बीएफ दिखा दो हिंदी में

छवि स्रोत,बिपाशा की बीएफ

तस्वीर का शीर्षक ,

इंग्लिश बताएं: बीएफ दिखा दो हिंदी में, मामा ने मेरी चुची टॉप के ऊपर से ही बाहर निकाला और मेरी जामुन जैसी निप्पल को दाँतों के बीच दबाने लगे जैसे सच में जामुन से रस निचोड़ रहे हों.

बंजारन बीएफ सेक्सी

उसके बाद मैं दो बार और गया बड़ौदा और एक बार मोहन और कोमल भी मेरे साथ बड़ौदा में उनके साथ मस्ती करने आये. सेक्सी बीएफ हिंदी मद्रासीइतनी सी बात के लिए मरना चाहती है?मोना- तुझे ये इतनी सी बात लगती है? मेरी लाइफ बर्बाद हो रही है.

हो सकता है ये असली कालगर्ल्स के नंबर हों या किसी ने किसी लड़की को परेशान करने के लिए उसके असली नम्बर शहर के नाम के साथ लिख दिए हों. मौसी की बीएफ बीएफइतना सुनते ही मेरे पूरे शरीर में मानो करंट लग गया जब पता चला के पूजा मेरे यहाँ आकर रहेगी, मेरे मन में अचानक गुदगुदी होने लगी, मैंने तुरंत अंकल से कहा- हाँ अंकल, यहाँ बहुत अच्छी कोचिंग्स हैं, उसे यही भेज दीजिये, और मैं कोई अच्छी सी कोचिंग पता करके बताता हूँ, और मैं उसे पढ़ा भी दिया करूंगा.

फ्लॉरा कमरे में जाकर बेड पे बैठ गई और जॉन तेल को हल्का गर्म करके ले आया.बीएफ दिखा दो हिंदी में: मैंने भी अपनी टाँग को ऊपर उठा कर मामा को लॉक कर लिया, जिससे मेरी चूत और कस सी गई.

जब मैं कॉलेज में भर्ती हुआ, उस वक़्त मेरा लंड 9 इंच लंबा हो चुका था, और ये सब मौसी की मेहरबानी थी.सास संगीता ने अपनी टांगों से जमाई की क़मर को जकड़ रखा था, उनके मुँह से चीख निकल रही थी मगर टांगों की जकड़न चन्दन की क़मर को अपनी चूत की तरफ खींच रही थी.

खुल्लम-खुल्ला सेक्सी बीएफ - बीएफ दिखा दो हिंदी में

मैंने भी तुरंत रिप्लाई किया और उन्हें उनके मेल के लिए धन्यवाद दिया.उसने लंड सहलाते हुए मुझे इशारा किया, तो मैं बिकनी उठा कर वॉशरूम में जाने लगी.

वो मुझे देख कर बनावटी गुस्सा दिखाने लगी और मैं आगे से मुस्कुरा दिया. बीएफ दिखा दो हिंदी में पूजा का चेहरा भी लाल सुर्ख हुआ पड़ गया था पर उसकी आँखों में एक अलग ही चमक थी.

और फिर मेरी किस्मत से एक बार इस बूढ़े को टाइफाईड हुआ और उसे अस्पताल में भरती किया गया.

बीएफ दिखा दो हिंदी में?

फिर छोटी दीदी को सुहागरात के बाद बड़े जीजाजी से चूत चुदाई करवाते देखा. दोनों किचन में चली गयीं और अपने अपने मतलब का सामान निकाल कर डाइनिंग टेबल पर आ गयीं. जब ऋतु से दर्द बर्दाश्त नहीं हुआ तो वो मेरे कंधे में जोर से नाख़ून से नोचने लगी मगर मैंने उसे छोड़ा नहीं.

सुबह-सुबह बेचारे अंकल का लंड खड़ा कर दिया ना!सुमन- दीदी चाहे कुछ भी हो जाए मुझे पापा को ख़ुशी देनी ही होगी. साथ में इसमें अपने पार्टनर की सक्रिय भागीदारी से तन और मन दोनों में अदभुत रोमांचित करने वाली फीलिंग्स आती है. अब तक की इस चोदन कहानी में आपने पढ़ा था कि सुमन अपनी माँ से अपने इकलौते होने के कारण पर सवाल-जबाव कर रही थी.

प्रेम ने सविता से बातचीत शुरू की कि आपकी सहेलियों ने बताया है कि आप कुछ परेशान हैं. उसकी गुलाबी रंग की चूत काली टांगों के बीच चमक रही थी और आँखें बंद करे वो मेरा लंड चूसने में लगी हुई थी. मैं आपके सामने ऐसे नंगी पड़ी हूँ छी: नहीं भाई हमने ये सही नहीं किया.

