हिंदी सेक्सी फुल बीएफ

छवि स्रोत,सेक्सी पिक्चर भेजो पूरी

तस्वीर का शीर्षक ,

गर्ल बेबी नेम्स इन हिंदी: हिंदी सेक्सी फुल बीएफ, मैंने उसे माफी मांगी, लेकिन उसने कातिलाना नजरों से मुस्कराकर कहा- यह मेरी गलती है.

सेक्सी वीडियो फुल एचडी इंडियन

वो बोला- हट्ट बावला… मैं कोए मर गया था जो रोवे था (मैं कोई मर गया था जो तू रो रहा था)मेरा दिल फिर भर आया. सेक्सी खून वाली वीडियोमुझे देखते ही चाचाजी के चेहरे की रौनक बढ़ गईचाचाजी- जान, सानिया को क्यों साथ लाईं??मैं- अगर वो उठ जाती तो मेरे वहाँ न होने पर सब को जगा देती.

उसके दूध जैसे उजले जिस्म का कटाव यही कोई 32-28-32 और हाईट पूरे 170 cms की थी. प्रियंका चोपड़ा न्यूड फोटोअब वो धीरे धीरे लंड को अन्दर बाहर करने लगा तो मैंने देखा कि अब मम्मी बिल्कुल शांत थीं.

बहूरानी मुझसे बेचैन होकर लिपटने लगी; और अपनी चूत देर देर तक ऊपर उठाये रखते हुए लंड का मज़ा लेने लगी.हिंदी सेक्सी फुल बीएफ: कुछ देर मैं उसके मुँह से ‘उम्म्ह… अहह… हय… याह…’ की आवाजें आने लगीं और मेरा भी पूरा लंड उसकी चुत में अन्दर तक जा चुका था.

जैसे मेरे लंड से जूस निकला था, उसी तरह तुम्हारी चुत से भी जूस निकलेगा.अन्दर कुछ साफ तो नहीं दिख रहा था लेकिन उनकी परछाई से लग रहा था कि वो जरूर कुछ अलग ही कर रहे हैं.

सेक्सी वीडियो भेजो प्लीज - हिंदी सेक्सी फुल बीएफ

[emailprotected]कहानी का तीसरा और अंतिम भाग:मेरी जयपुर वाली मौसी की ज़बरदस्त चुदाई-3.मैं तो एकटक उसे ही देख रहा था कि कुछ ही देर में दूसरी परछाई भी आई और उसने कुछ खुसुर फुसर की सी आवाज में कहा- भाभी कहाँ हो?तो मुझे लगा कि यह तो मेरे चाचा की आवाज है.

मैं जगह ढूँढ ही रहा था कि एक आवाज सुनाई दी- राहुल क्या हुआ, जगह नहीं मिली?आवाज पहचानने में कौन सी दिक्कत होती क्योंकि वो मेरी मंझली मामी की आवाज थी. हिंदी सेक्सी फुल बीएफ मैंने तेज धक्के लगाने शुरू कर दिए तो कुछ ही पल के बाद आंटी भी गांड उठा कर साथ देने लगीं.

उसने मुझे गांड मारने से मना नहीं किया तो मुझे समझ में आ गया कि इसके सब छेद खुले हुए हैं.

हिंदी सेक्सी फुल बीएफ?

मैंने कहा- ठीक है नहीं जाता हूँ लेकिन तुम्हें क्या हो गया? कुछ बोल क्यों नहीं रही हो?वैसे मुझे तो पता था कि बेचारी कैसे बोलती कि उसके चूत में खुजली हो रही है जिसे वो मिटावाना चाहती थी. मैं बाहर टीवी चलाकर लेट गया, लेकिन मुझे कुछ भी अच्छा नहीं लग रहा था. उंगली से वैसलीन को अन्दर तक भर दिया, ताकि उसकी सील आराम से टूट जाए.

इससे तो अच्छा होता कि मैं रिक्शा ले लेती तो इस भीड़ से तो नहीं जाना पड़ता. मैं अंधेरे की वजह से उसे देख तो नहीं सकती थी, पर मेरे हाथ में होने से पता चलता था कि वह इरफान के लंड से काफी मोटा और लंबा था. जैसे ही अंजलि का पति निकला, क्योंकि मैं तो उसके जाने का इंतजार कर रहा था, मैंने अंजलि को फोन किया.

