बीएफ वीडियो एचडी हॉट

छवि स्रोत,बुढ़वा मंगल

तस्वीर का शीर्षक ,

बीएफ वीडियो मोटी औरत: बीएफ वीडियो एचडी हॉट, इस समय हम दोनों के ऊपर गिरता फव्वारे का पानी हमको महसूस ही नहीं हो रहा था.

ब्लैक कॉक सेक्स

अब आगे:घर आने से पहले दीदी मुझसे बोली- अर्णव, मम्मी को मत बताना कि हम लोग साकेत भैया के साथ होटल गए थे. कुत्ते और लड़की काउसे अपने ऊपर ले लिया और बोला- अब तुम करो।मुझसे नहीं हो पायेगा।”क्यों नहीं होगा.

शायरा की चुत की फांकें बाहर से तो ठंडी थी … मगर अन्दर की तरफ से एकदम‌ गर्म गर्म थीं. भारत की एक्स एक्स एक्सइसलिए शायरा को जल्दी से ठंडा करने के लिए मैंने शायरा के ऊपर लेटकर तेजी से धक्के लगाने शुरू कर दिया.

मैंने उसे भी खोला और वो एक कहानी की किताब थी जिसमें चुदाई की कहानी थी.बीएफ वीडियो एचडी हॉट: वो- अच्छा, अभी बताती हूँ तुझे … रुक तू … बड़ा आया बीवी वाला!शायरा मुझे मारने के लिए फिर से दौड़ी मगर तब तक‌ मैं ऊपर अपनी सीढ़ियां चढ़ गया.

15 मिनट तक मनीष ने मेरी चूत को बहुत चोदा और फिर वो मेरी चूत में ही झड़ गया.बहुत बार वह मेरे कॉलेज के बाहर भी आया।जब भी वह मुझसे मिलने आता, हम दोनों बाज़ार या मॉल में ही मिलते, बातचीत करते थे.

दिल तोड़ने वाली - बीएफ वीडियो एचडी हॉट

मैं न्यासा की चुत पर अपना लंड घिसने में लगा था, पर अन्दर नहीं डाल रहा था.वह लंड पेलता हुआ बोला- बस सर जी, ऐसी ही ढीली किए रहें और कॉपरेट करें.

फिर उसने कहा- रुको बाबा … सारी रात है ये सब करने के लिये, अब अंदर चलो, पहले कुछ खा पी लेते हैं. बीएफ वीडियो एचडी हॉट अचानक ही ज़ारा सिसकारियां लेने लगी तो मैंने उसे ऊपर से उतारा और सीधे लिटाकर उसके ऊपर आ गया.

वैसे भी मैंने जहां कमरा‌ लिया हुआ था … वहां से कॉलेज ज्यादा दूर नहीं था.

बीएफ वीडियो एचडी हॉट?

मैंने सन्नी को रूम में चलने को बोल दिया और खुद न्यासा के बाहर आने का वेट करने लगा. श्वेता दीदी- तुम इससे इतना सवाल क्यों पूछ रही हो?सहेली- अरे मेरा भी इसी के उम्र का छोटा भाई है … वो मुझे बहुत परेशान करता है. मैं सामान ले जाने लगा, तो वो बोला कि आप रहने दो, मैं घर पर भिजवा दूंगा.

मेरे दोनों आम उसके सामने नंगे थे जिनको उसने बिना देर किये अपने मुंह में भर लिया. साथ ही न्यासा अपने दोनों हाथों से लंड को आगे पीछे करके उसकी मुठ भी मारने लगी. उन्होंने अपने शरीर को इस तरह से खिसकाया की मेरा शरीर उनकी टांगों के बीच आ गया.

रेखा बोली- कैसे हो?मैंने कहा- ठीक नहीं था, लेकिन शायद अब ठीक लग रहा है. धन्यवाद, आप सब मुझे अपने प्यार से नवाजें और मैं अपनी जिंदगी के और हसीन पल आप लोगों के साथ साझा करूं. मैंने इस तरह लम्बी चुदाई के बाद महसूस किया कि मैं अब झड़ने की कगार पर आ गया हूँ.

उसके मामा की लड़की को मेरी दीदी भी जानती थी।बहुत बार रोहित ने अपनी मामा की लड़की से मेरी बात भी करवायी थी. मैंने उसे पीछे से पकड़ा और जो मम्मे रगड़ना शुरू किए कि उसका शरीर ढीला पड़ गया। पीछे से मेरा लंड भी उसकी गान्ड की दरार में बार बार जाने के लिए मचल रहा था.