मेरी प्यारी पत्नी पूरी मेहनत के साथ अपने छोटे से मुंह से दो खूंटा तोड़ लंडों को शांत करने का यथसंभव प्रयत्न कर रही थी लेकिन दोनों गंवार लंड किसी भी प्रकार से शांत नहीं हो रहे थे और प्यारी सी गुड़िया के मुंह को ही फाड़ देने पर उतारू हो चुके थे!तब मैंने इशारे से डायरेक्टर को अपनी शिकायत दर्ज की, उसने इशारा करते हुए शूट कट करने का हुक्म दे दिया. हम दोनों के पास आकर नेहा ने अपनी चूत को मनोज के मुंह पर रख दिया, मनोज नेहा की चूत चाट रहा था और नेहा ने अपने होंठ ऊपर से नीचे को मुंह करके सुलेखा के होंठों से मिला लिए.

उसने एक झटका मारा और उसका मस्त सुपारा मेरी गांड में चला गया और मुझे बहुत तेज दर्द हुआ मानो किसी ने गांड में बेलन फंसा दिया हो.

अब तू आँखें बंद करके आराम से लेट जा और पैर पूरे खोल दे, फिर देख आज तेरा सारा दर्द कैसे बाहर निकालता हूँ.

मैंने बहुत जोरदार चुदाई की, भाभी भी गांड उछाल कर मेरा साथ दे रही थीं. रास्ते में सोनू धीरे से बोली- कैसी रही डर लगने वाली चाल?मैंने कहा- सोनू मैं तो यही चाहता था. कोमल- हाँ यार ऐसा ही कण्ट्रोल है साले का अपने मस्ताना पे बहन चोद का, यार सोचा आज स्काइप पर तुम लोगों की चुदाई देख कर हम भी चुदाई का आनन्द लेंगे.

तो वो एकदम से चिहुंक कर बोली- राज, तुम क्या कर रहे हो?मैं भी थोड़ा डर गया और बोला- कुछ नहीं. ’ की आवाज निकली और फिर चुप हो गई, पर अब भी वो मेरा साथ नहीं दे रही थी. सोनू ने बताया कि कल उसका बहुत दिल किया तो उसने अपनी उंगली से आग शांत करने की कोशिश की परन्तु मजा नहीं आया.

अब शायद वो भी समझ गया कि मैं कहाँ और क्यों देख रहा हूँ लेकिन उसने फिर से आँखें बंद कर लीं और ऐसा करते हुए एक बार अपनी जिप वाला भाग हल्के से खुजला दिया और ऐसा करने से उसका सोया हुआ लंड उसके लेफ्ट हैंड की तरफ साइड में दिखने लगा.

उसने पूजा और अपनी चूत की तरफ इशारा करके दोनों को अपनी चोइस लेने को कहा. मामा ने मेरी चुची टॉप के ऊपर से ही बाहर निकाला और मेरी जामुन जैसी निप्पल को दाँतों के बीच दबाने लगे जैसे सच में जामुन से रस निचोड़ रहे हों. एक बारगी तो वह सकपकाया मगर जल्दी ही उसके हाथ मेरे मम्मों पे चले गए.

क्या मेरी चुत फाड़ ही डालोगे? तो तुमने कहा कि हाँ रानी अपने लंड का कमाल जो दिखाना है. मुझे ऐसा लग रहा था जैसे किसी ने गरम पानी में ईमली और नमक मिला कर मुँह में डाल दिया हो. चुदाई के दरमियान मैंने कुछ पोजीशन बदलकर उनके साथ सेक्स करना चालू रखा और उनके चुचे दबाना और चूसना और उनके गले पर बाइट करना चालू रखा।एक लंबी चुदाई के बाद अब मेरा झरने का समय आ गया था। इस दरमियान वो दो बार झड़ चुकी थी.

तब भाभी ने दिन में एक घंटे के लिए आने का वादा किया और वो शुक्रवार के दिन मेरे पास आ ही गयीं.

वो जाग गईं और उन्होंने मुझे देख कर मुस्कुराते हुए बड़े आराम से अपने मम्मों को और ठीक से पकड़वा लिया. उन्होंने मेरे लंड को अपने हाथों से पकड़ कर अपनी चुत पर सैट किया और उस पर बैठ गई.

बीएफ दिखा दो हिंदी में इतने में उस नर्स ने उससे कुछ कहा और एक फाइल उसके हाथ में थमा दी और वह वार्ड की तरफ बढ़ने लगा. जैसे ही मुझे एक भी मेल मिलेगा, मैं अगले दिन की स्टोरी पोस्ट कर दूँगा.

बीएफ दिखा दो हिंदी में लटकने की वजह से उसके मम्मे काफी बड़े लग रहे थे और मेरी हथेली में भी नहीं आ रहे थे. मतलब तुम लाइफ को खूब एंजाय कर रही हो।टीना- छोटी सी लाइफ है यार एंजाय नहीं किया तो मज़ा क्या? फिर बुढ़ापे में पछताने से क्या फायदा अब मेरी सेक्स स्टोरी तो मैंने बता दी.