मम्मी ने कहने लगीं- यार मोहन, अभी जाने दो, जरूरी काम से जाना है, दो चार दिन बाद का प्रोग्राम सेट कर लेते हैं…लेकिन वो कहां मानने वाला था, मोहन बोला- मैं मान भी जाऊं तो ये भोला और शमशेर कहाँ मानेंगे, ये तो मुझसे कई बार कह चुके हैं तेरे लिए, आज इनको अपनी दिखा ही दे!तभी एक ने इशारा किया कि इसे खेत के अन्दर ले चलो तो उसने मम्मी को हाथ पकड़ लिया और खेत के अन्दर ले जाने लगा. अब शायद मुझमें और मामा में एक जंग छिड़ी हुई थी कि कौन मामी को अच्छे से निचोड़ेगा. यार सबको पता है कि थोड़ी देर बाद यहाँ ग्रुप सेक्स होने वाला है तो ये झूठ-मूट का नाटक किसलिए?अतुल- बात तो सही यार, जब ये लड़की होकर नहीं शर्मा रही है, फिर हमें किस बात का डर है?अतुल की बात सुनकर सबने ‘हाँ’ में ‘हाँ’ मिलाई और हंसने लगे.

वो दोनों अब भी मम्मी की चूचियां दबा रहे थे और भोला ठाप पर ठाप मार रहा था. अब तुम ही बताओ, ये ग़लत बात है ना?मॉंटी- हाँ दीदी, ये बहुत ग़लत बात है.

वह अजनबी सलमा के गोरे बदन पर हाथ चला रहा था और सलमा अपनी टाईट चुचियों को उसके चौड़े सीने पर रगड़ रही थी.

कहीं मेरी गांड तो नहीं मारनी है ना?मैंने कहा- मौसी आप सही सोच रही हैं.

अब लंड 25% अन्दर जा चुका था और फिर धीरे-धीरे कर के लंड को अन्दर भरने लगा. जैसे ही मेरे हाथ मम्मों तक पहुँचे, उसने अपने दोनों हाथों से मेरे हाथ पकड़ लिए. मैंने किचन में ही उनकी नाइटी को ऊपर करके आंटी की चुत को चाटना शुरू कर दिया.

इतने में ही बाहर से एक औरत की आवाज़ आई।आरे छोरे…(अरे लड़के)।कित मर ग्या रे…(कहां रह गया रे). मेरे पति ने मेरे मम्मे बहुत मसले हैं, शादी से पहले ही मसलता था, जब हम मिलते थे, अब मेरे मम्मों के साइज़ से तो अंदाज़ लगा कि मुझे वो कितना मसलता था. तू ऊपर क्यों नहीं करती और ये हंस क्यों रही है?नीतू कुछ बोले उसके पहले मोना की आवाज़ दोनों को सुनाई दी, जिसे सुनकर गोपाल होश में आया और जल्दी से नीतू का हाथ हटा दिया.

रिया की भी हालत कुछ और नहीं थी, उसके मुँह में एक लंड था, एक-एक चुत में और गांड में घुसा था.

वैसे न जाने मेरे अन्दर क्या खूबी है कि मेरे साथ लड़कियां ज्यादा आकर्षित होती हैं. फिर मैंने तकिया उठाया और चाची की चूत के नीचे लगा दिया, जिससे चाची की गांड थोड़ा ऊपर उठ गई. उन्होंने मुझे किस करते हुए पहले तो लंड को ऊपर ऊपर से ही घिसा, जब चूत एकदम गीली हो गई तो उन्होंने धक्का दे दिया और मेरी गीली चूत के अन्दर उनका लंड आराम से फिसल गया.

अब सुमन शांत हो गई थी मगर ये अहसास कि उसके पापा उसका रस चाट रहे हैं, उसको और अधिक रोमांचित कर रहा था. वो बस मुस्कुरा कर रह जाती थींअब मैंने हिम्मत करके आगे बढ़ने की सोचा. मेरे दोनों ममेरे भाई अपनी बहन के साथ कोलकाता का दशहरा घूमने गई थीं और मामा को अकस्मात रात की पाली को काम पर जाना था.

वो भी मुझे पसंद करता था क्योंकि मैंने उसे तिरछी नज़रों से अपनी ओर घूरते देखा है.

मैंने कहा- जी, मैंने पहचाना नहीं, कौन सुमन?उसने कहा- वही, कल ट्रेन वाली. वो मुझे देख कर बोलते हैं कि मैं कितनी गोरी हूँ, मेरी मक्खन जैसी टाँगें हैं, टाँगें ऐसी हैं तो जाँघें कैसी होंगी और अगर जाँघों का यह हाल है तो अन्दर की जन्नत तो कैसी होगी.

हिंदी सेक्सी फुल बीएफ मैं वैसलीन की शीशी लाया और अपने लंड और उनकी गांड पर पूरा मल कर लगा दी. मैं वादा करता हूँ कि आज के बाद इस तरह की गल्ती कभी नहीं होगी और हम पहले जैसे थे.

हिंदी सेक्सी फुल बीएफ मैंने अब तक न तो अपनी गर्लफ्रेंड के साथ सेक्स किया था और न ही किसी और के साथ सेक्स किया था. मेरे पड़ोस का लड़का अजय मुझे पसंद था पर वो जरा शर्मीले टाइप था। हमारा एक दूसरे के घर आना जाना है.

