरंत बेटे को तरुण से ले कर चुप कराने की कोशिश करी लेकिन असफल रही तब मैंने तरुण की ओर पीठ कर के पेटीकोट के नाड़े को ढीला करके अपने एक स्तन को बाहर निकल कर उसे दूध पिलाने लगी. मुंबई शहर की हूँ तो थोड़ी मॉडर्न भी हूँ पर सेक्स जैसे मामले में थोड़ा पुराने विचारों की हूँ, शायद मेरी पारिवारिक सोच का परिणाम हो.

एचडी बीएफ चोदा चोदी तभी जो रिया की गांड मार रहा था, उसने भरभरा कर पानी छोड़ा और शायद उसका पानी महसूस करके रिया ने भी पानी छोड़ दिया।दो पल के रिया चुप सी हो गयी. सातवें दिन मैंने मेहता से कहा- सर, अब मैं आप को दूसरा मजा देना चाहती हूँ.

भाभी की जबरदस्ती सेक्सी वीडियो

मैंने घूम कर उसे देखा तो उसने कहा- मैं शाम को आऊंगा, साथ में घर चलेंगे. उनके चूसने का अंदाज़ इतना अच्छा था कि मैं होश खो बैठी, कभी वो मेरे निप्पल को दांतों के बीच दबा के काटते, कभी खींचते. ‘हम्म’मामी ने मुझसे पूछा- कभी किसी लड़की के साथ रोमांस किया है?मैं डर गया और बोला- नहीं.

मुझे बुर चुसाई में इतना बढ़िया लगा जितना अब तक जिन्दगी में नहीं लगा था. पप्पू मन ही मन में ऊपर वाले का शुक्रिया अदा कर रहा था कि उसने इतनी कमसिन लड़की को उसके सामने नंगी रखा था ताकि वो उसे चोद सके. भाभी देवर का सेक्ससाधु ने नीतू को कुछ जड़ी बूटी खाने को दी, जिससे उसको दर्द कम हो तब तक गोपाल भी पावर वाली गोली ले चुका था और घी लेकर बाहर आ गया.

बादाम खाया करो, आज सनडे है और सनडे को कौन सा कॉलेज खुलता है?गुलशन- अरे हाँ.

अनुराधा- चला जाएगा भैया… मेरी चूत ऑलरेडी बहुत गीली है… बस तुम डालो…मैंने अपने लंड को अपनी बहन की चूत में डालना शुरू किया आर एक हाथ से उसके कमर पकड़ कर उसे धीरे-धीरे अपने लंड पर बैठाने लगा. प्रिया- मैंने क्या देखा?मैं- झूठ मत बोलो मैंने आपको देखा था उस छेद से आप मुझे देख रही थींप्रिया आंटी ने मुस्कुरा कर कहा- ओके नहीं बताऊंगी.

इस बार मेरा पूरा का पूरा लंड दीदी की चुत में चला गया था और दीदी के मुँह से ‘उउफ्फ़ आहह. तब दिखा देना मगर अभी तो चूसने दो और हाँ अबकी बार लास्ट तक चुसवाना मुझे ढेर सारा रस पीना है. वो क्यों नहीं पहनती, उनमें ज़्यादा आराम रहता है और जिस्म को हवा भी मिलती है.

आप से जो भी सेक्स करेगी, सच्ची में उस को पता चलेगा कि सेक्स क्या होता है.

कुछ देर बाद मैंने उनसे कहा- आप कुछ उदास हो गई हैं, क्या बात है?दोस्तो, बाकी की पूरी नोनवेज स्टोरी अगले भाग में लिखूंगा. गोपाल अन्दर घी लेने चला गया और साधु पहले नीतू के पास बैठा, उसकी चुत पे अपना मोटा लंड रगड़ा, जिससे नीतू एकदम सिहर उठी. अंकल अब मुझे कभी मत छोड़ कर जाना, मैं अब आपके बिना नहीं रह सकती हूँ.

ઇંગ્લીશ પિક્ચર સેક્સइससे पहले वो कुछ और बोलते मैंने मम्मा के बात को बीच में ही काटते हुए बोला- ठीक है मम्मा, कल चला जाऊंगा. सुमन- रात को अकेली कहाँ से आती और कॉल के लिए मोबाइल भी होना चाहिए ना.