पापा- आज रात तू ऐसे ही नंगी मेरे साथ चिपक कर सोएगी, यहीं इसी कमरे में.

पीरियड कैसे होते हैं

हो सकता है ये असली कालगर्ल्स के नंबर हों या किसी ने किसी लड़की को परेशान करने के लिए उसके असली नम्बर शहर के नाम के साथ लिख दिए हों. मानसी मुझे पागलों की तरह चूम रही थी और अब वो कभी ना लौटने वाली गाड़ी में सवार हो चुकी थी. और हाँ उसके जाने के बाद आपको मेरी सेक्सी बॉडी के दर्शन भी करवाऊँगी, और मौका मिला तो आपको जन्नत की सैर भी करवाऊँगी, बोलो है सौदा मंज़ूर?’ अनीता ने तिवारी की तरफ हाथ आगे बढ़ाया.

मैंने हाथ मुँह धोकर कपड़े चेंज किए और लुंगी बनियान में कमरे में बैठकर टीवी देखने लगा. जब हल्का होकर आया तो सब लोग अपनी अपनी प्लेट ले चुके थे और जैसा कमीने दोस्तो में होता है, मुझे किसी ने अपनी प्लेट में खाने नहीं दिया. इतना कह के मैंने फिर से उन्हें पकड़ना चाहा, पर उन्होंने मेरा हाथ झटक दिया.

तब मैंने उसके पैन्ट में बना तंबू देखा तो मैं और जोश में आ गई और धीरे-धीरे अपनी कमर को हिलाने लगी.

मैंने अन्तर्वासना पर बहुत सारी कहानी पढ़ी हैं, उनमें से कुछ तो हकीकत कहानी हैं और कुछ झूठी भी लगती हैं!हर किसी की जिंदगी में कुछ ऐसा होता है, जो हमें हमेशा याद रहता है. उस रात मैंने उसको तीन बार चोदा।दो दिन बाद उसके चेहरे की खुशियों ने हर राज खोल दिये और उसने मीना को बता दिया- मैंने चन्दन को पा लिया है।इस बात को सुनकर मीना थोड़ा गुस्सा हुई परन्तु सोनू ने अपनी कसम देकर मीना को मना लिया. सुमन- नहीं दीदी मुझे डर लग रहा है कहीं संजय को पता चल गया तो?टीना- पागल मत बन.

मगर मुझे आज अपने बिजनेस के लिए डील पक्की करने की लग रही थी, इसलिए मैंने उससे चुदना भी ठान लिया था. धीरे-धीरे गुलशन जी अब नीचे चुत पर आ गए और सुमन की जांघें चूसने लगे. इधर आओ।मैंने उसको पूरा नंगी किया और उसे बेड पर लिटा दिया। उसने अपने दोनों पैरों को खोल कर अपनी नंगी चिकनी चूत का नजारा दिखाया.

उसके बाद भी जब वो अपने घर चली गई तब भी जब मेरा दिल करता, या उसका दिल करता तो मुझे फोन करती, हम जैसे भी करके अपना जुगाड़ बना ही लेते!चुदाई का यह सिलसिला तीन साल तक चलता रहा. कई शादीशुदा मर्द भी अपनी गन्दी नजरों से हमें देखने से बाज नहीं आये.

क्या मस्त लंड चूस रही थी, क्या मज़ा आ रहा था!थोड़ी देर बाद उसने अपनी ब्रा खोली और मेरे लंड को बूब्स के बीच लेकर के रगड़ने लग गई. जब डायरेक्टर को फिर से ‘खतरा’ नजर आने लगा, तो उसने पुनः ‘कट’ का आदेश दिया और स्थिति को सामान्य कर दिया. अब चाची पूरी तरह से गर्म हो चुकी थीं, पर वो भी लंड चूत में डालने को नहीं कह रही थीं.

खैर मैं लंड को चुत के मुँह पर लगा कर चाची के पेट के तरफ झुकते हुए कमर को दबाया, इस बार लंड पर तेल लगे होने के कारण लंड चुत के अंदर होने लगा.

मेरी तो चूत फिर से कुलबुलाने लगी है मस्ताना के लिए!जमीला- सुला नहीं रही हूँ, पर क्या करूँ थक गई चुदवा चुदवा कर… साला पता नहीं कैसा लौड़ा है इसका. उसके बाद तो हम दोनों हमेशा इस इंतज़ार में रहते के कब हमे मौका मिले, और कब हम आपस में सेक्स करें. चन्दन ने उनकी कमर को थाम लिया तो संगीता ने अपनी बांहें चन्दन के गले में डाल दीं.