अब की बार अंजलि के मुँह से हल्की सी अह्ह्ह निकली, लेकिन फिर वो भी मज़े लेकर और अपने चूतड़ हिला-हिला कर चुदवाने लगी.

ब्लू फिल्म सेक्सी चोदी चोदा

मेरी तो जैसे पूरी थकान गायब हो गई और उसे देख कर मैं बहुत खुश हो गया. उधर मैंने अपने लंड से झांटें साफ़ कीं और लंड पर क्रीम आदि लगा कर उसे चमकाया और लंड को लेकर अपने मन में बुदबुदाया कि कुछ दिन और रुक जा भोसड़ी के … बस जल्दी ही तुझे तेरी चुत मिल जाएगी. सोनिया और नेहा ने बताया कि उन्हें सच में आज बहुत मजा आया था और उन्होंने ऐसा सेंडविच सेक्स पहली बार किया था, परन्तु मजा बहुत आया था.

पूरे दस मिनट की चुदाई के बाद, मैंने पूरा का पूरा पानी उनकी गांड में डाल दिया. फिर हम लोग तैयार हुए, हमने अपने नंबर एक्सचेंज किए और बाईक से उसके घर के लिए निकल पड़े. मेरे बाथरूम से बाहर आते ही मामी ने मुझे ऐसे देखा, जैसे वे मुझे पहली बार देख रही हों.

नीता के जवाब और हरकत से वो समझ गया कि नीता शर्माने वाली लड़की नहीं है.

प्रेगनेंसी का खतरा में नहीं लेना चाहती, फिर जाके वर्षा के पास सो गई. शायद आंटी को उसका पता चल गया था, जिससे आंटी भी थोड़ी गरम हो गई थीं. मैंने कहा- क्या अलग करोगे?तो उन्होंने कहा- वो तुम्हारे लिए सरप्राइज है.

इसलिए हमने अपने कपड़े ठीक किए और चादर धोने चले गए। फिर कमरे में आकर दूसरी चादर बिछाई और फिर से चुदाई के काम पर लग गए।उस रात हमने दो बार और चुदाई की और मैंने हर बार वीर्य उसकी चूत में ही छोड़ा।जब सुबह उठे तो उसने अपनी एक सहेली को फ़ोन किया. मैंने उसकी गांड को पूरा नीचे खींच कर अपने लंड के साथ जमा दिया और नीचे से अपने लंड को पूरी तरह उसकी चूत में कॉर्क जैसा फँसा दिया. मैंने एक हाथ से उसका मुँह बंद किया और लंड के सुपारे को बुर में सही जगह फंसा कर जोरदार धक्का दे मारा.

उस दिन वो मेरे साथ सिर्फ़ 3 घंटे रही थी मगर उस दौरान 4 बार हम दोनों ने ओरल सेक्स किया. उस में दो ही कमरे थे और और दोनों कमरों के बाहर एक बड़ी सी बालकोनी थी और उस बालकोनी की तरफ बहुत बड़ी बड़ी खिड़कियाँ थी जहां से नक्की झील और उसके आस पास का विहंगम दृश्य दिखाई देता था.

अभी तक मेरी हिंदी एडल्ट स्टोरी में आपने पढ़ा कि विक्रांत मोबाइल पर अपनी और अकीरा की पिछली रात की चुदाई की पोर्न वीडियो देख रहा था और मुठ मार रहा था कि उसकी नव नियुक्त सेक्रेटरी ने उसे मुठ मारते देख लिया. वो हमारी एक गंदी बातों वाली जंगली वल्गर और हिन्दी में मस्त यादगार चुदाई थी. दूधिया गोरा बदन, टमाटर जैसी छोटी-छोटी चूचियां, चने की दाल के बराबर निप्पल और बिना झाँटों वाली चिकनी चूत, ख़रबूज़े जैसी गांड.

विवश होकर आप मेरे ऊपर चढ़ गए और मुझमें बलपूर्वक मेरी इस में समा गए जैसे ही आपका विशाल लिंग मेरी प्यासी योनि में घुसा था, मैं समझ गयी थी कि मैं छली जा चुकी हूँ, कि मेरे साथ मेरा पति नहीं कोई और ही है क्योंकि आपके बेटे का लिंग आपसे बहुत छोटा और पतला सा है.

अब मेरी भानजी मेरी मदद कर रही थी मेरी सगी बेटी की चूत मुझे दिलवाने में!आप पढ़ें:मैं और मेरी भानजी मेरी बेटी के स्कूल में गए और उसके प्रिन्सिपल से मिल कर कोई बहान बना कर उस की छुटटी ले ली. चूँकि मैं स्टेशनरी की थोक सप्लाई करता था लिहाजा मैंने उससे उसके एनजीओ में स्टेशनरी सप्लाई करने की पेशकश की और उसे भारी रियायत देने का ऑफर दिया. जितनी भी चर्बी थी, सब चली गई थी, जैसे कमर का सब फ़ैट उसके हिप्स में आ गया हो.