मेरी कामाग्नि बढ़ती चली गयी और मैं रोज़ाना नयी नयी ब्लू फ़िल्म देखने लगी.

सामान देखने के क्रम में वो मुझसे मेरी राय पूछ रहा था और मैं ‘हां, हूँ, ठीक है.

मैंने कहा- तो आपका लंड आपको ज्यादा परेशान कर रहा हो, तो मेरी में डाल दो. इसी तरह हम दोनों को जब भी मौका मिलता, तो हम दोनों चोदम पट्टी करने लगते. मैंने उसके मुँह से लोलू शब्द सुना तो मैं समझ गया कि इसके पति का लंड कबाड़खाना होगा.

दीपा उठ कर जाने लगी, मनोज ने पूछा- क्या हुआ?तो दीपा हंस कर उसके खड़े लंड की ओर इशारा कर के बोली- ये बैठने नहीं दे रहा. मैंने कहा- सोचो कि तुम न्यूड (नग्न) सोई हो और में तुम्हें सारे शरीर पर चूम रहा हूँ. मैंने बहुत मना किया फिर भी उसने अपनी मामा की लड़की को मोमोज लेने के लिए दुकान पर भेज दिया।अब पूरे घर में सिर्फ मैं और रोहित थे.

शादी के पहले और बाद मैंने कभी किसी पराए मर्द की तरफ उस नजर से नहीं देखा था.

उधर नीरू एक हाथ से मेरे बाल सहला रही थी और दूसरे हाथ से शराब की चुस्कियां ले रही थी. मुझे चाची की चीखों से मजा आ रहा था- अब बोल चाची भैन की लौड़ी … अपनी दोनों बहनों की चूत मुझको कब दिलाओगी. वो बोली- जीजू आप इतना क्यों तड़पा रहे हो … प्लीज़ चुसवाओ ना!मैं बोला- मैं पालतू जानवर को भी जंगली बना देता हूँ … जैसे तुम अभी हो रही हो मेरी प्यारी शर्मीली सी साली.

यह सब पता नहीं कब से इन दोनों के बीच चल रहा है … और वैसे भी अब तक तो वो साला कइयों बार मेरी बीवी शिल्पा की चुत पेल चुका होगा. मैं लगातार उसकी चुत को चाट रहा था और वो मेरा सर पकड़ कर अंदर की तरफ खींच रही थी और मेरा मुंह उसकी चुत की दरार के अंदर तक धंस गया. इसके बाद धीरे धीरे पानी मामी की गांड से माल निकलता आ रहा था और मैं चाटता जा रहा था.

मेरी बड़ी चाची भले ही देखने में काली है लेकिन गदरीली मांसल जांघों वाली और मोटी गांड की मालकिन है.

तब तक मैंने स्कूटी को मोड़कर स्टार्ट कर लिया और शायरा मेरे पीछे आकर बैठ गयी. वो बाथरूम से अपनी चुत धुलाई कर आई थी, इसलिए उसकी चुत एकदम‌ ठंडी थी, पर अन्दर से अब भी गर्म लग रही थी.

बीएफ वीडियो एचडी हॉट अपनी चुत के दाने पर मेरी जीभ का स्पर्श पाकर शायरा तो अब हवा में ही उड़ने लगी. अनीता जब अपनी चूत को ऊपर लाती, तब मैं ऊपर से जोर लगा कर उसकी चूत में अपना लंड घुसेड़ देता.

बीएफ वीडियो एचडी हॉट और डर भी बहुत लगता था कहीं कुछ हो ना जाये या किसी को पता नहीं चल जाये।दीदी के घर में नीचे वाले एक कमरे में दीदी के देवर भी रहते हैं. कुछ दिन बाद पहले साल की पढ़ाई ख़त्म हो गई, तो प्रिंसिपल सर ने मुझे अपने हॉस्पिटल में आने के लिए कह दिया.

घोड़ी बनाते ही अपना लण्ड रेखा की चूत में पेल दिया और उसकी गर्दन, पीठ व कमर पर शहद मलकर चाटने लगा.

टीचर सेक्सी वीडियो चुदाई

भाभी के मुँह से दबी सी आवाज निकली- आआ … आह्ह्ह ह्ह्ह्ह … उईईई माँआअ … मरर गई. तब छोटी होने के कारण में मामला संभाल नहीं पाई।जिसके कारण मेरे माता पिता जल्दी से मेरी शादी कराने में लग गए. जैसे कि शादी से पहले भी उसका एक लड़के से अफेयर था, पर उसने जब शायरा के साथ कुछ गलत करने की कोशिश की … तो शायरा ने उस लड़के को छोड़ दिया आदि.