प्लेयर सेक्सी

जब उसका छटपटाना बंद हुआ तो मैंने कहा कि पहली बार तो दर्द होता ही है, इसे बर्दाश्त करो. तब एक दिन पूजा ने ड्राइविंग सीखने के लिए पापा को बोला, तो पापा ने अपने ड्राईवर कमल को बोला- कमल, तुम बेबी को ड्राइविंग सिखा देना. टीना की बुर अब लावा उगलने को तैयार थी और ऐसी चुसाई एक कमसिन कली कहाँ तक बर्दाश्त कर सकती थी.

होली के दिन सारे लड़के पहले होली खेलना शुरू करते और बाद में लड़कियां और आंटी लोग ज्वाइन करती थीं. वहां शानू के गर्लफ्रेंड के ज़िद करने पर हम लोग अगले दिन पिक्चर के लिए तैयार हो गए. मेरा नाम शुदित है, मैं ग़ाज़ियाबाद का रहने वाला हूँ, मेरी उम्र 20 साल, हाइट 5’9″, मेरा लंड 7″ लंबा और 3.

अब मेरे सामने 19 साल का एक नया राजपूती राजकुमार अपने मस्त कसरती जिस्म के साथ सोफे पर आराम से बैठा था और उसका लण्ड लोवर के अंदर तना हुआ किसी की मस्त चुदाई के लिए तैयार था।मैं ठंड का बहाना बनाते हुए उसके और नज़दीक हुआ और मैंने रज़ाई को और दबोच लिया. घपा घप… घपा घप… की आवाज़ पूरे घर में गूंज रही थी और मैं थक चुका था लेकिन वह नहीं थक रहा था।लगभग 35 मिनट के बाद उसके झटके और भी तेज हुए और उसका लण्ड मेरे गले में और अंदर तक उतरने लगा… 5-7 झटकों के बाद वह सी. फ्लॉरा नहा कर बाहर आई तो उसके जिस्म से पानी टपक रहा था, जिसे देख कर जॉय बस देखता ही रह गया.

मुझे मस्ती चढ़ने लगी और मैंने भी नीचे से अपनी गांड उठा कर कमर से पैरों को जकड़ कर चुत में लंड ठुकवा रही थी. उसकी ये बात सुनते ही मैं जो उसकी चूत के ऊपर अपना लंड घिस रहा था, एकदम से धक्का दे मारा और मेरा लंड अन्दर चला गया.

मामा जी का लंड मेरे नाख़ून से मेरी कलाई तक लम्बा था और मोटाई इतनी थी कि मेरी एक हाथ की मुट्ठी में नहीं आ पा रहा था.

बाद में जब मैं उसकी बुर को चाटने लगा तो उसे इतना मजा आने लगा की वह बुरी तरह से सिसकारियां लेने लगी। फिर कुछ देर में ही वह झड़ गई. एक्स वीडियो इंग्लिश मेंमैंने कहा- ठीक है, मैं पिंकी को अकेला ही लेकर चला आऊंगा, तुम शाम को क्लब चलना. बिलुफिल्ममैंने उसका स्कर्ट भी निकाल कर उसे पूरी नंगी कर दिया और उसकी चूचियों को मसलने लगा. दीपिका ने अपनी दूसरी चूची को भी बाहर निकाल दिया, तो मैं उसे भी चूसने लगा, ज़ोर ज़ोर से मसलने लगा.

साधु ने दोनों को लेटा दिया और गोपाल को कहा कि तुम जाकर देसी घी ले आओ, तब तक में इन दोनों की योनि से अपना लिंग स्पर्श करा देता हूँ.

पर्फेक्ट हार्ट शेप की उसकी गांड और उसके बीचों-बीच उसकी सुंदर चूत दबी थी. तरुण ने जब यह देखा तो बिना कुछ पूछे या कहे अपने दोनों हाथों को मेरी बगल से आगे ला कर मेरे दोनों स्तनों को पकड़ कर चोली के अन्दर करके डोरी खींच कर बाँध दी. मैंने भैया को आवाज़ दी लेकिन वो उठे ही नहीं तो मैंने उन्हें थोड़ा हिलाया.

थोड़ी देर के बाद दरवाजे की वेल बजी और मैंने दरवाजा खोला तो विवेक सामने था. पप्पू फिर निप्पल खींचते हुए बोला- ये ले रानी और ले और ले, तेरी माँ की चूत… आज तेरी गांड और चूत फाड़ दूँगा. मम्मों पर हाथ लगते ही वो जाग गई और अपने हाथ से मेरा लंड तलाशने लगी.