चाचाजी मेरे होंठ गाल गरदन कान हर जगह चुम्बनों की बौछार कर रहे थे- शाहीन मेरी जान. उसकी छुट्टी थी और मेरी तो छुट्टी ही छुट्टी थी क्योंकि मेरी तो ट्रेन ही छूट गई थी.

अनिता- हा हा हा हा आपका तो आज पोपट बन गया हा हा हा… आपका केएलपीडी हो गया है. मैंने जोर की चीख मारी और उसने मेरे मुंह पर हाथ रख लिया और दूसरे हाथ को जमीन पर सहारा बनाते हुए वो अपना लौड़ा मेरी गांड में उतारने लगा. वो बोला ऐसे सूखा सूखा विश?मैंने कहा- सूखा कहाँ सब गीला होगा, पर अभी तो शुरू है.

नौकर नौकरानी की सेक्सी पिक्चर

उसने लंड का टोपा मेरी गांड पर फिर से सैट किया और जोर से धक्का दे मारा.

मैं सुबह 6 बजने से पहले में अपने रूम में आ गई, जहाँ मेरे पति अपनी पत्नी की बेवफाई से बेखबर सोए पड़े थे. शाम को जब चाचा आए तो मैं थोड़ा बाहर की तरफ जाने चला गया और फिर उनकी बातें सुनने लगा. मैंने उसके डोलों को भी ऊपर नीचे करते हुए चाटा, साथ ही उसके हाथ को ऊपर उठा कर उसकी बगल से आती मदहोश खुशबू का भी आनन्द लिया.

नयी नयी रंगीन तितलियां टाइट जींस टॉप पहले हुए, टॉप में से अपने मम्मों का नजारा दिखलातीं हुई, हाथ में बड़ा वाला स्मार्ट फोन लिए अपने मम्में मटकाती इठलाती हुई घूम रहीं थीं. पर एक दिन नेहा दी मेरे लिए नाश्ता लेकर आई और जैसे ही वो नाश्ते की प्लेट रखने के लिए टेबल में झुकीं, मुझे उनकी दोनों चुचियां जोकि बहुत ही गोल, गोरी और रबर की तरह हिल रही थीं. जिओसिनेमा सेक्सी पिक्चरसच बता कितने लोगों से चूत चुदवाई हो? ऐसे मस्त बूब्स और फूली चूत हम लोगों ने नहीं देखी.

आंटी ज़ोर से चिल्ला पड़ीं और लंड को बाहर निकालने को बोलने लगीं, पर मैं नहीं माना और मैंने दूसरा झटका दे मारा. मैं तुम्हारी साँसों को पी लेना चाहता हूँ, आपके हर अंग को चूमना चाहता हूँ.

चाचा बोले- आरती, तू तो पागल पन की हद तक सेक्सी है, मैं रोज तेरे नाम से तेरी पैंटी ब्रा को चूमने के बाद मुट्ठ मारता हूं, तेरा कपड़े बदलते और नहाते का चुपके से वीडियो बनाया, उसी को इन दोस्तों को दिया, सभी उसी को देख देख कर मुठ मारते और तुझे चोदने के लिए आज तक तड़पते रहे. सिर्फ़ दो कपड़ों में वो खुद को आईने में देख कर शर्माते हुए फिर बाहर आई. जब मैं मामी के कमरे में गया तो देखा मामी दीपक के लंड पर सवार अपनी गांड फड़वा रही हैं और दीपक मामी से बार बार छोड़ देने की गुहार कर रहा था, पर मामी अपना पानी निकलने के बाद ही रुकी.

आवाज सुनकर मैंने अर्चना को दरवाजे की झिरी से झांकते हुए पाया, जिसकी नजरें मुझसे मिलीं, तो वो वापस चली गई. एक घंटे बाद बाहर हल्की आवाज़ हुई, बुआ ने झट से दरवाजे पर पहुँचकर झिर्री से बाहर झाँका और दरवाजा खोल दिया… जीजा जी बाथरूम जा रहे थे. मैंने कहा- तू ही तो कह रही थी कि पीछे वाली ले लो?वो कहने लगी- मुझे क्या पता था.

अब हम चारों एक साथ बिस्तर पे लेटे हुए थे, मम्मी की एक टांग यश के ऊपर थी और सर सीने पे और लंड पकड़ के उसे हिला रही थी ताकि वो फिर से खड़ा हो सके चुदाई के लिए…और मैं भाई के ऊपर लेट गयी, उसे किस करने लगी.