अब उसकी स्पीड सच में तेज हो गयी थी और मुझे मेरी गांड में दर्द सा होने लगा था. अब मैं खुद झुक कर उसके 8 इंच से भी बड़े मोटे लंड को बिना हाथ में पकड़े सीधे मुँह में भरने का प्रयास करने लगी. मगर मैंने देखा कि आस पास के लड़के लड़कियां एक दूसरे से चूमा-चाटी कर रहे थे और किसी ने किसी का लंड पकड़ रखा था, तो किसी ने उसके मम्मों को दबा दबा कर उसकी मीठी मीठी आवाजें निकलवा रहा था.

उसकी नाईटी जो कि काफी खुले गले वाली थी, उस वजह से उसकी आधे से ज्यादा चुचियां बाहर निकलू हुई थीं.

वो अपनी आंख बन्द करके बोलने लगीं- आह आह … खा जाओ इन चूचों को मेरी जान … आह पी लो इनको अपने होंठों से. संजू ऊपर से सिर्फ केलविन क्लेन की महंगी ब्रा में थी, जिससे उसके आधे से ज्यादा मम्मे साफ़ दिख रहे थे. सुगंधा भाभी ने अपनी आंखें बंद कर दीं और उसी समय मैंने अपनी पैंट की जिप खोल करक बड़ी मुश्किल से जल्दी जल्दी अपनी पैंट और चड्डी को निकाल दिया.

सन्नी ने पीछे से न्यासा की गांड में लंड डाल दिया और ज़ोर ज़ोर से उसकी गांड मारने लगा. औरत को पूरी नंगी देखने का अपना मजा है लेकिन औरत जब नीचे से नंगी हो और उसने ऊपर केवल एक पतला कपड़ा डाला हुआ हो जिसमें से उसके अंगों को को महसूस किया जा सके तो उसके बदन को मसलने और छूने में अलग मजा आता है. थोड़ी देर बाद मैं साइड में लेट गया और अपनी सांसें नियंत्रित करने लगा.

मैं पहले कुछ देर उनकी नंगी चूत को अपने शॉर्ट्स से ढके हुए लंड से रगड़ता रहा. एक बार मैं कमरे का किराया देने गया तो आंटी ने बोला- अर्जुन, तू घर में किसी से बात ही नहीं करता, कोई परेशानी तो नहीं है न तुझे!ये बात उन्होंने मुझसे कुमाउनी भाषा में कही.

मगर यह भी संभव नहीं था।मेरी बहन आयेशा और भाई साहिल भी मुझसे दूर थे. वो बोली- हां बताओ, क्या शर्त है आपकी?मैंने कहा- मुझे तुम्हारी सहेलियों में से किसी एक के साथ एक रात चाहिए होगी. तो तेरे भैया बोले ‘हां मेरी जानेमन … मैं हर रात तेरी चूत में लण्ड डाल कर सोना चाहता हूं, मुझे हमारी चुदाई में खलल नहीं चाहिए, जैसा तुम्हें उचित लगे वैसा करो!’ अब तेरे भैया को क्या पता, कि उनकी बहन आज उनके साले से जमकर चुदने वाली है.

जाते समय मौसा जी ने 3000 रुपये हमें दे दिये ताकि हमें किसी चीज की जरूरत हो तो लाई जा सके.

आप भी करके देखिए … एक बार इसका मजा लेंगे तो आगे से आप भी शराब छोड़ कर इसे ही पिएंगे. जैसे जैसे मेरी जीभ उसकी चूत में अंदर जा रही थी वैसे ही वो मेरे लंड पर दांत से काट लेती थी. लेकिन वह मुझे पीछे से चोद रहा था तो मैं किचन की स्लेप को ही पकड़ कर झड़ गई।मेरा हल्का हल्का सा पानी मेरी चूत से निकलकर मेरी जांघों पर बहने लगा।अब उसकी बारी थी तो वह मेरी पीछे से पूरी तरह से कोली भर कर मुझे अपने आगोश में लेकर मुझे अपने अंदर समेटने की कोशिश करने लगा.

मैंने मालू के चूतड़ों के नीचे तकिया रखा, अपने लण्ड पर और मालू की चूत पर कोल्ड क्रीम लगाई और मालू की चूत के गुलाबी लबों को फैलाकर अपने लण्ड का सुपारा रख दिया. सब इस तरह से खड़े हुए थे कि म्यूजिक शुरू होते ही जो जोड़ी बनें वो पति पत्नी की न बनें.