उनकी उम्र 45 साल की है और केवल 26 साल की उम्र में उनके पति उन्हें छोड़ कर इस दुनिया से चले गए थे. अब तो मेरी बिल्कुल फट गई, मैं मम्मी को सिरदर्द का बहाना करने लगा पर मम्मी ने मुझे जोर से आवाज लगा कर बुलाया तो मैं नीचे उतर कर आया.

मैंने रिया की तरफ देखा और कमीनी हंसी के साथ कहा- रियु, अब जी ले अपनी जिंदगी- क्योंकि शायद ये मौका फिर दोबारा ना मिलेगा!वो भी मेरी तरफ देख कर हंस दी!इधर लड़के पूरे जोश के साथ हमें चोद रहे थे, मम्मे दबा रहे थे तो कभी निप्पल काट खा रहे थे. तभी तेज हवा के कारण अधखुली खिड़की का पल्ला धाड़ से खुला और बंद हो गया. रमेश ने बुर के अंदर एक उंगली डाली और वो चूसने के साथ साथ उंगली से सरिता को चोदने लगा.

सील पैक सेक्स

तो देखा कि पूरे रूम में घुप्प अँधेरा था, कुछ भी दिखाई नहीं दे रहा था.

फिर दीपक ने मुझे अपने घर पर जो मेरे होटल से थोड़ी सी ही दूर था, खाने पर बुलाया. ये देखने के बाद मेरे जिस्म में एक अलग सा रोमांच पैदा होने लगी, मेरी उत्तेजना चरम सीमा पर थी कि कब मामा जी के लंड की पिछला हिस्सा चाट लूँ. फिर मैंने उसे खड़ा किया और उसका एक पैर बेड पर रेखा और उसकी चूत में लंड लगाने लगा.

तो ये बता अगर साफ सुथरा लंड सामने होगा तब चूस लेगी ना?सुमन- क्या दीदी. वो आंगन में अपने बच्चे के कपड़े सुखा रही थीं, तो बैठ कर झुकी हुई थीं. सेक्सी चुदाई बीएफ मूवीबहु की चूत चुदाई की कामुकता भरी हिन्दी सेक्सी कहानी आपको कैसी लग रही है?कहानी अभी जारी रहेगी.

उसकी दाईं तरफ झड़ चुका चंगेज़ अभी तक अपने लंड को मुठ मार रहा था, और दाईं तरफ उगलने को तैयार रुस्लान!! रुस्लान ने भी भयंकर गर्जना के साथ अपना लंड मुट्ठी में भींच कर नताशा के मुंह को निशाना बनाया, और वीर्य की धार की पिचकारी अन्दर पहुंचानी शुरू कर दी. मैं बताती हूँ, तू अपनी माँ के सुहाग को किसी और लड़की के लिए तैयार कर रही है.

पूजा ने अपना मुंह जल्दी से खोला और मैंने आगे बढ़कर उसका मुख अपने लंड से भर दिया. नींद तो मुझसे कोसन दूर थी, मैं तो उस स्मृति के घर से जाने की प्रतीक्षा कर रहा था. मुझे देखते ही सतीश बोला- आ गया तू, बड़ा टाइम लगा कर आया, चल अब मैं जाता हूँ, फिर से!और वो दौड़ता हुआ दूसरे रूम में चला गया.

मोना भी कमर हिला कर मज़ा लेने लगी। थोड़ी देर बाद सुधीर ने मोना को घोड़ी बनाया और उसकी चुदाई करने लगा।करीब 15 मिनट की पलंग तोड़ चुदाई के बाद मोना चरम पर पहुँच गई और सुधीर भी झड़ने के करीब ही था।मोना- आह आह फास्ट. करीब 10-15 मिनट के लंबे चुम्बन के बाद मैंने धीरे-धीरे उसका टॉप उतार दिया. मीनल मेरे कहने पर आई और उसके हाथ को पकड़कर मैं उसे उस रूम में ले गया.

कैसे पागल हुए जा रहे थे और ये भी देखा कि तुमने मेरी चुत तो कभी ऐसे नहीं चाटी.

मैं फिर डर गया कहीं आपने देख लिया तो आप गुस्सा हो जाओगी तो मैं सो गया. जैसे ही वह मेरे पास आई मैंने उसे अपनी बाहों में ले लिया उसका नाजुक बदन मेरे बड़े शरीर के नीचे दबने लगा, मैं बेहताशा उसके नर्म गुलाबी होठों को चूसने लगा उसके निचले होंठ को अपने होंठों में लेकर मैंने बहुत देर तक चूसा इतना कि शायद उसमें अब रस नहीं बचा.