काजल ने झट से अपने दोनों हाथों से उसको पकड़ लिया और उसके साथ खेलने लगी. उसके हाथ में एक छोटा बैग था, जिसमें कॉसमेटिक्स और उसके कंधे पर उसके कपड़े थे.

वो बोला- क्यों, हाथों में गोबर लगा हुआ है क्या?मैं फिर हँस पड़ा।उसने कहा- दांत मत दिखा, जल्दी बाहर जाकर वॉशबेसिन में हाथ धो ले और आकर रोटी खा ले. अब मैं सुरैया भाभी की गांड को चोदने के लिए पूरा रेडी हो गया और जीभ से गांड के छेद को चाटने लगा. अंजलि को थोड़ा दर्द हुआ तो मैं रुक गया और उसकी गांड पर हाथ घुमाने लगा.

नीचे उस की चूचियां हवा में मस्त हो कर मेरे शॉट से ताल मिला कर झूल रही थीं. मेरा अपना बड़ा अस्पताल है दो मंजिला, ऊपर की मंजिल पर ही मेरा घर भी है. मैं ऐसे मौके पर अगर कोई डोर पे होता है तो ज़्यादातर खिड़की में से ही बात करता हूँ.

हिंदी सेक्सी फुल बीएफ थोड़ी ही देर में अंजलि फिर से गरम हो गई थी, लेकिन मैं आज अंजलि के साथ पूरा मज़ा लेना चाहता था. और फेंक दिया बिस्तर पर!वो सीधी लेटी थी… उस के गोरे गोरे चिकने पैर दिखने लगे थे मुझे.

हिंदी सेक्सी जीजा साली

मैं काफी देर तक छुपा रहा तभी मैंने देखा कि कोई अन्दर एक परछाई सी दिखाई पड़ी तो मैंने सोचा कि शायद कोई लड़का मुझे ढूँढने आया है, तो मैं और भी ज्यादा अपने को छुपाने के लिए दुबक गया. मैं समझदार था, मुझे पता था कि ये होना ही है, पर फिर भी दिल में जो दर्द था, किसी को बता भी नहीं सकता था. मैं जहाँ खड़ा था, वहां मेरे आगे एक 30-31 साल की मैरिड आंटी भी खड़ी हुई थी.

अब बर्थ डे के दिन इनको नाराज़ करोगी क्या? चलो सब किस करो देखना मेरी दिव्या अबकी बार मुझे पक्का पहचान जाएगी. अपनी ब्रा की साइज़ थोड़ी किसी लड़के को बताऊँगी मैं? वो तो सिर्फ़ मेरा पति ही जानेगा शादी के बाद और अब मेरी मम्मी जानती है. रशमिका xxxमैं हंस कर बोला- बहुत फड़क रही है चूत तेरी, क्यों ठरकी हो रही है साली.

उसके बाद मैंने अपने होंठ उसके होंठ से लगा दिए और उसकी गुलाब की पंखुरियों जैसे होंठों का रस पीने लगा.

मैं भी छोटी की जबरदस्त चुदाई के बाद रीना की चुत बजाने की चाहत में 69 की पोजीशन में चुत चाटने लगा, जिसमें दीपक का वीर्य लबालब भरा था. इसके बाद रोज ही रंजु और रीना दोनों दीपक भैया के साथ बारी बारी अपने घर में ही चुत के मजे लेतीं, लेकिन पकड़े नहीं जाएं इसलिए एक हमेशा रात में बुआ के साथ सोतीं.

जैसा मैंने शीर्षक दिया है ‘नग्न दिखाने की चाहत’ आजकल यह फेंटसी सब से ज्यादा चल रही है. कहानी का पहला भाग :मैंने अपने देवर से चुदवा लिया-1अब तक की देवर भाभी की चुदाई की कहानी में आपने पढ़ा कि मुझे मेरे देवर ने चोदने के लिए नंगी कर लिया था और अपना लंड मेरी चूत में अभी घुसाया ही था कि तभी एक महिला हमारे घर घर में आ गई. तभी चाचा भी आए, मैं बीच वाली सीट में किनारे में बैठी थी चाचा मेरी तरफ आकर बैठ गए मुझे बोले- आरती थोड़ा खिसको!अब बीच वाली सीट में 4 लोग हो गए, दो लोग चाचा के दोस्त, मैं और चाचा… सभी सटे हुए बैठे थे.

तभी बस ड्राइवर ने ब्रेक मारे तो किशोर ने अपने लंड को पूरी ताकत से ऐसा झटका दिया कि मेरी चीख निकलते निकलते रह गई.

एक बार तो मम्मी छटपटाईं, लेकिन दूसरे झटके में आधे से भी ज्यादा लंड अन्दर समा गया. उसका लंड अभी भी उसके कच्छे में तना हुआ दिख रहा था लेकिन धीरे-धीरे नीचे बैठता जा रहा था. तभी सुरैया भाभी मेरे लंड को पकड़ कर बोलने लगी- संदीप, जल्दी से अपने इस साबुत लंड को मेरी चुत में डालो.