अब उसकी बेचैनी भी शवाब पर थी, तो उसने लंड को पूरा का पूरा एक साथ ही चुत की जड़ में बैठा दिया. फिर उसने अपना लंड बाहर निकाला और एक दो बार हिलाकर मेरी नाभि पर अपना माल गिरा दिया. कुछ देर बाद वह मेरे मुँह में ही झड़ गया और मैं उसके लंड का सारा पानी पी गयी.

सील पैक सेक्सी विडियो हिंदी

मैंने सन्नी को रूम में चलने को बोल दिया और खुद न्यासा के बाहर आने का वेट करने लगा.

अब मैं मामी के मम्मों को पीने लगा और एक हाथ से उनकी चूत को सहलाने लगा. एक शाम मेरा दोस्त मुझे अपने साथ जबरदस्ती अपनी कसम देकर बाजार लेकर चला गया. मैं- आप जितनी खूबसूरत हो, उससे भी ज्यादा आपका दिल खूबसूरत लग रहा है भाभी.

ऊपर से शायरा मेरे लंड की ताक़त और बढ़ाने के लिए मुझे अपने पूरे जोश के साथ किस कर रही थी. दोस्तो, इस कामुक दास्तान को आपके लिए लिखने का हम दोनों का सामूहिक फैसला था और जूली अभी भी मेरे बाजू में ही है. अन्तर्वासना स्टोरीमैंने कहा- मां खुशियां ऐसे नहीं लौटीं … अब तू एक लड़के की नानी बन गई है.

वो केवल अंडरवियर में रह गया और उसका लिंग उसके अंडवियर में पूरा उफन रहा था. वो दोनों हिचकने लगीं तो मैंने कहा- देखो, अगर आप मेरे हर अंग को नंगा देखोगी, और हम सभी चुदाई की बातें करते हैं, तो अब इसमें क्या परेशानी है? वैसे भी तो हम सभी चुदाई की सीधी बातें करते ही हैं.

” गौरी के चहरे पर लंबी मुस्कान फ़ैल गयी।तुम ‘तारक मेहता का उल्टा चश्मा’ देखती हो ना?”हओ … वो तो मैं तभी मिस नहीं कलती हूँ? आपने त्यों पूछा?”उसमें भिड़े की जो लड़की है ना? पता नहीं क्या नाम है?”उसता नाम सोनू है. उसकी योनि के अंदर पूरी गहराई तक जीभ डाल के अंदर बाहर किया और चूत के दाने को भी बहुत प्यार से चाट और सहला कर उसको बहुत उत्तेजित कर दिया. जाते समय उसने मुझे कोई चीज भेंट की और कहा- ये मेरी निशानी के तौर पर रख लो.

वह कोचिंग का लास्ट दिन था।मेरे दोस्तों ने मुझे कहा कि आज के बाद वो कभी न मिलेगी, जा उसे अपने दिल की बात बता दे।उनके उकसाने पर मैं डरता हुआ बड़ी मुश्किल से उसके पास गया. मैं इस सेक्स कहानी के द्वारा अपने साथ बीते हर पल को आप तक पहुंचाने का प्रयत्न करूंगा, इसलिए हो सकता है कि कहानी कुछ लंबी हो जाए. थोड़ी देर आराम करने के बाद मैं जब बाथरूम जाने के लिए उठी, तो मैं टेबल से उठ ही नहीं पा रही थी.

चूत गीली होनी शुरू हो गई और मुझे लगने लगा कि चड्डी का वो हिस्सा भी गीला लगने लगा, जो चुत का घूंघट बना कर उसके साथ चिपका रहता है.

वो यहाँ आकर हमें मसाज दे सकता है और मेडिकल मसाज सिखा सकता है और पैसे भी नहीं लेगा. उसका लंड अब तक अपने पूरे शवाब पर था, जिसको उसने मेरे सामने बाहर निकाल कर पूरी तरह से आज़ाद कर दिया था.

वो समझ चुकी थी कि अभी चिड़िया के पर लगे हुए हैं और यह उड़ना जानती है. पर उसने मेरी झक्की खोल दी- हां जी, इससे बड़ा मेरे एक दोस्त या साथी कह लीजिए, उसका है. मैंने कहा- हां बताओ, क्या शर्तें हैं?वो कहने लगी कि तुम मुझसे बेवजह झगड़ा नहीं करोगे, मुझे इस्तेमाल करने के बाद छोड़कर नहीं जाओगे वगैरह … वगैरह!अब मुझे तो चूत चाहिए थी इसलिए मैं तो किसी भी बात के लिए ना नहीं कर सकता था.