मैं 5’10″ का स्मार्ट हैंडसम लड़का हूँ और किसी भी लड़की को सेक्स में संतुस्ट करने में एकदम सक्षम हूँ. मैं फटाफट सोनू की मम्मी के साथ सोनू के पापा को लेकर एंबुलेंस में बैठ गया. बरखा- अच्छा मान लेती हूँ, अब ये बताओ इन दोनों की चुदाई करना चाहते हो या नहीं?अतुल- तुम्हें अगर प्राब्लम नहीं.

किचन का काम निपटाकर दोनों कमरे में आईं, तो मैं अपनी सलहज के बेटे के बगल में बेड पर लेटा था. वो भी थोड़ी शरमाई और मेरा खड़ा लंड पकड़ कर बोली- तू भी तो इस मलिका का आशिक लग रहा है. मैं अचानक घबरा गया और सोचा कि अपना हाथ वहाँ से हटा लूँ, लेकिन मैंने थोड़ी हिम्मत दिखाई और सोचा की मुझे इसका लंड तो लेना ही है तो डरना कैसा.

बीएफ दिखा दो हिंदी में मैंने अपना हाथ को आगे बढ़ाया, मामी ने मेरे हाथों से अपने चूचों को खूब दबवाया. यहाँ कमरे में एक ही बिस्तर लगा था, हम दोनों इसी में दीवार की टेक लेकर बैठ गये.

हिंदी पिक्चर बीपी

भूख लगने लगी है।टीना की चालाकी संजय समझ गया कि फ्लॉरा सबके सामने बोलने से हिचकिचा रही है, उसने मौके की नजाकत को समझा और सबको किसी ना किसी काम में लगा दिया ताकि टीना और फ्लॉरा को अकेले बात करने का मौका मिल जाए।जब सब इधर-उधर हो गए तो फ्लॉरा ने टीना को ‘सॉरी. मैं- और तुम उससे कितना चार्ज करोगी?ऋतु- वो ही… एक हजार रूपए… ठीक है ना?मैं- ठीक है. पाव जैसी उनकी फूली हुई चूत जिस पर कामरस की कुछ बूँदें साफ़ चमक रही थी जैसे मुझे पुकार रही हो कि आओ और आज इसके रस में पूरी तरह से भीग जाओ.

थोड़ी देर बात मुझे कुछ महसूस हुआ, आँखें खोलने की कोशिश की, पर खोल नहीं पाई. बरखा ने भी कुछ नहीं कहा और टीना के साथ सामने के कमरे में चली गई और दरवाजा बंद कर लिया. मराठी बीएफ सेक्सी व्हिडिओ मराठीजब माल निकलने वाला था तो मैंने वहीं अखबार पे डाल दिया क्योंकि बाहर चाचा सो रहे थे.

गोरी गिलहरी थोड़ा सा कुनमुनाई और उसने प्रसन्न आँखों से अपने चोदू तरफ देखा, तो उसने भी मुस्कुरा कर जवाब दिया.

जैसे तैसे हम अलग हुए, मैंने उसका हाथ पकड़कर उसे अपनी कार में बिठाया और तेजी से गाड़ी चलकर हम मेरे घर पे पहुँच गए. आप अपने विचार मुझे मेल कर सकते है साथ ही इंस्टाग्राम पर भी जोड़ सकते है.

रात को देर से आना, ड्रिंक्स लेना और सो जाना, यही मेरी लाइफ बन चुकी थी. मेरे मुँह से अब कामुक आवाजें निकलने लगी- आअह्ह्ह उम्म्ह… अहह… हय… याह… उम्म अम्म्म स्सी आह्ह्ह आहह… चोदो और चोदो. भाभी ने भी पूरा सहयोग किया और मैं उनके सुडौल पर्वतों की खूबसूरती देख कर दंग रह गया.

चोदने का अच्छा अनुभव था उसे… दर्द तो मुझे अब भी हो रहा था लेकिन मैंने दर्द पर ध्यान देना कम कर दिया और मैं उस जवान जमींदार मर्द की चुदाई का आनन्द लेने की कोशिश करने लगा.

मेरी दोनों टांगें ऊपर कंधों पर रखीं और फिर से अपना लंड मेरी गांड में डाल दिया. कर देते हैं और तुम सिर्फ़ बातें किए जा रहे हो। अब बातों में टाइम क्या खराब करना, जो दिल में है. अनीता ने तिवारी की तरफ एक सीरियस लुक देते हुए और अपने होंठ गोल करते हुए पूछा- क्या दिक्कत है तिवारी जी?‘दरअसल बात यूं है कि जब विभूति जी रात को हमारे यहाँ ठहरेंगे और आप जब अपनी लेस्बियन फ्रेंड प्रिया के साथ यहा कामुक सुख का आनन्द ले रही होंगी, उस वक़्त हम भी तो अंगूरी के साथ प्यार कर रहे होंगे न? तो फिर भभूतिजी कोई दखल करेंगे तो?’ तिवारी ने अपनी मुश्किल जताई.