आदिवासी चुदाने वाली सेक्सीतो अब मैं फ्रीज़ और उसके बीच में फंस गया था और मेरा लंड अकड़ता जा रहा था. मैं उसे अपने बेडरूम के अन्दर ले आया और आते ही उसके कपड़े उतारने शुरू कर दिए.

सेक्सी डांस वीडियो में

रेखा शर्माने लगी तो पिंकी ने उसके सारे कपड़े उतारे और कहा- साली, लंड लेने में शर्म नहीं करेगी तो नंगी होने में क्या शर्म? जिसके लंड के वीर्य से पैदा हुई, उसी से शर्म? न जाने कितनी बार इन्होंने तुम्हारी बुर को देखा होगा. फिर मैंने लंड का टोपा रखा और एक झटका मार कर आधा लंड अन्दर डाल दिया. दोस्तो, यह मेरी पहली रियल सेक्स कहानी है कि मैंने अपनी पड़ोसन कमसिन लड़की सोनी की प्यार भरी चूत चुदाई कैसे की,मेरा नाम अरुण मलिक है.

पापा- आह… ले बेटी… तेरी चुत को आज अपने लंड के रस से भर दूँगा ले… आह…अगले 2 मिनट गुलशन जी ने फुल स्पीड से सुमन की चुदाई की और दोनों बाप बेटी एक साथ झड़ गए. मैं भाभी की फुद्दी को पेंटी के ऊपर से ही उंगली से रब करने लगा, भाभी की चूत पहले ही गीली हो चुकी थी. मेरा भी यह पहली ही बार था लेकिन मैं रोमांटिक पिक्चर बहुत देखता था तो मैंने कुछ-कुछ तो वहीं से ही सीखा था.

दोबारा चुदाई का संग्राम छिड़ गया और अब तो हम दोनों में से कोई भी पीछे नहीं रहना चाहता था. उसकी बहन ने सीधे मना कर दिया कि वह तो जाने से रही अलबत्ता तुम्हें जाना हो तो जा सकती हो. ऐसे ही एक महीना गुजर गया अब कहानी को उसके अंजाम तक पहुँचाने का टाइम आ गया है तो चलो विस्तार से आपको बताती हूँ कि क्या हुआ आगे.

गुलशन जी ने खाना लगाया और सुमन को नींबू काट कर चूसने को दिया, जिससे उसका नशा थोड़ा कम हो और एक गिलास में नींबू पानी भी बना के उसको पिला दिया, जिससे उसकी हिचकी बंद हो गई. अपने होंठ काटते हुए रूपा पप्पू का मुँह जोर से अपनी चूत पे दबाते हुए बोली- उम्म्म हाँ और चाटो राजा.

गई…ये कहते ही मेरे लौड़े ने अपनी धार सोनिया की चूत के अन्दर छोड़ दी और मेरे लंड की गर्म धार का स्पर्श पाकर सोनिया की चूत ने भी फव्वारा छोड़ दिया.

रात में एक सुन्दर लेडी को अपने करीब पाकर मुझे भी सेक्स की खुमारी चढ़ने लगी और रागिनी के व्यवहार से भी मुझे पता चल गया कि यह भी सेक्स की भूखी है. देसी चाची सेक्सीशिवानी ने बाथ रूम में चूत को साफ़ किया और थोड़ा मुंह धो कर, क्रीम लगा कर दुबारा तैयार हो गई. প্রিয়াংকা সেক্সি ভিডিওसमय की नजाकत को समझते हुए मामी ने मुझे धीरे धीरे चुदाई करने का इशारा किया. पप्पू रूपा की कमर में हाथ डाल के कमर मसलते हुए बोला- राम टेकरी में इतनी रात क्या काम है तेरा? किसको मिलने जा रही है तू इतनी रात रूपा.

मैंने देखा कि दीदी ने कल जो अपनी पर्पल कलर की ब्रा और अंडरवियर दिखाई थी, वो आज उन्होंने पहनी थी.

थोड़ी देर बाद ही बहूरानी का भुज बंधन शिथिल पड़ गया साथ ही उसकी चूत सिकुड़ गई जिससे मेरा लंड फिसल के बाहर निकल आया. नयना चुपचाप अपने छोटे भाई की अश्लील हरकतें देखने लगी, लेकिन शायद उसके भाई को पता चल गया था कि कोई उसे देख रहा है, उसने दरवाज़े की ओर देखा और अपनी बहन को खड़ा देखकर चौंक गया. थोड़ी देर बाद मैं आटी के ऊपर हो गया और उनकी चुदाई करते हुए झड़ कर गिर गया.