उस मूवी के प्रभाव से व उत्तेजना के कारण पता नहीं कैसे मैं यंत्र वत शायरा की गर्दन‌ पर से सहलाते हुए अपने हाथ को अब उसके बाएं गाल पर ले आया और उसके गाल पर दबाव बनाके उसके चेहरे को‌ अपनी तरफ घुमा लिया. मेरे रुकने से उसने एक राहत की सांस ली, पर मैं अभी भी कहां मानने वाला था. आपको इस देसी सेक्सी गर्ल हॉट स्टोरी में मजा आ रहा है ना?[emailprotected]देसी सेक्सी गर्ल हॉट स्टोरी का अगला भाग:कमसिन पहाड़ी लड़की की बुर चुदाई- 2.

बीएफ वीडियो एचडी हॉट मैं लंबी-लंबी सांसें लेने लगा तो वो बोली- ज्यादा दर्द हुआ क्या?मैं- और नहीं तो क्या!ज़ारा- चलो मालिश कर देती हूं!ये कहकर वो नीचे हुई और मेरा अंडरवियर उतार कर लंड को चाटने लगी!कुछ ही देर में लंड खड़ा हो गया तो मजे लेकर चूसने लगी जैसे कुल्फी चूस रही हो!अब मुझे भी कुछ चाहिये था तो मैंने उसे 69 की पोजीशन में कर लिया और उसकी चूत चाटने लगा व क्लिट को रगड़ने लगा. दोस्तो, कुछ रिश्ते ऐसे होते हैं जिनको हम समाज के सामने नहीं ला सकते लेकिन ये रिश्ते ही हमें असली सुख देते हैं.

ful सेक्सी

यह मेरी लाइफ का पहला वाकया है जो मैं आप लोगों से शेयर करने जा रही हूं. मुझसे ये बर्दाश्त नहीं हुआ इसलिए मैंने पहले तो एक बार अपनी गर्म जीभ को बाहर निकाल कर उसके रसीले होंठों को चाटकर देखा, फिर धीरे से उसके नीचे के एक होंठ को अपने मुँह में भर कर हल्का हल्का चूसना शुरू कर दिया. उसके बाद वो उठी और मैंने देखा कि उसकी गांड देखने में और भी ज्यादा मस्त थी.

इसके बाद मैं मामी को उठा उठा कर आधा घंटे तक उनकी गांड को चोदता रहा. जब चाची ठुमक कर चलती हैं, तो उनकी गांड के दोनों फलक और दोनों चुचे बड़े ही मस्त हिलते हैं. नंबर बुला केमैं पछता रही थी कि क्यों इससे कहा कि मेरी सहेली को राहत दे दो, उसकी बेचैनी दूर कर दो.

बस अपनी गति से चल रही थी और अभी तक हम मुंबई शहर से बाहर निकले नहीं थे.

दो दिन कड़ी मेहनत करने के बाद भी रूम की व्यवस्था नहीं हो पाने की वजह से मैं व्यथित और थोड़ा ध्यानमग्न था कि मेरा फोन रिंग हुआ. तेरे अंकल ने काफी कोशिश की लेकिन उनका लण्ड इस चक्रव्यूह को भेदने में असफल रहा.

मैंने अपना ध्यान संभोग खत्म करने पर लगाया और 15-20 जबरदस्त चूत फाड़ शॉट लगाकर वीर्य की पिचकारियाँ छोड़नी शुरू की. जब मैं उसके घर पर आई, तो देखा कि एक बेड था, एक अलमारी और एक दो सूटकेस रखे थे. मैंने उसकी टांगों को अपने कंधों पर रख कर उसकी चुत की फांकों में लंड घिसने लगा.

वह कहता भी कि तुम मेरे रूम पर मिलने आ जाओ!लेकिन मैं मना कर देती और फिर दीदी भी भेजने के लिए मना कर देती।मैं और रोहित फोन पर बात करते थे इसलिए हम दोनों के बारे में उसके मामा की लड़की को भी पता चल गया था.

सुगंधा भाभी की बातों से इतना तो पक्का हो गया था कि उनका भी चुदाई का मन है … लेकिन वो डर रही थीं. उसने एक टांग को मेरे चूतड़ों पर चढ़ा लिया और जोर से मुझसे लिपटने लगी. कहां उसका लंड खड़ा नहीं होता था और अब कहां उसका वीर्य निकलने का नाम नहीं ले रहा था.