इंग्लिश मूवी बीएफ इंग्लिश मूवी बीएफरिया ने अपना वाला पेंडंट निकाला और बड़े प्यार से उसे मेरी के गले में पहनाते हुए कहा- ये अब ज्यादा सुन्दर लगेगा!मेरी ने उसे लेने से काफी मना किया मगर रिया नहीं मानी।आंखों में ख़ुशी के आंसू लेकर मेरी रुखसत हो गयी. उसने अचानक से मुझे दबोच लिया और अपनी मजबूत भुजाओ में भर लिया, मैंने भी उसे जकड़ लिया.

लक्समी मूवी डाउनलोड

उसके बाद मैं बहूरानी की इजाजत से ही उनकी चूत के नजदीक से कई क्लोजप्स अपने मोबाइल से लिए, जैसे अलग अलग एंगल से, एक पोज में बहूरानी अपनी दो उँगलियों से अपनी चूत फैलाए हुए, दूसरे पोज में अपने दोनों हाथों से चूत को पूरी तरह से पसारे हुए इत्यादि; ताकि इन पलों की स्मृति हमेशा बनी रहे. मुझे उसकी कहानी सुनकर बहुत दुख हुआ और तब से मुझे उससे प्यार होने लगा. उसके बाद उनके चेहरे की मुस्कान एक अलग ही खुशी उसके दर्शा रही थी।फिर उन्होंने मुझे जूस दिया और खाना खिलाया.

अब मेरे हाथ उसके मुलायम दूध की थैलियों यानि उसके मम्मों पर जम गए थे. इसका कॉलेज क्या शुरू हुआ आजकल ये पूरी बदल ही गई है।हेमा- आप भी कुछ समझते नहीं हो. उधर टोपा घुसा और इधर सुमन भाभी के मुँह से चीख़ निकल गई- हाय माँ मर गई.

तभी मेरी नजर खिड़की के बाहर गई जहाँ एक लड़की खड़ी थी और वो मेरे खड़े लंड को देख रही थी. गहरे काही कलर की कॉटन की साड़ी और मैचिंग ब्लाउज में उसका सौन्दर्य खिल उठा था. भाभी का सेक्सी शरीर देखकर मेरी पैंट में लण्ड टाइट हो रहा था जिसे भाभी कनखियों से देख जाती थीं.

ब्रश को अच्छी तरह से गोल गोल घुमा घुमा के मैंने चूत के चारों ओर खूब सारा झाग बना दिया; कुछ ही देर में झांटें एकदम सॉफ्ट हो गयीं. दोस्तो, मैं पहली बार चोदन की कहानी लिखते-लिखते इतनी चुदास सी महसूस करने लगी कि मुझे बर्दाश्त नहीं हुआ और मैं पड़ोस के अपने से 4 साल छोटे लड़के से चुदवा बैठी, जिसकी कहानी मैं बाद में कभी लिखूँगी.

रमेश के लंड ने जब पिचकारी मारी तो सरिता की बुर वीर्य से भर गया और वह इस शानदार चुदाई से तृप्त हो गयी.

मैंने स्कूटर को खड़ा किया और पास ही एक अधूरे बने मकान के अंदर उसे ले गया. स्कूल गर्ल सेक्सी बीएफ वीडियोआनन-फानन में सब रेडी हुए, फ्लॉरा और टीना ने नाश्ता तैयार किया और सबने साथ नाश्ता किया. बड़ी चूत वाली बीएफ सेक्सीदोनों लड़कों ने अपने फनफनाते हुए लंड रूसी लड़की के मुंह में घुसेड़ दिए. चोदने का अच्छा अनुभव था उसे… दर्द तो मुझे अब भी हो रहा था लेकिन मैंने दर्द पर ध्यान देना कम कर दिया और मैं उस जवान जमींदार मर्द की चुदाई का आनन्द लेने की कोशिश करने लगा.

दाने पर उंगली का स्पर्श पाते ही उसने मेरा हाथ जोर से पकड़ लिया- आआअह्ह ह्हह.

मेरी तो भाई ने और दोस्तों ने घर पड़ोस और स्कूल में कई बार मारी है, मेरे होम टाउन में लौंडेबाजी बहुत होती है। जो चाचा मेरे साथ लेटे थे, वे भी लौंडेबाजी में पकड़े गए थे, सब चलता है गनीमत है भतीजे को छोड़ दिया। पर आपके साथ गलत हुआ, बदले में आप मेरी मार लो तो मैं समझूंगा आपने माफ किया।मैंने कहा- यार रहने दे मैंने माफ किया. मैंने उनके पैंटी की इलास्टिक में उंगली डाली और इधर-उधर घुमाने लगा और फिर ऐसे ही सहलाते हुए मुठ मारने लगा. 5 से 7 मिनट तक मेरी गांड मारने के बाद मामा जी रुक गये और लंड मेरी गांड से निकाल लिया.