अन्तर्वासना सेक्स स्टोरीज पढ़ने वाले मेरे बहुत से मित्र मुझे चोदने की इच्छा प्रकट कर चुके हैं मगर मेरे प्यारे दोस्तो, अब सब से चुदना संभव भी नहीं… अगर आप सच में सेक्स का ज्यादा आनन्द लेना चाहते हैं तो घर पर ही सेक्स कीजिये… जैसे भाभी, चाची, बहन और मम्मी…इन सब में मम्मी या बहन को चोदने में सबसे ज्यादा मजा आता है. और सोचता था कि इसे कैसे चाटूं।कुछ दिनों बाद वो किराएदार आंटी जाने लगी। तब उसने मुझसे माफी मांगी और उसने कहा- तुम्हें जो कुछ करना है कर लो!मैंने आंटी की चूत चोद दी।चोदना ही होता. आज तो मैं तुम्हें खा जाऊंगा, जब से तुम्हें देखा है, मैं तुम्हारे नाम की मुठ मार रहा हूँ.

देवर भाभी की सेक्सी पिक्चर राजस्थानी

अब शमशेर ने सुपारा चूत के छेद पर रखा और कमर का एक झटका लगाया तो सुपारा सरसराता चूत में दाखिल हो गया. तुरन्त मामी के मुँह से लंड खींचकर अपनी पतलून की जिप लगाने की मैं नाकाम कोशिश करता रहा. मेरे बहुत कहने पर उसने अपने लिए कुछ सामान खरीदा, उसने मुझको भी कुछ कपड़े दिलाए.

जैसा मैंने शीर्षक दिया है ‘नग्न दिखाने की चाहत’ आजकल यह फेंटसी सब से ज्यादा चल रही है.

आज पहली बार मुझे किसी लड़की के शरीर के इतने नजदीक जाने का मौका मिला था.

नीता के सीने पे नज़र गड़ा कर वो बोला- बोल बेटी, मैं कैसे मदद करूँ तेरी? वार्डरोब तोड़ डालूँ क्या तेरे लिए बेटी?नीता को पप्पू की बात और नज़र से ख्याल आया कि वो टावल में पप्पू के सामने खड़ी है, पर अब वो बिना झिझक उसी हाल में रूम में घूमते हुए सोचने लगी. सब अपने अपने लंड मेरे चेहरे पे होंठों पे रगड़ने लगे और बार बार कहने लगे, ‘पहले मेरा लंड चूस. देसी भाभी का सेक्सी व्हिडिओअरे उसकी शादी नहीं हुई होती तो मैं भगा कर ले जाता उसे और उस माल को तेरे बाप से भी ज्यादा चोदता रहता.

मैंने कहा- कुछ नहीं होगा… इसको प्यार कर…उसने लंड के सुपारे पर एक चुम्मी ली और हट गई. शायद मेरे इसी व्यवहार से उसने रात को मुझे वो तोहफा दिया जो एक पत्नी अपने पति को देती है. मुझे सोता देख, मामी प्यार से मेरे सिर पर हाथ फेरती फेरती मेरे बगल में सोने का उपक्रम करने लगीं.

उन्होंने मुझसे कहा- तुम्हें बहुत बुरा लग रहा होगा लेकिन अगर तुम हमारे साथ सहयोग करोगे तो हम तुम्हारी लाइफ बना देंगी. मैं समझ गया कि मामा अपना लंड मामी के मुँह में दे चुके हैं क्योंकि उनकी आवाजें थोड़ी कम हो गई थीं.

मेरा दिल कह रहा था कि इस अंडरवियर को अपने साथ ही ले जाऊँ और हर रात इसे मुँह पर ओढ़ कर ही सोऊँ.

उसने एक रोज मुझे सोसाइटी के एक फंक्शन में अपने पति से मिलवाया और मेरी इंट्रोडक्शन करवाते हुए अपने पति को बताया- ये मिस्टर राज शर्मा हैं, मेरे कॉलेज में क्लास फैलो थे. मैंने अपनी सास को बेड पर गिरा दिया, फिर अपनी साड़ी, पेटीकोट, ब्लाऊज, ब्रा, पैन्टी उतार दी. मैं बोला- रागिनी जी रात के साढ़े ग्यारह हो गए हैं, अब मैं सोने जा रहा हूँ.

సెక్స్ వీడియో కాల్ తెలుగు इसलिए अब कोई शर्म लिहाज न करते हुए मेरे हाथ मामी के शर्ट में ऊपर की तरफ बढ़ने लगे. फिर मैं धीरे धीरे अपने लंड को अन्दर बाहर करने लगा और अब भाभी पूरा चुदाई का मजा ले रही थी.

अल्का बोली- काम हो गया… कल दोपहर को मेरे घर आना नहा धोकर… नीचे सब सफाई करके आना. उस वक्त मुझे सेक्स के बारे में ज़्यादा कुछ नहीं पता था, पर मेरे दोस्त ने एक दिन बताया कि लड़के ने मुझे मुठ मारने के बारे में बताया. फिर सागर ने जैसे ही मेरी चुत में लंड डाला और मैं बिना दर्द के भी जोर से चिल्ला उठी- ओह राजा.