नेपाली लड़कियों का देह व्यापारउसने सबसे पीछे की कतार में कोने की टिकेट्स ले लिए और मुझे पिक्चर हॉल में ले गया. चूत में चिकनाई भी पूरी थी और मेरे लंड ने कामरस निकाल निकाल कर उसके पूरा चिकना कर रखा था.

सनी देओल की सेक्सी ब्लू फिल्म

अब हालात कुछ ऐसे थे कि मैं और ड्राइवर उसके मम्मों को मसलने में लगे हुए थे और वो हमारे लंडों को मसाज देने में लगी हुई थी. ये देखकर एक दिन पूजा और रंगोली मेरे कमरे में आईं और बोलने लगीं- भैया, आप तो बस रोहित को ही सब कुछ दिलाते हो, हमें तो कभी कुछ नहीं दिलाया. मैं रोने लगी, हाथ पैर पटकने लगी लेकिन उस जालिम ने फिर भी नहीं छोड़ा.

मेरे सास-ससुर और पति सब गांव में थे और सरकार ने अचानक संपूर्ण लॉकडाउन लगा दिया. यास्मीन से नजरें मिली तो शरारत भरी मुस्कान थी उसके होंठों पर!मैंने सोच लिया कि अब इसकी चूत मारनी है, इसलिए मैंने सोचा कि एक कोशिश करके देखूंगा।रात में मैंने मेसेज किया कि तुम्हारे बाथरूम में एक क्रीम देखा, कैसी क्रीम थी वो?कुछ देर तक जवाब नहीं आया तो मैंने गुड नाईट बोल दिया. मैंने तौलिया को अपने हाथों से नीचे सरक जाने दिया और अपने कामपीड़ित हाथों से उसकी ब्रा के ऊपर से ही उसके मदमस्त 34 बी साइज़ के मम्मों को मसलने लगा.

ये एक मस्त देसी सेक्स कहानी है, जिसे मैं आप सभी से शेयर कर रहा हूँ, शत प्रतिशत सच्ची है. फिर उसने दोबारा से वही मूवी लगा दी और मेरे पैरों पर अपने पैर रगड़ने लगी. अंकल- वाह मेरी जान क्या चूचे हैं तेरे … ऐसा लग रहा हैं कि इन्हें पूरा खा जाऊं.

पूरी तरह से कपड़े ठीक करके मैंने उसको पूरा मकान दिखला दिया और वापिस आ गए. चोर को चोरी करते रंगे हाथ पकड़ लिया ज़ारा ने!मेरी प्यार सेक्स की कहानी पर अपने विचार लिखें.

मैंने अंजू के मम्मे भी चुसे और सपना के मम्मे और गर्दन भी चूसी।फिर मैंने सपना की चूत को मुंह में लिया.

देसी कजिन सेक्स स्टोरी में पढ़ें कि कैसे मैंने अपने चचाजान की जवान कुंवारी बेटी की कुंवारी बुर को फाड़ा. लैट्रिन कैसे किया जाता हैउसकी चूत से अब पच पच की आवाज आ रही थी और उसकी चूत से पानी निकल कर उसकी सांवली मखमली जांघों पर बह रहा था. लड़कियां कैसे पेशाब करती हैवो मुझे नयी ब्रा पेंटी पहनाने लगा और मेरी पुरानी वाली ब्रा पैंटी उसने निशानी के तौर पर अपने पास रख ली. हालाँकि सुनील ने ये बात नहीं कही कि वो और मनोज एक दूसरे के लंड से क्या बदमाशी करते थे.

मैं पहुंचा तो सीमा बेहोश हो चुकी थी और घबराई हुई मीरा पास में बेबस खड़ी थी.

वो मेरा फूला हुआ लंड देख कर बोली- हाआ … इतना बड़ा … ये तो फिल्म जितना ही है. मैं कुछ कहता, इससे पहले भाभी मुझसे बोलने लगी- राहुल … मैं बहुत प्यासी हूँ … तू मेरी प्यास बुझा दे … तेरे भाई को तो काम से फुर्सत ही नहीं रहती है. पिंकी ने सुझाव दिया कि चलो सब लोग डांस करेंगे … और इस बार लाईट ऑन रहेगी.