आदिवासी एक्स एक्स सेक्सी

मैंने पैर फ़ैलाने को बोला तो उसने थोड़ा झुकते हुए अपने पैरों को फैलाकर मुझे अपनी चूत के दर्शन दे दिए. लेकिन अब मुझ में ऐसे ही किसी जवान जिस्म और मूसल लंड की प्यास लग चुकी थी जिसे किसी मोटे लंबे लंड से निकला गर्म पानी ही बुझा सकता था. मैं बहुत गोरी तो नहीं, फिर भी मेरा रंग साफ है, 34-28-34 मेरे बदन का साइज है, मैं एक मल्टीनेशनल कंपनी में काम करती हूँ जो बांद्रा-कुर्ला काम्प्लेक्स में है.

उसका घर और मेरा घर एकदम अगल-बगल में था, हमारी छतें भी मिली हुई थीं.

मैंने फिर उसे पकड़ा और बोला- साली नखरा कर रही है अब… आ थोड़ी तेरी शर्म भी उतार दूँ बहनचोद…ये कह कर मैंने उसे अपने सीने से लगा लिया और उसके होंठों पे एक चुम्बन ले लिया.

अब तक की इस सेक्स स्टोरी में आपने पढ़ा था कि फ्लॉरा के घर पर टीना रात को होने वाली पार्टी को लेकर बरखा और अतुल से बातचीत कर रही थी. ये सुन कर वरुण अन्दर आ गया उसे देख कर शोभा एकदम से चौंक गई और अपनी चूचियों को अपने हाथों से ढकने का असफल प्रयास करने लगी. ब्लू फिल्म सेक्सी फिल्म हिंदीमैंने रुस्लान से कहा- मैं बिल्कुल भी विरुद्ध नहीं हूँ और उससे बात करके बताऊँगा.

मॉर्निंग में मैं जब उठी तो गांड का शेप ही बदल गया था… वो और मैं न्यूड ही सो रहे थे. उस रंडी औरत को चुदाई के लिए इतनी बेताब बनी देख कर उसे और तड़पाने के लिए उसके मम्मे और भी बेरहमी से मसलते हुए निप्पल खींच कर उनको मस्ती से मरोड़ते हुए वो बोला- बहनचोद इतनी क्यों उतावली हो रही है कि लंड पे से मेरा पानी ले कर चूत में डाल रही है रंडी? अरे चूत में तो मेरा लौड़ा घुसेगा… तब मज़ा आएगा तुझे… वो उंगली निकाल रांड. सुमन कभी फ्लॉरा की चुत को होंठों में दबा कर चूसती, तो कभी टीना की चुत को जीभ से कुरेदती.

ऐसे बात करते-करते एक बज गया तो वे बोले कि हम लोग खाना खाने जा रहे हैं. मैंने एक जोर का शॉट मारा और मेरा लंड उनकी गांड फाड़ता हुआ पूरा अन्दर घुस गया.

सुमन- पापा लगता है बहुत सारी चींटियों ने आपको काटा था, तभी बहुत सारा जहर निकला.

टीना- अच्छा फिर क्या हुआ तू रोई क्यों?सुमन- यार पापा के जाने बाद मैं सो गई थी, थोड़ी देर बाद कुछ अजीब सी आवाजें आईं, जिसे सुनकर मैं डर गई और पापा को देखने गई कि वो आए या नहीं, मगर वो नहीं आए थे. मैंने अपने होंठ अपनी बहन के होंठों पर रख दिए और किस करने लगा, वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. मैंने जाकर देखा तो वो सही था, मतलब वो मुझे रोज नंगी नहाते हुए देखता था.

सेक्सी विडिओ हँड जैसे ही पप्पू का हाथ अपने लंड पे गया, रूपा अपने हाथों से खुद अपनी चूचियाँ मसलती हुई बोली- उउम्म्म थोड़ा और जोर से मार ना… पूरा लेना है लौड़ा चूत में हरामी. तब से जब भी मौक़ा मिले, हम दोनों खूब चुदाई करने लगे, हमारा यह अनैतिक यौन सम्बन्ध काफी लम्बे समय तक चला लेकिन अब हम दूर हो गए है, मिल ही नहीं पाते हैं.

दूध पीकर मैंने गिलास आंटी को वापस दे दिया।आंटी बोली- बेटा, मैं दूसरा गिलास दे देती. दूसरे दिन मैं पिंकी को लेकर पार्क में गया और एक सुनसान जगह पर बैठ गया. दोस्तो इन बाप बेटी के बीच का ये खेल, बाप बेटी का सेक्स अब सारी सीमाओं को लाँघ चुका था.