लंड की चोट से वो भी मस्ती से चिल्ला उठी और बोलने लगी- आह… और जल्दी करो… फाड़ दो अपनी बहन की चूत को… बहुत मोटा लंड है तेरा… आह… मजा आ गया. मैं घबरा कर वापस आने लगा तो मैंने देखा कि वो केवल पेटीकोट और ब्लाउज़ में थीं और उनका क्लीवेज साफ मुझे दिख रहा था. अब आगे:उस दिन सुबह आठ बजे मेरी नींद खुली तो देखा नग्न माला मेरी ओर करवट किये मेरी बाएं बाजू पर सिर रखे सो रही थी और उसके दोनों उरोज मेरे सीने से चिपके हुए थे.

सेक्सी ब्लू पिक्चर इंग्लिश में

परंतु वीर्य था ही इतना कि उसके दोनों घुटने मोड़े रखने के बाद भी बह कर उसकी गांड को भिगोता हुआ नीचे बेड की चादर पर गिर रहा था. पण्डित जी ने आधे घंटे बाद ही दुबारा सम्भोग की इच्छा जाहिर की, जिसे मैंने सहर्ष स्वीकृति दे दी, क्योंकि मुझे भी इच्छा जागृत हो रही थी. अब उसका बदन 32-24-36 का हो चुका था और अब वो और भी सेक्सी लगने लगी थी.

वैसे गोआ में सब ऐसे ही पीते है क्या?फ्लॉरा- हाँ, ज़्यादातर पीते हैं, वहां की बेस्ट फैनी वर्ल्ड फेमस है.

‘अरे भाबी जी! आपको इस कृत्रिम लंड की भला क्या आवश्यकता है? विभूतिजी आपको ठीक से चोदते नहीं क्या? या फिर अब उनमें वो सख्ती नहीं रही?’ तिवारी ने ठहाका लेते हुए पूछा.

विनय जाने को तैयार था, विनय ने हमेशा की तरह कविता को फ्लाइंग किस दिया. मीना- अरे पागल जब तेरा पति तेरी प्यास ना बुझा पाए तो कोई दूसरा जुगाड़ कर ले ना!मोना थोड़ी चौंकती हुई सवालिया नज़रों से मीना की तरफ़ देखने लगी. हिंदी बीएफ 100 सालफिर वो अपने घर चली गईं और मैं टीवी देखने लगा, पर मेरा मन नहीं लग रहा था.

मैंने उसको कमर से पकड़ के हल्का सा धक्का दिया और लंड आधा अंदर चला गया और वो चीखी- धीरे! मैंने पहले कभी किया नहीं है. गुलशन जी काफ़ी देर तक ऐसे ही बड़बड़ाते रहे, फिर हेमा आ गई और वो अपने हिसाब में बिज़ी हो गए. मुझे भी उसकी चुदाई करनी थी, तो मैंने चुत के अन्दर एक धक्का लगा दिया.

जब मैं छोटा था, तब से किसी लड़की के साथ सेक्स करने का सपने देखा करता था. उन्होंने डरते हुए अपना एक हाथ सुमन के एक चूचे पे रख दिया, मगर उन्होंने कोई हरकत नहीं की, बस चूचे पर हाथ रखे हुए सुमन के चेहरे को देखते रहे.

अब हम दोनों की स्पीड बढ़ गई चोदने की तो जमीला और सबीना एक दूसरे की चूत से मुँह हटाकर बोली- लण्ड रस हमारे मुँह में इस पोजीशन में ही निकालना.

आह आह गांड फाड़ मेरी आह आह चोद ले मेरी उई आह आह… चोद!और मैं भी तेज तेज चोदते हुए बोले जा रहा था- उफ़ आई उई उई सी सी चुद साली चुद… चुदवा बहनचोद साली… तेरी चूत अब फटेगी हम दो लौड़ों से कुतिया ये ले आह… उफ़ ये ले और शॉट साली. आज ये सब तो बिज़ी रहने वाले हैं तो इनको जाने दो, मोना के पास ही जाने में फायदा है. मैंने रजनी के चूचों को कस कर दबाया और उसके होठों पर एक मस्त किस किया.

हरियाणा वीडियो बीएफ उन्होंने धीरे से डेरी मिल्क को खोला और उसके बाद थोड़ी सी डेरी मिल्क मेरे लंड पर लगा दी, कुछ मेरी गोटियों पर मल दी और थोड़ी डेरी मिल्क मेरे मुँह और मेरे निप्पलों पर लगा दी. वो बोली- जनाब बड़े आशिक मिजाज भी लगते हैं आप तो?तो मैंने कहा- इसलिए तो नाम के साथ आशिक भी लिखते हैं मैडम.