दोस्तो, आप सोच रहे होंगे कि नीतू की चुदाई का तो मैंने कोई जिक्र नहीं किया तो दोस्तो, मैंने नीतू को चोदा के नहीं और अगर चोदा तो कैसे, और मैंने आशा को भी दोबारा चोदा या नहीं, ये सब मैं आपको अपनी अगली कहानियों में बताऊंगा तब तक के लिए नमस्कार!आपका अपना राकेश[emailprotected]. वो- तुम्हें अभी ही समय मिला था ये सब खरीदने का?मैं- बस दो मिनट की तो बात है … अभी हो जाएगा. फिर उन्होंने पूछा- अगर कोई होती तो?मैंने कहा- अभी मैंने गर्लफ्रेंड के बारे में नहीं सोचा … क्योंकि सैटल नहीं हुआ हूँ.

सेक्सी वीडियो देहात का सेक्सी वीडियो

उसने बोला- वो अब बात ही नहीं कर रहा है … उसने फोन भी ऑफ कर दिया है. फिर कैसे?उन्होंने कहा- आपका व्हाट्सएप नम्बर यही है क्या?मैंने बोला- हां. उसका दर्द देख कर मुझे समझ आ गया था कि अगर मैं रुक गया, तो फिर ये मुझे चोदने नहीं देगी.

उसने काले रंग की जींस और लाल रंग की टी-शर्ट के ऊपर, काले रंग का ही कोट पहना था.

मैं उसकी बात को झूठ साबित करने लगी तो उसने मेरे सामने विवेक और मेरी चुदाई की वीडियो फोन में चालू कर दिया.

मैंने उस मूवी के टीवी में एक दो बार ट्रेलर देखे थे इसलिए मुझे ये तो पता था‌ कि उसमें कुछ किसिंग सीन हैं … मगर ये बिल्कुल भी नहीं पता था कि‌ उसमें इतना एडल्ट व बोल्ड सीन भी होंगे. मेरी एक सहेली रीमा भी थी, वो भी सर को लाइन मारने में कमी नहीं करती थी. क्ष्क्ष्क्ष्चोम्मैंने कई बार उसको उसकी फोटो भेजने को कहा लेकिन वो हर बार मना कर देती थी.

मैंने चूत में जीभ घुसा दी और चोदने लगा।थोड़ी देर बाद मैंने उसे बिस्तर पर लिटा दिया और उसके ऊपर आ कर उसकी चूत पर लंड को रगड़ने लगा. यह सुन कर उसने शर्मा कर मेरे सीने पर प्यार से हाथ मार कर ‘धत्त बेशर्म!’ बोली. फुल स्पीड में उसका लंड धकाधक धक्के के साथ किसी पिस्टन के जैसे संगीता के भोसड़े में अन्दर बाहर हो रहा था और उसकी गोटियां संगीता के गोल मटोल चूतड़ों से टकरा कर पट पट की ध्वनि पैदा कर रही थीं.

लेकिन वो आवारा टाइप के लड़कों की तरह थे इसलिए वे मुझे बिल्कुल भी पसंद नहीं थे।वे भी मुझसे सेक्स करना चाहते थे लेकिन मैं उनसे बात नहीं करती थी. चूंकि उसकी चूत काफी टाइट थी और मेरा लंड भी बहुत देर से तना हुआ था इसलिए मैं ज्यादा देर तक नहीं रुक पाया.

अगले दिन जब मामा जी ने पूछा तो मैंने बोल दिया कि जो मां बोलें, वही होगा.

उसने बताया- सेक्स लाइफ को लेकर मेरे पति और मेरे बीच अक्सर लड़ाई होती रहती है. हमारे यहां का लेडीज कलेक्शन और वैरायटी देखेंगी तो मैम का गुस्सा अपने आप ही छू हो जाएगा. उन दोनों सेल्सगर्ल ने हमें अब एक से एक डिजाईन व कलर के पैंटी-ब्रा दिखाने शुरू कर दिए.

सेकसी चुटकुले मैंने कमल को उठाते हुए पूछा कि आज तेरा चेहरा कुछ अलग लग रहा है … शायद तुम किसी प्रकार का नशा करके आए हो!कमल बोला- फूफाजी, सचमच आप सही कह रहे हैं. थोड़ी देर बाद मैं भाभी के ऊपर से उठ कर बराबर में लेट गया और उन्हें देख कर किस करने लगा.

इस कोशिश में उसके मुम्मे मेरे मुँह को छूते हुए निकले तो साली ने खुद ही झुक कर अपने मम्मे मेरे चेहरे पर रगड़ दिए. मैं पूरा सेक्स में डूब चुका था, मैं अपने हाथ उसके पीछे ले गया और उसकी मुलायम नर्म पीठ को कस कर पकड़ लिया. गर्दन से होते हुए मैंने शायरा के मम्मों पर एक किस किया और फिर सीधा नीचे चला गया.