सुहागरात वाला सेक्सी वीडियो भेजो

कमरे की बत्ती मैंने बंद नहीं की ताकि बाहर वाले को अंदर तो नज़र आ सके लेकिन अंदर वाले को बाहर नहीं. मणि ने अपना लंड धीरे धीरे मेरी चूत में डाल ही दिया मैं दर्द के मारे तड़पती रही, मचलती रही, बिलखती रही लेकिन उस बेदर्दी को मेरे ऊपर ज़रा भी दया नहीं आई, वो मेरी चूत की सील तोड़ कर अपना लंबा लंड मेरी चूत में पूरा घुसा कर ही माना. मगर फिर सुमन को सब पता लग जाता, उसके बाद ममता और गुलशन जी अभी ये बिल्कुल नहीं चाहते थे कि उनकी बहन से उनका सामना हो.

मेरी पिछली कहानीमैं बेचारी जवानी की आग में जल रही थीमें आपने पढ़ा कि किस तरह मेरे होने वाले पति अमित ने मेरी जबरदस्त चुदाई की. रूपा की बात और चुसवाई अच्छी लगने से पप्पू हल्के-हल्के उसका मुँह चोदते हुए और बालों में हाथ फेरते हुए बोला- ठीक है मादरचोद रंडी, अब पहले तेरी चूत का भोसड़ा बनाने के बाद ही तेरी कमसिन बेटियों की बात करूँगा.

हमें कब नींद आ गयी इसका पता ही नहीं चला और जब सुबह पक्षियों के चहकने की आवाज़ सुन कर मेरी नींद खुली तब मैंने अपने को बिस्तर पर पूर्ण नग्न पाया और तरुण का कहीं पता नहीं था.

मैंने उसकी दोनों टांगों को अपनी बाहों में उठा कर आधा मोड़ दिया और स्पीड से लंड अंदर बाहर करने लगा. मैंने अब देर न करते हुए गीत को अपने नीचे कर दिया और गीत की नाईटी उतार दी, उसके नीचे उसने ब्रा पहनी ही नहीं थी तो उसके दोनों मम्मे नंगे हो गये. तभी उसने दोनों हाथ से उसका शार्ट निकाल कर नीचे गिरने दिया। किसी स्प्रिंग की माफिक उसका लंड टनटनाकर रिया के मुँह के पास खड़ा हुआ.

फ्लॉरा और टीना पास में एक साथ बेड पर लेटी हुई थीं और सुमन उनके बीच में बैठ कर दोनों की चुत को बारी-बारी से चाट रही थी. फिर 5 मिनट की चुदाई के बाद मैं फिर से झड़ गई तो उसका लंड फिर से गीला हो गया. उसने मेरा मोटा लौड़ा अपनी चूत में रखा और नीचे बैठने लगी, सारा लंड उसकी चूत में धंस गया.

इससे मुझ में भी जोश आ गया और मैंने उसकी छाती पर अपने दाँतों के निशान बना दिए, जिससे वो कराह उठी.

एचडी बीएफ चोदा चोदी: मैंने उसको चाटने के लिए जीभ निकाली ही थी कि उसने मेरे बाल पकड़ लिए. हैलो दोस्तो, आपकी दोस्त पिंकी आपके मनोरंजन का सेक्स से भरा हुआ पार्ट लेकर आ गई.

वो दौड़ कर बाथरूम में भागी और बहुत देर तक उबकाई लेती रही और अपना मुंह साफ़ करती रही. हम दोनों इतनी जोर से सिसकारियाँ भर रहे थे कि निश्चित ही दूसरे कमरे में मेरी गर्लफ्रेंड भी समझ गई होगी कि उसकी माँ मुझसे अपनी चूत चुदवा रही है. मैं ममता को अपने ऊपर बिठाकर चोद रहा था और वो बहुत मज़े से मेरे लंड पर उछल रही थी.

सुबह नौ बजे के करीब चाची मेरे कमरे में झाड़ू लगाने आईं, तब उन्होंने ही मुझे जगाया.

मैंने दुबारा सैट किया और एक हाथ से लंड पकड़ कर धक्का दिया, तो मेरा पूरा लंड अन्दर घुस गया. उसने पूछा- बाबूजी कल यहाँ क्या हुआ था?‘कुछ नहीं, अरे वो कुत्ता आया था तो मैं उसे भगाने के चक्कर में था. अब की बार लंड पर कंडोम दीदी ने चढ़ाया और मैंने उनको कुतिया स्टाइल में होने को बोला.