पापा ने मेरी हाँ सुन कर मुझे बांहों में भर लिया और बुरी तरह चूमने चाटने लगे. उसने इशारा किया तो मैंने दूसरे धक्के में पूरा लंड उसकी चुत में पेल दिया और उसे फिर से दर्द होने लगा. अन्दर आकर उन्हें बेड पर बैठाया और उनके सामने बैठकर कुछ पल उन्हें ऐसे ही निहारता रहा.

इज्जत की रोटी फिल्म

खैर, मुझे अब उसके साथ मजा आ रहा था और पूरे शौक से हम दोनों अपनी जिंदगी के मजे ले रही थी. मेरी चूत में तो पहले से ही दो लड़के का वीर्य था, उसने वैसा ही किया, लंड निकल कर मेरी चूत में घुसा दिया और चोदने लगा और 5-7 मिनट बाद मेरी चूत में वीर्य की बाढ़ आ गयी, वीर्य निकल रहा था और वो मुझे गालियों के साथ चोदे जा रहा था, उसने अपने लंड की एक एक बूंद वीर्य मेरी चुत में समाहित कर दिया और मेरे ऊपर ही निढाल होकर सो गया. मैं धीरे से दीदी के चूचे मसलने लगा और अपने हाथ का जादू उसके सोने जैसे शरीर पर चलाने लगा.

ड्रिंक्स और लेट नाइट पार्टी से दोनों को एतराज नहीं है, पर घर आने के बाद एक जोरदार सेक्स उनकी आदत में शुमार हो गया है. और वैसे भी मैं आज सोच ही रही थी कि जमाने में इतना सीधा होना भी ठीक नहीं, तो इसको कुछ सिखाऊं मगर मौका नहीं मिला.

माँ की चूचियाँ सीमा और चाची की चूचियों की अपेक्षा ज्यादा बड़ी और मुलायम थीं.

काफी लम्बी चुदाई के बाद स्मृति ने कहा- यार, कुछ हो रहा है मुझे…उसका जिस्म अकड़ने लगा था यानि वो अब झड़ने की कगार पर थी. मगर राहुल मुस्करा रहा था तो मैं समझ गया कि ये इनका पहले से ही प्लान था. फिर उसने मुझे बिठाया और मेरे मेरे गाउन की बेल्ट खोल कर उसे उतार दिया.

अब वो अब अपनी पूरी आन बान और शान से फहरा रहा था रानी बहू रानी की चूत के सामने!‘वाओ… ग्रेट!’ रानी चहक कर बोली और मेरा लंड थाम लिया अपने हाथ में फिर इसे ऊपर नीचे कर के चार पांच बार मुठियाया और इसे मसल कर दबा कर इसकी कठोरता को परखा और संतुष्ट होकर मेरी तरफ मुस्कुरा के देखा. उन सभी लोगों का भी धन्यवाद जिन्होंने मुझे ईमेल पर कांटेक्ट करने की कोशिश की. नीचे काले रंग की इलास्टिक वाली कैपरी और ऊपर लाल रंग का चिपका हुआ स्लीवलेस टॉप पहन रखा था.

मेरी हिन्दी गे सेक्स स्टोरी के पहले भाग में मैंने आपको बताया था कैसे मेरी बात दिल्ली के एक लड़के से हुई.

बीएफ दिखा दो हिंदी में: क्यों मज़ा आया देख कर या नहीं?फ्लॉरा- भाई ये जान कर तो मेरा दिमाग़ चकरा गया. उसी वक़्त जॉन वहां से गुजरा और उसकी नज़र जब फ्लॉरा पर गई, वो एकदम नंगी थी.

अगर किसी को ट्विस्टर के बारे में न मालूम हो तो बताए देता हूँ… खेल में एक लूडो की तरह का बोर्ड होता है, जिसके बीच में एक घूमने वाला पहिया घड़ी की सुई जैसे एक तीर को चारों ओर घुमाता है. बल्कि सही मायने में खजुराहो में ही वो हम बिस्तर हुए थे तो उन्होंने वापिस आते ही कोर्ट मैरिज कर ली थी. ऐसा हो सकता है क्या?सुमन- अच्छा ये बात है… तो चलो ये काम को करो साइड में और मुझे पहले की तरह अपनी गोद में बिठा कर मेरी मालिश करो.

दोस्तो सुमन और मोना की कहानी को थोड़ा ब्रेक लगाओ और बाकी सब की भी खैर-खबर ले लो ताकि आप किसी को भूल ना जाओ.

मीना- अरे नहीं इससे अच्छा मौका तुझे कहाँ मिलेगा, ये गाँव के लोग जो होते हैं, ये शहर वालों से ज़्यादा मज़ा देते हैं. उसकी बुर बिल्कुल गीली हो गई थी और उससे अब बिल्कुल नहीं रहा जा रहा था. जिसका लंड पहले से ही अंदर था वो बड़े अचम्भे से मेरी आँखों में देख रहा था.