चोदने की सेक्सी चोदने की सेक्सी

उसे भी समझ में आ गया और उसने कुछ देर चुत को चूम चाट कर अपने भूखे लंड को मेरी चुत में पेल दिया. वो चुदाई की कहानी सुनकर गर्म हो गई और बोली- आज एक चुदाई मेरे संग भी हो जाए!ये कहते हुए अनु ने अपना एक हाथ मेरी पैंट के अन्दर डाल दिया और लंड सहलाते हुए चूमने लगी. और फिर मैं कपड़े पहन कर वापस निकलने लगा। मैंने यास्मीन को गले लगाया, उसकी चूचियाँ दबायी, उसकी गांड सहलायी और किस करके बाहर निकल गया।बाद में हमने कई बार सेक्स किया.

मैंने उसके मम्मों को हाथ से दबाया, तो उसने मेरे हाथ को अलग कर दिया और मेरी टी-शर्ट को ऊपर करने लगी. जब कुछ देर बाद मैं थोड़ी शांत हुई तो अभिषेक ने पहले तो धीरे धीरे मेरी बुर में अपना लंड अन्दर बाहर करना शुरू किया और एकाएक अभिषेक ने चुदाई की स्पीड बढ़ा दी.

जब संजना थक गई तो मैंने उससे कहा- मेरी जान, अब तुम मेरी घोड़ी बन जाओ.

नेहा का मुझे कॉल आया; उसने मुझसे पूछा कि अबकी बार होली पर क्या प्लान कर रही है।तो मैंने उससे कहा- ऐसा तो कुछ खास नहीं है. इसलिए तो उसने उन्हें ना तो रोकने की कोशिश की … और ना ही उन्हें हमारे बारे में कुछ बताया. चलो निकलो यहां से!बिना कुछ बोले मैंने उसको बाहर का रास्ता दिखा दिया.

बिना देर किये मैं अपने घुटनों पर आ गयी और उनके लौड़ों को बाहर निकाल लिया. फिर मैंने बैग से तीन बियर निकाल कर उसको दे दीं कि इसे फ्रिज में रख दो. चाची चीखते हुए चुदाई के मज़े ले रही थीं- आआह ऊऊम्म … और ज़ोर से कर, मुझे पूरी तरह से शांत कर दे … आह.

मैंने भाबी से कहा- आपको मुझसे क्या काम करवाना है भाबी!भाबी ने एक आह भरी और बोलीं- पूरे पप्पू हो क्या … अब तक कोई सहेली नहीं बनाई है क्या!मैं समझ गया कि भाबी पहुंची हुई चीज हैं.

बीएफ वीडियो एचडी हॉट: उसकी उठक-बैठक इतनी जोरदार थी कि पूरे कमरे में बस पट पट पट पट पट पट की आवाज आ रही थी जो उसकी गांड के मेरे जांघों पर लगने की वजह से हो रही थी. रेखा की कमर को मजबूती से पकड़कर मैंने दो तीन धक्कों में पूरा लण्ड रेखा की गांड में उतार दिया.

वक़्त की नजाकत को देखकर हम दोनों फटाफट तैयार हुए और अपनी अपनी बेटियों की स्कूल से पिकअप करने एक के पीछे एक घर से निकल गए. तो मैंने क्या किया?नमस्कार दोस्तो,आपकी मुस्कान आपके लिए अपनी जिस्म की आग की कहानी का अगला भाग लेकर फिर से पेश है।अब तक आपने मेरी कहानी पढ़ा कि मेरे पति का बॉस मेरे पति की अनुपस्थिति में मेरे घर रहने आ गया था. मगर मैंने महसूस किया कि भाभी मेरे हाथ फेरने का कोई भी प्रतिरोध नहीं कर रही थी बल्कि वो मेरे चुप कराने से मेरे कंधे से लग गई थीं और मैं उनकी गर्म साँसों को महसूस करने लगा था.

वो बोला कि तुम्हें देख कर तो किसी का भी मन तुम्हें चोदने को हो जाये.

मेरा मन कर रहा था कि अभी पति के पास जाकर उनसे लिपट जाऊं और उनकी गोद में बैठ जाऊं नंगी होकर … लेकिन पति की तबीयत सही नहीं थी और वह अलग रूम में क्वॉरेंटाइन हो गए. वो मेरे लंड को सहलाने लगी और मैं उसकी चूत को नाइटी के ऊपर से सहलाने लगा. उसके हाव-भाव से साफ़ लग रहा था कि आज वो अपने घर से मन बना कर आयी थी कि अपनी सीलपैक चुत का गिफ्ट मुझे दे देगी.