करीना कपूर की सेक्सी वीडियो फोटो

कहती- मेरी फुद्दी नू शांत कर दे अज्ज… उस कंजर दी लाई अग्ग अज्ज बुज्जा दे… उह्ह…मैंने लंड निकाला और चुत में पूरा पेल कर 5-7 झटके मारे और उसकी चुत के अन्दर ही झड़ गया. बुआ का केवल एक लड़का था, जिसकी शादी अभी नहीं हुई थी, तो वह ही बुआ की देखभाल करता था. अपनी इच्छा पूरी करने के लिए मैं कपड़े हटा कर मामी की चुत में मुँह लगा कर इस कदर से बुरी तरह चूसने चाटने लगा कि बस दो मिनट में ही मामी का लावा भलभला कर निकल गया.

उफ्फ्फ… वो अहसास उनके मस्त बड़े बड़े चूचे एकदम नर्म और मुलायम, दूध से भरे हुए. फिर आज हम यहाँ कैसे करेंगे और तुमने ऐसा क्या प्लान बनाया है मुझे भी तो बताओ?पूजा- मामू मुझे तो कल ही पता चल गया था कि आज सब जाने वाले हैं.

अब मैं लंड को पूरा अन्दर ले गया और फिर लंड को अन्दर बाहर करता रहा, जिससे समीर को बहुत मजा आ रहा था.

मैं उसे गाली देता हुआ चोद रहा था और वो भी मुझे गाली देते हुए चुदवा रही थी. चूंकि अंजलि के पति की उम्र उससे 10 वर्ष ज्यादा थी और वो रोज शराब पीता था इसी कारण इनके बीच ज्यादातर लड़ाई होती रहती थी. मैं जैसे ही बेड पर उनके पास बैठी तो उन्होंने पूछा- कैसा लगा जय का लंड?मैंने कहा- क्या मतलब है तुम्हारा?वो बोले- शादी के पहले मैं ही जय को जगाया करता था.

जब एक घंटे के बाद नींद खुली तो मैंने फिर भाभी को किस करते हुए उन्हें और कई तरह के आसनों में चोदा और देखा तो सुबह का टाइम हो गया था, सो मुझे अपने रूम पर आना पड़ा. उसने एकदम से पीछे हटना चाहा, तो रीतिका ने उसे आगे को धक्का दे दिया. उसकी तुलना आप मैं हूँ ना” मूवी की अभिनेत्री सुष्मिता सेन के टीचर वाले रोल से कर सकते हैं.

मैंने मामी की चुत से लंड निकाल कर अर्चना के मुँह में फिर से लंड का पानी झाड़ दिया.

हिंदी सेक्सी फुल बीएफ: मैंने भाभी की चूत को इतना चाटा कि वो मेरे लंड को काटने सा लगीं और जोर जोर से अपने चूतड़ उछाल उछाल कर फुदकने लगीं. मैंने कहा- मेम, मुझको पता है कि आप मैरिड हो लेकिन मुझको आप बहुत अच्छी लगती हो, मेरा मन आपको ढेर सारा प्यार करने का करता है.

रवि ने मुझ से कहा- तू यहीं रुक, मैं अभी 10 मिनट में आता हूं।कह कर वो बाहर चला गया।तब तक मैं उसके साथ सेक्स की बातें सोचने लगा।आधा घंटा बीत गया लेकिन वो लौटा नहीं।मैंने सोचा- 10 मिनट की कह कर गया था और अभी तक नहीं आया। मुझे उसके पास न होने से बेचैनी सी होती थी। लेकिन करता भी तो क्या. झड़ते झड़ते माया ने अपनी चुत और गांड, दोनों टाइट कर ली थीं, जिससे अमित को लग रहा था कि माया की चुत इसका लंड खा जाना चाहती है. मम्मी ने मेरी बात मानी और जब तक मेरा चोदू यार नहीं आ गया, मां मेरी चूत को उंगली से चोदती रही.

उसने एकदम से पीछे हटना चाहा, तो रीतिका ने उसे आगे को धक्का दे दिया.

अब तुम ही बताओ, ये ग़लत बात है ना?मॉंटी- हाँ दीदी, ये बहुत ग़लत बात है. मैंने भी देर न करते हुए अपनी पोजीशन ले ली, मुझे भी निपटने की जल्दी थी, आधी रात कब की गुजर चुकी थी मेरे पास बस यही रात थी. हाँ कहीं कहीं मिर्च मसाला भी लगाया है ताकि कथा की रोचकता बनी रहे और आप सबके लंड और सबकी चूतें मज़ा लेती रहें पढ़ते पढ़ते.